बॉलीवुड की हॉलीवुड से बराबरी क्यूँ नहीं की जा सकती?...


user
1:31
Play

Likes  10  Dislikes    views  110
WhatsApp_icon
20 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Vaibhav Ali

Youtuber TV Personality

2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हॉलीवुड और बॉलीवुड की बिल्कुल तुलना हो सकती है आज के समय पर और वहीं अगर आप 30 40 50 साल पहले देखेंगे हमें वह क्षमता नहीं थी ना ही हमें वह करें ताकि हम जाकर कुछ आग महान करेगा जाकर कुछ ओरिजिनल करें अगर आप देखेंगे जो भी ओरिजिनल की गई थी जैसे mughal-e-azam हो वह पहले फ्लॉप हो गई थी और Twitter को बहुत भारी नुकसान हुआ था वहीं अगर आप दूसरे मूवीस को देखेंगे जान से कॉपी किया गया था जानते हॉलीवुड थे फायर किया हुआ था वह और वह कहां पर हिट गई थी आप काफी सारे गाने हैं हमारे पुराने हिंदी मूवीस में जो रिपोर्ट मतलब बस वहां से कॉपी पेस्ट किया था प्रेरणा नहीं लेती कॉपी किया था उसको पर अगर आप वही आज के जमाने में देखेंगे आज के जमाने में हमारे इतने महान डायरेक्टर हैं इतने महान क्रिकेटर है जो खुद के अंदाज़ पेश कर रहे हैं और एक्ट्रेस भी वह लोग अकॉर्डिंग टू द स्टोरी ले रहे हैं यह ऐसे नहीं ले रहे क्या हम शाहरुख खान को काट कर लेंगे और शाहरुख खान को ऐसे पोटरी कर देंगे नहीं इसलिए हमारे यहां आज इतने बेहतरीन हमारे जैसे विकी कौशल हो गए रे नवाजुद्दीन सिद्दीकी हो गए वही 10:00 15 साल पहले भी इनको एक्टिंग और Bandit करने का मौका ही नहीं मिल सकता था पर क्योंकि हमारे स्टोरी राजू रीयलिस्टिक हो रहे हैं तो मैं आपको यह बोलना चाहूंगा कि ओरिजिनल और अधिकारिता जो जो जो क्षमता चाहिए कि आप ओरिजिनल कंटेंट क्रिएट करें वह आज के जमाने में हो रहा है मैं आपको कुछ लिए एक चीज बताऊंगा जय जय देवानंद साहब हमारे बहुत पुराने और बुद्ध नाम की नाटक का कॉपी करते थे तो हमारी जनता जानती है कि वह एक्टिंग है और हमारी जनता आज इंटरनेट की वजह से इतनी आगे का देख रही है कि वह आज कंपैरिजन कर रही है पर बॉलीवुड अमेजिंग नीली व्हेल हॉलीवुड

hollywood aur bollywood ki bilkul tulna ho sakti hai aaj ke samay par aur wahin agar aap 30 40 50 saal pehle dekhenge hamein vaah kshamta nahi thi na hi hamein vaah karen taki hum jaakar kuch aag mahaan karega jaakar kuch original karen agar aap dekhenge jo bhi original ki gayi thi jaise mughal e azam ho vaah pehle flop ho gayi thi aur Twitter ko bahut bhari nuksan hua tha wahin agar aap dusre Movies ko dekhenge jaan se copy kiya gaya tha jante hollywood the fire kiya hua tha vaah aur vaah kahaan par hit gayi thi aap kafi saare gaane hain hamare purane hindi Movies mein jo report matlab bus wahan se copy paste kiya tha prerna nahi leti copy kiya tha usko par agar aap wahi aaj ke jamaane mein dekhenge aaj ke jamaane mein hamare itne mahaan director hain itne mahaan cricketer hai jo khud ke andaaz pesh kar rahe hain aur actress bhi vaah log according to the story le rahe hain yah aise nahi le rahe kya hum shahrukh khan ko kaat kar lenge aur shahrukh khan ko aise potri kar denge nahi isliye hamare yahan aaj itne behtareen hamare jaise vicky kaushal ho gaye ray nawazuddin siddiki ho gaye wahi 10 00 15 saal pehle bhi inko acting aur Bandit karne ka mauka hi nahi mil sakta tha par kyonki hamare story raju riylistik ho rahe hain toh main aapko yah bolna chahunga ki original aur adhikarita jo jo jo kshamta chahiye ki aap original content create karen vaah aaj ke jamaane mein ho raha hai main aapko kuch liye ek cheez bataunga jai jai devanand saheb hamare bahut purane aur buddha naam ki natak ka copy karte the toh hamari janta jaanti hai ki vaah acting hai aur hamari janta aaj internet ki wajah se itni aage ka dekh rahi hai ki vaah aaj kampairijan kar rahi hai par bollywood amazing neeli whale hollywood

हॉलीवुड और बॉलीवुड की बिल्कुल तुलना हो सकती है आज के समय पर और वहीं अगर आप 30 40 50 साल पह

Romanized Version
Likes  43  Dislikes    views  410
WhatsApp_icon
user

Jeet Dholakia

Anchor and Media Professional

1:49
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बॉलीवुड की फिल्मों की अगर हमसे बात करें तो बॉलीवुड की फिल्म का जो विषय वस्तु है वह हॉलीवुड की फिल्म से बहुत ही ज्यादा होता है हमारे यहां रोमांटिक सिंस बनती है हमारे यहां से बनती है हमारे यहां कोई भी शर्म आती है तो उसकी रीमेक बनती है हॉलीवुड में क्या है कि जां हॉलीवुड में नया ही कर लोग आते हैं उसमें टेक्नोलॉजी नहीं होती है और साथ में हमेशा बोलते कि समाज का आईना होती है तो समाज में हमारा भारतीय समाज भारतीय समुदाय काफी ऐसी सारी फिल्में है ऐसी विषय वस्तु है जो पसंद नहीं करती है जो पारिवारिक का तौर पर देखा जाए तो हमारी बॉलीवुड की फिल्में काफी सारी ऐसी होती है जो हम परिवार के साथ बैठकर देख सकते हैं जबकि हॉलीवुड की फिल्म की बात करें तो हॉलीवुड की फिल्म में कहीं-कहीं आंख विषय वस्तु में ऐसा देखने को मिला है कि जो भी हम अपने दोस्तों के साथ बैठकर देख सकते पर अपने परिवार के साथ बैठकर नहीं देख सकते जो कि एक डिफरेंस है भारतीय बॉलीवुड की फिल्म और हॉलीवुड की फिल्मों में और साथ में एक बड़ी चुनौती है को टेक्नोलॉजी की भी है हमारे पास आज भी हॉलीवुड से हम का मैच कर सके ऐसी टेक्नोलॉजी हमारे पास नहीं है जिनकी वजह से हम कहीं ना कहीं और टेक्नोलॉजी में हॉलीवुड फिल्म से पीछे थोड़े रह गए हैं और इसलिए बॉलीवुड और हॉलीवुड की फिल्में हमें जो एक अलग अलग बना दिखाई दे रहा है वह यही होता है कि साथ में तो समाज उनको पसंद नहीं करेगा और साथ में टेक्नोलॉजी की थोड़ी कमी है वह में कहीं ना कहीं देखने को मिलती है

