आयुर्वेद के अनुसार हमें दूध क्यों नहीं पीना चाहिए?...


user

Amit Kumar

Teacher

0:27
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रॉब्लम है आयुर्वेद के अनुसार हमें दूध क्यों नहीं पीना चाहिए तो आपके पास उनका मेंथा देना चाहूंगा कि आयुर्वेद के अनुसार जो हमें दूध इसलिए नहीं पीना चाहिए कि दूध जो है सो का जो है सब बनाती है और वह जो है साचा ढंग से छुपाती भी नहीं होती हर किसी को दूध अच्छे ढंग से छुपाते नहीं होती इसलिए दूध को दही बना कर खाने की सलाह दी जाती है

aapka problem hai ayurveda ke anusaar hamein doodh kyon nahi peena chahiye toh aapke paas unka mentha dena chahunga ki ayurveda ke anusaar jo hamein doodh isliye nahi peena chahiye ki doodh jo hai so ka jo hai sab banati hai aur vaah jo hai sacha dhang se chupati bhi nahi hoti har kisi ko doodh acche dhang se chhupaate nahi hoti isliye doodh ko dahi bana kar khane ki salah di jaati hai

आपका प्रॉब्लम है आयुर्वेद के अनुसार हमें दूध क्यों नहीं पीना चाहिए तो आपके पास उनका मेंथा

Romanized Version
Likes  35  Dislikes    views  1040
WhatsApp_icon
5 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Masoom

Teacher

0:18
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अरब सागर में दूध क्यों नहीं पीना चाहिए कि आयुर्वेद के साथ दूध पीना चाहिए यह इसके नहीं पीना चाहिए कैसा स्पष्ट नहीं है क्योंकि आयुर्वेद दूध में विभिन्न प्रकार के पोषक तत्व पाए जाते हैं इसलिए ऐसा कहीं से नहीं लिखा हुआ क्या वेद में दूध नहीं पीना चाहिए

arab sagar me doodh kyon nahi peena chahiye ki ayurveda ke saath doodh peena chahiye yah iske nahi peena chahiye kaisa spasht nahi hai kyonki ayurveda doodh me vibhinn prakar ke poshak tatva paye jaate hain isliye aisa kahin se nahi likha hua kya ved me doodh nahi peena chahiye

अरब सागर में दूध क्यों नहीं पीना चाहिए कि आयुर्वेद के साथ दूध पीना चाहिए यह इसके नहीं पीना

Romanized Version
Likes  17  Dislikes    views  401
WhatsApp_icon
user

संदीप आर्य (एथलीट)

world champion🇮🇳 🇮🇳(एथलीट) Sandeep Arya🇮🇳 Faridpur, Hisar, Haryana 🇮🇳 भारत ( INDIA ) 🇮🇳

0:50
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जय हिंद आपका प्रश्न है आयुर्वेद के अनुसार हमें दूध क्यों नहीं पीना चाहिए वह कौन से आयुर्वेद में लिखा है आयुर्वेद तो कहता दूध पीना चाहिए यह तो महर्षि चरक ने भी लिखा है महर्षि बाल बढ़ने और राजीव दीक्षित जो डॉक्टरों के बहुत बड़े वैज्ञानिक उन्होंने भी कहा है तुझ पर नाची लेकिन गाय का दूध पीना थी उन्होंने यह भी का सबसे उत्तम स्वास्थ्य के लिए क्यों बीमारियों की लड़ने की क्षमता को बढ़ाता है गाय का दूध गाय का दूध सबसे उत्तम बताया उन्होंने कहा सुबह दूध नहीं पीना शाम को दूध पिलाती तोहार आयुर्वेदिक डॉक्टर बोल रहा है ऋतिक ने भी लिखा है भागवत ने लिखा है तो आप इससे एक गलत आपका प्रश्न था कि दूध नहीं पीना चाहिए आयुर्वेद आयुर्वेद कहता दूध पीना चाहिए यह तो कुछ लोग हैं जो इस प्रकार से फैला रहे हैं समाज

