छिपकली के कौन कौन से गुण पाए जाते है?...


play
user

Anil Ramola

Yoga Instructor | Engineer

0:17

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

छिपकली में जो होता है पुनरुदभवन का गुण पाया जाता है अर्थात कि अगर उसके छिलके किसी मां को काट दिया जाएगा तो कुछ समय में वह बाहर हो जाएगा

chipkali me jo hota hai punrudabhavan ka gun paya jata hai arthat ki agar uske chilake kisi maa ko kaat diya jaega toh kuch samay me vaah bahar ho jaega

छिपकली में जो होता है पुनरुदभवन का गुण पाया जाता है अर्थात कि अगर उसके छिलके किसी मां को क

Romanized Version
Likes  396  Dislikes    views  2900
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Chandan Singh

want to become IPS Officer

2:57
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो फ्रेंड्स आप का प्रश्न है छिपकली के कौन-कौन से गुण पाए जाते हैं छिपकली और सर्प दोनों जो है इसको माता गण के ही सदस्य होते हैं छिपकली और सर्प दोनों ही एक ही पूर्वज के वंशज होते हैं छिपकली का शरीर जो है छोटे-छोटे फल सबको से धागे होते हैं इसके शरीर चार भागों में बटा होता है सिर गर्दन धारा और कुछ होता है छिपकली के झाड़ में चार पैर होते हैं जिनमें नियुक्त अंगुलियां पाई जाती है जिनके द्वारा वह दीवारों पर चढ़ता है और इधर से उधर चलता है धार एवं पूछ कर जोड़ के अधर तल पर ही खुलेगा छिद्र होता है छिपकली में पुनरुदभवन का गुण पाया जाता है जिसको हम इंग्लिश में बोलते हैं रीजेनरेशन यह उनके द्वारा ही छिपकली में बटा हुआ अंग जो होता है पूछो दोबारा से ऊब जाता है अर्थात दोबारा से निर्मित हो जाता है ऑक्टोपस तारा मछली भी है उन्हें भी रिजर्वेशन होता है छिपकली का ज्योतिष शास्त्र के अनुसार गिरना अत्यंत कारी शुभ कार्य और कभी-कभी अशुभ कारी ही फलदायक होता है जैसे सिर पर छिपकली का गिरना अत्यंत शुभ होता है जिस व्यक्ति के सिर पर छिपकली गिर जाता है वह व्यक्ति का पद प्रतिष्ठा में वृद्घि होती है वह जो भी कार्य करता है अगर विद्यार्थी है तो वह अगर कार्य करता है विद्या अर्जित करने का तो जोइया पद के लिए वह एग्जाम देता है तो उसमें उसकी सफलता जरूर हासिल होती है दूसरा है फायदा उसका होंठ पर अगर छिपकली गिरे नीचे वाला होंठ पर अगर छिपकली गिरता है तो वह व्यक्ति के धनेश्वर में विधि होती है और ऊपर के हो पर अगर गिरे तो धन की हानि होती है छिपकली अगर दाहिने कान पर गिरे तो देखती आरोग्य अर्थात उसकी आयु में वृद्धि होती है छिपकली अगर पेट पर गिरे तो आभूषण में वृद्धि का संकेत देता है अर्थात गाने का वृद्धि होने का संकेत देता है छिपकली अगर जान पर गिर जाए तो यह भी शुभ फल देती है अर्थात अचानक धन लाभ की स्थिति बन सकती है आजकल घर में छिपकली रहने के कारण ही कीड़े मकोड़े यह सब ज्यादा नहीं पनपते हैं क्योंकि छिपकली का जो आहार होती है वही सब होती है मक्खी कीड़े मकोड़े को वो खाता है इसलिए उनकी भी संख्या कम होती है अत इनके उठेंगे का

hello friends aap ka prashna hai chipkali ke kaun kaun se gun paye jaate hain chipkali aur sarp dono jo hai isko mata gan ke hi sadasya hote hain chipkali aur sarp dono hi ek hi purvaj ke vanshaj hote hain chipkali ka sharir jo hai chote chote fal sabko se dhaage hote hain iske sharir char bhaagon me bataa hota hai sir gardan dhara aur kuch hota hai chipkali ke jhad me char pair hote hain jinmein niyukt anguliyan payi jaati hai jinke dwara vaah deewaaron par chadhta hai aur idhar se udhar chalta hai dhar evam puch kar jod ke aadhar tal par hi khulega chhidra hota hai chipkali me punrudabhavan ka gun paya jata hai jisko hum english me bolte hain rijenreshan yah unke dwara hi chipkali me bataa hua ang jo hota hai pucho dobara se ub jata hai arthat dobara se nirmit ho jata hai octopus tara machli bhi hai unhe bhi reservation hota hai chipkali ka jyotish shastra ke anusaar girna atyant kaari shubha karya aur kabhi kabhi ashubh kaari hi faldayak hota hai jaise sir par chipkali ka girna atyant shubha hota hai jis vyakti ke sir par chipkali gir jata hai vaah vyakti ka pad prathishtha me vridghi hoti hai vaah jo bhi karya karta hai agar vidyarthi hai toh vaah agar karya karta hai vidya arjit karne ka toh joiya pad ke liye vaah exam deta hai toh usme uski safalta zaroor hasil hoti hai doosra hai fayda uska hooth par agar chipkali gire niche vala hooth par agar chipkali girta hai toh vaah vyakti ke dhaneshwar me vidhi hoti hai aur upar ke ho par agar gire toh dhan ki hani hoti hai chipkali agar dahine kaan par gire toh dekhti aarogya arthat uski aayu me vriddhi hoti hai chipkali agar pet par gire toh aabhusan me vriddhi ka sanket deta hai arthat gaane ka vriddhi hone ka sanket deta hai chipkali agar jaan par gir jaaye toh yah bhi shubha fal deti hai arthat achanak dhan labh ki sthiti ban sakti hai aajkal ghar me chipkali rehne ke karan hi keedein makode yah sab zyada nahi panpate hain kyonki chipkali ka jo aahaar hoti hai wahi sab hoti hai makkhi keedein makode ko vo khaata hai isliye unki bhi sankhya kam hoti hai at inke uthenge ka

हेलो फ्रेंड्स आप का प्रश्न है छिपकली के कौन-कौन से गुण पाए जाते हैं छिपकली और सर्प दोनों ज

Romanized Version
Likes  16  Dislikes    views  133
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!