हमारे देश में डॉलर के मुकाबले रुपया का गिरना क्या यह देश के लिए खतरा पैदा कर रहा है?...


play
user

Sachin Bharadwaj

Faculty - Mathematics

0:41

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

विकी बिल्कुल हमारे देश में डॉलर के मुकाबले रुपया जो बात ना आए दिन कमजोर हो रहा है तो कहीं ना कहीं इससे देश को खतरा तो है ही और दूसरा देखें जब 1947 जब देश आजाद हुआ था तो एक डॉलर की कीमत ₹1 दिया उसके बाद से लगातार गिरती जा रही है अब जब डॉलर के मुकाबले रुपया गिरेगा तो कहीं ना कहीं हम करेंगे स्पेशली सबसे ज्यादा इनपुट करता है कूड़े को इंपोर्ट करता है तो कहीं ना कहीं तो पेमेंट होता वह डॉलर में होता है तो कहीं ना कहीं जोगीमारा फोन रिजर्व वह कम होगा के अलावा जो भी प्राइस होंगे वह भी रहे होंगे तो कहीं यही कारण है कि पेट्रोल के दाम बढ़ने कृपया कमजोर हो रहा है

vicky bilkul hamare desh mein dollar ke muqable rupya jo baat na aaye din kamjor ho raha hai toh kahin na kahin isse desh ko khatra toh hai hi aur doosra dekhen jab 1947 jab desh azad hua tha toh ek dollar ki kimat Rs diya uske baad se lagatar girti ja rahi hai ab jab dollar ke muqable rupya girega toh kahin na kahin hum karenge speshli sabse zyada input karta hai koode ko import karta hai toh kahin na kahin toh payment hota vaah dollar mein hota hai toh kahin na kahin jogimara phone reserve vaah kam hoga ke alava jo bhi price honge vaah bhi rahe honge toh kahin yahi karan hai ki petrol ke daam badhne kripya kamjor ho raha hai

विकी बिल्कुल हमारे देश में डॉलर के मुकाबले रुपया जो बात ना आए दिन कमजोर हो रहा है तो कहीं

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  107
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Jyoti Mehta

Ex-History Teacher

1:48
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

वर्तमान समय में देश में डॉलर के मुकाबले रुपए का गिरना खतरा तो नहीं कह सकते हैं लेकिन हां इससे अर्थव्यवस्था पर असर असर जरूर होगा जहां देश महंगाई को कंट्रोल करने की कोशिश कर रहा है वही रुपए का गिरना महंगाई को बढ़ा सकता है हमारे देश की अर्थव्यवस्था पर ग्लोबल तेल की कीमत पर बहुत असर होता है क्योंकि देश में एक परसेंट तेल का आयात किया जाता है तेल की कीमत बढ़ने से रुपए की कीमत घट रही है लेकिन जरूरत पूरी करने के लिए पूरा भारत देश की अर्थव्यवस्था पर पड़ रहा है दूसरा बड़ा कारण है डॉलर का मजबूत होना वर्तमान में अमेरिका की अर्थव्यवस्था बहुत अच्छी स्थिति में है इसकी वजह से बढ़ती हुई अर्थव्यवस्था वाले देशों का पैसा सीधा अमेरिका जा रहा है कि महंगा होने से सभी आयातित वस्तुएं महंगी होगी PK महंगी होने से ट्रांसपोर्ट महंगा होगा जिससे सब्जियां किराने का सामान आदि की ट्रांसपोर्ट कॉस्ट बढ़ जाएगी इसके अतिरिक्त तकनीकी सेक्टर गैजेट्स आदि की भी कीमतों में बढ़ोतरी होगी लेकिन कमजोर रुपया निर्यात के लिए बेहतर है सभी एक्सपोर्ट से संबंधित इंडस्ट्रीज बेहतर होगी फार्मा कंपनी आईटी सेक्टर कंपनी जिनका रेवेन्यू दूसरे देशों से आता है उन्हें लाभ होगा बढ़ते हुए दामों से जितना फायदा नहीं होगा उससे ज्यादा नुकसान होगा आज डॉलर की कीमत बढ़ने से विदेश इन्वेस्टमेंट भारत में पड़ेगा इससे रोजगार के अवसर पैदा होंगे लेकिन अगर तेल की कीमत इसी तरह बढ़ती रही तो देश को इससे काफी नुकसान होगा देश की जो विकासशील अर्थव्यवस्था है उस पर काफी भार पड़ेगा

vartmaan samay mein desh mein dollar ke muqable rupaye ka girna khatra toh nahi keh sakte hain lekin haan isse arthavyavastha par asar asar zaroor hoga jaha desh mahangai ko control karne ki koshish kar raha hai wahi rupaye ka girna mahangai ko badha sakta hai hamare desh ki arthavyavastha par global tel ki kimat par bahut asar hota hai kyonki desh mein ek percent tel ka ayat kiya jata hai tel ki kimat badhne se rupaye ki kimat ghat rahi hai lekin zarurat puri karne ke liye pura bharat desh ki arthavyavastha par pad raha hai doosra bada karan hai dollar ka majboot hona vartaman mein america ki arthavyavastha bahut achi sthiti mein hai iski wajah se badhti hui arthavyavastha waale deshon ka paisa seedha america ja raha hai ki mehnga hone se sabhi ayatit vastuyen mehengi hogi PK mehengi hone se transport mehnga hoga jisse sabjiyan kirane ka saamaan aadi ki transport cost badh jayegi iske atirikt takniki sector gaijets aadi ki bhi kimton mein badhotari hogi lekin kamjor rupya niryat ke liye behtar hai sabhi export se sambandhit industries behtar hogi pharma company it sector company jinka revenue dusre deshon se aata hai unhe labh hoga badhte hue daamo se jitna fayda nahi hoga usse zyada nuksan hoga aaj dollar ki kimat badhne se videsh investment bharat mein padega isse rojgar ke avsar paida honge lekin agar tel ki kimat isi tarah badhti rahi toh desh ko isse kaafi nuksan hoga desh ki jo vikasshil arthavyavastha hai us par kaafi bhar padega

वर्तमान समय में देश में डॉलर के मुकाबले रुपए का गिरना खतरा तो नहीं कह सकते हैं लेकिन हां इ

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  153
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!