सुबह उठकर एक्सरसाइज करने का मन करता है लेकिन नहीं कर पाता उसका क्या इलाज है?...


user

Dr Pankaj Jangid

Ayurveda Acharya

1:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

किसी दोस्त का सवाल है कि सुबह उठकर एक्सरसाइज करने का मन करता है लेकिन नहीं कर पाता उसका क्या इलाज है दोस्तों और डॉक्टर पंकज जांगिड़ आयुर्वेदाचार्य अब कोई की सलाह देना चाहूंगा अगर आप को वोट कर एक्सरसाइज करने का मन करता है इसका मतलब आप अपने शरीर को फिट करना चाहते हैं क्या सर्च करना चाहते हैं अगर आप बात करने का मन नहीं करता उठने के बाद यानी कि आपको आलस चाहते हैं तो निद्रा के बाद जो आना चाहते हैं तो उसका कमरा बोलते हैं इस शरीर की कमजोरी कारण है अब किसी भी काम में मन नहीं लगता इच्छा नहीं होती ऐसा है इसके लिए आपको कुछ दवाइयां दी जाएंगी उससे पहले अगर मैं बताता हूं आपको एक्सरसाइज करनी है आपको दृढ़ निश्चय करना है तब सोचे कि अन्न और जल ऑफ एक्सरसाइज के बिना ग्रहण नहीं करेंगे कहीं कितना भी समय हो जाए तो उसका कितना भी टाइम हो जाए वह करें उस ग्रहण करें उसके बाद ही जल ग्रहण करें एक्सरसाइज करने के बिना कुछ नहीं यही एक उपाय हो सकता है

kisi dost ka sawaal hai ki subah uthakar exercise karne ka man karta hai lekin nahi kar pata uska kya ilaj hai doston aur doctor pankaj jangid ayurvedacharya ab koi ki salah dena chahunga agar aap ko vote kar exercise karne ka man karta hai iska matlab aap apne sharir ko fit karna chahte hain kya search karna chahte hain agar aap baat karne ka man nahi karta uthane ke baad yani ki aapko aalas chahte hain toh nidra ke baad jo aana chahte hain toh uska kamra bolte hain is sharir ki kamzori karan hai ab kisi bhi kaam me man nahi lagta iccha nahi hoti aisa hai iske liye aapko kuch davaiyan di jayegi usse pehle agar main batata hoon aapko exercise karni hai aapko dridh nishchay karna hai tab soche ki ann aur jal of exercise ke bina grahan nahi karenge kahin kitna bhi samay ho jaaye toh uska kitna bhi time ho jaaye vaah kare us grahan kare uske baad hi jal grahan kare exercise karne ke bina kuch nahi yahi ek upay ho sakta hai

किसी दोस्त का सवाल है कि सुबह उठकर एक्सरसाइज करने का मन करता है लेकिन नहीं कर पाता उसका क्

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  58
WhatsApp_icon
16 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Yogi Prashant Nath