bollywood ki filmo ki agar humse baat karen toh bollywood ki film ka jo vishay vastu hai vaah hollywood ki film se bahut hi zyada hota hai hamare yahan romantic sins banti hai hamare yahan se banti hai hamare yahan koi bhi sharm aati hai toh uski remake banti hai hollywood mein kya hai ki jan hollywood mein naya hi kar log aate hain usmein technology nahi hoti hai aur saath mein hamesha bolte ki samaaj ka aaina hoti hai toh samaaj mein hamara bharatiya samaaj bharatiya samuday kafi aisi saree filme hai aisi vishay vastu hai jo pasand nahi karti hai jo parivarik ka taur par dekha jaaye toh hamari bollywood ki filme kafi saree aisi hoti hai jo hum parivar ke saath baithkar dekh sakte hain jabki hollywood ki film ki baat karen toh hollywood ki film mein kahin kahin aankh vishay vastu mein aisa dekhne ko mila hai ki jo bhi hum apne doston ke saath baithkar dekh sakte par apne parivar ke saath baithkar nahi dekh sakte jo ki ek difference hai bharatiya bollywood ki film aur hollywood ki filmo mein aur saath mein ek badi chunauti hai ko technology ki bhi hai hamare paas aaj bhi hollywood se hum ka match kar sake aisi technology hamare paas nahi hai jinki wajah se hum kahin na kahin aur technology mein hollywood film se peeche thode reh gaye hain aur isliye bollywood aur hollywood ki filme hamein jo ek alag alag bana dikhai de raha hai vaah yahi hota hai ki saath mein toh samaaj unko pasand nahi karega aur saath mein technology ki thodi kami hai vaah mein kahin na kahin dekhne ko milti hai

बॉलीवुड की फिल्मों की अगर हमसे बात करें तो बॉलीवुड की फिल्म का जो विषय वस्तु है वह हॉलीवुड

Romanized Version
Likes  17  Dislikes    views  118
WhatsApp_icon
user

Vikas Singh

Political Analyst

1:54
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पीके बॉलीवुड और हॉलीवुड की बराबरी इसलिए नहीं की जा सकती है क्योंकि बॉलीवुड हमारे हिंदुस्तान में एक संस्कार है परंपरा है प्राचीनतम सभ्यताओं से जुड़ा हुआ हमारा संस्कार है हमारा देश है तू एक संस्कार के दायरे में रहकर मूवी बनाई जाती है हॉलीवुड में ऐसा कुछ भी नहीं है उनका एक अलग ही ओपन माइंडेड संस्कार है जो कि उस माध्यम से एक मूवी बनाते हैं उसमें कुछ भी दिखा सकते हैं कुछ भी कर सकते हैं जो बॉलीवुड बॉलीवुड में पैसा कम खर्चा किया जाता है और हॉलीवुड में पैसा ज्यादा खर्चा होता है बॉलीवुड में देखिए हमारे पास हो सकता है कि हमारे इंडिया में होती टेक्नोलॉजीज नहीं है जिसके माध्यम से हमारे देश में और भी अच्छी मूवी बनाई जा सके हॉलीवुड में काफी पैसा खर्चा होता है उनके पास बहुत सारी ऐसी मशीन है बहुत सारी ऐसी टेक्नोलॉजी है जिसके माध्यम से वह पिक्चर बनाते हैं और थोड़ा बेटर बनाते हैं हमारे जो बॉलीवुड में है एक्ट्रेस हैं उनको एक लिमिट के दायरे में रहकर मूवी बनाना पड़ता है और लिमिटेड एड्रेस है उसका पहनावा का भी एक थोड़ा सा रोल है जो कि हॉलीवुड में नहीं हॉलीवुड में को न्यूड होकर भी अपना मूवीस इन कर लेते हैं तो हमारे देश में अगर ऐसा पिक्चर ऐसे ऐसी मूवी बनेगी तो उसका विरोध होने लगेगा क्योंकि हमारा देश संस्कारों का देश है हमारा देश परंपराओं का देश है हमारा देश सभ्यताओं का देश है और सभ्यता के लिमिट में रहकर ही कोई चीज बनाई जाती है ताकि देशवासियों को उससे कुछ सीख मिले हॉलीवुड में कुछ भी बनाया जा सकता है और उसका कोई मतलब नहीं है कोई विरोध नहीं करता है टाइगर लो तो अच्छा हॉलीवुड में सब चलता है धन्यवाद

pk bollywood aur hollywood ki barabari isliye nahi ki ja sakti hai kyonki bollywood hamare Hindustan mein ek sanskar hai parampara hai prachintam sabhyatao se juda hua hamara sanskar hai hamara desh hai tu ek sanskar ke daayre mein rahkar movie banai jaati hai hollywood mein aisa kuch bhi nahi hai unka ek alag hi open minded sanskar hai jo ki us madhyam se ek movie banate hain usmein kuch bhi dikha sakte hain kuch bhi kar sakte hain jo bollywood bollywood mein paisa kam kharcha kiya jata hai aur hollywood mein paisa zyada kharcha hota hai bollywood mein dekhiye hamare paas ho sakta hai ki hamare india mein hoti technologies nahi hai jiske madhyam se hamare desh mein aur bhi achi movie banai ja sake hollywood mein kafi paisa kharcha hota hai unke paas bahut saree aisi machine hai bahut saree aisi technology hai jiske madhyam se vaah picture banate hain aur thoda better banate hain hamare jo bollywood mein hai actress hain unko ek limit ke daayre mein rahkar movie banana padta hai aur limited address hai uska pahanava ka bhi ek thoda sa roll hai jo ki hollywood mein nahi hollywood mein ko nude hokar bhi apna Movies in kar lete hain toh hamare desh mein agar aisa picture aise aisi movie banegi toh uska virodh hone lagega kyonki hamara desh sanskaron ka desh hai hamara desh paramparaon ka desh hai hamara desh sabhyatao ka desh hai aur sabhyata ke limit mein rahkar hi koi cheez banai jaati hai taki deshvasiyon ko usse kuch seekh mile hollywood mein kuch bhi banaya ja sakta hai aur uska koi matlab nahi hai koi virodh nahi karta hai tiger lo toh accha hollywood mein sab chalta hai dhanyavad

पीके बॉलीवुड और हॉलीवुड की बराबरी इसलिए नहीं की जा सकती है क्योंकि बॉलीवुड हमारे हिंदुस्ता

