किसी भी काम पे फोकस करने के लिए क्या करना चाहिए?...


user

Trainer Yogi Yogendra

Motivational Speaker || Career Coach || Business Coach || Marketing & Management Expert's

1:17
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो प्रेम दृष्टि मिकी माउस आप जो है किसी और जो है

hello prem drishti mike mouse aap jo hai kisi aur jo hai

हेलो प्रेम दृष्टि मिकी माउस आप जो है किसी और जो है

Romanized Version
Likes  531  Dislikes    views  6628
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Yogi Prashant Nath

Business Consultant / M D

8:56
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार सर्वप्रथम सराहनीय है आपके द्वारा पूछा गया यह प्रश्न जो एकाग्रता से संबंधित है उसके उपरांत में अपना परिचय कराना चाहूंगा आपसे मेरा नाम है योगी प्रशांत नाथ चलिए बढ़ते हैं आपके प्रश्न की तरफ आप ने प्रश्न किया है किसी भी काम पर फोकस करने के लिए क्या करना चाहिए जीवन में कोई भी काम बिना एकाग्रता से किया ही नहीं जा सकता अगर आप विनायका करो हुए किसी काम को करते हैं तो वह काम बिल्कुल लापरवाही जैसा होता है कि कहते हैं कि ना आप इस काम में लापरवाही कर रहे हैं आप इस काम में लापरवाही कैसे कर सकते हैं आपकी लापरवाही की वजह से वह काम ठीक नहीं हुआ खराब हो गया क्यों क्योंकि ध्यान था नहीं आधा अधूरा ध्यान था जिस प्रकार से आधा अधूरा ज्ञान आधा अधूरा ध्यान ज्ञान और ध्यान दोनों ही एक समान काम करते हैं एक स्थिति पर तो बहुत महत्व रखता है अपने ध्यान को एकाग्र करना किसी चीज को और हमारा ध्यान एक जगत तब लग सकता है जब हम किसी काम को करने में हमारा इंटरेस्ट हो हमें उस काम को करने में खुशी मिले अगर हमारा किसी काम को करने में रुचि ना हो तो हम उस काम को बहुत अच्छे से बखूबी कर नहीं सकते और हमारा उसमें ध्यान हमारा मन नहीं लगेगा तो मन को लगाना जिसे कहते ध्यान लगाना या ध्यान करना अगर हमारा ध्यान हमारी एकाग्रता एक जगह होती है तो हम हर चीजों का ध्यान रखते हैं जो काम को सफल करने में जिन चीजों की आवश्यकता होती जिन चीजों का मैं तोता उन चीजों का हम ध्यान रखते खास तौर पर मान लीजिए आप कोई खाना बना रहे हैं तो आप समझ सकते हैं कि आपको किन किन चीजों का ध्यान रखना है नमक से लेकर हर एक मसाले से लेकर हर एक के सब्जी से लेकर हर हर एक के आगे सकते हैं तापमान तक 21 चीज को कितने तापमान पर पकाना है और किस चीज की कितनी मात्रा क्योंकि आपको उन चीजों का हर एक चीजों का ध्यान है कि क्या-क्या चीजें इस काम को सफल बना सकते हैं और आपका आपको सफलता अच्छी लगती है हर किसी को सफलता अच्छी लगती है ऐसा कोई व्यक्ति नहीं है जो जीवन में सफल नहीं होना चाहता हर एक व्यक्ति जीवन में सफल होना चाहता है अपने जीवन को सफल बनाना चाहता लेकिन सफलता हासिल करने के लिए किस तरह से