कहना है कि  जो पुलिस प्रशासन पर आरोपों पर जनता को संभालने में लगा है तो वह भी तो एक से दो चार पांच हो जाते हैं। कभी कभी ऐसा देखने को मिलता है क्या उसे कोरोनावायरस नहीं हो सकता है।?...


user

Dr.Amit Agrahari

Alopathic Ayurvedic Unani Doctor

2:33
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

श्रीमान जी जितना आपको ना भारत को हवा हवाई समझते हैं उतना हवा-हवाई वह पुलिस वाले भी समझते हैं यह सत्य है कि करुणा भारत में सोशल जस्टिस का पालन होना चाहिए आप पहले कहा जा रहा था कि 1 मीटर दूरी पर रहिए अब कहा जा रहा है कि नहीं 8 मीटर की दूरी पर ही है क्या कि भारत के अपार क्षेत्र में 6 मीटर की दूरी पर कहा गया है कि अगर किसी को सर्दी जुकाम खाते हो तो उसे 6 मीटर दूरी बनाकर रखी है और सबसे बड़ी बात क्या है कि चाय यहां की सरकार चाहे पूरे संसार के सरकार साले रूल नियम को खुली फॉलो नहीं कर सकती मैरिज नहीं कर सकती वह दूसरों पर क्या नियमित होंगे और क्या बनाएंगे अब जहां तक पुलिस वालों की बात है उनकी तो मजबूरी है बेचारी वो ड्यूटी करते हैं डॉक्टर स्वास्थ्य कर्मी की जहां तक बात है वह भी बेचारे ड्यूटी करते हैं और छुट्टी मिल जाएगी नौकरी होती है नौकरी नौकरी जब आदमी करता है तुझे उसके मालिक होते हैं बड़े अधिकारी या जो भी एक्साइजेज वह हर तरह से काम लेते हैं उनसे हर तरीके से काम लेते हैं और अब तो खैर यह तो जानलेवा बीमारी की बात है फिर भी लाल सरकार ने पंजाब प्रांत लाख का बीमा कर रखा है लोगों के लिए इधर कहीं कोई बात आ जाती है तो घबराने की बात नहीं है तो इससे सब बीमित व्यक्ति है लेकिन फिर भी जातक सोचा डिस्टेंस पालन की बात है तो आप अगर पुलिस की गाड़ी में देखिए गाड़ी में गैर 46 लोग बैठे हुए हैं पहली बार तो यही सबसे बड़ा रंग है उसमें आप देखेंगे की छांव में कोई मास्क भी नहीं लगाया होगा तो सब छोड़ी बात का है कि जहां तक यह अभी जो प्रस्तुतियां चल रही है जो भी माहौल चल रहा है जो लोग बाहर घूम रहे हैं चाहे वह पुलिस वाले हो क्या सरकार की कर्मचारी हो या स्वास्थ्य कर्मी हो सब नस्ल इसकी चपेट में आने आप सकते हैं क्योंकि इसमें यह नहीं है कि यह बन जाएंगे ऐसा कहीं कुछ नहीं है यह लोग जरूर आ सकते हैं फिर भी आप अपने आप को बचा कर रखिए अपने घरों में रहिए बाहर नंद के लिए सोशल डिस्टेंस का पालन करिए और आगरा में ले लिया और तालाबों अपना मिलिट्री पावर बढ़ाइए गरम गरम पानी पीजिए काली मिर्ची काली चाय पीजिए नमक पानी गर्म करके गरारा करिए और खाने को खूब बढ़िया से पका कर खाए अच्छी सब्जी कच्चा अंडा कच्चा माल भूखी ना खाइए इस तरह से आप को लगा सकते हैं

shriman ji jitna aapko na bharat ko hawa hawai samajhte hain utana hawa hawai vaah police waale bhi samajhte hain yah satya hai ki corona bharat me social justice ka palan hona chahiye aap pehle kaha ja raha tha ki 1 meter doori par rahiye ab kaha ja raha hai ki nahi 8 meter ki doori par hi hai kya ki bharat ke apaar kshetra me 6 meter ki doori par kaha gaya hai ki agar kisi ko sardi zukam khate ho toh use 6 meter doori banakar rakhi hai aur sabse badi baat kya hai ki chai yahan ki sarkar chahen poore sansar ke sarkar saale rule niyam ko khuli follow nahi kar sakti marriage nahi kar sakti vaah dusro par kya niyamit honge aur kya banayenge ab jaha tak police walon ki baat hai unki toh majburi hai bechari vo duty karte hain doctor swasthya karmi ki jaha tak baat hai vaah bhi bechare duty karte hain aur chhutti mil jayegi naukri hoti hai naukri naukri jab aadmi karta hai tujhe uske malik hote hain bade adhikari ya jo bhi eksaijej vaah har tarah se kaam lete hain unse har tarike se kaam lete hain aur ab toh khair yah toh janleva bimari ki baat hai phir bhi laal sarkar ne punjab prant lakh ka bima kar rakha hai logo ke liye idhar kahin koi baat aa jaati hai toh ghabrane ki baat nahi hai toh isse sab bimit vyakti hai lekin phir bhi jatak socha distance palan ki baat hai toh aap agar police ki gaadi me dekhiye gaadi me gair 46 log baithe hue hain pehli baar toh yahi sabse bada rang hai usme aap dekhenge ki chanv me koi mask bhi nahi lagaya hoga toh sab chodi baat ka hai ki jaha tak yah abhi jo prastutiyan chal rahi hai jo bhi maahaul chal raha hai jo log bahar ghum rahe hain chahen vaah police waale ho kya sarkar ki karmchari ho ya swasthya karmi ho sab nasl iski chapet me aane aap sakte hain kyonki isme yah nahi hai ki yah ban jaenge aisa kahin kuch nahi hai yah log zaroor aa sakte hain phir bhi aap apne aap ko bacha kar rakhiye apne gharon me rahiye bahar nand ke liye social distance ka palan kariye aur agra me le liya aur talabon apna miltary power badhaiye garam garam paani PGA kali mirchi kali chai PGA namak paani garam karke garara kariye aur khane ko khoob badhiya se paka kar khaye achi sabzi kaccha anda kaccha maal bhukhi na khaiye is tarah se aap ko laga sakte hain

श्रीमान जी जितना आपको ना भारत को हवा हवाई समझते हैं उतना हवा-हवाई वह पुलिस वाले भी समझते ह

Romanized Version
Likes  240  Dislikes    views  2144
KooApp_icon
WhatsApp_icon
2 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!