Romanized Version
Likes  13  Dislikes    views  305
WhatsApp_icon
user

Manoj Mishra

Director-Mandap Sanskritik Shiksha Kala Kendra

0:19
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमारा खान-पान जब चैंपियन नहीं हो पाता तो ऐसे ही मनुष्य की बोली भाषा तापमान भगोली की स्थिति सामाजिक स्थिति दोनों ही मानवता है वह मेल खाती है तुम आना चाहिए

hamara khan pan jab champion nahi ho pata toh aise hi manushya ki boli bhasha taapman bhagoli ki sthiti samajik sthiti dono hi manavta hai vaah male khati hai tum aana chahiye

हमारा खान-पान जब चैंपियन नहीं हो पाता तो ऐसे ही मनुष्य की बोली भाषा तापमान भगोली की स्थिति

Romanized Version
Likes  57  Dislikes    views  1764
WhatsApp_icon
user

Amit Ramsay

Journalists

0:53
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बॉलीवुड को जरा दिखा जाए तो चीज ही हो जाती है ना हॉलीवुड का जो बजट है एडवांस रिमोट से बहुत ही महंगी फिल्में होती है और वह उस चीज में काम आने टीवी से आगे गए और आज की बात नहीं है बहुत ही चल रहा है उनकी टेक्नोलॉजी हमारी टेक्नोलॉजी से बहुत ही माने हम काफी पीछे उनकी टेक्नोलॉजी से आज भी हम लाइक करते हैं हमारी जो भी फिल्में होती है हम हॉलीवुड की भी मदद लेते हैं काफी मदद के लिए काफी चीजों के लिए जो काफी चीज है जो हमारी फिल्मों से बहुत ही ज्यादा बढ़ करें

bollywood ko zara dikha jaaye toh cheez hi ho jaati hai na hollywood ka jo budget hai advance remote se bahut hi mehengi filme hoti hai aur vaah us cheez mein kaam aane TV se aage gaye aur aaj ki baat nahi hai bahut hi chal raha hai unki technology hamari technology se bahut hi maane hum kafi peeche unki technology se aaj bhi hum like karte hain hamari jo bhi filme hoti hai hum hollywood ki bhi madad lete hain kafi madad ke liye kafi chijon ke liye jo kafi cheez hai jo hamari filmo se bahut hi zyada badh karen

बॉलीवुड को जरा दिखा जाए तो चीज ही हो जाती है ना हॉलीवुड का जो बजट है एडवांस रिमोट से बहुत

Romanized Version
Likes  16  Dislikes    views  557
WhatsApp_icon
user

Hanif Zaveri

Former Freelance

0:53
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बॉलीवुड कोबरा देखा जाए तो चीज़ें हो जाती है ना हॉलीवुड का जो बजट है एडवांस है हमारी फिल्मों से बहुत ही महंगी फिल्में होती है और वह उस चीज में का मने टीवी से आगे गया और आज की बातें यह बहुत ही चल रहा है उनकी जो टेक्नोलॉजी हमारी टेक्नोलॉजी से बहुत ही माने हम काफी पीछे उनकी टेक्नोलॉजी से आज भी हम लाइक करते हैं हमारी जो भी फिल्में होती है हम हॉलीवुड की मदद लेते हैं काफी मदद के लिए काफी चीजों के लिए जो काफी चीज है जो हमारी फिल्मों से बहुत ही ज्यादा बढ़ करें

bollywood kobra dekha jaaye toh chizen ho jaati hai na hollywood ka jo budget hai advance hai hamari filmo se bahut hi mehengi filme hoti hai aur vaah us cheez mein ka mane TV se aage gaya aur aaj ki batein yah bahut hi chal raha hai unki jo technology hamari technology se bahut hi maane hum kafi peeche unki technology se aaj bhi hum like karte hain hamari jo bhi filme hoti hai hum hollywood ki madad lete hain kafi madad ke liye kafi chijon ke liye jo kafi cheez hai jo hamari filmo se bahut hi zyada badh karen

बॉलीवुड कोबरा देखा जाए तो चीज़ें हो जाती है ना हॉलीवुड का जो बजट है एडवांस है हमारी फिल्मो

Romanized Version
Likes  16  Dislikes    views  517
WhatsApp_icon
user

Anshu Seth

Writer & Journalist

1:39
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

राधिका हॉलीवुड साइट अपना सर है अपना लेवल है और बॉलीवुड का एक अपना लेबल है लेकिन बॉलीवुड सिनेमा इस टाइम पर दुनिया के हर कोने में बहुत ज्यादा देखा जाता है इनको कंपेयर करना ही ठीक होगा क्योंकि वह हमारे पूरे कंट्री की डायवर्सिटी के ऊपर क्योंकि हमारा देश इतना विशाल है इसमें इतने कल चलते हैं इतने लीटर में कितनी भाषाएं बोली जाती हैं और कितनी जातियां और उनके आगे जो रहन-सहन सारा कुछ और इससे बड़ी बात और कहां रुकता एक अपना ही अलग से पूरा नजरिया है और अपनी एक सोसाइटी के उस पार आप देखिए अगर हम बॉलीवुड सिनेमा तो देखें तो हमारी हर पिक्चर में हर पल में कुछ ना कुछ कहीं ना कहीं किसी ना किसी रीजन से उठाया जाता है और उस को दिखाया जाता है चाहे वह प्रॉब्लम हो चाहे सोशल इश्यूज वो चाहे कुछ अच्छा हो रहा हो चाहे वह हीरोइन को रोल मॉडल कितना प्रेम करते हैं तो अगर देखा जाए यह कहना गलत नहीं होगा कि हमारा है वह बहुत बड़ा है और बहुत अलग है हॉलीवुड उनकी सोसायटी उनको है बिल्कुल अलग हॉलीवुड और बॉलीवुड को कम सेट करें

radhika hollywood site apna sir hai apna level hai aur bollywood ka ek apna lebal hai lekin bollywood cinema is time par duniya ke har kone mein bahut zyada dekha jata hai inko compare karna hi theek hoga kyonki vaah hamare poore country ki dayavarsiti ke upar kyonki hamara desh itna vishal hai isme itne kal chalte hain itne litre mein kitni bhashayen boli jaati hain aur kitni jatiyaan aur unke aage jo rahan sahan saara kuch aur isse badi baat aur kahaan rukata ek apna hi alag se pura najariya hai aur apni ek society ke us par aap dekhiye agar hum bollywood cinema toh dekhen toh hamari har picture mein har pal mein kuch na kuch kahin na kahin kisi na kisi reason se uthaya jata hai aur us ko dikhaya jata hai chahen vaah problem ho chahen social issues vo chahen kuch accha ho raha ho chahen vaah heroine ko roll model kitna prem karte hain toh agar dekha jaaye yah kehna galat nahi hoga ki hamara hai vaah bahut bada hai aur bahut alag hai hollywood unki sociaty unko hai bilkul alag hollywood aur bollywood ko kam set karen