अपने जीवन को सफल बनाएं यह महत्व रखता है ध्यान के लिए हमारी एकाग्रता को बनाए रखने के लिए सबसे पहले जरूरी यह है कि हमें यह जान लेना चाहिए वास्तव में हमें किस चीज में किस चीज का किस काम को करने में खुशी मिलती है किस काम को करना हमें अच्छा लगता है और उस चीज को किस तरह से हम कर सकते हैं बेहतर और क्या चीज हम हासिल करना चाहते हैं जीवन में एक लिस्ट बना सकते हैं 10 और कलम कलम में हो या आपके पास कोई एक डायरी हो उस पर लिखे कि पहले वह चीजें लिखे जिन चीजों से आपको खुशी मिलती है उसके बाद आपको जीवन में करना क्या है किस किस तरह की सफलता हासिल करनी है और सफलता को हासिल करने के लिए किन-किन चीजों की आवश्यकता होगी या किन-किन चीजों को का ध्यान रखना होगा किन चीजों का फोकस करना होगा वह चीजों का और अगर आपकी तो सफलता है आप जिस मुकाम पर जहां जाना चाह रहे तो आपको जवाब मिल जाएगा कि उस मुकाम को हासिल करने के लिए आपको स्टडी यानी पढ़ाई को महत्व देना होगा और शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य भी बहुत जरूरी है इसके लिए आपको बयान भी करना होगा व्यायाम की भी आवश्यकता होगी और सही से हर चीज को समय देने के लिए आपको 1 दिन चले बनाना होगा सुबह जल्दी उठने का और भोजन करने का नियमित रूप से तो आपको आपको सफलता क्या चीज की सफलता चाहिए क्या चीज हासिल करना है जीवन में तो उसके बाद यह चीजें आपकी बहन तो रखती है उस चीज को आप कोई तक पहुंचाने के लिए आपके पास लाने के लिए आपको हासिल करने के लिए इन चीजों को महत्व देना होगा और धीरे-धीरे आप जब समझेंगे इन चीजों का महत्व तो अपने आप ही आपका ध्यान रखता जाएगा आपकी एकाग्रता बनती जाएगी इन चीजों को बाप महत्व देंगे इन चीजों का सम्मान करेंगे कि मेरी पढ़ाई कितनी जरूरी है मेरे सफलता के पीछे मेरे भविष्य के लिए जो मैंने भविष्य देखा है सुनहरे भविष्य के लिए इस चीज का महत्व आप समझेंगे और जवाब महतो समझने लगेंगे किसी चीज का तो आप उसको उस पर पूरा ध्यान दे पाएंगे क्योंकि हम उन चीजों को अनदेखा कर देते जी चीजों को हम समझते नहीं हम शुरुआत उल्टी करते हैं हम यहां से सोचते हैं कि हमें यह कर रहे हैं क्यों कर रहे हैं क्या करें बस से देखा देखी हर कोई चाहता है कोई प्रोफेसर करता है अगर आप अपने बच्चों को भी समझाना चाहते हैं किसी चीज को के बारे में महत्व के बारे में दर्शाना चाहते तो पहले जानने की कोशिश कीजिए वास्तव में व्यक्ति क्या चाहता है आपका बच्चा है आपको वही मनुष्य क्या चाहता है उसे कहिए कि अगर आप बोल सिंगर बनना चाहता डांसर बनना चाहता एक्टर बनना चाहता है या इंजीनियर बनना चाहता आईएस ऑफिसर बनना चाहता है फिर उसको बताइए कि इन चीजों को हासिल करने के लिए कुछ भी मुकाम को हासिल करने के लिए किन-किन चीजों पर ध्यान लगाना जरूरी है किन-किन चीजों का ध्यान देना चाहिए और फिर उन चीजों का महत्व बताइए कि अगर हम पढ़ाई