अगर कोई व्यक्ति बार-बार असफल हो रहा है तो उसे क्या करना चाहिए?...


user

Meena

Advocate

9:55
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर कोई व्यक्ति बार-बार असफल हो रहा है तो उसे क्या करना चाहिए उससे अपनी गलतियों को झुकने असफलता करते वक्त की थी उनको गहराई से देखना चाहिए कि मैं जब बार-बार काम कर रहा हूं तो ऐसा क्या काम है जो मैं एक जैसा ही कर रहा हूं उसको करना बंद करना चाहिए और आप बार-बार असफल होते हैं कोई बात नहीं गलतियां सभी से होती है करनी भी चाहिए है सफलता आनी चाहिए असफलता हमारे पास अगर बाहर बार आती है तब हम एक मजबूत मैं कहूं सफलता के लिए मजबूत द्वार खोलते हैं ठीक है और कब आती है सफलता कब आती है पता नहीं आती है जब आप मैंने देखा है बहुत से लोग बहुत मेहनत करते हैं परंतु असफल हो जाते हैं ठीक है कुछ लोग ऐसे नहीं करते फिर भी सफल हो सकते हैं इसका तो बहुत से विद्यार्थी पेपर देख कर आते हैं ठीक है कुछ विद्यार्थी होते हैं जो बिना पढ़े ही अपने देखा हुआ अच्छे अंक प्राप्त कर लेते हैं कभी कभी ठीक है उनका मैं कहूं तो वह उनकी हो सकता है कि उनके दिमाग का ब्रेन बार-बार तभी आती है जब हम उसके बारे में सिर्फ नकारात्मकता ही देखते रहते नकारात्मकता हमारे दिमाग में हम नकारात्मक ना सोते तब हमारे पास ऐसे बोलता नहीं आएगी हमें सकारात्मक सोचना चाहिए सकारात्मक हमें कभी भी यह बार-बार है सफलता तभी आती है जब हम एक बार असफल हुए तब भी हम दोबारा यह सोचते हैं यार इस बार भी क्या पता मैं सफल होगा या नहीं जब भी यह क्वेश्चन हमारे दिमाग में हमारे पास बार-बार चलते रहते हैं तब हम कहीं ना कहीं असफलता के शिकार कोई जाति धर्म तू जब हम चेक करें भी नहीं मैं कहती हूं संतू पॉजिटिव सोची ऊर्जावान सूची उद्देश्य के बारे में बार-बार सोचे हम तो हम सफलता की ओर बढ़ते और हमें करना क्या चाहिए तो सर्वप्रथम हमें यह करना चाहिए असफल हो रहे हैं तो हम जो गलतियां कर रहे हैं पहले उनको हमारे पेज पर डाउनलोड होना चाहिए कि आज तक जो मैं सफल रहा उसका कारण यह था उस सकता है कुछ भी कारण मान लो आप राइटिंग परफेक्ट करना चाहते हो और हमेशा यही होता है कि आप बहुत लिखते हो बहुत लिखते हो परंतु कुछ सुधार नहीं हो रहा तब आप क्या करोगे तब आप एक ग्रुप इसलिए चोर पेज पर नोट कीजिए कि मैंने जहां उस काम को करने में जल्दबाजी की हो सकता है मैंने जल्दबाजी की तो उसको धैर्य के साथ कीजिए ठीक है और दूसरा पेज को जवाब कर रहे थे तब आपके दिमाग में क्या जून कृति वही चल रहा था या कुछ और बातें चल रही थी हो सकता है हमारे जब हम राइटिंग बिगड़ रही है मान लो तब हमें अदर बातें होती हो तो उसका प्रभाव हमारे पर दिखाई दिया उसको भी में नोट करना चाहिए ठीक है मान लो आप राइटिंग कर रहे थे तब आपका पैन बार-बार रुक रहा था तो हो सकता है ना आपका जो तू है आपका पैन वह भी आपकी उस वक्त कमी हो असफलता के लिए तो आप उसको भी नोट कीजिए जैसे कि आपने यह 3 पॉइंट नोट की है और आपको पता लगा कि यार मैं इसकी काम हो रहा हूं घर पर तब आप को देखो आप सफल होने के लिए आपके पास खुद के पास जवाब नहीं है नोट कर लिया और तीनों चीजों को नोट करने के बाद में आपने फेस दिखा इस बार में यह तीनों गलतियां नहीं करूंगा और पॉजिटिविटी दिमाग में इतनी रखो कि मैंने यह जो गलतियां की है इस को सकारात्मक रूप से और उद्देश्य पूर्ण पूर्ण अपना उद्देश्य ला कर वापस ने इस बार और करके देखता हूं उन तीनों गलतियों को मैंने जो नोट इनको रिपीट नहीं करूंगा तब आप देखिए कि आप सफल हो