क्या बिना पैसों के चुनाव जीता जा सकता है?...


user

Anil Ramola

Yoga Instructor | Engineer

0:17
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आज की राजनीति में बिना पैसों के चुनाव जीता तो नामुमकिन है लेकिन आप की जनता में बैठे जनता का विश्वास है तो आप ही सकते हैं क्या

aaj ki raajneeti me bina paison ke chunav jita toh namumkin hai lekin aap ki janta me baithe janta ka vishwas hai toh aap hi sakte hain kya

आज की राजनीति में बिना पैसों के चुनाव जीता तो नामुमकिन है लेकिन आप की जनता में बैठे जनता क

Romanized Version
Likes  466  Dislikes    views  3904
WhatsApp_icon
25 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

S Bajpay

Yoga Expert | Beautician & Gharelu Nuskhe Expert

2:17
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है क्या बिना पैसों की चुनाव जीता जाता है यह प्रश्न आप आपने मुझसे 50 साल पहले की परिस्थितियों के बारे में पूछा होता तुम्हें यू सर जी ताकि हां बिना पैसों की तो नहीं लेकिन बहुत कम पैसों में चुनाव जीता जा सकता है क्योंकि आपसे 30 वर्ष पहले मैं एक sub-division एसडीएम तू वहां पर एक व्यक्ति ने फॉर्म भरा निर्दलीय तो मैंने लोगों से पता किया बड़ी सज्जन व्यक्ति थी मुझसे मिलती थी मुझे उनके बारे में ज्यादा नहीं मालूम था मैंने कहीं रुक दर्द भी तो पूछा क्यों बढ़ा देते हैं उन्होंने कहा कि सर यह तो दो बार कितने विधायक हैं यह 1960 में और 1965 दो बार चुनाव लड़ चुके हैं और जीत चुके दो बार के विधायक तनु से बातचीत की उन्होंने बताया कि सर मैंने तो बहुत बिजी थे वह भी वह साइकिल तो चुनाव चुप दो बार जीत चुके थे तो उनका एक्शन था बहुत भले आदमी थे बस जन्मतिथि कैसे सर मैंने तो चुनाव साइकिल पर चला है और हमारे इष्ट मित्र चुनाव लड़ तिथि और उनके हिसाब से उन्होंने बताया कि हमारा पूरा चुनाव डेट 2000 रुपये में हो गया था वह डेढ़ ₹2000 आज की परीक्षाएं जाए तो शायद 40 ₹50000 हो जाएगा उनका लेकिन इतने कम पैसे उन्होंने चुनाव है है एक चुनाव लड़ने के लिए कम से कम 20 25 प्रचार वाहन होने चाहिए गाड़ियां होनी चाहिए कार्यकर्ताओं की फौज होनी चाहिए तो आज के युग में बिना पैसे के पैसे की चुनाव लड़ने और प्रश्न बता दूं कि वह दो बार विधायक बने

aapka prashna hai kya bina paison ki chunav jita jata hai yah prashna aap aapne mujhse 50 saal pehle ki paristhitiyon ke bare me poocha hota tumhe you sir ji taki haan bina paison ki toh nahi lekin bahut kam paison me chunav jita ja sakta hai kyonki aapse 30 varsh pehle main ek sub division sdm tu wahan par ek vyakti ne form bhara nirdaliya toh maine logo se pata kiya badi sajjan vyakti thi mujhse milti thi mujhe unke bare me zyada nahi maloom tha maine kahin ruk dard bhi toh poocha kyon badha dete hain unhone kaha ki sir yah toh do baar kitne vidhayak hain yah 1960 me aur 1965 do baar chunav lad chuke hain aur jeet chuke do baar ke vidhayak tanu se batchit ki unhone bataya ki sir maine toh bahut busy the vaah bhi vaah cycle toh chunav chup do baar jeet chuke the toh unka action tha bahut bhale aadmi the bus janmtithi kaise sir maine toh chunav cycle par chala hai aur hamare isht mitra chunav lad tithi aur unke hisab se unhone bataya ki hamara pura chunav date 2000 rupaye me ho gaya tha vaah dedh Rs aaj ki parikshaen jaaye toh shayad 40 Rs ho jaega unka lekin itne kam paise unhone chunav hai hai ek chunav ladane ke liye kam se kam 20 25 prachar vaahan hone chahiye gadiyan honi chahiye karyakartaon ki fauj honi chahiye toh aaj ke yug me bina paise ke paise ki chunav ladane aur prashna bata doon ki vaah do baar vidhayak bane