नहीं करेंगे तो आप इन चीजों को कभी हासिल नहीं कर पाएंगे अपनी सफलता को कभी हासिल नहीं कर पाएंगे स्टेप बाय स्टेप यह चीजें महत्व रखते जब उनको उन चीजों का महत्व का पता चलेगा फोन की क्या अहमियत है हमारे जीवन में तो वाकई में उनका ध्यान एकाग्रता उस चीज पर बनी रहेगी उनका उनको चीज का ध्यान रहेगा कि यह चीजें कभी हमारी जीवन में छूट देनी चाहिए आज मैंने यह किया कि नहीं किया आज मैंने एक घंटा पढ़ाई की कि नहीं गए और ए मेरे पढ़ाई के समय निकल गया या मैंने बयान नहीं किया आज मैं लेट उठा तो उन चीजों को उनका उनको उनको समझे समझ रहे काम की महत्व महत्व को समझेंगे उन चीजों से घबराए नहीं डरेंगे नहीं उससे प्यार करेंगे अपने काम को अपनी पढ़ाई को क्योंकि उन्हें पता है उनको लगन रहेगी उनको पैसे में पता है कि इन चीजों से ही में अपने ख्वाब को अपनी जरूरतों को पूरा कर सकता हूं तो जो जरूरत तो कहता नहीं है जरूरत के समय तो गधे को भी बाप बनाना पड़ता है तो जब हमें कुछ भी चीज की जरूरत है माफी चाहूंगा यह थोड़ा एक मजाक किया तौर पर मैंने एक चुटकुला के तौर पर कहा लेकिन इसकी बहुत ही महत्व है दर्शाता है यह भी तो उसी तरह से जब आपको पता चलेगा कि वह तो मैं आपका लक्ष्य क्या है उसको किस तरह से प्राप्त करना है तो आप हर एक चीज पर आपका ध्यान आपका फोकस अपने आप ही बनता है और आप भी चाह कर भी उन चीजों से ध्यान नहीं हटा पाएंगे और आपको घबराहट भी नहीं होगी क्या होता कई बार हम डरते हैं कि आरा का मैंने पढ़ाई नहीं करी अरे आकर मेरा यह काम खराब हो गया क्योंकि हमें उस चीज से इतना लगाव नहीं होता उस चीज का इतना महत्व नहीं पता तो तो हमें जिससे प्यार या लगाव नहीं होता हमें उससे डर लगता है लेकिन कभी आपने सोचा है क्या आपको जिस चीज से प्यार होता जिस चीज से लगाव होता है उसी से आपको कभी डर लगता है नहीं ना क्योंकि प्यार का मतलब तो होल्डर होता ही नहीं तो इसलिए और प्यार का मतलब यह नहीं होता कि तेरे को वैसे ही हर तरफ से होता प्यार हर चीज में होता है अपने फैशन में अपने स्टडी के साथ अपनी पढ़ाई के साथ हर चीज के अपने नाम के साथ अपनी फिटनेस के साथ स्वास्थ्य के साथ हर चीज के साथ होता है तो इन चीजों का महत्व समझना बहुत जरूरी है और मैं यही कहूंगा कि आपको और इन चीजों का महत्व समझने में अगर यह पोस्ट हेल्पफुल है आपके लिए मददगार है तो आप इसे जरूर शेयर करें सभी के साथ और ताकि और लोग और लोगों को भी इन चीजों के लाभ मिल सके और आप आप जुड़ सकते हैं हमसे हमारे वोकल प्रोफाइल पेज को फॉलो करके फेसबुक के प्रोफाइल पेज को फॉलो करके योगी प्रशांत नाथ करके बंद करके आप फ्रेंड रिक्वेस्ट भेज सकते हैं कमेंट में आप अपने संपर्क के के माध्यम दे सकते हैं और बता सकते हैं इसको कैसा लगा आपको यह पोस्ट मैं आपका आभार व्यक्त करता हूं कि आपने अपना मूल्यवान समय दिया इस पोस्ट को सुनने के लिए धन्यवाद आपका

