क्या डिटर्जेंट्स से कोरोना वायरस मरता है क्या दुकान से लाए पैकेट और सब्जियों को डिटर्जेंट्स से धोना चाहिए?...


user

Dr. Swatantra Jain

Psychotherapist, Family & Career Counsellor and Parenting & Life Coach

1:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका सवाल है क्या डिटर्जेंट से करो ना वायरस मरता है क्या दुकान चला कर देखो डिटर्जेंट्स कोरोनावायरस मरता तो है लेकिन आपको तो भूल सकते हो हम क्योंकि बिल्कुल अच्छा दूसरे पैकेट के बिना ना हो तो आप हल्का गर्म पानी करके थोड़ा सा गर्म पानी करके उसमें बेकिंग सोडा खाने वाला सोडा डॉक्टर बच्चे को उस में डाल दो थोड़ी देर पड़ा रहने दो बस 20 मिनट उसने पढ़ा रहा है तो फिर निकाल दो बस हो गई सब्जी आपकी इंपैक्टेड डिसइनफेक्टिंग उसको आप कर सकते हो डिटेल चाहिए जिसमें खाने-पीने की

aapka sawaal hai kya detergent se karo na virus marta hai kya dukaan chala kar dekho detergents coronavirus marta toh hai lekin aapko toh bhool sakte ho hum kyonki bilkul accha dusre packet ke bina na ho toh aap halka garam paani karke thoda sa garam paani karke usme baking soda khane vala soda doctor bacche ko us me daal do thodi der pada rehne do bus 20 minute usne padha raha hai toh phir nikaal do bus ho gayi sabzi aapki impacted disainafekting usko aap kar sakte ho detail chahiye jisme khane peene ki

आपका सवाल है क्या डिटर्जेंट से करो ना वायरस मरता है क्या दुकान चला कर देखो डिटर्जेंट्स कोर

Romanized Version
Likes  521  Dislikes    views  4587
WhatsApp_icon
30 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Sujatha Sharma

Psychologist & Social Worker

1:01
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

विकी डिटर्जेंट से करो ना वायरस मरता है यह बिल्कुल सही है इसीलिए कहा गया है कि 20 दिन तक आप अपने हाथों पर साबुन को लगाकर रखें लेकिन दुकान से लाई हुई सब्जियों को या पैकेट को डिटर्जेंट धोना नहीं है इसके लिए आप पानी के अंदर डिलीट करके कुछ इस तरह का डिटेल लिया जो बेकिंग सोडा है या फिर फ्री है उस पानी में एक तरफ रख सकते हैं तो किसी कपड़े के साथ आप उसको पैकेट को साफ कर सकते हैं या फिर बाहर से आए हुए पैकेट पर कुछ समय तक अगर ऐसा हो सके कि आप 1 दिन तक इस्तेमाल ना करें तो भी आप उनको दोबारा इस्तेमाल कर सकते हैं लेकिन सब्जियों को आप बेकिंग सोडा या रनिंग वॉटर या फिर आप फिटकरी डालकर उसको साफ करेंगे तो ज्यादा बेहतर रहेगा डिटर्जेंट का इस्तेमाल ना करें

vicky detergent se karo na virus marta hai yah bilkul sahi hai isliye kaha gaya hai ki 20 din tak aap apne hathon par sabun ko lagakar rakhen lekin dukaan se lai hui sabjiyon ko ya packet ko detergent dhona nahi hai iske liye aap paani ke andar delete karke kuch is tarah ka detail liya jo baking soda hai ya phir free hai us paani me ek taraf rakh sakte hain toh kisi kapde ke saath aap usko packet ko saaf kar sakte hain ya phir bahar se aaye hue packet par kuch samay tak agar aisa ho sake ki aap 1 din tak istemal na kare toh bhi aap unko dobara istemal kar sakte hain lekin sabjiyon ko aap baking soda ya running water ya phir aap fitkari dalkar usko saaf karenge toh zyada behtar rahega detergent ka istemal na kare

विकी डिटर्जेंट से करो ना वायरस मरता है यह बिल्कुल सही है इसीलिए कहा गया है कि 20 दिन तक आप

Romanized Version
Likes  424  Dislikes    views  4032
WhatsApp_icon
user

Dr.Amit Agrahari

Alopathic Ayurvedic Unani Doctor

0:56
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

गैस श्रीमान जी डिटर्जेंट से भी पुराना भारत माता का मंत्र विधि से गुणा मर जाता है आप जो भी सामान दुकानदार से लाते हैं पैकेट्स ऑर्थोपेडिशियंस होना चाहिए तो सब्जियां आज आए थे साफ पानी से धो लीजिए या उसको बोल कर लीजिए और उसके बाद अगर आप उसको पका कर खाते हैं तो जो भी वायरस फैक्ट्री आओ तो वह पकाने के बाद मर जाते हैं और जहां तक पैकेट लाने की बात है तो आप दुकान से कर लाइक पैकेट लाते हैं तो थोड़ी बात क्या है कि आप दुकान से पैकेट लेकर आएं अभी ऐसा नहीं है कि दुकानों में मुताबाक ना मारे सुमित रोशन टाइप करिए हाथ उसको दीजिए जो भी पैकेट से सामान निकाले पैकेट को बाहर थी कि उसकी खबर को काफी है

gas shriman ji detergent se bhi purana bharat mata ka mantra vidhi se guna mar jata hai aap jo bhi saamaan dukaandar se laate hain paikets arthopedishiyans hona chahiye toh sabjiyan aaj aaye the saaf paani se dho lijiye ya usko bol kar lijiye aur uske baad agar aap usko paka kar khate hain toh jo bhi virus factory aao toh vaah pakane ke baad mar jaate hain aur jaha tak packet lane ki baat hai toh aap dukaan se kar like packet laate hain toh thodi baat kya hai ki aap dukaan se packet lekar aaen abhi aisa nahi hai ki dukaano me mutabak na maare sumit roshan type kariye hath usko dijiye jo bhi packet se saamaan nikale packet ko bahar thi ki uski khabar ko kaafi hai

गैस श्रीमान जी डिटर्जेंट से भी पुराना भारत माता का मंत्र विधि से गुणा मर जाता है आप जो भी

Romanized Version
Likes  425  Dislikes    views  19883
WhatsApp_icon
user

Yogi Vinit

Yogi , Astrologer , Vastushastra Expert, Reiki Healing , Crystal Healing , Meditation Expert , Bach Flower Therapy Specialist

0:31
Play

Likes  479  Dislikes    views  6857
WhatsApp_icon
user

Anil Ramola

Yoga Instructor | Engineer

0:29
Play

Likes  522  Dislikes    views  4131
WhatsApp_icon
user

Yog Guru Amit Agrawal Rishiyog

Yoga Acupressure Expert

1:20
Play

Likes  608  Dislikes    views  6004
WhatsApp_icon
user
1:45
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

झांसी कितना डिटर्जेंट्स माली सकती है कंट्रोल तो हो सकती है ना और हो सकता है और अगर नहीं मिला तो पहले से तो रुकेगा तो ऐसा नहीं है हमको उसका समझदार कर देना चाहिए और आपने बोला है कि दुकान से लाइव पैकेट और सब्जियों को एजेंट बनाने की सब्जियों से खत्म हो सकता है जब हम मोबाइल करें कोई चीज पकाते हैं बनाते हैं तो बहुत ही खत्म हो जाते हैं मेरे हाथ पैर को चित्र दो ही है शरीर में हमारे और अंग हैं उन को कमजोर कर सकते हैं उनको दुर्बल कर सकते हैं उनकी क्षमता कम हो जाएगी तो आप उनको फाइल करिए और

jhansi kitna detergents maali sakti hai control toh ho sakti hai na aur ho sakta hai aur agar nahi mila toh pehle se toh rukega toh aisa nahi hai hamko uska samajhdar kar dena chahiye aur aapne bola hai ki dukaan se live packet aur sabjiyon ko agent banane ki sabjiyon se khatam ho sakta hai jab hum mobile kare koi cheez pakate hain banate hain toh bahut hi khatam ho jaate hain mere hath pair ko chitra do hi hai sharir me hamare aur ang hain un ko kamjor kar sakte hain unko durbal kar sakte hain unki kshamta kam ho jayegi toh aap unko file kariye aur

