हेलो फ्रेंड्स मेरा नाम आकाश शर्मा है और मैं दिल्ली का रहने वाला हूँ, मैं आपको बताना चाहता हूँ कि लोग अपनी ज़िंदगी में क्यों कुछ नहीं करना चाहते क्योंकि लोगों के पास ऐसा प्लेटफार्म नहीं होता कि वह अपनी ज़िंदगी को बना सके उनके पास एक प्लेटफार्म होता है?...


user

N. M. Naqvi

Business Owner

4:01
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कसम सक्सेस के लिए प्लेटफार्म चाहिए प्लेटफार्म होगा तो सक्सेस मिलेगा वरना नहीं मिलेगा ऐसा सवाल है सरहद तक तुषार मैक्सटेंट सही भी है बिल्कुल सही है अगर आपको प्लेटफार्म मिल गया तो आप लाखों मिल गया आपकी तबीयत है आप एकदम से पिकअप हो जाएंगे सच्ची में जाएंगे आपको अच्छा मां सच्चे लालिए परसेंटेज अच्छा को मिल गया आपको कोई नौकरी का ऑफर दिया गया कॉलेज में एडमिशन लेंगे शाहरुख खान सुपरस्टार बनने की कोशिश में तो नहीं आया था वह तो चाह रहा था कि फिल्म इंडस्ट्री में हूं उसको कोई फिल्म नहीं मिला तो बंदा सेहार कि नहीं बढ़ गया वह गया कोई सीरियल में काम किया अपाचे मिल गई क्यों उसकी काबिलियत टीवी में दी गई थी उसका ऑपरेशन के लिए अमिताभ बच्चन जी ने कहा था हमारे चाहिए प्रोटोकॉल की सबसे बेहतरीन वॉइस किसी का है अमिताभ बच्चन जी का सुपरस्टार भी है यह कोई वैल्यू इन स्टॉपिंग सो ना सके फिर कोई है क्या आप को रिजेक्ट हो गए तो खत्म हो गया आपका जिंदगी खत्म हो गए नहीं हो सकता आपको फोन नहीं मिला हो सकता है हो सकता है तो आप अपनी मेहनत से आपके लगन से अभी खा भी लेते आप क्रिएट कर सकते हो आप बना सकते हो अब कहीं पर भी हो कहीं पर भी पहुंचा सकते हो मेहनत चाहिए लगातार मीणा चाहिए कोई 1 दिन 2 दिन में कोई काम सक्सेसफुल नहीं हो सकता इसके लिए मेहनत कंपलसरी है कंसिस्टेंसी चाहिए लगन चाहिए यह तुझे चाहिए आपका संतोष करना पड़ेगा हम आप में 50% काम करूंगा महेंद्र सेन एक्सपर्ट कैसे होगा जो भी आपको प्लेटफार्म मिल गया है इस प्लेटफार्म में भी हैं आपको लग रहा है कि आपको प्लेटफार्म नहीं मिला है इस वजह से आपका डिसएप्वाइंट है तो आपको मुझे लगता है कि आप थोड़ा कंफ्यूज है तो पहले आपका अपना कॉल सेट कीजिए आपको क्या करना चाहते हैं आप कहां जाना चाहते हैं किस उम्र में आप वहां पर पहुंच जाते हैं आपके आपके हिसाब से आपके मायने में आपके जो सोच है उसके हिसाब से आपको सकता मतलब क्या है और नींद स्टेशन प्लेटफार्म को ऐसे आपको प्लेटफार्म चाहिए आप मेहनत कीजिए लगातार मेहनत कीजिए तो जरूर आपका क्योंकि आपकी मेहनत है ना वह कभी ना कभी तो रंग ला हंड्रेड पर्सन मिलना ही है आपको जो मौका है एक बार अपॉर्चुनिटी मिल गई समझो आप लिखोगे बॉडी पेंट से कब है कैसा हो जाएगा कितने दिन में हो जाएगा वह कोई आपको डिस्टर्ब नहीं कर सकता पानी वाला डांस क्या कंपटीशन देखना पड़ेगा बहुत सारी चीजें अकाउंट होते हैं लेकिन आप पर लगातार अपना हिसाब से मिलना ही है

kasam success ke liye platform chahiye platform hoga toh success milega varna nahi milega aisa sawaal hai sarahad tak tushaar maiksatent sahi bhi hai bilkul sahi hai agar aapko platform mil gaya toh aap laakhon mil gaya aapki tabiyat hai aap ekdam se pickup ho jaenge sachi me jaenge aapko accha maa sacche laliye percentage accha ko mil gaya aapko koi naukri ka offer diya gaya college me admission lenge shahrukh khan superstar banne ki koshish me toh nahi aaya tha vaah toh chah raha tha ki film industry me hoon usko koi film nahi mila toh banda sehar ki nahi badh gaya vaah gaya koi serial me kaam kiya apache mil gayi kyon uski kabiliyat TV me di gayi thi uska operation ke liye amitabh bachchan ji ne kaha tha hamare chahiye protocol ki sabse behtareen voice kisi ka hai amitabh bachchan ji ka superstar bhi hai yah koi value in stopping so na sake phir koi hai kya aap ko reject ho gaye toh khatam ho gaya aapka zindagi khatam ho gaye nahi ho sakta aapko phone nahi mila ho sakta hai ho sakta hai toh aap apni mehnat se aapke lagan se abhi kha bhi lete aap create kar sakte ho aap bana sakte ho ab kahin par bhi ho kahin par bhi pohcha sakte ho mehnat chahiye lagatar meena chahiye koi 1 din 2 din me koi kaam successful nahi ho sakta iske liye mehnat compulsory hai kansistensi chahiye lagan chahiye yah tujhe chahiye aapka santosh karna padega hum aap me 50 kaam karunga mahendra sen expert kaise hoga jo bhi aapko platform mil gaya hai is platform me bhi hain aapko lag raha hai ki aapko platform nahi mila hai is wajah se aapka disaepwaint hai toh aapko mujhe lagta hai ki aap thoda confuse hai toh pehle aapka apna call set kijiye aapko kya karna chahte hain aap kaha jana chahte hain kis umar me aap wahan par pohch jaate hain aapke aapke hisab se aapke maayne me aapke jo soch hai uske hisab se aapko sakta matlab kya hai aur neend station platform ko aise aapko platform chahiye aap mehnat kijiye lagatar mehnat kijiye toh zaroor aapka kyonki aapki mehnat hai na vaah kabhi na kabhi toh rang la hundred person milna hi hai aapko jo mauka hai ek baar opportunity mil gayi samjho aap likhoge body paint se kab hai kaisa ho jaega kitne din me ho jaega vaah koi aapko disturb nahi kar sakta paani vala dance kya competition dekhna padega bahut saari cheezen account hote hain lekin aap par lagatar apna hisab se milna hi hai

कसम सक्सेस के लिए प्लेटफार्म चाहिए प्लेटफार्म होगा तो सक्सेस मिलेगा वरना नहीं मिलेगा ऐसा

Romanized Version
Likes  113  Dislikes    views  990
WhatsApp_icon
25 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Shahbaz Ahmed

Ayurvedic Doctor & Health Coach

1:12
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां आकाश शर्मा जी मेरे दोस्त मुझे जानकर बड़ा दुख हुआ आपकी सोच कितनी छोटी है मैंने दोस्त ऐसा नहीं है कि प्लेटफार्म जी ने बनाया है मुझे कुछ कर सकते हैं प्लेटफार्म बनता नहीं बना बनाया मिलता नहीं बनाना पड़ता है आपके अंदर क्या काबिलियत है आप उस काबिलियत के हिसाब से अपना प्लेटफार्म बना सकते हैं पार्लर करने वाली जो घर में पांडव करती है उन्होंने अपने प्लेटफार्म बनाया जो लेडीज सिलाई करते हैं उन्होंने अपना प्लेटफार्म सिलाई में बनाया जिन्होंने अपने ऊपर का बुलेट स्कोर पहचान दिलाने के लिए पूरी मेहनत करी वह अपने प्लेटफार्म बनाया मेरे कुछ दोस्त ऐसे हैं जो सिर्फ पांचवी क्लास पढ़े हुए हैं मिले कुछ पढ़ाई भी नहीं है आज उन्होंने ऐसा प्लेटफार्म बना रखा है पढ़कर तो भी जाएंगे तो उनके अकाउंट में पैसा आता रहेगा तो आपको भी कुछ ऐसे कुछ करना पड़ेगा और सोच बदल लो अपनी थैंक यू

haan akash sharma ji mere dost mujhe jaankar bada dukh hua aapki soch kitni choti hai maine dost aisa nahi hai ki platform ji ne banaya hai mujhe kuch kar sakte hain platform banta nahi bana banaya milta nahi banana padta hai aapke andar kya kabiliyat hai aap us kabiliyat ke hisab se apna platform bana sakte hain parlour karne wali jo ghar me pandav karti hai unhone apne platform banaya jo ladies silai karte hain unhone apna platform silai me banaya jinhone apne upar ka bullet score pehchaan dilaane ke liye puri mehnat kari vaah apne platform banaya mere kuch dost aise hain jo sirf paanchvi class padhe hue hain mile kuch padhai bhi nahi hai aaj unhone aisa platform bana rakha hai padhakar toh bhi jaenge toh unke account me paisa aata rahega toh aapko bhi kuch aise kuch karna padega aur soch badal lo apni thank you

हां आकाश शर्मा जी मेरे दोस्त मुझे जानकर बड़ा दुख हुआ आपकी सोच कितनी छोटी है मैंने दोस्त ऐस

Romanized Version
Likes  45  Dislikes    views  754
WhatsApp_icon
user

राकेश

Journalist

1:04
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह कहना गलत है कि जिसके पास कोई प्लेटफार्म नहीं है वह अपनी जिंदगी में कुछ हासिल नहीं कर सकता जहां पर लोगों के पास कुछ भी नहीं थे लेकिन उन्होंने अपनी मेहनत से अपनी कोशिश सारे मुकाम हासिल की लेकिन मैंने बहुत कोशिश बहुत मेहनत की कोशिश की सभी समस्याओं का हल निकाला और प्रयास करें और आज दुनिया में क्या आज से हर कोई उनको अच्छी तरह से जानता है बहुत बड़े नाम रहे हैं दूसरी तरफ के पद तक पहुंचे हैं यह कहना गलत है कि नहीं है वह कुछ नहीं कर सकता हर व्यक्ति कुछ ना कुछ ना कुछ आपको पहचानना होगा उनका बलिया तुमको देखना होगा कि आप क्या कर सकते हैं आपकी क्षमता क्या है अगर आप अपनी क्षमता और प्रणा के अनुसार काम करते हैं तो सफलता आपको जरूर मिलेगी

yah kehna galat hai ki jiske paas koi platform nahi hai vaah apni zindagi me kuch hasil nahi kar sakta jaha par logo ke paas kuch bhi nahi the lekin unhone apni mehnat se apni koshish saare mukam hasil ki lekin maine bahut koshish bahut mehnat ki koshish ki sabhi samasyaon ka hal nikaala aur prayas kare aur aaj duniya me kya aaj se har koi unko achi tarah se jaanta hai bahut bade naam rahe hain dusri taraf ke pad tak pahuche hain yah kehna galat hai ki nahi hai vaah kuch nahi kar sakta har vyakti kuch na kuch na kuch aapko pahachanana hoga unka baliya tumko dekhna hoga ki aap kya kar sakte hain aapki kshamta kya hai agar aap apni kshamta aur prana ke anusaar kaam karte hain toh safalta aapko zaroor milegi

यह कहना गलत है कि जिसके पास कोई प्लेटफार्म नहीं है वह अपनी जिंदगी में कुछ हासिल नहीं कर सक

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  101
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आकाश शर्मा जी यह स्पेशली में आंसर आपके लिए दे रहा हूं कि मेरे पास एक ऐसा ऑप्शन है आपके लेकर जो नेटवर्क मार्केटिंग से रिलेटेड है इसमें नोन एस मैन ऑफिस नॉनस्टॉप और इस बिजनेस के अंदर बहुत सारे लोगों ने जैसे कि आपने बताया बिना कुछ किए हुए यह तो हमारे पास चेक करें और नाम नहीं बताना चाहा किसी का काम किया उनके पास बीएमडब्ल्यू कार है और उनके अंडर 2000 लोगों की टीम उनके लिए काम कर रहे हैं तो यह पॉसिबल है अपने जैसे लिखा है कि प्लेटफार्म है यह नाम है मुझसे कांटेक्ट कीजिए मुझ से जुड़ी है मैं आपको वह ड्रीम्स दिला दूंगा जो आप सोचते हैं जो आप चाहते हैं इसी के लिए मेरा नंबर है 98601 71240 पर एक बार शर्मा जी के लिए रिपीट करता हूं आई नेट 601 712401 यू वेरी मच

akash sharma ji yah speshli me answer aapke liye de raha hoon ki mere paas ek aisa option hai aapke lekar jo network marketing se related hai isme known S man office nonstop aur is business ke andar bahut saare logo ne jaise ki aapne bataya bina kuch kiye hue yah toh hamare paas check kare aur naam nahi batana chaha kisi ka kaam kiya unke paas BMW car hai aur unke under 2000 logo ki team unke liye kaam kar rahe hain toh yah possible hai apne jaise likha hai ki platform hai yah naam hai mujhse Contact kijiye mujhse se judi hai main aapko vaah dreams dila dunga jo aap sochte hain jo aap chahte hain isi ke liye mera number hai 98601 71240 par ek baar sharma ji ke liye repeat karta hoon I net 601 712401 you very match

आकाश शर्मा जी यह स्पेशली में आंसर आपके लिए दे रहा हूं कि मेरे पास एक ऐसा ऑप्शन है आपके लेक

Romanized Version
Likes  153  Dislikes    views  2228
WhatsApp_icon
user

Harender Kumar Yadav

Career Counsellor.

