उत्तरप्रदेश में मेरे ऊपर झूठा गैंगस्टर मुकदमा लगा दिया है मुझे स्टे कैसे मिलेगा?...


user
0:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

गैंगस्टर के मुकदमे में स्टेमिना बहुत ही दिक्कत वाली चीज है अगर आप हाईकोर्ट जाते हैं तो संभवतः वहां पर आपको अरिष्ठनेमी के डायरेक्शन मिल जाएंगे धन्यवाद

gangster ke mukadme me stamina bahut hi dikkat wali cheez hai agar aap highcourt jaate hain toh sanbhavatah wahan par aapko arishthanemi ke direction mil jaenge dhanyavad

गैंगस्टर के मुकदमे में स्टेमिना बहुत ही दिक्कत वाली चीज है अगर आप हाईकोर्ट जाते हैं तो संभ

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  244
WhatsApp_icon
9 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पीलिया माननीय उच्च न्यायालय में रिट दायर कर सकते हैं और आपका व्यक्तित्व संबंधी मॉडल पेपर की नकल एसडी कार्ड कॉपी लेकर हाई कोर्ट फाइल होगी उसने हाईकोर्ट से आपको उससे मिलने की बहुत ज्यादा हो जाती है

peeliya mananiya ucch nyayalaya me writ dayar kar sakte hain aur aapka vyaktitva sambandhi model paper ki nakal SD card copy lekar high court file hogi usne highcourt se aapko usse milne ki bahut zyada ho jaati hai

पीलिया माननीय उच्च न्यायालय में रिट दायर कर सकते हैं और आपका व्यक्तित्व संबंधी मॉडल पेपर क

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  128
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर आप किसी बात का पर्याप्त प्रमाण साक्ष्य है कि गैंगस्टर एक्ट लगाने का कोई आधार नहीं था तो आपको कोर्ट में 482 में एप्लीकेशन फाइल करनी होगी अगर आप इसमें विस्तार से और जानकारी चाहते हो तो 955 19166 पर कांटेक्ट कर लीजिए

agar aap kisi baat ka paryapt pramaan sakshya hai ki gangster act lagane ka koi aadhar nahi tha toh aapko court me 482 me application file karni hogi agar aap isme vistaar se aur jaankari chahte ho toh 955 19166 par Contact kar lijiye

अगर आप किसी बात का पर्याप्त प्रमाण साक्ष्य है कि गैंगस्टर एक्ट लगाने का कोई आधार नहीं था त

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  125
WhatsApp_icon
user
Play

Likes  48  Dislikes    views  1278
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी हां यह केस काफी मैंने देखा है कि गैंगस्टर एक्ट का उत्तर प्रदेश में बहुत ज्यादा पुलिस जो है उसका मिस यूज करती है तो अगर आप क्यों क्योंकि इसमें एसडीएम जो होता है कंट्रोल एसडीएम और डायरेक्शन देता है f.i.r. रजिस्टर होने के लिए गैंगस्टर में तो गैंगस्टर में आपको सबसे पहले इसका इलाज यही है कि आप जो है इलाहाबाद हाईकोर्ट लखनऊ बेंच में जाकर आप इसमें स्टे ले सकते हैं इतना आसान नहीं होता बट फिर भी इसका इलाज यही है कि आप जो है कंचन हाईकोर्ट में एप्लीकेशन फॉर्म करें रिटर्न फॉर्म में भी जा सकते हैं और 482 सीआरपीसी में भी जा सकते हैं धन्यवाद

ji haan yah case kaafi maine dekha hai ki gangster act ka uttar pradesh me bahut zyada police jo hai uska miss use karti hai toh agar aap kyon kyonki isme sdm jo hota hai control sdm aur direction deta hai f i r register hone ke liye gangster me toh gangster me aapko sabse pehle iska ilaj yahi hai ki aap jo hai allahabad highcourt lucknow bench me jaakar aap isme stay le sakte hain itna aasaan nahi hota but phir bhi iska ilaj yahi hai ki aap jo hai kanchan highcourt me application form kare return form me bhi ja sakte hain aur 482 crpc me bhi ja sakte hain dhanyavad

जी हां यह केस काफी मैंने देखा है कि गैंगस्टर एक्ट का उत्तर प्रदेश में बहुत ज्यादा पुलिस जो