राधिका हॉलीवुड साइट अपना सर है अपना लेवल है और बॉलीवुड का एक अपना लेबल है लेकिन बॉलीवुड सि

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  319
WhatsApp_icon
user

Sneha Dubey

Journalist

0:26
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जैसा कि हम सभी जानते हैं भारत अमेरिका से कई साल पीते हैं जन तकनीकों के साथ हॉलीवुड फिल्में नाइस के दौर में बनती थी इनकी शुरुआत बॉलीवुड में पिछले 10 15 सालों से ही हुई है यह भी सच है कि बॉलीवुड में हर साल हजारों पर में बनकर रिलीज होती हैं और इस तरह यह दुनिया का सबसे बड़ा फिल्मिस्तान माना जाता है लेकिन हॉलीवुड की बराबरी करने में बॉलीवुड को अभी काफी मेहनत करनी पड़ेगी

jaisa ki hum sabhi jante hain bharat america se kai saal peete hain jan taknikon ke saath hollywood filme nice ke daur mein banti thi inki shuruaat bollywood mein pichhle 10 15 salon se hi hui hai yah bhi sach hai ki bollywood mein har saal hazaron par mein bankar release hoti hain aur is tarah yah duniya ka sabse bada filmistan mana jata hai lekin hollywood ki barabari karne mein bollywood ko abhi kafi mehnat karni padegi

जैसा कि हम सभी जानते हैं भारत अमेरिका से कई साल पीते हैं जन तकनीकों के साथ हॉलीवुड फिल्में

Romanized Version
Likes  121  Dislikes    views  895
WhatsApp_icon
user
7:14
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए बॉलीवुड की हॉलीवुड से बराबरी इसलिए नहीं की जाती है क्योंकि बॉलीवुड और हॉलीवुड में बहुत ही फर्क है मतलब जमीन आसमान का फर्क है बॉलीवुड जो है सोचते हैं कि इनका यू टेक्नीशियन हैं इनका जो मेकिंग है उनका जो यह लोग अपने में कितना बजट लगाते हैं और क्या-क्या चीज दिखाते हैं कैसे दिखाते हैं बॉलीवुड में और जो जब फिल्म बनकर कंप्लीट होती है तो एक जब फिल्म मर्द कंप्लीट होती है तो सबसे बड़ी बात है कि जो फिल्म बनाता है और उस फिल्म को कंप्लीट करता है तो सबसे महत्वपूर्ण मीटिंग का होता है और एक डायरेक्टर का होता है और उसके बाद जो फिल्म बर के जो बनाता है कंप्लीट करता है जब फिल्म एडिट में जाता है तो सबसे महंगा भी होता है कि हमें यहां पर क्या करना है कैसे करना है कैसे दिखाना है तू हॉलीवुड और बॉलीवुड में जमीन आसमान का फर्क है अगर आप हॉलीवुड में जा रहे हैं और हॉलीवुड का मेकिंग देखेंगे या उनका डायरेक्शन देखेंगे या उनका बजट लगाने का जो भी रुपए खर्च होता है उसको देखेंगे या एडिटर को देखेंगे या पूरी इलेक्ट्रीशियन को हॉलीवुड का देखेंगे तो उसमें और बॉलीवुड में बहुत फर्क है हॉलीवुड और बॉलीवुड में बहुत करते हैं हॉलीवुड का डायरेक्टर जो होता है ना वह लिक नंबर टैलेंट होता है मतलब बहुत ही उन सब के अंदर टैलेंट पर होती है उनको क्लास में लेना है डायरेक्टर को कहां क्या मुझे दिखाना है एक एक चीज का उल्लू फूकस देकर चलते हैं कहीं भी अगर जर्क होता है ना तो उसे वहां से लोग मोड आउट उसे हटा ही देते हैं उसको रखते नहीं और उनका जो कैमरा फेस होता है ना वह ऐसा फेस लेते हैं कि देखने में दिल खुश हो जाता है और रही बात जो इन लोगों का जो सोच है हॉलीवुड का जो सिस्टम अलीगढ़ का हमेशा नंबर वन पर है अब हमेशा नंबर वन पर रहेगा उसे कोई काट नहीं सकता बॉलीवुड वाले पिक देखना कितना दिमाग लगा ले कितना भी दिमाग लगाने लोग बॉलीवुड हॉलीवुड का टक्कर नहीं दे पाएंगे उनका जो सिस्टम होता है बहुत ही अलग होता है और बॉलीवुड वाले कभी टक्कर नहीं दे पाएंगे क्योंकि बॉलीवुड में क्या है ना आप देखे होंगे उनका सोच पहले हॉलीवुड का सूची देखिए और बॉलीवुड का सूर्य के दोनों में देखिए कितना फर्क है हॉलीवुड का डायरेक्टर देखिए और बालीवुड का डायरेक्टर देखिए उसमें देखिए कितना फर्क हॉलीवुड का एक ब्यूटी कैमरा में जो डीओपी होता है उसको देखिए और बालीवुड का जो डीओपी होता है उसको देखिए फर्क कितना होता है सबसे और हॉलीवुड का जो फिल्म एडिटिंग करते हैं उसको देखिए और जो बॉलीवुड को फिल्म एडिटिंग करते हैं उसको देखिए जमीन आसमान का फर्क पड़ता है भाई साहब हॉलीवुड हॉलीवुड इसीलिए बना बना हुआ है और बॉलीवुड बॉलीवुड इसीलिए बॉलीवुड में मैं बता दूं टेक्नीशियन में और दिमाग में हॉलीवुड हजार पर्सेंट आगे हैं हजार पर्सेंट हॉलीवुड और बॉलीवुड अभी जितना सोचता नहीं है उससे ज्यादा हॉलीवुड सोच कर बैठा रहता है इतना आप लोग ज्यादा की हॉलीवुड का टक्कर देने के लिए बॉलीवुड कभी नहीं दे पाएंगे लोग चाहे बॉलीवुड के डायरेक्टर हो चाहे बॉलीवुड के हीरो हो चाहे बॉलीवुड के हीरोइन हो चाहे बॉलीवुड के जो भी लोग कोई हो जो भी कोई हो नहीं कर पाएंगे और हॉलीवुड का एक छोटा सा मसीहा अगर उसको टैलेंट इसे हर चीज को मेकिंग से हर चीज को लेकर के अपने प्रोजेक्ट को लेकर के जब वह बढ़िया संकिंग करता है माता शबरी फट जाती है भाई साहब इसलिए लोग बोलते हैं हॉलीवुड पिक्चर चलते हैं देखने हॉलीवुड में आप देखे हुए गाना सॉन्ग नहीं रहता है पर फिल्म कमाल की जाती है और बॉलीवुड में आप देखते होंगे गाना अगर ना रहे तो फिल्म कोई देखने जाएगा ही नहीं और देखने भी जाएंगे तो कहीं गया रे यार बॉलीवुड में जाना है या नहीं है यह नहीं है वह नहीं है तो भाई साहब मैं नहीं कराऊं की बॉलीवुड में फिल्म नहीं बनता अच्छा फिल्म अच्छा बनता है पर फिल्म के साथ-साथ कहानी भी अच्छा होना चाहिए डायरेक्टर भी अच्छा होना चाहिए पूरी इलेक्ट्रीशियन अच्छा होना चाहिए पूरी फिल्म का अवकाश अच्छा होना चाहिए पूरी टीम अच्छा होना चाहिए और यहां तक फिल्म को एडिटिंग करने तक पूरा अच्छा होना चाहिए तभी बॉलीवुड फिल्म चलती है अगर जाना सभी लोग सब बॉलीवुड में मिलता है ना तो पब्लिक और जनता समझ आता है पब्लिक ऑप्शन जनता समाज बता देते हैं कि यह अच्छा नहीं है अच्छा नहीं है ऐसा हुआ ऐसा हुआ और हॉलीवुड में एक एक चीज कभी पब्लिक की नजर में छोड़ता नहीं है कि पब्लिक फिल्म देखने के बाद ऐसा करो वैसा करें हॉलीवुड में भी फिल्म खराब बनता है कमजोर बनता है बहुत ही सिस्टमैटिक वहां भी थोड़ा सा है मगर क्या है ना उस पर वह लोग गौर करते हैं उसके उनको ध्यान देते हैं तो इस अब सारी चीजें हैं और बहुत फर्क है बॉलीवुड हॉलीवुड में अगर आपको अच्छा लगे तो मुझे आलो और जवाब जरूर दीजिए फिर मिलेंगे आपसे अगला न्यूज़ में बाय