2:02
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो फ्रेंड मेरा नाम आकाश शर्मा और मैं दिल्ली का रहने वाला हूं मैं आपको बताना चाहता हूं कुछ नहीं करते समय में आप यह कहना चाहेंगे प्लेटफार्म नहीं मिलता है तो यह दुर्भाग्यपूर्ण है आज बहुत सारे ऑप्शन बशर्ते सिर्फ अपने आप जाकर अगर आपस योगिता है तो फ्रीलांस कर कर सकते हो और कोई गवर्नमेंट टन में कितना प्रोग्रेस कर रहा है तो कहीं योग्यता है और हमारे अंदर विश्वास है और हम बेहतर करने की इच्छा रखते हैं तो निश्चित तौर पर हम कर सकते हैं किस तरह से सोच रहे हैं कौन से प्लेटफार्म पर और मैं आपको बता दूं कि हमारा एक स्टूडेंट थॉट और उसको हमने कहा कि बेटी तू छोड़ सब कुछ है फिर कंप्यूटर का फिर वहां से नोएडा चला गया और वहां से एनिमेशन का कोर्स किया जा कर के और जानती हो आज और टेक्नीशियन इतना जबरदस्त मन इतना एलिवेटेड कर रहा है और बहुत सारी चीजों को पब्लिश करता है और कई अच्छी मंडल इसमें कंपनी में काम कर रहा है सिर्फ कंप्यूटर में उसका टेक्नोलॉजी चलता था अब धीरे-धीरे जैसे उसके अंदर में ज्योति आने लगी तो वह हर चीजों को पकड़ नहीं लगा सकते हमें अपनी प्रतिभा के अनुसार प्लेटफार्म को पहचानने की जरूरत है अगर हम पहचान सके तो निश्चित तौर पर हमारे अंदर कोई कमी नहीं रहेगी और हम उस मंजिल तक जरूर

hello friend mera naam akash sharma aur main delhi ka rehne vala hoon main aapko batana chahta hoon kuch nahi karte samay me aap yah kehna chahenge platform nahi milta hai toh yah durbhagyapurn hai aaj bahut saare option basharte sirf apne aap jaakar agar aapas yogita hai toh frilans kar kar sakte ho aur koi government ton me kitna progress kar raha hai toh kahin yogyata hai aur hamare andar vishwas hai aur hum behtar karne ki iccha rakhte hain toh nishchit taur par hum kar sakte hain kis tarah se soch rahe hain kaun se platform par aur main aapko bata doon ki hamara ek student thought aur usko humne kaha ki beti tu chhod sab kuch hai phir computer ka phir wahan se noida chala gaya aur wahan se animation ka course kiya ja kar ke aur jaanti ho aaj aur technician itna jabardast man itna eliveted kar raha hai aur bahut saari chijon ko publish karta hai aur kai achi mandal isme company me kaam kar raha hai sirf computer me uska technology chalta tha ab dhire dhire jaise uske andar me jyoti aane lagi toh vaah har chijon ko pakad nahi laga sakte hamein apni pratibha ke anusaar platform ko pahachanne ki zarurat hai agar hum pehchaan sake toh nishchit taur par hamare andar koi kami nahi rahegi aur hum us manjil tak zaroor

हेलो फ्रेंड मेरा नाम आकाश शर्मा और मैं दिल्ली का रहने वाला हूं मैं आपको बताना चाहता हूं कु

Romanized Version
Likes  615  Dislikes    views  33821
WhatsApp_icon
user

Sanjeev Bhargava

Skill Development And Entrepreneurship Advisor

0:46
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर अपने किस जीवन में किसी चीज का ज्ञान अर्जित किया और ज्ञान अर्जित किया तो अधूरा किया वही सबसे बड़ी समस्या कि अपन कुछ नहीं कर पाते तो कोशिश जिस भी चीज का काम करें उसकी डिलीवरी नॉलेज लो साइकिल में पंचर लगाने का काम करते हो तो पंचर लगाना भी बहुत अच्छे से आना चाहिए कि लोगों को पता चल जाए कि पंचर लगाने के लिए वह आपको याद करें या उदाहरण के तौर पर कहें कि वह उसके पास जाओ वह मोटरसाइकिल एकदम एकदम आवाज सुनकर बता देता है कि कौन सी मोटरसाइकिल में क्या कमी है एक्सपर्ट है उसका तो किसी भी चीज को अच्छी तरह से एक्सपर्ट आई करके सीखो तब आपको परेशानी नहीं होगी

agar apne kis jeevan me kisi cheez ka gyaan arjit kiya aur gyaan arjit kiya toh adhura kiya wahi sabse badi samasya ki apan kuch nahi kar paate toh koshish jis bhi cheez ka kaam kare uski delivery knowledge lo cycle me puncher lagane ka kaam karte ho toh puncher lagana bhi bahut acche se aana chahiye ki logo ko pata chal jaaye ki puncher lagane ke liye vaah aapko yaad kare ya udaharan ke taur par kahein ki vaah uske paas jao vaah motorcycle ekdam ekdam awaaz sunkar bata deta hai ki kaun si motorcycle me kya kami hai expert hai uska toh kisi bhi cheez ko achi tarah se expert I karke sikho tab aapko pareshani nahi hogi

अगर अपने किस जीवन में किसी चीज का ज्ञान अर्जित किया और ज्ञान अर्जित किया तो अधूरा किया वही

Romanized Version
Likes  28  Dislikes    views  342
WhatsApp_icon
user

Anjana Baliga

Counselor

4:25
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आकाश वर्मा जी आपका बहुत-बहुत स्वागत है अगर आपको कोई गाड़ी खरीदनी है आज तो आप क्या करेंगे सबसे पहले तो गाड़ी की तस्वीरें देखना शुरु करेंगे आप कहां करेंगे कि आप गूगल में ही करेंगे कि मुझे गाड़ी खरीदनी है जब आपका तस्वीर निश्चित हो जाए कि मुझे ऐसी गाड़ी देखनी है फिर आप उस गाड़ी के बारे में जाने के लिए उस गाड़ी के फीचर्स को पड़ेंगे फिर आप क्या करेंगे फिर आप यह गाड़ी मुझे कहां मिलेगी इसके बारे में ढूंढ लेंगे फिर आप उस डीलर को ढूंढने जहां आपको यह गाड़ी मिलेगी फिर तभी तो आपकी गाड़ी खरीद पाएंगे कि सिंपल सा एक उदाहरण है इसी तरह जब आप यह कह रहे हैं कि मुझे कोई प्लेटफार्म नहीं मिला तो आप गूगल पर डालिए आप किस तरह का प्लेटफार्म चाहते हैं आज इंटरनेट आपको देने के लिए बिल्कुल सामने खड़ा है आप ढूंढ ले तो सही अगर आपको लेट लिखना है तो उसमें दुनिया में सबसे ज्यादा वेबसाइट पड़े हैं अगर आपको गाना गाना है गाना सीखना है हर चीज का जवाब आपके सामने आपके टेलीफोन के सामने हैं तो आ प्लेटफार्म मांग रहे हैं प्लेटफार्म तो इतने हैं आप कर्म को करने वाली है तो बनी है कर्म आपके ऊपर है क्या आप क्या प्लेटफार्म यूज कर रहे हैं और क्या बनना चाहते हैं जैसे मैंने यह वह पर प्लेटफॉर्म जूस किया और मैं रोज नीचे नहीं जवाब दे रही हूं और मैं कंसिस्टेंट हूं मतलब हर रोज हो सके तो पाठ जवाब कुछ ना कुछ तो कर रही हूं इसीलिए जो प्लेटफार्म आप जुड़ना चाहते हैं वह गूगल है गूगल से प्लेटफार्म मांगी वह आपको जरूर देगा और जिस तरह का प्लेटफार्म चाहिए वह आपको बनाना पड़ेगा आपको इस इंटरनेट की दुनिया में आप की जगह खुद बनानी पड़ेगी चाहे आप वीडियो बनाने वाली क्यों ना हो एक वीडियो से थोड़ी काम होगा आपको रोज एक वीडियो पोस्ट करनी पड़ेगी जो खाना बनाने की वीडियो बनाता है वह रोज एक वीडियो पोस्ट करता है इसका मतलब तभी तो वह चैनल आगे चलता है तो प्लेटफार्म बनाने के लिए गुरु मंत्र है रोज-रोज उस पर बिल्कुल स्टैंड होना मतलब रोज कर्म करना है आपको कुछ इस तरह पैसे कर ले पैसे कमाने के लिए हम बाहर जाकर पैसे कमाने के लिए नौकरी करते हैं तो इंटरनेट भी एक पैसे कमाने वाली मशीन ही है इसमें भी कर्म आपको रोज करना पड़ेगा अगर आप रोज नहीं कर्म कर सकते तो इंटरनेट आपको कभी भी पैसा नहीं देगा इसका मैं आपका यूट्यूब चैनल जब फेमस हो जाएगा बहुत सारे युवर होंगे उसमें तभी तो आपको पैसा आएगा तो पैसा रोज आने के लिए कंसिस्टेंट होना पड़ेगा कि कुछ महीने बाद भी हो सकता है कुछ साल भी लग सकते हैं तो ऐसे जवाब की किताब लिखते हो तो तुरंत हो थोड़ी बुक कर आपको पैसा मिलेगा जब उसकी संख्या बढ़ेगी तभी तो आपको पैसा आएगा या तो कोई कला सीखी है इंटरनेट से कम पैसों में आजकल उडमी में बहुत सारे कोर्स है 500 ₹500 ₹300 आजकल तो लॉक डाउन है आप स्टैटकॉम को ढूंढ लेंगे उडमी और टीचेबल जैसे इंस्टिट्यूशन जो आपको कम पैसों में वीडियो के द्वारा कोर्स भेजते हैं उनको औरतों को देखकर उसको उसको सीखिए चाहे वह वीडियो वाला हो जो एडिटिंग का कोर्स हो जाए ग्राफिक डिजाइन बहुत सारे ऐसी चीज है जिसको आप को ढूंढना है ढूंढने की जरूरत है बस गूगल में वह सब डालिए ढूंढिए आपको जरूर मिलेगा वह प्लैटफॉर्म जो आप चाहते हैं बस आपको थोड़ा सा पैसा खर्च करके उसको सीखना और पीछे एक अच्छे उससे तो आप गूगल में नहीं डाल सकते इस चीज को मैं कहां से सीख हूं तो वह गूगल ही आपको बता देगा कि इसको सीखने के लिए क्या हम और आजकल तो गूगल असिस्टेंट के द्वारा आफ वाइफ से भी इस चीज का पता लगा सकते हैं अगर आपको लिखना या टाइप करना नहीं आता तो प्लेटफार्म तो बहुत है आपको ढूंढने की जरूरत है उडमी है टीचेबल है ऐसे बहुत सारे प्लेटफार्म पर सिखाते हैं आपको यह पोस्ट दिखाते हैं हम तो किसी पढ़े लिखे व्यक्ति से आप इनकी पेमेंट करवा कर आप के कोर्स सीख कर आगे बढ़ सकते हैं जीवन में थैंक्यू

akash verma ji aapka bahut bahut swaagat hai agar aapko koi gaadi kharidani hai aaj toh aap kya karenge sabse pehle toh gaadi ki tasveeren dekhna shuru karenge aap kaha karenge ki aap google me hi karenge ki mujhe gaadi kharidani hai jab aapka tasveer nishchit ho jaaye ki mujhe aisi gaadi dekhni hai phir aap us gaadi ke bare me jaane ke liye us gaadi ke features ko padenge phir aap kya karenge phir aap yah gaadi mujhe kaha milegi iske bare me dhundh lenge phir aap us dealer ko dhundhne jaha aapko yah gaadi milegi phir tabhi toh aapki gaadi kharid payenge ki simple sa ek udaharan hai isi tarah jab aap yah keh rahe hain ki mujhe koi platform nahi mila toh aap google par daaliye aap kis tarah ka platform chahte hain aaj internet aapko dene ke liye bilkul saamne khada hai aap dhundh le toh sahi agar aapko late likhna hai toh usme duniya me sabse zyada website pade hain agar aapko gaana gaana hai gaana sikhna hai har cheez ka jawab aapke saamne aapke telephone ke saamne hain toh aa platform maang rahe hain platform toh itne hain aap karm ko karne wali hai toh bani hai karm aapke upar hai kya aap kya platform use kar rahe hain aur kya banna chahte hain jaise maine yah vaah par platform juice kiya aur main roj niche nahi jawab de rahi hoon aur main kansistent hoon matlab har roj ho sake toh path jawab kuch na kuch toh kar rahi hoon isliye jo platform aap judna chahte hain vaah google hai google se platform maangi vaah aapko zaroor dega aur jis tarah ka platform chahiye vaah aapko banana padega aapko is internet ki duniya me aap ki jagah khud banani padegi chahen aap video banane wali kyon na ho ek video se thodi kaam hoga aapko roj ek video post karni padegi jo khana banane ki video banata hai vaah roj ek video post karta hai iska matlab tabhi toh vaah channel aage chalta hai toh platform banane ke liye guru mantra hai roj roj us par bilkul stand hona matlab roj karm karna hai aapko kuch is tarah paise kar le paise kamane ke liye hum bahar jaakar paise kamane ke liye naukri karte hain toh internet bhi ek paise kamane wali machine hi hai isme bhi karm aapko roj karna padega agar aap roj nahi karm kar sakte toh internet aapko kabhi bhi paisa nahi dega iska main aapka youtube channel jab famous ho jaega bahut saare yuvar honge usme tabhi toh aapko paisa aayega toh paisa roj aane ke liye kansistent hona padega ki kuch mahine baad bhi ho sakta hai kuch saal bhi lag sakte hain toh aise jawab ki kitab likhte ho toh turant ho thodi book kar aapko paisa milega jab uski sankhya badhegi tabhi toh aapko paisa aayega ya toh koi kala sikhi hai internet se kam paison me aajkal udami me bahut saare course hai 500 Rs Rs aajkal toh lock down hai aap staitakam ko dhundh lenge udami aur tichebal jaise instityushan jo aapko kam paison me video ke dwara course bhejate hain unko auraton ko dekhkar usko usko sikhiye chahen vaah video vala ho jo editing ka course ho jaaye graphic design bahut saare aisi cheez hai jisko aap ko dhundhana hai dhundhne ki zarurat hai bus google me vaah sab daaliye dhundhiye aapko zaroor milega vaah plaitafarm jo aap chahte hain bus aapko thoda sa paisa kharch karke usko sikhna aur peeche ek acche usse toh aap google me nahi daal sakte is cheez ko main kaha se seekh hoon toh vaah google hi aapko bata dega ki isko sikhne ke liye kya hum aur aajkal toh google assistant ke dwara of wife se bhi is cheez ka pata laga sakte hain agar aapko likhna ya type karna nahi aata toh platform toh bahut hai aapko dhundhne ki zarurat hai udami hai tichebal hai aise bahut saare platform par sikhaate hain aapko yah post dikhate hain hum toh kisi padhe likhe vyakti se aap inki payment karva kar aap ke course seekh kar aage badh sakte hain jeevan me thainkyu

