जिंदगी क्या है?...


user

Rajesh Kumar Saxena

Assistant Professor

0:21
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जिंदगी एक पहेली होने के साथ अनुभव भी है जितना आप बढ़ते जाएंगे उम्र में इतना पन्हो ज्ञान अर्जित करते हैं आएंगे जब आप हमको ज्ञान अर्जित करने आएंगे तब आपको अपनी जिंदगी यह परीक्षा में पास होते चले जाएंगे यही जिंदगी है

zindagi ek paheli hone ke saath anubhav bhi hai jitna aap badhte jaenge umar me itna panho gyaan arjit karte hain aayenge jab aap hamko gyaan arjit karne aayenge tab aapko apni zindagi yah pariksha me paas hote chale jaenge yahi zindagi hai

जिंदगी एक पहेली होने के साथ अनुभव भी है जितना आप बढ़ते जाएंगे उम्र में इतना पन्हो ज्ञान अर

Romanized Version
Likes  21  Dislikes    views  685
WhatsApp_icon
30 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एथेंस में हूं ऑफिस मिस्टर लकी दोस्तों को क्वेश्चन है जिंदगी क्या है दोस्त मैं आपको बताना चाहता हूं जिंदगी को कल आता है जब इंसान जन्म लेता है जन्म से लेकर की मृत्यु के बीच उसकी उचितपुर को गुणगान होती है कौन व्यक्ति क्या किया है और उसकी क्या अर्थ है क्या मायने रखा हुआ दोस्त मैं उम्मीद करता हूं कि जिंदगी है जो किसी व्यक्ति को जन्म से लेकर मृत्यु के कारण कर्तव्य को उच्चारण ही एक ही कहा था कि वे कार्य को ही हम जिंदगी खत्म तो दोस्तों में करते हैं आपको समझ आ गए होंगे

ethens me hoon office mister lucky doston ko question hai zindagi kya hai dost main aapko batana chahta hoon zindagi ko kal aata hai jab insaan janam leta hai janam se lekar ki mrityu ke beech uski uchitpur ko gunagan hoti hai kaun vyakti kya kiya hai aur uski kya arth hai kya maayne rakha hua dost main ummid karta hoon ki zindagi hai jo kisi vyakti ko janam se lekar mrityu ke karan kartavya ko ucharan hi ek hi kaha tha ki ve karya ko hi hum zindagi khatam toh doston me karte hain aapko samajh aa gaye honge

एथेंस में हूं ऑफिस मिस्टर लकी दोस्तों को क्वेश्चन है जिंदगी क्या है दोस्त मैं आपको बताना च

Romanized Version
Likes  31  Dislikes    views  573
WhatsApp_icon
user

Anshu Sarkar

Founder & Director, Sarkar Yog Academy

2:33
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सबसे पहले तो आप को मेरा नमस्कार आप का सवाल है जिंदगी क्या है जिंदगी एक जुआ है कभी हार कभी जीत कभी खुशी कभी गम यह जिंदगी पर यह जिंदगी बहुत सुंदर भी है अगर जिंदगी को जिंदगी जैसे जिया जाए जिंदगी जिंदादिली का नाम है मुर्दा दिल क्या खाक जिया करता है 8400000 जॉनी के बाद मनुष्य जीवन मिलता है इस जिंदगी को खुशी-खुशी बताइए बस दिल करके भी चाहिए क्योंकि जिंदगी मिलाना दोबारा इस जीवन में अपना हर ख्वाहिश को पूरा कीजिए हो सके जितना तिलहर के जिए खुशी-खुशी यह तभी संभव होगा जब आप निरोग शरीर चिंतामन आत्मविश्वास भरा दिल बाजुओं मे ताकत जीवन में कुछ कर गुजरने की चाह निरोग शरीर आपका रहेगा तभी आप जिंदगी को छत से जीत सकते हैं जिंदगी जीने के लिए जिंदगी को बुक करने के लिए जिंदगी दूसरों के लिए समर्पित करने के लिए जिंदगी देश के नाम लिख देने के लिए जिंदगी अपना जिंदगी माता-पिता का चरणों में स्वर्ग अनुभव करने के लिए सब चीज के लिए चाहिए की चीज वह योग्य मंथन अगर आप अपने जीवन में इस जिंदगी में योग एवं ध्यान को अपना लिए तो आप का सर्वांगीण विकास होगा शारीरिक मानसिक नैतिक आध्यात्मिक संपूर्ण विकास तभी जिंदगी कक्षा से माने समझ सकते हैं इस जिंदगी का आनंद ले सकते हैं एवं जिंदगी का यह खुशी दूसरों को भी दे सकते हैं धन्यवाद

sabse pehle toh aap ko mera namaskar aap ka sawaal hai zindagi kya hai zindagi ek jua hai kabhi haar kabhi jeet kabhi khushi kabhi gum yah zindagi par yah zindagi bahut sundar bhi hai agar zindagi ko zindagi jaise jiya jaaye zindagi jindadili ka naam hai murda dil kya khak jiya karta hai 8400000 Jonny ke baad manushya jeevan milta hai is zindagi ko khushi khushi bataiye bus dil karke bhi chahiye kyonki zindagi milana dobara is jeevan me apna har khwaahish ko pura kijiye ho sake jitna tilhar ke jiye khushi khushi yah tabhi sambhav hoga jab aap nirog sharir chintaman aatmvishvaas bhara dil bajuon mein takat jeevan me kuch kar guzarne ki chah nirog sharir aapka rahega tabhi aap zindagi ko chhat se jeet sakte hain zindagi jeene ke liye zindagi ko book karne ke liye zindagi dusro ke liye samarpit karne ke liye zindagi desh ke naam likh dene ke liye zindagi apna zindagi mata pita ka charno me swarg anubhav karne ke liye sab cheez ke liye chahiye ki cheez vaah yogya manthan agar aap apne jeevan me is zindagi me yog evam dhyan ko apna liye toh aap ka Sarvangiṇa vikas hoga sharirik mansik naitik aadhyatmik sampurna vikas tabhi zindagi kaksha se maane samajh sakte hain is zindagi ka anand le sakte hain evam zindagi ka yah khushi dusro ko bhi de sakte hain dhanyavad

सबसे पहले तो आप को मेरा नमस्कार आप का सवाल है जिंदगी क्या है जिंदगी एक जुआ है कभी हार कभी

Romanized Version
Likes  280  Dislikes    views  2308
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भैया जीवन एक ऐसी धारा है जिसमें हम बहे जा रहे हैं और हमें अपने जीवन को को जो है उसी धारा में बहते हुए ही जीना है तो आप किसी भी परिस्थिति में हूं अपने धैर्य को नाखून और हर एक पल को एंजॉय करते चले कितना भी बुरा वक्त हो वह भी डर लगता है कितना भी अच्छा वक्त हो वह भी ऐसे रहे तो आप किसी भी एक चीज को लेकर अपने जीवन को दोष ना दें और हर चीज का आनंद लेते हुए चलें यही जीवन है

bhaiya jeevan ek aisi dhara hai jisme hum bahe ja rahe hain aur hamein apne jeevan ko ko jo hai usi dhara me bahte hue hi jeena hai toh aap kisi bhi paristhiti me hoon apne dhairya ko nakhun aur har ek pal ko enjoy karte chale kitna bhi bura waqt ho vaah bhi dar lagta hai kitna bhi accha waqt ho vaah bhi aise rahe toh aap kisi bhi ek cheez ko lekar apne jeevan ko dosh na de aur har cheez ka anand lete hue chalen yahi jeevan hai

भैया जीवन एक ऐसी धारा है जिसमें हम बहे जा रहे हैं और हमें अपने जीवन को को जो है उसी धारा म

Romanized Version
Likes  88  Dislikes    views  661
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार दोस्तों देखा आपने पसंद किया कि जिंदगी क्या है यानी व्हाट इज लाइफ देखो जिंदगी जो है मतलब एक ऐसा पहलू है जिसमें सुख और दुख दोनों हमें सुख को देखकर अपने पिछली बातें नहीं भूलनी चाहिए और दुख को देखकर घबराना नहीं चाहिए सुख दुख जिस प्रकार दिन रात सुबह के बाद शाम शाम के बाद सुबह होते हैं उसी प्रकार सुख-दुख भी एक पहलू है आते जाते रहते हैं जिंदगी एक आधार है इन दोनों का ठीक है ना जिसमें सिर्फ लगे रहते हैं और दूसरी बात हम यहां पर अगर आए हैं पृथ्वी पर अगर हम पैदा हुए हैं तो पृथ्वी हमारा घर नहीं है ठीक है ना हमारा घर स्वर्ग है ऊपर हमें यहां पर कल करने के लिए भेजा गया क्योंकि इंसान जब इस पृथ्वी पर जन्म लेता है उसी दिन से इंसान की जो जन्म कुंडली होती है एक-एक दिन कम होती जाती है 1 साल से भगवान जितने दिन का रिचार्ज करके भेजते हैं तो हर एक हमारी वैलिडिटी कम होती जाती है तो हम हर एक दिन मृत्यु के करीब होते जाते हैं लेकिन हम यह नहीं समझ पाते हम सोचते हैं कि अभी तो छोटे हैं बड़े हुए हैं अब युवा हुए हैं अब जवान हुए हैं वैसा करेंगे हमने अपना इतना टाइम काट दिया अब हमारी जो बच्चे लाइफ है उसमें हम कुछ ऐसा कर कुछ ऐसा करें कि हम अपना यहां पर नाम कमा कर जाएं क्योंकि दुनिया जो है अच्छे कामों से याद करते हैं बुरे कामों से नहीं तो कहने का मतलब एक हिसाब से हम यहां पर आए हुए मेहमान हैं हमारा जो घर है परमानेंटली वह ऊपर है तो वही जिंदगी है भगवान हमको जिंदगी दे कुछ सुख-दुख इसमें शामिल करके भेज दिया है कि जाओ अच्छे कर्म करो अच्छे काम करो तुम अपने काम से जाने जाओगे घर में सजाने जाऊंगा और कर्म के हिसाब से तुम्हें फल मिलेगा और तुम सुख दुख देखकर कभी घबराना नहीं और कुछ इंसान यह सब भूल जाते हैं कि हमें मृत्यु नहीं होगी हमें मरना नहीं है यह वह तो हमें उसी हिसाब से यह सोचना चाहिए कि हम हर एक जो भी हो रहे हैं मृत्यु के करीब जा रहे हैं तो हमें अच्छे से अच्छे काम कर लीजिए और यहां इंसान ना कुछ लेकर आया है ना कुछ लेकर जाएगा ठीक है ना तो कहने का मतलब इंसान जो भी करेगा अच्छे काम अच्छे नाम करके जाएगा वहीं सबके मतलब जुबान पर बैठा रहता है कि कोई अच्छा इंसान की जिंदगी से गुजरा बुरा इंसान गुजरात हमारे कर्मों पर डिपेंड है हमें घबराना चाहिए हमें लगातार कर लिस्ट होकर अच्छे कर्म करते रहना चाहिए यही जिंदगी का आधार है उन्हें जिंदगी है यह सोचना चाहिए कि हम हमें यहां पर भगवान ने भेजा कुछ दिनों के लिए अच्छे काम करने के लिए ठीक है ना और जिंदगी की यही मजहब है सुख हो तो किसके साथ बुरा पड़ा

