ओम जय जगदीश हरे के लेखक कौन है?...


user
1:10
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बुलेट पर आपका स्वागत है आपका सवाल है ओम जय जगदीश हरे के लेखक कौन हैं जल्दी टनाटन भारत की प्रसिद्ध आरती और इसके लेखक प्रसिद्ध सेनानी समाज सुधारक ज्योतिषी पंडित श्रद्धा राम शर्मा जिन्होंने इस आरती की रचना 18 सो 70 ईस्वी में देश के जितने में महान गायक चंदा मंगेशकर शंकर महादेवन अनुराधा पौडवाल आशा भोंसले एल्बम आवाज दिए धन्यवाद आपका आज का दिन शुभ

bullet par aapka swaagat hai aapka sawaal hai om jai jagdish hare ke lekhak kaun hain jaldi tanatan bharat ki prasiddh aarti aur iske lekhak prasiddh senani samaj sudharak jyotishi pandit shraddha ram sharma jinhone is aarti ki rachna 18 so 70 isvi me desh ke jitne me mahaan gayak chanda mangeskar shankar mahadevan anuradha paudwal asha bhonsale album awaaz diye dhanyavad aapka aaj ka din shubha

बुलेट पर आपका स्वागत है आपका सवाल है ओम जय जगदीश हरे के लेखक कौन हैं जल्दी टनाटन भारत की

Romanized Version
Likes  152  Dislikes    views  2758
WhatsApp_icon
4 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
0:53
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ओम जय जगदीश हरे आरती पूरे भारत में गाई जाती है हर हिंदू के घर में इस आरती को गाया जाता है प्रेम पूर्वक भगवान विष्णु यह सुंदर आरती के लेखक हैं पंडित श्रद्धा राम शर्मा जी जिनके द्वारा रचित यह ईश्वर भगवान विष्णु की आरती परमपिता परमेश्वर की आरती के बिना किसी भी हिंदू धर्म के मंदिरों में घरों में भगवान की पूजा पूर्ण नहीं मानी जाती है जब तक घंटे घड़ियाल बजा कर दी झांझर ढोलक और भगवान के दीपक जला कर इस आरती को लगाया जाए इसके लेखक है पंडित श्रद्धा शर्मा

om jai jagdish hare aarti poore bharat me guy jaati hai har hindu ke ghar me is aarti ko gaaya jata hai prem purvak bhagwan vishnu yah sundar aarti ke lekhak hain pandit shraddha ram sharma ji jinke dwara rachit yah ishwar bhagwan vishnu ki aarti parampita parmeshwar ki aarti ke bina kisi bhi hindu dharm ke mandiro me gharon me bhagwan ki puja purn nahi maani jaati hai jab tak ghante ghadiyal baja kar di jhanjhar dholak aur bhagwan ke deepak jala kar is aarti ko lagaya jaaye iske lekhak hai pandit shraddha sharma

ओम जय जगदीश हरे आरती पूरे भारत में गाई जाती है हर हिंदू के घर में इस आरती को गाया जाता है

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  153
WhatsApp_icon
user

Dr. kishore Ghildiyal

Astrologer,YouTuber,writer,blogger

0:32
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ओम जय जगदीश हरे नामक यह जो आरती हम लोग आया करते हैं इसके लेखक जो है वह शरदा राम फुलौरी जी है और उन्होंने स्वतंत्रता संग्राम से पहले के वक्त लगभग 18 से 70 के आसपास इस आरती की रचना की है और इसके अंत में अगर आप देखें तो श्रद्धा भक्ति बढ़ाओ संतन की सेवा जिससे यह कंफर्म हो जाता है कि इसके लेखक श्री श्रद्धा राम फिल्लौरी जी हैं

om jai jagdish hare namak yah jo aarti hum log aaya karte hain iske lekhak jo hai vaah sardar ram fulauri ji hai aur unhone swatantrata sangram se pehle ke waqt lagbhag 18 se 70 ke aaspass is aarti ki rachna ki hai aur iske ant me agar aap dekhen toh shraddha bhakti badhao santan ki seva jisse yah confirm ho jata hai ki iske lekhak shri shraddha ram fillauri ji hain

ओम जय जगदीश हरे नामक यह जो आरती हम लोग आया करते हैं इसके लेखक जो है वह शरदा राम फुलौरी जी

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  100
WhatsApp_icon
user
0:14
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है ओम जय जगदीश हरे के लेखक कौन है इसका उत्तर है ओम जय जगदीश हरे आरती के लेखक पंडित श्रद्धा राम जी हैं यह आरती विष्णु जी की है धन्यवाद

aapka prashna hai om jai jagdish hare ke lekhak kaun hai iska uttar hai om jai jagdish hare aarti ke lekhak pandit shraddha ram ji hain yah aarti vishnu ji ki hai dhanyavad

आपका प्रश्न है ओम जय जगदीश हरे के लेखक कौन है इसका उत्तर है ओम जय जगदीश हरे आरती के लेखक प

Romanized Version
Likes  44  Dislikes    views  427
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!