आकाश वर्मा जी आपका बहुत-बहुत स्वागत है अगर आपको कोई गाड़ी खरीदनी है आज तो आप क्या करेंगे स

Romanized Version
Likes  347  Dislikes    views  4121
WhatsApp_icon
user

Pankaj Vasuja

Cinematographer

1:13
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

वेलकम मैडम का सुमन दिल्ली का रहने वाला हूं भाई साहब आज का जमाना है अगर आप कुछ करना चाहो ना मन से कुछ करना चाहो तो घर बैठे भी कर सकते हो ऐसा इंटरनेट का युग चल रहा है कि आप अगर आपमें टैलेंट है ना तो आप घर बैठे भी कमा सकते उनके मन में कोई आदमी यह नहीं कर सकता मैं यह काम करना चाहता हूं और मेरे को प्लेटफार्म नहीं मिल रहा धक्के खाकर छोटा प्लेटफार्म तो मिलता ही मिलता है उसके बाद बड़ा मिल जाते अगर इंसान की मेहनत पर झूठ मत बोलिए मिलाई यह बात मानने वाली कोई इंसान किसी चीज के ऊपर सच्चे दिल से मेहनत करता हूं उसको मिलती नहीं शाहरुख खान का डायलॉग नहीं आना राम राम संदीप

welcome madam ka suman delhi ka rehne vala hoon bhai saheb aaj ka jamana hai agar aap kuch karna chaho na man se kuch karna chaho toh ghar baithe bhi kar sakte ho aisa internet ka yug chal raha hai ki aap agar apamen talent hai na toh aap ghar baithe bhi kama sakte unke man me koi aadmi yah nahi kar sakta main yah kaam karna chahta hoon aur mere ko platform nahi mil raha dhakke khakar chota platform toh milta hi milta hai uske baad bada mil jaate agar insaan ki mehnat par jhuth mat bolie milai yah baat manne wali koi insaan kisi cheez ke upar sacche dil se mehnat karta hoon usko milti nahi shahrukh khan ka dialogue nahi aana ram ram sandeep

वेलकम मैडम का सुमन दिल्ली का रहने वाला हूं भाई साहब आज का जमाना है अगर आप कुछ करना चाहो ना

Romanized Version
Likes  279  Dislikes    views  2422
WhatsApp_icon
user

Gopal Srivastava

Acupressure Acupuncture Sujok Therapist

2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

विकास शर्मा जो कुछ अब बात नहीं किया ना आपने इन लोगों को प्लेटफार्म नहीं होता एक फॉर्म खुद बनाना होता है प्लेटफॉर्म कोई बना बनाया नहीं आता मावा पड़ा दिखा देते हैं उसके बाद आपको नौकरी ढूंढनी होती है आपका किस चीज में इंटरेस्ट है किस चीज में जो जान है क्या काम करना चाहते हैं कि आपको पता होता है उसी काम को जिसमें आपका रुझान है उसको आप करिए मैंने बहुत पढ़े-लिखे आदमी देखे हैं जिनको अपनी अहमियत को देखकर अपने भाई को देखे काम करने में शर्म आती है और ऐसे ऐसे लोग भी देखे हैं तो पढ़े लिखे हैं और वह ऐसे काम कर रहे हैं जिससे वह हजारों पर रोज कमा रहे हैं दिल्ली में है मैं अभी दिल्ली में हूं बैटरी रिक्शा वाले से मिला था मैं बिहार से आया हुआ था उसे m.a. कर रखा था फर्स्ट क्लास इंग्लिश बोल रहा था और उम्र 34 साल थी कि चौथे साल में यह राजा था जब मैं वहां रहता है मां बाप का पैसा अच्छा था जब बाप मर गया तो उसके पैसे खर्च करता करता करता था जिन पैसा ब्लू समझ गया क्या करूं और बीजेपी सरकारी नौकरी मिल नहीं रही थी काम कोई मैंने सीखा नहीं था एक दोस्त भी आ जा यहां पर चलाना शुरु कर दे यहां 1 साल से दिल्ली में हूं कि रिक्शा बाजार से 1213 ₹100 रोज का मारा हूं मैंने कैसा लगता है आपको ज्यादा खुशी कम पर पैसा तो कुछ देर में आ रहा है ना ₹30000 महीना मेरा खर्चा निकल रहा है पूरा परिवार चल रहा है गांव से मां बाप ला दिया बच्चों को बुलाकर सभी जा रहे हैं हमको जो करना चाहे तो आगे बहुत कुछ कर सकता है ऐसा नहीं है

vikas sharma jo kuch ab baat nahi kiya na aapne in logo ko platform nahi hota ek form khud banana hota hai platform koi bana banaya nahi aata mava pada dikha dete hain uske baad aapko naukri dhundni hoti hai aapka kis cheez me interest hai kis cheez me jo jaan hai kya kaam karna chahte hain ki aapko pata hota hai usi kaam ko jisme aapka rujhan hai usko aap kariye maine bahut padhe likhe aadmi dekhe hain jinako apni ahamiyat ko dekhkar apne bhai ko dekhe kaam karne me sharm aati hai aur aise aise log bhi dekhe hain toh padhe likhe hain aur vaah aise kaam kar rahe hain jisse vaah hazaro par roj kama rahe hain delhi me hai main abhi delhi me hoon battery riksha waale se mila tha main bihar se aaya hua tha use m a kar rakha tha first class english bol raha tha aur umar 34 saal thi ki chauthe saal me yah raja tha jab main wahan rehta hai maa baap ka paisa accha tha jab baap mar gaya toh uske paise kharch karta karta karta tha jin paisa blue samajh gaya kya karu aur bjp sarkari naukri mil nahi rahi thi kaam koi maine seekha nahi tha ek dost bhi aa ja yahan par chalana shuru kar de yahan 1 saal se delhi me hoon ki riksha bazaar se 1213 Rs roj ka mara hoon maine kaisa lagta hai aapko zyada khushi kam par paisa toh kuch der me aa raha hai na Rs mahina mera kharcha nikal raha hai pura parivar chal raha hai gaon se maa baap la diya baccho ko bulakar sabhi ja rahe hain hamko jo karna chahen toh aage bahut kuch kar sakta hai aisa nahi hai

विकास शर्मा जो कुछ अब बात नहीं किया ना आपने इन लोगों को प्लेटफार्म नहीं होता एक फॉर्म खुद

Romanized Version
Likes  113  Dislikes    views  2607
WhatsApp_icon
user

Rahul Jangra

Health and Fitness Expert, Yoga Teacher

1:55
Play

Likes  308  Dislikes    views  4338
WhatsApp_icon
user

Anil Ramola

Yoga Instructor | Engineer

0:44
Play

Likes  501  Dislikes    views  4403
WhatsApp_icon
user

Dr. Mitramahesh

Ayurvedic Doctors

9:43
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैं अमेरिका का राष्ट्रपति ट्रंप बनना चाहता हूं कैसे बनूंगा मैं भारत का प्रधानमंत्री नरेंद्र दामोदरदास मोदी बनना चाहता हूं कैसे बनूंगा मैं टाटा बिरला बनना चाहता हूं कैसे बनूंगा मैं कुछ नहीं बनना चाहता हूं कैसे बनूंगा यह प्रश्न मेरे मन में क्यों आया आपके मन में क्यों आया व्यक्ति समाज को देख करके कुछ पढ़ने की बात सोचता है बचपन से भी माता-पिता यह करते हैं कि आप लोग कुछ अच्छा अच्छा व्यक्ति बिजनेस समाज व्यवस्था अभी और 39 और 51 के निर्देशन में है कि बंद है वह अच्छा ही है और 49 वह बुराई है गुजरात के एक बहुत अच्छे संत स्वामी सच्चिदानंद जी थे उन्होंने नाबाद नेपाल बीएफ था और मैं भी वह प्रवचन सुनने के लिए लिखा था उन्होंने बताया कि समाज की जो डिस्टर्ब व्यवस्था है वह 49% के और समाज की जो अच्छी व्यवस्था है वह 51% एक मात्र दो ही परसेंटेज का फल के बराबर हो जाए तो भी कुछ और लड़ाई होगी और यदि 1 पॉइंट कम हो गया तो 1 पॉइंट बढ़ गया तो बुरे लोगों का वर्चस्व हो जाएगा आपने यह जो कपड़ा और चड्डी पहनी है वह भी हमारे सभी पढ़ नहीं रही को कम को लूट कर के ले जाएंगे तो समझ में बसता की अच्छी है जिसके कारण आप कुछ अच्छा सोचने की क्षमता रखते हैं और अच्छा सोचना भी चाहिए गुजराती और दूसरी हिंदी और अन्य भाषाओं के अंदर कहावत है बहुत ही बुद्धिशाली लोगों की एक होते समय के अनुसार बन जाती है बना ली जाती है और मैं कहूंगा कि बन जाती है और बंटी भी इसीलिए है कि लोग सोचते हैं कि भाई अच्छा है तो उसको भगवान अच्छा देगा और बुरा है उसको भगवानपुरा देगा अच्छे उसका मैप वर्गीकरण ऐसा करूंगा कि जो अच्छा है उसको अच्छे लोग मिल जाते हैं बुरे हैं उसको बुरे लोग मिल जाते हैं परंतु एक भी रोक गाड़ी 2:00 बजे होना यह चाहिए कि सृष्टि के अंदर जो लोग शक्ति विहीन है जिनके अंदर एक परसेंट भी शक्ति नहीं है ऐसे लोगों को विचारों से अवसर दो से और सामाजिक अच्छी संगति से उनको बलवान और अच्छा बनाना चाहिए यह नहीं है कि बहुत डिस्टर्ब हो गए खराब है वह हमेशा खराब बनेगा अच्छा नहीं होगा उसने कोई अच्छी विच विचार सैनी नहीं आएगी वह हमेशा बुरा का बुरा रहेगा यह सूचना एक बहुत ही गलत सिस्टम है और यह गलत सिस्टम हजारों साल की जो पौराणिक और संप्रदाय के विपरीत विचार धाराएं हैं जिसको हम लोग क्रिश्चियनिटी मुस्लिम और पौराणिक हिंदू यह बोल सकते हैं उनके अनुसार सारी लाइट सिस्टम बिगड़ी हुई है ऋषि दयानंद वेद थे उन्होंने एक बहुत बढ़िया हिंदी शब्द का सृजन किया है कुर्बानी की रानी और पुरानी उन्होंने इतिहास के तौर पर बोला कि पुरानी है वह भी मूर्खता की लाइन पर है कि रानी मतलब जो क्रिश्चियनिटी वाले हैं वह भी रॉन्ग सिस्टम से है और पुरानी जो पुराने वाले मुस्लिम में वह भी रहूं सिस्टम पर थे उन्होंने हिंदी भाषा में इसको उन्होंने आर्यभट्ट का नाम दिया था वह हिंदी भाषा के अंदर उन्होंने सत्यार्थ प्रकाश नाम का ग्रंथ लिखा और ग्रंथ का पहला एडिशन टो छपार तो उसमें उस समय के जो प्रूफ्रीडर और लैंग्वेज को देखने वाले लोग थे उन्होंने पूरे पुस्तक मेरे खुद के सारे सिद्धांतों को ट्रांसफर करवा दिया उनकी जो जो मान्यता है कि वह मान्यता वह पुस्तक के अंदर होने वाले रोग लगा दी और वह भी तो टाइप सेटिंग करने वाले को अपनी-अपनी मान्यता है जोड़ी जब पुस्तक के प्रकट हुआ और वह हाथों बिक गया पूरे इंडिया के अंदर तो बड़ा हुआ तो हुआ स्वामी दयानंद सरस्वती के ध्यान में लाया गया कि गोस्वामी जी आपने जो बोला है उससे उल्टी सीधी बातें यह तो अंदर लिखी गई है आपने बोला है कि फलित ज्योतिष को मत मानो तो एकदम फलित ज्योतिष की बात कर रहे थे कि बर्बाद पहुंचे कोई अवतार नहीं होते तो यहां उतार बात का समर्थन किया है आप करते हैं कि कोई यह जो गिफ्ट करने वाले कुरान बाइबिल और विशेष तीसरे ग्रैंड से उसको भी उनके अच्छे अच्छे दिन आ गए हैं आपकी सारी मान्यताएं उल्टी-सीधी इन लोगों ने कर दिया करेंगे प्रेम विश्व के घर में इतिहास में या विश्व के कार्यों में निकल रहे हिस्ट्री के अंदर ही पहला उदाहरण है कि स्वामी दयानंद सरस्वती जो वेदों के भाषण करते थे और भविष्य करने वालों को महर्षि शब्द से विभूषित करते हैं तो महर्षि दयानंद ने अपना धर्म पुस्तक सत्य प्रकाश था और सत्य प्रकाश को उन्होंने कैंसिल कर दिया और फिर उन्होंने मूवी उसको सुधार करके उसका सेकंड एडिशन सफाया और फिर उन्होंने सुझाव दिया कि भाई यह कुछ लोगों ने यह मेरे पुस्तक के अंदर जबरदस्त है उल्टा पुल्टा कर दिया और मेरी जो शक्तिमान जीता है वह भी झूठ के रास्ते पर लगा दी उन्होंने क्योंकि उनको तो ऐसी झूठी मान्यता यह भी उन लोगों को उन लोगों की सारी झूठी बातें मेरे धर्म ग्रंथ में जोड़ दी और मेरे धर्म ग्रंथि में चैनल और नया धर्म ग्रंथ में राजू छुपाया दरियाई दूल्हा जी का सर्वश्रेष्ठ भूखे हो सकता है प्रकाश से उन्होंने बताया और उसका सेकंड एडिशन था तो दुनिया के विश्व के इतिहास में पहली ऐसी घटना हुई थी कि किसी व्यक्ति ने अपना बनाया धर्म ग्रंथ कैंसिल किया हो तो आज के युग के अंदर भी इसी प्रकार के विचार विचार चलते हैं यह दिल्ली के आकाश शर्मा जी भाई ने जो बातें बताई है कि मैं यह करना चाहता हूं वह करना चाहता हूं तो करने के लिए आपको आयुर्वेद विज्ञान के अनुसार अपने जीवन को शुद्ध पवित्र और समर से साली बनाना होगा आपको ऋग्वेद का जो मंत्र है कृण्वंतो विश्वमार्यम् दो सारे संसार को श्रेष्ठ आर्य बनाओ आदि साम्राज्य वाले बनाओ और जो लोग गिफ्ट है उनका सुधार करो और दूसरे सुधारते हैं नहीं सुधारते हैं 24 को सुधारो उनको सही मार्ग पर लगाओ और जो बुराइयों की जो मनोवृति है उसका नाश करो और बुराइयों की मनोवृति के मानने वाले जो भड़के स्कॉर्पियो विचारधारा का नाश करके उनको 6 में निकालो यह मैंने उसकी आलोचना और विवेचना की है वह मंत्र की परंतु वह मंत्र का तो सीधा हर्षिता हो ऐसा होता है कि सारे विश्व को आर्य वरना वह जो आता ही अत्याचार करने वाले जोत राष्ट्रवादी है जो जेहादी है जो जस्टिस वाले हैं उन लोगों को बीन बीन कट कट कट कट करके उनका अस्तित्व ही समाप्त कर दो विद की भाषा में तो ऐसा हुआ उसका अनुभव देता है आप क्या कहेंगे हम और आप क्या कहेंगे नहीं कहेंगे आपके विचार में कुछ आप मुसलमान होंगे तो अभी कुछ मार्केट करने की बात करेंगे कुछ पाकर पोस्ट कार्यवाही करने की बात करेंगे परंतु वास्तविकता यह है कि जेहाद और जसोई और अत्याचार अभी कांग्रेस पार्टी के लेनिन ने 5 10 से 15 20 करोड़ लोगों को मार दिया था जिसको रशियन पर मिनिस्टर की भाषा में बोला जाता है तो यह इस्लाम क्रिश्चियनिटी कम्युनिज्म के सारे इसी लाइन पर है और वेदों की जो विचारधारा है वह विचारधारा से ही यह लोगों की मृत्यु टीचर बन गए थे और उनसे भी कुछ विचार और सही बात यह है कि जो वैज्ञानिक विचारधारा है उन लोगों को अच्छा एजुकेशन दो अच्छी सामाजिक सिस्टम दो और इसके द्वारा उनके जीवन के अंदर परिवर्तन लाइए मारकाट करने से कुछ होने वाला नहीं होगा आप लोग उनके विचारों को बदलिए और विचारों को भी बदलने के लिए बहुत ही सशस्त्र संग्राम करना पड़ता है बहुत ही जबरदस्त आईडियोलॉजी को खिलाना पड़ता है तभी यह सारी बातें होगी थी और तभी आकाश शर्मा कोई भी मोदी जैसे भी बन सकते हैं क्रम जैसे भी बन सकते हैं और हमारे जैसे भी बन सकते हैं आप लोग आर्य समाज आयुर्वेद hospitals.com हमारी वेबसाइट में हमारे जो वीडियो है उसको आप लोग देखिए सुनने और आपके जीवन का एक बहुत बड़ा विक्रांता और ज्ञान का मार्ग खुल एक आप लोग असाध्य प्राण घातक रोगों से बच सकेंगे और अच्छे अच्छे विचार के लिए अच्छी पंकज चाहिए अच्छा संगठन चाहिए आप हमारे पास आइए तुरंत चाहिए हमारा संपर्क करिए धन्यवाद