तो पहली बात तो आप सकारात्मक सोच ही दूसरी बात आपकी उद्देश्य में आपका नियंत्रण और पारदर्शिता होनी चाहिए आपके अंदर पारदर्शिता होनी चाहिए और जिस पॉइंट को लेकर आप मान लो आप पेपर दे रहे हो आईएस का और दिमाग में ऐसा हो गया तो कितने लोग पर पर देंगे और क्या मैं कर लूंगा जब इतनी चीजें आप एक साथ लेकर चलोगे नहीं होगा परंतु मुझे करना है यह सवाल आपके पास आ गया मुझे करना है बस फिर आपको यही आपको देखना चाहिए ऑडिटिंग एक एटीट्यूड बना लीजिए आप अपना वह अपोजिट और जो गलतियां बार-बार करती आ रही हैं उनको नोट डाउन करें नोट डाउन करने के बाद में उनके ऊपर सिर्फ 10 मिनट यही सोचे कि मैं इन पंक्तियों को अब दोबारा नहीं करूंगा और देखी आप बहुत जल्दी सक्सेस फ्री होते हो आपने देखा होगा एडिशन हजार बार बनाने के बावजूद वह इंसान हार जाता है ठीक है परंतु क्या कहते हैं कि मैंने हजार बार हारने की नहीं हजार बार जीतने के तरीके डोली और एक दिन वह बल्ब बनकर तैयार हो जाता है तो उनका प्लस्पॉइंट कि उनकी पॉजिटिविटी हम हम तो प्रूफ बार भी मेहनत कर ले शोभा रहोगे तो 101 वाली बातें हमारे को दिमाग करता है कि हम तो कमी होती है उस पर ही ध्यान देते हैं हम यह नहीं देखते कि हम कर सकते हैं हम सफलता की ओर अग्रसर तभी होते हैं आपने देखा को बहुत से लोग जल्दी छोटी हमसफर मेरी बात हो तो मुझे बहुत से लोग कहते हैं यह सफल कैसे हो गई आप ऐसे कैसे कर लेते हो इतना इतना वक्त कम होने के बावजूद आप सब कुछ मैनेज करना पसंद करते हो ताकि हम लोग सफलता की तरफ देखते हैं पॉजिटिव ही दिमाग में रखे एनी एनी टाइम आपके दिमाग में यह रहना चाहिए कि कोई बात नहीं बीत गया इसका सबसे बड़ा मैं कहती हूं मेरी लाइफ का एबीसीडी हो रखा है मैंने जो बीत गया वह मैं भूल जाती हूं फिर चाहे वह मेरे लिए अच्छा पीता हूं या बुरा बेटा बुरा बीता था तो नहीं है तो क्यों वह मेरा सपना था वह मेरे आने वाले भविष्य सुनी होगी एक गुरु का शिष्य होता है और उसी के साथ में शेर होता है वह दोषी होते हैं कि इतना रात में सोचते हुए सर्फर्स बोर होता है तो वह यह सोचते हैं कि यार यह गुरु जी कहते हैं अंधेरे के अंदर ऐसे करो एक दिया ले जाऊं और आप रास्ता निकालकर सुबह मेरे पास आ जाना परंतु और एक तो हार जाता है वह कहता है गुरु जी इतना सा दिया और इतनी सी रोशनी में क्या बिगाड़ दूंगा नहीं तो गुरुजी करते हैं कोई बात नहीं आप आपने जो आपका दिमाग है और वह कर कोई बात नहीं यार छोटा सा दिया इतनी सी रोशनी है थोड़ी सी न्यूज़ बुधवार चलता है तब उसके आगे फिर दीए की रोशनी से 2 मीटर और रोशनी आगे तक जाना दिखता है उसको फिर 2 मीटर तक पहुंचाता है और फिर 2 मिनट रुको और ऐसे करते करते करते सुबह हो जाती है और वह जो समुंद्र में हीरे होते हैं वहां से वह गुरु जी को समुंदर से गिरे ला कर दे देता है तो गुरु जी कहते हैं कि पुणे कैसे नहीं किया और तूने कैसे कर लिया तो उसने कहा कि जो आपने दिया था उसका मैंने एक यूज़ किया उसका उपयोग ध्यान से किया तो देखूं मैं लेकर आ गया तो गुरुजी ने उस हारे हुए शीशे से यही कहा कि तेरी गलती यह थी कि तूने रास्ते को नापा और इसने रास्ते को नहीं इसने मंजिल को देखा तो हम ऐसे फल तभी होते हैं जब बार-बार हम रास्ते कौन आते रहते हैं ना तेरे तेरे को कभी नहीं ना चाहिए हमें तीन मंजिल को उतारना चाहिए मंदिर के पास जाना चाहिए उसी के आधार पर हम सफल हो सकते हैं जो बीत गया उसको भूल कर हमें आगे बढ़ना चाहिए सकारात्मक सोचना चाहिए और हमें हमारे उद्देश्य की ओर बहुत से गोल छूट बिहाई