झांसी कितना डिटर्जेंट्स माली सकती है कंट्रोल तो हो सकती है ना और हो सकता है और अगर नहीं मि

Romanized Version
Likes  118  Dislikes    views  1240
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी हां बिल्कुल यह सही बात है कि डिटर्जन या झाड़ वाला जो भी फर्क हो साबुन हो हैंड वॉश शैंपू हो उसे कोरोनावायरस झा के साथ भूल जाता है लेकिन जहां तक आप ने सवाल किया है कि बाहर से जो पैकेट ला रहे हैं पैकेट को हमें नहीं लगता कि डिटर्जेंट शब्द होने की आवश्यकता है आप हाथ को स्वच्छ करके पैकेट खोलें सैनिटाइजर वगैरा लगा कर के हाथ में उसके बाद ही पैकेट को छुए तो आपको कोई नुकसान नहीं होगा और पैकेट जैसे ही उसे सामान निकाल ले पैकेट को वापिस डस्टबिन में डाल दें जहां तक सब्जियों का सवाल है पानी को बॉयल करले काफी हॉट और उसमें थोड़ा सा नमक डालकर सब्जियों को कपड़ा वगैरह से पहुंच कर रख दे सब्जी डिटर्जेंट से धोने का चीज नहीं है उसका टेस्ट खराब हो जाएगा और डिटर्जेंट का असर भी पेट में जा सकता है सब्जी को मोबाइल पानी में नमक डालकर आप उसको अच्छे से पहुंच सकते हैं तो सब्जी को डिटर्जेंट में या पैकेट कोविड-19 जनपद होने की आवश्यकता नहीं है हां बाहरी चीजों को छूने से पहले अगर आप हाथ अच्छे से शुद्ध कर लेते हैं जैसे सैनिटाइजर अगर हाथ में लगा लेते हैं तो वह कारगर होगा और छूने के बाद फिर हैंड वॉश कर लीजिए तो यह अच्छा रहेगा लेकिन पैकेट को सब्जियों का डिटर्जेंट या हैंड वात्स्यायन ने चीजों की आवश्यकता नहीं उसे सैनिटाइजर की भी आवश्यकता नहीं आप अपनी सफाई अच्छे से करें सब्जियों को गर्म पानी में नमक डालकर दो और पैकेट जो भी है उनको डस्टबिन में डालें और उन को छूने के बाद हाथ धोए धन्यवाद

ji haan bilkul yah sahi baat hai ki ditarjan ya jhad vala jo bhi fark ho sabun ho hand wash shampoo ho use coronavirus jha ke saath bhool jata hai lekin jaha tak aap ne sawaal kiya hai ki bahar se jo packet la rahe hain packet ko hamein nahi lagta ki detergent shabd hone ki avashyakta hai aap hath ko swachh karke packet kholen sainitaijar vagera laga kar ke hath me uske baad hi packet ko chuye toh aapko koi nuksan nahi hoga aur packet jaise hi use saamaan nikaal le packet ko vaapas dustbin me daal de jaha tak sabjiyon ka sawaal hai paani ko boil karle kaafi hot aur usme thoda sa namak dalkar sabjiyon ko kapda vagera se pohch kar rakh de sabzi detergent se dhone ka cheez nahi hai uska test kharab ho jaega aur detergent ka asar bhi pet me ja sakta hai sabzi ko mobile paani me namak dalkar aap usko acche se pohch sakte hain toh sabzi ko detergent me ya packet kovid 19 janpad hone ki avashyakta nahi hai haan bahri chijon ko chune se pehle agar aap hath acche se shudh kar lete hain jaise sainitaijar agar hath me laga lete hain toh vaah kargar hoga aur chune ke baad phir hand wash kar lijiye toh yah accha rahega lekin packet ko sabjiyon ka detergent ya hand vatsyayan ne chijon ki avashyakta nahi use sainitaijar ki bhi avashyakta nahi aap apni safaai acche se kare sabjiyon ko garam paani me namak dalkar do aur packet jo bhi hai unko dustbin me Daalein aur un ko chune ke baad hath dhoe dhanyavad

जी हां बिल्कुल यह सही बात है कि डिटर्जन या झाड़ वाला जो भी फर्क हो साबुन हो हैंड वॉश शैंपू

Romanized Version
Likes  104  Dislikes    views  2183
WhatsApp_icon
user

Rahul Jangra

Health and Fitness Expert, Yoga Teacher

0:40
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बिल्कुल भी ऐसी बेवकूफी ना करें सब्जियों कोऑर्डिनेशन से और दवाइयों से चीजों से कभी ना धोए ऐसे आप इस वायरस को रोक नहीं सकते जितना आप डर रहे हैं आप खाली अगर आपको दो ना ही है तो एक गर्म पानी में ज्यादा से ज्यादा नमक डालें इससे ज्यादा कुछ नहीं अदर वाइज नमक डालने की भी जरूरत नहीं गर्म पानी से धो लें और जो सब्जियों को ऊपर का छिलका है उसको सब्जी बनाने में यूज ना करें अंदर की चीजें यूज़ करें और ऐसे ही बेवकूफी बिल्कुल ना करें पाउडर का गारी

bilkul bhi aisi bewakoofi na kare sabjiyon koardineshan se aur dawaiyo se chijon se kabhi na dhoe aise aap is virus ko rok nahi sakte jitna aap dar rahe hain aap khaali agar aapko do na hi hai toh ek garam paani me zyada se zyada namak Daalein isse zyada kuch nahi other wise namak dalne ki bhi zarurat nahi garam paani se dho le aur jo sabjiyon ko upar ka chhilka hai usko sabzi banane me use na kare andar ki cheezen use kare aur aise hi bewakoofi bilkul na kare powder ka gari

बिल्कुल भी ऐसी बेवकूफी ना करें सब्जियों कोऑर्डिनेशन से और दवाइयों से चीजों से कभी ना धोए ऐ

Romanized Version
Likes  287  Dislikes    views  3665
WhatsApp_icon
user

Trainer Yogi Yogendra

Motivational Speaker || Career Coach || Business Coach || Marketing & Management Expert's

1:05
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो फ्रेंड्स मैं योगेंद्र शर्मा मोटिवेशनल स्पीकर केरियर कोच और कॉरपोरेट ट्रेनर आजम चीज क्वेश्चन के बारे में बात करने वाले हैं माय डियर फ्रेंड्स वह है कि क्या डिटर्जन से कोरोना वायरस मरता है क्या दुकान से लाए पैकेट और सब्जियों को डिटर्जेंट्स से धोना चाहिए देखें सब क्यों वगैरह को गर्म पानी से धोया जा सकता है क्योंकि कोरोनावायरस जो है सचिव जीव नहीं है वह निर्जीव है माय डियर फ्रेंड और उसके ऊपर जो है मास का जो है कवर होता है उस कवर के कारण जो है वह जब बॉडी पर होता है तो उस कवर के कारण वह मर नहीं पाता वह खत्म नहीं हो पाता तो इस कंडीशन में जो है जब तक उसका कवर जो है फट नहीं जाता तब तक वह बिखरता नहीं है क्योंकि निर्जीव है तो निर्जीव होने के कारण जब तक वह कवर नहीं फटेगा उसका तब तक वह खत्म नहीं होता इसलिए जो है जब भी हमने उसको 20 सेकेंड तक दे गूलर हाथों को झगड़ते हैं तो उसका कवर फट जाता है और कब और फटने के कारण जो है कोरोना जो वायरस है वह खत्म हो जाता है और उसका संक्रमण भी खत्म यही कारण है कि डिटर्जन के हाथों को जलाया जाता है जय हिंद जय भारत

