क्या आप इस बात से सहमत हैं कि पिछले कुछ वर्षों से देश में जाति,धर्म ,गाय,देशभक्ति को लेकर देश का माहौल बिगड़ा है इसका क्या कारण है? इसका जिम्मेवार कौन है मॉब लिंचिंग क्यों बड़ी है?...


user

Sachin Bharadwaj

Faculty - Mathematics

1:25
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दी कि मैं इस बात से बिल्कुल एग्री करता हूं पिछले कुछ सालों में जातिगत हिंसा है धार में सांप्रदायिक हिंसा है इसके अलावा मॉब लिंचिंग की घटनाएं इनटॉलेरेंस की बात करूं तो यह सारी घटनाओं में वृद्धि हुई है और यह कह देना कि केवल केंद्र में भारतीय जनता पार्टी की सरकार आने से ऐसा हुआ है इस बात से मैं बिल्कुल सहमत नहीं हूं आप अगर दिखे कांग्रेस के शासनकाल कि कल बात क्यों 2014 से पहले उसमें भी इस प्रकार की घटनाएं हुई और सबसे बड़ा एग्जांपल अगर मैं देना चाहो तो मुजफ्फरनगर में जो सांप्रदायिक दंगे हुए थे उसका बहुत बड़ा एग्जाम पहले मैं यह कहना चाहता हूं कि जब भी किसी भी प्रकार की जातिगत हिंसा से सांप्रदायिक हिंसा होती है मुझे लगता है कि वहां के राज्य के शासन प्रशासन की जिम्मेदारी होती है अगर उसके बाद भी घटनाएं हो रही तो कहीं ना कहीं जो सरकार है वह कमजोर सरकार है और वह एक्शन ले नहीं पा रही है तो इस वजह से इस प्रकार की घटनाएं हो जाती है मुझे लगता है कि हर व्यक्ति को समाज में सौहार्दपूर्ण तरीके से रहना चाहिए लेकिन कुछ पॉलिटिकल व्यक्ति भी कुछ गैर जिम्मेदाराना व्यक्त भाषण देते हैं उसकी वजह से या कुछ गैर जिम्मेदाराना बात करते उसकी वजह से भी बहुत ज्यादा सांप्रदायिक घटनाएं होती हैं इसका जिम्मेदार मैं केवल वहां की प्रशासन को मानता हूं क्योंकि वह प्रशासन इस प्रकार की घटनाओं प्रशासन अगर उस को कंट्रोल नहीं कर सकता तो बिल्कुल शर्म वाली बात है और कहीं ना कहीं समाज को तोड़ने वाली बातें

di ki main is baat se bilkul agree karta hoon pichle kuch salon mein jaatigat hinsa hai dhar mein sampradayik hinsa hai iske alava mob lynching ki ghatnaye inatalerens ki baat karu toh yah saree ghatnaon mein vriddhi hui hai aur yah keh dena ki keval kendra mein bharatiya janta party ki sarkar aane se aisa hua hai is baat se main bilkul sahmat nahi hoon aap agar dikhe congress ke shasankal ki kal baat kyon 2014 se pehle usme bhi is prakar ki ghatnaye hui aur sabse bada example agar main dena chaho toh muzaffarnagar mein jo sampradayik dange hue the uska bahut bada exam pehle main yah kehna chahta hoon ki jab bhi kisi bhi prakar ki jaatigat hinsa se sampradayik hinsa hoti hai mujhe lagta hai ki wahan ke rajya ke shasan prashasan ki jimmedari hoti hai agar uske baad bhi ghatnaye ho rahi toh kahin na kahin jo sarkar hai vaah kamjor sarkar hai aur vaah action le nahi paa rahi hai toh is wajah se is prakar ki ghatnaye ho jaati hai mujhe lagta hai ki har vyakti ko samaj mein sauhardapurn tarike se rehna chahiye lekin kuch political vyakti bhi kuch gair jimmedarana vyakt bhashan dete hain uski wajah se ya kuch gair jimmedarana baat karte uski wajah se bhi bahut zyada sampradayik ghatnaye hoti hain iska zimmedar main keval wahan ki prashasan ko manata hoon kyonki vaah prashasan is prakar ki ghatnaon prashasan agar us ko control nahi kar sakta toh bilkul sharm wali baat hai aur kahin na kahin samaj ko todne wali batein

दी कि मैं इस बात से बिल्कुल एग्री करता हूं पिछले कुछ सालों में जातिगत हिंसा है धार में सां

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  182
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Bhaskar Saurabh