dekhiye bollywood ki hollywood se barabari isliye nahi ki jaati hai kyonki bollywood aur hollywood mein bahut hi fark hai matlab jameen aasman ka fark hai bollywood jo hai sochte hain ki inka you technician hain inka jo making hai unka jo yah log apne mein kitna budget lagate hain aur kya kya cheez dikhate hain kaise dikhate hain bollywood mein aur jo jab film bankar complete hoti hai toh ek jab film mard complete hoti hai toh sabse badi baat hai ki jo film banata hai aur us film ko complete karta hai toh sabse mahatvapurna meeting ka hota hai aur ek director ka hota hai aur uske baad jo film bar ke jo banata hai complete karta hai jab film edit mein jata hai toh sabse mehnga bhi hota hai ki hamein yahan par kya karna hai kaise karna hai kaise dikhana hai tu hollywood aur bollywood mein jameen aasman ka fark hai agar aap hollywood mein ja rahe hain aur hollywood ka making dekhenge ya unka direction dekhenge ya unka budget lagane ka jo bhi rupaye kharch hota hai usko dekhenge ya editor ko dekhenge ya puri electrician ko hollywood ka dekhenge toh usme aur bollywood mein bahut fark hai hollywood aur bollywood mein bahut karte hain hollywood ka director jo hota hai na vaah lick number talent hota hai matlab bahut hi un sab ke andar talent par hoti hai unko class mein lena hai director ko kaha kya mujhe dikhana hai ek ek cheez ka ullu fukas dekar chalte hain kahin bhi agar jerk hota hai na toh use wahan se log mode out use hata hi dete hain usko rakhte nahi aur unka jo camera face hota hai na vaah aisa face lete hain ki dekhne mein dil khush ho jata hai aur rahi baat jo in logo ka jo soch hai hollywood ka jo system aligarh ka hamesha number van par hai ab hamesha number van par rahega use koi kaat nahi sakta bollywood waale pic dekhna kitna dimag laga le kitna bhi dimag lagane log bollywood hollywood ka takkar nahi de payenge unka jo system hota hai bahut hi alag hota hai aur bollywood waale kabhi takkar nahi de payenge kyonki bollywood mein kya hai na aap dekhe honge unka soch pehle hollywood ka suchi dekhiye aur bollywood ka surya ke dono mein dekhiye kitna fark hai hollywood ka director dekhiye aur balivud ka director dekhiye usme dekhiye kitna fark hollywood ka ek beauty camera mein jo DOP hota hai usko dekhiye aur balivud ka jo DOP hota hai usko dekhiye fark kitna hota hai sabse aur hollywood ka jo film editing karte hain usko dekhiye aur jo bollywood ko film editing karte hain usko dekhiye jameen aasman ka fark padta hai bhai saheb hollywood hollywood isliye bana bana hua hai aur bollywood bollywood isliye bollywood mein main bata doon technician mein aur dimag mein hollywood hazaar percent aage hain hazaar percent hollywood aur bollywood abhi jitna sochta nahi hai usse zyada hollywood soch kar baitha rehta hai itna aap log zyada ki hollywood ka takkar dene ke liye bollywood kabhi nahi de payenge log chahen bollywood ke director ho chahen bollywood ke hero ho chahen bollywood ke heroine ho chahen bollywood ke jo bhi log koi ho jo bhi koi ho nahi kar payenge aur hollywood ka ek chota sa masiha agar usko talent ise har cheez ko making se har cheez ko lekar ke apne project ko lekar ke jab vaah badhiya sanking karta hai mata shabri phat jaati hai bhai saheb isliye log bolte hain hollywood picture chalte hain dekhne hollywood mein aap dekhe hue gaana song nahi rehta hai par film kamaal ki jaati hai aur bollywood mein aap dekhte honge gaana agar na rahe toh film koi dekhne jaega hi nahi aur dekhne bhi jaenge toh kahin gaya ray yaar bollywood mein jana hai ya nahi hai yah nahi hai vaah nahi hai toh bhai saheb main nahi karaun ki bollywood mein film nahi banta accha film accha banta hai par film ke saath saath kahani bhi accha hona chahiye director bhi accha hona chahiye puri electrician accha hona chahiye puri film ka avkash accha hona chahiye puri team accha hona chahiye aur yahan tak film ko editing karne tak pura accha hona chahiye tabhi bollywood film chalti hai agar jana sabhi log sab bollywood mein milta hai na toh public aur janta samajh aata hai public option janta samaaj bata dete hain ki yah accha nahi hai accha nahi hai aisa hua aisa hua aur hollywood mein ek ek cheez kabhi public ki nazar mein chodta nahi hai ki public film dekhne ke baad aisa karo waisa karen hollywood mein bhi film kharaab banta hai kamjor banta hai bahut hi systematic wahan bhi thoda sa hai magar kya hai na us par vaah log gaur karte hain uske unko dhyan dete hain toh is ab saari cheezen hain aur bahut fark hai bollywood hollywood mein agar aapko accha lage toh mujhe aloe vera aur jawab zaroor dijiye phir milenge aapse agla news mein bye