main america ka rashtrapati trump banna chahta hoon kaise banunga main bharat ka pradhanmantri narendra Damodardas modi banna chahta hoon kaise banunga main tata birala banna chahta hoon kaise banunga main kuch nahi banna chahta hoon kaise banunga yah prashna mere man me kyon aaya aapke man me kyon aaya vyakti samaj ko dekh karke kuch padhne ki baat sochta hai bachpan se bhi mata pita yah karte hain ki aap log kuch accha accha vyakti business samaj vyavastha abhi aur 39 aur 51 ke nirdeshan me hai ki band hai vaah accha hi hai aur 49 vaah burayi hai gujarat ke ek bahut acche sant swami sacchidanand ji the unhone nabad nepal bf tha aur main bhi vaah pravachan sunne ke liye likha tha unhone bataya ki samaj ki jo disturb vyavastha hai vaah 49 ke aur samaj ki jo achi vyavastha hai vaah 51 ek matra do hi percentage ka fal ke barabar ho jaaye toh bhi kuch aur ladai hogi aur yadi 1 point kam ho gaya toh 1 point badh gaya toh bure logo ka varchaswa ho jaega aapne yah jo kapda aur chaddee pahani hai vaah bhi hamare sabhi padh nahi rahi ko kam ko loot kar ke le jaenge toh samajh me basta ki achi hai jiske karan aap kuch accha sochne ki kshamta rakhte hain aur accha sochna bhi chahiye gujarati aur dusri hindi aur anya bhashaon ke andar kahaavat hai bahut hi buddhishali logo ki ek hote samay ke anusaar ban jaati hai bana li jaati hai aur main kahunga ki ban jaati hai aur bunty bhi isliye hai ki log sochte hain ki bhai accha hai toh usko bhagwan accha dega aur bura hai usko bhagwanpura dega acche uska map vargikaran aisa karunga ki jo accha hai usko acche log mil jaate hain bure hain usko bure log mil jaate hain parantu ek bhi rok gaadi 2 00 baje hona yah chahiye ki shrishti ke andar jo log shakti vihin hai jinke andar ek percent bhi shakti nahi hai aise logo ko vicharon se avsar do se aur samajik achi sangati se unko balwan aur accha banana chahiye yah nahi hai ki bahut disturb ho gaye kharab hai vaah hamesha kharab banega accha nahi hoga usne koi achi which vichar saini nahi aayegi vaah hamesha bura ka bura rahega yah soochna ek bahut hi galat system hai aur yah galat system hazaro saal ki jo pouranik aur sampraday ke viprit vichar dharayen hain jisko hum log krishchiyaniti muslim aur pouranik hindu yah bol sakte hain unke anusaar saari light system bigadi hui hai rishi dayanand ved the unhone ek bahut badhiya hindi shabd ka srijan kiya hai kurbani ki rani aur purani unhone itihas ke taur par bola ki purani hai vaah bhi murkhta ki line par hai ki rani matlab jo krishchiyaniti waale hain vaah bhi wrong system se hai aur purani jo purane waale muslim me vaah bhi rahun system par the unhone hindi bhasha me isko unhone aryabhatta ka naam diya tha vaah hindi bhasha ke andar unhone satyarth prakash naam ka granth likha aur granth ka pehla edition toe chapar toh usme us samay ke jo prufridar aur language ko dekhne waale log the unhone poore pustak mere khud ke saare siddhanto ko transfer karva diya unki jo jo manyata hai ki vaah manyata vaah pustak ke andar hone waale rog laga di aur vaah bhi toh type setting karne waale ko apni apni manyata hai jodi jab pustak ke prakat hua aur vaah hathon bik gaya poore india ke andar toh bada hua toh hua swami dayanand saraswati ke dhyan me laya gaya ki goswami ji aapne jo bola hai usse ulti seedhi batein yah toh andar likhi gayi hai aapne bola hai ki falit jyotish ko mat maano toh ekdam falit jyotish ki baat kar rahe the ki barbad pahuche koi avatar nahi hote toh yahan utar baat ka samarthan kiya hai aap karte hain ki koi yah jo gift karne waale quraan bible aur vishesh teesre grand se usko bhi unke acche acche din aa gaye hain aapki saari manyatae ulti seedhi in logo ne kar diya karenge prem vishwa ke ghar me itihas me ya vishwa ke karyo me nikal rahe history ke andar hi pehla udaharan hai ki swami dayanand saraswati jo vedo ke bhashan karte the aur bhavishya karne walon ko maharshi shabd se vibhushit karte hain toh maharshi dayanand ne apna dharm pustak satya prakash tha aur satya prakash ko unhone cancel kar diya aur phir unhone movie usko sudhaar karke uska second edition safaya aur phir unhone sujhaav diya ki bhai yah kuch logo ne yah mere pustak ke andar jabardast hai ulta pulta kar diya aur meri jo shaktiman jita hai vaah bhi jhuth ke raste par laga di unhone kyonki unko toh aisi jhuthi manyata yah bhi un logo ko un logo ki saari jhuthi batein mere dharm granth me jod di aur mere dharm granthi me channel aur naya dharm granth me raju chupaya dariyai dulha ji ka sarvashreshtha bhukhe ho sakta hai prakash se unhone bataya aur uska second edition tha toh duniya ke vishwa ke itihas me pehli aisi ghatna hui thi ki kisi vyakti ne apna banaya dharm granth cancel kiya ho toh aaj ke yug ke andar bhi isi prakar ke vichar vichar chalte hain yah delhi ke akash sharma ji bhai ne jo batein batai hai ki main yah karna chahta hoon vaah karna chahta hoon toh karne ke liye aapko ayurveda vigyan ke anusaar apne jeevan ko shudh pavitra aur summer se saali banana hoga aapko rigved ka jo mantra hai krinwanto vishwamaryam do saare sansar ko shreshtha arya banao aadi samrajya waale banao aur jo log gift hai unka sudhaar karo aur dusre sudharte hain nahi sudharte hain 24 ko sudharo unko sahi marg par lagao aur jo buraiyon ki jo manovriti hai uska naash karo aur buraiyon ki manovriti ke manne waale jo bhadake scorpio vichardhara ka naash karke unko 6 me nikalo yah maine uski aalochana aur vivechna ki hai vaah mantra ki parantu vaah mantra ka toh seedha harshita ho aisa hota hai ki saare vishwa ko arya varna vaah jo aata hi atyachar karne waale jot rashtrawadi hai jo jehadi hai jo justice waale hain un logo ko bin bin cut cut cut cut karke unka astitva hi samapt kar do with ki bhasha me toh aisa hua uska anubhav deta hai aap kya kahenge hum aur aap kya kahenge nahi kahenge aapke vichar me kuch aap musalman honge toh abhi kuch market karne ki baat karenge kuch pakar post karyavahi karne ki baat karenge parantu vastavikta yah hai ki jihad aur jasoi aur atyachar abhi congress party ke lenin ne 5 10 se 15 20 crore logo ko maar diya tha jisko russian par minister ki bhasha me bola jata hai toh yah islam krishchiyaniti Communism ke saare isi line par hai aur vedo ki jo vichardhara hai vaah vichardhara se hi yah logo ki mrityu teacher ban gaye the aur unse bhi kuch vichar aur sahi baat yah hai ki jo vaigyanik vichardhara hai un logo ko accha education do achi samajik system do aur iske dwara unke jeevan ke andar parivartan laiye maar kaat karne se kuch hone vala nahi hoga aap log unke vicharon ko badaliye aur vicharon ko bhi badalne ke liye bahut hi sashastra sangram karna padta hai bahut hi jabardast aidiyolaji ko khilana padta hai tabhi yah saari batein hogi thi aur tabhi akash sharma koi bhi modi jaise bhi ban sakte hain kram jaise bhi ban sakte hain aur hamare jaise bhi ban sakte hain aap log arya samaj ayurveda hospitals com hamari website me hamare jo video hai usko aap log dekhiye sunne aur aapke jeevan ka ek bahut bada vikranta aur gyaan ka marg khul ek aap log asadhya praan ghatak rogo se bach sakenge aur acche acche vichar ke liye achi pankaj chahiye accha sangathan chahiye aap hamare paas aaiye turant chahiye hamara sampark kariye dhanyavad

मैं अमेरिका का राष्ट्रपति ट्रंप बनना चाहता हूं कैसे बनूंगा मैं भारत का प्रधानमंत्री नरेंद्

Romanized Version
Likes  162  Dislikes    views  1600
WhatsApp_icon
user

Vikas Singh

Political Analyst

3:28
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखे आकाश शर्मा जी मैं आपको बता देना चाहता हूं लोगों के पास आज के टाइम में बहुत प्लेटफार्म है जहां पर वह अच्छा परफॉर्म कर के अच्छे पोजीशन पर पहुंच सकते हैं कोई जरूरी नहीं है कि आप गवर्नमेंट जॉब निकालेंगे तभी आप सक्सेसफुल कह जाएंगे अगर आप एक अच्छे यूट्यूब पर बन सकते हैं तो बनिए लाखों रुपया रनिंग वहां से करिए पापुलर टीवी मिलेगी आपको आज के डेट में ट्वेल्थ पास आउट इन दो यूट्यूब पर ऐसे हैं जिन्हें आईआईटी कॉलेज मोटिवेशन के लिए बुलाता है और वह ट्वेल्थ पास आउट बंदा आईआईटी के बच्चों को मोटिवेट करता है तो क्या आप इसे सफलता नहीं मानेंगे आज की डेट में आप प्राइवेट सेक्टर में बहुत आगे बढ़ सकते हैं आईटी सेक्टर आगे बढ़ सकते हैं इंजीनियरिंग क्षेत्र में भी आगे बढ़ सकते हैं आप ट्यूशन पढ़ा के बहुत बड़े कोचिंग सेंटर के मालिक बन सकते हैं मेडजी कभी शुरू हुआ होगा बहुत कम बच्चे पढ़ते होंगे हाथ के डेट में कितनी बड़ी संस्थान है उसके बारे में बताने की जरूरत नहीं है तो शुरुआत कहीं न कहीं से करनी होगी बैंक में अगर आप जाना चाहते हो तो बैंक में जाइए कैरियर बनाइए बिजनेस करना चाहते हैं तो बिजनेस में कैरियर बनाइए आप जिस फिल्म में इंटरेस्ट लेते हो उस फील्ड में आप कैरियर बना सकते हैं अपनी योग्यता के आधार पर अपने टैलेंट के आधार पर अगर आपके पास बहुत अच्छी योग्यता नहीं है टैलेंट है तो बहुत सारी वेबसाइट ऐसी है जिस पर आप काम करके बहुत आगे बढ़ सकते हो यूट्यूब अमीर गरीब सभी लोग देख रहे हैं यूट्यूब पर अपने परफॉर्मेंस का वीडियो अपलोड करिए आप के फॉलोअर्स बढ़ेंगे आपका चैनल मोनीटाइज होगा हेडफोन होगा तो आपको अर्निंग होगी गवर्नमेंट जॉब से भी बहुत ज्यादा प्राइवेट जॉब वाली सफल होते हैं प्राइवेट जॉब में जो बंदा अच्छी पोजीशन पर पहुंचता है उसकी सैलरी कितनी होती है कि गवर्नमेंट जॉब वाला अगर 4 साल कम आएगा तब जाकर उतना कम आप आएगा तो सफल होने के लिए हमें चूत करना चाहिए कि हमें क्या करना है क्यों करना है कैसे करना है यह सारे प्रश्न हमें खुद से पूछना चाहिए खुद से जवाब प्रश्न पूछोगे तो हो सकता है कि आप उसका जवाब कुत्ते ना दे पाऊं तो फिर आप किसी बुद्धिजीवी से पूछिए फिर किसी दूसरे बुद्धिजीवी से पूछिए 34 बंद ऐसे मिलेंगे जो आपको अलग-अलग राय देंगे फिर आप उस राह पर विचार विचार विमर्श करिए फिर आपको पता चल जाएगा कि नहीं यार मुझे यह करना चाहिए और ही मेरा फाइनल डिसीजन है और इसे मैं करके रहूंगा फिर जब आप अपने लक्ष्य के पीछे दौड़ने भागने लगोगे ईमानदारी से मेहनत करके तो आपको लक्ष्य हासिल होगा और आप सफल बनोगे धन्यवाद