Business Consultant / M D

10:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार सर प्रथम सराहनीय हैं आपके द्वारा पूछा गया यह प्रश्न जो स्वास्थ्य और व्यायाम से संबंधित है उसके उपरांत में अपना परिचय कराना चाहूंगा आपसे मेरा नाम है योगी प्रशांत नाथ चलिए बढ़ते हैं आपके प्रश्न की तरफ आप ने प्रश्न किया है कि सुबह उठकर एक्सरसाइज करने का मन करता है लेकिन नहीं कर पाता उसका क्या इलाज है वास्तव में अगर आप किसी चीज को करना चाहते हैं और आप नहीं कर पा रहे इसका मतलब यही है कि आप कहीं ना कहीं अपने आप से अपने आप को धोखा दे रहे हैं जी हां बिल्कुल कई बार हम अपने आप को धोखा देते हैं और हम कह सकते हैं कि हमें पता भी नहीं चलता क्योंकि हमें हमेशा लगता है कि धोखा तो कोई दूसरा ही देता है हम अपने आप को कैसे धोखा दे सकते हम तो अपने आप के साथ ईमानदार रहते हैं और वास्तव में हर किसी को जरूरी नहीं है कि हर कोई अपने साथ ईमानदार रहे कई बार हम जो अपने द्वारा किए गए कमेंट जो कमिटमेंट होते हैं उन चीजों को हम कहीं ना कहीं सीरियस नहीं लेते अपने जीवन में और इसकी वजह से क्या होता है कि हम उसको फॉलो नहीं कर पाते जिससे आपने कोई बात कही कि भाई मैं कल से एक्सरसाइज करने जाऊंगा और फिर आप नहीं मॉर्निंग के समय जब आपको नींद आने आती है और सुबह सुबह उठने में दिक्कत होती है तो कहीं ना कहीं आपने अपने आपको इतना कमजोर कर रखा कि आपकी जो भी कह सकते हैं वीर दिया है जैसे आलस क्यों जब रतिया है वह आपको दवा देती है आपको आपसे उठने नहीं देती तो आपको सबसे पहले अपने आप को मजबूत बनाना होगा जी हां आप कहीं ना कहीं अंदर से कमजोर है और आपको सहज रूप से स्वीकार भी नहीं करना चाहते कि आप वास्तव में कमजोर हैं या नहीं क्योंकि कई बार ऐसा होता है कि जीवन में जब हम बहुत से ऐसे काम थाने की कोशिश करते हैं और वह नहीं कर पाते बहुत से हम रीजन दे देते कि आर इस वजह से निभाया शनिवार लेकिन वास्तव में यही चीज है अगर इस चीज पर काबू कर लिया जाए और इस चीज को अपने कंट्रोल में कर लिया जाए तो वास्तव में व्यक्ति अपने जीवन में सफल हो सकता है हर एक सक्सेस पा सकता है जीवन में कभी भी कोई किसी प्रकार का कोई दुख उसको इतना नहीं सताएगा मासूम मेन कारण जो होता दुख का कोई यही होता है कि हम कहीं ना कहीं अपने आप से ईमानदार नहीं रहते अपने आप के साथ ईमानदारी नहीं करते तो अपने आप को सबसे पहले अपने विचारों को आप स्ट्रांग बनाएं क्योंकि अपने विचारों को आप ऐसा कर सकते हैं जो छोटी-छोटी चीजें हैं जो आप कर सकते हैं पहले आप उनसे शुरुआत कर एक छोटी-छोटी एक्सरसाइज है जो चीजें आप में नहीं कर सकते जो सरलता से आपको जिन चीजों में परिवर्तन कर सकते हैं उन चीजों की शुरुआत करें उन चीजों की एक्सरसाइज करें और जो चीजें जैसे कि आपको अपने कहते वॉक करने की याद रेटिंग करने की बुक रिटर्न करने की याद आती है तो आप पहले उस चीज को ध्यान दीजिए जो चीज पर फोकस कीजिए और भी बहुत सारी हो गई सोती है जो सिंगिंग डांसिंग ऐसी ऑफिस होते हैं उन चीजों पर फोकस कीजिए और धीरे-धीरे चलते चलते आप अपने रूटीन में आ पाएंगे कि आप जो भी कमेंट कमेंट करते हैं अपने लाइफ में और आप धीरे-धीरे उनको पूरा करते करने लगे क्योंकि हम क्या करते हैं छोटी-छोटी आदतें होती हमारी जून को जो हम कमेंट करते हैं कमिटमेंट करते हैं उन चीजों को हम कहीं ना कहीं अनदेखा कर देते हैं और आगे चलकर यह चीजें बहुत ज्यादा हमारे दिमाग में बहुत ज्यादा हावी हो जाती हैं और हम हर चीज में लापरवाह हो जाते जी हां हम छोटी छोटी चीजों में लापरवाही करते जाते हैं छोटी-छोटी चीजों को अनदेखा करते जाते हैं और वह चल कर आगे बहुत बड़ी रूप ले लेती है जैसा कि आप कभी कॉल कुछ चीजें देखते हैं कि कि यह चीजें सही नहीं है यह जरूर कोई वस्तु पड़ी हुई है उसको सही जगह पर नहीं आप उसको उठाने के बजाय की नोट करते ऐसे बहुत से से छोटे का मोटे काम होते हैं जो हम देख कर नजरअंदाज कर देते तो वह चीज है आगे चलकर हमारे दिमाग में बैठ जाती है और हम सोचते हैं कि यार मैं ऐसा करूंगा ऐसा करूंगा लेकिन हालांकि हम नहीं कर पाते क्योंकि हमारा माइंड ऑटोमेटिक उस चीज को बैठा चुका कि यार यह चीजें इतनी भी इंपोर्टेंट नहीं है मैं मेरे द्वारा कहे गए बात तो मेरी बात इतनी इंपोर्टेंट है आप अपने शब्दों को इतना महत्व नहीं देते आना कि यह चीज आपको पता नहीं चलती कभी भी जिंदगी भर देखनी है चीजे काम करती हैं और इन चीजों से बाहर निकलने का सिर्फ और सिर्फ एक रास्ता है अब धीरे-धीरे अपनी सारी चीजों पर काबू करें जो आप कमेंट करते हैं छोटी-छोटी चीजें कि हां मैं इसको सही कर देता हूं हर एक जया चीजों को छोटी मोटी कोई भी चीज आपको अगर कोई चीज वस्तु आलतू फालतू चीज है इधर-उधर पड़ी हुई थी क्या उससे सही जगह रख सकते हैं ऐसे छोटे-मोटे काम करते हुए आप को देखेंगे कि आप अपने बातों को महत्व देने लगे हैं जो भी आप छोटे मोटे काम करते हैं उनका पूरा कीजिए जो भी बात करते हैं वादे करते हैं उन्हें पूरा कीजिए और जब इन चीजों से