क्या धर्म एक नशा है जिससे मानवता का नाश होता है?...


user

Daulat Ram Sharma Shastri

Psychologist | Ex-Senior Teacher

2:07
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत जैसे देश में यह मान के चलिए यह धर्मों की विभिन्नता है कि वह राष्ट्रीय गान राष्ट्रीय यूनिटी के लिए बहुत बड़ी घातक है आज की राष्ट्रीय यूनिट 2 इन धर्मों की ब्रिज नेताओं ने जातियों के विजेताओं ने क्षेत्रों की भिन्नता ने एकदम से बंद कर दिया है तोड़ दिया है ऐसा लगता है कि राष्ट्रपति देश भारत से जा चुकी है वह तो सुनता के साथ ही हमारी समाप्त हो गई हम भारतीयों को सुनता क्या मिल गई ऐसी स्थिति बन गई जैसे बंदर के हाथ में नारियल आ जाता है और वह से 10 तारीख तक भी हमारी है आप धर्म किस नेता के नाम पर जाति की सुविधा के नाम पर नंगा नाच कर रहे हैं एक तो हमारे देश की राजनीति की बहुत गंदे हैं कितने क्षेत्र में इतने गंदे हैं स्वार्थी खुदगर्ज हैं कि केवल में मीरा करने के अतिरिक्त अपने घर बढ़ने के अध्यक्ष और इन पर कोई कार्य नहीं आता इन लोगों ने कभी राष्ट्र में सोचा है अभी राष्ट्रपति के काम नहीं करते कभी देश के काम नहीं कर रहे हैं दूसरा प्रिया हमारे धर्मांध लोग यह में परेशान कर रहे हैं अब तुम देख रहे और उन्हें विपत्ति समय देश में आई हुई है उसके संक्रमण का खतरा हो रहा है और कुछ धर्मांध लोग कुछ धर्म संघ के लोग उसे फैलाने का प्रयास कर रहे हैं संपूर्ण को खिलाने का प्रयास कर रहे हैं कुछ राजनीतिक गंदी राजनीति क्या कारण से राजनीतिक द्वेष के कारण से सत्ता छीनने की इच्छा से मानवता के दुश्मन बनते हुए संक्रमण फैलाने का प्रयास कर रहे हैं यह सब चैनल बिल्कुल सही सोचा है चाइना में धर्म का पालन नहीं है वहां चाइना में इतनी क्षमता नहीं है चाइना में होती तो अचानक समाप्त हो चुका तूफान चाहने वाले तो शुरु से ही मानते हैं कि दर में नशे का कार्य करता है इसलिए भारत में उचित है कि समस्त धर्मों पर पत्र और केवल एक मानवीय ताकत धर्म रहे इंसानियत का धर्म रहे देशभक्ति का धर्म रहे

bharat jaise desh me yah maan ke chaliye yah dharmon ki vibhinnata hai ki vaah rashtriya gaan rashtriya unity ke liye bahut badi ghatak hai aaj ki rashtriya unit 2 in dharmon ki bridge netaon ne jaatiyo ke vijetaon ne kshetro ki bhinnata ne ekdam se band kar diya hai tod diya hai aisa lagta hai ki rashtrapati desh bharat se ja chuki hai vaah toh sunta ke saath hi hamari samapt ho gayi hum bharatiyon ko sunta kya mil gayi aisi sthiti ban gayi jaise bandar ke hath me nariyal aa jata hai aur vaah se 10 tarikh tak bhi hamari hai aap dharm kis neta ke naam par jati ki suvidha ke naam par nanga nach kar rahe hain ek toh hamare desh ki raajneeti ki bahut gande hain kitne kshetra me itne gande hain swaarthi khudagarj hain ki keval me meera karne ke atirikt apne ghar badhne ke adhyaksh aur in par koi karya nahi aata in logo ne kabhi rashtra me socha hai abhi rashtrapati ke kaam nahi karte kabhi desh ke kaam nahi kar rahe hain doosra priya hamare dharmandh log yah me pareshan kar rahe hain ab tum dekh rahe aur unhe vipatti samay desh me I hui hai uske sankraman ka khatra ho raha hai aur kuch dharmandh log kuch dharm sangh ke log use felane ka prayas kar rahe hain sampurna ko khilane ka prayas kar rahe hain kuch raajnitik gandi raajneeti kya karan se raajnitik dvesh ke karan se satta chhinne ki iccha se manavta ke dushman bante hue sankraman felane ka prayas kar rahe hain yah sab channel bilkul sahi socha hai china me dharm ka palan nahi hai wahan china me itni kshamta nahi hai china me hoti toh achanak samapt ho chuka toofan chahne waale toh shuru se hi maante hain ki dar me nashe ka karya karta hai isliye bharat me uchit hai ki samast dharmon par patra aur keval ek manviya takat dharm rahe insaniyat ka dharm rahe deshbhakti ka dharm rahe

भारत जैसे देश में यह मान के चलिए यह धर्मों की विभिन्नता है कि वह राष्ट्रीय गान राष्ट्रीय य

Romanized Version
Likes  417  Dislikes    views  4089
KooApp_icon
WhatsApp_icon
30 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!