निर्भया दिल्ली रेप केस के बारे में बताएं?...


user

Beer Singh Rajput

Career Counsellor & Lecturer.

0:42
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

किसके बारे में फैसला हो चुका है सभी आरोपियों में से एक आरोपी जिंदगी चलती बस में रेप केस मुख्य देश को आंदोलित कर दिया था अब जाकर

kiske bare me faisla ho chuka hai sabhi aaropiyon me se ek aaropi zindagi chalti bus me rape case mukhya desh ko andolit kar diya tha ab jaakar

किसके बारे में फैसला हो चुका है सभी आरोपियों में से एक आरोपी जिंदगी चलती बस में रेप केस मु

Romanized Version
Likes  173  Dislikes    views  1611
WhatsApp_icon
4 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

Anjali Real Life food. youtube

Please Subscribe my Youtube Channel 👍

1:15

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार जी आप उस वाले में निर्भया दिल्ली के बारे में बताएं निर्भया केस कांड जो है 16 दिसंबर 2012 को यह घटना घटी थी और पूरे 7 साल तक यह केस चला देश के सबसे बड़े जो कोर्ट है सुप्रीम कोर्ट वहां पर और 7 साल बाद निर्भय इंसाफ मिला 20 मार्च को 20 मार्च 2020 को सभी दोषियों को फांसी हुई और निर्भया को इंसाफ मिला बाकी ज्यादा जानकारी के लिए आप यूट्यूब पर बसे न्यूज़ के सारे डाला हुआ है वहां पर देख सकते हैं ठीक है सुन तेरे मुस्कुराते धन्यवाद

namaskar ji aap us waale me Nirbhaya delhi ke bare me bataye Nirbhaya case kaand jo hai 16 december 2012 ko yah ghatna ghati thi aur poore 7 saal tak yah case chala desh ke sabse bade jo court hai supreme court wahan par aur 7 saal baad nirbhay insaaf mila 20 march ko 20 march 2020 ko sabhi doshiyon ko fansi hui aur Nirbhaya ko insaaf mila baki zyada jaankari ke liye aap youtube par base news ke saare dala hua hai wahan par dekh sakte hain theek hai sun tere muskurate dhanyavad

नमस्कार जी आप उस वाले में निर्भया दिल्ली के बारे में बताएं निर्भया केस कांड जो है 16 दिसंब

Romanized Version
Likes  202  Dislikes    views  2557
WhatsApp_icon
user
3:01
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