namaskar sarvapratham sarahniya hai aapke dwara poocha gaya yah prashna jo ekagrata se sambandhit hai uske uprant me apna parichay krana chahunga aapse mera naam hai yogi prashant nath chaliye badhte hain aapke prashna ki taraf aap ne prashna kiya hai kisi bhi kaam par focus karne ke liye kya karna chahiye jeevan me koi bhi kaam bina ekagrata se kiya hi nahi ja sakta agar aap vinayaka karo hue kisi kaam ko karte hain toh vaah kaam bilkul laparwahi jaisa hota hai ki kehte hain ki na aap is kaam me laparwahi kar rahe hain aap is kaam me laparwahi kaise kar sakte hain aapki laparwahi ki wajah se vaah kaam theek nahi hua kharab ho gaya kyon kyonki dhyan tha nahi aadha adhura dhyan tha jis prakar se aadha adhura gyaan aadha adhura dhyan gyaan aur dhyan dono hi ek saman kaam karte hain ek sthiti par toh bahut mahatva rakhta hai apne dhyan ko ekagra karna kisi cheez ko aur hamara dhyan ek jagat tab lag sakta hai jab hum kisi kaam ko karne me hamara interest ho hamein us kaam ko karne me khushi mile agar hamara kisi kaam ko karne me ruchi na ho toh hum us kaam ko bahut acche se bakhubi kar nahi sakte aur hamara usme dhyan hamara man nahi lagega toh man ko lagana jise kehte dhyan lagana ya dhyan karna agar hamara dhyan hamari ekagrata ek jagah hoti hai toh hum har chijon ka dhyan rakhte hain jo kaam ko safal karne me jin chijon ki avashyakta hoti jin chijon ka main tota un chijon ka hum dhyan rakhte khas taur par maan lijiye aap koi khana bana rahe hain toh aap samajh sakte hain ki aapko kin kin chijon ka dhyan rakhna hai namak se lekar har ek masale se lekar har ek ke sabzi se lekar har har ek ke aage sakte hain taapman tak 21 cheez ko kitne taapman par pakana hai aur kis cheez ki kitni matra kyonki aapko un chijon ka har ek chijon ka dhyan hai ki kya kya cheezen is kaam ko safal bana sakte hain aur aapka aapko safalta achi lagti hai har kisi ko safalta achi lagti hai aisa koi vyakti nahi hai jo jeevan me safal nahi hona chahta har ek vyakti jeevan me safal hona chahta hai apne jeevan ko safal banana chahta lekin safalta hasil karne ke liye kis tarah se apne jeevan ko safal banaye yah mahatva rakhta hai dhyan ke liye hamari ekagrata ko banaye rakhne ke liye sabse pehle zaroori yah hai ki hamein yah jaan lena chahiye vaastav me hamein kis cheez me kis cheez ka kis kaam ko karne me khushi milti hai kis kaam ko karna hamein accha lagta hai aur us cheez ko kis tarah se hum kar sakte hain behtar aur kya cheez hum hasil karna chahte hain jeevan me ek list bana sakte hain 10 aur kalam kalam me ho ya aapke paas koi ek diary ho us par likhe ki pehle vaah cheezen likhe jin chijon se aapko khushi milti hai uske baad aapko jeevan me karna kya hai kis kis tarah ki safalta hasil karni hai aur safalta ko hasil karne ke liye kin kin chijon ki avashyakta hogi ya kin kin chijon ko ka dhyan rakhna hoga kin chijon ka focus karna hoga vaah chijon ka aur agar aapki toh safalta hai aap jis mukam par jaha jana chah rahe toh aapko jawab mil jaega ki us mukam ko hasil karne ke liye aapko study yani padhai ko mahatva dena hoga aur sharirik aur mansik swasthya bhi bahut zaroori hai iske liye aapko bayan bhi karna hoga vyayam ki bhi avashyakta hogi aur sahi se har cheez ko samay dene ke liye aapko 1 din chale banana hoga subah jaldi uthane ka aur bhojan karne ka niyamit roop se toh aapko aapko safalta kya cheez ki safalta chahiye kya cheez hasil karna hai jeevan me toh uske baad yah cheezen aapki behen toh rakhti hai us cheez ko aap koi tak pahunchane ke liye aapke paas lane ke liye aapko hasil karne ke liye in chijon ko mahatva dena hoga aur dhire dhire aap jab samjhenge in chijon ka mahatva toh apne aap hi aapka dhyan rakhta jaega aapki ekagrata banti jayegi in chijon ko baap mahatva denge in chijon ka sammaan karenge ki meri padhai kitni zaroori hai mere safalta ke peeche mere bhavishya