jai hind aapka prashna hai ayurveda ke anusaar hamein doodh kyon nahi peena chahiye vaah kaun se ayurveda me likha hai ayurveda toh kahata doodh peena chahiye yah toh maharshi charak ne bhi likha hai maharshi baal badhne aur rajeev dixit jo doctoron ke bahut bade vaigyanik unhone bhi kaha hai tujhe par nachi lekin gaay ka doodh peena thi unhone yah bhi ka sabse uttam swasthya ke liye kyon bimariyon ki ladane ki kshamta ko badhata hai gaay ka doodh gaay ka doodh sabse uttam bataya unhone kaha subah doodh nahi peena shaam ko doodh pilati tohar ayurvedic doctor bol raha hai ritik ne bhi likha hai bhagwat ne likha hai toh aap isse ek galat aapka prashna tha ki doodh nahi peena chahiye ayurveda ayurveda kahata doodh peena chahiye yah toh kuch log hain jo is prakar se faila rahe hain samaj

जय हिंद आपका प्रश्न है आयुर्वेद के अनुसार हमें दूध क्यों नहीं पीना चाहिए वह कौन से आयुर्वे

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  141
WhatsApp_icon
user

Dhiraj Kumar

Teacher & Advisor

0:31
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दोस्तों आपका पूछा गया प्रश्न है कि आयुर्वेद के अनुसार हमें दूध क्यों नहीं पीना चाहिए तो दोस्तों मैं बताना चाहूंगा मेरी जानकारी के हिसाब से है या और जहां तक मैं जानता हूं तो ऐसा कहीं नहीं लिखा गया है प्रशासन के दूध हमें नहीं पीना चाहिए या कुछ ऐसे सिचुएशन होते हैं जिसमें दूध हमें नहीं पीना चाहिए जैसे कि मछली खाने के बाद हमें दूध नहीं पीना चाहिए बैगन की सब्जी खाने के बाद हमें दूध नहीं पीना चाहिए इस तरह के कुछ है लेकिन ऐसा कहीं नहीं लिखा गया है कि डायरेक्ट में दूध नहीं पीना चाहिए

doston aapka poocha gaya prashna hai ki ayurveda ke anusaar hamein doodh kyon nahi peena chahiye toh doston main batana chahunga meri jaankari ke hisab se hai ya aur jaha tak main jaanta hoon toh aisa kahin nahi likha gaya hai prashasan ke doodh hamein nahi peena chahiye ya kuch aise situation hote hain jisme doodh hamein nahi peena chahiye jaise ki machli khane ke baad hamein doodh nahi peena chahiye baigan ki sabzi khane ke baad hamein doodh nahi peena chahiye is tarah ke kuch hai lekin aisa kahin nahi likha gaya hai ki direct me doodh nahi peena chahiye

दोस्तों आपका पूछा गया प्रश्न है कि आयुर्वेद के अनुसार हमें दूध क्यों नहीं पीना चाहिए तो दो

Romanized Version
Likes  47  Dislikes    views  1222
WhatsApp_icon
play
user
0:21

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जैसा कि आपने क्वेश्चन आयुर्वेद के अनुसार हमें दूध क्यों नहीं पीना चाहिए तो मैं आपको इतना चाहूंगा दूध की तासीर ठंडी होती है इसलिए किसी भी गर्म चीज के साथ नहीं पीना चाहिए या अभी मछली के साथ दूध भूलकर भी ना पे क्योंकि मछली की तासीर काफी गर्म होती है इसलिए आयुर्वेद में दूध मना किया जाता है धन्यवाद

jaisa ki aapne question ayurveda ke anusaar hamein doodh kyon nahi peena chahiye toh main aapko itna chahunga doodh ki tasir thandi hoti hai isliye kisi bhi garam cheez ke saath nahi peena chahiye ya abhi machli ke saath doodh bhulkar bhi na pe kyonki machli ki tasir kaafi garam hoti hai isliye ayurveda me doodh mana kiya jata hai dhanyavad

जैसा कि आपने क्वेश्चन आयुर्वेद के अनुसार हमें दूध क्यों नहीं पीना चाहिए तो मैं आपको इतना च

Romanized Version
Likes  23  Dislikes    views  734
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!