namaskar doston dekha aapne pasand kiya ki zindagi kya hai yani what is life dekho zindagi jo hai matlab ek aisa pahaloo hai jisme sukh aur dukh dono hamein sukh ko dekhkar apne pichali batein nahi bhulni chahiye aur dukh ko dekhkar ghabrana nahi chahiye sukh dukh jis prakar din raat subah ke baad shaam shaam ke baad subah hote hain usi prakar sukh dukh bhi ek pahaloo hai aate jaate rehte hain zindagi ek aadhar hai in dono ka theek hai na jisme sirf lage rehte hain aur dusri baat hum yahan par agar aaye hain prithvi par agar hum paida hue hain toh prithvi hamara ghar nahi hai theek hai na hamara ghar swarg hai upar hamein yahan par kal karne ke liye bheja gaya kyonki insaan jab is prithvi par janam leta hai usi din se insaan ki jo janam kundali hoti hai ek ek din kam hoti jaati hai 1 saal se bhagwan jitne din ka recharge karke bhejate hain toh har ek hamari validity kam hoti jaati hai toh hum har ek din mrityu ke kareeb hote jaate hain lekin hum yah nahi samajh paate hum sochte hain ki abhi toh chote hain bade hue hain ab yuva hue hain ab jawaan hue hain waisa karenge humne apna itna time kaat diya ab hamari jo bacche life hai usme hum kuch aisa kar kuch aisa kare ki hum apna yahan par naam kama kar jayen kyonki duniya jo hai acche kaamo se yaad karte hain bure kaamo se nahi toh kehne ka matlab ek hisab se hum yahan par aaye hue mehmaan hain hamara jo ghar hai permanently vaah upar hai toh wahi zindagi hai bhagwan hamko zindagi de kuch sukh dukh isme shaamil karke bhej diya hai ki jao acche karm karo acche kaam karo tum apne kaam se jaane jaoge ghar me sajane jaunga aur karm ke hisab se tumhe fal milega aur tum sukh dukh dekhkar kabhi ghabrana nahi aur kuch insaan yah sab bhool jaate hain ki hamein mrityu nahi hogi hamein marna nahi hai yah vaah toh hamein usi hisab se yah sochna chahiye ki hum har ek jo bhi ho rahe hain mrityu ke kareeb ja rahe hain toh hamein acche se acche kaam kar lijiye aur yahan insaan na kuch lekar aaya hai na kuch lekar jaega theek hai na toh kehne ka matlab insaan jo bhi karega acche kaam acche naam karke jaega wahi sabke matlab jubaan par baitha rehta hai ki koi accha insaan ki zindagi se gujara bura insaan gujarat hamare karmon par depend hai hamein ghabrana chahiye hamein lagatar kar list hokar acche karm karte rehna chahiye yahi zindagi ka aadhar hai unhe zindagi hai yah sochna chahiye ki hum hamein yahan par bhagwan ne bheja kuch dino ke liye acche kaam karne ke liye theek hai na aur zindagi ki yahi majhab hai sukh ho toh kiske saath bura pada

नमस्कार दोस्तों देखा आपने पसंद किया कि जिंदगी क्या है यानी व्हाट इज लाइफ देखो जिंदगी जो है

Romanized Version
Likes  183  Dislikes    views  1845
WhatsApp_icon
user

Dinesh Mishra

Theosophists | Accountant

10:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जिंदगी क्या है जिंदगी जो है वह कला आर्ट है और उसको कैसे जिया जाए जिंदगी जो है वह सर्च करके भी गुजारी जा सकती है और वह रो रो कर के भी गुजारी जा सकती है और फिर ना मालूम कि यह दोबारा मिले अथवा ना मिले इसलिए जिंदगी को हंस-हंसकर के गुजारना ज्यादा बेहतर हुआ करता है तो जिंदगी को जन्म जब जन्म हुआ करता है तो कुछ शिशु अवस्था में समझा समझ में ही नहीं आया करता है और समय यूं ही पांच 6 साल का निकल जाया करता है फिर शिशु से जब बड़े हुआ करते हैं तब कुछ कुछ ज्ञान है वह समझ में आने लगता है भले बुरे का भी ज्ञान आने सकता है और बहुत सी बातों का ज्ञान आने लगता है यद्यपि जिंदगी में जो प्रवेश है वातावरण है उसका भी बहुत बड़ा प्रभाव पड़ा करता है उस प्रवेश को ध्यान में रखते हुए तो जो जिंदगी को रो रो रो रो रो कर के गुजारने की अपेक्षा जोनास को आसपास के गुजारा जाए क्योंकि जो खुशी है और जो आनंद है वह आंतरिक चीज हुआ करती है उसे कोई भी किन्हीं भी परिस्थितियों में आपसे छीन नहीं सकता मारी जो वातावरण है वह तो ऐसे ही चलता रहता है कभी खुशी आती है तो कभी गम हुआ करता है कभी नफा होता है तो कभी नुकसान हो जाया करता है कभी हम दूसरों को सताया करते हैं तो कभी दूसरे हमें सताया करते हैं और इसी उधेड़बुन में जो जिंदगी है मनोरंजन आज मैं ऐसे ही चली जाया करती है और अंतिम अवस्था में समझ में ही नहीं आया करता है जिंदगी क्या थी और कैसे खिसक गई और व्यक्ति जो है मृत्यु को भी प्राप्त हो जाया करता है अब क्यों आए और जिंदगी कैसे गुजारे और क्यों चले गए कुछ समझ में नहीं मैं नहीं आया करता है तो क्यों ना जिंदगी को बेहतर तरीके से गुजारने को पिया दोबारा मिले अथवा ना मिले इसलिए बेहतर गुजारने के लिए जो वातावरण है जो आपका प्रवेश है उसे स्वयं अच्छा बने और उसको अच्छा बनाने का प्रयास करें किसी की भी आलोचना निंदा आदि से बचने का प्रयास करें वह सब सारे साधन जुटाए जाएं जो जिंदगी में आवश्यक हुआ करते हैं और जितने साधन जुट जाएं वह बेहतर हैं और जिंदगी को हाय डूबा गुजारना भी कोई मायने नहीं रखा करता है और क्या मदद यदि हम समर्थन है और कुछ कर सकते हैं तो घर परिवार को भी बेहतर बनाने का प्रयास करें और समाज को भी बेहतर बनाने का प्रयास करें क्योंकि हमने घर परिवार से भी बहुत कुछ लिया है समाज ने कुछ दिया है और राष्ट्र ने भी हमें कुछ दिया है यह भी रहना है यदि आप सा बर्दवान है तो जो लिया है उसे देने का भी प्रयास करें जितना बन सके और मूल बात यह है कि जिंदगी में किसी भी प्रकार का क्लेश का वातावरण ना हो चाहे वह स्वयं आपकी पत्नी हो चाहे आपके बच्चे हो इष्ट मित्रों को जनसमुदाय हूं यदि ऐसी कोई व्यक्ति है तो उनसे आप या तो मौन व्रत व्यवहार करें या सीमित व्यवहार करें क्योंकि जो आपका उद्देश्य है वह दूसरा है हम यहां आए हैं तो वातावरण भी हमें अच्छा रखना है हमें खुश रहना है और सामने वाले को भी खुश रखना है इस प्रकार से जिंदगी को गुजारे और जब चलने का भी समय हो तब भी यह सुकून रहे कि हमने जिंदगी को जितना भी किया है चाहे वह समय हमें समझदारी में क्यों ना कम ही मिला हो लेकिन हमने बेहतर जीने का प्रयास किया है और संभव है यदि आप अपनी जिंदगी को अच्छा गुजारेंगे तो निश्चित रूप से आपका जो है अनुकरण अन्य लोग भी करेंगे चाहे वह समाज की लड़की हो चाहे वह परिवार के व्यक्तियों जो जैसा आप कहेंगे वैसा ही आप को काटना है इसलिए दोनों अच्छा बोला जाए और उसकी जो फसल है वह काटी जाए और आप कानपुर में देख कर के वह लोग भी अनुकरण करेंगे तो पूरा जो समाज है जो आपका घर परिवार है एक अच्छे वातावरण में आएगा नहीं तो अन्यथा आप जो आए लोगों की निंदा चुगली और आपस में लड़ाई झगड़े में यदि जिंदगी को ऐसे ही मनोरंजन ओं में गुजारते रहेंगे तो वैसा ही प्रवेश आपका बनेगा और जो आप की अंतिम यात्रा है वह भी सुखद नहीं होगी और अन्य व्यक्ति विचार भी किया करता है कि हम यहां क्यों आए और क्या किया और क्यों चल दिए इसलिए वातावरण भी घर में अच्छा रखें सभी लोगों से बच्चों से इसने रखें बड़ों का सम्मान करें और जो संघर्ष की है उनसे मैत्री प्रेम पूर्वक रहे सुख भरा माहौल हो आनंद हो और यदि समय मिले तो कुछ इन सर भक्ति भी हो जाए क्योंकि वह भी जीवन के लिए अनुवाद हुआ करती है यात्रा तो है जन्म हुआ है तो मृत्यु भी सुनिश्चित है और जाना भी है इसलिए यदि हम जाएं तो कम से कम लोग याद रखें कि उसने अपनी जिंदगी को बेहतर गुजारा था धन्यवाद