hello friends main yogendra sharma Motivational speaker Career coach aur corporate trainer azam cheez question ke bare me baat karne waale hain my dear friends vaah hai ki kya ditarjan se corona virus marta hai kya dukaan se laye packet aur sabjiyon ko detergents se dhona chahiye dekhen sab kyon vagera ko garam paani se dhoya ja sakta hai kyonki coronavirus jo hai sachiv jeev nahi hai vaah nirjeev hai my dear friend aur uske upar jo hai mass ka jo hai cover hota hai us cover ke karan jo hai vaah jab body par hota hai toh us cover ke karan vaah mar nahi pata vaah khatam nahi ho pata toh is condition me jo hai jab tak uska cover jo hai phat nahi jata tab tak vaah bikharata nahi hai kyonki nirjeev hai toh nirjeev hone ke karan jab tak vaah cover nahi fatega uska tab tak vaah khatam nahi hota isliye jo hai jab bhi humne usko 20 second tak de gullar hathon ko jhagadate hain toh uska cover phat jata hai aur kab aur fatne ke karan jo hai corona jo virus hai vaah khatam ho jata hai aur uska sankraman bhi khatam yahi karan hai ki ditarjan ke hathon ko jalaya jata hai jai hind jai bharat

हेलो फ्रेंड्स मैं योगेंद्र शर्मा मोटिवेशनल स्पीकर केरियर कोच और कॉरपोरेट ट्रेनर आजम चीज क्

Romanized Version
Likes  533  Dislikes    views  5348
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए अगर एयर टाइट 178 पानी मतलब होता है तो तो हलके से उसको डिजर्ट एंड यहां से साबुन लगाकर जिससे वहां दोस्त को धो सकते हैं तो मन का भ्रम खत्म हो जाएगा कुछ नहीं होगा मैं दुकान में रहता हर तरह का सामान आता है अभी अभी हाल मिली आपने देखा था कि पिज्जा डिलीवरी करने वाले को भी करो ना हो गया था उसकी वजह से दिल्ली में 70 लोगों को सावधानी बरतने में हमें कोई हद नहीं होना चाहिए हमें उसको डिटेन में एयर टाइट है अंदर का सामान तो खराब होगा नहीं तो उसको जो है मुझे में साबुन से हाथ धोते हैं उसी प्रकार से 20 मिनट के लिए पैकेट को पानी में रगड़ रगड़ के ठोकर से साफ कर लेना चाहिए तब उसको इस्तेमाल में लाना चाहिए सुखाकर के आगे पानी ऊपर का पानी अंदर ना कपड़े तो खा लीजिए

dekhiye agar air tight 178 paani matlab hota hai toh toh halake se usko dijart and yahan se sabun lagakar jisse wahan dost ko dho sakte hain toh man ka bharam khatam ho jaega kuch nahi hoga main dukaan me rehta har tarah ka saamaan aata hai abhi abhi haal mili aapne dekha tha ki pizza delivery karne waale ko bhi karo na ho gaya tha uski wajah se delhi me 70 logo ko savdhani bartane me hamein koi had nahi hona chahiye hamein usko diten me air tight hai andar ka saamaan toh kharab hoga nahi toh usko jo hai mujhe me sabun se hath dhote hain usi prakar se 20 minute ke liye packet ko paani me ragad ragad ke thokar se saaf kar lena chahiye tab usko istemal me lana chahiye sukhakar ke aage paani upar ka paani andar na kapde toh kha lijiye

देखिए अगर एयर टाइट 178 पानी मतलब होता है तो तो हलके से उसको डिजर्ट एंड यहां से साबुन लगाकर

Romanized Version
Likes  204  Dislikes    views  2064
WhatsApp_icon
user

राकेश

Journalist

0:54
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

* * * जान से मरता है या नहीं ऐसा कोई रिसर्च अभी तक नहीं सामने आया है यहां तक कि यह भी स्पष्ट नहीं कहा जा सकता है कि किसी केमिकल से भी कुरावर को मार सकते हैं ऐसे में यदि हम कोई बाजार जाते हैं वहां से कुछ सामान खरीद कर लाते हैं तो बेहतर है हमें थोड़ा सा ध्यान रखें कि किसी ऐसे व्यक्ति से संपर्क किया कई ऐसी चीजें से ना हो जो संक्रमित हो और यदि हम लगता है कि हम किसी ऐसे व्यक्ति से कुछ लेकर आ गए हैं तो पहले तो उसे अगर वह कैसे थैली है या फिर आप जो कुछ है अगर वह सब्जी है यह तो उसके डरने की जरूरत नहीं है क्योंकि जो हमको पकाते हैं जब हम बनाएंगे तो अपने आप ही घर उसने वह उसी को सेंड अपने आप ठीक हो जाएगी

jaan se marta hai ya nahi aisa koi research abhi tak nahi saamne aaya hai yahan tak ki yah bhi spasht nahi kaha ja sakta hai ki kisi chemical se bhi kurawar ko maar sakte hain aise me yadi hum koi bazaar jaate hain wahan se kuch saamaan kharid kar laate hain toh behtar hai hamein thoda sa dhyan rakhen ki kisi aise vyakti se sampark kiya kai aisi cheezen se na ho jo sankrameet ho aur yadi hum lagta hai ki hum kisi aise vyakti se kuch lekar aa gaye hain toh pehle toh use agar vaah kaise theli hai ya phir aap jo kuch hai agar vaah sabzi hai yah toh uske darane ki zarurat nahi hai kyonki jo hamko pakate hain jab hum banayenge toh apne aap hi ghar usne vaah usi ko send apne aap theek ho jayegi

* * * जान से मरता है या नहीं ऐसा कोई रिसर्च अभी तक नहीं सामने आया है यहां तक कि यह भी स्पष

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  93
WhatsApp_icon
user

Gaurav Sharma

Health Counsellor

3:18
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो नमस्कार आपने पूछा है क्या डिटर्जेंट से करो ना या कोरोनावायरस मरता है क्या दुकान से लाए पैकेट और सब्जियों को डिटर्जेंट्स से धोना चाहिए देखे दोस्त अन्य आदर्श में आपको बताया गया है कि आप बैकेटों को सब्जियों को गर्म पानी में धो सकते हैं डिटर्जेंट से भी धो सकते हैं जिससे करो ना कोरोनावायरस मरता है एकदम सही है लेकिन सही तरीका यह है कि सब्जियों के लिए हम पानी को गर्म करें उसमें थोड़ा सा नमक डालें और उसमें सब्जियों को दो तो सब्जियों के ऊपर चढ़ी हुई गंदगी केमिकल्स बगैरा यह सारी चीजें निकल जाती हैं इसके बाद उन्हें जो है धूप में सुखाएं और रख सकते जहां तक पैकेट की बात है तो डिटर्जेंट से ढूंढने की कोई खास जरूरत नहीं होती आप सीधे-सीधे उस पर सेंड टाइगर का इस्तेमाल मारिए और कुछ देर के लिए एक घंटा दो घंटा आधा घंटा आप उन्हें रख दीजिए उसके बाद आप सीधे सीधे उन्हें यूज कर सकते हैं संक्रमण नहीं चलेगा इतनी ज्यादा आवश्यकता नहीं होती किसी चीज से डरने की क्योंकि कई बार हमारा यह डर फोबिया में डिवेलप हो जाता है जो कि सही नहीं होता हमें एक नॉर्मल ही प्रिकॉशंस रखने चाहिए कि जब हम बाहर से आए तो अपने हाथों को मुंह को पैरों को अच्छे से बात कर ली और फिर घर के अंदर आए बाहर आए हुए कपड़ों को अलग बनाएं घर में पहनने वाले कपड़े अलग बनाएं बाहर से एक निश्चित जगह बनाएं कि बाहर से जब सामान लेकर आते तो उस सामान को एक निश्चित जगह पर रखे उसी जगह पर उसमें जो रायपुर से जिनमें अगर पैकेजिंग में कोई सामान है तो उसे सीधे सैनिटाइजर ऑप्शन टाइप कर दीजिए और जो सब्जियां बस्ती है उन्हें गर्म पानी में हल्का सा नमक डाली है और उसमें शक्तियां 15:20 मिनट के लिए रख दीजिए उसके बाद आप उन सब्जियों को पूछकर या धूप में सुखाकर रख सकते थे माल कर सकते हैं और जो आप के पैकेट से उन्हें कोई खास आवश्यकता नहीं होती उनके लिए आप पुणे में टाइप कीजिए और कुछ देर से टाइप किया हुआ यूं ही छोड़ दीजिए उसके बाद में आप उनका यूज कर सकते क्योंकि ऊपर का रेपर आपको निकाल कर फेंक ही देना ज्यादा से ज्यादा अगर आप करना चाहते तो आप यह कर सकते हैं किराए पर सजाने के बाद अपने हाथ को दोबारा डिटेल ऐसा साबुन से धो लें इसके अलावा ज्यादा जरूरत से ज्यादा सोचने की इन सब चीजों में जरूरत नहीं होती धन्यवाद