आपको माइंड प्रिपेयर हो जाएगा तब आप सोचेंगे कि हां मुझे अब एक्सरसाइज करनी है तो वाकई में आपका माइंड इस चीज के लिए बिल्कुल एक्टिव रहेगा की हवेली उन्होंने कहा है मैंने सुना रूटीन बनाएं तो उस चीज को हमारा सबकॉन्शियस माइंड उस चीज को फॉलो करने लगेगा कि हां यह चीज बहुत ही महत्वपूर्ण है मुझे मॉर्निंग में वोट ना तो उठना एक्सरसाइज के लिए उठना है तो उठना तो आपका सबकॉन्शियस माइंड आपके पास काम करने लगता है जी हां हमारी छोटी-छोटी हमारी रोजमर्रा की जो हमारी आदत है वही चीज कितनी इस आदमी की आदतें खराब है या यह आदमी की आदतें बिगड़ गई है या मेरी आदतें बिगड़ गई है ऐसी चीजें क्यों होती क्या मतलब होता है सीटों का वास्तव में इन चीजों का यही मतलब होता है कि हम धीरे-धीरे जीतू को इग्नोर करते जब हम कोई गलत चीज होते हुए देखते हैं और उस चीज को इग्नोर करते ना तो वह हमारे सबकॉन्शियस माइंड एक्स ऑफ कर लेता हूं उस चीज को और कहीं ना कहीं सीट कर दे ताकि यार यह चीजें इतनी महत्व नहीं है मेरे जब हम कोई अपनी बात रखते किसी के सामने उस बात को पूरा नहीं करते तो हमारे सबकॉन्शियस मार्च उस चीज को रिकॉर्ड कर लेता है कि मेरी मेरी बातों में इतना खास करनी है मेरी बातों का इतना महत्व नहीं है मैं तो ऐसे ही किसी को भी कुछ कहता रहता हूं मैं अपने अपने सभी ऐसी कुछ कहता हूं तो जब आपको ही ऐसे प्लानिंग बनाते कि आप मुझे अपनी रूटीन करना सुबह एक्सरसाइज करने के लिए उठना है तो आपका सबको हमसे स्माइल इतना महत्व नहीं देता आपकी ठीक है यार अब रात को तो आपने सोचा कि मुझे मॉर्निंग में मैं 4:00 बजे 5:00 बजे उठूंगा और एक्सरसाइज करूंगा प्रात काल में ब्रह्म मुहूर्त में लेकिन जब आप परसेंट में आते हैं तो आप की हालत आपकी जो सब को मुसलमान आपके ऊपर हावी हो जाता होगा कोई जरूरत नहीं यार इतना महत्वपूर्ण नहीं है थोड़ी देर और सो जाते हैं तो वो कहीं ना कहीं आपके ऊपर हावी हो जाता यहां तक कि जो आपका सबकॉन्शियस माइंड होता है वह तभी काम करता है जब आपका आपके बॉडी पर रह सकते पूरी तरह होश नहीं होता है काबू नहीं होता कि हम सोते वक्त हमने सपने देखते तो वह अपने सपनों पर वाक्य में हमारा काबू नहीं होता कि कभी डरावने सपने आते तो कभी अच्छे सपने आते हों क्योंकि हमारे सबकॉन्शियस माइंड कुछ चोट डांटा जो फिट कर लेता है वह चीज उन चीजों को करता है उस समय उसकी पावर बहुत ज्यादा एक्टिव रहती है तो वह कमांड करता है पूरी चीजों पर तो इसी तरह जब हम मॉर्निंग में उड़ते हैं ना तो उसमें हमारे सबकॉन्शियस माइंड बहुत ज्यादा एक्टिव होता है बुझी जो हमारे माइंड को कंट्रोल करता है जो हमारे हर्बल माइंड है जिससे हम विचार करते हैं अपनी बात कहते हैं वह चीजें इतनी एक्टिंग नहीं रहती तो इसी वजह से यही मेन कारण है कि हम जो भी कमेंट मैंट करते हैं अपने लाइफ में ऐसा है वह सुबह उठने से रिलेटेड हो या जो भी हमारी लाइफ को सक्सेसफुल कोई भी सफलता हासिल करने के लिए कोई गोल अचीव करने के लिए जो कमेंट करते हैं कमिटमेंट करते हैं वह चीज ही नहीं हो पाती यह ईमेल कारण है और इस चीज का यह नहीं है कि कोई ऐसी घुट्टी नहीं है कि आपने आज सोचा आज मेरी बात सुनी और कल से आप मॉर्निंग में लगेंगे आपको छोटी-छोटी बातों का ध्यान रखना होगा आपकी लाइफ में जो भी छोटे-छोटे काम है या जो भी कोई बेकार की चीजें होती हैं जो गड़बड़ की चीजें होते आप उनको विघ्न और ना करें जो भी गलत काम है जो भी गलत चीजें हैं गलत वस्तुएं कोई जब कोई वस्तु अगर गलत जगह पर तो उसे इग्नोर ना करें और अपनी बातों का महत्व दीजिए अपने आप कर अपनी रिस्पेक्ट कीजिए और आप अगर किसी को कुछ कहते हैं कोई प्रॉमिस करते हैं तो उसे प्लीज निभाए उसे पूरा करें क्योंकि यह चीजें हमारे अंदर हमारे आपने आपके लिए सेल्फ रिस्पेक्ट दे पिया कितना खुद को इज्जत दोगे तभी तो दुनिया आपकी इज्जत करेगी हम कभी ना कहीं अपने आपको कम आंकने लगते क्या मेरी औकात इतनी नहीं है मैं यह चीज नहीं कर सकता कि हम लोगों के सामने नहीं कह सकते फेस नहीं करते लेकिन हम किसी को देखते हैं कोई अगर कोई गाड़ी लग्जरी गाड़ी में जा रहा है तो सोचते हैं लेकिन फिर हमारे एक माइंड अंदर से आता है यार मेरे बस की बात नहीं मैं तो ऐसा घर पूरी जिंदगी में नहीं कर सकता मैं सी गाड़ी है जिंदगी भर नहीं कर सकता मैं नौकरी करता रहूंगा करते-करते बुड्ढा हो जाऊंगा लेकिन नहीं कर सकता वह चीजें ऐसी नेगेटिव थॉट विचार होते ना वह कहना कि हमारे माइंड को जो हमारे पावर को कम कर देते हमारी वैल्यू को कम कर देती हो तो आई होप सो दैट कि यह पोस्ट आपकी जीवन के लिए बहुत हेल्प पोलो आपके लाइफ में एक नया मोड़ ला एक नई और सुबह लेकर आए नई उमंग के साथ और अच्छा लगा तो आप प्लीज मेरे को कल प्रोफाइल को फॉलो करें मुझसे जुड़ने के लिए क्योंकि मैं रोजमर्रा के जीवन में महत्वपूर्ण शब्दों के प्रश्नों के सवालों के जवाब देता हूं और मैं आपका आभार व्यक्त करता हूं कि आपने अपना मूल्यवान समय दिया इस पोस्ट को सुनने के लिए धन्यवाद कमेंट के माध्यम से जरूर