zindagi kya hai zindagi jo hai vaah kala art hai aur usko kaise jiya jaaye zindagi jo hai vaah search karke bhi gujari ja sakti hai aur vaah ro ro kar ke bhi gujari ja sakti hai aur phir na maloom ki yah dobara mile athva na mile isliye zindagi ko hans hansakar ke gujarana zyada behtar hua karta hai toh zindagi ko janam jab janam hua karta hai toh kuch shishu avastha me samjha samajh me hi nahi aaya karta hai aur samay yun hi paanch 6 saal ka nikal jaya karta hai phir shishu se jab bade hua karte hain tab kuch kuch gyaan hai vaah samajh me aane lagta hai bhale bure ka bhi gyaan aane sakta hai aur bahut si baaton ka gyaan aane lagta hai yadyapi zindagi me jo pravesh hai vatavaran hai uska bhi bahut bada prabhav pada karta hai us pravesh ko dhyan me rakhte hue toh jo zindagi ko ro ro ro ro ro kar ke gujarne ki apeksha jonas ko aaspass ke gujara jaaye kyonki jo khushi hai aur jo anand hai vaah aantarik cheez hua karti hai use koi bhi kinhi bhi paristhitiyon me aapse cheen nahi sakta mari jo vatavaran hai vaah toh aise hi chalta rehta hai kabhi khushi aati hai toh kabhi gum hua karta hai kabhi nafa hota hai toh kabhi nuksan ho jaya karta hai kabhi hum dusro ko sataaya karte hain toh kabhi dusre hamein sataaya karte hain aur isi udhedbun me jo zindagi hai manoranjan aaj main aise hi chali jaya karti hai aur antim avastha me samajh me hi nahi aaya karta hai zindagi kya thi aur kaise khisak gayi aur vyakti jo hai mrityu ko bhi prapt ho jaya karta hai ab kyon aaye aur zindagi kaise gujare aur kyon chale gaye kuch samajh me nahi main nahi aaya karta hai toh kyon na zindagi ko behtar tarike se gujarne ko piya dobara mile athva na mile isliye behtar gujarne ke liye jo vatavaran hai jo aapka pravesh hai use swayam accha bane aur usko accha banane ka prayas kare kisi ki bhi aalochana ninda aadi se bachne ka prayas kare vaah sab saare sadhan jutaye jayen jo zindagi me aavashyak hua karte hain aur jitne sadhan jut jayen vaah behtar hain aur zindagi ko hi dooba gujarana bhi koi maayne nahi rakha karta hai aur kya madad yadi hum samarthan hai aur kuch kar sakte hain toh ghar parivar ko bhi behtar banane ka prayas kare aur samaj ko bhi behtar banane ka prayas kare kyonki humne ghar parivar se bhi bahut kuch liya hai samaj ne kuch diya hai aur rashtra ne bhi hamein kuch diya hai yah bhi rehna hai yadi aap sa barddhaman hai toh jo liya hai use dene ka bhi prayas kare jitna ban sake aur mul baat yah hai ki zindagi me kisi bhi prakar ka kalesh ka vatavaran na ho chahen vaah swayam aapki patni ho chahen aapke bacche ho isht mitron ko janasamuday hoon yadi aisi koi vyakti hai toh unse aap ya toh maun vrat vyavhar kare ya simit vyavhar kare kyonki jo aapka uddeshya hai vaah doosra hai hum yahan aaye hain toh vatavaran bhi hamein accha rakhna hai hamein khush rehna hai aur saamne waale ko bhi khush rakhna hai is prakar se zindagi ko gujare aur jab chalne ka bhi samay ho tab bhi yah sukoon rahe ki humne zindagi ko jitna bhi kiya hai chahen vaah samay hamein samajhdari me kyon na kam hi mila ho lekin humne behtar jeene ka prayas kiya hai aur sambhav hai yadi aap apni zindagi ko accha gujarenge toh nishchit roop se aapka jo hai anukaran anya log bhi karenge chahen vaah samaj ki ladki ho chahen vaah parivar ke vyaktiyon jo jaisa aap kahenge waisa hi aap ko kaatna hai isliye dono accha bola jaaye aur uski jo fasal hai vaah kaati jaaye aur aap kanpur me dekh kar ke vaah log bhi anukaran karenge toh pura jo samaj hai jo aapka ghar parivar hai ek acche vatavaran me aayega nahi toh anyatha aap jo aaye logo ki ninda chugli aur aapas me ladai jhagde me yadi zindagi ko aise hi manoranjan on me gujarate rahenge toh waisa hi pravesh aapka banega aur jo aap ki antim yatra hai vaah bhi sukhad nahi hogi aur anya vyakti vichar bhi kiya karta hai ki hum yahan kyon aaye aur kya kiya aur kyon chal diye isliye vatavaran bhi ghar me accha rakhen sabhi logo se baccho se isne rakhen badon ka sammaan kare aur jo sangharsh ki hai unse maitri prem purvak rahe sukh bhara maahaul ho anand ho aur yadi samay mile toh kuch in sir bhakti bhi ho jaaye kyonki vaah bhi jeevan ke liye anuvad hua karti hai yatra toh hai janam hua hai toh mrityu bhi sunishchit hai aur jana bhi hai isliye yadi hum jayen toh kam se kam log yaad rakhen ki usne apni zindagi ko behtar gujara tha dhanyavad

जिंदगी क्या है जिंदगी जो है वह कला आर्ट है और उसको कैसे जिया जाए जिंदगी जो है वह सर्च करके

Romanized Version
Likes  263  Dislikes    views  2379
WhatsApp_icon
user
4:28
Play

Likes  333  Dislikes    views  1680
WhatsApp_icon
user

Sarvesh Kumar Satyarthi

Admin Head@Career First

1:36
Play

Likes  114  Dislikes    views  1686
WhatsApp_icon
user

NAQVI

Business Owner

2:16
Play

Likes  96  Dislikes    views  1084
WhatsApp_icon
user

Daulat Ram Sharma Shastri

Psychologist | Ex-Senior Teacher

3:35
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जिंदगी क्या है इसको आज तक कोई समझ सका ना कोई समझ सकेगा यह तो एक वह पूछ पहेली है जिसका जन्म और मृत्यु एक अटल होता है यह वह अंतिम सत्य है की जो मनु कंफर्म आनंद जीवन का प्रारंभ होना है जान भी होना है तो मिट्टी भी होगी इसके बीच की सारी कहानी जिंदगी है इसके लिए मैं आपको एक गाने की 2 लाइनें सुना रहा हूं सुनिए आपसे बहुत समझदार लगाना है पुराने गाने पुराने गाने तो बहुत ही पुराना संगीत तो पुराने गाने अपने आप में बेमिसाल हैं और उनके बहुत पर चलते हैं और उन औरतों को समझना ही नहीं उन गानों की सुंदरता है देखिए आप जिंदगी का सफर है ये कैसा सफर कोई समझा नहीं कोई जाना नहीं है यह कैसी जगह चलते हैं सब मगर कोई समझा नहीं कोई जाना नहीं फूल ऐसे भी हैं जो कि लेगी नहीं चुन के कि मैं सुपरमैन आ गई क्या आ गई चलती है सब मगर तुम्हें छोड़कर कोई समझा नहीं कोई जाना नहीं तो जिंदगी को बहुत प्यार तुमने किया मौतुषी भी मोहब्बत निभायेंगे रोते-रोते जमुई में आए मगर हंसते-हंसते जमाने से सो जाएंगे यह गाना फिल्म बेमिसाल गाना है और मुझे सर्वाधिक भी गाना है यह तो आपने उस पर निकाले उसे यूट्यूब से निकाल लेना और उसको सुन रहा इसका अब समझने लायक है जिंदगी है जो आज तक कोई नहीं सॉल्व कर सका और हर दिन से देखोगे बाहर भी उसे अलग नजर आती है अब किसी की जिंदगी खुशियों से भरी हुई है कि इसको दुखों से भरा हुआ है सुख भी आते हैं दुख भी आते हैं जो भी आती है खाली आती है सुबह भी होती है काम भी होती है यही जिंदगी है

zindagi kya hai isko aaj tak koi samajh saka na koi samajh sakega yah toh ek vaah puch paheli hai jiska janam aur mrityu ek atal hota hai yah vaah antim satya hai ki jo manu confirm anand jeevan ka prarambh hona hai jaan bhi hona hai toh mitti bhi hogi iske beech ki saari kahani zindagi hai iske liye main aapko ek gaane ki 2 linen suna raha hoon suniye aapse bahut samajhdar lagana hai purane gaane purane gaane toh bahut hi purana sangeet toh purane gaane apne aap me BEMISAL hain aur unke bahut par chalte hain aur un auraton ko samajhna hi nahi un gaano ki sundarta hai dekhiye aap zindagi ka safar hai ye kaisa safar koi samjha nahi koi jana nahi hai yah kaisi jagah chalte hain sab magar koi samjha nahi koi jana nahi fool aise bhi hain jo ki legi nahi chun ke ki main superman aa gayi kya aa gayi chalti hai sab magar tumhe chhodkar koi samjha nahi koi jana nahi toh zindagi ko bahut pyar tumne kiya mautushi bhi mohabbat nibhayenge rote rote jamui me aaye magar hansate hansate jamane se so jaenge yah gaana film BEMISAL gaana hai aur mujhe sarvadhik bhi gaana hai yah toh aapne us par nikale use youtube se nikaal lena aur usko sun raha iska ab samjhne layak hai zindagi hai jo aaj tak koi nahi solve kar saka aur har din se dekhoge bahar bhi use alag nazar aati hai ab kisi ki zindagi khushiyon se bhari hui hai ki isko dukhon se bhara hua hai sukh bhi aate hain dukh bhi aate hain jo bhi aati hai khaali aati hai subah bhi hoti hai kaam bhi hoti hai yahi zindagi hai

जिंदगी क्या है इसको आज तक कोई समझ सका ना कोई समझ सकेगा यह तो एक वह पूछ पहेली है जिसका जन्