hello namaskar aapne poocha hai kya detergent se karo na ya coronavirus marta hai kya dukaan se laye packet aur sabjiyon ko detergents se dhona chahiye dekhe dost anya adarsh me aapko bataya gaya hai ki aap baiketon ko sabjiyon ko garam paani me dho sakte hain detergent se bhi dho sakte hain jisse karo na coronavirus marta hai ekdam sahi hai lekin sahi tarika yah hai ki sabjiyon ke liye hum paani ko garam kare usme thoda sa namak Daalein aur usme sabjiyon ko do toh sabjiyon ke upar chadhi hui gandagi Chemicals bagaira yah saari cheezen nikal jaati hain iske baad unhe jo hai dhoop me sukhaen aur rakh sakte jaha tak packet ki baat hai toh detergent se dhundhne ki koi khas zarurat nahi hoti aap sidhe sidhe us par send tiger ka istemal mariye aur kuch der ke liye ek ghanta do ghanta aadha ghanta aap unhe rakh dijiye uske baad aap sidhe sidhe unhe use kar sakte hain sankraman nahi chalega itni zyada avashyakta nahi hoti kisi cheez se darane ki kyonki kai baar hamara yah dar phobia me develop ho jata hai jo ki sahi nahi hota hamein ek normal hi prikashans rakhne chahiye ki jab hum bahar se aaye toh apne hathon ko mooh ko pairon ko acche se baat kar li aur phir ghar ke andar aaye bahar aaye hue kapdo ko alag banaye ghar me pahanne waale kapde alag banaye bahar se ek nishchit jagah banaye ki bahar se jab saamaan lekar aate toh us saamaan ko ek nishchit jagah par rakhe usi jagah par usme jo raipur se jinmein agar packaging me koi saamaan hai toh use sidhe sainitaijar option type kar dijiye aur jo sabjiyan basti hai unhe garam paani me halka sa namak dali hai aur usme shaktiyan 15 20 minute ke liye rakh dijiye uske baad aap un sabjiyon ko puchkar ya dhoop me sukhakar rakh sakte the maal kar sakte hain aur jo aap ke packet se unhe koi khas avashyakta nahi hoti unke liye aap pune me type kijiye aur kuch der se type kiya hua yun hi chhod dijiye uske baad me aap unka use kar sakte kyonki upar ka raper aapko nikaal kar fenk hi dena zyada se zyada agar aap karna chahte toh aap yah kar sakte hain kiraye par sajane ke baad apne hath ko dobara detail aisa sabun se dho le iske alava zyada zarurat se zyada sochne ki in sab chijon me zarurat nahi hoti dhanyavad

हेलो नमस्कार आपने पूछा है क्या डिटर्जेंट से करो ना या कोरोनावायरस मरता है क्या दुकान से ला

Romanized Version
Likes  119  Dislikes    views  1563
WhatsApp_icon
user

Ajay Sinh Pawar

Founder & M.D. Of Radiant Group Of Industries

0:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्या डिफरेंस कोरोना वायरस माता है क्या दुकान से लाइव पैकेट और सब्जियों को डिटर्जन से धोना चाहिए जी हां यह एडवाइजरी में कहा गया है कि डिटर्जेंट से ऊपर की सत्ता पर जो भी जीवाणु बैक्टीरिया होते हैं वह डिटर्जेंट से धोने से चाहे वह दूध की थैली या कोई अन्य सामान हो जो पैकेट हम बाहर से लाते हैं उसे पहले डिटर्जेंट से धो लेना चाहिए वरुण मोटर्स की मदद से ऑडिट एजेंट की मदद से और उसके अंदर तो सामान लगता है या दूध है या जो भी है तो वह बिल्कुल सही होता है यह दी गई और उसने क्वेश्चन रखने के लिए यह बताया गया है धन्यवाद

kya difference corona virus mata hai kya dukaan se live packet aur sabjiyon ko ditarjan se dhona chahiye ji haan yah advisory me kaha gaya hai ki detergent se upar ki satta par jo bhi jivanu bacteria hote hain vaah detergent se dhone se chahen vaah doodh ki theli ya koi anya saamaan ho jo packet hum bahar se laate hain use pehle detergent se dho lena chahiye varun motors ki madad se audit agent ki madad se aur uske andar toh saamaan lagta hai ya doodh hai ya jo bhi hai toh vaah bilkul sahi hota hai yah di gayi aur usne question rakhne ke liye yah bataya gaya hai dhanyavad

क्या डिफरेंस कोरोना वायरस माता है क्या दुकान से लाइव पैकेट और सब्जियों को डिटर्जन से धोना

Romanized Version
Likes  319  Dislikes    views  4477
WhatsApp_icon
user

Nikhil Ranjan

HoD - NIELIT

1:17
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है क्या डिटर्जेंट से करो ना वायरस मरता है क्या दुकानों से लाए पैकेट और सब्जियों को निवेदन से धोना चाहिए जीजा को बता दे बेटा एजेंसी अशोक से अगर आप हाथ आगरा वास करते हैं तो उससे जो कीटाणु करुणा वायरस करोगे टाइम है उसके होने की संभावना बहुत कम हो जाती है खत्म फिर भी नहीं होती लेकिन बहुत कम हो जाते हैं यहां पर 20 सेकंड तक आ जाता है कि आपको अच्छे से अपने हाथ को धोना चाहिए उसने जैकेट तो आप दो सकता है पैकेट करो समझ में आता है क्योंकि सीलोन पैकेट होंगे तो आप एक बार को धो लें लेकिन सब्जियों के ऊपर अगर आप डिटर्जेंट डाल रहे हैं और फिर बाद में उन्हीं शब्दों को खा रहे हैं तो वह कहीं से भी फिजिकल नहीं है सही नहीं है उसको आप बेहतर होगा कि फिटकरी डालकर पानी में गर्म पानी में डालकर उसको उसे निकाल ले या फिर नॉर्मल पानी में सादा पानी में फिटकरी डालकर अगर आप उसको निकालने तो आपके लिए ज्यादा अच्छा रहेगा बजाय आप उसको बोल करें या फिर आप उसमें डिटर्जेंट डालें क्योंकि अल्टीमेटली लास्ट में आपको भी खाना है वह आप फूलगोभी क्या होगा डिटर्जेंट से धो देंगे और तो उसके जो डिटेंशन कैंप आर्टिकल ओं केमिकल से वह सब अभी चले जाएंगे और वहीं पर आप खा लेंगे तो आकर पेट में जाएंगे और फिर आपके लिए ही समस्याएं उत्पन्न होंगे तो ऐसी गलती ना करें फलों सब्जियों को बंद हुए हालांकि आप दो पैकेट हैं उनको ना चाहे तो धो सकते हैं मैं शुभकामनाएं आपके साथ हैं धन्यवाद