namaskar sir pratham sarahniya hain aapke dwara poocha gaya yah prashna jo swasthya aur vyayam se sambandhit hai uske uprant me apna parichay krana chahunga aapse mera naam hai yogi prashant nath chaliye badhte hain aapke prashna ki taraf aap ne prashna kiya hai ki subah uthakar exercise karne ka man karta hai lekin nahi kar pata uska kya ilaj hai vaastav me agar aap kisi cheez ko karna chahte hain aur aap nahi kar paa rahe iska matlab yahi hai ki aap kahin na kahin apne aap se apne aap ko dhokha de rahe hain ji haan bilkul kai baar hum apne aap ko dhokha dete hain aur hum keh sakte hain ki hamein pata bhi nahi chalta kyonki hamein hamesha lagta hai ki dhokha toh koi doosra hi deta hai hum apne aap ko kaise dhokha de sakte hum toh apne aap ke saath imaandaar rehte hain aur vaastav me har kisi ko zaroori nahi hai ki har koi apne saath imaandaar rahe kai baar hum jo apne dwara kiye gaye comment jo commitment hote hain un chijon ko hum kahin na kahin serious nahi lete apne jeevan me aur iski wajah se kya hota hai ki hum usko follow nahi kar paate jisse aapne koi baat kahi ki bhai main kal se exercise karne jaunga aur phir aap nahi morning ke samay jab aapko neend aane aati hai aur subah subah uthane me dikkat hoti hai toh kahin na kahin aapne apne aapko itna kamjor kar rakha ki aapki jo bhi keh sakte hain veer diya hai jaise aalas kyon jab ratia hai vaah aapko dawa deti hai aapko aapse uthane nahi deti toh aapko sabse pehle apne aap ko majboot banana hoga ji haan aap kahin na kahin andar se kamjor hai aur aapko sehaz roop se sweekar bhi nahi karna chahte ki aap vaastav me kamjor hain ya nahi kyonki kai baar aisa hota hai ki jeevan me jab hum bahut se aise kaam thane ki koshish karte hain aur vaah nahi kar paate bahut se hum reason de dete ki R is wajah se nibhaya shaniwaar lekin vaastav me yahi cheez hai agar is cheez par kabu kar liya jaaye aur is cheez ko apne control me kar liya jaaye toh vaastav me vyakti apne jeevan me safal ho sakta hai har ek success paa sakta hai jeevan me kabhi bhi koi kisi prakar ka koi dukh usko itna nahi sataega masoom main karan jo hota dukh ka koi yahi hota hai ki hum kahin na kahin apne aap se imaandaar nahi rehte apne aap ke saath imaandaari nahi karte toh apne aap ko sabse pehle apne vicharon ko aap strong banaye kyonki apne vicharon ko aap aisa kar sakte hain jo choti choti cheezen hain jo aap kar sakte hain pehle aap unse shuruat kar ek choti choti exercise hai jo cheezen aap me nahi kar sakte jo saralata se aapko jin chijon me parivartan kar sakte hain un chijon ki shuruat kare un chijon ki exercise kare aur jo cheezen jaise ki aapko apne kehte walk karne ki yaad rating karne ki book return karne ki yaad aati hai toh aap pehle us cheez ko dhyan dijiye jo cheez par focus kijiye aur bhi bahut saari ho gayi soti hai jo singing dancing aisi office hote hain un chijon par focus kijiye aur dhire dhire chalte chalte aap apne routine me aa payenge ki aap jo bhi comment comment karte hain apne life me aur aap dhire dhire unko pura karte karne lage kyonki hum kya karte hain choti choti aadatein hoti hamari june ko jo hum comment karte hain commitment karte hain un chijon ko hum kahin na kahin andekha kar dete hain aur aage chalkar yah cheezen bahut zyada hamare dimag me bahut zyada haavi ho jaati hain aur hum har cheez me laaparavaah ho jaate ji haan hum choti choti chijon me laparwahi karte jaate hain choti choti chijon ko andekha karte jaate hain aur vaah chal kar aage bahut badi roop le leti hai jaisa ki aap kabhi call kuch cheezen dekhte hain ki ki yah cheezen sahi nahi hai yah zaroor koi vastu padi hui hai usko sahi jagah par nahi aap usko uthane ke bajay ki note karte aise bahut se se chote ka mote kaam hote hain jo hum dekh kar najarandaj kar dete toh vaah cheez hai aage chalkar hamare dimag me baith jaati hai aur hum sochte hain ki yaar main aisa karunga aisa karunga lekin halaki hum nahi kar paate kyonki hamara mind Automatic us cheez ko baitha chuka ki yaar yah cheezen itni bhi important nahi hai main mere dwara kahe gaye baat toh meri baat itni important hai aap apne shabdon ko itna mahatva nahi dete aana ki yah cheez aapko pata nahi chalti kabhi bhi zindagi bhar dekhni hai chije kaam karti hain aur in chijon se bahar nikalne ka sirf aur sirf ek rasta hai ab dhire dhire apni saari chijon par kabu kare jo aap comment karte hain choti choti cheezen ki haan main isko sahi kar deta hoon har ek jaya chijon ko choti moti koi bhi cheez aapko agar koi cheez vastu alatu faltu cheez hai idhar udhar padi hui thi kya usse sahi jagah rakh sakte hain aise chote mote kaam karte hue aap ko dekhenge ki aap apne baaton ko mahatva dene lage hain jo bhi aap chote mote kaam karte hain unka pura kijiye jo bhi baat karte hain waade karte hain unhe pura kijiye aur jab in chijon se aapko mind prepare ho jaega tab aap sochenge ki haan mujhe ab exercise karni hai toh vaakai me aapka mind is cheez ke liye bilkul active rahega ki haweli unhone kaha hai maine suna routine banaye toh us cheez ko hamara subconscious mind us cheez ko follow karne lagega ki haan yah cheez bahut hi mahatvapurna hai mujhe morning me vote na toh uthna exercise ke liye uthna hai toh uthna toh aapka subconscious mind aapke paas kaam karne lagta hai ji haan hamari choti choti hamari rozmarra ki jo hamari aadat hai wahi cheez kitni is aadmi ki aadatein kharab hai ya yah aadmi ki aadatein bigad gayi hai ya meri aadatein bigad gayi hai aisi cheezen kyon hoti kya matlab hota hai seaton ka vaastav me in chijon ka yahi matlab hota hai ki hum dhire dhire jeetu ko ignore karte jab hum koi galat cheez hote hue dekhte hain aur us cheez ko ignore karte na toh vaah hamare subconscious mind x of kar leta hoon us cheez ko aur kahin na kahin seat kar de taki yaar yah cheezen itni mahatva nahi hai mere jab hum koi apni baat rakhte kisi ke saamne us baat ko pura nahi karte toh hamare subconscious march us cheez ko record kar leta hai ki meri meri baaton me itna khas karni hai meri baaton ka itna mahatva nahi hai main toh aise hi kisi ko bhi kuch kahata rehta hoon main apne apne sabhi aisi kuch kahata hoon toh jab aapko hi aise planning banate ki aap mujhe apni routine karna subah exercise karne ke liye uthna hai toh aapka sabko humse smile itna mahatva nahi deta aapki theek hai yaar ab raat ko toh aapne socha ki mujhe morning me main 4 00 baje 5 00 baje uthunga aur exercise karunga praatha kaal me Brahma muhurt me lekin jab aap percent me aate hain toh aap ki halat aapki jo sab ko musalman aapke upar haavi ho jata hoga koi zarurat nahi yaar itna mahatvapurna nahi hai thodi der aur so jaate hain toh vo kahin na kahin aapke upar haavi ho jata yahan tak ki jo aapka subconscious mind hota hai vaah tabhi kaam karta hai jab aapka aapke body par reh sakte puri tarah hosh nahi hota hai kabu nahi hota ki hum sote waqt humne sapne dekhte toh vaah apne sapno par vakya me hamara kabu nahi hota ki kabhi daravane sapne aate toh kabhi acche sapne aate ho kyonki hamare subconscious mind kuch chot danta jo fit kar leta hai vaah cheez un chijon ko karta hai us samay uski power bahut zyada active rehti hai toh vaah command karta hai puri chijon par toh isi tarah jab hum morning me udte hain na toh usme hamare subconscious mind bahut zyada active hota hai bujhi jo hamare mind ko control karta hai jo hamare herbal mind hai jisse hum vichar karte hain apni baat kehte hain vaah cheezen itni acting nahi rehti toh isi wajah se yahi main karan hai ki hum jo bhi comment maint karte hain apne life me aisa hai vaah subah uthane se related ho ya jo bhi hamari life ko successful koi bhi safalta hasil karne ke liye koi gol achieve karne ke liye jo comment karte hain commitment karte hain vaah cheez hi nahi ho pati yah email karan hai aur is cheez ka yah nahi hai ki koi aisi ghutti nahi hai ki aapne aaj socha aaj meri baat suni aur kal se aap morning me lagenge aapko choti choti baaton ka dhyan rakhna hoga aapki life me jo bhi chote chote kaam hai ya jo bhi koi bekar ki cheezen hoti hain jo gadbad ki cheezen hote aap unko vighn aur na kare jo bhi galat kaam hai jo bhi galat cheezen hain galat vastuyen koi jab koi vastu agar galat jagah par toh use ignore na kare aur apni baaton ka mahatva dijiye apne aap kar apni respect kijiye aur aap agar kisi ko kuch kehte hain koi promise karte hain toh use please nibhaye use pura kare kyonki yah cheezen hamare andar hamare aapne aapke liye self respect de piya kitna khud ko izzat doge tabhi toh duniya aapki izzat karegi hum kabhi na kahin apne aapko kam ankane lagte kya meri aukat itni nahi hai main yah cheez nahi kar sakta ki hum logo ke saamne nahi keh sakte face nahi karte lekin hum kisi ko dekhte hain koi agar koi gaadi luxury gaadi me ja raha hai toh sochte hain lekin phir hamare ek mind andar se aata hai yaar mere bus ki baat nahi main toh aisa ghar puri zindagi me nahi kar sakta main si gaadi hai zindagi bhar nahi kar sakta main naukri karta rahunga karte karte Buddha ho jaunga lekin nahi kar sakta vaah cheezen aisi Negative thought vichar hote na vaah kehna ki hamare mind ko jo hamare power ko kam kar dete hamari value ko kam kar deti ho toh I hope so that ki yah post aapki jeevan ke liye bahut help polo aapke life me ek naya mod la ek nayi aur subah lekar aaye nayi umang ke saath aur accha laga toh aap please mere ko kal profile ko follow kare mujhse judne ke liye kyonki main rozmarra ke jeevan me mahatvapurna shabdon ke prashnon ke sawalon ke jawab deta hoon aur main aapka abhar vyakt karta hoon ki aapne apna mulyavan samay diya is post ko sunne ke liye dhanyavad comment ke madhyam se zaroor

