कुछ IAS अधिकारी अपना इस्तीफा क्यों दे रहे हैं?...


play
user
1:46

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इस्तीफा देने के कारण अलग-अलग होते हैं कुछ कहीं और ज्वाइन करना चाहते हैं जहां वह ज्यादा पैसा कमाना चाहते हैं तथा कुछ पॉलिटिक्स ज्वाइन के लिए छोड़ते हैं तथा कुछ समाज सेवा के लिए जॉब छोड़ना चाहते हैं तथा कुछ प्रशासन की नीतियों से अपना सामंजस्य नहीं बैठा पाते इसलिए ऐसा करते हैं जैसे वर्तमान में कई उदाहरण हैं जिसे जम्मू कश्मीर के साफ है जल जो आईएएस बैच के अपने बैच के टॉपर थे उन्होंने जम्मू कश्मीर की हालत को देखते हुए आईएएस अधिकारी की जॉब से रिजाइन कर दिया था दूसरे कन्नन गोपीनाथन है उन्हें भी धारा 370 के हटाया जाने को कारण बताकर अपना इस्तीफा सरकार को दे दिया तथा यह लोग भारत सरकार की अब खुलेआम मुखालफत करते हैं क्योंकि वह ऐसा करने के लिए स्वतंत्र हैं पहले वह जॉब में रहते हुए ऐसा नहीं कर पाते क्योंकि तब उनके ऊपर कार्मिक मंत्रालय कार्रवाई करता इसलिए आईएएस अधिकारी के इस्तीफा देने के कारण हर अधिकारी के अपने अलग-अलग होते हैं कुछ के पारिवारिक कारण होते हैं कुछ के राजनीतिक कारण होते हैं कुछ की धार्मिक कारण होते हैं कुछ के समाजीकरण होते हैं कुछ की अपनी परिस्थितियां होती हैं सब अपने अपने हिसाब से ऐसा करते हैं

istifa dene ke karan alag alag hote hain kuch kahin aur join karna chahte hain jaha vaah zyada paisa kamana chahte hain tatha kuch politics join ke liye chodte hain tatha kuch samaj seva ke liye job chhodna chahte hain tatha kuch prashasan ki nitiyon se apna samanjasya nahi baitha paate isliye aisa karte hain jaise vartaman me kai udaharan hain jise jammu kashmir ke saaf hai jal jo IAS batch ke apne batch ke topper the unhone jammu kashmir ki halat ko dekhte hue IAS adhikari ki job se resign kar diya tha dusre kannan gopinathan hai unhe bhi dhara 370 ke hataya jaane ko karan batakar apna istifa sarkar ko de diya tatha yah log bharat sarkar ki ab khuleaam mukhalafat karte hain kyonki vaah aisa karne ke liye swatantra hain pehle vaah job me rehte hue aisa nahi kar paate kyonki tab unke upar karmik mantralay karyawahi karta isliye IAS adhikari ke istifa dene ke karan har adhikari ke apne alag alag hote hain kuch ke parivarik karan hote hain kuch ke raajnitik karan hote hain kuch ki dharmik karan hote hain kuch ke samajikaran hote hain kuch ki apni paristhiyaann hoti hain sab apne apne hisab se aisa karte hain

इस्तीफा देने के कारण अलग-अलग होते हैं कुछ कहीं और ज्वाइन करना चाहते हैं जहां वह ज्यादा पैस

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  196
KooApp_icon
WhatsApp_icon
1 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!