मैं कब तक अत्याचार सहती रहूंगी,इसके लिए क्या कर सकती हूँ?...


user

Trainer Yogi Yogendra

Motivational Speaker | Career Coach | Business Coach | Marketing & Management Expert's

0:39
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो फ्रेंड्स मैं योगेंद्र शर्मा मोटिवेशनल स्पीकर खैरियत और कॉरपोरेट ट्रेनर आज हम जिस क्वेश्चन के बारे में बात करने वाले हैं माय डियर फ्रेंड है कि मैं कब तक इसके लिए क्या कर सकती हो और नहीं मानते हैं तो आप उसके लिए पुलिस का सहारा ले सकते हैं लेकिन आप जो है अत्याचार को ना चाहे क्योंकि अत्याचार को करने वाले से ज्यादा उसको सहन करने वाला उसका दोष होता है

hello friends main yogendra sharma Motivational speaker khairiyat aur corporate trainer aaj hum jis question ke bare me baat karne waale hain my dear friend hai ki main kab tak iske liye kya kar sakti ho aur nahi maante hain toh aap uske liye police ka sahara le sakte hain lekin aap jo hai atyachar ko na chahen kyonki atyachar ko karne waale se zyada usko sahan karne vala uska dosh hota hai

हेलो फ्रेंड्स मैं योगेंद्र शर्मा मोटिवेशनल स्पीकर खैरियत और कॉरपोरेट ट्रेनर आज हम जिस क्वे

Romanized Version
Likes  398  Dislikes    views  2675
WhatsApp_icon
4 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

वह कल मैं आपका स्वागत है आप ईश्वर प्रजापति के साथ आपको सवाल है कि आप कब तक अचेत अत्याचार सहती रहेंगी इसके लिए क्या क्या कर सकती हो क्या कोई बता दे अत्याचार करने वाला जितना दोषी होता है और अत्याचार को सहने वाला भी उतना ही दोषी होता है अगर आप के ऊपर कोई अत्याचार कर रहा है उसके लिए आप एक काम ही कर सकते हैं कि आप एक काम ही कर सकते हैं कि आप जो पिक्चर पर अत्याचार कर रहा है तो उसकी आपका थाने में या चौकी में कंप्लेंट करके उसको आप उसको आप जो सजा है उसको सजा दिलवा सकते हैं आप धन्यवाद

vaah kal main aapka swaagat hai aap ishwar prajapati ke saath aapko sawaal hai ki aap kab tak achet atyachar sahati rahegi iske liye kya kya kar sakti ho kya koi bata de atyachar karne vala jitna doshi hota hai aur atyachar ko sahane vala bhi utana hi doshi hota hai agar aap ke upar koi atyachar kar raha hai uske liye aap ek kaam hi kar sakte hain ki aap ek kaam hi kar sakte hain ki aap jo picture par atyachar kar raha hai toh uski aapka thane me ya chowki me complaint karke usko aap usko aap jo saza hai usko saza dilwa sakte hain aap dhanyavad

वह कल मैं आपका स्वागत है आप ईश्वर प्रजापति के साथ आपको सवाल है कि आप कब तक अचेत अत्याचार स