यह फोन रख कर हमें आगे चलना चाहिए जो यही मैं कहती हूं जो व्यक्ति बार-बार ऐसा फल होता है तो उसके दिमाग में सफलता नहीं उसके दिमाग में सफलता सफलता सफलता चलनी चाहिए और एक दिन वह सफल हो ही जाता है ठीक है जो मैं कहती हूं जो बार-बार होते हैं इतिहास रचते हैं यह भी एक बहन ने किसी गुरु ने कहा था कि जो बार-बार आते हैं वह इतिहास रचते हैं और जो एक बार में सफल हो जाते हैं वह देश का या मैं कहूं दुनिया में छा जाते हैं तो आपको मेहनत मेहनत पर अपने एफर्ट्स लगाते रहना चाहिए और मैं करती हूं हंसी हंसी खुशी से जो मिला उसको अच्छा करके आगे बढ़ना चाहिए बस हमारे जीवन की शैली और हमारे जीवन का उद्देश्य यही है कि हमें चलना चाहिए का पहिया चलता रहता है उसकी फसल थोड़ी जल्दी छोड़ जाते हैं होने में कितना वक्त लग जाता है रुकना नहीं चाहिए बस हमें चलता है नहीं चलते रहना चाहिए कभी धीरे कभी तेज कभी धीरे कभी तेज जल्दी मंजिला जाती है थैंक यू सो मच रोना से बच के रहिए सावधान रहिए धर्मी रहिए स्वस्थ रहिए थैंक्यू सो मच

agar koi vyakti baar baar asafal ho raha hai toh use kya karna chahiye usse apni galatiyon ko jhukane asafaltaa karte waqt ki thi unko gehrai se dekhna chahiye ki main jab baar baar kaam kar raha hoon toh aisa kya kaam hai jo main ek jaisa hi kar raha hoon usko karna band karna chahiye aur aap baar baar asafal hote hain koi baat nahi galtiya sabhi se hoti hai karni bhi chahiye hai safalta aani chahiye asafaltaa hamare paas agar bahar baar aati hai tab hum ek majboot main kahun safalta ke liye majboot dwar kholte hain theek hai aur kab aati hai safalta kab aati hai pata nahi aati hai jab aap maine dekha hai bahut se log bahut mehnat karte hain parantu asafal ho jaate hain theek hai kuch log aise nahi karte phir bhi safal ho sakte hain iska toh bahut se vidyarthi paper dekh kar aate hain theek hai kuch vidyarthi hote hain jo bina padhe hi apne dekha hua acche ank prapt kar lete hain kabhi kabhi theek hai unka main kahun toh vaah unki ho sakta hai ki unke dimag ka brain baar baar tabhi aati hai jab hum uske bare me sirf nakaratmakta hi dekhte rehte nakaratmakta hamare dimag me hum nakaratmak na sote tab hamare paas aise bolta nahi aayegi hamein sakaratmak sochna chahiye sakaratmak hamein kabhi bhi yah baar baar hai safalta tabhi aati hai jab hum ek baar asafal hue tab bhi hum dobara yah sochte hain yaar is baar bhi kya pata main safal hoga ya nahi jab bhi yah question hamare dimag me hamare paas baar baar chalte rehte hain tab hum kahin na kahin asafaltaa ke shikaar koi jati dharm tu jab hum check kare bhi nahi main kehti hoon santu positive sochi urjavan suchi uddeshya ke bare me baar baar soche hum toh hum safalta ki aur badhte aur hamein karna kya chahiye toh sarvapratham hamein yah karna chahiye asafal ho rahe hain toh hum jo galtiya kar rahe hain pehle unko hamare page par download hona chahiye ki aaj tak jo main safal raha uska karan yah tha us sakta hai kuch bhi karan maan lo aap writing perfect karna chahte ho aur hamesha yahi hota hai ki aap bahut likhte ho bahut likhte ho parantu kuch sudhaar nahi ho raha tab aap kya karoge tab