Romanized Version
Likes  459  Dislikes    views  7259
WhatsApp_icon
user

RAJEEV KUMAR

Sexologist What:-9934026007

2:24
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुझे आपका प्रश्न बहुत ही सराहनीय है कि जिंदगी क्या है जी तो मैं इसमें आपको एक जानकारी देना चाह रहा हूं जिंदगी क्या है देखिए और गहराई वाले जिंदगी वह चीज है जो हमें दूसरों के द्वारा मिलता है बताएं आप कैसे कि दूसरों के द्वारा जिंदगी मिलती हैं जन्म हमें माता-पिता ने दिया पढ़ाया लिखा है वह हमें जिंदगी देता है अब वह हमें किस प्रकार की जिंदगी देती है अगर हम और शिक्षित हो जाते हैं तो हमारी जिंदगी ओझल वाली हो जाती है हम कठिन से कठिन मेहनत करते हैं और फिर भी हमें अच्छाई हाथ नहीं लगती है बुराइयां ही दवाइयां प्राप्त होती है और बहुत सारी तकलीफों को सामना करना पड़ता है तो एक जिंदगी वह संघर्ष श्री जिंदगी हो जाती है जैसे आप देखे होंगे कि आपके गांव समाज में कोई भी आदमी की मृत्यु होती है तो आप के मुखारविंद से एक और साक्ष्य जो वाक्य प्रकट होता है आप इतना संघर्षशील इनकी जिंदगी थी बचरा आज अंत काल हो गए क्यों क्योंकि आपने उसको देखा कि वह इंसान सुबह से लेकर शाम तक बहुत सारे तकलीफों को सामना करता था और फिर भी वह अच्छी जिंदगी नहीं तो यह हो गया एक-दो नॉर्मल आदमी होते हैं उनके लिए अब कोई भी इंसान है जैसे किसी के मां बाप ने उसको अच्छा संस्कार दिया पढ़ाया लिखाया जन्म दिया चुपड़ी कृष्ण जन्म हुआ उसकी वाले थे तो यह होता है जिंदगी ठीक है और हम मेरी जहां तक सोच है कि अपनी जिंदगी बनाने के लिए खुद हमारे माता-पिता जो प्रथम गुरु होते हैं उसकी योगदान बहुत महत्त्व होती है धन्यवाद

mujhe aapka prashna bahut hi sarahniya hai ki zindagi kya hai ji toh main isme aapko ek jaankari dena chah raha hoon zindagi kya hai dekhiye aur gehrai waale zindagi vaah cheez hai jo hamein dusro ke dwara milta hai bataye aap kaise ki dusro ke dwara zindagi milti hain janam hamein mata pita ne diya padhaya likha hai vaah hamein zindagi deta hai ab vaah hamein kis prakar ki zindagi deti hai agar hum aur shikshit ho jaate hain toh hamari zindagi ojhal wali ho jaati hai hum kathin se kathin mehnat karte hain aur phir bhi hamein acchai hath nahi lagti hai buraiyan hi davaiyan prapt hoti hai aur bahut saari takaleephon ko samana karna padta hai toh ek zindagi vaah sangharsh shri zindagi ho jaati hai jaise aap dekhe honge ki aapke gaon samaj me koi bhi aadmi ki mrityu hoti hai toh aap ke mukharvind se ek aur sakshya jo vakya prakat hota hai aap itna sangharshashil inki zindagi thi bachra aaj ant kaal ho gaye kyon kyonki aapne usko dekha ki vaah insaan subah se lekar shaam tak bahut saare takaleephon ko samana karta tha aur phir bhi vaah achi zindagi nahi toh yah ho gaya ek do normal aadmi hote hain unke liye ab koi bhi insaan hai jaise kisi ke maa baap ne usko accha sanskar diya padhaya likhaya janam diya chupadi krishna janam hua uski waale the toh yah hota hai zindagi theek hai aur hum meri jaha tak soch hai ki apni zindagi banane ke liye khud hamare mata pita jo pratham guru hote hain uski yogdan bahut mahatva hoti hai dhanyavad

मुझे आपका प्रश्न बहुत ही सराहनीय है कि जिंदगी क्या है जी तो मैं इसमें आपको एक जानकारी देन

Romanized Version
Likes  110  Dislikes    views  1170
WhatsApp_icon
user

रोहित कुमार

Job trainer,Councelor,Digital Marketer,Spritual guru,

4:24
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जिंदगी जिंदादिली के साथ आगे बढ़ने का नाम है जैसा कि जिंदगी में एक जीवन में शामिल होता है जीवन यानी हम और हमें क्या चाहिए इच्छाएं की पूर्ति सो इसलिए कैसे कर सकते हैं कि इच्छाओं की पूर्ति के लिए इंसान खुशी पूर्वक हर काम को कर कर रहा हो तो वह चंकी बन जाती है जब आप किसी कार्य में लगते हैं किसी काम में लगते हैं और उस कार को करते हुए या करने के दौरान या करने के बाद आप बहुत खुशी महसूस करते हैं वह जिंदगी का लाती है तो दोस्तों अगर आपकी जिंदगी बहुत ही बेहतर हो बहुत ही अच्छी हो इसके लिए आप क्या करते हैं शुरू से ही तैयार आगे किस लिए करते जिंदे गुंडा P1 आगे जिंदगी यानी आपका फ्यूचर आपका भविष्य बहुत सुख में हो अच्छा हो बहुत सारी चीज है आपके लिए सुख शांति और समृद्धि लेकर आए इसके लिए कर्म करते हुए आप जिंदगी बिताते हैं वह जिंदगी कल आती है इसके अलावा अगर आप चाहते हैं कि हर समय आप खुशी सुख शांति का अनुभव करें तो आपको कुछ चीजों का समझना होगा वह चीजें हैं क्या वह चीजें 470 कुछ समझना है व्हाट्सएप सत्य है चार्ट ओं थे चार बातें अगर आप जान लेते हैं तो जिंदगी आपके बहुत ही सुख में अच्छी और उसको समझने में आपको मदद मिलेगी पहला प्यार आ सकते हैं जिंदगी है तो जिंदगी में दुख है पहला अगर जिंदगी है तो जिंदगी में दुख है दुख भी प्रकार के हो सकते हैं सिंपल परफेक्ट दूसरा है कि अगर दुख है दुख का कारण है होगा सिंपल परफेक्ट है कि जैसे फॉर एग्जांपल कि अगर आपको यह दुख है कि आप चाहे हैं एक अच्छा शरीर नहीं है अच्छा हेल्प नहीं है तो इसका कारण भी होगा कि आपके पास हेल्थ क्यों नहीं है ठीक है तो आई नहीं आपका स्वास्थ्य क्यों नहीं है तो उसका कारण आप ढूंढते हैं और तीसरा सत्य है कि अगर कारण है तो उसका निवारण भी है उसका सलूशन भी है हजरत का जो है कारण है तो उसका सलूशन भी है और चौथा सत्य यह है कि हर चीज वर्तमान क्षण में जीवन के दुख मृत्यु के छैयां घड़ी में कुछ चीजों को कुछ मार्ग को अपनाकर अफेक्शन जिंदगी को सुख में बिता सकते हैं वह कुछ मार्ग हम लोगों ने बनाई है हम लोगों ने सिखाई है जिसे आप सीख कर आप समझ कर आप जिंदगी को हर पल हर समय हर वक्त हर क्षण जिंदादिली बना सकते हैं उसे सीख सकते हैं उसे समझ सकते हैं

zindagi jindadili ke saath aage badhne ka naam hai jaisa ki zindagi me ek jeevan me shaamil hota hai jeevan yani hum aur hamein kya chahiye ichhaen ki purti so isliye kaise kar sakte hain ki ikchao ki purti ke liye insaan khushi purvak har kaam ko kar kar raha ho toh vaah chinki ban jaati hai jab aap kisi karya me lagte hain kisi kaam me lagte hain aur us car ko karte hue ya karne ke dauran ya karne ke baad aap bahut khushi mehsus karte hain vaah zindagi ka lati hai toh doston agar aapki zindagi bahut hi behtar ho bahut hi achi ho iske liye aap kya karte hain shuru se hi taiyar aage kis liye karte jinde gunda P1 aage zindagi yani aapka future aapka bhavishya bahut sukh me ho accha ho bahut saari cheez hai aapke liye sukh shanti aur samridhi lekar aaye iske liye karm karte hue aap zindagi Bitate hain vaah zindagi kal aati hai iske alava agar aap chahte hain ki har samay aap khushi sukh shanti ka anubhav kare toh aapko kuch chijon ka samajhna hoga vaah cheezen hain kya vaah cheezen 470 kuch samajhna hai whatsapp satya hai chart on the char batein agar aap jaan lete hain toh zindagi aapke bahut hi sukh me achi aur usko samjhne me aapko madad milegi pehla pyar aa sakte hain zindagi hai toh zindagi me dukh hai pehla agar zindagi hai toh zindagi me dukh hai dukh bhi prakar ke ho sakte hain simple perfect doosra hai ki agar dukh hai dukh ka karan hai hoga simple perfect hai ki jaise for example ki agar aapko yah dukh hai ki aap chahen hain ek accha sharir nahi hai accha help nahi hai toh iska karan bhi hoga ki aapke paas health kyon nahi hai theek hai toh I nahi aapka swasthya kyon nahi hai toh uska karan aap dhoondhate hain aur teesra satya hai ki agar karan hai toh uska nivaran bhi hai uska salution bhi hai hazrat ka jo hai karan hai toh uska salution bhi hai aur chautha satya yah hai ki har cheez vartaman kshan me jeevan ke dukh mrityu ke chaiyan ghadi me kuch chijon ko kuch marg ko apnakar affection zindagi ko sukh me bita sakte hain vaah kuch marg hum logo ne banai hai hum logo ne sikhai hai jise aap seekh kar aap samajh kar aap zindagi ko har pal har samay har waqt har kshan jindadili bana sakte hain use seekh sakte hain use samajh sakte hain

जिंदगी जिंदादिली के साथ आगे बढ़ने का नाम है जैसा कि जिंदगी में एक जीवन में शामिल होता है ज

