आजकल सच्चाई का कोई मूल्य नहीं रखा किसी के पास भी सच्चाई नहीं है?...


user

Vinod Kumar Pandey

Life Coach | Career Counsellor ::Relationship Counsellor :: Parenting Counsellor

2:17
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपस में क्या उसका उत्तर में मैं यही कहना चाहता हूं कि जो आपने कहा कि सच्चाई का कोई मूल्य नहीं रखा है ऐसा बिल्कुल नहीं है सच्चाई अमूल्य होता है और जो व्यक्ति अपने जीवन में सच के साथ होता है वह जीवन में कभी भी पराजित हो ही नहीं सकता है इसीलिए इसका हमेशा ही इसका परिणाम बहुत दूरगामी परिणाम होता है और बहुत ही सकारात्मक होता है और जो आपने कहा कि किसी के पास सच्चाई भी नहीं है ऐसा नहीं है आज के जमाने में भी बहुत लोग सच्चे हैं ऐसा जरूर है कि समाज में ज्यादातर लोग कहीं ना कहीं अपने जीवन में अपने क्षणिक लाभ को लेकर के बेईमानी का सहारा ले रहे हैं और जीवन में ज्यादा खुशी और ज्यादा सफलता की उम्मीद कर रहे हैं ऐसा होता भी है कि जवाब गलत रास्ते से गलत विचारों के साथ बेईमानी के साथ जीवन में आगे बढ़ते हैं तो आपको जीवन में छड़ी कामयाबी जरूर मिलती है आपको छड़ी सफलता जरूर मिलती है यही कारण है कि समाज में ज्यादातर लोग केवल गलत कार्यों द्वारा ना जीवन में सफलता पाने की होड़ में लगे हुए हैं यही कारण है ऐसा लगता है कि आप शायद सच्चाई की कोई वैल्यू नहीं है लेकिन ऐसा बिल्कुल नहीं है जो जीवन में जैसा कार्य करता है वैसा ही उसको अपने जीवन का अनुभव होता है अगर कोई गलत कारीगर के जीवन में सफलता हासिल करता है तो कहीं ना कहीं उसका तनाव उसका फ्रस्ट्रेशन और उसकी जो बुरा परिणाम है उसको जीवन में जरूर मिलता है इसीलिए अगर आप जीवन में हमेशा ही अपने आप से नजर मिलाना चाहते हैं अपनी खुद की नजर में इज्जत को बढ़ाना चाहते हैं सम्मान देना चाहते हैं तो बहुत जरूरी होता है कि हमेशा आप सच के साथ रहें अगर आप सच के साथ रहते तो जीवन में आप कभी भी पराजित नहीं हो सकते हैं आप थोड़ा परेशान हो सकते हैं लेकिन आप हमेशा ही विजई होंगे हमेशा ही जीतेंगे और इसी विश्वास के साथ अपने जीवन में सच्चाई को बनाते रहिए और अपने जीवन की गुणवत्ता को बढ़ाते रहिए कभी किसी को देख करके गलत रास्ते को ना बनाएं गलत तरीकों को ना करें क्योंकि ध्यान रहे जब हम किसी की गलत चीजों को देख कर के अपनी अपनाते हैं तो उसका बुरा परिणाम हमें ही भोगना पड़ता है और तब तक बहुत लेट हो चुकी होती है इसीलिए जीवन में जितना हो सके केवल अच्छे रास्तों को अपनाएं अच्छी चीजों को ही बनाए तो की यही एक ऐसा चीज बताओ जिससे आप अपने जीवन को अच्छा बना सकते हैं मेरी शुभकामनाएं आपके लिए धन्यवाद

aapas me kya uska uttar me main yahi kehna chahta hoon ki jo aapne kaha ki sacchai ka koi mulya nahi rakha hai aisa bilkul nahi hai sacchai amuly hota hai aur jo vyakti apne jeevan me sach ke saath hota hai vaah jeevan me kabhi bhi parajit ho hi nahi sakta hai isliye iska hamesha hi iska parinam bahut durgami parinam hota hai aur bahut hi sakaratmak hota hai aur jo aapne kaha ki kisi ke paas sacchai bhi nahi hai aisa nahi hai aaj ke jamane me bhi bahut log sacche hain aisa zaroor hai ki samaj me jyadatar log kahin na kahin apne jeevan me apne kshanik labh ko lekar ke baimani ka sahara le rahe hain aur jeevan me zyada khushi aur zyada safalta ki ummid kar rahe hain aisa hota bhi hai ki jawab galat raste se galat vicharon ke saath baimani ke saath jeevan me aage badhte hain toh aapko jeevan me chadi kamyabi zaroor milti hai aapko chadi safalta zaroor milti hai yahi karan hai ki samaj me jyadatar log keval galat karyo dwara na jeevan me safalta paane ki hod me lage hue hain yahi karan hai aisa lagta hai ki aap shayad sacchai ki koi value nahi hai lekin aisa bilkul nahi hai jo jeevan me jaisa karya karta hai waisa hi usko apne jeevan ka anubhav hota hai agar koi galat karigar ke jeevan me safalta hasil karta hai toh kahin na kahin uska tanaav uska frustration aur uski jo bura parinam hai usko jeevan me zaroor milta hai isliye agar aap jeevan me hamesha hi apne aap se nazar milana chahte hain apni khud ki nazar me izzat ko badhana chahte hain sammaan dena chahte hain toh bahut zaroori hota hai ki hamesha aap sach ke saath rahein agar aap sach ke saath rehte toh jeevan me aap kabhi bhi parajit nahi ho sakte hain aap thoda pareshan ho sakte hain lekin aap hamesha hi vijayi honge hamesha hi jitenge aur isi vishwas ke saath apne jeevan me sacchai ko banate rahiye aur apne jeevan ki gunavatta ko badhate rahiye kabhi kisi ko dekh karke galat raste ko na banaye galat trikon ko na kare kyonki dhyan rahe jab hum kisi ki galat chijon ko dekh kar ke apni apanate hain toh uska bura parinam hamein hi bhogna padta hai aur tab tak bahut late ho chuki hoti hai isliye jeevan me jitna ho sake keval acche raston ko apanaen achi chijon ko hi banaye toh ki yahi ek aisa cheez batao jisse aap apne jeevan ko accha bana sakte hain meri subhkamnaayain aapke liye dhanyavad

आपस में क्या उसका उत्तर में मैं यही कहना चाहता हूं कि जो आपने कहा कि सच्चाई का कोई मूल्य न

Romanized Version
Likes  213  Dislikes    views  2337
KooApp_icon
WhatsApp_icon
3 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!