निर्भया गैंग रेप के मामले में चारों दोषियों को तिहाड़ जेल में शुक्रवार सुबह फांसी दी फांसी की सजा दी गई है इस मामले में तीन डेथ वारंट भी आ वारंट पर किसी ना किसी वजह से फांसी पर रोक लगी लेकिन कोर्ट कोर्ट के चौथे डेथ वारंट पर चारों दोषियों को फांसी की सजा दी गई आपको बता दें कि 16 दिसंबर 2012 के दिन राजस्थानी दिल्ली में राजधानी दिल्ली में चलती बस के दौरान एक लड़की के साथ सामूहिक बलात्कार हुआ था इस निर्भया केस के कारण पूरे दुनिया भर में नकारात्मक प्रभाव पड़ा था और देश की छवि पर शर्मसार हो गई थी इस घटना की वजह से पूरा देश एकजुट हो पीड़ित लड़की ने दया के समर्थन आकर विरोध प्रदर्शन किया था लोग सड़कों पर आ गए थे और अपराधियों को फांसी की मांग करने गए दिल्ली में 16 दिसंबर 2012 रविवार की रात चलती बस में एक लड़की के साथ सामूहिक बलात्कार किया गया वह घटना उस वक्त हुई जब लड़की फिल्म देखने के बाद अपने पुरुष मित्र के साथ बस में सवार होकर पूरी का से मुनि मुनिरका से मुनिरका से द्वारका जा रही थी लड़की के बस में बैठते ही लगभग पांच से सात यात्रियों ने उसके उसके साथ छेड़छाड़ शुरू कर दी उस बस में और यात्री नहीं थे और यात्री नहीं थे लड़की के मित्र ने उससे उसके साथ भी मारपीट की और उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया दुष्कर्म किया बाद में लोगों ने लड़की और उसके मित्र को दक्षिण दिल्ली के माहियाल पुर के नजदीक वसंत विहार के इलाके में बस से फेंक दिया पीड़ित लड़की को नाजुक हालत में दिल्ली के सफल सफदरगंज अस्पताल में भर्ती कराया गया घटना के विरोध में अगले दिन कई लोगों ने सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक ट्विटर के जरिए अपना गुस्सा जाहिर करना शुरू किया दिल्ली पुलिस ने कहा कि बस के ड्राइवर को सोमवार की रात दिल्ली के रात गिरफ्तार कर लिया और उनका नाम राम सिंह बताया गया सामूहिक बलात्कार की घटना के करीब 2 दिन बाद 18 दिसंबर 2012 को दिल्ली पुलिस आयुक्त नीरज कुमार ने मीडिया को संबोधित किया की जानकारी दी कि इस मामले में चारों अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया गया है यहां ने बताया कि जिस बस में सामूहिक दुष्कर्म किया था उस बस पर यादव लिखा हुआ था और मस्त सीन देख दिल्ली में आरके पुरम सेक्टर 3 से बस बरामद की गई सबूत मिटाने के लिए बस को धो दिया गया था

Nirbhaya gang rape ke mamle me charo doshiyon ko tihad jail me sukravaar subah fansi di fansi ki saza di gayi hai is mamle me teen death warrant bhi aa warrant par kisi na kisi wajah se fansi par rok lagi lekin court court ke chauthe death warrant par charo doshiyon ko fansi ki saza di gayi aapko bata de ki 16 december 2012 ke din rajasthani delhi me rajdhani delhi me chalti bus ke dauran ek ladki ke saath samuhik balatkar hua tha is Nirbhaya case ke karan poore duniya bhar me nakaratmak prabhav pada tha aur desh ki chhavi par sharmasar ho gayi thi is ghatna ki wajah se pura desh ekjut ho peedit ladki ne daya ke samarthan aakar virodh pradarshan kiya tha log sadkon par aa gaye the aur apradhiyon ko fansi ki maang karne gaye delhi me 16 december 2012 raviwar ki raat chalti bus me ek ladki ke saath samuhik balatkar kiya gaya vaah ghatna us waqt hui jab ladki film dekhne ke baad apne purush mitra ke saath bus me savar hokar puri ka se muni muniraka se muniraka se dwarka ja rahi thi ladki ke bus me baithate hi lagbhag paanch se saat yatriyon ne uske uske saath chedchad shuru kar di us bus me aur yatri nahi the aur yatri nahi the ladki ke mitra ne usse uske saath bhi maar peet ki aur uske saath samuhik dushkarm kiya dushkarm kiya baad me logo ne ladki aur uske mitra ko dakshin delhi ke mahiyal pur ke nazdeek vasant vihar ke ilaake me bus se fenk diya peedit ladki ko naajuk halat me delhi ke safal safdarganj aspatal me bharti karaya gaya ghatna ke virodh me agle din kai logo ne social networking site facebook twitter ke jariye apna gussa jaahir karna shuru kiya delhi police ne kaha ki bus ke driver ko somwar ki raat delhi ke raat giraftar kar liya aur unka naam ram Singh bataya gaya samuhik balatkar ki ghatna ke kareeb 2 din baad 18 december 2012 ko delhi police aayukt Neeraj kumar ne media ko sambodhit kiya ki jaankari di ki is mamle me charo abhiyukton ko giraftar kar liya gaya hai yahan ne bataya ki jis bus me samuhik dushkarm kiya tha us bus par yadav likha hua tha aur mast seen dekh delhi me RK puram sector 3 se bus baramad ki gayi sabut mitane ke liye bus ko dho diya gaya tha

