क्या मैं अपने परिवार के साथ मिलकर एक साथ खुशहाल ज़िंदगी जी सकूंगी?...


user

Kankan Sarmah

Psychologist

1:57
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्या मैं आपके परिवार के साथ मिलकर एक सकुशल जिंदगी दे सकूंगी इंसान हैं एक सोसाइटी के दायरे में है ना मानते भी हैं और जरूरत भी कोई नहीं चाहता है कि वह अपने परिवार से बिछड़ जाए हमेशा एकजुट होकर एक साथ सभी प्रयास भी करते हैं कोशिश भी करते हैं लेकिन किसी के साथ होता है तो किसी के साथ नहीं होते तो सबको अपनी फैमिली के साथ कम्युनिकेशन बरकरार रखना जरूरी कम्युनिकेशन करते रहें जो भी समस्या है उसके बात करने से ही आपके हाल निकलेगा जब तक बात नहीं करेंगे गुस्सा करते रहेंगे यह नहीं करेंगे तो सपोर्ट नहीं करेंगे तो अंडरस्टैंडिंग और उसके साथ में चलना चाहिए जो वैल्यू है वह कभी भी खुद तो नहीं सकेंगे बहुत ही इनकोडेबल पावडे इसके अंदर तो यह सभी को जनना जरूरी है इसके में कितना है और इनके अंदर कितना है और कितना है ठीक है बड़ा है या छोटा है हर कोई इंसान तो एक से मिले इनके अंदर वह जो बॉन्डिंग है वह बॉन्डिंग हमेशा मेंटेन होते रहेगा

kya main aapke parivar ke saath milkar ek sakushal zindagi de sakungi insaan hain ek society ke daayre me hai na maante bhi hain aur zarurat bhi koi nahi chahta hai ki vaah apne parivar se bichhad jaaye hamesha ekjut hokar ek saath sabhi prayas bhi karte hain koshish bhi karte hain lekin kisi ke saath hota hai toh kisi ke saath nahi hote toh sabko apni family ke saath communication barkaraar rakhna zaroori communication karte rahein jo bhi samasya hai uske baat karne se hi aapke haal niklega jab tak baat nahi karenge gussa karte rahenge yah nahi karenge toh support nahi karenge toh understanding aur uske saath me chalna chahiye jo value hai vaah kabhi bhi khud toh nahi sakenge bahut hi inakodebal pavade iske andar toh yah sabhi ko janana zaroori hai iske me kitna hai aur inke andar kitna hai aur kitna hai theek hai bada hai ya chota hai har koi insaan toh ek se mile inke andar vaah jo bonding hai vaah bonding hamesha maintain hote rahega

क्या मैं आपके परिवार के साथ मिलकर एक सकुशल जिंदगी दे सकूंगी इंसान हैं एक सोसाइटी के दायरे

Romanized Version
Likes  800  Dislikes    views  9217
KooApp_icon
WhatsApp_icon
30 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!