aapka prashna hai kya detergent se karo na virus marta hai kya dukaano se laye packet aur sabjiyon ko nivedan se dhona chahiye jija ko bata de beta agency ashok se agar aap hath agra was karte hain toh usse jo kitanu corona virus karoge time hai uske hone ki sambhavna bahut kam ho jaati hai khatam phir bhi nahi hoti lekin bahut kam ho jaate hain yahan par 20 second tak aa jata hai ki aapko acche se apne hath ko dhona chahiye usne jacket toh aap do sakta hai packet karo samajh me aata hai kyonki seelon packet honge toh aap ek baar ko dho le lekin sabjiyon ke upar agar aap detergent daal rahe hain aur phir baad me unhi shabdon ko kha rahe hain toh vaah kahin se bhi physical nahi hai sahi nahi hai usko aap behtar hoga ki fitkari dalkar paani me garam paani me dalkar usko use nikaal le ya phir normal paani me saada paani me fitkari dalkar agar aap usko nikalne toh aapke liye zyada accha rahega bajay aap usko bol kare ya phir aap usme detergent Daalein kyonki altimetli last me aapko bhi khana hai vaah aap fulgobhi kya hoga detergent se dho denge aur toh uske jo ditenshan camp article on chemical se vaah sab abhi chale jaenge aur wahi par aap kha lenge toh aakar pet me jaenge aur phir aapke liye hi samasyaen utpann honge toh aisi galti na kare falon sabjiyon ko band hue halaki aap do packet hain unko na chahen toh dho sakte hain main subhkamnaayain aapke saath hain dhanyavad

आपका प्रश्न है क्या डिटर्जेंट से करो ना वायरस मरता है क्या दुकानों से लाए पैकेट और सब्जियो

Romanized Version
Likes  708  Dislikes    views  7202
WhatsApp_icon
user

DR OM PRAKASH SHARMA

Principal, Education Counselor, Best Experience in Professional and Vocational Education cum Training Skills and 25 years experience of Competitive Exams. 9212159179. dsopsharma@gmail.com

1:18
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने क्या-क्या डिटर्जेंट से कोरोनावायरस मरता है क्या दुकान से लाए थे कि तो सब्जियों को डिटर्जेंट होना चाहिए नहीं भाई ऐसा गलती मत करना क्या tech24 सब्जियों के बीच स्टेशन से जुड़ी क्योंकि सबसे गंदा इंसान का दिल होता है उसके बाद उसका दिमाग होता है शायद दुनिया की हर चीज उठाई जा सकती है कोई ना कोई इसके लिए साधन होता है सादे पानी से लेकर सब जानते हो लेंगे तो साफ हो जाएंगे लेकिन इंसान के जो दिल और दिमाग में पाप चलने बुराइयां चल रही है बदतमीजी चंडीगढ़ नफरत चल रही है उसको ढूंढने के लिए प्रभु ने कोई डिटर्जेंट नहीं बनाया है ऐसा डिटर्जेंट कोई अगर इंडियन कंपनी बना दें जिससे कि इंसान का दिल और दिमाग धोया जा सके तो मैं बहुत एक बात के लिए आभारी रहूंगा लेकिन आप ऐसी गलती ना करें कि सब्जियों को आप डिटरमिन से साफ कर सकते हैं कोई दिक्कत नहीं लेकिन साफ करने के बाद यह ध्यान रखें उसमें डेट अर्जेंट काम से नहीं रहना चाहिए अन्यथा नुकसानदायक हो

aapne kya kya detergent se coronavirus marta hai kya dukaan se laye the ki toh sabjiyon ko detergent hona chahiye nahi bhai aisa galti mat karna kya tech24 sabjiyon ke beech station se judi kyonki sabse ganda insaan ka dil hota hai uske baad uska dimag hota hai shayad duniya ki har cheez uthayi ja sakti hai koi na koi iske liye sadhan hota hai saade paani se lekar sab jante ho lenge toh saaf ho jaenge lekin insaan ke jo dil aur dimag me paap chalne buraiyan chal rahi hai badatamiji chandigarh nafrat chal rahi hai usko dhundhne ke liye prabhu ne koi detergent nahi banaya hai aisa detergent koi agar indian company bana de jisse ki insaan ka dil aur dimag dhoya ja sake toh main bahut ek baat ke liye abhari rahunga lekin aap aisi galti na kare ki sabjiyon ko aap ditaramin se saaf kar sakte hain koi dikkat nahi lekin saaf karne ke baad yah dhyan rakhen usme date urgent kaam se nahi rehna chahiye anyatha nukasanadayak ho

आपने क्या-क्या डिटर्जेंट से कोरोनावायरस मरता है क्या दुकान से लाए थे कि तो सब्जियों को डिट

Romanized Version
Likes  389  Dislikes    views  2543
WhatsApp_icon
user

Prince Sharma

Life Coach, Mentor, Digital Marketor , Economist. Entrepreneur

0:48
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

डिटर्जन पाउडर से आपको सब्जी नहीं धोने चाहिए कि सब्जी छिलका होता बहुत और ज्ञानी खुशियों से बॉर्डर से होते हैं उसकी संभावना पूरी है कि वह डिटर्जन पाउडर से अंदर तक जा सकते हैं इसे हल्के से गर्म पानी से इसे धो लें यह सबसे कारगर तरीका है और इसके अलावा आप बेकिंग सोडे का भी इस्तेमाल कर सकते हैं सब्जियों को धोने के लिए सबसे बढ़िया तरीका जिससे अगर आपकी स्किन पड़ेगा की संभावना होगी कोर्णाक शैंकी खत्म हो जाएगी बाकी सब लोग उनसे बिल्कुल भी नहीं होना चाहिए

ditarjan powder se aapko sabzi nahi dhone chahiye ki sabzi chhilka hota bahut aur gyani khushiyon se border se hote hain uski sambhavna puri hai ki vaah ditarjan powder se andar tak ja sakte hain ise halke se garam paani se ise dho le yah sabse kargar tarika hai aur iske alava aap baking sode ka bhi istemal kar sakte hain sabjiyon ko dhone ke liye sabse badhiya tarika jisse agar aapki skin padega ki sambhavna hogi kornak shainki khatam ho jayegi baki sab log unse bilkul bhi nahi hona chahiye

डिटर्जन पाउडर से आपको सब्जी नहीं धोने चाहिए कि सब्जी छिलका होता बहुत और ज्ञानी खुशियों से

Romanized Version
Likes  273  Dislikes    views  3051
WhatsApp_icon
user

Abhay Pratap

Advocate | Social Welfare Activist

0:25
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

डिटर्जेंट पाउडर डिटेल से कोरोनावायरस में थोड़ी सुरक्षा मिल जाएगी दुकान से लाए पैकेट और सब यह कोई डिटर्जेंट से धोना तो अनुचित है मेरे हिसाब से

detergent powder detail se coronavirus me thodi suraksha mil jayegi dukaan se laye packet aur sab yah koi detergent se dhona toh anuchit hai mere hisab se

डिटर्जेंट पाउडर डिटेल से कोरोनावायरस में थोड़ी सुरक्षा मिल जाएगी दुकान से लाए पैकेट और सब