नमस्कार सर प्रथम सराहनीय हैं आपके द्वारा पूछा गया यह प्रश्न जो स्वास्थ्य और व्यायाम से संब

Romanized Version
Likes  127  Dislikes    views  635
WhatsApp_icon
user

Trainer Yogi Yogendra

Motivational Speaker || Career Coach || Business Coach || Marketing & Management Expert's

1:28
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो फ्रेंड्स मैं योगेंद्र शर्मा मोटिवेशनल स्पीकर केरियर कोर्ट और कॉरपोरेट ट्रेनर आज हम जिस शोषण के बारे में बात करने वाले हैं माय डियर फ्रेंड है कि सुबह उठकर एक्सरसाइज करने का मन करता है लेकिन नहीं कर पाता हूं उसका एक क्या इलाज है अगर आप सुबह उठकर एक्सरसाइज करना चाहते हो नहीं कर पाते भी चीज को डंडे खाकर करने की हो चुकी है पुरानी मतलब कल भी एक्सरसाइज नहीं कर पाते हैं अगर आप और आपने जो सोचा है वह नहीं कर पाते हैं तो आपका ₹100 का नोट अपनी जेब से निकालिए अपने पर्स से निकाली और टुकड़े करके उसको फिर नहीं कर पाते हैं तो फिर से निकालिए होते तो आप क्या आप क्या नहीं करोगे आप की परछाई भी करने लग जाएगी माय डियर फ्रेंड क्योंकि उसका कारण यह है कि आपको डर नहीं लगता आपको पता है कि मैं अभी तक ₹300 काट चुका हूं अब मेरे 405 वाले

hello friends main yogendra sharma Motivational speaker Career court aur corporate trainer aaj hum jis shoshan ke bare me baat karne waale hain my dear friend hai ki subah uthakar exercise karne ka man karta hai lekin nahi kar pata hoon uska ek kya ilaj hai agar aap subah uthakar exercise karna chahte ho nahi kar paate bhi cheez ko dande khakar karne ki ho chuki hai purani matlab kal bhi exercise nahi kar paate hain agar aap aur aapne jo socha hai vaah nahi kar paate hain toh aapka Rs ka note apni jeb se nikaliye apne purse se nikali aur tukde karke usko phir nahi kar paate hain toh phir se nikaliye hote toh aap kya aap kya nahi karoge aap ki parchai bhi karne lag jayegi my dear friend kyonki uska karan yah hai ki aapko dar nahi lagta aapko pata hai ki main abhi tak Rs kaat chuka hoon ab mere 405 waale

हेलो फ्रेंड्स मैं योगेंद्र शर्मा मोटिवेशनल स्पीकर केरियर कोर्ट और कॉरपोरेट ट्रेनर आज हम जि

Romanized Version
Likes  502  Dislikes    views  5426
WhatsApp_icon
user

Harender Kumar Yadav

Career Counsellor.

1:05
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सुबह उठकर कतई करने का मन नहीं करता उसके थोड़ा सा सोचती होगी यार मैं सुसाइड कर लूंगा अपने आप देख लूंगा वैसे रहूंगा आप अपने अंदर दृढ़ विश्वास विश्वास रखना होगा स्विमिंग करते रहेंगे सुबह उठ रहा हूं सेट करना ओपन समर्पण और वह और कितने भी

subah uthakar katai karne ka man nahi karta uske thoda sa sochti hogi yaar main suicide kar lunga apne aap dekh lunga waise rahunga aap apne andar dridh vishwas vishwas rakhna hoga Swimming karte rahenge subah uth raha hoon set karna open samarpan aur vaah aur kitne bhi

सुबह उठकर कतई करने का मन नहीं करता उसके थोड़ा सा सोचती होगी यार मैं सुसाइड कर लूंगा अपने आ

Romanized Version
Likes  577  Dislikes    views  4404
WhatsApp_icon
user

Beer Singh Rajput

Career Counsellor & Lecturer.

1:13
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सुबह उठकर साइज करने का मन करता है गर्म पानी पियो सेट करो उसके बाद एक्सरसाइज करो अपनी शुरुआत में आसान आसान से पहले आप आ जाइए और अपना कार्य कीजिए हनिया पर लगाइए बकरी माता की जो आपको आसान आसान करने का सबसे अच्छा तरीका ही है

subah uthakar size karne ka man karta hai garam paani piyo set karo uske baad exercise karo apni shuruat me aasaan aasaan se pehle aap aa jaiye aur apna karya kijiye haniya par lagaaiye bakri mata ki jo aapko aasaan aasaan karne ka sabse accha tarika hi hai

सुबह उठकर साइज करने का मन करता है गर्म पानी पियो सेट करो उसके बाद एक्सरसाइज करो अपनी शुरुआ

Romanized Version
Likes  170  Dislikes    views  979
WhatsApp_icon
user

Virendra Singh

Public figure

0:36
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सपोर्ट करके एक्सरसाइज करने का आपका मन है तो उसके लिए सबसे पहले तो आप उसके लिए ऐसे समय का चुनाव करें जो आपके कॉलेज जाने स्कूल जाने या आपके ऑफिस जाने का टाइम हो और एक्सरसाइज करते हुए फिर ऑफिस जाएं या फिर वहां से लौटते समय का टाइम हो आप अलग से समय निकालेंगे एक्सरसाइज करने का तो कभी नहीं कर पाएंगे और कोशिश करें कि आपकी जो दोस्त यार हैं साथी हैं वह भी आपके साथ में ज्वाइन करें तो एक्सरसाइज करना लंबे समय तक पॉसिबल हो पाता है

support karke exercise karne ka aapka man hai toh uske liye sabse pehle toh aap uske liye aise samay ka chunav kare jo aapke college jaane school jaane ya aapke office jaane ka time ho aur exercise karte hue phir office jayen ya phir wahan se lautate samay ka time ho aap alag se samay nikalenge exercise karne ka toh kabhi nahi kar payenge aur koshish kare ki aapki jo dost yaar hain sathi hain vaah bhi aapke saath me join kare toh exercise karna lambe samay tak possible ho pata hai

सपोर्ट करके एक्सरसाइज करने का आपका मन है तो उसके लिए सबसे पहले तो आप उसके लिए ऐसे समय का च

Romanized Version
Likes  118  Dislikes    views  508
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जितनी बजे उठकर आप एक्सरसाइज करना चाहते हो उतनी बजे का अलार्म लगा दो अपने मोबाइल में और आप जैसे अलार्म बजे आप तुरंत बैठकर अपने बिस्तर पर बैठे रहो 5 मिनट के लिए तो आप में तुरंत एनर्जी आएगी फिर आप का सोने का मन नहीं करेगा सोने का मन करे तो पानी पी लो फिर 2 मिनट के लिए सो जाओ तो अपने आप आपका मन करेगा मुझे एक्सरसाइज करनी है कुछ भी करने के लिए मन में ठान लो कि मुझे करना है तो ऑटोमेटिक आपका मन करेगा सुबह जल्दी उठकर एक्सरसाइज करना

jitni baje uthakar aap exercise karna chahte ho utani baje ka alarm laga do apne mobile me aur aap jaise alarm baje aap turant baithkar apne bistar par baithe raho 5 minute ke liye toh aap me turant energy aayegi phir aap ka sone ka man nahi karega sone ka man kare toh paani p lo phir 2 minute ke liye so jao toh apne aap aapka man karega mujhe exercise karni hai kuch bhi karne ke liye man me than lo ki mujhe karna hai toh Automatic aapka man karega subah jaldi uthakar exercise karna

जितनी बजे उठकर आप एक्सरसाइज करना चाहते हो उतनी बजे का अलार्म लगा दो अपने मोबाइल में और आप

