क्या हमारी ज़िंदगी इस पहाड़ में ही बीतेगी, क्या हम लोग के लिए कोई कंपनी फैक्ट्री काम करने के लिए नहीं है, क्या हाई स्कूल कॉलेज कुछ नहीं है, इसका जवाब दें?...


user

Shubham Saini

Software Engineer

0:29
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर आप किसी ऐसे इलाके ऐसे हैं जहां पर ऐसी व्यवस्थाएं नहीं है तो आप पत्र लिखें अपने वहां नजदीकी प्रशासन केंद्र को पत्र लिखें जिससे आपकी मदद हो सके आपके वहां के लोगों की मदद का क्या आप अपनी शिकायतें किसी तरह से सोशल करें जिससे आपकी मदद हो सके हैं और हर एक इंसान को स्वतंत्रता का अधिकार शिक्षा का अधिकार है रोजगार का अधिकार है

agar aap kisi aise ilaake aise hain jaha par aisi vyavasthaen nahi hai toh aap patra likhen apne wahan najdiki prashasan kendra ko patra likhen jisse aapki madad ho sake aapke wahan ke logo ki madad ka kya aap apni shikayaten kisi tarah se social kare jisse aapki madad ho sake hain aur har ek insaan ko swatantrata ka adhikaar shiksha ka adhikaar hai rojgar ka adhikaar hai

अगर आप किसी ऐसे इलाके ऐसे हैं जहां पर ऐसी व्यवस्थाएं नहीं है तो आप पत्र लिखें अपने वहां नज

Romanized Version
Likes  259  Dislikes    views  2566
WhatsApp_icon
4 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Harender Kumar Yadav

Career Counsellor.

0:40
Play

Likes  414  Dislikes    views  3430
WhatsApp_icon
user

Prem Koranga

Social Worker

1:10
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

करना तो पड़ेगा ना आईडी फ्रेंड आपका सवाल है क्या हमारी जिंदगी पहाड़ में ही पीटेगी क्या हम लोग इसके लिए कंपनी फैक्ट्री में काम करने के लिए नहीं है क्या स्कूल कॉलेज कुछ भी नहीं है बिल्कुल सारी चीजें हैं आप पहाड़ में रहना चाहते हैं तो बहुत अच्छी बात है पहाड़ को स्वर्ग बना है क्योंकि पहाड़ से दूर करेंगे आपने देखा होगा कि सारे दोस्त जो भी देश में प्रदेश में हर जगह ते भटके भटके अब घर आ रहे हैं जब वह लोग वह लोग वापस जाने वाले थोड़ी है उन लोगों अगर वह पहाड़ नहीं होता तो लोग विदेशों से वापस क्यों आते दूसरी बार में काम करना चाहते हैं बिल्कुल कीजिए आपकी योग्यता आपके पास होनी चाहिए और मैं यही कहूंगा कि आप मैं तो यही कहूंगा छोटा-मोटा काम शुरु कीजिए अपने पहाड़ नहीं और करने के लिए बहुत कुछ काम है जैसे सिलाई मशीन का काम कीजिए जैसे आपको छोटा-मोटा कोई रेस्टोरेंट को लिए या फिर कुछ और काम कीजिए अपना नथुनिया करने के लिए वहां पर बहुत कुछ किया जा सकता है

karna toh padega na id friend aapka sawaal hai kya hamari zindagi pahad me hi pitegi kya hum log iske liye company factory me kaam karne ke liye nahi hai kya school college kuch bhi nahi hai bilkul saari cheezen hain aap pahad me rehna chahte hain toh bahut achi baat hai pahad ko swarg bana hai kyonki pahad se dur karenge aapne dekha hoga ki saare dost jo bhi desh me pradesh me har jagah te bhatke bhatke ab ghar aa rahe hain jab vaah log vaah log wapas jaane waale thodi hai un logo agar vaah pahad nahi hota toh log videshon se wapas kyon aate dusri baar me kaam karna chahte hain bilkul kijiye aapki yogyata aapke paas honi chahiye aur main yahi kahunga ki aap main toh yahi kahunga chota mota kaam shuru kijiye apne pahad nahi aur karne ke liye bahut kuch kaam hai jaise silai machine ka kaam kijiye jaise aapko chota mota koi restaurant ko liye ya phir kuch aur kaam kijiye apna nathuniya karne ke liye wahan par bahut kuch kiya ja sakta hai

करना तो पड़ेगा ना आईडी फ्रेंड आपका सवाल है क्या हमारी जिंदगी पहाड़ में ही पीटेगी क्या हम ल