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  164
WhatsApp_icon
user

Vijay kotapkar

Mind Trainer

5:03
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने लिखा है कि मैं कब तक अत्याचार फोन करूंगी और इस पर मैं क्या कर सकती हूं अभी खोजो मैं शब्द बोलो ना ना तो इसमें कोई ऐसा नहीं है क्या आपको अच्छा करना है बुरा करना है आपको आपके अनुकूल चंद्र करनी है मैं कुछ ऐसा नहीं बोलूंगा आप को समझाते हो आप कैसी जिंदगी चाहते हो वह चित्र पूरा मन में पहले बना लो वह बनाने के बाद में आप क्या करो वैसे ही बिंदु होते ना बहुत याद करो रात को सोते वक्त जैसे आप ऐसा करोगे और आप परमात्मा के परमात्मा के बिल्कुल करीब रहोगे और थोड़ा गुस्सा करोगे अपने आप पर के जो मैच की हूं वह हो गया है वह हो गया है जिस तरफ किसी मन्नत पर जाते हो कि कोई कहीं मंदिर में जाकर जाते हो ना बिना मंदिर में गए जो भी मंदिर में जाकर जो श्रद्धा रखते और यह मानते हो कि नहीं मेरे अच्छे दिन आ जाएंगे यह बोलते ना तो वहां जो बोलो कि मेरे अच्छे दिन आ गए मेरे साथ अत्याचार हो रहा है तो वह भी खत्म हो गया है सब अच्छा माहौल हो गया है क्योंकि काफी सारी जो लोग होते तो पहले काफी सारा दुख सहन करते हैं लेकिन जैसे मन में कल्पना करते हैं कि नहीं कभी तो अच्छा दिन आएगा और मैं फील करती हूं आज क्या करता हूं वैसे कुछ समय के अंदर बदलाव आना शुरू हो जाता एचडी ना जाते हैं ऐसा कुछ ना कि मैं ठीक हूं वह जादूगर है आपको किसी से डरने की कोई जरूरत नहीं है धीरे-धीरे आपके पर जो अत्याचार है वह धीरे-धीरे बंद कम हो जाएंगे हम फ्री हो जाएंगे क्योंकि आपकी सोचने की शक्ति इतनी पार फिल्म में किसी इंसान सोच सही मर सकता है सामने अगर आपको ट्राई करना है अगर आपको ट्राई कर देना कि आपके विचार की शक्ति कितनी बार खोले तो घर पर आपके कोई मंगल से सब पढ़ा होगा चेन को करना क्या सिर्फ आपको आपके हाथ में लेना है और आपकी आंखें पहले बंद करनी है और आपको सिर्फ इतना बोलना है के सामने से पीछे की तरफ जा रही है और फिर धीरे-धीरे आंखें खोल दी है और सामने जा रही थी आपको धीरे-धीरे खत्म कर देना फिर आपको यह बोलना है कि राडिया रही है लाइफ जा रही है जैसा पोस्टल ओवैसी को चैन है ना आकर पकड़ेगा किधर जाएगी क्रॉस जाएगी फिर रावण घूमेगी सबको पता चल जाएगा कि सोचती कि आपको रिया की साइंस की बुक कर सकता है कि हमारी बॉडी में हमारे मस्तिष्क में और हमारे मन के अंदर इतनी सारी शक्तियां भरी है ना चाहे वह कर सकते हैं लेकिन पता नहीं है इसलिए सारी गड़बड़ हो जाती है उसके अंदर पूरे होने पर आपको अगर पता चल गया कि आपकी सोच रही थी इसलिए तो मैंने क्या बोला सोचना शुरु करो कि रमेश आप लोगों को तारीफ करो माफी मांग लो तारीफ कर दो जो दो शब्द देना माफी और थैंक्यू माफिया थैंक्यू जिसने दुनिया के सबसे ताकतवर लोगों की तारीफ करना करो मेहनत आपको कभी जिंदगी में कोई अत्याचार करने की किसी की मत कीजिए से पूछा है कि मुझे कोई यू बोल रहा है साइड में जाकर क्या आपके पास दो लगेज है आप कृपया एक अभी जा सकते हो लेकिन वहां पर मैं उनको बोलता हूं क्या आप मुझे एक के साथ जाने दे रहे हो उसके लिए उनके अंदर के यहां मिल जाएंगे आपके पास हो कि मैं आपको इतना रात को सोते हो तो करना सुबह उठकर करना दोस्ती मत करना और ड्यूटी म्यूजिक आपको लगता है कि थोड़ा बदलाव आ रहा है फेसबुक पर भी है वीडियो पर भी आप कर सकते हो और हमारी सेमिनार क्या परेशानी है थैंक यू