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  141
WhatsApp_icon
user

Avdesh Pratap Soam

Content Writer

1:47
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

चैलेंज आपके साथ यह है सुबह उठना और फिर एक्सरसाइज करना तो तू चल एक साथ ले रहे हो चैलेंज लग रहा है आपको जल्दी उठना है जो भी टाइम सेट किया आपने उस टाइम पर उठना स्टार्ट कीजिए भूमिश्री एक्सप्रेस मत कीजिए थोड़ा अपने आप को मेंटली और फिजिकली दोनों तरफ का है पेट में लेकर आना होगा कि हो सकता दूसरा रूटीन दूसरा फॉलो कर रहे हैं लेकिन अब आप एक दूसरा ट्वेंटी मैच शेड्यूल फॉलो करेंगे वहां पर को मेंटली और फिजिकली दोनों तरह से तैयार होता है एकदम से चेंज हो रहा है वहां पर कर नहीं पाओगे इसलिए को ब्रेक कीजिए अभी आप केवल उठना स्टार्ट कीजिए और उसके बाद जैसी आपकी बॉडी और मेंटली आफ कैपेबल हो जाओगे कि हां अब आप रूटीन में आ चुके हैं कि अली मॉर्निंग उठ रहे हैं उसके बाद आप धीरे-धीरे अपनी एक्सरसाइज को शुरू कर सकते हैं जो भी हो शायद फिजिकली मेंटली फिजिकली तैयार ना दोनों के लिए तैयार होने के लिए पहले एक चैलेंज को कंप्लीट विन कर सकते हैं और आपको जो रूटीन अचार है उसको बोल चित्र से फॉलो कर लेंगे

challenge aapke saath yah hai subah uthna aur phir exercise karna toh tu chal ek saath le rahe ho challenge lag raha hai aapko jaldi uthna hai jo bhi time set kiya aapne us time par uthna start kijiye bhumishri express mat kijiye thoda apne aap ko mentally aur physically dono taraf ka hai pet me lekar aana hoga ki ho sakta doosra routine doosra follow kar rahe hain lekin ab aap ek doosra Twenty match schedule follow karenge wahan par ko mentally aur physically dono tarah se taiyar hota hai ekdam se change ho raha hai wahan par kar nahi paoge isliye ko break kijiye abhi aap keval uthna start kijiye aur uske baad jaisi aapki body aur mentally of capable ho jaoge ki haan ab aap routine me aa chuke hain ki ali morning uth rahe hain uske baad aap dhire dhire apni exercise ko shuru kar sakte hain jo bhi ho shayad physically mentally physically taiyar na dono ke liye taiyar hone ke liye pehle ek challenge ko complete win kar sakte hain aur aapko jo routine achaar hai usko bol chitra se follow kar lenge

चैलेंज आपके साथ यह है सुबह उठना और फिर एक्सरसाइज करना तो तू चल एक साथ ले रहे हो चैलेंज लग

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  63
WhatsApp_icon
user
0:16
Play

Likes  260  Dislikes    views  3025
WhatsApp_icon
user

Ajay kumar

Motivational Speaker , Life Coach

3:32
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो फ्रेंड्स एम अजय कुमार मोटिवेशनल स्पीकर लाइफ कोच का प्रश्न है सुबह उठकर एक्सरसाइज करने का मन करता है लेकिन नहीं कर पाता उसका क्या इलाज है लिखिए आपका जो प्रश्न है थोड़ा सा कन्फ्यूजन करने वाला है सबसे पहले चीज क्या आप कहना क्या चाहते हैं आप यह कहना चाहते हैं कि आप सुबह उठते हैं लेकिन एक्सरसाइज नहीं कर पाते हैं पर मुझे तो ऐसा लगता है कि आप सुबह उठकर एक्सरसाइज करना चाहते हैं सही मायने में यह है कि अब सुबह उठ ही नहीं पाते हैं आपको देर से उठने की आदत है या दूसरे शब्दों में आपको देर तक सोने की आदत है तो सबसे पहली चीज अभी आप सुबह उठकर एक्सरसाइज करना चाहते हैं तो सबसे पहले सुबह उठना सीखे सुबह उठे पर अगर आप सुबह उठ नहीं पा रहे हैं तो उसके लिए मैं फुक उसे बताता हूं अगर आप फॉलो करेंगे तो हंड्रेड परसेंट अब सुबह जितने समय चाहेंगे आप उठ पाएंगे कि सबसे पहले चीज आपका सम्मान है बहुत पावरफुल है अब सुबह उठना चाहते हैं लेकिन उठ नहीं पाते तो शाम को सोने से पहले खाना खा कर के और जब सोने के लिए बिस्तर पर जाते हैं तो सोने से कुछ समय पहले कुछ चीजें दो रानी है वह कीमत सुबह समय पर उत्तर एक्सरसाइज करना चाहता हूं क्योंकि एक्सरसाइज करने से मैं बेहतर बनूंगा मेरा दिन बेहतर बनेगा अस्वस्थ बनूंगा कि खुद को अगर अब रीजन नहीं देंगे विनर रीजन के कोई भी कोई काम नहीं करता तो सबसे पहले खुद को रीजन दे एक मजबूत रीजन जिसकी वजह से आप सुबह उठ पाए और अपने मन को ऑटो सजेशन दें कठोर शब्दों में हुक्म दे कि मुझे सुबह उठना ही है मुझे 5:00 बजे उठना है या फिर मुझे 6:00 बजे उठना है जो आपके लिए बेहतर हो आप ऑटो सजेशन दें और यही दोहराते हुए सो जाएं और यकीन नहीं मानेंगे आपका मन बिना किसी अलार्म के आपको समय पर उठा देगा जब आप उठेंगे तो अपने आप ही करेंगे क्योंकि आपने शाम को प्लानिंग करके आप सोए हुए हैं मैं सुबह उठना है और एक्सरसाइज करना है और अब आपको यह भी पता है कि क्यों करना है जो आपको यह पता है कि एक्सरसाइज करने से आपको क्या फायदा होने वाला है तो निश्चित तौर पर उठेंगे और एक्सरसाइज करेंगे आशा है कि आप जवाब से संतुष्ट होंगे और इस टेक्निक को आजमा आएंगे और अपने जीवन में कुछ सकारात्मक बदलाव लाएंगे इसी के साथ थैंक यू

hello friends M ajay kumar Motivational speaker life coach ka prashna hai subah uthakar exercise karne ka man karta hai lekin nahi kar pata uska kya ilaj hai likhiye aapka jo prashna hai thoda sa confusion karne vala hai sabse pehle cheez kya aap kehna kya chahte hain aap yah kehna chahte hain ki aap subah uthte hain lekin exercise nahi kar paate hain par mujhe toh aisa lagta hai ki aap subah uthakar exercise karna chahte hain sahi maayne me yah hai ki ab subah uth hi nahi paate hain aapko der se uthane ki aadat hai ya dusre shabdon me aapko der tak sone ki aadat hai toh sabse pehli cheez abhi aap subah uthakar exercise karna chahte hain toh sabse pehle subah uthna sikhe subah uthe par agar aap subah uth nahi paa rahe hain toh uske liye main fuk use batata hoon agar aap follow karenge toh hundred percent ab subah jitne samay chahenge aap uth payenge ki sabse pehle cheez aapka sammaan hai bahut powerful hai ab subah uthna chahte hain lekin uth nahi paate toh shaam ko sone se pehle khana kha kar ke aur jab sone ke liye bistar par jaate hain toh sone se kuch samay pehle kuch cheezen do rani hai vaah kimat subah samay par uttar exercise karna chahta hoon kyonki exercise karne se main behtar banunga mera din behtar banega aswasth banunga ki khud ko agar ab reason nahi denge winner reason ke koi bhi koi kaam nahi karta toh sabse pehle khud ko reason de ek majboot reason jiski wajah se aap subah uth paye aur apne man ko auto suggestion de kathor shabdon me hukm de ki mujhe subah uthna hi hai mujhe 5 00 baje uthna hai ya phir mujhe 6 00 baje uthna hai jo aapke liye behtar ho aap auto suggestion de aur yahi dohrate hue so jayen aur yakin nahi manenge aapka man bina kisi alarm ke aapko samay par utha dega jab aap uthenge toh apne aap hi karenge kyonki aapne shaam ko planning karke aap soye hue hain main subah uthna hai aur exercise karna hai aur ab aapko yah bhi pata hai ki kyon karna hai jo aapko yah pata hai ki exercise karne se aapko kya fayda hone vala hai toh nishchit taur par uthenge aur exercise karenge asha hai ki aap jawab se santusht honge aur is technique ko ajama aayenge aur apne jeevan me kuch sakaratmak badlav layenge isi ke saath thank you