निर्भया गैंग रेप के मामले में चारों दोषियों को तिहाड़ जेल में शुक्रवार सुबह फांसी दी फांसी

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  138
WhatsApp_icon
user

Adarsh Gupta

Lawyer And Entrepreneur

2:17
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

निर्भया दिल्ली रेप केस के बारे में बताइए पेट में अकेला देखकर नहीं है भारत में हजारों के सभी को ऐसे नहीं लेता जिस प्रकार दिल्ली में हुए दर्दनाक कांड में मिला और मैं भगवान से यही प्रार्थना करता हूं कि भगवान हर किसी भी स्त्री के साथ ऐसा दुराचार होता है तो उसे इंसाफ मिलना चाहिए यह कहा कि नहीं है इससे और भी औरतों को जीने का साथ मिलता है कुछ ही दिन पहले हैदराबाद में भी कैसा ही कांड हुआ था सोम बात करते निर्भय दिल्ली रेप केस के बारे में यह केस 16 दिसंबर 2012 को हुआ था यह हादसा एक 23 वर्षीय महिला जो कि अपने बस में सफर कर रही थी उस बस में से 6 लोग थे एक ड्राइवर और एक नाबालिक बाकी चार अन्य पुरुष और हाल ही में 19 मार्च 2020 को इन सभी को कर्मियों को मौत की सजा दी गई इन सभी को फांसी के तख्ते पर लटका दिया गया इन सभी के नाम यह है यह चार लोग थे फेलो थे एक नाबालिग जिसे सुधार गृह में रखकर 3 साल की 3 साल के समय तक रखा गया तो छोड़ दिया गया और जो एक आदमी इनमें से था जो 2013 में खुद को मार लिया था मुकेश सिंह राम सिंह अक्षय कुमार और पवन कुमार इन सभी को फांसी की सजा 19 मार्च 2020 को दे दी गई है अंत में मैं यह कहना चाहूंगा कि जस्टिस इसी को कहते हैं और ऐसे ही होना चाहिए परी बहुत लेट हुआ 2012 के केस को 2020 में जाकर सजा मिल रही

Nirbhaya delhi rape case ke bare me bataiye pet me akela dekhkar nahi hai bharat me hazaro ke sabhi ko aise nahi leta jis prakar delhi me hue dardanak kaand me mila aur main bhagwan se yahi prarthna karta hoon ki bhagwan har kisi bhi stree ke saath aisa durachar hota hai toh use insaaf milna chahiye yah kaha ki nahi hai isse aur bhi auraton ko jeene ka saath milta hai kuch hi din pehle hyderabad me bhi kaisa hi kaand hua tha Som baat karte nirbhay delhi rape case ke bare me yah case 16 december 2012 ko hua tha yah hadsa ek 23 varshiye mahila jo ki apne bus me safar kar rahi thi us bus me se 6 log the ek driver aur ek nabalik baki char anya purush aur haal hi me 19 march 2020 ko in sabhi ko karmiyon ko maut ki saza di gayi in sabhi ko fansi ke takhte par Latka diya gaya in sabhi ke naam yah hai yah char log the fellow the ek nabalik jise sudhaar grah me rakhakar 3 saal ki 3 saal ke samay tak rakha gaya toh chhod diya gaya aur jo ek aadmi inmein se tha jo 2013 me khud ko maar liya tha mukesh Singh ram Singh akshay kumar aur pawan kumar in sabhi ko fansi ki saza 19 march 2020 ko de di gayi hai ant me main yah kehna chahunga ki justice isi ko kehte hain aur aise hi hona chahiye pari bahut late hua 2012 ke case ko 2020 me jaakar saza mil rahi

निर्भया दिल्ली रेप केस के बारे में बताइए पेट में अकेला देखकर नहीं है भारत में हजारों के सभ

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  38
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!