सभी रोज़गार के पीछे पड़े रहते हैं हमारे को ठेकेदारी लगाने के पीछे नहीं पड़ा है इसका क्या?...


play
user

Nikhil Ranjan

Programme Coordinator - National Institute of Electronics and Information Technology (NIELIT)

0:56

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

काका प्रश्न सभी रोजगार के पीछे पड़े रहते हैं हमारे को ठेकेदारी लगाने के पीछे नहीं पड़ा है इसका क्या तो दिखे वैसे तो जो भी व्यक्ति अपने जीवन यापन के लिए कुछ ना कुछ रोजगार की तलाश करते हैं और रोजगार करते हैं जैसे की तैयारी मजदूर भी होते हैं तो गांव में अपने दिखाओ का मनरेगा योजना होती है उसके तहत रजिस्टर्ड कराकर वह अपना जीवन यापन करते हैं इसके अलावा कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जो किसी ठेकेदार के थ्रू किसी प्रोजेक्ट में लगते हैं वह हम करते हैं और उसमें लगने के उपरांत रोजगार प्राप्त होता है उससे उनके कमाई होती है तो देखते जिस भी मॉडल में आपको जाना हो जैसे भी आप इंटरेस्टेड हो क्योंकि जीवन यापन करने के लिए आपको रोजगार तो करना ही पड़ेगा जरूर कार करें जब न करें लेकिन आपको कहीं ना कहीं कुछ ना कुछ अपने को इंवॉल्वेस नहीं होगा मैं शुभकामनाएं आपके साथ हैं धन्यवाद

kaka prashna sabhi rojgar ke peeche pade rehte hain hamare ko thekedari lagane ke peeche nahi pada hai iska kya toh dikhe waise toh jo bhi vyakti apne jeevan yaapan ke liye kuch na kuch rojgar ki talash karte hain aur rojgar karte hain jaise ki taiyari majdur bhi hote hain toh gaon me apne dikhaao ka mgnrega yojana hoti hai uske tahat registered karakar vaah apna jeevan yaapan karte hain iske alava kuch log aise bhi hote hain jo kisi thekedaar ke through kisi project me lagte hain vaah hum karte hain aur usme lagne ke uprant rojgar prapt hota hai usse unke kamai hoti hai toh dekhte jis bhi model me aapko jana ho jaise bhi aap interested ho kyonki jeevan yaapan karne ke liye aapko rojgar toh karna hi padega zaroor car kare jab na kare lekin aapko kahin na kahin kuch na kuch apne ko invalwes nahi hoga main subhkamnaayain aapke saath hain dhanyavad

काका प्रश्न सभी रोजगार के पीछे पड़े रहते हैं हमारे को ठेकेदारी लगाने के पीछे नहीं पड़ा है

Romanized Version
Likes  817  Dislikes    views  6548
KooApp_icon
WhatsApp_icon
3 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!