हेलो फ्रेंड्स एम अजय कुमार मोटिवेशनल स्पीकर लाइफ कोच का प्रश्न है सुबह उठकर एक्सरसाइज करने

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  58
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दिस इज वेरी सिंपल स्टेप अप जब भी उसने कि आपको ऐसा लगता है और इसमें भी मैं एक बार बता देना चाहता हूं कि जैसे अगर आप 1 दिन किसी एक दिन उठ जाते हो पूछने के बाद मगर आप एक्सरसाइज कर ले तो उस दिन आपको ऐसा लगता है कि आपने अपने आप पर बहुत बड़ा एहसान कर दिया हो ऐसा हर कोई को फील होता है कोई भी एक अपने लिए घर काम कुछ एक्स्ट्रा उल्लेख कर लेता तुम तो हर इंसान को स्टार्टिंग में से लगता है लेकिन आप उठ नहीं पाते हो कर नहीं पाता की इच्छा तो होती है पर आप ऐसा कीजिए कि फर्स्ट वाला देश में जब भी आपको मन होता हो तो वह फूट गई और एक्सरसाइज मत कीजिए उस दिन आप घूम कर के 15 मई को पार कर दिया दूसरे दिन उठ गए और वापस से जो है 20 मिनट पहले उठी इस तरह से करके आपको खुद पर खुद ऐसा इच्छा करेगा कि आप करेंगे और उसके सबसे खास बात किया कर आप के अगल-बगल में कोई पार कि ऐसे कुछ है जहां पर क्या जा सकते हो तो डिग्निटी आफ सुबह उठकर के चलिए जो कुछ अलग देखने को मिलेगा और वहां पर कुछ अलग ताप का सांस लेने को मन करेगा एक दिन याद आ जाएंगे तो बहुत ही बैटर फील करेंगे लेकिन देश में आप ऑटोमेटिकली आप अपने आप ही आपको जाने का दिल करेगा और जल्दी भी हो जाएंगे उसके लिए आपको सोना भी जल्दी पड़ेगा अगर आप सोएंगे नहीं निकलता नहीं करेगा इसलिए व्हाट्सएप्प फेसबुक ट्विटर चलाकर चलाइए और आप रात को जल्दी सो जाइए ताकि आप सुबह को आप उठ सके और जाकर का पेपर साइज कर सकें इसके लिए देखिए सबसे पहले तब कम मन तो होना ही चाहिए कि आप करेंगे तो ही आप सोएंगे बाकी ऐसा नहीं की और चलो यह लास्ट देखना है उसके बाद सोऊंगा उसके बाद सोऊंगा कैसे करके समय कट जाता है तो यहां पर को करना यह जल्दी सोना है ताकि आप जल्दी उठ सके और स्टार्टिंग वाले दिन में एक-दो दिन होंगे प्रॉब्लम कोई आदत ढल जाएगी

this is very simple step up jab bhi usne ki aapko aisa lagta hai aur isme bhi main ek baar bata dena chahta hoon ki jaise agar aap 1 din kisi ek din uth jaate ho poochne ke baad magar aap exercise kar le toh us din aapko aisa lagta hai ki aapne apne aap par bahut bada ehsaan kar diya ho aisa har koi ko feel hota hai koi bhi ek apne liye ghar kaam kuch extra ullekh kar leta tum toh har insaan ko starting me se lagta hai lekin aap uth nahi paate ho kar nahi pata ki iccha toh hoti hai par aap aisa kijiye ki first vala desh me jab bhi aapko man hota ho toh vaah foot gayi aur exercise mat kijiye us din aap ghum kar ke 15 may ko par kar diya dusre din uth gaye aur wapas se jo hai 20 minute pehle uthi is tarah se karke aapko khud par khud aisa iccha karega ki aap karenge aur uske sabse khas baat kiya kar aap ke agal bagal me koi par ki aise kuch hai jaha par kya ja sakte ho toh dignity of subah uthakar ke chaliye jo kuch alag dekhne ko milega aur wahan par kuch alag taap ka saans lene ko man karega ek din yaad aa jaenge toh bahut hi better feel karenge lekin desh me aap atometikli aap apne aap hi aapko jaane ka dil karega aur jaldi bhi ho jaenge uske liye aapko sona bhi jaldi padega agar aap soenge nahi nikalta nahi karega isliye whatsapp facebook twitter chalakar chalaiye aur aap raat ko jaldi so jaiye taki aap subah ko aap uth sake aur jaakar ka paper size kar sake iske liye dekhiye sabse pehle tab kam man toh hona hi chahiye ki aap karenge toh hi aap soenge baki aisa nahi ki aur chalo yah last dekhna hai uske baad sounga uske baad sounga kaise karke samay cut jata hai toh yahan par ko karna yah jaldi sona hai taki aap jaldi uth sake aur starting waale din me ek do din honge problem koi aadat dhal jayegi

दिस इज वेरी सिंपल स्टेप अप जब भी उसने कि आपको ऐसा लगता है और इसमें भी मैं एक बार बता देना

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  71
WhatsApp_icon
user

Shantanu Purohit

Political Analyst, Life Management, Career Counseler

1:12
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए अगर आप सुबह उठकर एक्सरसाइज करना चाह नहीं कर पा रहे हैं तो कारण यही है कि कहीं ना कहीं दृढ़ इच्छाशक्ति का आपके भीतर अभाव देखने में समझ में आता है कि यदि आपको अलार्म बचने या फिर जैसी आपकी नींद खुल रही है तो उसके बाद अगर आप 2 मिनट भी बिस्तर पर लेटे हैं ना तो मान कर चलिए कि आप अपने संकल्प शक्ति को नहीं छोड़ कर रहे हैं अगर आप 2 मिनट भी पड़े हैं सर पहले आपको बताऊं आपको आप सुबह ही क्षीण हो रहे हो जाने देंगे आप अपने दिन की शुरुआत ही संकल्प शक्ति के पेड़ होने से करेंगे तो आपका दिन कैसा बीतेगा क्या आप दिन में जो कार्य आप निर्धारित किए थे उनका पूरा कर पाएंगे जानकारियों को आप पूरी संकल्प शक्ति से कर पाएंगे यदि दिन की शुरुआत संकल्प शक्ति क्षीण होने से हो रही है तो सबसे पहला कारण तो यह है कि जो संकल्प शक्ति है उसको पढ़ा मजबूत बनाएं तो आप हो जो करना चाहते हो कर पाएंगे एक्सप्रेस कर पाएंगे और जो भी आप दिन में करना चाहते हो सब कर पाएंगे बहुत-बहुत धन्यवाद