Romanized Version
Likes  20  Dislikes    views  316
WhatsApp_icon
user

Kankan Sarmah

Psychologist

1:57
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जिंदगी क्या है मेरे दोस्तों मेरे हिसाब से जिंदगी दो अलग-अलग चीजें हैं पहला यह तो यात्रा है जो कभी रुकता नहीं है जन्म से लेकर मृत्यु तक आपको चलते जाना है और यह यात्रा में आपको अपने स्पीड मेंटेन करना जरूरी है क्योंकि कभी-कभी मोरारका सकते हैं तो कभी स्पीड ब्रेकर्स भी आ सकते हैं तो कोई अच्छा रास्ता सके तो कोई खराब लगता कि आपको मिल सकता है तो रास्ते के अनुसार आपकी जो यह यात्रा की तस्वीरें उसको कभी फर्स्ट तो कभी धीमी करना जरूरी हो जाते हैं दूसरा चीज जीवन एक पहलू भी है या नहीं यह जिंदगी पहले जिन को समझ में आ गया वह अच्छा खासा इंसान बन गया जिन को समझ में नहीं आया वह पीछे रह गया और जीवन को यानी कि जिंदगी को समझने के लिए आपके साथ हमेशा अपने एटीट्यूड यानी पॉजिटिव एटीट्यूड आपकी नॉलेज और आपकी स्किन लेना बहुत ही जरूरी है अगर यह चीज नहीं होंगे तो आप यह जो जिंदगी का पहलू है आप इनको समझ नहीं पाएंगे और जिंदगी की पहली जवाब नहीं समझेंगे तो आपको यह भी पता नहीं चलेगा कि आपकी लाइफ की जो स्पीड है जो रफ्तार है यात्रा के दौरान है उसको कब स्पीड में रखना है और कब धीमी करना यह भी आपको नहीं पता चलेगा तो इसलिए दोस्तों जिंदगी अगर आप चाहते हैं कि खुशहाल रहें हंसमुख रहे रोमांस रहे एग्जाम चल रहे तो आपकी एटीट्यूड किलर नॉलेज इन तीन चीजों को आप एक पोजीशन मेंटेन करते हुए आगे की तरफ ले जाने की कोशिश कीजिए क्योंकि यह यात्रा और यह पहले जो समझ में जिंदा समझ में आ गया उसके लिए बहुत हसीन है जिन को नहीं आया उसके लिए

zindagi kya hai mere doston mere hisab se zindagi do alag alag cheezen hain pehla yah toh yatra hai jo kabhi rukata nahi hai janam se lekar mrityu tak aapko chalte jana hai aur yah yatra me aapko apne speed maintain karna zaroori hai kyonki kabhi kabhi moraraka sakte hain toh kabhi speed breakers bhi aa sakte hain toh koi accha rasta sake toh koi kharab lagta ki aapko mil sakta hai toh raste ke anusaar aapki jo yah yatra ki tasveeren usko kabhi first toh kabhi dheemi karna zaroori ho jaate hain doosra cheez jeevan ek pahaloo bhi hai ya nahi yah zindagi pehle jin ko samajh me aa gaya vaah accha khasa insaan ban gaya jin ko samajh me nahi aaya vaah peeche reh gaya aur jeevan ko yani ki zindagi ko samjhne ke liye aapke saath hamesha apne attitude yani positive attitude aapki knowledge aur aapki skin lena bahut hi zaroori hai agar yah cheez nahi honge toh aap yah jo zindagi ka pahaloo hai aap inko samajh nahi payenge aur zindagi ki pehli jawab nahi samjhenge toh aapko yah bhi pata nahi chalega ki aapki life ki jo speed hai jo raftaar hai yatra ke dauran hai usko kab speed me rakhna hai aur kab dheemi karna yah bhi aapko nahi pata chalega toh isliye doston zindagi agar aap chahte hain ki khushahal rahein hansamukh rahe romance rahe exam chal rahe toh aapki attitude killer knowledge in teen chijon ko aap ek position maintain karte hue aage ki taraf le jaane ki koshish kijiye kyonki yah yatra aur yah pehle jo samajh me zinda samajh me aa gaya uske liye bahut Haseen hai jin ko nahi aaya uske liye

जिंदगी क्या है मेरे दोस्तों मेरे हिसाब से जिंदगी दो अलग-अलग चीजें हैं पहला यह तो यात्रा ह

Romanized Version
Likes  648  Dislikes    views  8168
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जिंदगी जीने को कला है जो अपने मतलब ईश्वर को ध्यान में रखकर के जिया जाता है जिसमें हमारे सामाजिकता भी है हमारे संस्कार भी यह हमारी संस्कृति है इन सब को ध्यान रखकर हमें मानवता की सेवा करना चाहिए यह सब से बहुत अच्छी जिंदगी होती है आप जमा करके पेट भर कर के उम्र के चले जाए कोई क्या जाने का लेकिन जीवन जीने के लिए जवाब समाज की सेवा करेंगे लोगों की मदद करेंगे मानवता की सेवा करेंगे तो आप एक अच्छे हीरे की भांति मतलब एक चमकता हुआ कोहिनूर के समाज में उतरेंगे और लोग आपका बड़ा सम्मान करेंगे मनुष्य के रूप में आप बिल्कुल आएंगे इसलिए अच्छी जिंदगी के लिए लोगों को सरकारी लोगों के साथ सत्कार कीजिए सद्भावना दीजिए लोगों का विश्वास जीत के और लोगों की मदद कीजिए यह जिंदगी

zindagi jeene ko kala hai jo apne matlab ishwar ko dhyan me rakhakar ke jiya jata hai jisme hamare samajikta bhi hai hamare sanskar bhi yah hamari sanskriti hai in sab ko dhyan rakhakar hamein manavta ki seva karna chahiye yah sab se bahut achi zindagi hoti hai aap jama karke pet bhar kar ke umar ke chale jaaye koi kya jaane ka lekin jeevan jeene ke liye jawab samaj ki seva karenge logo ki madad karenge manavta ki seva karenge toh aap ek acche heere ki bhanti matlab ek chamakta hua kohinoor ke samaj me utarenge aur log aapka bada sammaan karenge manushya ke roop me aap bilkul aayenge isliye achi zindagi ke liye logo ko sarkari logo ke saath satkar kijiye sadbhavana dijiye logo ka vishwas jeet ke aur logo ki madad kijiye yah zindagi

जिंदगी जीने को कला है जो अपने मतलब ईश्वर को ध्यान में रखकर के जिया जाता है जिसमें हमारे सा

Romanized Version
Likes  212  Dislikes    views  1781
WhatsApp_icon
user

Norang sharma

Social Worker

2:12
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो दोस्तों वह कल पर सुन रहे मेरे सभी बुद्धिजीवी श्रोताओं को मेरा प्यार भरा नमस्कार आज का सवाल है जिंदगी क्या है व्हाट इज लाइफ तो दोस्त जिंदगी वही है जो आप इतने बनाते हैं कृपया मेरी बात को फिर से सुने जिंदगी वही है जो आप इसे बनाते हैं क्योंकि दोस्तों कुछ लोगों के लिए जीवन एक अवसर है जिसमें वह ज्यादा से ज्यादा सकारात्मक चीजें करना चाहते हैं क्रिएटिव चीजों के जरिए अपने जो लाइफ को है मीनिंग फुल बनाना चाहते हैं कुछ लोगों के लिए जीवन एक साधना है जिसमें वह आत्मा से परमात्मा तक का जो सफर है वह अपनी साधना के माध्यम से तय कर सकते हैं कुछ लोगों के लिए जीवन खुशी है खुशियों को ज्यादा से ज्यादा जीना कुछ लोगों के लिए पैसा जीवन है कुछ लोगों के लिए समाज में सर उठा कर जीना जिंदगी है तो दोस्तों जिंदगी की परिभाषा अलग-अलग लोगों के लिए उनके अलग-अलग मकसद के हिसाब से है तो जिंदगी के बारे में जो हमारा नजरिया है एक तरह से वही तय करता है कि हम जिंदगी को किस रूप में देखते हैं और किस रूप में स्वीकार करते हैं और दोस्तों मुझे तो लगता है कि जीवन अपने आप में इतना बड़ा मकसद है कि आपको ईश्वर ने यह वरदान दिया है कि आप आज जीवित हैं यह भी कुछ कम गौरव की बात नहीं है आप इतनी खूबसूरत दुनिया के साक्षी बने हुए हैं कितने सारे प्राकृतिक नजारों का आनंद लेते हैं पूरे जीवन भर के दौरान नई नई जगह देखते हैं नए नए लोगों से मिलते हैं तो दोस्तों ईश्वर कि कहीं ना कहीं हम मनुष्यों पर अपार कृपा रही होगी जो उन्होंने इतना खूबसूरत तोहफा हम लोगों को दिया कितने सारे रिश्ते हम लोग बनाते हैं और उन रिश्तो को कितनी संजीदगी से पर कितनी शिद्दत के साथ हम लोग जीते हैं इसलिए मैं तो यही चाहूंगा कि जीवन के हर पल को आप भरपूर जिए हर पल का सदुपयोग अपना जीवन ऊंचा उठाए और दूसरे लोगों को भी कॉर्पोरेट करें उनके जीवन स्तर में अगर आप को सुधार ला पाते हैं तो शायद ही आपका सौभाग्य होगा धन्यवाद

hello doston vaah kal par sun rahe mere sabhi buddhijeevi shrotaon ko mera pyar bhara namaskar aaj ka sawaal hai zindagi kya hai what is life toh dost zindagi wahi hai jo aap itne banate hain kripya meri baat ko phir se sune zindagi wahi hai jo aap ise banate hain kyonki doston kuch logo ke liye jeevan ek avsar hai jisme vaah zyada se zyada sakaratmak cheezen karna chahte hain creative chijon ke jariye apne jo life ko hai meaning full banana chahte hain kuch logo ke liye jeevan ek sadhna hai jisme vaah aatma se paramatma tak ka jo safar hai vaah apni sadhna ke madhyam se tay kar sakte hain kuch logo ke liye jeevan khushi hai khushiyon ko zyada se zyada jeena kuch logo ke liye paisa jeevan hai kuch logo ke liye samaj me sir utha kar jeena zindagi hai toh doston zindagi ki paribhasha alag alag logo ke liye unke alag alag maksad ke hisab se hai toh zindagi ke bare me jo hamara najariya hai ek tarah se wahi tay karta hai ki hum zindagi ko kis roop me dekhte hain aur kis roop me sweekar karte hain aur doston mujhe toh lagta hai ki jeevan apne aap me itna bada maksad hai ki aapko ishwar ne yah vardaan diya hai ki aap aaj jeevit hain yah bhi kuch kam gaurav ki baat nahi hai aap itni khoobsurat duniya ke sakshi bane hue hain kitne saare prakirtik najaron ka anand lete hain poore jeevan bhar ke dauran nayi nayi jagah dekhte hain naye naye logo se milte hain toh doston ishwar ki kahin na kahin hum manushyo par apaar kripa rahi hogi jo unhone itna khoobsurat tohfa hum logo ko diya kitne saare rishte hum log banate hain aur un rishto ko kitni sanjidagi se par kitni shiddat ke saath hum log jeete hain isliye main toh yahi chahunga ki jeevan ke har pal ko aap bharpur jiye har pal ka sadupyog apna jeevan uncha uthye aur dusre logo ko bhi corporate kare unke jeevan sthar me agar aap ko sudhaar la paate hain toh shayad hi aapka saubhagya hoga dhanyavad