dekhe akash sharma ji main aapko bata dena chahta hoon logo ke paas aaj ke time me bahut platform hai jaha par vaah accha perform kar ke acche position par pohch sakte hain koi zaroori nahi hai ki aap government job nikalenge tabhi aap successful keh jaenge agar aap ek acche youtube par ban sakte hain toh baniye laakhon rupya running wahan se kariye papular TV milegi aapko aaj ke date me twelfth paas out in do youtube par aise hain jinhen IIT college motivation ke liye bulata hai aur vaah twelfth paas out banda IIT ke baccho ko motivate karta hai toh kya aap ise safalta nahi manenge aaj ki date me aap private sector me bahut aage badh sakte hain it sector aage badh sakte hain Engineering kshetra me bhi aage badh sakte hain aap tuition padha ke bahut bade coaching center ke malik ban sakte hain medji kabhi shuru hua hoga bahut kam bacche padhte honge hath ke date me kitni badi sansthan hai uske bare me batane ki zarurat nahi hai toh shuruat kahin na kahin se karni hogi bank me agar aap jana chahte ho toh bank me jaiye carrier banaiye business karna chahte hain toh business me carrier banaiye aap jis film me interest lete ho us field me aap carrier bana sakte hain apni yogyata ke aadhar par apne talent ke aadhar par agar aapke paas bahut achi yogyata nahi hai talent hai toh bahut saari website aisi hai jis par aap kaam karke bahut aage badh sakte ho youtube amir garib sabhi log dekh rahe hain youtube par apne performance ka video upload kariye aap ke followers badhenge aapka channel monitaij hoga headphone hoga toh aapko earning hogi government job se bhi bahut zyada private job wali safal hote hain private job me jo banda achi position par pahuchta hai uski salary kitni hoti hai ki government job vala agar 4 saal kam aayega tab jaakar utana kam aap aayega toh safal hone ke liye hamein chut karna chahiye ki hamein kya karna hai kyon karna hai kaise karna hai yah saare prashna hamein khud se poochna chahiye khud se jawab prashna puchoge toh ho sakta hai ki aap uska jawab kutte na de paun toh phir aap kisi buddhijeevi se puchiye phir kisi dusre buddhijeevi se puchiye 34 band aise milenge jo aapko alag alag rai denge phir aap us raah par vichar vichar vimarsh kariye phir aapko pata chal jaega ki nahi yaar mujhe yah karna chahiye aur hi mera final decision hai aur ise main karke rahunga phir jab aap apne lakshya ke peeche daudne bhagne lagoge imaandaari se mehnat karke toh aapko lakshya hasil hoga aur aap safal banogey dhanyavad

देखे आकाश शर्मा जी मैं आपको बता देना चाहता हूं लोगों के पास आज के टाइम में बहुत प्लेटफार्म

Romanized Version
Likes  316  Dislikes    views  5621
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरे दोस्त अपना प्लेटफार्म खुद बनाना पड़ता है अगर आपके अंदर प्रतिभा है आपके अंदर कुछ कर गुजरने का जज्बा है जुनून है आपको निश्चित रूप से रास्ता भी मिलता है और आपकी योग्यता के अनुसार आपको प्लेटफार्म भी मिलता है हां जीवन में कैसे टर्निंग पॉइंट आता है जब हमें खुद रास्ता पता नहीं होता उस समय अगर कोई मार्गदर्शक कोई सहायक कोई दिशा दिखाने वाला व्यक्ति मिल जाए तो यकीनन जुनूनी व्यक्ति है जो अपने लक्ष्य की प्राप्ति के लिए लालायित है कर्मठ है मेहनती है उसे निश्चित रूप से काफी लाभ मिलता है

mere dost apna platform khud banana padta hai agar aapke andar pratibha hai aapke andar kuch kar guzarne ka jajba hai junun hai aapko nishchit roop se rasta bhi milta hai aur aapki yogyata ke anusaar aapko platform bhi milta hai haan jeevan me kaise turning point aata hai jab hamein khud rasta pata nahi hota us samay agar koi margadarshak koi sahayak koi disha dikhane vala vyakti mil jaaye toh yakinan junooni vyakti hai jo apne lakshya ki prapti ke liye lalayit hai karmath hai mehanati hai use nishchit roop se kaafi labh milta hai

मेरे दोस्त अपना प्लेटफार्म खुद बनाना पड़ता है अगर आपके अंदर प्रतिभा है आपके अंदर कुछ कर गु

Romanized Version
Likes  237  Dislikes    views  2119
WhatsApp_icon
user

Umesh Upaadyay

Life Coach | Motivational Speaker

4:44
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर की बहुत अच्छी बात है कि आप ने प्रश्न किया है आपने सवाल किए हैं स्टेटमेंट दिया है तो उसको थोड़ा समझ लेते हैं जवाब होते हैं कि प्लेटफार्म नहीं होता सब के पास तो जी देखिए ऐसा नहीं होता कि प्लेटफार्म दिया जाता है या बनाकर कोई आपको बोलता है कि मैं यह लोग प्लेटफार्म तैयार हो गया अब आप कुछ कर लो हर इंसान को अपने हिस्से का या वह जहां पर भी होता है अगर वह कुछ बड़ा बनना चाहता है कुछ करना चाहता है तो जहां पर भी हो वहीं से उसको शुरुआत करनी पड़ती है जरूरी नहीं है कि हर इंसान को वह प्लेटफार्म मिलेगा भी जरूरी नहीं है कि वह क्रिकेटर काया एक्टर काव्या पॉलिटिशन का बच्चा है कि आसानी से उसको एंट्री मिल जाएगी भाई एंट्री तो मिल जाएगी लेकिन उस एंट्री के लिए भी उस बच्चे में टैलेंट तो होना चाहिए ना भाई अगर वह खेल नहीं सकता तू मेरे कमेंट कैसे करेगा उसका पिता अगर वह एक्टिंग नहीं जानता तो कोई ऐक्टर उसे कैसे ले लेगा टैलेंट तो होना चाहिए कुछ तो होना चाहिए उसमें कोई बच्चा अगर पढ़ नहीं पा रहा तो भले ही थोड़ा सा व्हाट्सएप से बारिश करवा सकता है उसके अच्छे नंबर नहीं आ रहे तो भाई वह पोस्ट कैसे आ सकता है सीधी सी बात है सिंपल सी बात है कि भाई आप को अगर कुछ करना है तो आप जहां पर भी हो आपको वहां से शुरुआत करनी पड़ेगी जवाब प्लेटफार्म के बात करते हैं तो हां एक समय था जब लोगों प्लेटफॉर्म नहीं मिलता था आज की तारीख में भी आ जा गांव के किसी दूर दराज में जाएंगे तो वहां पर उसको दिक्कत होगी अगर वह टैलेंटेड भी होगा तो हां पढ़ाई लिखाई के मामले में अगर वह टैलेंट होगा तो वह निकाल लेगा अपना रास्ता लेकिन अगर किसी और तरीके से वो टैलेंटेड चाय बुड्ढा और स्कूल से आई एम ए टैलेंटेड हो तो उसको प्लेटफार्म ढूंढने में थोड़ा दिक्कत होगा लेकिन देखे अभी तरक्की हो गई है काफी हमें हमारे पास टीवी है सोशल मीडिया चैनल ने बहुत सारे चैनल है और जहां पर बहुत सारी चीजें होती है चाहे वह ऑडिशन के बात होती है टेस्ट की बात होती है अंग्रेज की बात होती है तो ऐसे एरियाज हैं ऐसे प्लेटफार्म हैं लेकिन अपने अंदर वह काबिलियत लानी पड़ेगी वह काबिलियत लाइए टैलेंट था वह प्लेटफार्म साथ में ढूंढी है और अपने आप को दिखाइए अपने आप को बतलाइए क्या क्या कर सकते हैं क्या नहीं कर सकते सबसे ज्यादा पहली बात क्या होती है कि किसी को अगर कुछ बनना होते तो क्या होता है वो पढ़ाई के रास्ते से देखता है तो पढ़ाई के रास्ते से अगर किसी को भरना होता है तो वह गांव में जॉब होती हैं प्राइवेट जॉब होती हैं कोई अपना बिजनेस शुरू करना चाहते तो वह भी कर सकते हैं अगर उसके पास अच्छा आईडिया है तो वह इस साइट की मदद ले सकता है फाइनेंस बैठे हुए हैं अभी चीज बैठे हुए हैं उनको अप्रोच कर सकता है इतना आसान नहीं होता है इतना सहज नहीं होता दूरदराज के गांव या इलाकों में लेकिन जो शहर का बच्चा है उसके लिए दिक्कत नहीं होनी चाहिए अगर वह ढूंढे तो मिल सकता है उसे सब कुछ इसी तरह अगर कोई टैलेंट है कि एयरटेल है किसी फील्ड में कि सीरिया में तो फिर उसको अपने टैलेंट है दिखाने के प्लेटफॉर्म टैलेंट को बढ़ाने के लिए कौन जगह पर अपने आपको डालना पड़ेगा ताकि वह अपने आप को और निखार सके अपने टैलेंट को और उनका बना सके और फिर डेफिनटली जब ढूंढेगा तो उसे पता लग जाएगा अच्छा मुझे यहां जाना है यहां से शुरुआत करनी है इनको मिलना है यहां पर अपना टेस्ट देना है वगैरा-वगैरा सोचा सब बन जाते हैं बनाए जा सकते हैं किसी के भरोसे नहीं बैठना चाहिए कोई हमें पर उसके नहीं देखा अगर हमें कुछ है तो हमें अपना रास्ता खुद ढूंढना पड़ेगा खुद बनाना पड़ेगा खुद को खुशनसीब होते हैं जिनके माता-पिता को पता होता है वह आपकी हेल्प कर देते हैं जिनके बड़े भाई बहन होते हैं वह आपकी हेल्प कर देते हैं आस पड़ोस में लोग होते हैं वह हेल्प कर देते हैं वह बता देते हैं रास्ता बता देते सहयोग देते हैं वह तो समझ आता है लेकिन जरूरी नहीं है कि हर इंसान के पास ऐसा हो लेकिन आज कल जब सोशल मीडिया का जमाना है तो भाई लोग काफी हद तक जागरूक हो गए हैं और थोड़ा सा एयरपोर्ट करेंगे तो जश्ने क्या को वह मिल सकता है जिसकी आ कामना करते हैं लेकिन थोड़ा सा का मतलब यह नहीं है कि भाई आज थोड़ा किया और फिर रुक गए भाई कंसिस्टेंटली आपको एयरपोर्ट डालना पड़ेगा प्रयास करना पड़ेगा तब जाकर आप अपने आपको वहां देख सकते हैं जहां पर आप अपने आपको देखना चाहते हैं तो मेरी राय बस इतने किसी प्लेटफार्म का या किसी चीज का इंतजार मत कीजिए भाई आप अपने रास्ते खुद बनाने की कोशिश कीजिए कि मुझे आप क्या करना है किस किस से मिलना है कहां से क्या करना है मुझे अपने टैलेंट को और कैसे निकालने मुझे तैयारी कैसे करें यह सारी चीज करते रहिए डेफिनटली 1 दिन ऐसा आएगा जब आप एकदम करीब होंगे सफलता के ठेके तो यह प्रयास कीजिए आई विश यू गुड लक

