हमारा देश को अंग्रेज लोगों ने गुलाम क्यों बनाया था और किस तरह से बनाया था किस कारण से बनाया था?...


play
user
2:20

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमारे देश को अंग्रेजों ने गुलाम इसलिए बनाया था ताकि भारत जो है मुगल शासन से जो है छुटकारा पा जाए और अपने ऊपर अपने पैर पर खड़ा हो जाए दूसरी बात यह है यहां की यहां पर धन दौलत बहुत ज्यादा थे तीसरी बात यह है कि यहां के लोगों के अंदर यूनिटी रही थी एक दूसरे के प्रति नरेश उन्हें पहले बिजनेस करने के परपस से यहां पर आए थे और उसके बाद यहां पर धीरे-धीरे जो है उन्होंने अपना आधिपत्य जताना शुरू कर दिया लोगों को खरीदने लगे पैसा देखकर लोगों के गुलाम बनते गए क्योंकि अंग्रेजों को पता चल गया कि यहां की मेहंदी लिटी क्या है यहां के लोग उनके पैसे के क्या बोलते हैं लालच में अपने लोगों को दगा देते थे यही कारण था कि भारत गुलाम हुआ एक से डेढ़ लाख पूरे भारत में अंग्रेज ने जो कि उनकी कोई हैसियत या कोई औकात नहीं थी कि पूरे भारत पर राज्य कर सके लेकिन यहां के लोग उन्हें सपोर्ट करते थे इसलिए पूरे भारत पर उन्होंने शासन किया तीसरी बात यह है कि भारत में उतना शिक्षा का प्रसार नहीं था पहले ज्यादातर लोग अनपढ़ ही थे पढ़ाई को एजुकेशन को बहुत ज्यादा महत्व नहीं दिया जाता था और अंग्रेज पढ़े लिखे थे होशियार थे इसलिए उन लोगों ने यहां की गरीबों का पीड़ितों का यूज किया सोशल किया इसलिए मार अंग्रेजों ने यहां पर शासन किया जो कि हमारे लिए एक अफसोस की बात है क्योंकि यहां से बहुत ज्यादा धन और पैसा तो ले गए और दुनिया में एक इतिहास बन जाता है ना एक कलंक का इतिहास बन जाता है कि हमारे देश पर अंग्रेज शासन कर रहे हैं कि कर चुके हैं एक शर्मिंदगी की बात है क्योंकि ऐसा नहीं होना चाहिए था थैंक यू

hamare desh ko angrejo ne gulam isliye banaya tha taki bharat jo hai mughal shasan se jo hai chhutkara paa jaaye aur apne upar apne pair par khada ho jaaye dusri baat yah hai yahan ki yahan par dhan daulat bahut zyada the teesri baat yah hai ki yahan ke logo ke andar unity rahi thi ek dusre ke prati naresh unhe pehle business karne ke parpas se yahan par aaye the aur uske baad yahan par dhire dhire jo hai unhone apna aadhipatya jatana shuru kar diya logo ko kharidne lage paisa dekhkar logo ke gulam bante gaye kyonki angrejo ko pata chal gaya ki yahan ki mehendi liti kya hai yahan ke log unke paise ke kya bolte hain lalach me apne logo ko daga dete the yahi karan tha ki bharat gulam hua ek se dedh lakh poore bharat me angrej ne jo ki unki koi haisiyat ya koi aukat nahi thi ki poore bharat par rajya kar sake lekin yahan ke log unhe support karte the isliye poore bharat par unhone shasan kiya teesri baat yah hai ki bharat me utana shiksha ka prasaar nahi tha pehle jyadatar log anpad hi the padhai ko education ko bahut zyada mahatva nahi diya jata tha aur angrej padhe likhe the hoshiyar the isliye un logo ne yahan ki garibon ka piditon ka use kiya social kiya isliye maar angrejo ne yahan par shasan kiya jo ki hamare liye ek afasos ki baat hai kyonki yahan se bahut zyada dhan aur paisa toh le gaye aur duniya me ek itihas ban jata hai na ek kalank ka itihas ban jata hai ki hamare desh par angrej shasan kar rahe hain ki kar chuke hain ek sharmindagi ki baat hai kyonki aisa nahi hona chahiye tha thank you

हमारे देश को अंग्रेजों ने गुलाम इसलिए बनाया था ताकि भारत जो है मुगल शासन से जो है छुटकारा

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  85
KooApp_icon
WhatsApp_icon
1 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!