ke liye jo maine bhavishya dekha hai sunahre bhavishya ke liye is cheez ka mahatva aap samjhenge aur jawab mahto samjhne lagenge kisi cheez ka toh aap usko us par pura dhyan de payenge kyonki hum un chijon ko andekha kar dete ji chijon ko hum samajhte nahi hum shuruat ulti karte hain hum yahan se sochte hain ki hamein yah kar rahe hain kyon kar rahe hain kya kare bus se dekha dekhi har koi chahta hai koi professor karta hai agar aap apne baccho ko bhi samajhana chahte hain kisi cheez ko ke bare me mahatva ke bare me darshana chahte toh pehle jaanne ki koshish kijiye vaastav me vyakti kya chahta hai aapka baccha hai aapko wahi manushya kya chahta hai use kahiye ki agar aap bol singer banna chahta dancer banna chahta actor banna chahta hai ya engineer banna chahta ias officer banna chahta hai phir usko bataiye ki in chijon ko hasil karne ke liye kuch bhi mukam ko hasil karne ke liye kin kin chijon par dhyan lagana zaroori hai kin kin chijon ka dhyan dena chahiye aur phir un chijon ka mahatva bataiye ki agar hum padhai nahi karenge toh aap in chijon ko kabhi hasil nahi kar payenge apni safalta ko kabhi hasil nahi kar payenge step bye step yah cheezen mahatva rakhte jab unko un chijon ka mahatva ka pata chalega phone ki kya ahamiyat hai hamare jeevan me toh vaakai me unka dhyan ekagrata us cheez par bani rahegi unka unko cheez ka dhyan rahega ki yah cheezen kabhi hamari jeevan me chhut deni chahiye aaj maine yah kiya ki nahi kiya aaj maine ek ghanta padhai ki ki nahi gaye aur a mere padhai ke samay nikal gaya ya maine bayan nahi kiya aaj main late utha toh un chijon ko unka unko unko samjhe samajh rahe kaam ki mahatva mahatva ko samjhenge un chijon se ghabraye nahi darenge nahi usse pyar karenge apne kaam ko apni padhai ko kyonki unhe pata hai unko lagan rahegi unko paise me pata hai ki in chijon se hi me apne khwaab ko apni jaruraton ko pura kar sakta hoon toh jo zarurat toh kahata nahi hai zarurat ke samay toh gadhe ko bhi baap banana padta hai toh jab hamein kuch bhi cheez ki zarurat hai maafi chahunga yah thoda ek mazak kiya taur par maine ek chutkula ke taur par kaha lekin iski bahut hi mahatva hai darshata hai yah bhi toh usi tarah se jab aapko pata chalega ki vaah toh main aapka lakshya kya hai usko kis tarah se prapt karna hai toh aap har ek cheez par aapka dhyan aapka focus apne aap hi banta hai aur aap bhi chah kar bhi un chijon se dhyan nahi hata payenge aur aapko ghabarahat bhi nahi hogi kya hota kai baar hum darte hain ki aara ka maine padhai nahi kari are aakar mera yah kaam kharab ho gaya kyonki hamein us cheez se itna lagav nahi hota us cheez ka itna mahatva nahi pata toh toh hamein jisse pyar ya lagav nahi hota hamein usse dar lagta hai lekin kabhi aapne socha hai kya aapko jis cheez se pyar hota jis cheez se lagav hota hai usi se aapko kabhi dar lagta hai nahi na kyonki pyar ka matlab toh holder hota hi nahi toh isliye aur pyar ka matlab yah nahi hota ki tere ko waise hi har taraf se hota pyar har cheez me hota hai apne fashion me apne study ke saath apni padhai ke saath har cheez ke apne naam ke saath apni fitness ke saath swasthya ke saath har cheez ke saath hota hai toh in chijon ka mahatva samajhna bahut zaroori hai aur main yahi kahunga ki aapko aur in chijon ka mahatva samjhne me agar yah post helpful hai aapke liye madadgaar hai toh aap ise zaroor share kare sabhi ke saath aur taki aur log aur logo ko bhi in chijon ke labh mil sake aur aap aap jud sakte hain humse hamare vocal profile page ko follow karke facebook ke profile page ko follow karke yogi prashant nath karke band karke aap friend request bhej sakte hain comment me aap apne sampark ke ke madhyam de sakte hain aur bata sakte hain isko kaisa laga aapko yah post main aapka abhar vyakt karta hoon ki aapne apna mulyavan samay diya is post ko sunne ke liye dhanyavad aapka