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  155
WhatsApp_icon
user

hjkj

Legal

2:45
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी आपके ऊपर गैंगस्टर का झूठा मुकदमा लगाया गया है इसमें आपको सबसे पहले इसके लेना है वह है आपको अनिष्ट ईस्ट ए और एस स्टील सुविधा मिलती है वह हाईकोर्ट से मिलती है लेकिन फिलहाल में इलाहाबाद हाई कोर्ट के द्वारा अरेस्ट स्टे को उतना नहीं दिया जा रहा है इससे ज्यादा अच्छा होगा कि आप एंटीसिपेटरी बैल के लिए मुंह करिए एंटीसिपेटरी बैल जो है आप डायरेक्ट हाई कोर्ट में फाइल कर सकते हैं और सेशन कोर्ट में भी साइन कर सकते हैं दोनों जगह जगह फाइल कर सकते हैं लेकिन ज्यादा अच्छा होगा कि आप पहले स्टेशन कोड ऑपरेशन में करने का मतलब यह है कि जो जिला न्यायालय जिला न्यायालय में पहले एंटीसिपेटरी बैल के लिए प्रयास करिए यहां से आपका हो जाता है तो बहुत अच्छी बात है अगर नहीं होता तो एक हाई कोर्ट एंटीसिपेटरी बैल में दौरान इंस्टिगेशन विवेचना के दौरान आगे कोई गिरफ्तारी नहीं होगी और मुकदमा आपका चलता रहेगा फिर आप सारे साथियों को कलेक्ट्री अपने को वालों ने उसको दीजिए कोर्ट में अपील हुई है मुकदमे में मगर सबसे पहले आपको रिलीफ यही मिलेगा कि आप अरेस्ट्स के हाईकोर्ट से लेकर आइए अदर वाइज आप एंटीसिपेटरी बैल के लिए प्रयास करिए और मेरी राय में तो ज्यादा बेस्ट योगा एंटीसिपेटरी बैल और दूसरा काम एक यह भी करिए इस दौरान दूध जिला न्यायालय है यदि आपको एंटीसिपेटरी बैल मिल जाता है तो ठीक है नहीं मिलता है तो आप हाईकोर्ट में प्रयास करिए और बेल जो लेने का जो तरीका है या अरे सिस्टर उसको कई ग्राउंड में देखा जाता कैसे फर्स्ट ग्राउंड आपकी एज आती है कितनी एज है कौन सी धाराएं लगी है उसके साथ क्या और अन्य भी धाराएं हैं या नहीं है अगर और धाराएं हैं तो सिचुएशन के हिसाब से फिर उसके बाद व्यक्ति की बीमारी का भी कोई अब बीमारी का भी कोई लेकर अपना आधार परिशिष्ट ले सकते हैं या एंटीसिपेटरी बैल में वह आपको काम में आएगा अपना व्यवसाय दिखा सकते हैं इस तरह का मेन फेक्टर पीएसपी पर निर्भर करेगा अपने व्यवसाय के ऊपर निर्भर करेगा आपका क्रिमिनल हिस्ट्री बैकग्राउंड है कि नहीं है यह सब सारी चीजें उसमें आपको बतानी पड़ेगी

ji aapke upar gangster ka jhutha mukadma lagaya gaya hai isme aapko sabse pehle iske lena hai vaah hai aapko anisht east a aur S steel suvidha milti hai vaah highcourt se milti hai lekin filhal me allahabad high court ke dwara arrest stay ko utana nahi diya ja raha hai isse zyada accha hoga ki aap entisipetri bail ke liye mooh kariye entisipetri bail jo hai aap direct high court me file kar sakte hain aur session court me bhi sign kar sakte hain dono jagah jagah file kar sakte hain lekin zyada accha hoga ki aap pehle station code operation me karne ka matlab yah hai ki jo jila nyayalaya jila nyayalaya me pehle entisipetri bail ke liye prayas kariye yahan se aapka ho jata hai toh bahut achi baat hai agar nahi hota toh ek high court entisipetri bail me dauran instigation vivechna ke dauran aage koi giraftari nahi hogi aur mukadma aapka chalta rahega phir aap saare sathiyo ko kalektri apne ko walon ne usko dijiye court me appeal hui hai mukadme me magar sabse pehle aapko relief yahi milega ki aap arrests ke highcourt se lekar aaiye other wise aap entisipetri bail ke liye prayas kariye aur meri rai me toh zyada best yoga entisipetri bail aur doosra kaam ek yah bhi kariye is dauran doodh jila nyayalaya hai yadi aapko entisipetri bail mil jata hai toh theek hai nahi milta hai toh aap highcourt me prayas kariye aur bell jo lene ka jo tarika hai ya are sister usko kai ground me dekha jata kaise first ground aapki age aati hai kitni age hai kaun si dharayen lagi hai uske saath kya aur anya bhi dharayen hain ya nahi hai agar aur dharayen hain toh situation ke hisab se phir uske baad vyakti ki bimari ka bhi koi ab bimari ka bhi koi lekar apna aadhar parishisht le sakte hain ya entisipetri bail me vaah aapko kaam me aayega apna vyavasaya dikha sakte hain is tarah ka main fektar PSP par nirbhar karega apne vyavasaya ke upar nirbhar karega aapka criminal history background hai ki nahi hai yah sab saari cheezen usme aapko batani padegi

जी आपके ऊपर गैंगस्टर का झूठा मुकदमा लगाया गया है इसमें आपको सबसे पहले इसके लेना है वह है आ

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  71
WhatsApp_icon
user
Play

Likes  4  Dislikes    views  96
WhatsApp_icon
user
0:26
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने लिखा है उत्तर प्रदेश में मेरे ऊपर झूठा गैंगस्टर मुकदमा लगा दिया गया मुझे स्टे कैसे मिलेगा आ जहां तक मैं आपके सवाल से समझ पा रहा हूं आप के आगे जो हैं गैंगस्टर एक्ट में मुकदमा लगा दिया गया है तो आपको ही चाहिए क्या भैया की कॉपी आप अपडेट करें और हाईकोर्ट से तारीख

aapne likha hai uttar pradesh me mere upar jhutha gangster mukadma laga diya gaya mujhe stay kaise milega aa jaha tak main aapke sawaal se samajh paa raha hoon aap ke aage jo hain gangster act me mukadma laga diya gaya hai toh aapko hi chahiye kya bhaiya ki copy aap update kare aur highcourt se tarikh

आपने लिखा है उत्तर प्रदेश में मेरे ऊपर झूठा गैंगस्टर मुकदमा लगा दिया गया मुझे स्टे कैसे मि

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  100
WhatsApp_icon
user

lalit

Lawyer

0:14
Play

Likes    Dislikes    views  
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!