Romanized Version
Likes  142  Dislikes    views  1380
WhatsApp_icon
user

मनोज राम

सामाजिक कार्यकर्ता

3:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्ते मान्यवर हम लोग इस कठिन परिस्थिति में परेशानियों में फंसे हुए हैं तो इसका एक ही कारण है देश की व्यवस्थाएं सुव्यवस्थित नहीं है राजनीतिक पार्टियां वोट बैंक के लिए अपना कार्य करती है और हम लोग भी उस के चक्कर में पड़े रहते हैं एक आदर्श नागरिक होने का परिचय नहीं देते हैं जिस वजह से गरीबों मजदूरों का कल्याण कभी भी नहीं हो पाता है उन्हें हमेशा कष्ट में ही जीवन यापन करना पड़ता है इस कठिन परिस्थिति में विभिन्न कंपनियों के मालिक मालिक कौन है बरसों से काम रहे कर रहे मजदूरों को निकाल दिया उनको दिखा दिया जबकि उनका कर्तव्य था कि इस कठिन परिस्थिति में उन मजदूरों का साथ दें उनका हौसला बढ़ा है उनकी मदद करें जो बरसों से उनकी बालों को चमकाने में लगे हुए हैं उनकी उन्नति का हिस्सा बने हुए थे उन्होंने ऐसा नहीं किया उनको देख कर दिया अभी मई का महीना चल रहा है मई के महीने में मजदूर दिवस मनाया जाता है किस महीने में मजदूरों के बारे में घोषणा की जाती है उनकी सुख सुविधाओं के बारे में विचार किया जाता है किंतु इस मजदूर दिवस के महीने में ही मजदूरों की जो देनी अवस्थाओं के बारे में सुनने को मिल रहा है अब आवती दयनीय सोचनीय शर्मनाक है आज तक जितने भी सरकारी आए उन्होंने बैंक की राजनीति की गरीबी हटाओ मजदूरों की बारे में कितने में भाषण बाजी हुई धरी की धरी रह गई प्रीति जिंटा को छत पर हम लोग भी हैं हम लोग अपने अपने घर परिवार तक ही सिर्फ सीमित रहते हैं समाज के बारे में नहीं सोचते हैं देश के बारे में सोचने सोचते हैं हमें घर परिवार के साथ साथ समाज देश को भी अपना महत्वपूर्ण योगदान देना चाहिए ताकि हमारे देश की व्यवस्थाएं सुव्यवस्थित हो सके उनमें आम नागरिकों की मदद करने की क्षमता मनुष्य के इसके लिए प्रत्येक नागरिक को अपने अपने कर्तव्य का पालन करना होगा तभी हमारे देश की बीवी ने प्रणाली सुव्यवस्थित हो पाएगी अन्यथा किसी तरह लोगों को कष्ट झेलना पड़ेगा जब भी देश विभिन्न प्रकार के कठिन परिस्थितियों से गुजरेगा हमें इसी तरह की परेशानियां होगी इसलिए कृपा करके हालत नागिन बनी है और अपने अपने कर्तव्य का पालन कीजिए समाज देश को आगे ले जाने में महत्वपूर्ण योगदान दीजिए धन्यवाद जय हिंद

namaste manyavar hum log is kathin paristhiti me pareshaniyo me fanse hue hain toh iska ek hi karan hai desh ki vyavasthaen suvyavasthit nahi hai raajnitik partyian vote bank ke liye apna karya karti hai aur hum log bhi us ke chakkar me pade rehte hain ek adarsh nagarik hone ka parichay nahi dete hain jis wajah se garibon majduro ka kalyan kabhi bhi nahi ho pata hai unhe hamesha kasht me hi jeevan yaapan karna padta hai is kathin paristhiti me vibhinn companion ke malik malik kaun hai barson se kaam rahe kar rahe majduro ko nikaal diya unko dikha diya jabki unka kartavya tha ki is kathin paristhiti me un majduro ka saath de unka hausla badha hai unki madad kare jo barson se unki balon ko chamkane me lage hue hain unki unnati ka hissa bane hue the unhone aisa nahi kiya unko dekh kar diya abhi may ka mahina chal raha hai may ke mahine me majdur divas manaya jata hai kis mahine me majduro ke bare me ghoshana ki jaati hai unki sukh suvidhaon ke bare me vichar kiya jata hai kintu is majdur divas ke mahine me hi majduro ki jo deni avasthaon ke bare me sunne ko mil raha hai ab avati dayaniye sochniya sharmnaak hai aaj tak jitne bhi sarkari aaye unhone bank ki raajneeti ki garibi hatao majduro ki bare me kitne me bhashan baazi hui dharee ki dharee reh gayi preeti zinta ko chhat par hum log bhi hain hum log apne apne ghar parivar tak hi sirf simit rehte hain samaj ke bare me nahi sochte hain desh ke bare me sochne sochte hain hamein ghar parivar ke saath saath samaj desh ko bhi apna mahatvapurna yogdan dena chahiye taki hamare desh ki vyavasthaen suvyavasthit ho sake unmen aam nagriko ki madad karne ki kshamta manushya ke iske liye pratyek nagarik ko apne apne kartavya ka palan karna hoga tabhi hamare desh ki biwi ne pranali suvyavasthit ho payegi anyatha kisi tarah logo ko kasht jhelna padega jab bhi desh vibhinn prakar ke kathin paristhitiyon se gujarega hamein isi tarah ki pareshaniya hogi isliye kripa karke halat nagin bani hai aur apne apne kartavya ka palan kijiye samaj desh ko aage le jaane me mahatvapurna yogdan dijiye dhanyavad jai hind

नमस्ते मान्यवर हम लोग इस कठिन परिस्थिति में परेशानियों में फंसे हुए हैं तो इसका एक ही कारण

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  318
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!