Politics Follower | Engineer

1:30
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैं इस बात से सौ फ़ीसदी सहमत हूं कि बीते कुछ वर्षों में हमारे देश में जाति धर्म गाय या फिर देश भक्ति से जुड़े हुए मामलों को लेकर जो माहौल बिगड़ा है उसके लिए केंद्र सरकार जिम्मेदार है और सभी लोगों को पता है कि भारतीय जनता पार्टी हिंदुत्व की राजनीति करती है और हमेशा से हिंदू धर्म के समर्थक रही है भारतीय जनता पार्टी को RSS का एक अंग भी कहा जा सकता है तो यह जो मोगली सिंह की घटनाएं हमारे देश में बढ़ रही हैं जिसमें कई लोगों की जान तक चली गई कई लोगों को बुरी तरीके से पीटा गया इन सबके लिए केंद्र सरकार ही जिम्मेदार है क्योंकि हमारे देश में माहौल ही कुछ ऐसा बन गया है जहां पर लोग एक दूसरे को मारने पर आमादा हो चुके हैं तो सरकार को कानून व्यवस्था सही तरीके से लागू करनी चाहिए तभी जाकर इस तरह की घटनाओं पर रोक लगाई जा सकेगी और देश में इस तरह का वातावरण बनाना चाहिए जहां पर सभी धर्म सभी जाति के लोग मिल जुलकर सौहार्द पूर्ण तरीके से जिंदगी जी सकें कभी भी दो धर्मों के बीच में लड़ाई नहीं लगवानी चाहिए या फिर उनके बीच में ऐसी स्थिति उत्पन्न नहीं करनी चाहिए जिससे दो धर्मों के बीच तनाव उत्पन्न हो इस तरह की घटना अगर हमारे देश में आगे भी होती रहेगी तो मॉब लीचिंग जैसी घटनाएं बिल्कुल नहीं रोक सकेंगे तो सरकार को गंभीरता दिखानी चाहिए और लोगों को भी अपने विवेक से काम लेना चाहिए कभी भी छोटी-छोटी बातों पर एक दूसरे से लड़ाई नहीं करनी चाहिए

main is baat se sau fisadi sahmat hoon ki bite kuch varshon mein hamare desh mein jati dharm gaay ya phir desh bhakti se jude hue mamlon ko lekar jo maahaul bigda hai uske liye kendra sarkar zimmedar hai aur sabhi logo ko pata hai ki bharatiya janta party hindutv ki raajneeti karti hai aur hamesha se hindu dharm ke samarthak rahi hai bharatiya janta party ko RSS ka ek ang bhi kaha ja sakta hai toh yah jo mowgli Singh ki ghatnaye hamare desh mein badh rahi hain jisme kai logo ki jaan tak chali gayi kai logo ko buri tarike se pita gaya in sabke liye kendra sarkar hi zimmedar hai kyonki hamare desh mein maahaul hi kuch aisa ban gaya hai jaha par log ek dusre ko maarne par amada ho chuke hain toh sarkar ko kanoon vyavastha sahi tarike se laagu karni chahiye tabhi jaakar is tarah ki ghatnaon par rok lagayi ja sakegi aur desh mein is tarah ka vatavaran banana chahiye jaha par sabhi dharm sabhi jati ke log mil julakar sauhaard purn tarike se zindagi ji sake kabhi bhi do dharmon ke beech mein ladai nahi lagvani chahiye ya phir unke beech mein aisi sthiti utpann nahi karni chahiye jisse do dharmon ke beech tanaav utpann ho is tarah ki ghatna agar hamare desh mein aage bhi hoti rahegi toh mob Leaching jaisi ghatnaye bilkul nahi rok sakenge toh sarkar ko gambhirta dikhaani chahiye aur logo ko bhi apne vivek se kaam lena chahiye kabhi bhi choti choti baaton par ek dusre se ladai nahi karni chahiye

मैं इस बात से सौ फ़ीसदी सहमत हूं कि बीते कुछ वर्षों में हमारे देश में जाति धर्म गाय या फिर

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  133
WhatsApp_icon
play
user

Rahul kumar

Junior Volunteer

0:56

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लेकिन मैं इस बात से पूरी तरह सहमत हूं पिछले कुछ वर्षों में देश में जाति-धर्म गाय देशभक्ति इसको ले कर सम्हल देश का जरूरत है इसके लिए जिम्मेवार कौन है मोदी जी क्यों बहुत बड़ी है इसके पीछे कौन सी गाड़ी है कि मुझे लगता है इसके पीछे एक ही धर्म के हिंदू मुस्लिम को अगर किसी को लगता है कि हमारा धर्म सबसे महान है क्योंकि उस महान महानता को और साबित करने की कोशिश की जाती है तू चीज है सबसे पहले आती है कि हमारा धर्म सबसे महान दूसरा का धर्म अच्छा नहीं है नीचे है दूसरे के धर्म को नीचा दिखाया जाता है तो इस तरह की भावना आपके मन में आती है और यह मॉब लीचिंग हो यह देश में ज्यादा स्त्री की चीजें हो इसके पीछे एक रीजन है

lekin main is baat se puri tarah sahmat hoon pichle kuch varshon mein desh mein jati dharm gaay deshbhakti isko le kar samhal desh ka zarurat hai iske liye jimmewar kaun hai modi ji kyon bahut badi hai iske peeche kaun si gaadi hai ki mujhe lagta hai iske peeche ek hi dharm ke hindu muslim ko agar kisi ko lagta hai ki hamara dharm sabse mahaan hai kyonki us mahaan mahanata ko aur saabit karne ki koshish ki jaati hai tu cheez hai sabse pehle aati hai ki hamara dharm sabse mahaan doosra ka dharm accha nahi hai niche hai dusre ke dharm ko nicha dikhaya jata hai toh is tarah ki bhavna aapke man mein aati hai aur yah mob Leaching ho yah desh mein zyada stree ki cheezen ho iske peeche ek reason hai

लेकिन मैं इस बात से पूरी तरह सहमत हूं पिछले कुछ वर्षों में देश में जाति-धर्म गाय देशभक्ति

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  154
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!