agar ki bahut achi baat hai ki aap ne prashna kiya hai aapne sawaal kiye hain statement diya hai toh usko thoda samajh lete hain jawab hote hain ki platform nahi hota sab ke paas toh ji dekhiye aisa nahi hota ki platform diya jata hai ya banakar koi aapko bolta hai ki main yah log platform taiyar ho gaya ab aap kuch kar lo har insaan ko apne hisse ka ya vaah jaha par bhi hota hai agar vaah kuch bada banna chahta hai kuch karna chahta hai toh jaha par bhi ho wahi se usko shuruat karni padti hai zaroori nahi hai ki har insaan ko vaah platform milega bhi zaroori nahi hai ki vaah cricketer kaaya actor kavya politician ka baccha hai ki aasani se usko entry mil jayegi bhai entry toh mil jayegi lekin us entry ke liye bhi us bacche me talent toh hona chahiye na bhai agar vaah khel nahi sakta tu mere comment kaise karega uska pita agar vaah acting nahi jaanta toh koi actor use kaise le lega talent toh hona chahiye kuch toh hona chahiye usme koi baccha agar padh nahi paa raha toh bhale hi thoda sa whatsapp se barish karva sakta hai uske acche number nahi aa rahe toh bhai vaah post kaise aa sakta hai seedhi si baat hai simple si baat hai ki bhai aap ko agar kuch karna hai toh aap jaha par bhi ho aapko wahan se shuruat karni padegi jawab platform ke baat karte hain toh haan ek samay tha jab logo platform nahi milta tha aaj ki tarikh me bhi aa ja gaon ke kisi dur daraj me jaenge toh wahan par usko dikkat hogi agar vaah talented bhi hoga toh haan padhai likhai ke mamle me agar vaah talent hoga toh vaah nikaal lega apna rasta lekin agar kisi aur tarike se vo talented chai Buddha aur school se I M a talented ho toh usko platform dhundhne me thoda dikkat hoga lekin dekhe abhi tarakki ho gayi hai kaafi hamein hamare paas TV hai social media channel ne bahut saare channel hai aur jaha par bahut saari cheezen hoti hai chahen vaah audition ke baat hoti hai test ki baat hoti hai angrej ki baat hoti hai toh aise areas hain aise platform hain lekin apne andar vaah kabiliyat lani padegi vaah kabiliyat laiye talent tha vaah platform saath me dhundhi hai aur apne aap ko dikhaiye apne aap ko batlaiye kya kya kar sakte hain kya nahi kar sakte sabse zyada pehli baat kya hoti hai ki kisi ko agar kuch banna hote toh kya hota hai vo padhai ke raste se dekhta hai toh padhai ke raste se agar kisi ko bharna hota hai toh vaah gaon me job hoti hain private job hoti hain koi apna business shuru karna chahte toh vaah bhi kar sakte hain agar uske paas accha idea hai toh vaah is site ki madad le sakta hai finance baithe hue hain abhi cheez baithe hue hain unko approach kar sakta hai itna aasaan nahi hota hai itna sehaz nahi hota durdaraj ke gaon ya ilako me lekin jo shehar ka baccha hai uske liye dikkat nahi honi chahiye agar vaah dhundhe toh mil sakta hai use sab kuch isi tarah agar koi talent hai ki airtel hai kisi field me ki syria me toh phir usko apne talent hai dikhane ke platform talent ko badhane ke liye kaun jagah par apne aapko dalna padega taki vaah apne aap ko aur nikhaar sake apne talent ko aur unka bana sake aur phir definatali jab dhundhega toh use pata lag jaega accha mujhe yahan jana hai yahan se shuruat karni hai inko milna hai yahan par apna test dena hai vagera vagera socha sab ban jaate hain banaye ja sakte hain kisi ke bharose nahi baithana chahiye koi hamein par uske nahi dekha agar hamein kuch hai toh hamein apna rasta khud dhundhana padega khud banana padega khud ko khushnaseeb hote hain jinke mata pita ko pata hota hai vaah aapki help kar dete hain jinke bade bhai behen hote hain vaah aapki help kar dete hain aas pados me log hote hain vaah help kar dete hain vaah bata dete hain rasta bata dete sahyog dete hain vaah toh samajh aata hai lekin zaroori nahi hai ki har insaan ke paas aisa ho lekin aaj kal jab social media ka jamana hai toh bhai log kaafi had tak jagruk ho gaye hain aur thoda sa airport karenge toh jashne kya ko vaah mil sakta hai jiski aa kamna karte hain lekin thoda sa ka matlab yah nahi hai ki bhai aaj thoda kiya aur phir ruk gaye bhai kansistentali aapko airport dalna padega prayas karna padega tab jaakar aap apne aapko wahan dekh sakte hain jaha par aap apne aapko dekhna chahte hain toh meri rai bus itne kisi platform ka ya kisi cheez ka intejar mat kijiye bhai aap apne raste khud banane ki koshish kijiye ki mujhe aap kya karna hai kis kis se milna hai kaha se kya karna hai mujhe apne talent ko aur kaise nikalne mujhe taiyari kaise kare yah saari cheez karte rahiye definatali 1 din aisa aayega jab aap ekdam kareeb honge safalta ke theke toh yah prayas kijiye I wish you good luck

अगर की बहुत अच्छी बात है कि आप ने प्रश्न किया है आपने सवाल किए हैं स्टेटमेंट दिया है तो उस

Romanized Version
Likes  737  Dislikes    views  8579
WhatsApp_icon
user

Daulat Ram Sharma Shastri

Psychologist | Ex-Senior Teacher

1:41
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ब्रिटिश संसार में हर व्यक्ति राहुल गांधी की तरह मुंह में सोने का संचालक पैदा नहीं होता है हर व्यक्ति को प्रिंट करना होता है अपनी भाभी के अनुसार अलंकार होता है उसके उससे ही उसे अर्निंग करनी होती है इससे कुछ तो परिवार का भरण पोषण किया जा सके बिना एडमिन के भौतिकवादी युग परिवार का भरण पोषण नहीं कर सकते इसलिए आपको स्वयं को तलाश करना होगा कि हर व्यक्ति करता है और जिन लोगों को मालूम हो जाते हैं और नहीं है क्वालिफाइड नहीं है मैं सोच नहीं है तो वह उस पर भी बर्बाद हो जाता है वह भी उसमें भी अभिनेताओं के बॉस के लड़कों को देखिए आप बहुत से नेताओं के लड़के असफल हो जाते हैं वे राजनीति में नहीं आते हैं और जो बहुत से नेताओं की लड़के सफल हो जाते हैं वे अपने पिता की सुषमा उनके शंकरलाल ले जाते हैं तो यह अपना-अपना बोलता विचारों का अपने पिता की जॉब में या फिर एक पिता के बनाए हुए परिजनों के बनाए हुए उससे और में रूचि नहीं होती है वे अपना ही अलग अलग करते हैं अपनी अपनी अपनी अपनी पसंद है

british sansar me har vyakti rahul gandhi ki tarah mooh me sone ka sanchalak paida nahi hota hai har vyakti ko print karna hota hai apni bhabhi ke anusaar alankar hota hai uske usse hi use earning karni hoti hai isse kuch toh parivar ka bharan poshan kiya ja sake bina admin ke bhautikvadi yug parivar ka bharan poshan nahi kar sakte isliye aapko swayam ko talash karna hoga ki har vyakti karta hai aur jin logo ko maloom ho jaate hain aur nahi hai qualified nahi hai main soch nahi hai toh vaah us par bhi barbad ho jata hai vaah bhi usme bhi abhinetaon ke boss ke ladko ko dekhiye aap bahut se netaon ke ladke asafal ho jaate hain ve raajneeti me nahi aate hain aur jo bahut se netaon ki ladke safal ho jaate hain ve apne pita ki sushma unke shankarlal le jaate hain toh yah apna apna bolta vicharon ka apne pita ki job me ya phir ek pita ke banaye hue parijanon ke banaye hue usse aur me ruchi nahi hoti hai ve apna hi alag alag karte hain apni apni apni apni pasand hai

ब्रिटिश संसार में हर व्यक्ति राहुल गांधी की तरह मुंह में सोने का संचालक पैदा नहीं होता है

Romanized Version
Likes  437  Dislikes    views  3651
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए अपनी जिंदगी को बनाने के लिए सबसे पहले आपको का सपना देखते हैं कैसा जीवन जीना चाहते हैं कैसा व्यवसाय करना चाहते कैसी नौकरी करना चाहते हैं आप क्या बनना चाहते पहले तो आप उसका मंथन कीजिए सपना देखिए फिर इसके बाद अपने गोल निश्चित कीजिए गोल को पूरा करने के लिए आप जो भी प्लेटफार्म अब बना बनाया प्लेटफार्म चाहते हैं कि प्लेटफार्म आप अपना बनाना चाहते हैं खुद का अपना प्रोडक्ट देना चाहते हैं कि बने बने प्रोडक्ट की मार्केटिंग करना चाहते हैं क्या करना चाहते हैं आप स्काइप निर्धारण कीजिए वह आपको स्वयं करता है मेरे विचार थे प्लेटफॉर्म आफ सेम ही बनाइए

dekhiye apni zindagi ko banane ke liye sabse pehle aapko ka sapna dekhte hain kaisa jeevan jeena chahte hain kaisa vyavasaya karna chahte kaisi naukri karna chahte hain aap kya banna chahte pehle toh aap uska manthan kijiye sapna dekhiye phir iske baad apne gol nishchit kijiye gol ko pura karne ke liye aap jo bhi platform ab bana banaya platform chahte hain ki platform aap apna banana chahte hain khud ka apna product dena chahte hain ki bane bane product ki marketing karna chahte hain kya karna chahte hain aap skaip nirdharan kijiye vaah aapko swayam karta hai mere vichar the platform of same hi banaiye

देखिए अपनी जिंदगी को बनाने के लिए सबसे पहले आपको का सपना देखते हैं कैसा जीवन जीना चाहते है

Romanized Version
Likes  214  Dislikes    views  1952
WhatsApp_icon
user
1:01
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हर किसी को मुकम्मल जहां नहीं मिलता किसी को प्लेटफार्म मिल जाता है तो किसी को प्लेटफार्म नहीं मिलता भाई प्लेटफार्म एक ऐसी जगह वहां तक वहीं पहुंच पाते जो मेहनत करके अपनी लगन से अपने परिश्रम से अपनी रियाद से वहां तक पहुंच पाते रियास का मेरा मतलब यह नहीं कि गाने गाने यह प्रयास होता है या कोई पार्टी कूलर किसी चीज में हमारे अपने हर काम में होता है एक क्लर्क भी अगर याद करता है तो एमबी तक बंसल बन सकता है तो इस जरूरी है प्लीज फॉर्म कोई मायने नहीं रखता प्लेटफार्म तो आप लोगों के लिए तैयार किया जाता है तब जवाब प्लेटफार्म के लायक हो जाए मानकर चलें प्लेटफार्म आप लोगों के लिए बनाया जाता है जब आप उस लायक हूं कि वहां तक पहुंच पाए आप इसलिए बेहतर यही है कि अपनी जिंदगी में हम अपनी रियास को अपनी पिक कि कल लाइफ को बिल्कुल उसी तरह से चलाते जाएं और अच्छी तरह से उसने मेहनत करें तो प्लेटफार्म आपके आगे कई आएंगे घर में रहें सुरक्षित रहें

har kisi ko mukammal jaha nahi milta kisi ko platform mil jata hai toh kisi ko platform nahi milta bhai platform ek aisi jagah wahan tak wahi pohch paate jo mehnat karke apni lagan se apne parishram se apni riyad se wahan tak pohch paate riyas ka mera matlab yah nahi ki gaane gaane yah prayas hota hai ya koi party cooler kisi cheez me hamare apne har kaam me hota hai ek clerk bhi agar yaad karta hai toh MB tak bansal ban sakta hai toh is zaroori hai please form koi maayne nahi rakhta platform toh aap logo ke liye taiyar kiya jata hai tab jawab platform ke layak ho jaaye maankar chalen platform aap logo ke liye banaya jata hai jab aap us layak hoon ki wahan tak pohch paye aap isliye behtar yahi hai ki apni zindagi me hum apni riyas ko apni pic ki kal life ko bilkul usi tarah se chalte jayen aur achi tarah se usne mehnat kare toh platform aapke aage kai aayenge ghar me rahein surakshit rahein

हर किसी को मुकम्मल जहां नहीं मिलता किसी को प्लेटफार्म मिल जाता है तो किसी को प्लेटफार्म नह

Romanized Version
Likes  68  Dislikes    views  1836
WhatsApp_icon
user
1:54
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

किसी को भी अपने आप को प्रूफ करना है तो प्लेटफार्म अपने आप नहीं मिल जाता उसे उसे ढूंढना पड़ता है या प्लेटफार्म बनाना पड़ता है जिस भी सिर में वह व्यक्ति आगे बढ़ना चाहता है कुछ उसका गोल है उसे अचीव करना चाहता है तो अगर उसके प्रयास जो है उसके जोयफिट है वह उतनी ज्यादा होगी अगर उसके प्रयासों में उसकी कोशिशों में जान होगी तो उसे एक न एक दिन इस तरह का प्लेटफार्म मिल जाएगा जिससे कि वह अपना गोल पूरा कर सके इसलिए यही जरूरी है कि जो भी उसका लक्ष्य सपना है उसके लिए वह उतना सेंड हो जाए उसके लिए उसकी उतनी ट्रेनिंग अपनी पूरी कर पाए अगर कोई भी कमी है उसकी ट्रेनिंग में तो उसे उस तरह का प्लेटफार्म में नहीं मिल पाएगा और तू जरूरी यही है कि अपना उसमें प्रयासों की उस में जान डाल दें उसने अपने एफर्ट हंड्रेड परसेंट ऑफर डाली जाए उसके लिए जो भी जरूरी कदम है उस चीज को पूरा करने के लिए उस गोल को पाने के लिए जो भी जरूरी कदम है उसको बहुत ही तन्मयता के साथ फोकस के साथ पूरा किया जाए जो भी आपने स्टडी बनाई उसके लिए जो भी आप उसके लिए रोड में बनाया उस पर चला जाए और हर कदम पर आने वाली चीजों को पूरे प्रयासों के साथ ही पसंद बेस्ट ऑफर दिया जाए तो निश्चित तौर पर एक न एक दिन ऐसा प्लेटफॉर्म मिल जाता है जिस दिन आप अपने आप को सिद्ध कर देते हैं प्रूफ कर देते हैं और कुछ बंद कर दिखा देते हैं

kisi ko bhi apne aap ko proof karna hai toh platform apne aap nahi mil jata use use dhundhana padta hai ya platform banana padta hai jis bhi sir me vaah vyakti aage badhana chahta hai kuch uska gol hai use achieve karna chahta hai toh agar uske prayas jo hai uske joyfit hai vaah utani zyada hogi agar uske prayaso me uski koshishon me jaan hogi toh use ek na ek din is tarah ka platform mil jaega jisse ki vaah apna gol pura kar sake isliye yahi zaroori hai ki jo bhi uska lakshya sapna hai uske liye vaah utana send ho jaaye uske liye uski utani training apni puri kar paye agar koi bhi kami hai uski training me toh use us tarah ka platform me nahi mil payega aur tu zaroori yahi hai ki apna usme prayaso ki us me jaan daal de usne apne effort hundred percent offer dali jaaye uske liye jo bhi zaroori kadam hai us cheez ko pura karne ke liye us gol ko paane ke liye jo bhi zaroori kadam hai usko bahut hi tanmayata ke saath focus ke saath pura kiya jaaye jo bhi aapne study banai uske liye jo bhi aap uske liye road me banaya us par chala jaaye aur har kadam par aane wali chijon ko poore prayaso ke saath hi pasand best offer diya jaaye toh nishchit taur par ek na ek din aisa platform mil jata hai jis din aap apne aap ko siddh kar dete hain proof kar dete hain aur kuch band kar dikha dete hain