aap ek group isliye chor page par note kijiye ki maine jaha us kaam ko karne me jaldabaji ki ho sakta hai maine jaldabaji ki toh usko dhairya ke saath kijiye theek hai aur doosra page ko jawab kar rahe the tab aapke dimag me kya june kriti wahi chal raha tha ya kuch aur batein chal rahi thi ho sakta hai hamare jab hum writing bigad rahi hai maan lo tab hamein other batein hoti ho toh uska prabhav hamare par dikhai diya usko bhi me note karna chahiye theek hai maan lo aap writing kar rahe the tab aapka pan baar baar ruk raha tha toh ho sakta hai na aapka jo tu hai aapka pan vaah bhi aapki us waqt kami ho asafaltaa ke liye toh aap usko bhi note kijiye jaise ki aapne yah 3 point note ki hai aur aapko pata laga ki yaar main iski kaam ho raha hoon ghar par tab aap ko dekho aap safal hone ke liye aapke paas khud ke paas jawab nahi hai note kar liya aur tatvo chijon ko note karne ke baad me aapne face dikha is baar me yah tatvo galtiya nahi karunga aur positivity dimag me itni rakho ki maine yah jo galtiya ki hai is ko sakaratmak roop se aur uddeshya purn purn apna uddeshya la kar wapas ne is baar aur karke dekhta hoon un tatvo galatiyon ko maine jo note inko repeat nahi karunga tab aap dekhiye ki aap safal ho toh pehli baat toh aap sakaratmak soch hi dusri baat aapki uddeshya me aapka niyantran aur pardarshita honi chahiye aapke andar pardarshita honi chahiye aur jis point ko lekar aap maan lo aap paper de rahe ho ias ka aur dimag me aisa ho gaya toh kitne log par par denge aur kya main kar lunga jab itni cheezen aap ek saath lekar chaloge nahi hoga parantu mujhe karna hai yah sawaal aapke paas aa gaya mujhe karna hai bus phir aapko yahi aapko dekhna chahiye auditing ek attitude bana lijiye aap apna vaah opposite aur jo galtiya baar baar karti aa rahi hain unko note down kare note down karne ke baad me unke upar sirf 10 minute yahi soche ki main in panktiyon ko ab dobara nahi karunga aur dekhi aap bahut jaldi success free hote ho aapne dekha hoga edition hazaar baar banane ke bawajud vaah insaan haar jata hai theek hai parantu kya kehte hain ki maine hazaar baar haarne ki nahi hazaar baar jitne ke tarike doli aur ek din vaah bulb bankar taiyar ho jata hai toh unka plaspaint ki unki positivity hum hum toh proof baar bhi mehnat kar le shobha rahoge toh 101 wali batein hamare ko dimag karta hai ki hum toh kami hoti hai us par hi dhyan dete hain hum yah nahi dekhte ki hum kar sakte hain hum safalta ki aur agrasar tabhi hote hain aapne dekha ko bahut se log jaldi choti humsafar meri baat ho toh mujhe bahut se log kehte hain yah safal kaise ho gayi aap aise kaise kar lete ho itna itna waqt kam hone ke bawajud aap sab kuch manage karna pasand karte ho taki hum log safalta ki taraf dekhte hain positive hi dimag me rakhe any any time aapke dimag me yah rehna chahiye ki koi baat nahi beet gaya iska sabse bada main kehti hoon meri life ka ABCD ho rakha hai maine jo beet gaya vaah main bhool jaati hoon phir chahen vaah