क्या हर घर जाकर कोरोना की टेस्टिंग करनी चाहिए तभी ये चैन टूटेगी?...


user

Anupam Bohare

Clinical Psychologist

1:03
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपकी इस प्रश्न से हम सहमत नहीं हैं सिम्टम्स की जानकारी दी जा सकती है इसमें सबसे प्रमुख पर है

aapki is prashna se hum sahmat nahi hain Symptoms ki jaankari di ja sakti hai isme sabse pramukh par hai

आपकी इस प्रश्न से हम सहमत नहीं हैं सिम्टम्स की जानकारी दी जा सकती है इसमें सबसे प्रमुख पर

Romanized Version
Likes  271  Dislikes    views  6423
WhatsApp_icon
25 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
Play

Likes  827  Dislikes    views  10351
WhatsApp_icon
user

S K Mishra

Career Advisor

0:29
Play

Likes  76  Dislikes    views  1448
WhatsApp_icon
user

Daulat Ram Sharma Shastri

Psychologist | Ex-Senior Teacher

1:28
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ओके खान यह सही कह रहे हो आप घर घर जाकर के मुकुट और अंडा की टेस्टिंग करानी होगी लेकिन आप समझ नहीं पा रहे हैं घर-घर टेस्टिंग करा देंगे मानो उस समय हुई और नानी बोल रहा है भाई और उसके 1 घंटे बाद ही आप कहीं बाहर गए हनुमान संक्रमण हो गया तो आप भ्रम में रह जाएंगे कि मेरा टेस्टिंग हो चुका है और अगर नहीं बात करनी इसलिए इसका सरकार या डॉक्टर निकालेंगे तो बना ली है फिर भी मेरा विचार यह है कि जहां तक हो सके गैदरिंग से बचें दूसरा सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखें और तीसरा मोड़े पर मास्क आदि अवश्य लगाएं सेंट्रल का ध्यान रखें लॉक डाउन का पालन करें तो ज्यादा बेहतर होगा क्योंकि इतना तो सरकार पर भी अपलोड नहीं है कि प्रत्येक भारत में कम से कम 1 अरब 30 35 करोड़ समथिंग हैं जितनी जनसंख्या के लिए उनके पास इतने कहां से उपलब्ध होंगी किंतु यदि संभव हो सके और यह प्राइवेट होता नहीं इसलिए अब सरकार इसमें या यह लोग कुछ क्या प्रावधान निकालेंगे जबकि ज्यादा

ok khan yah sahi keh rahe ho aap ghar ghar jaakar ke mukut aur anda ki testing karani hogi lekin aap samajh nahi paa rahe hain ghar ghar testing kara denge maano us samay hui aur naani bol raha hai bhai aur uske 1 ghante baad hi aap kahin bahar gaye hanuman sankraman ho gaya toh aap bharam me reh jaenge ki mera testing ho chuka hai aur agar nahi baat karni isliye iska sarkar ya doctor nikalenge toh bana li hai phir bhi mera vichar yah hai ki jaha tak ho sake gathering se bache doosra social distensing banaye rakhen aur teesra mode par mask aadi avashya lagaye central ka dhyan rakhen lock down ka palan kare toh zyada behtar hoga kyonki itna toh sarkar par bhi upload nahi hai ki pratyek bharat me kam se kam 1 arab 30 35 crore something hain jitni jansankhya ke liye unke paas itne kaha se uplabdh hongi kintu yadi sambhav ho sake aur yah private hota nahi isliye ab sarkar isme ya yah log kuch kya pravadhan nikalenge jabki zyada

ओके खान यह सही कह रहे हो आप घर घर जाकर के मुकुट और अंडा की टेस्टिंग करानी होगी लेकिन आप सम

Romanized Version
Likes  431  Dislikes    views  5279
WhatsApp_icon
user

Shipra Ranjan

Life Coach

0:22
Play

Likes  478  Dislikes    views  5473
WhatsApp_icon
user

Dr Raj Kumar Kochar

Ayurvedic Doctors ( Researcher )

1:32
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेडिकल टीम का है जो शहरी क्षेत्र है वहां पर हर कर जा रही है आज मेरे यहां भी लोग आए थे आज 10 तारीख को मेरे यहां पर लोग यह पूछताछ करने की कोई बात से तो नहीं आया है किसी को बुखार तो नहीं है किसी को खांसी सर्दी तो नहीं हुई है इत्यादि आते बारे में पूछता कि तमाम लोगों ने का टिकट के सदस्यों की लिंग की उन्होंने और उन्होंने पाएगी अंतर से हमें कोई प्रकार का संक्रमण नहीं है तब वह संतोषजनक होने के बाद भी उनको यहां से गए और अगले घर की तरफ चले गए हो गई है अभी अभी इसी बीच एक खबर आई है आईसीएमआर से वह बड़ी डरावनी है और भयावह 12 40 मजीद ऐसे मिले हैं जिसका ना तो कोई भी यात्रा का उल्लेख है ना उनका जो इतिहास से उसमें वह किसी संक्रमित लोगों से मिले थे फिर यह संक्रमण उनमें कैसे फैला यह पकड़ना मुश्किल हो रहा है 140 आदमी में कोरोनावायरस कहां से आया यह हमारे लिए चिंता का विषय बन रहा है कहीं हम इसे 3 में तो इंटर नहीं हो रहे हैं

medical team ka hai jo shahri kshetra hai wahan par har kar ja rahi hai aaj mere yahan bhi log aaye the aaj 10 tarikh ko mere yahan par log yah puchhtaach karne ki koi baat se toh nahi aaya hai kisi ko bukhar toh nahi hai kisi ko khansi sardi toh nahi hui hai ityadi aate bare me poochta ki tamaam logo ne ka ticket ke sadasyon ki ling ki unhone aur unhone payegi antar se hamein koi prakar ka sankraman nahi hai tab vaah santoshjanak hone ke baad bhi unko yahan se gaye aur agle ghar ki taraf chale gaye ho gayi hai abhi abhi isi beech ek khabar I hai ICMR se vaah badi daravni hai aur bhyavah 12 40 majeed aise mile hain jiska na toh koi bhi yatra ka ullekh hai na unka jo itihas se usme vaah kisi sankrameet logo se mile the phir yah sankraman unmen kaise faila yah pakadna mushkil ho raha hai 140 aadmi me coronavirus kaha se aaya yah hamare liye chinta ka vishay ban raha hai kahin hum ise 3 me toh inter nahi ho rahe hain

मेडिकल टीम का है जो शहरी क्षेत्र है वहां पर हर कर जा रही है आज मेरे यहां भी लोग आए थे आज 1

Romanized Version
Likes  387  Dislikes    views  9622
WhatsApp_icon
Likes  248  Dislikes    views  2455
WhatsApp_icon
user

