भारत देश में धन का एक समान वितरण क्यों नहीं हो सकता?...


play
user

Deepak

Student

1:36

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत देश ही नहीं बल्कि अन्य सभी देशों में भी धन का वितरण एक समान नहीं हो सकता क्योंकि हर व्यक्ति के कौशल तथा कार्य करने की क्षमता से भिन्न होती है यदि कोई व्यक्ति एक ही प्रकार के कार्य करते हैं तो उन्हें समान वेतन दिया जाता है परंतु यदि भिन्न-भिन्न व्यक्ति विभिन्न कार्यों को अपने विभिन्न कौशलों से करते हैं तो उन्हें विभिन्न प्रकार से वितरण कम या ज्यादा दिया जाता है और धन के असमान वितरण होता है परंतु जब देश में अमीरों को अमीरों पर कर्ज अधिक लगाया जाता है और गरीब को पर कम क्योंकि गरीब लोग टैक्स पर नहीं कर सकते और सरकार इसके लिए उन्हें आर्थिक सहायता देती है ताकि उनकी आर्थिक स्थिति ठीक हो सके इसी प्रकार जब सरकार लड़कों के लिए अलग से योजनाएं बनाती है तो विशेष रूप से खर्च करना पड़ता है जो सरकार के लिए कोई लाभदायक नहीं होते परंतु वह देश की आर्थिक स्थिति को सुधारने में सहायक होते हैं इस प्रकार भारत या किसी अन्य देश में आय का वितरण समान नहीं हो सकता धन्यवाद

bharat desh hi nahi balki anya sabhi deshon me bhi dhan ka vitaran ek saman nahi ho sakta kyonki har vyakti ke kaushal tatha karya karne ki kshamta se bhinn hoti hai yadi koi vyakti ek hi prakar ke karya karte hain toh unhe saman vetan diya jata hai parantu yadi bhinn bhinn vyakti vibhinn karyo ko apne vibhinn kaushalon se karte hain toh unhe vibhinn prakar se vitaran kam ya zyada diya jata hai aur dhan ke asamaan vitaran hota hai parantu jab desh me amiron ko amiron par karj adhik lagaya jata hai aur garib ko par kam kyonki garib log tax par nahi kar sakte aur sarkar iske liye unhe aarthik sahayta deti hai taki unki aarthik sthiti theek ho sake isi prakar jab sarkar ladko ke liye alag se yojanaye banati hai toh vishesh roop se kharch karna padta hai jo sarkar ke liye koi labhdayak nahi hote parantu vaah desh ki aarthik sthiti ko sudhaarne me sahayak hote hain is prakar bharat ya kisi anya desh me aay ka vitaran saman nahi ho sakta dhanyavad

भारत देश ही नहीं बल्कि अन्य सभी देशों में भी धन का वितरण एक समान नहीं हो सकता क्योंकि हर व

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  87
KooApp_icon
WhatsApp_icon
1 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!