Romanized Version
Likes  182  Dislikes    views  1828
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार दोस्तों आपका दोस्त आपका योगा फ्रेंड इसलिए बोल रहा हूं तो साथ में प्रश्न है क्या डिटर्जेंट से कोरोनावायरस मरता है क्या दुकान से लाए पैकेट और सब्जियां डिटर्जेंट होनी चाहिए आपको ऑडिटर जनते दौरे की आवश्यकता नहीं है क्योंकि वह भी तो केमिकल है एक पैन में वायरस मरेगा तो दूसरा पैदा हो जाएगा आपके शरीर में ठीक है तो आप को गर्म पानी से धोना है ज्यादा करें नमक डालकर धोले ज्यादा करें तोड़ेगा पानी छोड़ा डाले खाने का सोडा उसे साफ कर ले तो कोई दिक्कत नहीं है तो उससे भी वायरस मर जाता है तो आप कास्टिक सोडे से डिटर्जेंट पाउडर से मधुमेह गर्म पानी से माता का दर्शन अच्छी तरह से धो लेते तो भी वायरस साफ हो जाता है ओके

namaskar doston aapka dost aapka yoga friend isliye bol raha hoon toh saath me prashna hai kya detergent se coronavirus marta hai kya dukaan se laye packet aur sabjiyan detergent honi chahiye aapko auditor jante daure ki avashyakta nahi hai kyonki vaah bhi toh chemical hai ek pan me virus marega toh doosra paida ho jaega aapke sharir me theek hai toh aap ko garam paani se dhona hai zyada kare namak dalkar dhole zyada kare todega paani choda dale khane ka soda use saaf kar le toh koi dikkat nahi hai toh usse bhi virus mar jata hai toh aap caustic sode se detergent powder se madhumeh garam paani se mata ka darshan achi tarah se dho lete toh bhi virus saaf ho jata hai ok

नमस्कार दोस्तों आपका दोस्त आपका योगा फ्रेंड इसलिए बोल रहा हूं तो साथ में प्रश्न है क्या डि

Romanized Version
Likes  515  Dislikes    views  5728
WhatsApp_icon
user

Shyam Vispute

Yoga Instructor

1:47
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जय गुरुदेव आंचल में आपको जो प्रश्न है वह है कि क्या डिटर्जन से कूदने वाला समझ जाता है क्या दुकान मिला पाकिस्तान से धोना चाहिए तो देखिए बिल्कुल भी नहीं तू नाचे डिटर्जन से सब्जियों को इन सब चीजों को क्योंकि अगर आप भी तर्जन सिद्ध होते तो रिटर्न जेंट्स के पार्टिकल उसमें जा सकते सब्जियों में उसमें जाएंगे तो मैं सब से बिल आपको बताना चाहता हूं कि कोई भी सैनिटाइजर जो है सीनेटर जो जो है वह घर सब 70% एल्कोहल वैसे तू भी उसे खोलने वाले समर सकता है और तभी आपके हाथ वगैरह साफ हो सकते हैं अगर आपको सब पैकेट वगैरह सब तो समझा दो नहीं तो आप क्या कीजिए आप पानी लीजिए पानी में आप दो चम्मच तोड़ा था लिए पानी में खाने वाला जो मीठा सोडा होता है वह और उस पानी को पानी का घोल बनाएं और उस पानी के अंदर सब्जियों को दान कर सब स्टैंडर्ड स्टैंडर्ड सब्जेक्ट डाल कर रखी है तो उसमें क्या फायदा जो पेस्टिसाइड सारे के सारे मर जाएंगे उसमें कोई भी कोई भी कार्रवाई नहीं कर पाएगा कोई भी टाइप इंग्लिश में और उसके बाद में सबसे को पूछ क्या फरक सकते हो और उसमें से सारा कुछ निकल जाएगा बाद में रही पैकेट्स की बात जब पैकेट्स आफ यूज करते हो जो पैकेट चौकीदार आते हैं सब कुछ है तो अक्षर में पैकेट के ऊपर प्लास्टिक के ऊपर वह ज्यादा देर तक टिकता नहीं वायरस तो वह आपका कहना है कि आने के बाद मुझे दूध का पैकेट वाला है तो उसकी पूरा पानी डाल सकते हो और पानी नमक का पानी हो तो बहुत अच्छा है तो आपको पानी उसका चित्र डालने के लिए लेकिन कृपया करके डिटर्जेंट्स से सब्जियां और पैकेट संबंध हुई है यह काफी हानिकारक ए बॉडी के लिए और यह मत कीजिए आप सिर्फ थोड़ी के पानी का इस्तेमाल कीजिए सबसे आधुनिक नमक के पानी के इस्तेमाल कीजिए पैकेट पैकेट पैकेट पूछने के लिए जी नमो नारायण

jai gurudev aanchal me aapko jo prashna hai vaah hai ki kya ditarjan se koodne vala samajh jata hai kya dukaan mila pakistan se dhona chahiye toh dekhiye bilkul bhi nahi tu nache ditarjan se sabjiyon ko in sab chijon ko kyonki agar aap bhi tarjan siddh hote toh return gents ke particle usme ja sakte sabjiyon me usme jaenge toh main sab se bill aapko batana chahta hoon ki koi bhi sainitaijar jo hai Senator jo jo hai vaah ghar sab 70 alcohol waise tu bhi use kholne waale summer sakta hai aur tabhi aapke hath vagera saaf ho sakte hain agar aapko sab packet vagera sab toh samjha do nahi toh aap kya kijiye aap paani lijiye paani me aap do chammach toda tha liye paani me khane vala jo meetha soda hota hai vaah aur us paani ko paani ka ghol banaye aur us paani ke andar sabjiyon ko daan kar sab standard standard subject daal kar rakhi hai toh usme kya fayda jo pesticide saare ke saare mar jaenge usme koi bhi koi bhi karyawahi nahi kar payega koi bhi type english me aur uske baad me sabse ko puch kya farak sakte ho aur usme se saara kuch nikal jaega baad me rahi paikets ki baat jab paikets of use karte ho jo packet chaukidaar aate hain sab kuch hai toh akshar me packet ke upar plastic ke upar vaah zyada der tak tikta nahi virus toh vaah aapka kehna hai ki aane ke baad mujhe doodh ka packet vala hai toh uski pura paani daal sakte ho aur paani namak ka paani ho toh bahut accha hai toh aapko paani uska chitra dalne ke liye lekin kripya karke detergents se sabjiyan aur packet sambandh hui hai yah kaafi haanikarak a body ke liye aur yah mat kijiye aap sirf thodi ke paani ka istemal kijiye sabse aadhunik namak ke paani ke istemal kijiye packet packet packet poochne ke liye ji namo narayan

जय गुरुदेव आंचल में आपको जो प्रश्न है वह है कि क्या डिटर्जन से कूदने वाला समझ जाता है क्या