Vikas Singh

Political Analyst

1:24
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका सवाल है क्या हर घर जाकर कोरोनावायरस इन करनी चाहिए तभी एचएन टूटेगी देखिए भैया मैं आपको बता देना चाहता हूं हमारा हिंदुस्तान 135 करोड़ देशवासियों वाला देश है और हर घर में जाकर टेस्टिंग करना अभी संभव भी नहीं है और चैटिंग करने से कुछ होगा भी नहीं दूसरी बात आरोग्य सेतु एप आप आपके रिश्तेदार आपके फैमिली मेंबर और हम सभी भारतवासी डाउनलोड कर ले आरोग्य सेतु एप आपको यह बताएगा कि आपको रोना से पॉजिटिव हो या करो ना से नेगेटिव हो अगर आप दो-चार 1020 लोगों से मिलते हो तो यह बता देगा आपको यह व्यक्ति को रोना से पॉजिटिव है तो जब आपको पता चल के व्यक्ति को रोना से पॉजिटिव है तो आप तुरंत सो नंबर पर फोन करना पुलिस को इनफॉर्म करना पुलिस वाले उस व्यक्ति को ले जाएंगे हॉस्पिटल में उसका ट्रीटमेंट चलेगा और वह व्यक्ति जितने लोगों के संपर्क में आया होगा उसका तुरंत टेस्टिंग होगा और तब जाकर इस समस्या का समाधान होगा धन्यवाद

aapka sawaal hai kya har ghar jaakar coronavirus in karni chahiye tabhi HN tutegi dekhiye bhaiya main aapko bata dena chahta hoon hamara Hindustan 135 crore deshvasiyon vala desh hai aur har ghar me jaakar testing karna abhi sambhav bhi nahi hai aur chatting karne se kuch hoga bhi nahi dusri baat aarogya setu app aap aapke rishtedar aapke family member aur hum sabhi bharatvasi download kar le aarogya setu app aapko yah batayega ki aapko rona se positive ho ya karo na se Negative ho agar aap do char 1020 logo se milte ho toh yah bata dega aapko yah vyakti ko rona se positive hai toh jab aapko pata chal ke vyakti ko rona se positive hai toh aap turant so number par phone karna police ko inafarm karna police waale us vyakti ko le jaenge hospital me uska treatment chalega aur vaah vyakti jitne logo ke sampark me aaya hoga uska turant testing hoga aur tab jaakar is samasya ka samadhan hoga dhanyavad

आपका सवाल है क्या हर घर जाकर कोरोनावायरस इन करनी चाहिए तभी एचएन टूटेगी देखिए भैया मैं आपको

Romanized Version
Likes  375  Dislikes    views  4206
WhatsApp_icon
user

Kr Wahid Ali

Journalist

1:10
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए हमारे देश में संसाधनों की कमी के कारण हर घर में टेस्ट होना कहोना का यह तो पॉसिबल नहीं लग रहा है क्योंकि अभी तक देखने में आया है कि जो संदिग्ध है या जिनको करंट एंड किया गया है उनका टेस्ट समय तो हो जाए यह भी चुनौती है हमारे पास जिसका मुख्य कारण है कि हमारे यहां हर जिले में कौन है यह जो मशीन है वह हमारे पास नहीं है तो ऐसे में 130 करोड़ जनता का टेस्ट होना यह तो वही एक बड़े संकट की बात हो जाएगी हमें देश के लिए संसाधनों को बढ़ाना पड़ेगा और उसमें बहुत समय लग जाएगा क्षेत्र तक बहुत देर हो जाए तो ऐसे में यही है कि जो नागरिक हैं देश के उन को सजग होने की आवश्यकता है कि कहीं बिन कोलक्शन लगे तो तुरंत बाहर आए और अपने आपको कारंटाइंड करें और अगर टेस्ट कराएं और हालांकि पहुंच गई कस्टमर लेकिन देखा जाए तो बहुत मुश्किल से

dekhiye hamare desh me sansadhano ki kami ke karan har ghar me test hona kahona ka yah toh possible nahi lag raha hai kyonki abhi tak dekhne me aaya hai ki jo sandigdh hai ya jinako current and kiya gaya hai unka test samay toh ho jaaye yah bhi chunauti hai hamare paas jiska mukhya karan hai ki hamare yahan har jile me kaun hai yah jo machine hai vaah hamare paas nahi hai toh aise me 130 crore janta ka test hona yah toh wahi ek bade sankat ki baat ho jayegi hamein desh ke liye sansadhano ko badhana padega aur usme bahut samay lag jaega kshetra tak bahut der ho jaaye toh aise me yahi hai ki jo nagarik hain desh ke un ko sajag hone ki avashyakta hai ki kahin bin kolakshan lage toh turant bahar aaye aur apne aapko karantaind kare aur agar test karaye aur halaki pohch gayi customer lekin dekha jaaye toh bahut mushkil se

देखिए हमारे देश में संसाधनों की कमी के कारण हर घर में टेस्ट होना कहोना का यह तो पॉसिबल नही

Romanized Version
Likes  88  Dislikes    views  795
WhatsApp_icon
Likes  123  Dislikes    views  3327
WhatsApp_icon
user

Rahul Bharat

राजनैतिक विश्लेषक

0:19
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

घर-घर जाकर पुराना की टेस्टिंग करना चाहिए तभी यह चैनपुर से जब मैं बिल्कुल पास नहीं रखता हूं घर घर जाकर करो ना की टेस्टिंग करना संभव नहीं है इस तरीके से यह कार्य पूरा नहीं हो सकता है

ghar ghar jaakar purana ki testing karna chahiye tabhi yah chainpur se jab main bilkul paas nahi rakhta hoon ghar ghar jaakar karo na ki testing karna sambhav nahi hai is tarike se yah karya pura nahi ho sakta hai

घर-घर जाकर पुराना की टेस्टिंग करना चाहिए तभी यह चैनपुर से जब मैं बिल्कुल पास नहीं रखता हूं

