देश का अर्थव्यवस्था कहाँ तक गिर गया है?...


play
user

Shubham Saini

Software Engineer

0:28

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देश का अर्थव्यवस्था प्रतीक रूप से और प्रत्येक विषयों में सब जगह से यह इसका अर्थ व्यवस्था किया गया है अभी से बहुत वक्त लग सकता है और साथ ही साथ अब इस महामारी से हम ही नहीं सारे देश लड़ रहे हैं तो फिर भी अगर लोगों का जान हिफाजत है लोगों की जान की सुरक्षा हो रही है उस से बढ़कर कुछ नहीं है आर्थिक स्थिति तो घटती रहती है बढ़ती रहती हो सही हो जाएगी

desh ka arthavyavastha prateek roop se aur pratyek vishyon me sab jagah se yah iska arth vyavastha kiya gaya hai abhi se bahut waqt lag sakta hai aur saath hi saath ab is mahamari se hum hi nahi saare desh lad rahe hain toh phir bhi agar logo ka jaan hifajat hai logo ki jaan ki suraksha ho rahi hai us se badhkar kuch nahi hai aarthik sthiti toh ghatati rehti hai badhti rehti ho sahi ho jayegi

देश का अर्थव्यवस्था प्रतीक रूप से और प्रत्येक विषयों में सब जगह से यह इसका अर्थ व्यवस्था क

Romanized Version
Likes  317  Dislikes    views  3583
KooApp_icon
WhatsApp_icon
1 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!