मुझे लिखने में ना बड़ा हिस किताब सी होती है लिख तो लेता हूँ मैं लेकिन मैं सबके सामने नहीं लिख पाता हूँ ऐसा क्यों होता है मेरे साथ?...


user

DR OM PRAKASH SHARMA

Principal, Education Counselor, Best Experience in Professional and Vocational Education cum Training Skills and 25 years experience of Competitive Exams. 9212159179. [email protected]

1:07
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लिखने में बड़ी तो देता हूं लेकिन मैं सबके सामने नहीं लगता तुम जोड़ी है आप लिखने में पढ़ाते हैं शब्द पढ़ने में कमाते हैं जबकि लिखने में पढ़ाते हैं इसका मूल कारण है अपना ध्यान से पढ़ते हैं ना ध्यान से शब्दों को समझते हैं और ना ही ध्यान से लिखते तीन काम करना है पहले शब्दों को पढ़ना है वह को पढ़ना है फिर उसको समझना है पुलिस शब्द को पूरे वाकए के बाद लिखना है शब्दों को और बाकी को लिखने के बाद फिर से उसको पढ़ने पढ़ने के बाद यह देखना है कहां से कहां पर आपको शब्दों में करती हुई और कहां बाथरूम करती हुई उसके बाद सुधार करना यह पांच प्रक्रिया है इन पांच प्रक्रिया को इतना लेट हो तो आपकी जरूरत खत्म हो जाएगी और आप लिखने में पढ़ने में समझने में और पढ़ाने में एक कामयाब इंसान हो जाएंगे

likhne me badi toh deta hoon lekin main sabke saamne nahi lagta tum jodi hai aap likhne me padhate hain shabd padhne me kamate hain jabki likhne me padhate hain iska mul karan hai apna dhyan se padhte hain na dhyan se shabdon ko samajhte hain aur na hi dhyan se likhte teen kaam karna hai pehle shabdon ko padhna hai vaah ko padhna hai phir usko samajhna hai police shabd ko poore vakye ke baad likhna hai shabdon ko aur baki ko likhne ke baad phir se usko padhne padhne ke baad yah dekhna hai kaha se kaha par aapko shabdon me karti hui aur kaha bathroom karti hui uske baad sudhaar karna yah paanch prakriya hai in paanch prakriya ko itna late ho toh aapki zarurat khatam ho jayegi aur aap likhne me padhne me samjhne me aur padhane me ek kamyab insaan ho jaenge

लिखने में बड़ी तो देता हूं लेकिन मैं सबके सामने नहीं लगता तुम जोड़ी है आप लिखने में पढ़ाते

Romanized Version
Likes  450  Dislikes    views  7983
KooApp_icon
WhatsApp_icon
1 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!