Romanized Version
Likes  163  Dislikes    views  1393
WhatsApp_icon
user
3:28
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो विकी घर घर में तो टेस्टिंग संभव नहीं है लेकिन उपाय हमलोगों पास दो ही हैं एक तो लॉकडाउन दूसरा टेस्ट है तो मास टेस्टिंग कराई जाए यह एक यह तरीका हो सकता है लेकिन ए संसाधन कम होते हैं और लोग ज्यादा तो हमारे 138 करोड़ दो सबके यहां तो टेस्टिंग संभव नहीं है अपने यहां की अमेरिका जैसे देश में वहां 33 करोड़ जनसंख्या है हमारी 138 करोड़ जनसंख्या तो काफी अंतर है लेकिन हां टेस्टों की संख्या में आया जो है टेस्टिंग बहुत तेजी से ज्यादा होनी चाहिए तो इसका उपाय यह है कि जो अभी सरकार ने रेड जोन और ऑरेंज उन्होंने ग्रीन जोन में डिवाइड किया है जिसने बोला गया है 736 जिलों में से 370 जिले कोरोना संक्रमित हैं इन जिलों में जो जिले संक्रमित में पोस्टेड हैं उन जिलों में जहां हॉटस्पॉट से उनमें जो है मास टेस्टिंग और जो बाकी जिले हैं उनको आइसोलेट करके रखना चाहिए लॉक डाउन करके रखना चाहिए आना जाना प्रतिबंधित कर देना चाहिए यह सारी उपाय चल रहे हैं लेकिन जो मास्टर स्टिंग है वह जहां पर पोस्टिंग के साए हैं ज्यादातर वहां पर कराए जाने चाहिए तो ड्रेस जून वह हैं एरिया जिले हैं जहां पर बहुत ज्यादा हॉटस्पॉट है जो बहुत सेंसिटिव हैं जहां पर बहुत अधिक के सामने से मेट्रो सिटी होगा तो ही मैं तो छुट्टी कितने हैं उन्हें बहुत केक आए हैं तो यह रेड जोन में है और ऑरेंज में वह जिले हैं जहां पर केस तो आए हैं लेकिन इतनी ज्यादा नहीं आए हैं लेकिन वहां पर भी हॉटस्पॉट का कि तुझे रेड जोन और ऑरेंज ऑन है इनमें बहुत ज्यादा मास टेस्टिंग की जरूरत है जिससे की असलियत पता चलता है कि कितने लोग संक्रमित हैं कितने लोग इनफेक्टेड हैं तो यहां पर तो हम लोग कर सकते हैं एक फूल टेस्टिंग एक बहुत बड़ा उपाय है तो उत्तर प्रदेश में कुल टेस्टिंग हमारे यहां स्टार्ट हो चुकी है तो भारत में अभी तक लगभग ढाई तीन लाख तीन लाख लगभग टेस्ट के हो चुके हैं तो अभी हमारे पास एक भी नहीं है टेस्टिंग किट उसके लिए टी-शर्ट होती है उतनी संख्या में उपलब्ध हूं कि हर घर में टेस्ट कराए गए हर घर में तो नहीं टेस्ट किया जा सकता यह है कि हमें अर्जुन और ऑरेंज और जो जो जिले हैं उनमें टेस्ट करना चाहिए सासीधर जो लोग गए जिनकी हिस्ट्री है ट्रैवल हिस्ट्री है उनके टेस्ट करना चाहिए ट्रैवल हिस्ट्री की जो कांटेक्ट में आए हैं जो इफेक्ट रहे हैं उनके कांटेक्ट को ढूंढना चाहिए उनको टेस्ट करना चाहिए कि कोई भी तो पोस्टिंग आया है तो वह किन किन लोगों से मिला कहां कहां गया तू वहां वहां पर उनको जो सख्ती से से उनको टेस्ट करना चाहिए तो यही एक उपाय है हम लोग पास और सबसे बड़ा उपाय तो लोग गांव नहीं है हालांकि आर्थिक नुकसान है इससे लेकिन लॉकडाउन और और उपाय ऐसा है कि इसमें सब कुछ जिम्मेदारी निभानी पड़ेगी हर एक नागरिक को चाहे कोई भी नागरिक हो सबको जब सरकार के साथ-साथ नागरिकों की भी जिम्मेदारी है कि वह लॉक डाउन का सही से पालन करें और जो मदद के पात्र हैं उनकी मदद भी करते रहे और दूरियां बनाए रखें जिससे कि लिए इसका स्प्रेड को रोका जा सके कंटेन सरकार प्रयास कर ही रही

hello vicky ghar ghar me toh testing sambhav nahi hai lekin upay humlogon paas do hi hain ek toh lockdown doosra test hai toh mass testing karai jaaye yah ek yah tarika ho sakta hai lekin a sansadhan kam hote hain aur log zyada toh hamare 138 crore do sabke yahan toh testing sambhav nahi hai apne yahan ki america jaise desh me wahan 33 crore jansankhya hai hamari 138 crore jansankhya toh kaafi antar hai lekin haan teston ki sankhya me aaya jo hai testing bahut teji se zyada honi chahiye toh iska upay yah hai ki jo abhi sarkar ne red zone aur orange unhone green zone me divide kiya hai jisne bola gaya hai 736 jilon me se 370 jile corona sankrameet hain in jilon me jo jile sankrameet me posted hain un jilon me jaha hotspot se unmen jo hai mass testing aur jo baki jile hain unko isolate karke rakhna chahiye lock down karke rakhna chahiye aana jana pratibandhit kar dena chahiye yah saari upay chal rahe hain lekin jo master sting hai vaah jaha par posting ke saye hain jyadatar wahan par karae jaane chahiye toh dress june vaah hain area jile hain jaha par bahut zyada hotspot hai jo bahut sensitive hain jaha par bahut adhik ke saamne se metro city hoga toh hi main toh chhutti kitne hain unhe bahut cake aaye hain toh yah red zone me hai aur orange me vaah jile hain jaha par case toh aaye hain lekin itni zyada nahi aaye hain lekin wahan par bhi hotspot ka ki tujhe red zone aur orange on hai inmein bahut zyada mass testing ki zarurat hai jisse ki asliyat pata chalta hai ki kitne log sankrameet hain kitne log inafekted hain toh yahan par toh hum log kar sakte hain ek fool testing ek bahut bada upay hai toh uttar pradesh me kul testing hamare yahan start ho chuki hai toh bharat me abhi tak lagbhag dhai teen lakh teen lakh lagbhag test ke ho chuke hain toh abhi hamare paas ek bhi nahi hai testing kit uske liye T shirt hoti hai utani sankhya me uplabdh hoon ki har ghar me test karae gaye har ghar me toh nahi test kiya ja sakta yah hai ki hamein arjun aur orange aur jo jo jile hain unmen test karna chahiye sasidhar jo log gaye jinki history hai travel history hai unke test karna chahiye travel history ki jo Contact me aaye hain jo effect rahe hain unke Contact ko dhundhana chahiye unko test karna chahiye ki koi bhi toh posting aaya hai toh vaah kin kin logo se mila kaha kaha gaya tu wahan wahan par unko jo sakhti se se unko test karna chahiye toh yahi ek upay hai hum log paas aur sabse bada upay toh log gaon nahi hai halaki aarthik nuksan hai isse lekin lockdown aur aur upay aisa hai ki isme sab kuch jimmedari nibhani padegi har ek nagarik ko chahen koi bhi nagarik ho sabko jab sarkar ke saath saath nagriko ki bhi jimmedari hai ki vaah lock down ka sahi se palan kare aur jo madad ke patra hain unki madad bhi karte rahe aur duriyan banaye rakhen jisse ki liye iska spread ko roka ja sake contain sarkar prayas kar hi rahi

हेलो विकी घर घर में तो टेस्टिंग संभव नहीं है लेकिन उपाय हमलोगों पास दो ही हैं एक तो लॉकडाउ