देखिए बॉलीवुड की हॉलीवुड से बराबरी इसलिए नहीं की जाती है क्योंकि बॉलीवुड और हॉलीवुड में बह

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  151
WhatsApp_icon
user

@satyam.20

Student

1:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

गुड मॉर्निंग फ्रेंड्स आपका क्वेश्चन एंड बॉलीवुड की हॉलीवुड शिवरात्रि क्यों नहीं की जा सकती बॉलीवुड एक छोटा स्टेटमेंट और बॉलीवुड बहुत बड़ा है बॉलीवुड को हॉलीवुड में जाने के लिए कुछ टाइम लग सकता है बाद में बॉलीवुड हॉलीवुड शुभरात्रि कर सकता है कोई भी चीज इंपॉसिबल नहीं होता टेंपो से बचना इंपॉसिबल छुपा हुआ रहता है बॉलीवुड हॉलीवुड हॉलीवुड थोड़ा हाई लेवल का है लेकिन फिर भी बॉलीवुड भी कुछ कम नहीं है

good morning friends aapka question and bollywood ki hollywood shivratri kyon nahi ki ja sakti bollywood ek chota statement aur bollywood bahut bada hai bollywood ko hollywood me jaane ke liye kuch time lag sakta hai baad me bollywood hollywood shubhratri kar sakta hai koi bhi cheez Impossible nahi hota tempo se bachna Impossible chupa hua rehta hai bollywood hollywood hollywood thoda high level ka hai lekin phir bhi bollywood bhi kuch kam nahi hai

गुड मॉर्निंग फ्रेंड्स आपका क्वेश्चन एंड बॉलीवुड की हॉलीवुड शिवरात्रि क्यों नहीं की जा सकती

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  247
WhatsApp_icon
user

Raju Singh

IT professional

1:60
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एवरीवन ना यह सवाल जो है यह काफी दिलचस्प है और बहुत समय से लोगों के मन में कंफ्यूजन है कि हॉलीवुड की बराबरी बॉलीवुड क्यों नहीं कर सकता अब जहां तक प्रश्न है हॉलीवुड का तो उसमें जो स्क्रीनप्ले होता है वह बहुत ही दमदार होता है और वह एक तो अपनी फिल्में बनाने के लिए वह पैसे का बिल्कुल ही बोर्ड टेंशन नहीं लेते कैसे जीता लगता है वह लगाते जाते हैं बस फिल्म को एक वास्तविक रूप देने के लिए उनकी फिल्मों में 27 अरब तक का भी खर्च आता है आप देखें तो बहुत सारी ऐसी फिल्में है एग्जांपल के तौर में आपको मिल जाएंगी सबसे बड़ी बात तो जो हॉलीवुड के जो सुपर हीरोस वाली मूवी होती है उसकी अगर आप स्क्रीनप्ले देख ले उनका सब्जेक्ट देख ले तो उनका एक अलग ही तरीका होता है जिसे लाइक मार्बल्स और डीसी यह दोनों इतने जबरदस्त स्टूडियो है कि इन पर बनने वाली फिल्म जो है वह पहले से ही बहुत ही जबरदस्त स्क्रीनप्ले के साथ निर्धारित होती है इसका इफेक्ट देख लीजिए और इसके कैरेक्टर्स देख लीजिए जो कि काफी फेमस हो चुके ऑल ओवर वर्ल्ड में तो इसलिए काफी आगे हैं दूसरी चीज है कि जो हमारी बॉलीवुड फिल्में है उन पर खर्च तो हो रहा है उन पर भी खर्च हो रहा है लेकिन हमारी बॉलीवुड फिल्म को अच्छा सब्जेक्ट नहीं मिलता किसी पीटी फिल्में बनने लगती हैं एक ही सब्जेक्ट पर कई फिल्में बनने लगती है और इस वर्ष जाकर थोड़ा प्रॉब्लम होने लगता है और कुछ हमारे ऐसा नहीं है कि बॉलीवुड में भी है अभी कुछ फिल्म आने वाली जिसे थक थक साफ का हिंदुस्तान अगर आप देखें तो वह बॉलीवुड की तरह ही है लेकिन हम कॉपी करते हैं लेकिन हॉलीवुड वाले कॉपी नहीं करते वह एक अलग ही मैटर पर और अलग ही सब्जेक्ट पर फिल्म बनाते हैं तो इसलिए हॉलीवुड बॉलीवुड से आगे है धन्यवाद

everyone na yah sawaal jo hai yah kafi dilchasp hai aur bahut samay se logon ke man mein confusion hai ki hollywood ki barabari bollywood kyon nahi kar sakta ab jahan tak prashna hai hollywood ka toh usmein jo screenplay hota hai vaah bahut hi dumdaar hota hai aur vaah ek toh apni filme banaane ke liye vaah paise ka bilkul hi board tension nahi lete kaise jita lagta hai vaah lagate jaate hain bus film ko ek vastavik roop dene ke liye unki filmo mein 27 arab tak ka bhi kharch aata hai aap dekhen toh bahut saree aisi filme hai example ke taur mein aapko mil jaengi sabse badi baat toh jo hollywood ke jo super hiros waali movie hoti hai uski agar aap screenplay dekh le unka subject dekh le toh unka ek alag hi tarika hota hai jise like marbles aur dc yah dono itne jabardast studio hai ki in par banne waali film jo hai vaah pehle se hi bahut hi jabardast screenplay ke saath nirdharit hoti hai iska effect dekh lijiye aur iske characters dekh lijiye jo ki kafi famous ho chuke all over world mein toh isliye kafi aage hain dusri cheez hai ki jo hamari bollywood filme hai un par kharch toh ho raha hai un par bhi kharch ho raha hai lekin hamari bollywood film ko accha subject nahi milta kisi PT filme banne lagti hain ek hi subject par kai filme banne lagti hai aur is varsh jaakar thoda problem hone lagta hai aur kuch hamare aisa nahi hai ki bollywood mein bhi hai abhi kuch film aane waali jise thak thak saaf ka Hindustan agar aap dekhen toh vaah bollywood ki tarah hi hai lekin hum copy karte hain lekin hollywood waale copy nahi karte vaah ek alag hi matter par aur alag hi subject par film banate hain toh isliye hollywood bollywood se aage hai dhanyavad

एवरीवन ना यह सवाल जो है यह काफी दिलचस्प है और बहुत समय से लोगों के मन में कंफ्यूजन है कि ह

