14 अप्रैल को दीपावली की तरह मनाना चाहिए?...


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका किशन है कि 14 अप्रैल को दिवाली की फ्रेम बनाना चाहिए या नहीं जी नहीं यह अपने देश के लिए 14 अप्रैल एक ऐसा दिन है जो कि मन उस दिन बोले तो कोई बड़ी बात नहीं हुई इससे क्या एक ही आपको पता हो 13 अप्रैल 1919 को हमारे जो कई हिंदुस्तानियों थे उनको जनरल डायर द्वारा गोलियों से भून दिया गया था इसीलिए 14 अप्रैल को दिलाओ दिवाली के रूप में बनाना मेरे हिसाब से तो नहीं सही नहीं है

aapka kishan hai ki 14 april ko diwali ki frame banana chahiye ya nahi ji nahi yah apne desh ke liye 14 april ek aisa din hai jo ki man us din bole toh koi badi baat nahi hui isse kya ek hi aapko pata ho 13 april 1919 ko hamare jo kai hindustaniyon the unko general dire dwara goliyon se bhun diya gaya tha isliye 14 april ko dilao diwali ke roop me banana mere hisab se toh nahi sahi nahi hai

आपका किशन है कि 14 अप्रैल को दिवाली की फ्रेम बनाना चाहिए या नहीं जी नहीं यह अपने देश के लि

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  82
KooApp_icon
WhatsApp_icon
1 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!