किसी को भी अपने आप को प्रूफ करना है तो प्लेटफार्म अपने आप नहीं मिल जाता उसे उसे ढूंढना पड़

Romanized Version
Likes  147  Dislikes    views  832
WhatsApp_icon
user

Liyakat Ali Gazi

Motivational Speaker, Life Coach & Soft Skills Trainer 📲 9956269300

1:31
Play

Likes  555  Dislikes    views  9291
WhatsApp_icon
user

Porshia Chawla Ban

Psychologist

2:01
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो मेरा नाम पूछा है और मैं भी दिल्ली की रहने वाली हूं और मैं आपको यह बताना चाहती हूं कि जिंदगी में कोई कुछ नहीं करना चाहता है इसीलिए उनको कोई प्लेटफार्म नहीं मिलता है और इसीलिए वह सक्सेसफुल नहीं होते हैं क्योंकि यदि कोई कुछ करना चाहे तो प्लेटफार्म भी अपने आप मिल जाया करता है और रास्ते भी आगे खुल जाते हैं तो सबसे पहला ही तो स्टेप यह है कि आपके अंदर इच्छा जागृत हो कुछ करने की तभी तो आप सोचेंगे कि मुझे क्या करना है क्या मेरे संसाधन है क्या मेरे पास नहीं है क्या मुझे जुटाना है कहां से मुझे मदद चाहिए वह तो बाद की बातें हैं और हां प्लेटफार्म सही बात है सब को नहीं मिलता लेकिन प्लेटफार्म साथ कल इतने सारे हो गए हैं कि अपने आप आपको अपने प्लेटफार्म खोजने हैं और अगर नहीं है तो बनाने हैं तो कोई ऊपर से नहीं आएगा और कोई आपको रॉयल ट्रीटमेंट नहीं देने वाला है लाइफ में खुद हमको हमारा जो है सामान जुटाना पड़ता है और खुद हमें हमारी तैयारी करनी पड़ती है आगे की वजह से अगर कोई कविता लिखता है अच्छी तो उसके पास नोजोतो जैसा ऐप है जिसमें वह ओपन माइक रहता है वहां पर अपने विचार व्यक्त कर सकता है लोग उसको पहचानेंगे पसंद करेंगे और ऐसे ही बहुत सारे प्लेटफार्म से जहां पर वह अपनी कला का प्रदर्शन कर सकता है और कोई फोटोग्राफर है तो उसके लिए इंस्टाग्राम का ऑप्शन है अभी सब कुछ डिजिटल हो गया है सारी एप्लीकेशंस आ गई है तो अब किसी को अपना टैलेंट शो करने के लिए किसी को किसी के आगे जेर गिराने की भी जरूरत नहीं है और अगर आप पढ़े लिखे हैं एकेडमिक्स में अच्छे हैं तो बहुत सारी एप्लीकेशन से बहुत सारी वेबसाइट से ऐसे प्लेटफार्म से की जहां पर आप अपनी सर्विस दे सकते हो पढ़ा सकते हो लोगों को यूट्यूब है बहुत बड़ा माध्यम प्लेटफार्म क्या चाहिए आपको है टैलेंट अगर तो प्लेटफार्म से बहुत है और जो आप प्लेटफार्म चुनना चाहे अपनी पसंद से चुन सकते हैं धन्यवाद

hello mera naam poocha hai aur main bhi delhi ki rehne wali hoon aur main aapko yah batana chahti hoon ki zindagi me koi kuch nahi karna chahta hai isliye unko koi platform nahi milta hai aur isliye vaah successful nahi hote hain kyonki yadi koi kuch karna chahen toh platform bhi apne aap mil jaya karta hai aur raste bhi aage khul jaate hain toh sabse pehla hi toh step yah hai ki aapke andar iccha jagrit ho kuch karne ki tabhi toh aap sochenge ki mujhe kya karna hai kya mere sansadhan hai kya mere paas nahi hai kya mujhe jutana hai kaha se mujhe madad chahiye vaah toh baad ki batein hain aur haan platform sahi baat hai sab ko nahi milta lekin platform saath kal itne saare ho gaye hain ki apne aap aapko apne platform khojne hain aur agar nahi hai toh banane hain toh koi upar se nahi aayega aur koi aapko royal treatment nahi dene vala hai life me khud hamko hamara jo hai saamaan jutana padta hai aur khud hamein hamari taiyari karni padti hai aage ki wajah se agar koi kavita likhta hai achi toh uske paas nojoto jaisa app hai jisme vaah open mike rehta hai wahan par apne vichar vyakt kar sakta hai log usko pahachanenge pasand karenge aur aise hi bahut saare platform se jaha par vaah apni kala ka pradarshan kar sakta hai aur koi photographer hai toh uske liye instagram ka option hai abhi sab kuch digital ho gaya hai saari applications aa gayi hai toh ab kisi ko apna talent show karne ke liye kisi ko kisi ke aage jer girane ki bhi zarurat nahi hai aur agar aap padhe likhe hain ekedmiks me acche hain toh bahut saari application se bahut saari website se aise platform se ki jaha par aap apni service de sakte ho padha sakte ho logo ko youtube hai bahut bada madhyam platform kya chahiye aapko hai talent agar toh platform se bahut hai aur jo aap platform chunana chahen apni pasand se chun sakte hain dhanyavad

हेलो मेरा नाम पूछा है और मैं भी दिल्ली की रहने वाली हूं और मैं आपको यह बताना चाहती हूं कि

Romanized Version
Likes  317  Dislikes    views  6801
WhatsApp_icon
user

Aniel K Kumar Imprints

NLP Master Life Coach, Motivational Speaker

3:37
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार आकाश जी आप दिल्ली के रहने वाले हैं मैं समझ सकता हूं आपकी सिचुएशन दोस्त मैं आपको एक चीज बताना चाहूंगा कि कभी भी इन्वायरमेंट को नहीं बदला जा सकता बदलना पड़ेगा आपको अपने आपको क्योंकि आपने कटिंग चश्मे पहन रखे हैं जिसमें उस चश्मे से आप जब तक देखोगे तब तक आपको समस्या ही नजर आएंगे जिस दिन आप सलूशन पर फोकस करने लगा पहुंचे सलूशन नजर आने लगे आप अपने आपको स्किल करने की जरूरत है जरूरत है कुछ बेहतर आगे बढ़ने की देखी दोस्त रेगुलर ली जो भी आप किसी भी बंदे को देखोगे जो सक्सेस हुए हैं वह छूट जाए उनके पास किसी ने लाकर के थाली में सोने की थाली में परोस के नहीं दिया था उनको जो भी लोग ग्राउंड से उठे हैं जिन्होंने ग्राउंड रियलिटीज को देखा है तो उन्होंने उन परिस्थितियों की बजाय समाधान ऊपर जो फोकस करना शुरू किया समाधान ओं में अपने लिए ऑप्शन सुनना शुरू किया उसको ऑप्शन नजर आने लगे मैं भी उसके साथ खेत में घूम रहा था तब उन्होंने एक दिन ऐसे हम शाम को घूम रहे थे उन्होंने कहा एक बात बताना चाहूंगा आपसे मुंह बताइए भला बुरा मत मानिए ऐसा लगता है मैं बता सूरज की तरफ उंगली का हाथ है से करो उन्होंने अपना हाथ सूरज की तरफ किया और बोला देखो मेरे हाथ से सूरज ढक गया मेरे हाथ में उम्र मेरी उंगलियों में ताकत ज्यादा है ना सूरज की भेजा हूं बिल्कुल ज्यादा है भाई यह तो डिपेंड करता है को फोकस कहां हैं आप अगर फोकस उंगलियों पर करोगे तो आपके लिए उंगलियां बड़ी हो जाएंगे आंखों के सूरज पर करोगे तो सूरज भी डिसाइड आपको करना है आप अच्छाइयों को देख रहे हैं बुराई हो आगरा बुराइयों को देखोगे तो आपको ही समाज में बुराइयां बुराइयां नजर आने लगेंगे और अच्छा दिखने लगेगा के साथ देना चाहिए यदि छोड़ चले करके शाम को जाते हैं किसी भी बीच में और वहां से टॉर्च मार के देखते हैं पप्पू झील दिखाई देता है आप वहां से आ करके कहते हो कि वहां पर झील है वहां पर झील है क्यों क्योंकि आपने रात को दोष मारकर देखा था और हर कोई आदमी आपके कर्म वहां पर झील नहीं है वहां समंदर है क्योंकि जो लोकेशन आप बता रहे हो उस लोकेशन पर शानदार है लेकिन आपने वहां पर लाइट जलाकर एक दिन लाइट में आपने झील देखा था लाइट जा रही थी वहां पर कितनी दूर तक पानी है तो अपने झील जैसा देखा था इसलिए आपको यह भ्रम है यह भ्रम जब तक है जब तक आप मानते हो तो आपने जो चश्मा चढ़ा रखी है दिन को चेंज करेंगे तो इस इन्वायरमेंट में जो भी सराउंडिंग आपके पास है वहां पर हजारों अपॉर्चुनिटी से आगे बढ़ने की हजारों प्लेटफार्म हैं जरूरत है आपको अपना चश्मा बदल नहीं ना सारी चीजें आपको सहायता करेंगे इस चीज को समझने के इन्वायरमेंट को आप नहीं बदल सकते ऐसी इन्वायरमेंट में से क्या बेस्ट चुन सकते हो वह स्किल आपको देख कर लिए होंगे उनके लिए आप हमारी वेबसाइट पर जा सकते हैं 11 के आया कि गुरु डॉट कॉम पर हमारे सोशल हैंडल फूलों का सकते अपने यहां पर शेयर की थी हमें हेल्प की जाति के लोगों को ज्यादा किया जा सके वह बाहर निकले तो शेयर करते हो तो आपके पास पासवर्ड आईडी से की जाती वेंट और आपको श्री इवेंट पर रोल किया जा सकेगा चलेगा दोस्त जय हिंद जय भारत आपका दिन शुभ रात्रि

namaskar akash ji aap delhi ke rehne waale hain main samajh sakta hoon aapki situation dost main aapko ek cheez batana chahunga ki kabhi bhi environment ko nahi badla ja sakta badalna padega aapko apne aapko kyonki aapne cutting chashme pahan rakhe hain jisme us chashme se aap jab tak dekhoge tab tak aapko samasya hi nazar aayenge jis din aap salution par focus karne laga pahuche salution nazar aane lage aap apne aapko skill karne ki zarurat hai zarurat hai kuch behtar aage badhne ki dekhi dost regular li jo bhi aap kisi bhi bande ko dekhoge jo success hue hain vaah chhut jaaye unke paas kisi ne lakar ke thali me sone ki thali me paros ke nahi diya tha unko jo bhi log ground se uthe hain jinhone ground riyalitij ko dekha hai toh unhone un paristhitiyon ki bajay samadhan upar jo focus karna shuru kiya samadhan on me apne liye option sunana shuru kiya usko option nazar aane lage main bhi uske saath khet me ghum raha tha tab unhone ek din aise hum shaam ko ghum rahe the unhone kaha ek baat batana chahunga aapse mooh bataiye bhala bura mat maniye aisa lagta hai main bata suraj ki taraf ungli ka hath hai se karo unhone apna hath suraj ki taraf kiya aur bola dekho mere hath se suraj dhak gaya mere hath me umar meri ungaliyon me takat zyada hai na suraj ki bheja hoon bilkul zyada hai bhai yah toh depend karta hai ko focus kaha hain aap agar focus ungaliyon par karoge toh aapke liye ungaliyan badi ho jaenge aakhon ke suraj par karoge toh suraj bhi decide aapko karna hai aap acchhaiyon ko dekh rahe hain burayi ho agra buraiyon ko dekhoge toh aapko hi samaj me buraiyan buraiyan nazar aane lagenge aur accha dikhne lagega ke saath dena chahiye yadi chhod chale karke shaam ko jaate hain kisi bhi beech me aur wahan se torch maar ke dekhte hain pappu jheel dikhai deta hai aap wahan se aa karke kehte ho ki wahan par jheel hai wahan par jheel hai kyon kyonki aapne raat ko dosh marakar dekha tha aur har koi aadmi aapke karm wahan par jheel nahi hai wahan samundar hai kyonki jo location aap bata rahe ho us location par shandar hai lekin aapne wahan par light jalakar ek din light me aapne jheel dekha tha light ja rahi thi wahan par kitni dur tak paani hai toh apne jheel jaisa dekha tha isliye aapko yah bharam hai yah bharam jab tak hai jab tak aap maante ho toh aapne jo chashma chadha rakhi hai din ko change karenge toh is environment me jo bhi surrounding aapke paas hai wahan par hazaro opportunity se aage badhne ki hazaro platform hain zarurat hai aapko apna chashma badal nahi na saari cheezen aapko sahayta karenge is cheez ko samjhne ke environment ko aap nahi badal sakte aisi environment me se kya best chun sakte ho vaah skill aapko dekh kar liye honge unke liye aap hamari website par ja sakte hain 11 ke aaya ki guru dot com par hamare social handle fulo ka sakte apne yahan par share ki thi hamein help ki jati ke logo ko zyada kiya ja sake vaah bahar nikle toh share karte ho toh aapke paas password id se ki jaati went aur aapko shri event par roll kiya ja sakega chalega dost jai hind jai bharat aapka din shubha ratri

नमस्कार आकाश जी आप दिल्ली के रहने वाले हैं मैं समझ सकता हूं आपकी सिचुएशन दोस्त मैं आपको एक

Romanized Version
Likes  122  Dislikes    views  2032
WhatsApp_icon
user

DR OM PRAKASH SHARMA

Principal, Education Counselor, Best Experience in Professional and Vocational Education cum Training Skills and 25 years experience of Competitive Exams. 9212159179. dsopsharma@gmail.com

