वर्षा ऋतु में क्या-क्या होता है?...


play
user

Kailash Babu

Yoga Trainer

2:38

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

वर्षा होने के कई फायदे हैं और कई नुकसान भी हैं अगर हम पहले नुकसान की बात करें नुकसान कम है नुकसान में क्या है कि सूरज की रोशनी प्रॉपर प्रति अभी तक नहीं पहुंच पाती है बादलों की वजह से किरणें नीचे तक नहीं आ पाते हैं तो उससे आपको थोड़ा नुकसान होता है इसे आप कोई पेट के झरोखे कब्जियत के वह आपको उत्पन्न होने लगते हैं वैसे कब जाओगे या पेट में डायरिया हो गया टाइप करो और दूसरा होता है कि जैसे बरसात शुरू हुई तो आज पास में जो गंदगी और कचरा पड़ा हुआ है उसमें उसने लगता है क्योंकि उससे जो रोशनी है सूरज की किरणों से वह सूख जाता है लेकिन रोक नहीं पाता और बारिश पड़ने से उतरने और लगता तो उसमें क्या होता गंदी उत्पन्न होती है उसमें जीवाणुओं और कीटाणुओं उत्पन्न होने लगते हैं जो हमारे शरीर तक पहुंचते हैं तो उसे बचके बचके रहना चाहिए मैं आसपास में कूड़ा या गंदगी कट्टी नहीं होने देना चाहिए और तीसरा है कि आप तो जयपुर प्रसाद के टाइम में में कपड़े आपकी सीलन टाइट हो जाते हैं सुख नहीं पाते जो आपने कपड़े धोए डाल दे दो अपनी निकली तीन-चार दिन तक बरसात घंटी नहीं हो रही है तो आपके कपड़े में सूट नहीं पाते जिससे आपको थोड़ी शारीरिक रोगों से खुजली हो गई है थोड़ा पहनने में अनकंफर्ट लगते हैं कपड़े आजकल तो सुविधा है प्रेस करके सुखा लेते हैं फिर भी वह सीलन तो रहती है अगर बरसात के फायदों की बात करें तो फायदे बहुत हैं जैसे बारिश शुरु हो गई तो उसके बाद वाटर लेवल बहुत तेजी से बढ़ने लगता है जमीन का और नदियों में पानी आने लगता है एक समस्या और होती है कि जो नदियों के किनारे जो लोग रहते थे पहले यार अभी कुछ लोग रहते हैं नदियों पर जो निर्भर है नदियों का पानी गंदा हो जाता है बरसात के टाइम पर भी नदियां सीधी ग्रिल्से से निकलती इंग्लिश का पान एकदम शब्द होता है लेकिन जैसी बरसात शुरु होती है तो पहाड़ों से रेगिस्तान उसे याद जो नदी के किनारे के चित्र वहां का पानी नदी में जाने लगता है और वह दूषित हो जाता गंदा हो जाता है उसको हमेशा नदी में के आसपास जो लोग रहते हैं उनको हमेशा वह पानी गर्म करके छानकर पीना चाहिए बरसात के टाइम में आप बरसात का पानी स्टोर करके भी उसका इस्तेमाल कर सकते हैं बरसात का पानी सबसे शुद्ध पानी होता है उसको आप पीने के लिए पूरे साल भी यूज कर सकते हैं कुछ लोग करते भी हैं अगला है वर्षा होने से आपके बात आपने मुझे पोलूशन का आइक्यू है बहुत कम हो जाता है बरसात के टाइम पर आपने देखा होगा आपका बातों में बिल्कुल शुद्ध होता है और दूर-दूर तक आप देख पाते वायु पोलूशन बहुत कम हो जाता बहुत ज्यादा था पूरे साल इंतजार के लिए लेकिन बारिश का टाइम में सबसे कम पोलूशन होता है इसका आपको फायदा बहुत होता है