Romanized Version
Likes  399  Dislikes    views  3516
WhatsApp_icon
user

Dr. Mitramahesh

Ayurvedic Doctors

6:50
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

डिटर्जेंट से मात्र हाथी और सभी की सफाई हो सकती है डिटर्जेंट दुनिया की कोई ऐसी सर्वश्रेष्ठ है उसे नहीं है कि कोरोनावायरस को मार दिया दूसरा कुछ भी फायदा कर दी वह हाथ की साधारण सफाई करता है और यह डिसीजन सही है ऐसा होने वाला था तो कास्टिक सोडा और और एसडीके से भी कुछ मरना चाहिए था एसिड बगैर से कोरोनावायरस मर जाएगा लेकिन वह में पीने वाला जो दे जारी होगा वह भी मर जाएगा तो कोरोनावायरस से कि जो सिस्टम है सिस्टम में एलोपैथिक मेडिकल साइंस के सारे के सारे लाखो लाखो लाखो सब फेल है यह के निमोनिया बुखार की जो इंग्लिश मेडिसिन है एलोपैथिक कि वह पूछे जहरीले बुखार की छत के ऊपर कोई साधारण फायदा करती हुई दिखाई देती है परंतु अभी तक पिछले दो ढाई 3 महीने से जो बातें हो रही थी कि कोई दुख दुख दुनिया की कोई दवाई नहीं है नहीं है नहीं है एलोपैथिक इतनी सारी सिस्टर में चले वह बातें यह तो बिल्कुल एक प्रकार की कितने बजे बन गई है कोरोनावायरस क्योर अच्छा करने के लिए रोगी को बोलती के मुंह से निकालने के लिए लोकल चैनल के वॉक एप्स के साइंटिस्ट ने मेरे साथ है 200 घंटे पहले बात किया उसके बाद हम लोग जवाब देना चालू किया है उनका अखिलेश मूलभूत वस्तु यह है कि आयुर्वेद विज्ञान की साइंटिफिक ऑडियो म्यूजिक को समझने के लिए तैयार नहीं है पिछले सौ दो सौ 300 साल से या तो उसको सचिव के साथ हैं यह लोग जो वर्ल्ड बिजनेस चल रहा है पूरे दुनिया भर का भयानक रूप से वह बिजनेस वाली मछली एलोपैथिक दवाइयों कोई महत्व देते हैं और वह दवाइयां चलेगी तभी उन लोगों की है और अब और डॉलर की आमदनी होगी हजारों अफजल की फाइल फायदा तभी होगा कोरी राक्षसी व्यवसाय चलता रहेगा इसलिए आईडी को बिल्कुल कोई महत्वपूर्ण निबंध नहीं मानते हैं अभी चीन की कुछ समाचार बता हुआ कि वहां के कुछ आयुर्वेदिक दवाइयां शुरुआत के स्टेज में कोरोना वायरस के लिए चक्की उसे इन ब्लड में से जो यही तत्व अलग करते हैं उसकी भी बात आई थी जो अमेरिका बगैर उसका संशोधन हो रहा है यह सब कुछ हो सकता है लेकिन ए मूलभूत सिस्टम नहीं है मूलभूत सिस्टम आयुर्वेद विज्ञान के अनुसार है आयुर्वेद साइंस जो मूलभूत ओरिजिनल और रियल साइंस की बुक में आलोचना और अच्छे-अच्छे शब्द इंग्लिश और हिंदी गुजराती के या दूसरी भाषाओं के बीच यूज नहीं कर सकता हूं परंतु संस्कृत भाषा में वैदिक भाषा में उसके लिए स्पष्ट है कि यह मूलभूत विज्ञान है और इसमें किसी प्रकार की अतार्किक और बनावट कुर्ला बात नहीं है कोई मानसिक एवं अवधारणा भी नहीं है उसकी जो लाइफ सिक्के मेल लाइफ सिस्टम के अनुसार व्यक्ति को उसके अनुरूप ढाल दिया जाए तो व्यक्ति को ऑन लाइफ में कोई रोग होते नहीं है और होंगे तो भी वह जल्दी से छोड़ जाते हैं हमने हमारे इंटरव्यू में भी बताया था 2 मिनट पहले की आयुर्वेद विज्ञान की अंदर हमारे पास है ट्रीटमेंट सिस्टम टोटल अवेलेबल है और कोरोना वायरस को जड़ से नष्ट करने के लिए टोटल मेडिसिन भी हमारे पास है और मेडिसिन के नाम भी हम ने गिनाए हैं देश उद्दीन मेदोहर जगन्नाथ सैनी विनाशक सदगुण टेबलेट देवेंद्र प्रकाश टेबलेट विकासात्मक टैबलेट से उसी से महत्वपूर्ण और अनेक रूपों को और अनेक प्रकार की पर साइड इफेक्ट को दूर करने वाले उसे थे कि ज्योति दो उसको ठीक करते हैं पंच कर्म के अनुसार सभी की संपूर्ण हो तो स्वच्छता और रोग मुक्ति ला देती और सभी के साथ उधर सोच से मजबूत सूट बनाकर के व्यक्ति को एक नया जीवन प्रदान करती है तो यह मेडिसिन से किसी भी प्रकार का ब्लडिंग किसी भी प्रकार का पेन किसी भी प्रकार का सूजन अरुचि और सब हम लोग दूर कर देते हैं और यह ट्रीटमेंट शुरुआत करने से पहले हम लोग अगर तगर गूगल कपूर और दूसरे जो आयुर्वेद के परंतु दर्शन कर दिया है वह दिन तो दर्शन दे दियो का जो वादे करके यह कोरोनावायरस वाले रोगियों को उस कमरे में रखेंगे और उनकी सफाई करेंगे सभी के स्वच्छता की और उनके शरीर के अंदर रह रहा हुआ भयानक के जो गैस से मैं उसका स्पष्ट इनाम देता हूं कि विश्वरी के अंदर से भयंकर प्रकार की दुर्गंध 1:00 बजे निकलती होगी या तो वह दुर्गंध वाले यह वायरस कोई अजीब अजीब दुर्गंध वाला वायरस निकलता होगा ऑडी बाइक्स की सारी वास्तविकता को यह घंटी लग सकते हुए दुआ और वायु उसको मार देता है और व्यक्ति को फिर हमारा जो मेडिसिन की ट्रीटमेंट चालू हो जाएगी और उसके अनुसार शरीर की पुलिस सिस्टम को उन लोगों को चेंज करके और सारे लोग को नष्ट कर देंगे यह हमारी सिस्टम है और इसके अनुसार मैंने सारी बातें बताई है मैं भारत का और विश्व का एकमात्र आयुर्वेदाचार्य हो आयुर्वेद के संशोधन के विषय पर और उसकी संपूर्ण सिस्टम को जानने के लिए कि ऑस्ट्रेलिया वाले व्यक्ति हम हैं इन आप लोग कोरोनावायरस से ग्रसित लाखो लाखो लोग मर रहे हैं उनको नया जीवन में एकमात्र मैं दे सकता हूं और आप हमारा संपर्क करिए और बचने के लिए हमारे पास आई है मनुष्य जातियों को मनुष्य जाति को मौत के मुंह से बचाने की जय हमारे पास आइए अब भारत सरकार को उसके लिए आपके परिचय में जो जो भी विश्व की सरकारों के लोग हैं उनको अनुरोध करिए और हमारा उपयोग कीजिए धन्यवाद

