आध्यात्मिक जीवन और भौतिक जीवन का सामंजस्य कैसे बेहतर बनाया जा सकता है?...


user

Liyakat Ali Gazi

MOTIVATIONAL SPEAKER|| LIFE COACH || CORPORATE TRAINER|| EDUCATOR||

0:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आध्यात्मिक जीवन और भौतिक जीवन का सामंजस्य आप अपने हालातों परिस्थितियों को भागते हुए आप ही बना सकते हो क्योंकि आध्यात्मिक जीवन भी आपको ही जीना है और भौतिक जीवन भी अपना आप ही को जीना है आप ही को अपनी भौतिक जल भूत जरूरतें होती हैं उनका पूरा करना है तो अपनी भौतिक जरूरतों को ध्यान में रखती है उन सभी को पूरा करते हुए अपने घर परिवार की जिम्मेदारियों को भी निभाते हुए अपने समाज समाज में रहते हुए आध्यात्मिक जीवन में सामंजस्य बिठाना आप पर निर्भर करता है आप अपनी परिस्थितियों पर आपको टाइम निकालना है अपने भौतिक जीवन के लिए भी राधे हाथ में जीवन के लिए भी जो भी आपका टाइम है बिजी उसी से आपको यह टाइम सेट करना है तभी आप इन दोनों चीजों में संतुलन बना पाएंगे

aadhyatmik jeevan aur bhautik jeevan ka samanjasya aap apne halaton paristhitiyon ko bhagte hue aap hi bana sakte ho kyonki aadhyatmik jeevan bhi aapko hi jeena hai aur bhautik jeevan bhi apna aap hi ko jeena hai aap hi ko apni bhautik jal bhoot jaruratein hoti hain unka pura karna hai toh apni bhautik jaruraton ko dhyan me rakhti hai un sabhi ko pura karte hue apne ghar parivar ki jimmedariyon ko bhi nibhate hue apne samaj samaj me rehte hue aadhyatmik jeevan me samanjasya bithana aap par nirbhar karta hai aap apni paristhitiyon par aapko time nikalna hai apne bhautik jeevan ke liye bhi radhe hath me jeevan ke liye bhi jo bhi aapka time hai busy usi se aapko yah time set karna hai tabhi aap in dono chijon me santulan bana payenge

आध्यात्मिक जीवन और भौतिक जीवन का सामंजस्य आप अपने हालातों परिस्थितियों को भागते हुए आप ही

Romanized Version
Likes  501  Dislikes    views  6911
KooApp_icon
WhatsApp_icon
5 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!