हेलो दोस्तों वह कल पर सुन रहे मेरे सभी बुद्धिजीवी श्रोताओं को मेरा प्यार भरा नमस्कार आज का

Romanized Version
Likes  95  Dislikes    views  2805
WhatsApp_icon
user

Rahul Jangra

Health and Fitness Expert, Yoga Teacher

1:07
Play

Likes  307  Dislikes    views  4847
WhatsApp_icon
user

Liyakat Ali Gazi

Motivational Speaker, Life Coach & Soft Skills Trainer 📲 9956269300

1:02
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जिंदगी एक जिम्मेदारी का चक्कर है जिसमें इंसान होता है और ऊपर वाले ने हर शख्स इंसान का जीवन में एक लक्ष्य एक टारगेट के सेट कर रखा है जो कि उसको एक स्पेशल तरीके से वर्क दिया गया है जो अपनी टास्क विस्तार किया करके इंसान को पूरा करना होता है और कुछ लोग अपने पास पीटा हमने तहसील में कुछ लोग अपने जो वर्क दिया जाता है वह वाला जिसके दिमाग सबसे ऊपर ने इंसान को भेजा है वह भटक जाते हैं ना तो रास्ते से जिसको गुमराह बोलते हैं यहां पर जो लोग जिम्मेदारी निभाते हैं अपने जो काम दिया जाए उसको पूरा करने के लिए तत्पर रहते हैं वह लोग जिंदगी में अपने महत्व क्यों की अहमियत मानवता इंसानियत के साथ रहते हैं और साथ ही साथ में अपनी उसमें काम काम को पूरा करने में अपना सब कुछ त्याग देते हैं यह मदारिया निभाते हैं और समाज में मिलजुल कर चलते हैं समाज सेवा करते हैं यही जीवन का सदेसे

zindagi ek jimmedari ka chakkar hai jisme insaan hota hai aur upar waale ne har sakhs insaan ka jeevan me ek lakshya ek target ke set kar rakha hai jo ki usko ek special tarike se work diya gaya hai jo apni task vistaar kiya karke insaan ko pura karna hota hai aur kuch log apne paas pita humne tehsil me kuch log apne jo work diya jata hai vaah vala jiske dimag sabse upar ne insaan ko bheja hai vaah bhatak jaate hain na toh raste se jisko gumrah bolte hain yahan par jo log jimmedari nibhate hain apne jo kaam diya jaaye usko pura karne ke liye tatpar rehte hain vaah log zindagi me apne mahatva kyon ki ahamiyat manavta insaniyat ke saath rehte hain aur saath hi saath me apni usme kaam kaam ko pura karne me apna sab kuch tyag dete hain yah madariya nibhate hain aur samaj me miljul kar chalte hain samaj seva karte hain yahi jeevan ka sadese

जिंदगी एक जिम्मेदारी का चक्कर है जिसमें इंसान होता है और ऊपर वाले ने हर शख्स इंसान का जीवन

Romanized Version
Likes  485  Dislikes    views  9397
WhatsApp_icon
user

Aniel K Kumar Imprints

NLP Master Life Coach, Motivational Speaker

0:45
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार आपका सवाल है जिंदगी क्या है मेरे दोस्त जिंदगी एक स्टेज है जिस पर आप परफॉर्म करने के लिए आए हुए हो कभी आप बेटे के रूप में कभी आप भाई के रूप में कभी आप पेरेंट्स के रूप में और कभी आप समाज के सामाजिक मेंबर के रूप में आप यहां पर आप ने अलग-अलग रोल अदा करने के लिए आए हुए हो आप यहां पर ओला कीजिए सक्सेसफुली जितना सक्सेसफुली रोल अदा कर पाओगे इतने खुश रह पाओगे उसने आनंद ले पाओगे सफर का और यदि आप इनके रोल का जाप प्रॉपर लिया नहीं अटेर कर पाओगे प्रॉपर्टी नहीं ले पाओगे प्रॉपर से काम नहीं कर पाओगे तो आप उतने ही परेशान और यह तो जात में फंसे हुए हैं जय हिंद जय भारत आपका दिन शुभ रहे

namaskar aapka sawaal hai zindagi kya hai mere dost zindagi ek stage hai jis par aap perform karne ke liye aaye hue ho kabhi aap bete ke roop me kabhi aap bhai ke roop me kabhi aap parents ke roop me aur kabhi aap samaj ke samajik member ke roop me aap yahan par aap ne alag alag roll ada karne ke liye aaye hue ho aap yahan par ola kijiye successfully jitna successfully roll ada kar paoge itne khush reh paoge usne anand le paoge safar ka aur yadi aap inke roll ka jaap proper liya nahi ater kar paoge property nahi le paoge proper se kaam nahi kar paoge toh aap utne hi pareshan aur yah toh jaat me fanse hue hain jai hind jai bharat aapka din shubha rahe

नमस्कार आपका सवाल है जिंदगी क्या है मेरे दोस्त जिंदगी एक स्टेज है जिस पर आप परफॉर्म करने क

Romanized Version
Likes  140  Dislikes    views  1661
WhatsApp_icon
user

DR OM PRAKASH SHARMA

Principal, Education Counselor, Best Experience in Professional and Vocational Education cum Training Skills and 25 years experience of Competitive Exams. 9212159179. dsopsharma@gmail.com

0:36
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जिंदगी क्या है जिंदगी एक खूबसूरत आधार है जिंदगी जीवन का आनंद है जिंदगी बस में है जिंदगी संगीत में है जिंदगी धुन पर आधारित है जिंदगी दुख सुख का भंडार है जिंदगी इंसान का एहसास है जिंदगी दक्ष का निर्धारण जिंदगी जीने का नाम

zindagi kya hai zindagi ek khoobsurat aadhar hai zindagi jeevan ka anand hai zindagi bus me hai zindagi sangeet me hai zindagi dhun par aadharit hai zindagi dukh sukh ka bhandar hai zindagi insaan ka ehsaas hai zindagi daksh ka nirdharan zindagi jeene ka naam

जिंदगी क्या है जिंदगी एक खूबसूरत आधार है जिंदगी जीवन का आनंद है जिंदगी बस में है जिंदगी स

Romanized Version
Likes  433  Dislikes    views  6264
WhatsApp_icon
user

Dr.Vinod Mune Nagpur.

clinical Hypnotherapist & DMIT Counselor

0:29
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जिंदगी का एक सही डेफिनेशन में आप लोगों को बताता हूं जिंदगी जो होती है हमारी यह एक सुख दुख का एक कॉन्बिनेशन है इसका एक सही डेफिनेशन है इट्स कॉन्बिनेशन ऑफ़ मेजर एंड हैप्पीनेस दिस इज लाइफ धन्यवाद

zindagi ka ek sahi definition me aap logo ko batata hoon zindagi jo hoti hai hamari yah ek sukh dukh ka ek kanbineshan hai iska ek sahi definition hai its kanbineshan of major and Happiness this is life dhanyavad

जिंदगी का एक सही डेफिनेशन में आप लोगों को बताता हूं जिंदगी जो होती है हमारी यह एक सुख दुख

Romanized Version
Likes  182  Dislikes    views  1143
WhatsApp_icon
user
Play

Likes  179  Dislikes    views  1472
WhatsApp_icon
user

Abhay Pratap

Advocate | Social Welfare Activist

1:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जिंदगी का अर्थ है महान बन्ना सच पूछा जाए तो यही प्रश्न तो सभी लोगों एक बार अपने आप से ही पूछते हैं और सबसे तेज जिंदगी क्या है पर यही सत्य है इसका है कि हमें कुछ करना है कुछ बनाना है कुछ बनना है लोगों को मदद देना है लोगों के लिए कुछ करना है यही जिंदगी है कुछ टेस्ट बनी कुछ बेस्ट बने यही जिंदगी अभी लिखा अभिलाषा है आनंद और ब्रह्मांड की शक्तियां विशाल हैं अतः विचारधाराओं के प्रति आकर्षित हो वही जिंदगी है जिंदगी का रुप अनेकों है कोई साधु है कोई जगह कोई वकील है कोई चोर है कोई कोई कोई कोई दुख डाकू है जिंदगी का अर्थ आप स्वयं से परिभाषित करेंगे पर सत्य है जिंदगी का मुख्य अर्थ होना चाहिए कि आप एक अच्छे और महान व्यक्ति बन

zindagi ka arth hai mahaan banna sach poocha jaaye toh yahi prashna toh sabhi logo ek baar apne aap se hi poochhte hain aur sabse tez zindagi kya hai par yahi satya hai iska hai ki hamein kuch karna hai kuch banana hai kuch banna hai logo ko madad dena hai logo ke liye kuch karna hai yahi zindagi hai kuch test bani kuch best bane yahi zindagi abhi likha abhilasha hai anand aur brahmaand ki shaktiyan vishal hain atah vichardharaon ke prati aakarshit ho wahi zindagi hai zindagi ka roop anekon hai koi sadhu hai koi jagah koi vakil hai koi chor hai koi koi koi koi dukh daku hai zindagi ka arth aap swayam se paribhashit karenge par satya hai zindagi ka mukhya arth hona chahiye ki aap ek acche aur mahaan vyakti ban

जिंदगी का अर्थ है महान बन्ना सच पूछा जाए तो यही प्रश्न तो सभी लोगों एक बार अपने आप से ही प