dekhiye agar aap subah uthakar exercise karna chah nahi kar paa rahe hain toh karan yahi hai ki kahin na kahin dridh ichchhaashakti ka aapke bheetar abhaav dekhne me samajh me aata hai ki yadi aapko alarm bachne ya phir jaisi aapki neend khul rahi hai toh uske baad agar aap 2 minute bhi bistar par lete hain na toh maan kar chaliye ki aap apne sankalp shakti ko nahi chhod kar rahe hain agar aap 2 minute bhi pade hain sir pehle aapko bataun aapko aap subah hi kshin ho rahe ho jaane denge aap apne din ki shuruat hi sankalp shakti ke ped hone se karenge toh aapka din kaisa bitegaa kya aap din me jo karya aap nirdharit kiye the unka pura kar payenge jankariyon ko aap puri sankalp shakti se kar payenge yadi din ki shuruat sankalp shakti kshin hone se ho rahi hai toh sabse pehla karan toh yah hai ki jo sankalp shakti hai usko padha majboot banaye toh aap ho jo karna chahte ho kar payenge express kar payenge aur jo bhi aap din me karna chahte ho sab kar payenge bahut bahut dhanyavad

देखिए अगर आप सुबह उठकर एक्सरसाइज करना चाह नहीं कर पा रहे हैं तो कारण यही है कि कहीं ना कही

Romanized Version
Likes  13  Dislikes    views  204
WhatsApp_icon
user
1:52
Play

Likes  3  Dislikes    views  162
WhatsApp_icon
user

Kanta Agarwal

House Wife

0:59
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका सवाल है सुबह उठकर एक्सरसाइज करने का मन करता है लेकिन कर नहीं पाता उसका क्या इलाज है तो देखिए कई बार हम अकेले होने के कारण एक्सरसाइज नहीं कर पाते क्योंकि हमारे साथ एक्सरसाइज करने का कोई साथी नहीं होता साथ में नहीं होता तो आप अपने परिवार के किसी मेंबर को या अपने किसी फ्रेंड को अपने साथ एक्सरसाइज करने के लिए मैं अपना एक रूटिंग बना रही हूं सेम प्रॉब्लम मुझे भी थी मैंने अपनी एक फ्रेंड को एक्सरसाइज साथ में करने के लिए बोला अब हर रोज मुझे वीडियो कॉल करती हैं और हम दोनों वीडियो कॉल के द्वारा एक्सरसाइज करते हैं तो अगर वह नहीं उठ पाती तो मैं उन्हें उठाती हूं और वह मुझे उठाती है तो दो लोग होने के कारण हम एक्सरसाइज कर लेते हैं ऐसा ही रूटिंग आप अपनी जिंदगी में भी अपना सकते हैं

aapka sawaal hai subah uthakar exercise karne ka man karta hai lekin kar nahi pata uska kya ilaj hai toh dekhiye kai baar hum akele hone ke karan exercise nahi kar paate kyonki hamare saath exercise karne ka koi sathi nahi hota saath me nahi hota toh aap apne parivar ke kisi member ko ya apne kisi friend ko apne saath exercise karne ke liye main apna ek routing bana rahi hoon same problem mujhe bhi thi maine apni ek friend ko exercise saath me karne ke liye bola ab har roj mujhe video call karti hain aur hum dono video call ke dwara exercise karte hain toh agar vaah nahi uth pati toh main unhe uthaati hoon aur vaah mujhe uthaati hai toh do log hone ke karan hum exercise kar lete hain aisa hi routing aap apni zindagi me bhi apna sakte hain

आपका सवाल है सुबह उठकर एक्सरसाइज करने का मन करता है लेकिन कर नहीं पाता उसका क्या इलाज है त

Romanized Version
Likes  19  Dislikes    views  255
WhatsApp_icon
user
0:46
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जैसा कि पूछा गया है कि सुबह उठकर के एक्सरसाइज करने का मन तो करता है लेकिन एक्सरसाइज हो नहीं पाती है इसका इलाज यही है कि शुरुआती तौर पर हमें एक्सरसाइज को धीरे धीरे करना चाहिए और उसके बाद समय के साथ और दिन के साथ उस एक्सरसाइज की जो क्रियाकलाप है उसको बनाना चाहिए क्योंकि एक ही दिन में कोई भी एक्सरसाइज से हम कुछ भी प्राप्त नहीं कर सकते हैं मेरा ही सुझाव है कि एक्सरसाइज को धीरे धीरे प्रारंभ किया जाए और फिर आगे उसको बढ़ाया जाए

jaisa ki poocha gaya hai ki subah uthakar ke exercise karne ka man toh karta hai lekin exercise ho nahi pati hai iska ilaj yahi hai ki shuruati taur par hamein exercise ko dhire dhire karna chahiye aur uske baad samay ke saath aur din ke saath us exercise ki jo kriyakalap hai usko banana chahiye kyonki ek hi din me koi bhi exercise se hum kuch bhi prapt nahi kar sakte hain mera hi sujhaav hai ki exercise ko dhire dhire prarambh kiya jaaye aur phir aage usko badhaya jaaye

जैसा कि पूछा गया है कि सुबह उठकर के एक्सरसाइज करने का मन तो करता है लेकिन एक्सरसाइज हो नही

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  102
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

श्री राम राम सब लोगों के लिए जरूरी है किसी भी उम्र में यह बहुत ज्यादा करता है तो सारी की सारी सुबह उठकर व्यायाम की आदत डालो और सत्य मुख से है झूठ जन्म है करनी और कथनी एक कर लो इन डेफिनेट मोक्ष होगा सबको जाति धर्म का कॉलम हटाने की मांग करो पूरा देश को विश्व में शांति होगी हमारा संदेश टीवी पर दिखाने की मांग करो विश्व में शांति कर देंगे हम विश्वनाथ बोल रहे हैं हमारा यह संदेश दिखा नहीं रहे हमारा इंटरनेट नहीं चालू कर दे भाई लोगों यह हमारा सारा सिस्टम बंद करें बैठे हैं यह तो ऐसे ही धर्म बच्चे लग रहे हैं थोड़े बहुत दे और सारे जागो और पूरे लोग मांग करो कहां से हमारा इंटरनेट बंद है सब बात करो ना

shri ram ram sab logo ke liye zaroori hai kisi bhi umar me yah bahut zyada karta hai toh saari ki saari subah uthakar vyayam ki aadat dalo aur satya mukh se hai jhuth janam hai karni aur kathni ek kar lo in definet moksha hoga sabko jati dharm ka column hatane ki maang karo pura desh ko vishwa me shanti hogi hamara sandesh TV par dikhane ki maang karo vishwa me shanti kar denge hum vishwanath bol rahe hain hamara yah sandesh dikha nahi rahe hamara internet nahi chaalu kar de bhai logo yah hamara saara system band kare baithe hain yah toh aise hi dharm bacche lag rahe hain thode bahut de aur saare jaago aur poore log maang karo kaha se hamara internet band hai sab baat karo na

श्री राम राम सब लोगों के लिए जरूरी है किसी भी उम्र में यह बहुत ज्यादा करता है तो सारी की स

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  118
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!