mere liye accha pita hoon ya bura beta bura bita tha toh nahi hai toh kyon vaah mera sapna tha vaah mere aane waale bhavishya suni hogi ek guru ka shishya hota hai aur usi ke saath me sher hota hai vaah doshi hote hain ki itna raat me sochte hue surfers bore hota hai toh vaah yah sochte hain ki yaar yah guru ji kehte hain andhere ke andar aise karo ek diya le jaaun aur aap rasta nikalakar subah mere paas aa jana parantu aur ek toh haar jata hai vaah kahata hai guru ji itna sa diya aur itni si roshni me kya bigad dunga nahi toh guruji karte hain koi baat nahi aap aapne jo aapka dimag hai aur vaah kar koi baat nahi yaar chota sa diya itni si roshni hai thodi si news budhavar chalta hai tab uske aage phir diye ki roshni se 2 meter aur roshni aage tak jana dikhta hai usko phir 2 meter tak pohchta hai aur phir 2 minute ruko aur aise karte karte karte subah ho jaati hai aur vaah jo samundra me heere hote hain wahan se vaah guru ji ko samundar se gire la kar de deta hai toh guru ji kehte hain ki pune kaise nahi kiya aur tune kaise kar liya toh usne kaha ki jo aapne diya tha uska maine ek use kiya uska upyog dhyan se kiya toh dekhu main lekar aa gaya toh guruji ne us hare hue shishe se yahi kaha ki teri galti yah thi ki tune raste ko napa aur isne raste ko nahi isne manjil ko dekha toh hum aise fal tabhi hote hain jab baar baar hum raste kaun aate rehte hain na tere tere ko kabhi nahi na chahiye hamein teen manjil ko utarana chahiye mandir ke paas jana chahiye usi ke aadhar par hum safal ho sakte hain jo beet gaya usko bhool kar hamein aage badhana chahiye sakaratmak sochna chahiye aur hamein hamare uddeshya ki aur bahut se gol chhut bihai yah phone rakh kar hamein aage chalna chahiye jo yahi main kehti hoon jo vyakti baar baar aisa fal hota hai toh uske dimag me safalta nahi uske dimag me safalta safalta safalta chalni chahiye aur ek din vaah safal ho hi jata hai theek hai jo main kehti hoon jo baar baar hote hain itihas rachate hain yah bhi ek behen ne kisi guru ne kaha tha ki jo baar baar aate hain vaah itihas rachate hain aur jo ek baar me safal ho jaate hain vaah desh ka ya main kahun duniya me cha jaate hain toh aapko mehnat mehnat par apne efforts lagate rehna chahiye aur main karti hoon hansi hansi khushi se jo mila usko accha karke aage badhana chahiye bus hamare jeevan ki shaili aur hamare jeevan ka uddeshya yahi hai ki hamein chalna chahiye ka pahiya chalta rehta hai uski fasal thodi jaldi chhod jaate hain hone me kitna waqt lag jata hai rukna nahi chahiye bus hamein chalta hai nahi chalte rehna chahiye kabhi dhire kabhi tez kabhi dhire kabhi tez jaldi manjila jaati hai thank you so match rona se bach ke rahiye savdhaan rahiye dharami rahiye swasth rahiye thainkyu so match

अगर कोई व्यक्ति बार-बार असफल हो रहा है तो उसे क्या करना चाहिए उससे अपनी गलतियों को झुकने अ

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  87
KooApp_icon
WhatsApp_icon
12 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!