गणपति की स्थापना किसने की थी?...


user

Ghanshyamvan

मंदिर सेवा

0:48
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मां भगवती का माल माता पार्वती ने किया था उन्होंने एक पुतला बनाकर उसमें गणपति जी पधारे और कोलकाता प्राणी उसके बाद भगवान शिव ने उनका मस्तक काटा पुस्तकालय के बाद भाषा घोषित हो गई फेल पास हाथी का मस्तक लगा गया सोनी देवताओं में सर्वप्रथम पूजा का अधिकारी बना था जब से ही गणपतीची सर्वप्रथम पूजा होती है और सबका कल्याण करने वाले जैसे जी के स्वामी है माता पार्वती को शिव आदि थे संचालन की स्थापना की

maa bhagwati ka maal mata parvati ne kiya tha unhone ek putalaa banakar usme ganapati ji padhare aur kolkata prani uske baad bhagwan shiv ne unka mastak kaata pustakalaya ke baad bhasha ghoshit ho gayi fail paas haathi ka mastak laga gaya sony devatao me sarvapratham puja ka adhikari bana tha jab se hi ganpatichi sarvapratham puja hoti hai aur sabka kalyan karne waale jaise ji ke swami hai mata parvati ko shiv aadi the sanchalan ki sthapna ki

मां भगवती का माल माता पार्वती ने किया था उन्होंने एक पुतला बनाकर उसमें गणपति जी पधारे और

Romanized Version
Likes  178  Dislikes    views  2458
KooApp_icon
WhatsApp_icon
4 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!