varsha hone ke kai fayde hain aur kai nuksan bhi hain agar hum pehle nuksan ki baat kare nuksan kam hai nuksan me kya hai ki suraj ki roshni proper prati abhi tak nahi pohch pati hai badalon ki wajah se kirne niche tak nahi aa paate hain toh usse aapko thoda nuksan hota hai ise aap koi pet ke jharokhe kabziyat ke vaah aapko utpann hone lagte hain waise kab jaoge ya pet me diarrehoea ho gaya type karo aur doosra hota hai ki jaise barsat shuru hui toh aaj paas me jo gandagi aur kachra pada hua hai usme usne lagta hai kyonki usse jo roshni hai suraj ki kirano se vaah sukh jata hai lekin rok nahi pata aur barish padane se utarane aur lagta toh usme kya hota gandi utpann hoti hai usme jeevanuon aur kitanuon utpann hone lagte hain jo hamare sharir tak pahunchate hain toh use bachake bachake rehna chahiye main aaspass me kooda ya gandagi kethi nahi hone dena chahiye aur teesra hai ki aap toh jaipur prasad ke time me me kapde aapki silan tight ho jaate hain sukh nahi paate jo aapne kapde dhoe daal de do apni nikli teen char din tak barsat ghanti nahi ho rahi hai toh aapke kapde me suit nahi paate jisse aapko thodi sharirik rogo se khujli ho gayi hai thoda pahanne me anakamfart lagte hain kapde aajkal toh suvidha hai press karke sukha lete hain phir bhi vaah silan toh rehti hai agar barsat ke faayadon ki baat kare toh fayde bahut hain jaise barish shuru ho gayi toh uske baad water level bahut teji se badhne lagta hai jameen ka aur nadiyon me paani aane lagta hai ek samasya aur hoti hai ki jo nadiyon ke kinare jo log rehte the pehle yaar abhi kuch log rehte hain nadiyon par jo nirbhar hai nadiyon ka paani ganda ho jata hai barsat ke time par bhi nadiyan seedhi grilse se nikalti english ka pan ekdam shabd hota hai lekin jaisi barsat shuru hoti hai toh pahadon se registan use yaad jo nadi ke kinare ke chitra wahan ka paani nadi me jaane lagta hai aur vaah dushit ho jata ganda ho jata hai usko hamesha nadi me ke aaspass jo log rehte hain unko hamesha vaah paani garam karke chanakar peena chahiye barsat ke time me aap barsat ka paani store karke bhi uska istemal kar sakte hain barsat ka paani sabse shudh paani hota hai usko aap peene ke liye poore saal bhi use kar sakte hain kuch log karte bhi hain agla hai varsha hone se aapke baat aapne mujhe pollution ka IQ hai bahut kam ho jata hai barsat ke time par aapne dekha hoga aapka baaton me bilkul shudh hota hai aur dur dur tak aap dekh paate vayu pollution bahut kam ho jata bahut zyada tha poore saal intejar ke liye lekin barish ka time me sabse kam pollution hota hai iska aapko fayda bahut hota hai

वर्षा होने के कई फायदे हैं और कई नुकसान भी हैं अगर हम पहले नुकसान की बात करें नुकसान कम है

Romanized Version
Likes  40  Dislikes    views  556
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
0:34
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दोस्तों आपका पूछा गया प्रश्न है वर्षा ऋतु में क्या-क्या होता है जी तो इसका उत्तर देकर वर्षा ऋतु में जो होता है व्हाट्सएप में बारिश होती है और ऋतु में पूछने वर्षा ऋतु नहीं तो उस समय जो है पतझड़ का मौसम रहता है बरसाई होती है तो तेरे पतझड़ का मौसम रहता है ऋतु में और उस समय फिर नए नए पौधे में पत्ते उगते हैं तो दोनों में यही अंतर है थोड़ा डिफरेंस वरना धोनी दोनों तरफ एक ही है यही वर्षा ऋतु में अंतर है

doston aapka poocha gaya prashna hai varsha ritu me kya kya hota hai ji toh iska uttar dekar varsha ritu me jo hota hai whatsapp me barish hoti hai aur ritu me poochne varsha ritu nahi toh us samay jo hai patjhad ka mausam rehta hai barsaai hoti hai toh tere patjhad ka mausam rehta hai ritu me aur us samay phir naye naye paudhe me patte ugate hain toh dono me yahi antar hai thoda difference varna dhoni dono taraf ek hi hai yahi varsha ritu me antar hai

दोस्तों आपका पूछा गया प्रश्न है वर्षा ऋतु में क्या-क्या होता है जी तो इसका उत्तर देकर वर्ष

Romanized Version
Likes  45  Dislikes    views  993
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!