Romanized Version
Likes  13  Dislikes    views  324
WhatsApp_icon
user
1:37
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इसका जवाब में 2 पॉइंट से देना चाहूंगा पहले टेक्नोलॉजी दूसरा है आपका जो टारगेट ऑडियंस से किस तरह का नया मूवी किस तरह के लोगों के लिए बना रहे हैं अब बॉलीवुड की बात करनी बॉलीवुड में जो मूवीस बनती है उनका भी होता है इंटरटेनमेंट एनिवर्सरी होगी सेक्स होगा वह होगा यह सब चीजें होंगी वहीं पर बनेगी तो अपने पीछे कोई मैसेज छोड़कर जाएगी कुछ ना कुछ आपको सिखा कर जाएगी आनेवाले फ्यूचर ऐसा होगा या विधायक पास टाइम होगा तू भी मुद्दा है यह किस तरह के टारगेट पर केसर के ऑडियंस है और दूसरा जो पॉइंट है वह टेक्नोलॉजी जो टेक्नोलॉजी यूज करते हैं वही साइट है हॉलीवुड से आई तो हम टेक्नोलॉजी में कुछ भी इन वेट नहीं कर रहे हैं उसकी रिपोर्ट करके अपने आप को उनके कभी नहीं कर सकते लेकिन खाते रहेंगे लोग भी अपने दिमाग से इनविटेशन नहीं करेंगे तब तक आप किसी भी सेक्टर में अपने आप को आगे नहीं ले जा सकते थे डिफरेंस हॉलीवुड बॉलीवुड की सेक्सी बात कर लीजिए एक मोटा मोटा समझ लीजिए नकल करने से कोई भी आगे नहीं बढ़ सकता ठीक उसी बाजी से कोई आगे नहीं बढ़ सकता जब तक कि आप जनरेट ना करें कुछ क्रिएट न करें अविष्कार ना करें आए हो कि आप मेरी जवाब अच्छा लगा हुआ समझ में आया होगा अगर जवाब अच्छा लगा हो तो इसे लाइक शेयर कीजिएगा और इस पर आपकी क्या राय है ऑस्ट्रेलिया के बीच जो भी आप सोचते हैं ओबीसी जाति में कमेंट बता सकते हैं

iska jawab mein 2 point se dena chahunga pehle technology doosra hai aapka jo target adiyans se kis tarah ka naya movie kis tarah ke logon ke liye bana rahe hain ab bollywood ki baat karni bollywood mein jo Movies banti hai unka bhi hota hai entertainment enivarsari hogi sex hoga vaah hoga yah sab cheezen hongi wahin par banegi toh apne peeche koi massage chhodkar jayegi kuch na kuch aapko sikha kar jayegi anewale future aisa hoga ya vidhayak paas time hoga tu bhi mudda hai yah kis tarah ke target par kesar ke adiyans hai aur doosra jo point hai vaah technology jo technology use karte hain wahi site hai hollywood se I toh hum technology mein kuch bhi in wait nahi kar rahe hain uski report karke apne aap ko unke kabhi nahi kar sakte lekin khate rahenge log bhi apne dimag se invitation nahi karenge tab tak aap kisi bhi sector mein apne aap ko aage nahi le ja sakte the difference hollywood bollywood ki sexy baat kar lijiye ek mota mota samajh lijiye nakal karne se koi bhi aage nahi badh sakta theek usi baazi se koi aage nahi badh sakta jab tak ki aap generate na karen kuch create na karen avishkaar na karen aaye ho ki aap meri jawab accha laga hua samajh mein aaya hoga agar jawab accha laga ho toh ise like share kijiega aur is par aapki kya rai hai austrailia ke beech jo bhi aap sochte hain obc jati mein comment bata sakte hain

इसका जवाब में 2 पॉइंट से देना चाहूंगा पहले टेक्नोलॉजी दूसरा है आपका जो टारगेट ऑडियंस से कि

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  314
WhatsApp_icon
user

Hrutuja Kamble

IT Engineer

0:29
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बॉलीवुड हॉलीवुड के जो क्वालिटी होती है वीडियो की क्वालिटी अच्छी बॉलीवुड में ज्यादातर लव स्टोरीज इंटरनेशनल रिलेशंस

bollywood hollywood ke jo quality hoti hai video ki quality achi bollywood mein jyadatar love stories international rileshans

बॉलीवुड हॉलीवुड के जो क्वालिटी होती है वीडियो की क्वालिटी अच्छी बॉलीवुड में ज्यादातर लव स्

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  361
WhatsApp_icon
play
user

Garvita

Influencer

2:01

Likes  18  Dislikes    views  515
WhatsApp_icon
play
user

Anuj Gupta

Professional & Life Advisor

1:47

Likes  1  Dislikes    views  62
WhatsApp_icon
user

Rishav Pandey

ASPIRING AI DEVELOPER

0:39
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बॉलीवुड जो है वह मनोरंजन में विश्वास रखता है वही हॉलीवुड जो है वह नई नई चीजों को दिखाने में तथा काफी ज्यादा जो साइंस फिक्शन वाली चीजें होती है विज्ञान से जुड़ी हुई और ज्यादातर कलात्मक चीजें होती है उन्हें बहुत अच्छे से दिखाने में विश्वास रखता है और वह उस काम को काफी अच्छे से करवाते हैं इसके लिए उन्हें काफी ज्यादा पैसा लगता है और काफी ज्यादा जो उनके पास समान होता है कि पिंड होते हैं वह अच्छे होते हैं तो क्या वही जो फिल्मकार होते हैं वहां के एक्सीडेंट होते हैं इसलिए इंडिया की बराबरी नहीं कर सकते बॉलीवुड की बारात भी उसे नहीं हो सकती है

bollywood jo hai vaah manoranjan mein vishwas rakhta hai wahi hollywood jo hai vaah nayi nayi chijon ko dikhane mein tatha kafi zyada jo science fiction waali cheezen hoti hai vigyan se judi hui aur jyadatar kalaatmak cheezen hoti hai unhe bahut acche se dikhane mein vishwas rakhta hai aur vaah us kaam ko kafi acche se karwaate hain iske liye unhe kafi zyada paisa lagta hai aur kafi zyada jo unke paas saman hota hai ki pind hote hain vaah acche hote hain toh kya wahi jo filmakar hote hain wahan ke accident hote hain isliye india ki barabari nahi kar sakte bollywood ki baraat bhi use nahi ho sakti hai

बॉलीवुड जो है वह मनोरंजन में विश्वास रखता है वही हॉलीवुड जो है वह नई नई चीजों को दिखाने मे

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  300
WhatsApp_icon
user

Vatsal

Engineering Student

0:45
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बॉलीवुड फिल्म 100 करोड़ पार मतलब

bollywood film 100 crore par matlab

बॉलीवुड फिल्म 100 करोड़ पार मतलब

Romanized Version
Likes  34  Dislikes    views  291
WhatsApp_icon
user

Gulnaz

लेवल 1 (बिगिनर)

1:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बॉलीवुड की हॉलीवुड से बराबर क्यों नहीं की जा सकती है देखिए और क्योंकि भारतीय दर्शन ऐसी फिल्मों के स्तर और मानवता को स्वीकार्य समझाने के लिए तैयार नहीं है हालांकि उनमें से कुछ अब ऐसे फिल्मों की सहारन कर रहे हैं उनमें से जो है अभी का अधिकतर अभी भी उन्हें फिल्म की पसंद करते हैं दिन में बड़े पैमाने पर कारक का आइटम गाने और जो है ना इसलिए पैसा बनाने के लिए आपको अधिकार दर्शकों को क्या देना एक और महत्वपूर्ण कारण यह भी हो सकता है कि संतोषी बोर्ड है हॉलीवुड में लोगों को जो है यार एडल्ट फिल्मों की रिलीज करने में कोई फर्क नहीं पड़ता है उन्हें पता है कि वह लाभ कमाएंगे और सेंसरशिप बोर्ड और नग्नता और अशुद्धियों को दिखाएगा भारत में उन प्रकार के विषयों को हटाए जाने के लिए कहा जाता है क्योंकि अधिकांश भारतीय दर्शकों यह तो महसूस करके कर रहे कि उनके धार्मिक विचारों पर हमला किया जा किया गया है यह हमारी संस्कृति के खिलाफ है के बावजूद ऐसे फिल्म बनाई जा रही है जो बनी चेक नहीं है कभी-कभी और सक्षम द्वारा प्रशंसित फिल्म अभी जो है बॉक्स ऑफिस में अच्छी तरह से प्रदर्शन कर सकती है लेकिन वाणिज्य फिल्म में करीबी नहीं है तो इसी के वजह से जो है बॉलीवुड की हॉलीवुड से बराबरी और नहीं की जा सकती

bollywood ki hollywood se barabar kyon nahi ki ja sakti hai dekhiye aur kyonki bharatiya darshan aisi filmo ke sthar aur manavta ko svikarya samjhaane ke liye taiyar nahi hai halanki unmen se kuch ab aise filmo ki saharan kar rahe hain unmen se jo hai abhi ka adhiktar abhi bhi unhe film ki pasand karte hain din mein bade paimane par kaarak ka item gaane aur jo hai na isliye paisa banaane ke liye aapko adhikaar darshakon ko kya dena ek aur mahatvapurna karan yah bhi ho sakta hai ki santosh board hai hollywood mein logon ko jo hai yaar adult filmo ki release karne mein koi fark nahi padta hai unhe pata hai ki vaah labh kamayenge aur censorship board aur nagnata aur ashuddhiyon ko dikhaega bharat mein un prakar ke vishyon ko hataye jaane ke liye kaha jata hai kyonki adhikaansh bharatiya darshakon yah toh mahsus karke kar rahe ki unke dharmik vicharon par hamla kiya ja kiya gaya hai yah hamari sanskriti ke khilaf hai ke bawajud aise film banai ja rahi hai jo bani check nahi hai kabhi kabhi aur saksham dwara prashansit film abhi jo hai box office mein achi tarah se pradarshan kar sakti hai lekin wanijya film mein karibi nahi hai toh isi ke wajah se jo hai bollywood ki hollywood se barabari aur nahi ki ja sakti

बॉलीवुड की हॉलीवुड से बराबर क्यों नहीं की जा सकती है देखिए और क्योंकि भारतीय दर्शन ऐसी फिल

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  129
WhatsApp_icon
user

Swati

सुनो ..सुनाओ..सीखो!

1:24
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए बॉलीवुड और हॉलीवुड की बराबरी नहीं की जा सकती क्योंकि हॉलीवुड में जिस तरह की मूवीस बनती है वह बॉलीवुड में पॉसिबल ही नहीं है बॉलीवुड मूवीस की एक ही सोई होती है लड़का लड़की हूं तेरे से प्यार हो जाता है और पुल्लिंग और उनकी डेथ हो जाती है और वह सब से लड़ते हैं और आप ही लोग साथ हो जाते हैं मर जाते हैं थोड़ी बात नहीं बनी शुरू हुई है जैसे कि जिन जो मूवीस में इरफान खान या फिर नवाज़ुद्दीन सिद्धकी काम करते हैं सी मूवीस नई कॉन्टेंट के साथ ही है बट बॉक्स ऑफिस पर इतना प्यार नहीं मिलता जितना कि यह मसाला मूवीस को मिलता है हॉलीवुड के अंदर जो प्लॉट होती है जो स्टोरी होती है वह बहुत बस टाइम से इंस्पायर्ड होती है बहुत बार फ्यूचर से इंस्पायर्ड होती है और जो उनकी सो रही हो तो वह बहुत रियल लगती है हमारी बॉलीवुड में भी रोज का काम क्या होता है कि आपको मेकअप करके डांस करना है हॉलीवुड में से नहीं होता है वहां पर प्रॉपर रिजल्ट होता है प्रॉपर्टी उन्होंने मिलते हैं और जो हॉलीवुड मूवी का जो जो ऑडियंस है बहुत फास्ट है हर देश में लोग और इंडिया में भी लोग बहुत आता मूवी फॉलोअर्स फॉलो करते हैं पर जो बॉलीवुड मूवी के ऑडियो हमसे बहुत ने ज्यादा नहीं है और बॉलीवुड मूवीस का मतलब और मकसद मोहसिन अटेनमेंट ही होता हॉलीवुड मुझसे ज्यादा तरह से नहीं होता है इसलिए बराबरी पॉसिबल नहीं है

dekhiye bollywood aur hollywood ki barabari nahi ki ja sakti kyonki hollywood mein jis tarah ki Movies banti hai vaah bollywood mein possible hi nahi hai bollywood Movies ki ek hi soi hoti hai ladka ladki hoon tere se pyar ho jata hai aur pulling aur unki death ho jaati hai aur vaah sab se ladtey hain aur aap hi log saath ho jaate hain mar jaate hain thodi baat nahi bani shuru hui hai jaise ki jin jo Movies mein irfan khan ya phir navazuddin siddhaki kaam karte hain si Movies nayi content ke saath hi hai but box office par itna pyar nahi milta jitna ki yah masala Movies ko milta hai hollywood ke andar jo plot hoti hai jo story hoti hai vaah bahut bus time se inspired hoti hai bahut baar future se inspired hoti hai aur jo unki so rahi ho toh vaah bahut real lagti hai hamari bollywood mein bhi roj ka kaam kya hota hai ki aapko makeup karke dance karna hai hollywood mein se nahi hota hai wahan par proper result hota hai property unhone milte hain aur jo hollywood movie ka jo jo adiyans hai bahut fast hai har desh mein log aur india mein bhi log bahut aata movie followers follow karte hain par jo bollywood movie ke audio humse bahut ne zyada nahi hai aur bollywood Movies ka matlab aur maksad mohsin atenment hi hota hollywood mujhse zyada tarah se nahi hota hai isliye barabari possible nahi hai

देखिए बॉलीवुड और हॉलीवुड की बराबरी नहीं की जा सकती क्योंकि हॉलीवुड में जिस तरह की मूवीस बन

Romanized Version
Likes  33  Dislikes    views  227
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
अटेनमेंट पिक्चर ;

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!