दुर्योधन अगर कांड के जगह पर अश्वत्थामा को अपना सेनापति बनाया होता तो महाभारत युद्ध का परिणाम क्या होता है?...


play
user
1:17

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रश्न है कि दुर्योधन अगर करण के स्थान पर संस्थानों को अपना सेनापति बनाया होता तो महाभारत युद्ध का क्या परिणाम होता उसका उत्तर होगा कि यदि दुर्योधन कर्ण के स्थान पर अश्वत्थामा को अपना सेनापति बनाया होता तो इसका कुछ इसका और कुछ बुरा परिणाम होता इसमें जो है जो निर्दोष लोग थे वह भी मारे जाते क्योंकि अश्वत्थामा वीडियो है ब्रह्मास्त्र का ज्ञाता था उसके पास से ब्रह्मा से सकती थी डिब्बे सकती थी और अर्जुन के पास भी ब्रह्मास्त्र था यदि इस अवस्था में युद्ध के अवसर अवस्था में अश्वत्थामा ब्रह्मास्त्र का प्रयोग निश्चित करता तो उस उत्तर में अर्जुन को भी ब्रह्मास्त्र का प्रयोग करना पड़ता जिससे कि सृष्टि का विनाश हो जाता और यदि अर्जुन ब्रह्मास्त्र का प्रयोग ना करते तो उसने पांडवों की हार हो जाती है

prashna hai ki duryodhan agar karan ke sthan par sansthano ko apna senapati banaya hota toh mahabharat yudh ka kya parinam hota uska uttar hoga ki yadi duryodhan karn ke sthan par ashvatthaama ko apna senapati banaya hota toh iska kuch iska aur kuch bura parinam hota isme jo hai jo nirdosh log the vaah bhi maare jaate kyonki ashvatthaama video hai Brahmastr ka gyaata tha uske paas se brahma se sakti thi dibbe sakti thi aur arjun ke paas bhi Brahmastr tha yadi is avastha me yudh ke avsar avastha me ashvatthaama Brahmastr ka prayog nishchit karta toh us uttar me arjun ko bhi Brahmastr ka prayog karna padta jisse ki shrishti ka vinash ho jata aur yadi arjun Brahmastr ka prayog na karte toh usne pandavon ki haar ho jaati hai

प्रश्न है कि दुर्योधन अगर करण के स्थान पर संस्थानों को अपना सेनापति बनाया होता तो महाभारत

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  131
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दुर्योधन अगर कहां के जगह पर सुदामा को सेनापति बनाया होता तो दो ही परिणाम होते हैं या तो दुर्योधन युद्ध जीत ही आता नहीं तो इस धरती का है इस सृष्टि का है इस ब्रह्मांड का ही विनाश हो जाता क्योंकि अश्वथामा थोड़ा भी जो है इज्जत नहीं करता ब्रह्मास्त्र सहित अनेकों दिव्यास्त्र चलाने में क्योंकि उसको जो है व्यक्तिगत तौर पर अपने पिता से ढूंढ के हत्या का रोशनी था औकात जो है अर्जुन को छोड़कर चार पांडवों को जीवनदान दिया अगर कल जो है करो जो काम किया वह सत्ता में कभी नहीं करता अश्वथामा नीचे ही दुर्योधन को विजय दिलाने के लिए ब्रह्मास्त्र सहित अनेकों दिव्यास्त्र चलाता जिसका परिणाम सृष्टि का विनाश था या दुर्योधन की वजह थी मेरे हिसाब से शुक्रिया दुर्योधन अगर अश्वत्थामा को अपना सेनापति बनाता तो निश्चय ही उसकी विजय होती हमें तो ब्रह्मांड का विनाश हो जाता धन्यवाद

duryodhan agar kaha ke jagah par sudama ko senapati banaya hota toh do hi parinam hote hain ya toh duryodhan yudh jeet hi aata nahi toh is dharti ka hai is shrishti ka hai is brahmaand ka hi vinash ho jata kyonki ashwathama thoda bhi jo hai izzat nahi karta Brahmastr sahit anekon divyastra chalane me kyonki usko jo hai vyaktigat taur par apne pita se dhundh ke hatya ka roshni tha aukat jo hai arjun ko chhodkar char pandavon ko jivanadan diya agar kal jo hai karo jo kaam kiya vaah satta me kabhi nahi karta ashwathama niche hi duryodhan ko vijay dilaane ke liye Brahmastr sahit anekon divyastra chalata jiska parinam shrishti ka vinash tha ya duryodhan ki wajah thi mere hisab se shukriya duryodhan agar ashvatthaama ko apna senapati banata toh nishchay hi uski vijay hoti hamein toh brahmaand ka vinash ho jata dhanyavad

दुर्योधन अगर कहां के जगह पर सुदामा को सेनापति बनाया होता तो दो ही परिणाम होते हैं या तो दु

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  91
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!