Romanized Version
Likes  153  Dislikes    views  1129
WhatsApp_icon
user

Dr. Ashwani Kumar Singh

Chairman & Director at VEMS

4:37
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार क्या हाल घर जाकर कहां की जस्टिन करनी चाहिए तभी अच्छे छोटे हाथी बात सच है कि हर घर जाना चाहिए लेकिन यह भी देखना होगा कि अपनी आबादी 129 करोड़ के आसपास है उसका हर घर जाना संभव है इतना साजन मेरे पास है इतने सारे लोग हमारे पास है इतनी सारी व्यवस्था अपने पास नहीं तो देखना ही होगा कि आज इस लोकेशन में कोई केस निकल रहा है बाहर लोग जो निकाले उसकी चैटिंग हो रही है जहां टेस्टिंग हो जाने पर लग रहा है कि इसका केस हिस्ट्री बता रहा है कि अपने आसपास 200 500 लोगों से मिला है या यह जहां से आया है उसका टेबल मैथ क्या है तू इस आधार पर उसे रिया को महल के हर घर को करना पड़ेगा दूसरा क्या है कि बहुत सारी परिस्थितियों में है कि वीडियो गली मोहल्ले हैं उनमें इतना डेंसिटी है इनको उनके घर पर रोके रखना और वह इलाज करना यह भी बहुत मुश्किल है इसलिए इनको उठाकर कहीं आइसोलेशन में रखा पड़ेगा और ट्रीटमेंट करना पड़ेगा और अपनी आबादी का जो सोशल स्ट्रक्चर है वह बहुत ही कह सकते हैं कि समझदारी का नहीं है उनको बहुत सारे इतने गलतफहमियां दिमाग में घुसी नहीं है उनको उन चीजों का पता नहीं है कि साहेब के बीमारी बीमारी है इसका किसी भी और चीज से कोई वास्ता नहीं है ना किसी धार्मिक धार्मिक पुस्तक फिर भी लोग इतने डीप रूटेड रेपुटेड है कि उनके बारे में इस वक्त चर्चा करना ही बेकार है सिवाय कि आप क्या रास्ता अपना के इस बड़ी आबादी को बचा सकते दूसरा आदमी डर है कि अगर इन लोगों को इनके हाल पर ही छोड़ दिया जाए और चारों तरफ से कोटा इंतजार एक बहुत बड़े लार्ज नंबर में इनका इनका सफाया हो जाएगा जो एक किसी भी माननीय स्तर पर सही नहीं है या एक जिम्मेदार नागरिक की हैसियत से भी आप कर सकते हैं कि सही कदम नहीं है अनेक जिम्मेदार सरकार के जरिए अपने ही लोगों को सबसे ज्यादा नुकसान पहुंचा रहे हैं और उस एरिया में जहां इन चीजों का ज्यादा से ज्यादा लोग मिल रहे हैं उनको आपको एवरी हाउस एंड एवरी मैन टेस्टिंग में को डालना पड़ेगा तो आप एक बड़ी आबादी को खतरे से बचा सकते हैं दूसरा क्या है कि खाने पीने का है वैसे भी एक बहुत बड़ा प्रॉब्लम है कि इन सिस्टम आपके सरकारी होने से ज्यादा बेटर है बस पति के आप मांसाहारी मांसाहारी मैं टाइमिंग सिस्टम और जो बहुत सारी सुविधाओं के साथ रहते हैं जैसे एसी और जो पैक्ड फूड एंड टैग्ड ज्यादातर फूड हैबिट्स के पंडित ने उनका जो भारतीय पद्धति से जो परिवार जीवन जी रहा है जिसमें बहुत सारे मसालों का उपयोग होता है और वह सरकारी हैं वह मैं उनका इम्यून सिस्टम किसी और से ज्यादा बेहतर साधन और रोग का विस्तार और रूप का पॉकेट जहां हॉटस्पॉट है उस आधार पर हाउस टू हाउस और मैन टू मैन आपको टेस्टिंग में जाना पड़ेगा और यही सबसे बेहतर हो सकता है शुक्रिया सबका

namaskar kya haal ghar jaakar kaha ki justin karni chahiye tabhi acche chote haathi baat sach hai ki har ghar jana chahiye lekin yah bhi dekhna hoga ki apni aabadi 129 crore ke aaspass hai uska har ghar jana sambhav hai itna sajan mere paas hai itne saare log hamare paas hai itni saari vyavastha apne paas nahi toh dekhna hi hoga ki aaj is location me koi case nikal raha hai bahar log jo nikale uski chatting ho rahi hai jaha testing ho jaane par lag raha hai ki iska case history bata raha hai ki apne aaspass 200 500 logo se mila hai ya yah jaha se aaya hai uska table math kya hai tu is aadhar par use riya ko mahal ke har ghar ko karna padega doosra kya hai ki bahut saari paristhitiyon me hai ki video gali mohalle hain unmen itna density hai inko unke ghar par roke rakhna aur vaah ilaj karna yah bhi bahut mushkil hai isliye inko uthaakar kahin aisoleshan me rakha padega aur treatment karna padega aur apni aabadi ka jo social structure hai vaah bahut hi keh sakte hain ki samajhdari ka nahi hai unko bahut saare itne galatafahamiyan dimag me ghusi nahi hai unko un chijon ka pata nahi hai ki saheb ke bimari bimari hai iska kisi bhi aur cheez se koi vasta nahi hai na kisi dharmik dharmik pustak phir bhi log itne deep routed reputated hai ki unke bare me is waqt charcha karna hi bekar hai shivaay ki aap kya rasta apna ke is badi aabadi ko bacha sakte doosra aadmi dar hai ki agar in logo ko inke haal par hi chhod diya jaaye aur charo taraf se quota intejar ek bahut bade large number me inka inka safaya ho jaega jo ek kisi bhi mananiya sthar par sahi nahi hai ya ek zimmedar nagarik ki haisiyat se bhi aap kar sakte hain ki sahi kadam nahi hai anek zimmedar sarkar ke jariye apne hi logo ko sabse zyada nuksan pohcha rahe hain aur us area me jaha in chijon ka zyada se zyada log mil rahe hain unko aapko every house and every man testing me ko dalna padega toh aap ek badi aabadi ko khatre se bacha sakte hain doosra kya hai ki khane peene ka hai waise bhi ek bahut bada problem hai ki in system aapke sarkari hone se zyada better hai bus pati ke aap masahari masahari main timing system aur jo bahut saari suvidhaon ke saath rehte hain jaise ac aur jo packed food and tagged jyadatar food habits ke pandit ne unka jo bharatiya paddhatee se jo parivar jeevan ji raha hai jisme bahut saare masalo ka upyog hota hai aur vaah sarkari hain vaah main unka immune system kisi aur se zyada behtar sadhan aur rog ka vistaar aur roop ka pocket jaha hotspot hai us aadhar par house to house aur man to man aapko testing me jana padega aur yahi sabse behtar ho sakta hai shukriya sabka

नमस्कार क्या हाल घर जाकर कहां की जस्टिन करनी चाहिए तभी अच्छे छोटे हाथी बात सच है कि हर घर

