गोली कैसे बनता है?...


user

Dr Raj Kumar Kochar

Ayurvedic Doctors ( Researcher )

0:51
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एलोपैथी का तोड़ दो या आयुर्वेदिक जड़ी बूटियां हो उनसे जब गोली बनानी होती है तो किसी ऐसी मीडिया का प्रयोग किया जाता है जो गमिंग का काम करें हालांकि उसकी परसेंटेज एक या दो पर्सेंट लिया जाता है जल्दी गवार कम का उपयोग किया जाता है और ऐसी मशीनें होती है जिसमें उस पाउडर से कम प्रेस करके गोलियां बनाई जाती है और वह बोलियां पीर ब्लिस्टर पैकिंग की जाती है उस मशीन में वह गोलियां अपने आप सुख जाए इसका इसकी भी मशीन लगी होती है जिसको ड्राइव

allopathy ka tod do ya ayurvedic jadi butiyan ho unse jab goli banani hoti hai toh kisi aisi media ka prayog kiya jata hai jo gaming ka kaam kare halaki uski percentage ek ya do percent liya jata hai jaldi gavar kam ka upyog kiya jata hai aur aisi mashinen hoti hai jisme us powder se kam press karke goliya banai jaati hai aur vaah boliyan pir blistar packing ki jaati hai us machine me vaah goliya apne aap sukh jaaye iska iski bhi machine lagi hoti hai jisko drive

एलोपैथी का तोड़ दो या आयुर्वेदिक जड़ी बूटियां हो उनसे जब गोली बनानी होती है तो किसी ऐसी मी

Romanized Version
Likes  372  Dislikes    views  3744
KooApp_icon
WhatsApp_icon
2 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!