1:14
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने जो भी कहना चाहे शर्मा जी धन्यवाद कोई इंसान को जिंदगी बनाने का मौका नहीं मिलता और मौका मिलता है तो लोग उसको कैसे निकालें और यह कहना कि दिल्ली में संभव संभव है जो बनाना चाहते हैं उनके लिए बनाने का ऑप्शन है जो बनाना नहीं चाहते और स्मार्ट है उनको मौका मैट्रिक में खो जाते हैं कुछ लोग नाचूंगी चुप हो जाते हैं हां अगर आपको लगता है कि आपको किसी तरह की सहायता चाहिए तो आप संपर्क कर सकते अपने लिए और उनके लिए क्योंकि जो हमसे संभव हो सकता है वह हम भविष्य नानी में मदद कर सकते हैं क्योंकि हर इंसान पढ़े लिखे इंसान का जिंदगी में कैरियर होता है अगर समय पर कैरियर बन गया तो जिंदगी आसान हो जाती है उस समय निकल गया तो जिंदगी हमेशा के लिए बर्बाद हो जाती है

aapne jo bhi kehna chahen sharma ji dhanyavad koi insaan ko zindagi banane ka mauka nahi milta aur mauka milta hai toh log usko kaise nikale aur yah kehna ki delhi me sambhav sambhav hai jo banana chahte hain unke liye banane ka option hai jo banana nahi chahte aur smart hai unko mauka metric me kho jaate hain kuch log nachungi chup ho jaate hain haan agar aapko lagta hai ki aapko kisi tarah ki sahayta chahiye toh aap sampark kar sakte apne liye aur unke liye kyonki jo humse sambhav ho sakta hai vaah hum bhavishya naani me madad kar sakte hain kyonki har insaan padhe likhe insaan ka zindagi me carrier hota hai agar samay par carrier ban gaya toh zindagi aasaan ho jaati hai us samay nikal gaya toh zindagi hamesha ke liye barbad ho jaati hai

आपने जो भी कहना चाहे शर्मा जी धन्यवाद कोई इंसान को जिंदगी बनाने का मौका नहीं मिलता और मौक

Romanized Version
Likes  459  Dislikes    views  7637
WhatsApp_icon
user

Ajay Sinh Pawar

Founder & M.D. Of Radiant Group Of Industries

4:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो फ्रेंड्स मेरा नाम आकाश शर्मा है और मैं दिल्ली का रहने वाला हूं मैं आपको बताना चाहता हूं कि लोग अपनी जिंदगी में क्यों कुछ नहीं करना चाहते क्योंकि लोगों के पास ऐसा लिखे आकाश शर्मा जी जो हीरा होता है वह कोयले की खान से ही निकलता है और कोयला भी कोयले की खान से निकलता है और मिठाई भी उसी खान से निकलता है सोचने वाली बात यह है कि जब एक ही कान से तीनों चीज निकलती है तो उसी तरह हर एक नौजवान जो है उनका भी ऐसा ही होता है कि जो होना हर पढ़ाई में होते हैं और जीने जरूरत होती है जिन्हें सपने बुने होते हैं कुछ नया कर दिखाने के लिए उनके पास प्लेटफार्म हो तो जल्दी से आगे बढ़ जाते हैं जिनके पास प्लेटफॉर्म नो आगे बढ़ते हैं भले उसमें समय लगे लेकिन वह एक न एक दिन अपना जरूर हुनर लाइफ का काबिलियत सिद्ध करके दिखाते हैं जैसा कि आप जानते हैं कि पास्कल का पानी का सिद्धांत उसके अनुसार पानी अपनी पता खुद ढूंढ लेता है उसी तरह जो भी युवान है वह अपनी करीबी और अपनी सोच के अनुसार वह जरूर उस लेवल पर पहुंचता है इसके लिए उसकी जरूर से उसकी सूट उसकी परवरिश उसके संस्कार उसने मदद रूप जरूर हो सकते हैं लेकिन जो चश्मा उसके दिमाग में होना चाहिए वह जज्बा अगर अगर नहीं है तो वह पीछे भी रह सकता है जरूरत अविष्कार की जननी है अगर किसी इंसान को गरीबी ने पाला है और उसे गरीबी से एक तरफ से नफरत जरूर हो जिसके पेट में भूख होगी जिस दिन काफी दुख चले होंगे वह उसके मन में उसके दिमाग में विस्फोट गरीबी के प्रति जरूर होगा और वह अपनी गरीबी को मिटाने के लिए भरसक प्रयत्न करें और अपने एजुकेशन का और अपने सारे क्षमताओं का भी वह अपनी बुद्धि का भरपूर प्रयोग करेगा भरपूर सदुपयोग करेगा और वह आगे बढ़ने के लिए 10 बहुत ऊंचा रखेगा और वह इंसान जरूर कुछ ना कुछ करके दिखाएगा चाहे उसे प्लेटफार्म मिले या ना मिले इसलिए हमें यह सोचना चाहिए कि हम कैसे अपने आप को बेहतर बना सकते हैं और कैसे हम जिंदगी में प्रगति कर सकते हैं पढ़ाई का मतलब यह नहीं है कि हम पढ़े लेकर खाली ज्ञाता बने लेकिन उसे हमें आर्थिक क्षेत्र में भी उसका सदुपयोग करना है धन अर्थ भी कमाना और लोगों को कैसे हम अच्छे फायदे अपनी पढ़ाई से पहुंचा सकते हैं उसके बारे में देखना चाहिए लेकिन उसकी जरूरतें भी पूरी होनी चाहिए इसलिए सदा प्रयासरत रहने में बुद्धि करो का आगे बढ़ने में हर एक विद्यार्थी को जज्बा होना चाहिए धन्यवाद

hello friends mera naam akash sharma hai aur main delhi ka rehne vala hoon main aapko batana chahta hoon ki log apni zindagi me kyon kuch nahi karna chahte kyonki logo ke paas aisa likhe akash sharma ji jo heera hota hai vaah koyle ki khan se hi nikalta hai aur koyla bhi koyle ki khan se nikalta hai aur mithai bhi usi khan se nikalta hai sochne wali baat yah hai ki jab ek hi kaan se tatvo cheez nikalti hai toh usi tarah har ek naujawan jo hai unka bhi aisa hi hota hai ki jo hona har padhai me hote hain aur jeene zarurat hoti hai jinhen sapne bune hote hain kuch naya kar dikhane ke liye unke paas platform ho toh jaldi se aage badh jaate hain jinke paas platform no aage badhte hain bhale usme samay lage lekin vaah ek na ek din apna zaroor hunar life ka kabiliyat siddh karke dikhate hain jaisa ki aap jante hain ki pascal ka paani ka siddhant uske anusaar paani apni pata khud dhundh leta hai usi tarah jo bhi yuvan hai vaah apni karibi aur apni soch ke anusaar vaah zaroor us level par pahuchta hai iske liye uski zaroor se uski suit uski parvarish uske sanskar usne madad roop zaroor ho sakte hain lekin jo chashma uske dimag me hona chahiye vaah jajba agar agar nahi hai toh vaah peeche bhi reh sakta hai zarurat avishkar ki janani hai agar kisi insaan ko garibi ne pala hai aur use garibi se ek taraf se nafrat zaroor ho jiske pet me bhukh hogi jis din kaafi dukh chale honge vaah uske man me uske dimag me visphot garibi ke prati zaroor hoga aur vaah apni garibi ko mitane ke liye bharasak prayatn kare aur apne education ka aur apne saare kshamataon ka bhi vaah apni buddhi ka bharpur prayog karega bharpur sadupyog karega aur vaah aage badhne ke liye 10 bahut uncha rakhega aur vaah insaan zaroor kuch na kuch karke dikhaega chahen use platform mile ya na mile isliye hamein yah sochna chahiye ki hum kaise apne aap ko behtar bana sakte hain aur kaise hum zindagi me pragati kar sakte hain padhai ka matlab yah nahi hai ki hum padhe lekar khaali gyaata bane lekin use hamein aarthik kshetra me bhi uska sadupyog karna hai dhan arth bhi kamana aur logo ko kaise hum acche fayde apni padhai se pohcha sakte hain uske bare me dekhna chahiye lekin uski jaruratein bhi puri honi chahiye isliye sada prayasarat rehne me buddhi karo ka aage badhne me har ek vidyarthi ko jajba hona chahiye dhanyavad

हेलो फ्रेंड्स मेरा नाम आकाश शर्मा है और मैं दिल्ली का रहने वाला हूं मैं आपको बताना चाहता ह

Romanized Version
Likes  319  Dislikes    views  3752
WhatsApp_icon
user

रोहित कुमार

Job trainer,Councelor,Digital Marketer,Spritual guru,

3:46
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखा जाए तो प्लेटफार्म हर इंसान के पास होती है बस जरूरत होती है उसे सही तरीके से समझने इंसान अगर प्लेटफार्म नहीं अटका रहे तो पता चलेगा कि वह सभी आगे नहीं देखा जाए तो जो है हर इंसान एक चाहत आगे बढ़ने की कुछ करने की होती है लेकिन हुआ आगे कैसे भरें और कुछ करें कैसे लें इसमें उसे जो है तीन महत्वपूर्ण सवालों का उसे उत्तर देना हो खुद सेवा सोचना होगा तीन सवालों के अगर वह जवाब मिल जाती है तो उसका प्लेटफार्म भी ऑटोमेटिक मिल जाती है जिस प्रकार हमेशा ही प्लेटफार्म पर जाने के लिए हमें यह पता करना होता है कि हमें जाना कहा सोचे कि अगर आपको जो है जाना है है किसी जगह पर उस जगह पे करनी होगी कि वह ट्रेन मुझे उस जगह पर ले जाएगी तो उसे तरीका से आपको अपने कैरियर के बारे में भी आपको समझना पड़ेगा जी आप कौन सा कैरियर अपनी क्षमता अनुसार या अपने वातावरण अनुसार कुछ कर सकते हैं उसका उपयोग या चुनाव कर सकते हैं और एग्जांपल के बहुत सारे ऐसे कैरियर हैं जो आपको चका समय और स्थिति के अनुसार आपको समझ नहीं होगी इसके अलावा और भी बहुत सारी चीजें हैं जो स्टेप बाय स्टेप आप उस को ध्यान में रखकर और अच्छी तरीका से समझ कर एक सही प्लेटफार्म का चुनाव आप कर सकते तो मैं आप बता रहा था कि वह तीन चीजें जो आपको प्लेटफार्म का सही प्लेटफार्म का नाम मदद कर सकती है यानी ट्रेन यानी कि सबसे पहले आपको जाना कहां है सेकंड वहां तक जाने के लिए आपको ट्रेन का समय नंबर साइजेस याद होनी चाहिए और वह किस प्लेटफार्म पर आएगी यह सब आपको पता होनी चाहिए उसे तरीका से आपको मालूम हो जाने के बाद क्या आपको कौन सा केरियर आपके लिए सही है उसके लिए आपको क्या-क्या करना पड़ेगा है ना कितनी मेहनत करनी पड़ेगी कितना उसमें समय देना पड़ेगा कितना तन मन धन लगाना पड़ेगा यह सब सारी चीजें ऐसा चीज है कि क्या सबसे इंपोर्टेंट पॉइंट चीज है कि क्या हम उस कैरियर में हंड्रेड परसेंट दे पाएंगे क्या वह कैरियर का चुनाव हमें सिर्फ खुशी देती है या फिर कुछ और क्या हम अपना पूरा जो है हंड्रेड परसेंट तपना खुशी अपना उपचार व कहा जाता है कि उस काम में अगर आपको मन लगने लगे खुश लगने लगे तो ही आपका सबसे बेस्ट है इसके लिए तो इन सारी चीजों का जो है आप अच्छी तरीका से देखकर समझ कर आप अपनी जिंदगी के लिए एक अच्छा सा प्लेटफार्म तैयार कर सकते

dekha jaaye toh platform har insaan ke paas hoti hai bus zarurat hoti hai use sahi tarike se samjhne insaan agar platform nahi ataka rahe toh pata chalega ki vaah sabhi aage nahi dekha jaaye toh jo hai har insaan ek chahat aage badhne ki kuch karne ki hoti hai lekin hua aage kaise bhare aur kuch kare kaise le isme use jo hai teen mahatvapurna sawalon ka use uttar dena ho khud seva sochna hoga teen sawalon ke agar vaah jawab mil jaati hai toh uska platform bhi Automatic mil jaati hai jis prakar hamesha hi platform par jaane ke liye hamein yah pata karna hota hai ki hamein jana kaha soche ki agar aapko jo hai jana hai hai kisi jagah par us jagah pe karni hogi ki vaah train mujhe us jagah par le jayegi toh use tarika se aapko apne carrier ke bare me bhi aapko samajhna padega ji aap kaun sa carrier apni kshamta anusaar ya apne vatavaran anusaar kuch kar sakte hain uska upyog ya chunav kar sakte hain aur example ke bahut saare aise carrier hain jo aapko chaka samay aur sthiti ke anusaar aapko samajh nahi hogi iske alava aur bhi bahut saari cheezen hain jo step bye step aap us ko dhyan me rakhakar aur achi tarika se samajh kar ek sahi platform ka chunav aap kar sakte toh main aap bata raha tha ki vaah teen cheezen jo aapko platform ka sahi platform ka naam madad kar sakti hai yani train yani ki sabse pehle aapko jana kaha hai second wahan tak jaane ke liye aapko train ka samay number saijes yaad honi chahiye aur vaah kis platform par aayegi yah sab aapko pata honi chahiye use tarika se aapko maloom ho jaane ke baad kya aapko kaun sa Career aapke liye sahi hai uske liye aapko kya kya karna padega hai na kitni mehnat karni padegi kitna usme samay dena padega kitna tan man dhan lagana padega yah sab saari cheezen aisa cheez hai ki kya sabse important point cheez hai ki kya hum us carrier me hundred percent de payenge kya vaah carrier ka chunav hamein sirf khushi deti hai ya phir kuch aur kya hum apna pura jo hai hundred percent tapana khushi apna upchaar va kaha jata hai ki us kaam me agar aapko man lagne lage khush lagne lage toh hi aapka sabse best hai iske liye toh in saari chijon ka jo hai aap achi tarika se dekhkar samajh kar aap apni zindagi ke liye ek accha sa platform taiyar kar sakte

देखा जाए तो प्लेटफार्म हर इंसान के पास होती है बस जरूरत होती है उसे सही तरीके से समझने इंस

Romanized Version
Likes  21  Dislikes    views  281
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!