Romanized Version
Likes  168  Dislikes    views  2409
WhatsApp_icon
user
7:35
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जिंदगी यानी क्या जीवन लाइफ क्या है जीवन जो जीवन या लाइफ है उसे महसूस ही किया जा सकता है यह अनुभूति ही है अगर किसी चीज को अनुभूति कर पा रहे हैं एक्सपीरियंस कर पा रहे हैं उसको एहसासों में ले पा रहे हैं तू ही वह एक तरह से जिंदगी है यह जीवन है नहीं तो एक तरह से वह मृत्यु है देखना यह है कि हम पल-पल जी पा रहे हैं या पल पल मर रहे हैं तो वही बात है कि आप 1 दिन में कितना जी तो कुछ इसमें कोई कठिन पहेली नहीं है जिंदगी बिल्कुल सिंपल है इसके लिए कोई आपको पहाड़ों पर नहीं चढ़ना होता है माउंट एवरेस्ट पर नहीं चढ़ना जिंदगी बिल्कुल सिंपल है बस उसे समझना है उसे किस तरह समझना है वह कोई बहुत कठिन या कोई दुष्कर चीज नहीं है जिंदगी जिसे परिभाषा ओं में लपेटा जाए जिंदगी बहुत ही आसान और सिंपल और सुंदर जब कोई भी आप काम कर रहे हैं कोई भी काम कर रहे हैं तो अगर वह काम आप बहुत ही तल्लीनता के साथ फोकस कंसंट्रेशन के साथ तो उसे करते करते आप हो जाते हैं तो वह जिंदगी है वहां पर लाइफ अगर किसी काम में आपको बहुत दिक्कत है और आपसे मन से नहीं कर पा रहे हैं या उसमें बहुत एक्सपीरियंस होने के बाद भी दिक्कत है तो वह जिंदगी नहीं है वहां पर आपको अच्छा नहीं लग रहा है तो जहां आनंद है वही जिंदगी लेकिन जहां आनंद का मतलब यह नहीं है कि छोटे-छोटे ऐसे तो आनंद में हर चीज से मिलता है कि एक छोटी सी आज यह बाइक खरीदनी तो आनंद है कल का परसों हेलीकॉप्टर फिर उसके बाद फिर ऐसे तो बढ़ता जाता है आनंद का मतलब है ऐसी प्रसन्नता जो एक तरह से स्थाई हो जाए जो परमानेंट हो जाए ना कि टेंपरेरी आनंद जैसे सिगरेट पिया और 2 मिनट का आनंद आया और खत्म तो चाय पिया 2 मिनट का अलग चीज है जो स्थाई हो और जो स्थाई है वही जीवन वही जो आनंद है जो स्थाई है वह जीवन है और इसे सही से परिभाषित भी नहीं किया जा सकता इसे केवल संकेत दिए जा सकते हैं तो जीवन में जो है अगर कोई चीज आनंद में प्रसन्नता के साथ की जा रही है और कोई आपके अंदर उस तरह की नेगेटिविटीज नकारात्मक चीजें उड़ जाएं नहीं नकारात्मक ऊर्जा जैसे कि एंजाइटी मतलब क्रोध नहीं है आपके चेहरे पर शिकन नहीं है तनाव नहीं है निराशा हताशा यह चीजें अगर बहुत कम मात्रा में है हमारे पास तो कहेंगे हमारी जिंदगी है तू आपके पास अगर केवल हंसी हंसी खुशी 11 प्रसन्नता और एक मदद जो जो आनंद को बढ़ावा देती हो चीजें हैं तो देखा जाए तो वही जिंदगी है वही जीवन है अलग जीवन में दोनों ही चीजें आती हैं निराशा हताशा आशा भी आती है तो हंसी भी आती है तो दुख भी आता है लेकिन जो इनके बीच में जो संतुलन सीख लेता है वह जिंदगी हो जाती है वही तो इसमें संतुलित होकर चलना नहीं सीख पाता दुख और सुख में तो वहां पर मैथ्यू है मृत्यु जरूरी नहीं है कि 90 साल में आया 100 साल में मृत्यु तो अगर कोई भी समस्या से घिरा हुआ है और उस समस्या का समाधान नहीं निकाल पा रहे तू इस तरह से वह मुझे तू ही है वह इस तरह से अपनी आयु कम करना आर्कियेज कम हो रही है उस समय और अगर आप समाधान निकाल पाते हैं कोई समस्या है कोई दुख है या ऐसी चीज है जिसमें आप साहस के साथ खड़े हैं और उस समस्या का समाधान भी कर पा रहे हैं और अपने आप को संतुलित भी कर पा रहे आप अपने आप को टूटने नहीं दे रहे तो यही तो जिंदगी तो बस यही है कि किसी भी हाल में हमारे अपने आप को टूटने नहीं देना होता है वह केवल शारीरिक रूप से नहीं मानसिक रूप से भी मनोवैज्ञानिक रूप से तो हमारा शरीर हमारा मन हमारा मस्तिष्क हमारी चेतना जब यह सभी चीजें एक होती हैं एक लाइन में होते हैं तो जिंदगी जीवन एक तरह से प्रकट होने लगता है मेनिफेस्ट्स होने लगता है तो बॉडी माइंड एंड सौल यह तीनों चीजें एक केंद्र में एक लाइन में होनी चाहिए और इसके लिए जो प्रयास करते रहना चाहिए तो यह है कि हमारे एक्जिस्टेंस क्या है हमारा मूल क्या है आप तो यह क्वेश्चन मार्क भी अगर कभी लगा रहे आपके माइंड में जिसे तर्क से थोड़ा और थोड़ा सिक्स सेंस है थोड़ा इन सारी चीजों से पता किया जा सकता है मूल अस्तित्व ऐसी चीजें तो उस पर भी हमारा है तो हम अपने आनंद तक पहुंच जाएंगे आनंद का मतलब मौत का कुछ लोग इसे मौत भी कहते हैं अभी नहीं अभी कोई मोच का मतलब है स्वर्ग जाना मौत आ जाना या सन्यास लेना ऐसा कुछ नहीं जिंदगी जिंदगी है उसको अपने रिलेटिव्स के साथ रिलेशन वाले लोग हैं उनके साथ अपने दोस्तों के साथ अपने प्रोफेशन में जिसमें आप जॉब करते हैं उन सारी चीजों के साथ आसानी से जिंदगी की जा सकती बस अपने किसी भी काम में अपने किसी भी रिलेशन में अगर आप तल्लीन रहे और आपस में वह तालमेल समाज और बनी रहे इसी भी रिलेटिव से किसी भी संबंधी से फ्रेंड से या किसी भी काम से जो काम प्रोफेशन है तो फिर वहां से जिंदगी निकलती तुम ही जिंदगी जिंदगी बहुत ही ऐसी है इसमें हमसे एहसासों में ले सकते हैं महसूस कर सकते हैं बहुत ही सिंपल है जिंदगी

zindagi yani kya jeevan life kya hai jeevan jo jeevan ya life hai use mehsus hi kiya ja sakta hai yah anubhuti hi hai agar kisi cheez ko anubhuti kar paa rahe hain experience kar paa rahe hain usko ehasason me le paa rahe hain tu hi vaah ek tarah se zindagi hai yah jeevan hai nahi toh ek tarah se vaah mrityu hai dekhna yah hai ki hum pal pal ji paa rahe hain ya pal pal mar rahe hain toh wahi baat hai ki aap 1 din me kitna ji toh kuch isme koi kathin paheli nahi hai zindagi bilkul simple hai iske liye koi aapko pahadon par nahi chadhna hota hai mount EVEREST par nahi chadhna zindagi bilkul simple hai bus use samajhna hai use kis tarah samajhna hai vaah koi bahut kathin ya koi dushkar cheez nahi hai zindagi jise paribhasha on me lapeta jaaye zindagi bahut hi aasaan aur simple aur sundar jab koi bhi aap kaam kar rahe hain koi bhi kaam kar rahe hain toh agar vaah kaam aap bahut hi tallinata ke saath focus kansantreshan ke saath toh use karte karte aap ho jaate hain toh vaah zindagi hai wahan par life agar kisi kaam me aapko bahut dikkat hai aur aapse man se nahi kar paa rahe hain ya usme bahut experience hone ke baad bhi dikkat hai toh vaah zindagi nahi hai wahan par aapko accha nahi lag raha hai toh jaha anand hai wahi zindagi lekin jaha anand ka matlab yah nahi hai ki chote chote aise toh anand me har cheez se milta hai ki ek choti si aaj yah bike kharidani toh anand hai kal ka parso helicopter phir uske baad phir aise toh badhta jata hai anand ka matlab hai aisi prasannata jo ek tarah se sthai ho jaaye jo permanent ho jaaye na ki tempareri anand jaise cigarette piya aur 2 minute ka anand aaya aur khatam toh chai piya 2 minute ka alag cheez hai jo sthai ho aur jo sthai hai wahi jeevan wahi jo anand hai jo sthai hai vaah jeevan hai aur ise sahi se paribhashit bhi nahi kiya ja sakta ise keval sanket diye ja sakte hain toh jeevan me jo hai agar koi cheez anand me prasannata ke saath ki ja rahi hai aur koi aapke andar us tarah ki negetivitij nakaratmak cheezen ud jayen nahi nakaratmak urja jaise ki anxiety matlab krodh nahi hai aapke chehre par shikan nahi hai tanaav nahi hai nirasha hatasha yah cheezen agar bahut kam matra me hai hamare paas toh kahenge hamari zindagi hai tu aapke paas agar keval hansi hansi khushi 11 prasannata aur ek madad jo jo anand ko badhawa deti ho cheezen hain toh dekha jaaye toh wahi zindagi hai wahi jeevan hai alag jeevan me dono hi cheezen aati hain nirasha hatasha asha bhi aati hai toh hansi bhi aati hai toh dukh bhi aata hai lekin jo inke beech me jo santulan seekh leta hai vaah zindagi ho jaati hai wahi toh isme santulit hokar chalna nahi seekh pata dukh aur sukh me toh wahan par mathew hai mrityu zaroori nahi hai ki 90 saal me aaya 100 saal me mrityu toh agar koi bhi samasya se ghira hua hai aur us samasya ka samadhan nahi nikaal paa rahe tu is tarah se vaah mujhe tu hi hai vaah is tarah se apni aayu kam karna arkiyej kam ho rahi hai us samay aur agar aap samadhan nikaal paate hain koi samasya hai koi dukh hai ya aisi cheez hai jisme aap saahas ke saath khade hain aur us samasya ka samadhan bhi kar paa rahe hain aur apne aap ko santulit bhi kar paa rahe aap apne aap ko tutne nahi de rahe toh yahi toh zindagi toh bus yahi hai ki kisi bhi haal me hamare apne aap ko tutne nahi dena hota hai vaah keval sharirik roop se nahi mansik roop se bhi manovaigyanik roop se toh hamara sharir hamara man hamara mastishk hamari chetna jab yah sabhi cheezen ek hoti hain ek line me hote hain toh zindagi jeevan ek tarah se prakat hone lagta hai menifests hone lagta hai toh body mind and saul yah tatvo cheezen ek kendra me ek line me honi chahiye aur iske liye jo prayas karte rehna chahiye toh yah hai ki hamare ekjistens kya hai hamara mul kya hai aap toh yah question mark bhi agar kabhi laga rahe aapke mind me jise tark se thoda aur thoda six sense hai thoda in saari chijon se pata kiya ja sakta hai mul astitva aisi cheezen toh us par bhi hamara hai toh hum apne anand tak pohch jaenge anand ka matlab maut ka kuch log ise maut bhi kehte hain abhi nahi abhi koi moch ka matlab hai swarg jana maut aa jana ya sanyas lena aisa kuch nahi zindagi zindagi hai usko apne relatives ke saath relation waale log hain unke saath apne doston ke saath apne profession me jisme aap job karte hain un saari chijon ke saath aasani se zindagi ki ja sakti bus apne kisi bhi kaam me apne kisi bhi relation me agar aap tallinn rahe aur aapas me vaah talmel samaj aur bani rahe isi bhi relative se kisi bhi sambandhi se friend se ya kisi bhi kaam se jo kaam profession hai toh phir wahan se zindagi nikalti tum hi zindagi zindagi bahut hi aisi hai isme humse ehasason me le sakte hain mehsus kar sakte hain bahut hi simple hai zindagi