detergent se matra haathi aur sabhi ki safaai ho sakti hai detergent duniya ki koi aisi sarvashreshtha hai use nahi hai ki coronavirus ko maar diya doosra kuch bhi fayda kar di vaah hath ki sadhaaran safaai karta hai aur yah decision sahi hai aisa hone vala tha toh caustic soda aur aur SDK se bhi kuch marna chahiye tha acid bagair se coronavirus mar jaega lekin vaah me peene vala jo de jaari hoga vaah bhi mar jaega toh coronavirus se ki jo system hai system me allopathic medical science ke saare ke saare lakho lakho lakho sab fail hai yah ke pneumonia bukhar ki jo english medicine hai allopathic ki vaah pooche zahreele bukhar ki chhat ke upar koi sadhaaran fayda karti hui dikhai deti hai parantu abhi tak pichle do dhai 3 mahine se jo batein ho rahi thi ki koi dukh dukh duniya ki koi dawai nahi hai nahi hai nahi hai allopathic itni saari sister me chale vaah batein yah toh bilkul ek prakar ki kitne baje ban gayi hai coronavirus Cure accha karne ke liye rogi ko bolti ke mooh se nikalne ke liye local channel ke walk apps ke scientist ne mere saath hai 200 ghante pehle baat kiya uske baad hum log jawab dena chaalu kiya hai unka akhilesh mulbhut vastu yah hai ki ayurveda vigyan ki scientific audio music ko samjhne ke liye taiyar nahi hai pichle sau do sau 300 saal se ya toh usko sachiv ke saath hain yah log jo world business chal raha hai poore duniya bhar ka bhayanak roop se vaah business wali machli allopathic dawaiyo koi mahatva dete hain aur vaah davaiyan chalegi tabhi un logo ki hai aur ab aur dollar ki aamdani hogi hazaro afzal ki file fayda tabhi hoga kori raakshasi vyavasaya chalta rahega isliye id ko bilkul koi mahatvapurna nibandh nahi maante hain abhi china ki kuch samachar bata hua ki wahan ke kuch ayurvedic davaiyan shuruat ke stage me corona virus ke liye chakki use in blood me se jo yahi tatva alag karte hain uski bhi baat I thi jo america bagair uska sanshodhan ho raha hai yah sab kuch ho sakta hai lekin a mulbhut system nahi hai mulbhut system ayurveda vigyan ke anusaar hai ayurveda science jo mulbhut original aur real science ki book me aalochana aur acche acche shabd english aur hindi gujarati ke ya dusri bhashaon ke beech use nahi kar sakta hoon parantu sanskrit bhasha me vaidik bhasha me uske liye spasht hai ki yah mulbhut vigyan hai aur isme kisi prakar ki atarkik aur banawat kurla baat nahi hai koi mansik evam avdharna bhi nahi hai uski jo life sikke male life system ke anusaar vyakti ko uske anurup dhal diya jaaye toh vyakti ko on life me koi rog hote nahi hai aur honge toh bhi vaah jaldi se chhod jaate hain humne hamare interview me bhi bataya tha 2 minute pehle ki ayurveda vigyan ki andar hamare paas hai treatment system total available hai aur corona virus ko jad se nasht karne ke liye total medicine bhi hamare paas hai aur medicine ke naam bhi hum ne ginaye hain desh uddhin medohar jagannath saini vinaashak sadgun tablet devendra prakash tablet vikaasaatmak tablet se usi se mahatvapurna aur anek roopon ko aur anek prakar ki par side effect ko dur karne waale use the ki jyoti do usko theek karte hain punch karm ke anusaar sabhi ki sampurna ho toh swachhta aur rog mukti la deti aur sabhi ke saath udhar soch se majboot suit banakar ke vyakti ko ek naya jeevan pradan karti hai toh yah medicine se kisi bhi prakar ka blooding kisi bhi prakar ka pen kisi bhi prakar ka sujan aruchi aur sab hum log dur kar dete hain aur yah treatment shuruat karne se pehle hum log agar tegur google kapur aur dusre jo ayurveda ke parantu darshan kar diya hai vaah din toh darshan de diyo ka jo waade karke yah coronavirus waale rogiyon ko us kamre me rakhenge aur unki safaai karenge sabhi ke swachhta ki aur unke sharir ke andar reh raha hua bhayanak ke jo gas se main uska spasht inam deta hoon ki vishwari ke andar se bhayankar prakar ki durgandh 1 00 baje nikalti hogi ya toh vaah durgandh waale yah virus koi ajib ajib durgandh vala virus nikalta hoga audi bikes ki saari vastavikta ko yah ghanti lag sakte hue dua aur vayu usko maar deta hai aur vyakti ko phir hamara jo medicine ki treatment chaalu ho jayegi aur uske anusaar sharir ki police system ko un logo ko change karke aur saare log ko nasht kar denge yah hamari system hai aur iske anusaar maine saari batein batai hai main bharat ka aur vishwa ka ekmatra ayurvedacharya ho ayurveda ke sanshodhan ke vishay par aur uski sampurna system ko jaanne ke liye ki austrailia waale vyakti hum hain in aap log coronavirus se grasit lakho lakho log mar rahe hain unko naya jeevan me ekmatra main de sakta hoon aur aap hamara sampark kariye aur bachne ke liye hamare paas I hai manushya jaatiyo ko manushya jati ko maut ke mooh se bachane ki jai hamare paas aaiye ab bharat sarkar ko uske liye aapke parichay me jo jo bhi vishwa ki sarkaro ke log hain unko anurodh kariye aur hamara upyog kijiye dhanyavad

डिटर्जेंट से मात्र हाथी और सभी की सफाई हो सकती है डिटर्जेंट दुनिया की कोई ऐसी सर्वश्रेष्ठ

Romanized Version
Likes  127  Dislikes    views  1499
WhatsApp_icon
user

S K Mishra

Career Advisor

0:20
Play

Likes  82  Dislikes    views  2197
WhatsApp_icon
user

Bhupendra Chugh

Business Owner

1:12
Play

Likes  126  Dislikes    views  1798
WhatsApp_icon
user

Dr. Guddy Kumari

UPSC Coach / Ph.d

0:27
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने जो कहा कि क्या डिटर्जेंट से कोरोना वायरस मरता है और बाजार से जो भी सब्जी और पैकेट लाते हैं और डिटर्जेंट से धोना होगा नहीं दो ना हो आप हाथ वगैरह को जब आए तो डिटर्जन से हुए उन्हें बस पानी से धोना है पानी से देंगे उसके साथ ही वायरस सत्ता से धुल जाएगा

aapne jo kaha ki kya detergent se corona virus marta hai aur bazaar se jo bhi sabzi aur packet laate hain aur detergent se dhona hoga nahi do na ho aap hath vagera ko jab aaye toh ditarjan se hue unhe bus paani se dhona hai paani se denge uske saath hi virus satta se dhul jaega

आपने जो कहा कि क्या डिटर्जेंट से कोरोना वायरस मरता है और बाजार से जो भी सब्जी और पैकेट लात

Romanized Version
Likes  186  Dislikes    views  3605
WhatsApp_icon
user

Satendra Rajput

Counselling Psychologist

0:37
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कोरोनावायरस को फाइल प्रोटीन कवर होती है जिससे वह 8 से 9 घंटे तक जिंदा रहता है और जिंदा रहता है इसलिए साबुन से 20 37 सेक्टर 23 तो लेयर होती जो प्रोटीन की खबर होती कोरोनावायरस के ऊपर वह हट जाती है जिससे वह पुराना बरस मर जाता है और दूसरी बात यह है कि सब्जियों का वध होना है तो हम पर एक गर्म पानी करें गरम पानी करने के बाद उसमें नंबर डाले नंबर डालने को सब्जी को सब्जियों को अच्छी तरह से धो लें इसके बाद ही हम उसका यूज़ करें तो अच्छा रहेगा

coronavirus ko file protein cover hoti hai jisse vaah 8 se 9 ghante tak zinda rehta hai aur zinda rehta hai isliye sabun se 20 37 sector 23 toh layer hoti jo protein ki khabar hoti coronavirus ke upar vaah hut jaati hai jisse vaah purana baras mar jata hai aur dusri baat yah hai ki sabjiyon ka vadh hona hai toh hum par ek garam paani kare garam paani karne ke baad usme number dale number dalne ko sabzi ko sabjiyon ko achi tarah se dho le iske baad hi hum uska use kare toh accha rahega

कोरोनावायरस को फाइल प्रोटीन कवर होती है जिससे वह 8 से 9 घंटे तक जिंदा रहता है और जिंदा रहत

Romanized Version
Likes  150  Dislikes    views  4563
WhatsApp_icon
user

Liyakat Ali Gazi

Motivational Speaker, Life Coach & Soft Skills Trainer 📲 9956269300

0:22
Play

Likes  624  Dislikes    views  12488
WhatsApp_icon
user

Anupam Bohare

Clinical Psychologist

0:42
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कोई पाउडर से बात करें कोई भी छत वाले साबुन के साथ

koi powder se baat kare koi bhi chhat waale sabun ke saath

कोई पाउडर से बात करें कोई भी छत वाले साबुन के साथ

Romanized Version
Likes  273  Dislikes    views  6275
WhatsApp_icon
user

Daulat Ram Sharma Shastri

Psychologist | Ex-Senior Teacher

1:19
Play

Likes  624  Dislikes    views  7425
WhatsApp_icon
user

Shubham Saini

Software Engineer

0:18
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ऐसा कुछ नहीं हमें डिटर्जेंट केमिकल को अपने ऐसी चीजों पर यूज नहीं करना चाहिए कोई सामान आप कल आए तो उसे सूट के जगह पर कुछ घंटे तक ऐसे ही रखते हैं कोरोनावायरस अगर उसने होंगे तो वह समाप्त हो जाएंगे और उसे पूछ सकते हैं हम सब

aisa kuch nahi hamein detergent chemical ko apne aisi chijon par use nahi karna chahiye koi saamaan aap kal aaye toh use suit ke jagah par kuch ghante tak aise hi rakhte hain coronavirus agar usne honge toh vaah samapt ho jaenge aur use puch sakte hain hum sab

ऐसा कुछ नहीं हमें डिटर्जेंट केमिकल को अपने ऐसी चीजों पर यूज नहीं करना चाहिए कोई सामान आप क

Romanized Version
Likes  317  Dislikes    views  2657
WhatsApp_icon
user
0:24
Play

Likes  7  Dislikes    views  270
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!