Romanized Version
Likes  330  Dislikes    views  1988
WhatsApp_icon
user

Khushbu Pathak

Counselor|Lawyer/Experienced Life Coach

1:23
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है क्या हर घर जाकर कोरोना की टाइपिंग करनी चाहिए तभी यह चैन टूटेगी तो मैं बताना चाहती हूं कि आपका बहुत अच्छा प्रश्न है और अगर कोरोना की चेकिंग हर घर में जाकर करें तो यह तो बहुत ही अच्छी बात होगी और इतने संसाधन हम लोगों के पास अभी उपलब्ध भी नहीं है शायद जिनसे हम हर घर में जाकर कि उनकी टेस्टिंग पर इतना भारत सरकार ने यह किया हुआ है कि अगर किसी को भी जरा सा भी लक्षण दिख रहा है उनके परिवार में कोई भी विदेश से लौट कर आया है या वह किसी ऐसे आदमी के संपर्क में रहना जो विदेश से अभी हाल ही में लौट कर आया है तो ऐसे सभी व्यक्तियों को जाना चाहिए और अपनी चेकअप जरूर करवाना चाहिए क्योंकि यह बहुत ही खतरनाक हो सकता है इसको बहुत ही सीरियस लेना चाहिए जरा सा भी इतने चुप करना खतरे से खाली नहीं होगा और यह बहुत भारी पड़ सकता है अगर आपको जरा सी भी सर्दी खांसी जुखाम नाक बहना या फिर आपको बहुत ज्यादा तेज बुखार हो रहा है गले में दर्द है यह सारे लक्षण बताए गए हैं कोरोना के लिए तो अगर ऐसा कुछ भी लगे तो प्लीज इसको जरूर जाइए डॉक्टर के पास जाइए और चेकअप करवाया और अगर सरकार ऐसा कर पाए जैसा आपने प्रश्न में पूछा है तो यह बहुत ही बेहतर रहेगा

aapka prashna hai kya har ghar jaakar corona ki typing karni chahiye tabhi yah chain tutegi toh main batana chahti hoon ki aapka bahut accha prashna hai aur agar corona ki checking har ghar me jaakar kare toh yah toh bahut hi achi baat hogi aur itne sansadhan hum logo ke paas abhi uplabdh bhi nahi hai shayad jinse hum har ghar me jaakar ki unki testing par itna bharat sarkar ne yah kiya hua hai ki agar kisi ko bhi zara sa bhi lakshan dikh raha hai unke parivar me koi bhi videsh se lot kar aaya hai ya vaah kisi aise aadmi ke sampark me rehna jo videsh se abhi haal hi me lot kar aaya hai toh aise sabhi vyaktiyon ko jana chahiye aur apni checkup zaroor karwana chahiye kyonki yah bahut hi khataranaak ho sakta hai isko bahut hi serious lena chahiye zara sa bhi itne chup karna khatre se khaali nahi hoga aur yah bahut bhari pad sakta hai agar aapko zara si bhi sardi khansi jukham nak bahna ya phir aapko bahut zyada tez bukhar ho raha hai gale me dard hai yah saare lakshan bataye gaye hain corona ke liye toh agar aisa kuch bhi lage toh please isko zaroor jaiye doctor ke paas jaiye aur checkup karvaya aur agar sarkar aisa kar paye jaisa aapne prashna me poocha hai toh yah bahut hi behtar rahega

आपका प्रश्न है क्या हर घर जाकर कोरोना की टाइपिंग करनी चाहिए तभी यह चैन टूटेगी तो मैं बताना

Romanized Version
Likes  55  Dislikes    views  841
WhatsApp_icon
user

Dr. KRISHNA CHANDRA

Rehabilitation Psychologist

0:27
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सरकार में जिस तरह का स्ट्रैटेजी तरीका अपनाया हुआ है वह बिल्कुल सही तरीका है संभावित व्यक्ति है नवरंग कोविड-19 जी उसको तोड़ने की तो इस सीन को तोड़ने के लिए व्यवस्था टेली गया है अटरिया रही है वह सही है बजाने की बुक से सत्य है

sarkar me jis tarah ka straiteji tarika apnaya hua hai vaah bilkul sahi tarika hai sambhavit vyakti hai navrang kovid 19 ji usko todne ki toh is seen ko todne ke liye vyavastha telly gaya hai atariya rahi hai vaah sahi hai bajane ki book se satya hai

सरकार में जिस तरह का स्ट्रैटेजी तरीका अपनाया हुआ है वह बिल्कुल सही तरीका है संभावित व्यक्त

Romanized Version
Likes  561  Dislikes    views  10876
WhatsApp_icon
user

ShAshWaT SRiVaStAvA

CaReer AnD EdUcaTiOnaL GuIde

3:28
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए कोरोनावायरस कोई भारत में जन्म बीमारी तो है नहीं कि भारत में किसी वातावरण या किसी वस्तु या किसी माहौल से हो रही हो इसलिए करीब 140 करोड़ लोगों का टेस्ट कराना कोई मतलब की बात नहीं है बेमतलब का पैसा ही खर्चा होना है लेकिन कोरोनावायरस से दूर रहने या हमको संक्रमण ना हो इसका एक ही उपाय है सोशल डिस्टेंसिंग मतलब सामाजिक दूरी उत्तम आरोग्य सेतु है हम आरोग्य सेतु एप का इस्तेमाल कर सकते हैं मास्क पहने रहे और जो बाहर के निकलने के कपड़े हैं और जो घर में जैसे ही इंट्री करते हैं बाहर से आने के बाद उन कपड़ों में बहुत ही ज्यादा डिफरेंस रखे वही कपड़ा पहन के घर के अंदर इंट्री ना करें उस कपड़े को बाहर ही रख दे कमरे में जितनी भी ग्रुप में मत लेकिन कुछ हमको बचाव करने पड़ेंगे और हम सोचे कि सबका टेस्ट कर डाले तो यह पॉसिबल नहीं है और अगर पॉसिबल भी है तब भी इसको आप करते करती कम से कम 2 से ढाई साल लेने गया बहुत अगर मैंने बता दिया तो आपसे महीना 3 महीना 6 महीना से ऑटोमेटिक सामने वाला घर है तो फैला देगा कोई उपाय नहीं हमको भी तत्कालीन स्टंट क्या करना है हमें इस पर ध्यान देना है कि हमको अभी इमीडिएट एक्शन क्या लेना है और इमीडिएट एक्शन कब हम ले सकते हैं जब हमें इसके बारे में कुछ बताओ हमें भी नहीं पता है कि हम एक अगर यह इंफेक्शन है हमको दूसरे से आएगा वायरस के रूप में तो हम कोई से बचना है हम कोशिश कर जितना भीड़ भाड़ में हो कम जाए और अगल-बगल जब भी चले या कहीं बैठे तो उसके रिया को सेंटेंस कर ले अगर सही नहीं कर सकते अपने आप को कवर तू जिस तरह यहां पर किस हिस्से में बढ़ रहे हैं उसी टाइम यू लुक डाउन भी खुल रहा है तो जाहिर सी बात है सब राम भरोसे है अगर राम भरोसे है तो फिर यह तो अब हम लोग के अंदर क्या है हम लोग को अब अपने हिसाब से चलना होगा हम लोग एक मुखी ऐसी जगहों में एक मतलब एक लाइन में हो तक सिस्टमैटिक चले तो किसी को नहीं होगा हम लोग सिस्टमैटिका करें उसी को इसमें और आर्डर फॉर्म में अगर हर जगह रहेंगे जितनी भी सारी तो हमको क्या करना है मैंने सिस्टम में हर जगह खड़े होना है हर जगह लाइन में अगर कोई लाइन में लगाए तो अपने आप को डिस्टेंस बनाकर उसके आगे नहीं जाना देखने कितनी लंबी लाइन अपने आप अपने आपको हमको एक दिमागी जो व्यवहार होता है उसमें भी बदलाव लाने पड़ेंगे जब हमारे अंदर वह धीरे-धीरे बदलाव हमारे व्यवहार में धीरे-धीरे जी ना सकेंगे इस वायरस के साथ कुल मिलाकर इस वायरस के साथ अभी हमको जीना है तो उसके साथ अभी हम को घर-घर जाकर भारत में दिया गया और भारत से पोलियो का नामोनिशान खत्म हो गया उसी तरह गुणवान व्यक्ति भारत के लोगों में क्षमता है और भारत का जो इंस्टिट्यूशन है इस मामले का इतना सक्षम है जिसकी जो तारीफ डब्ल्यूएचओ रिंकी भारत नगर पोलियो मिटा दिया तो कोरोनावायरस भारत जड़ से मिटा देगा तो अभी व्यक्ति जब तक नहीं आ जाती तब तक तो भी जोगन सरकार दे रही है और जो प्रिकॉशंस हमको डब्ल्यूएचओ और हमारी गवर्नमेंट दे रही है उसके रिकॉर्डिंग भी हमको रहना है अतः जवाब पसंद आए तो लाइक करें मुझे चालू करें