जिंदगी यानी क्या जीवन लाइफ क्या है जीवन जो जीवन या लाइफ है उसे महसूस ही किया जा सकता है

Romanized Version
Likes  181  Dislikes    views  1429
WhatsApp_icon
user

Pankaj Vasuja

Cinematographer

1:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जिंदगी जिंदगी मैंने को तो एक वाक्य है लेकिन यह बहुत लंबी है कहानी है हर इंसान की जब भगवान से शरीर के रूप में जीने को देता है जिंदगी में दिखी दम जिंदगी जीते हैं तो हमार जिंदगी अपने विचारों से जीते हैं सबसे पहले हमारे दिमाग में अच्छे बुरे छपरा के विचार आते हैं दिमाग में दिल में जो आदमी अपनी जिंदगी को जैसे जीत है दिल के सहारे दिमाग के सारे वैसे कार्य करता है वह जो विचार होते हैं हमारी वाणी बनते हैं हमारी वाणी ही हमारी आते बनती हैं और हमारी आते हमारे कर्म बन जाते हैं उन कर्मों से हमारा भाग्य बनता है अच्छे और बुरे भाग्य का फैसला आपके करम करते हैं और इसी जिंदगी को अच्छे कर्मों द्वारा दी गई असली जिंदगी जीना जीना कहलाती है जिंदगी जैसे जीने का नाम है कुछ लोग धरती पर से काट रहे हैं राम राम सभी को

zindagi zindagi maine ko toh ek vakya hai lekin yah bahut lambi hai kahani hai har insaan ki jab bhagwan se sharir ke roop me jeene ko deta hai zindagi me dikhi dum zindagi jeete hain toh hamar zindagi apne vicharon se jeete hain sabse pehle hamare dimag me acche bure chapra ke vichar aate hain dimag me dil me jo aadmi apni zindagi ko jaise jeet hai dil ke sahare dimag ke saare waise karya karta hai vaah jo vichar hote hain hamari vani bante hain hamari vani hi hamari aate banti hain aur hamari aate hamare karm ban jaate hain un karmon se hamara bhagya banta hai acche aur bure bhagya ka faisla aapke karam karte hain aur isi zindagi ko acche karmon dwara di gayi asli zindagi jeena jeena kahalati hai zindagi jaise jeene ka naam hai kuch log dharti par se kaat rahe hain ram ram sabhi ko

जिंदगी जिंदगी मैंने को तो एक वाक्य है लेकिन यह बहुत लंबी है कहानी है हर इंसान की जब भगवान

Romanized Version
Likes  286  Dislikes    views  2796
WhatsApp_icon
user

Shubham Saini

Software Engineer

0:40
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जिंदगी क्या है जिंदगी में जो पहला सब्जी है जी मतलब होता है जीना और दगी मतलब होता है पूरी खुशियों से जीना खुशियों से भर देना इसी को जिंदगी है जिंदगी में आपको भगवान इतना समय नहीं है जब तक आप जिंदे हो भगवान आपको समय दिया कि हमेशा खुशी से बताओ दुखों से नहीं दुख में भी अपनी खुशियों को ढूंढो यही असली जिंदगी है पढ़ना तो हर एक इंसान किसी ने किसी समस्या से परेशान रहता है और होता रहता है इसका क्या मतलब जिंदगी में पर होने के लिए नहीं आए हो इंजॉय करो खुश रहो और उन को खुश रखो

zindagi kya hai zindagi me jo pehla sabzi hai ji matlab hota hai jeena aur dagi matlab hota hai puri khushiyon se jeena khushiyon se bhar dena isi ko zindagi hai zindagi me aapko bhagwan itna samay nahi hai jab tak aap jinde ho bhagwan aapko samay diya ki hamesha khushi se batao dukhon se nahi dukh me bhi apni khushiyon ko dhundho yahi asli zindagi hai padhna toh har ek insaan kisi ne kisi samasya se pareshan rehta hai aur hota rehta hai iska kya matlab zindagi me par hone ke liye nahi aaye ho enjoy karo khush raho aur un ko khush rakho

जिंदगी क्या है जिंदगी में जो पहला सब्जी है जी मतलब होता है जीना और दगी मतलब होता है पूरी ख

Romanized Version
Likes  277  Dislikes    views  4570
WhatsApp_icon
user

Ankit Laur

Yoga Instructor

0:38
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जो पल अभी है वह जिंदगी है इस पल में आपको ऑफिस वीडियो मिल सकती है डिफरेंट टाइप ऑफ डांस मिल सकते हैं गोर मिल सकते हैं जो आप अजीब करेंगे तो यही जिंदगी है एक पल में खुशी आती है एक पल में गम आता है कुछ भी ठहरता नहीं है अगर हम इन चीजों से अलग हटके देखें तो बस हंसी ही आएगी कि हमने किया किया यही जिंदगी है

jo pal abhi hai vaah zindagi hai is pal me aapko office video mil sakti hai different type of dance mil sakte hain gore mil sakte hain jo aap ajib karenge toh yahi zindagi hai ek pal me khushi aati hai ek pal me gum aata hai kuch bhi thahrata nahi hai agar hum in chijon se alag hatake dekhen toh bus hansi hi aayegi ki humne kiya kiya yahi zindagi hai

जो पल अभी है वह जिंदगी है इस पल में आपको ऑफिस वीडियो मिल सकती है डिफरेंट टाइप ऑफ डांस मिल

Romanized Version
Likes  259  Dislikes    views  2876
WhatsApp_icon
user

Anjana Baliga

Counselor

1:05
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है जिंदगी क्या है यह जीवन क्या है आपका जब जन्म होता है उसी तरह इंसान की मृत्यु भी होती है तो जन्म और मृत्यु के बीच का जो समय है उसी को जीवन कहा गया है इस जीवन में आप क्या कर्म करते हैं जन्म और मृत्यु के बीच में किसी को जिंदगी कहा जाता है और जितने आप कर्म का एक रिकॉर्ड बनता है और स्कूल किताब में लिखा जाता है जब आप की मृत्यु होती है जब आप दूसरे जन्म में लेते हैं तब यह रिकॉर्ड फिर से शुरू हो जाता है जो आपके कर्मकांड कितने योनियों में आपका जीवन काल है एक जीवन नहीं है अनेक जीवन काल में सभी में आपका एक खाता बुक की तरह रखा जाता है जिसको हम कार्मिक रिकॉर्ड बोलते हैं यही जीवन है आपके कर्मों का लेखा जोखा को जीवन कहते हैं और जितना समय आपको इस धरती पर मिलता है जन्म बच्चों के बीच में किसी को जीवन कहा जाता है गॉड ब्लेस

aapka prashna hai zindagi kya hai yah jeevan kya hai aapka jab janam hota hai usi tarah insaan ki mrityu bhi hoti hai toh janam aur mrityu ke beech ka jo samay hai usi ko jeevan kaha gaya hai is jeevan me aap kya karm karte hain janam aur mrityu ke beech me kisi ko zindagi kaha jata hai aur jitne aap karm ka ek record banta hai aur school kitab me likha jata hai jab aap ki mrityu hoti hai jab aap dusre janam me lete hain tab yah record phir se shuru ho jata hai jo aapke karmakand kitne yoniyon me aapka jeevan kaal hai ek jeevan nahi hai anek jeevan kaal me sabhi me aapka ek khaata book ki tarah rakha jata hai jisko hum karmik record bolte hain yahi jeevan hai aapke karmon ka lekha jokha ko jeevan kehte hain aur jitna samay aapko is dharti par milta hai janam baccho ke beech me kisi ko jeevan kaha jata hai god bless

आपका प्रश्न है जिंदगी क्या है यह जीवन क्या है आपका जब जन्म होता है उसी तरह इंसान की मृत्यु

Romanized Version
Likes  380  Dislikes    views  5113
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जिंदगी उस परमात्मा का दिया हुआ एक ऐसा उपहार है जिसके द्वारा हम स्वयं के साथ-साथ पूरी मानवता के लिए भी बहुत बड़ा कार्य कर सकते हैं जिंदगी का उत्तर है कुछ अच्छा करने का जिंदगी एक चुनौती है उसे स्वीकार करें जिंदगी एक लक्ष्य है उसे हासिल करें जिंदगी एक औषधि है उसका सेवन करें

zindagi us paramatma ka diya hua ek aisa upahar hai jiske dwara hum swayam ke saath saath puri manavta ke liye bhi bahut bada karya kar sakte hain zindagi ka uttar hai kuch accha karne ka zindagi ek chunauti hai use sweekar kare zindagi ek lakshya hai use hasil kare zindagi ek aushadhi hai uska seven kare

जिंदगी उस परमात्मा का दिया हुआ एक ऐसा उपहार है जिसके द्वारा हम स्वयं के साथ-साथ पूरी मानवत

Romanized Version
Likes  231  Dislikes    views  1626
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखी आपने पूछा है जिंदगी क्या है जिंदगी भाई साहब आपके साथ दिल की जगह सांसे चल रही है जिंदगी है और जिस दिन जिस दिन सांस रुक जाएगी और जिंदगी भी रुक जाएगी इसीलिए किसी ने कहा है कि जिंदगी एक कहानी है और मौत एक हकीकत है धन्यवाद

dekhi aapne poocha hai zindagi kya hai zindagi bhai saheb aapke saath dil ki jagah sanse chal rahi hai zindagi hai aur jis din jis din saans ruk jayegi aur zindagi bhi ruk jayegi isliye kisi ne kaha hai ki zindagi ek kahani hai aur maut ek haqiqat hai dhanyavad

देखी आपने पूछा है जिंदगी क्या है जिंदगी भाई साहब आपके साथ दिल की जगह सांसे चल रही है जिंदग

Romanized Version
Likes  37  Dislikes    views  631
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!