जलियांवाला बाग का हत्याकांड कब हुआ?...


user

Randheer

Student

0:24
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी हां नमस्कार दोस्तों आपने यह प्रश्न किया कि जलियांवाला बाग जलियांवाला बाग का हत्याकांड कब हुआ था जलियांवाला बाग हत्याकांड 13 अप्रैल 1919 में हुआ था जलियांवाला बाग जो है वह अमृतसर लिखते थे

ji haan namaskar doston aapne yah prashna kiya ki jallianwala bagh jallianwala bagh ka hatyakand kab hua tha jallianwala bagh hatyakand 13 april 1919 me hua tha jallianwala bagh jo hai vaah amritsar likhte the

जी हां नमस्कार दोस्तों आपने यह प्रश्न किया कि जलियांवाला बाग जलियांवाला बाग का हत्याकांड क

Romanized Version
Likes  36  Dislikes    views  361
WhatsApp_icon
4 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Chandan Singh

want to become IPS Officer

1:56
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

गुड मॉर्निंग आपका सवाल है जलियांवाला बाग का हत्याकांड कब हुआ दोस्त बैसाखी के दिन 13 अप्रैल 1919 ईस्वी को अमृतसर के जलियांवाला बाग में जलियांवाला बाग हत्याकांड हुआ इस दिन एक सभा रखी गई थी जिसमें कुछ नेता भाषण देने वाले थे और पूरे शहर में कर्फ्यू लगा हुआ था उस सभा की जानकारी सब लोगों को हो गई थी जो वैशाखी पर में बाजार घूमने आए थे मेला घूमने आए थे उन लोगों को और भी लोग जानकर सब के सब जलियांवाला बाग में उपस्थित हो गए और ब्लॉक भाषणों का इंतजार करने लगे यह सभा जो है रोलेट एक्ट कानून का विरोध करने के लिए हो रही थी उचित समय बाद जनरल डायर नामक अंग्रेज ऑफिसर ने अकारण उस सभा में उपस्थित भीड़ पर गोलियां चलवा दी जिसके कारण कम से कम 1000 लोग मरे और 2000 लोग घायल हो गए जिसमें एक 6 सप्ताह का बच्चा भी घायल हो गया था 36 दिन का बच्चा था वह भी घायल हो गया और 1000 लोग तो तुरंत मर ही गए और 2000 लोग जो थे वह हॉस्पिटल में भर्ती थे क्योंकि वह घायल थे और 1000 लोग मर गए थे बहुत ही भयंकर दुर्घटना हुई थी उस समय जलियांवाला बाग उसके बाद फिर जनरल डायर को इंग्लैंड जाकर सरदार उधम सिंह ने गोली मार दी थी और जनरल डायर भी मर गया था परंतु सरदार उधम सिंह भी पकड़ा गए थे वहीं लंदन में ही और उनको भी वहां पर फांसी दे दिया गया था

good morning aapka sawaal hai jallianwala bagh ka hatyakand kab hua dost baisakhi ke din 13 april 1919 isvi ko amritsar ke jallianwala bagh me jallianwala bagh hatyakand hua is din ek sabha rakhi gayi thi jisme kuch neta bhashan dene waale the aur poore shehar me curfew laga hua tha us sabha ki jaankari sab logo ko ho gayi thi jo Vaisakhi par me bazaar ghoomne aaye the mela ghoomne aaye the un logo ko aur bhi log jaankar sab ke sab jallianwala bagh me upasthit ho gaye aur block bhashano ka intejar karne lage yah sabha jo hai rolet act kanoon ka virodh karne ke liye ho rahi thi uchit samay baad general dire namak angrej officer ne akaran us sabha me upasthit bheed par goliya chalwa di jiske karan kam se kam 1000 log mare aur 2000 log ghayal ho gaye jisme ek 6 saptah ka baccha bhi ghayal ho gaya tha 36 din ka baccha tha vaah bhi ghayal ho gaya aur 1000 log toh turant mar hi gaye aur 2000 log jo the vaah hospital me bharti the kyonki vaah ghayal the aur 1000 log mar gaye the bahut hi bhayankar durghatna hui thi us samay jallianwala bagh uske baad phir general dire ko england jaakar sardar udham Singh ne goli maar di thi aur general dire bhi mar gaya tha parantu sardar udham Singh bhi pakada gaye the wahi london me hi aur unko bhi wahan par fansi de diya gaya tha

गुड मॉर्निंग आपका सवाल है जलियांवाला बाग का हत्याकांड कब हुआ दोस्त बैसाखी के दिन 13 अप्रैल

Romanized Version
Likes  26  Dislikes    views  301
WhatsApp_icon
user

sarita kulaste

Competion Ki Taeyaree

0:09
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने पूछा है कि जलियांवाला बाग हत्याकांड कब हुआ था तो यह हुआ था 1919 में

aapne poocha hai ki jallianwala bagh hatyakand kab hua tha toh yah hua tha 1919 me

आपने पूछा है कि जलियांवाला बाग हत्याकांड कब हुआ था तो यह हुआ था 1919 में

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  122
WhatsApp_icon
play
user

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अनीस अनीस में

anis anis me

अनीस अनीस में

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  90
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!