dekhiye coronavirus koi bharat me janam bimari toh hai nahi ki bharat me kisi vatavaran ya kisi vastu ya kisi maahaul se ho rahi ho isliye kareeb 140 crore logo ka test krana koi matlab ki baat nahi hai bematalab ka paisa hi kharcha hona hai lekin coronavirus se dur rehne ya hamko sankraman na ho iska ek hi upay hai social distensing matlab samajik doori uttam aarogya setu hai hum aarogya setu app ka istemal kar sakte hain mask pehne rahe aur jo bahar ke nikalne ke kapde hain aur jo ghar me jaise hi intri karte hain bahar se aane ke baad un kapdo me bahut hi zyada difference rakhe wahi kapda pahan ke ghar ke andar intri na kare us kapde ko bahar hi rakh de kamre me jitni bhi group me mat lekin kuch hamko bachav karne padenge aur hum soche ki sabka test kar dale toh yah possible nahi hai aur agar possible bhi hai tab bhi isko aap karte karti kam se kam 2 se dhai saal lene gaya bahut agar maine bata diya toh aapse mahina 3 mahina 6 mahina se Automatic saamne vala ghar hai toh faila dega koi upay nahi hamko bhi tatkalin stunt kya karna hai hamein is par dhyan dena hai ki hamko abhi imidiet action kya lena hai aur imidiet action kab hum le sakte hain jab hamein iske bare me kuch batao hamein bhi nahi pata hai ki hum ek agar yah infection hai hamko dusre se aayega virus ke roop me toh hum koi se bachna hai hum koshish kar jitna bheed bhad me ho kam jaaye aur agal bagal jab bhi chale ya kahin baithe toh uske riya ko sentence kar le agar sahi nahi kar sakte apne aap ko cover tu jis tarah yahan par kis hisse me badh rahe hain usi time you look down bhi khul raha hai toh jaahir si baat hai sab ram bharose hai agar ram bharose hai toh phir yah toh ab hum log ke andar kya hai hum log ko ab apne hisab se chalna hoga hum log ek mukhi aisi jagaho me ek matlab ek line me ho tak systematic chale toh kisi ko nahi hoga hum log sistamaitika kare usi ko isme aur order form me agar har jagah rahenge jitni bhi saari toh hamko kya karna hai maine system me har jagah khade hona hai har jagah line me agar koi line me lagaye toh apne aap ko distance banakar uske aage nahi jana dekhne kitni lambi line apne aap apne aapko hamko ek dimagi jo vyavhar hota hai usme bhi badlav lane padenge jab hamare andar vaah dhire dhire badlav hamare vyavhar me dhire dhire ji na sakenge is virus ke saath kul milakar is virus ke saath abhi hamko jeena hai toh uske saath abhi hum ko ghar ghar jaakar bharat me diya gaya aur bharat se polio ka namonishan khatam ho gaya usi tarah gunvaan vyakti bharat ke logo me kshamta hai aur bharat ka jo instityushan hai is mamle ka itna saksham hai jiski jo tareef WHO rinki bharat nagar polio mita diya toh coronavirus bharat jad se mita dega toh abhi vyakti jab tak nahi aa jaati tab tak toh bhi jogan sarkar de rahi hai aur jo prikashans hamko WHO aur hamari government de rahi hai uske recording bhi hamko rehna hai atah jawab pasand aaye toh like kare mujhe chaalu kare

देखिए कोरोनावायरस कोई भारत में जन्म बीमारी तो है नहीं कि भारत में किसी वातावरण या किसी वस्

Romanized Version
Likes  104  Dislikes    views  1021
WhatsApp_icon
user

Dr.Vinod Mune Nagpur.

clinical Hypnotherapist & DMIT Counselor

4:15
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

घर घर जाकर करना कि टेस्ट क्यों करनी पड़ेगी सबसे पहले यह सवाल आता है कि यह जो कोरोनाटा से यह सही में यह पुरानी पुरानी वायरस के टेस्ट पॉजिटिव रिजल्ट और आप वरना से बिल्कुल मत डरिए एक वायरस एक सबसे गया गुजरा वायरस है जिसके पहले जितने भी वायरस है उससे भी घटेगा वायरस है यह सब एक डब्ल्यूएचओ के नियमों के अनुसार मोदी जी ने इस को फॉलो किया और आज हमने अपने देश का पूरा इकोनॉमिकल जोगी बैकग्राउंड खत्म करते हमारी कंडीशन में रहते हैं आपके आप को झेल चुके हो फिर भी पॉजिटिव है कैंसर से मर गया वरना पॉजिटिव टीवी से मर गया पुराना पॉजिटिव डायबिटीज डर का व्यापार हो चुका है और याद रखेगा जोशी इंपॉर्टेंट बाद मैं आपको बता दूं किसी भी वायरस के ऊपर वैक्सीनेशन नहीं होती है आने वाले समय में अगर व्यक्ति ने से होता है तो आपको बिल्कुल नहीं करना क्योंकि जो आरएलडी करके जो बनाया जाता है वह उस वक्त उसी वक्त काम में आता है क्योंकि और उनके रहता है इसलिए कभी भी वायरस के ऊपर आने वाले समय में आपको वैक्सीनेशन कभी आ सकता है अगर ऐसा है तो आपके डर नहीं है तो आपको कोई फर्क नहीं पड़ेगा तुझे सभी प्रॉब्लम माइंड से होते हैं अगर आपने मन में सोच लिया कि आपको कुछ हो सकता था तो होगा सोचा कि कुछ नहीं होगा बिंदास जैसा सोचोगे वैसा बनोगे वह घर-घर जाकर टेस्ट करने की कोई जरूरत नहीं है करने के बाद भी एक प्रेशर आएगा और रेडी मीडिया ने आपको डरा के रख दिया है और मैं इस प्लेटफार्म के माध्यम से आप लोगों को बताना चाहता हूं कि मैं जिम लोगों तक यह बात पहुंचाई है अगर आपको इसके बारे में डिटेल में जानना है तो मेरे यूट्यूब चैनल पर जाइए और विनोद मुनि के नाम से है वहां पर आपको इसके बारे में इंफॉर्मेशन भी है उसमें जो दवाई दे रही दे रहे उससे तो आपको चिंता करने की जरूरत नहीं है ऑटोमेटिक के लिए अगर वायरस अपॉइंटमेंट बुक हो चुका है मैं बता नहीं सकता लेकिन फिर भी जो भी किया है हमारे गवर्नमेंट ने गलत किया है छोटे-छोटे बच्चे मजदूर आ गए थे रिंग का खून रास्ते पर बढ़ चुका है वहीं हमारे सबसे इंपॉर्टेंट लोग तीनों प्रकार के माध्यम से मुकाबला किया जा सकता है लोकदल इसका कोई सलूशन नहीं तो मैं आपको बता दूं सो जाइए करके अपने आप को टेंशन मत लो नहीं दिखाएगा