aapne likha hai ki main kab tak atyachar phone karungi aur is par main kya kar sakti hoon abhi khojo main shabd bolo na na toh isme koi aisa nahi hai kya aapko accha karna hai bura karna hai aapko aapke anukul chandra karni hai main kuch aisa nahi boloonga aap ko smajhate ho aap kaisi zindagi chahte ho vaah chitra pura man me pehle bana lo vaah banane ke baad me aap kya karo waise hi bindu hote na bahut yaad karo raat ko sote waqt jaise aap aisa karoge aur aap paramatma ke paramatma ke bilkul kareeb rahoge aur thoda gussa karoge apne aap par ke jo match ki hoon vaah ho gaya hai vaah ho gaya hai jis taraf kisi mannat par jaate ho ki koi kahin mandir me jaakar jaate ho na bina mandir me gaye jo bhi mandir me jaakar jo shraddha rakhte aur yah maante ho ki nahi mere acche din aa jaenge yah bolte na toh wahan jo bolo ki mere acche din aa gaye mere saath atyachar ho raha hai toh vaah bhi khatam ho gaya hai sab accha maahaul ho gaya hai kyonki kaafi saari jo log hote toh pehle kaafi saara dukh sahan karte hain lekin jaise man me kalpana karte hain ki nahi kabhi toh accha din aayega aur main feel karti hoon aaj kya karta hoon waise kuch samay ke andar badlav aana shuru ho jata hd na jaate hain aisa kuch na ki main theek hoon vaah jaadugar hai aapko kisi se darane ki koi zarurat nahi hai dhire dhire aapke par jo atyachar hai vaah dhire dhire band kam ho jaenge hum free ho jaenge kyonki aapki sochne ki shakti itni par film me kisi insaan soch sahi mar sakta hai saamne agar aapko try karna hai agar aapko try kar dena ki aapke vichar ki shakti kitni baar khole toh ghar par aapke koi mangal se sab padha hoga chain ko karna kya sirf aapko aapke hath me lena hai aur aapki aankhen pehle band karni hai aur aapko sirf itna bolna hai ke saamne se peeche ki taraf ja rahi hai aur phir dhire dhire aankhen khol di hai aur saamne ja rahi thi aapko dhire dhire khatam kar dena phir aapko yah bolna hai ki radiya rahi hai life ja rahi hai jaisa postal owaisi ko chain hai na aakar pakdega kidhar jayegi cross jayegi phir ravan ghumegi sabko pata chal jaega ki sochti ki aapko riya ki science ki book kar sakta hai ki hamari body me hamare mastishk me aur hamare man ke andar itni saari shaktiyan bhari hai na chahen vaah kar sakte hain lekin pata nahi hai isliye saari gadbad ho jaati hai uske andar poore hone par aapko agar pata chal gaya ki aapki soch rahi thi isliye toh maine kya bola sochna shuru karo ki ramesh aap logo ko tareef karo maafi maang lo tareef kar do jo do shabd dena maafi aur thainkyu mafia thainkyu jisne duniya ke sabse takatwar logo ki tareef karna karo mehnat aapko kabhi zindagi me koi atyachar karne ki kisi ki mat kijiye se poocha hai ki mujhe koi you bol raha hai side me jaakar kya aapke paas do luggage hai aap kripya ek abhi ja sakte ho lekin wahan par main unko bolta hoon kya aap mujhe ek ke saath jaane de rahe ho uske liye unke andar ke yahan mil jaenge aapke paas ho ki main aapko itna raat ko sote ho toh karna subah uthakar karna dosti mat karna aur duty music aapko lagta hai ki thoda badlav aa raha hai facebook par bhi hai video par bhi aap kar sakte ho aur hamari seminar kya pareshani hai thank you

आपने लिखा है कि मैं कब तक अत्याचार फोन करूंगी और इस पर मैं क्या कर सकती हूं अभी खोजो मैं श

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  127
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इंसान की सबसे बड़ी भूल यही है कि वह अत्याचार चाहता है सबसे बड़ा गुनाहगार वही होता है कि अत्याचार जोश है उसको आवाज उठाना चाहिए

insaan ki sabse badi bhool yahi hai ki vaah atyachar chahta hai sabse bada gunahgar wahi hota hai ki atyachar josh hai usko awaaz uthana chahiye

इंसान की सबसे बड़ी भूल यही है कि वह अत्याचार चाहता है सबसे बड़ा गुनाहगार वही होता है कि अत

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  91
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!