नमस्कार सर्वप्रथम सराहनीय है आपके द्वारा पूछा गया यह प्रश्न जो एकाग्रता से संबंधित है उसके

Romanized Version
Likes  148  Dislikes    views  1200
WhatsApp_icon
user

RAVINDRA PRASAD VERMA

Student And Motivational Speaker

1:39
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार आज का सवाल किसी भी काम पर फोकस करने के लिए क्या करना चाहिए तो इसके लिए मैं बताना चाहूंगा अगर आप कोई काम करते हैं और उस पर आपका फोकस नहीं बन पाता तो उसका सीधा कारण यही हो सकता है कि आप उसे या तो बहुत जल्दी करना चाहते हैं या तो आप उसे अपने किसी रिलेटिव या किसी के कहने से कर रहे हैं अपना अपनी इच्छा से नहीं कर रहे हैं क्योंकि जितना आपका इच्छा होगा जो आपको करने का मन करेगा उसने आपका मन लगेगा और जो दूसरे के कहने पर आप कर रहे हैं उसने आपका मन नहीं लगेगा क्योंकि किसी काम पर फोकस करना चाहते हैं तो आप उससे अपना इंटरेस्ट बन उस काम पर धीरे धीरे धीरे धीरे करके फोकस करें ना कि एक बार पूरी तरह से अपने डेली लाइफ में उसे रूटिंग बनाएं पहले थोड़ा सा काम करें फिर उसके बाद थोड़ा काम करें तो इस तरह से आप किसी भी काम को अपने इंटरेस्ट के अनुसार कर सकते हैं ताकि आपका फोकस प्रॉपर्ली बना रहे हैं मेरा प्रोफाइल में मेरा यूट्यूब का लिंक दिया हुआ है आप चेक कर सकते हैं सब्सक्राइब कर सकते हैं थैंक यू

namaskar aaj ka sawaal kisi bhi kaam par focus karne ke liye kya karna chahiye toh iske liye main batana chahunga agar aap koi kaam karte hain aur us par aapka focus nahi ban pata toh uska seedha karan yahi ho sakta hai ki aap use ya toh bahut jaldi karna chahte hain ya toh aap use apne kisi relative ya kisi ke kehne se kar rahe hain apna apni iccha se nahi kar rahe hain kyonki jitna aapka iccha hoga jo aapko karne ka man karega usne aapka man lagega aur jo dusre ke kehne par aap kar rahe hain usne aapka man nahi lagega kyonki kisi kaam par focus karna chahte hain toh aap usse apna interest ban us kaam par dhire dhire dhire dhire karke focus kare na ki ek baar puri tarah se apne daily life me use routing banaye pehle thoda sa kaam kare phir uske baad thoda kaam kare toh is tarah se aap kisi bhi kaam ko apne interest ke anusaar kar sakte hain taki aapka focus properly bana rahe hain mera profile me mera youtube ka link diya hua hai aap check kar sakte hain subscribe kar sakte hain thank you

नमस्कार आज का सवाल किसी भी काम पर फोकस करने के लिए क्या करना चाहिए तो इसके लिए मैं बताना च

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  58
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!