ghar ghar jaakar karna ki test kyon karni padegi sabse pehle yah sawaal aata hai ki yah jo koronata se yah sahi me yah purani purani virus ke test positive result aur aap varna se bilkul mat dariye ek virus ek sabse gaya gujara virus hai jiske pehle jitne bhi virus hai usse bhi ghatega virus hai yah sab ek WHO ke niyamon ke anusaar modi ji ne is ko follow kiya aur aaj humne apne desh ka pura economical jogi background khatam karte hamari condition me rehte hain aapke aap ko jhel chuke ho phir bhi positive hai cancer se mar gaya varna positive TV se mar gaya purana positive diabetes dar ka vyapar ho chuka hai aur yaad rakhega joshi important baad main aapko bata doon kisi bhi virus ke upar vaccination nahi hoti hai aane waale samay me agar vyakti ne se hota hai toh aapko bilkul nahi karna kyonki jo RLD karke jo banaya jata hai vaah us waqt usi waqt kaam me aata hai kyonki aur unke rehta hai isliye kabhi bhi virus ke upar aane waale samay me aapko vaccination kabhi aa sakta hai agar aisa hai toh aapke dar nahi hai toh aapko koi fark nahi padega tujhe sabhi problem mind se hote hain agar aapne man me soch liya ki aapko kuch ho sakta tha toh hoga socha ki kuch nahi hoga bindas jaisa sochoge waisa banogey vaah ghar ghar jaakar test karne ki koi zarurat nahi hai karne ke baad bhi ek pressure aayega aur ready media ne aapko dara ke rakh diya hai aur main is platform ke madhyam se aap logo ko batana chahta hoon ki main gym logo tak yah baat pahunchai hai agar aapko iske bare me detail me janana hai toh mere youtube channel par jaiye aur vinod muni ke naam se hai wahan par aapko iske bare me information bhi hai usme jo dawai de rahi de rahe usse toh aapko chinta karne ki zarurat nahi hai Automatic ke liye agar virus appointment book ho chuka hai main bata nahi sakta lekin phir bhi jo bhi kiya hai hamare government ne galat kiya hai chote chote bacche majdur aa gaye the ring ka khoon raste par badh chuka hai wahi hamare sabse important log tatvo prakar ke madhyam se muqabla kiya ja sakta hai lokdal iska koi salution nahi toh main aapko bata doon so jaiye karke apne aap ko tension mat lo nahi dikhaega

घर घर जाकर करना कि टेस्ट क्यों करनी पड़ेगी सबसे पहले यह सवाल आता है कि यह जो कोरोनाटा से य

Romanized Version
Likes  305  Dislikes    views  2600
WhatsApp_icon
user

Surya Bajpai

Director & Faculty

2:54
Play

Likes  38  Dislikes    views  474
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार दोस्तों आपका 200 का योगा फ्रेंड विश दे बोल रहा हूं दोस्त आपका जब प्रश्न है कि क्या हर घर जाकर पुराने गीत एक्टिंग करनी चाहिए तबीयत इन टूटेगी यह चीज कह देना बहुत आसान है लेकिन इतना बड़ा सिस्टम कहां से लाओगे 135 करोड़ लोगों को आप कैसे टेस्टिंग करोगे और आपने कर भी दिया मान लिया आपने शुरुआत की और उसके बाद उसके बाद वापस उस घर में फिर आ गया उन लोगों पर हो गए जिनकी टेस्टिंग हो चुकी थी क्योंकि टेस्टिंग दिन रहोगे नहीं टेस्टी पूरे देश के हर घर के लोगों की टेस्टिंग करने के लिए तो कई साल लग जाएंगे तो पूरा जीवन चक्र चलता रहेगा नहीं अपने आप को बचाओ अपना सोशल डिस्टेंस मेंटेन रखने पर हाथ धो और मुंह के ऊपर मास्क लगा कर रखो अपना बचाव खुद करो देश आपके लिए क्या कर सकता यह नहीं आप देश के लिए अपने पर द्वार के लिए क्या कर सकते हैं यही सोच हमें इस महा बीमारी से बचा सकती है ओके

namaskar doston aapka 200 ka yoga friend wish de bol raha hoon dost aapka jab prashna hai ki kya har ghar jaakar purane geet acting karni chahiye tabiyat in tutegi yah cheez keh dena bahut aasaan hai lekin itna bada system kaha se laouge 135 crore logo ko aap kaise testing karoge aur aapne kar bhi diya maan liya aapne shuruat ki aur uske baad uske baad wapas us ghar me phir aa gaya un logo par ho gaye jinki testing ho chuki thi kyonki testing din rahoge nahi tasty poore desh ke har ghar ke logo ki testing karne ke liye toh kai saal lag jaenge toh pura jeevan chakra chalta rahega nahi apne aap ko bachao apna social distance maintain rakhne par hath dho aur mooh ke upar mask laga kar rakho apna bachav khud karo desh aapke liye kya kar sakta yah nahi aap desh ke liye apne par dwar ke liye kya kar sakte hain yahi soch hamein is maha bimari se bacha sakti hai ok

नमस्कार दोस्तों आपका 200 का योगा फ्रेंड विश दे बोल रहा हूं दोस्त आपका जब प्रश्न है कि क्या

Romanized Version
Likes  370  Dislikes    views  3381
WhatsApp_icon
user

Dr. Guddy Kumari

UPSC Coach / Ph.d

0:54
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार आपने कहा कि घर-घर जाकर करो ना कि चैटिंग करनी चाहिए तभी अच्छे छूटेगा हां बिल्कुल यह सही है कि हर घर जाकर टेस्टिंग करनी चाहिए दिल्ली की सरकार के लिए कार्य कर रही है बॉर्डर को सील कर रही है जो लोग बाहर से आ रहे हैं क्योंकि पहले से पता है कि क्यों रोना सबसे पहले यह बात पता है कि सोना बाहर तू ही आने वाली एक बीमारी है जो भी गांव मिले जिसकी मोहल्ला में तो होना के पानी के आने की आशंका ज्यादा बन गई है इसलिए हासिल किया गया है और जहां-जहां पॉजिटिव पाए जा रहा है उस पूरे गांव की टेस्टिंग की जा रही है पूरे गांव को सील किया जा रहा है सरकार कर रही है अब आगे देखते हैं हमें हमारा अपना काम है कि हम सरकार के काम में सहयोग करें धन्यवाद

namaskar aapne kaha ki ghar ghar jaakar karo na ki chatting karni chahiye tabhi acche chhootega haan bilkul yah sahi hai ki har ghar jaakar testing karni chahiye delhi ki sarkar ke liye karya kar rahi hai border ko seal kar rahi hai jo log bahar se aa rahe hain kyonki pehle se pata hai ki kyon rona sabse pehle yah baat pata hai ki sona bahar tu hi aane wali ek bimari hai jo bhi gaon mile jiski mohalla me toh hona ke paani ke aane ki ashanka zyada ban gayi hai isliye hasil kiya gaya hai aur jaha jaha positive paye ja raha hai us poore gaon ki testing ki ja rahi hai poore gaon ko seal kiya ja raha hai sarkar kar rahi hai ab aage dekhte hain hamein hamara apna kaam hai ki hum sarkar ke kaam me sahyog kare dhanyavad

नमस्कार आपने कहा कि घर-घर जाकर करो ना कि चैटिंग करनी चाहिए तभी अच्छे छूटेगा हां बिल्कुल यह

Romanized Version
Likes  169  Dislikes    views  2466
WhatsApp_icon
play
user

Shubham Saini

Software Engineer

0:32

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्या हर घर जाकर की पुण्यतिथि करनी चाहिए या तो जरूरी यही है कि भारत सरकार पूरा कोशिश करें कि जितने भी लोग में जहां पर जैसे भी कोई इनफॉर्म मिले तो वहां पर पहुंच कर के बहुत तेजी से उसका इलाज करना चाहिए और उनके संपर्क में जितने उनको टेस्टिंग करना चाहिए इसका इसको रोकने के लिए सबसे अच्छा तरीका है कि घर-घर जाकर के टेस्टिंग करें और जितना ज्यादा हो सके इस को काबू में किया जा सकता अगर ऐसा होता है तो

kya har ghar jaakar ki punyatithi karni chahiye ya toh zaroori yahi hai ki bharat sarkar pura koshish kare ki jitne bhi log me jaha par jaise bhi koi inafarm mile toh wahan par pohch kar ke bahut teji se uska ilaj karna chahiye aur unke sampark me jitne unko testing karna chahiye iska isko rokne ke liye sabse accha tarika hai ki ghar ghar jaakar ke testing kare aur jitna zyada ho sake is ko kabu me kiya ja sakta agar aisa hota hai toh

क्या हर घर जाकर की पुण्यतिथि करनी चाहिए या तो जरूरी यही है कि भारत सरकार पूरा कोशिश करें क

Romanized Version
Likes  284  Dislikes    views  1862
WhatsApp_icon
user

Dr. Prasenjit Dhargawe

Ayurvedic Doctor

0:17
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

घर घर जाकर करना कि कैसे करनी होगी तभी हम पता कर पाएंगे कि कौन इनफेक्टेड है और कौन ने और इन्फेक्शन को ऐश्वर्या करने में आसानी होगी धन्यवाद

ghar ghar jaakar karna ki kaise karni hogi tabhi hum pata kar payenge ki kaun inafekted hai aur kaun ne aur infection ko aishwarya karne me aasani hogi dhanyavad

घर घर जाकर करना कि कैसे करनी होगी तभी हम पता कर पाएंगे कि कौन इनफेक्टेड है और कौन ने और इन

Romanized Version
Likes  98  Dislikes    views  1101
WhatsApp_icon
user

Nikhil Ranjan

HoD - NIELIT

0:51
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आकाश ने क्या हाल घर जाकर करो ना की टेस्टिंग करनी चाहिए तभी तीन टूटेगी इतनी बड़ी भाभी ऑपरेशन है यह तो पॉसिबल ही नहीं हो पाएगा कि हर घर में जाकर के हर एक व्यक्ति के सैंपल लेकर टेस्टिंग कराई जाए और उसके बाद ही पता चल पाए कि कोई व्यक्ति करो ना संक्रमित है या नहीं है इसके लिए हम लोग को भी थोड़ा जागरूक होना पड़ेगा सचेत रहना पड़ेगा साथ ही साथ लिमिटेड क्योंकि अगर आपके पास संसाधन है तो फिर आपको उस हिसाब से ही सोच कर आगे बढ़ना चाहिए चलना चाहिए वही आपके लिए ज्यादा फायदेमंद होगा और दोगे तो बात बिल्कुल सही है कि उसने ज्यादा ही आपके यहां पर जो दिव्यांशु आपको प्राप्त होंगे और उसमें दोनों चीजें हो सकते नेगेटिव जल्दी आ सकता पोस्टर भी आ सकते हैं आपके साथ

akash ne kya haal ghar jaakar karo na ki testing karni chahiye tabhi teen tutegi itni badi bhabhi operation hai yah toh possible hi nahi ho payega ki har ghar me jaakar ke har ek vyakti ke sample lekar testing karai jaaye aur uske baad hi pata chal paye ki koi vyakti karo na sankrameet hai ya nahi hai iske liye hum log ko bhi thoda jagruk hona padega sachet rehna padega saath hi saath limited kyonki agar aapke paas sansadhan hai toh phir aapko us hisab se hi soch kar aage badhana chahiye chalna chahiye wahi aapke liye zyada faydemand hoga aur doge toh baat bilkul sahi hai ki usne zyada hi aapke yahan par jo divyanshu aapko prapt honge aur usme dono cheezen ho sakte Negative jaldi aa sakta poster bhi aa sakte hain aapke saath

आकाश ने क्या हाल घर जाकर करो ना की टेस्टिंग करनी चाहिए तभी तीन टूटेगी इतनी बड़ी भाभी ऑपरेश

Romanized Version
Likes  719  Dislikes    views  4026
WhatsApp_icon
user

Dr.Nisha Joshi

Psychologist

1:45
Play

Likes  1007  Dislikes    views  12587
WhatsApp_icon
user

DR OM PRAKASH SHARMA

Principal, Education Counselor, Best Experience in Professional and Vocational Education cum Training Skills and 25 years experience of Competitive Exams. 9212159179. dsopsharma@gmail.com

0:51
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्यार कर जाता तो रोने की टेस्टिंग करनी चाहिए टीचर छूटेगी बिल्कुल सच्चे ऐसा ही करना होगा अगर जाहर घर-घर जाकर टेस्टिंग भी करनी होगी उसकी रिपोर्ट भी तैयार करनी होगी जरूरत पड़ने पर उसका आपको ट्रीटमेंट भी करना होगा उसके बाद उसको ने बड़ी चोट पहुंचने में रखना होगा और इसी तरह से बर्गर जाकर आपको राशियों की चाबी राशन सप्लाई करना होगा आपकी मर्जी होगी चटपटी चीजें देनी होगी ताकि चलता और उसका सामना ना करना पड़े

pyar kar jata toh rone ki testing karni chahiye teacher chutegi bilkul sacche aisa hi karna hoga agar jahar ghar ghar jaakar testing bhi karni hogi uski report bhi taiyar karni hogi zarurat padane par uska aapko treatment bhi karna hoga uske baad usko ne badi chot pahuchne me rakhna hoga aur isi tarah se burger jaakar aapko raashiyon ki chabi raashan supply karna hoga aapki marji hogi chatpati cheezen deni hogi taki chalta aur uska samana na karna pade

प्यार कर जाता तो रोने की टेस्टिंग करनी चाहिए टीचर छूटेगी बिल्कुल सच्चे ऐसा ही करना होगा अग

Romanized Version
Likes  471  Dislikes    views  12008
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!