आपका प्रश्न है क्या बिना पैसों की चुनाव जीता जाता है यह प्रश्न आप आपने मुझसे 50 साल पहले

Romanized Version
Likes  424  Dislikes    views  3549
WhatsApp_icon
user
Play

Likes  4  Dislikes    views  81
WhatsApp_icon
user
Play

Likes  125  Dislikes    views  2417
WhatsApp_icon
user

Vikas Singh

Political Analyst

3:42
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका सवाल है क्या बिना पैसों के चुनाव जीता जा सकता है लेकिन चुनाव में ना तो बहुत पैसा लगाया जाता है और ना तो बहुत कम पैसा लगाया जाता है अगर आप कैंडिडेट अच्छे हो आपके पास पैसा नहीं है तो जो पार्टी आप को टिकट देती है तो पार्टी आपको पैसा भी देती है चुनाव में प्रचार प्रसार के लिए और फिर आप चुनाव लड़ते हो और चुनाव में आपको जीत या हार में चुनाव में फंडिंग होती है गरीब लोग चुनाव लड़ते हैं विधायक की संसदीय का तो क्या वह बिना पैसे से चुनाव लड़कर जीत जाते हैं नहीं अच्छे अच्छे लोग फंडिंग करते हैं पार्टियां पैसा देती है तब जाकर चुनाव का प्रचार प्रसार होता है फिरोज चुनाव जीते हैं चुनाव में बहुत ज्यादा पैसा खर्चा करने से भी अगर पैसे के बल पर चुनाव जीतना होता तो टाटा अंबानी चुनाव लड़ते पूरे हिंदुस्तान में सारा चुनाव जीत जाते हैं लेकिन ऐसा नहीं है ना तो 2019 में लोकसभा का चुनाव हुआ तो उड़ीसा के गरीब था जो कि जमीनी स्तर के हैं जिन्होंने कभी भ्रष्टाचार नहीं किया वह बहुत ही साधारण जीवन जीते हैं साइकिल से चलते हैं उन्हें भारतीय जनता पार्टी ने पैसा भी दिया था और लोकसभा के चुनाव में उन्होंने अरबपति कैंडिडेट को हराया यानी उनकी गुडविल अच्छी है समाज में तो आपको अपना सामाजिक दायरा बढ़ाना होगा सामाजिक वर्चस्व बढ़ाना होगा समाज में अपने आप को अगर आप प्रस्तुत करोगे तो आपको अच्छे से प्रस्तुत करना होगा जब समाज आप को लाइक करने लगेगा तो आप बहुत कम पैसा खर्च करके भी चुनाव जीत सकते हो बस आप तो पार्टी टिकट देगी चुनाव लड़ जाओगे आप जीत जाओगे वह पुराना समय गया जब पैसे से चुनाव होता था हम यह नहीं कहते कि आज के डेट में पैसा खर्च नहीं हो रहा है लेकिन आज के डेट में जनता जागरूक हो गई है वह अच्छे कैंडिडेट को वोट देती है क्योंकि उसे पता है कि कैंडिडेट चुनाव जीतेगा तो अच्छा काम करेगा पूरी तरह से जनता जागरूक नहीं हुई है थोड़ा वक्त लगेगा लेकिन वह समय भी जब आ जाएगा जब एक गरीब कैंडिडेट बिना पैसा खर्च किए चुनाव जीत जाएगा उड़ीसा की जो लड़ेगी चुनाव कैबिनेट में मंत्री भी है वह रिक्शे से साइकिल से प्रचार प्रसार करवाए थे और जो उनके विपक्ष में कांग्रेस कैंडिडेट बीजेपी का सर वह स्कॉर्पियो फॉर्च्यूनर से उसका प्रचार होता था लेकिन वह हार गया तो कैंडिडेट में दम होना चाहिए अगर कैंडिडेट अच्छा है तो बहुत कम पैसा खर्च करके चुनाव जीत सकता है लेकिन थोड़ा बहुत पैसा खर्च करना पड़ता है चुनाव में ऐसा नहीं कि जीरो बैलेंस में आप चुनाव लड़ो चुनाव का अलग गुणा गणित होता है और जब आप कैंडिडेट घोषित किए जाओगे तो वह बात आपको पता चल जाएगी उस समय धन्यवाद

aapka sawaal hai kya bina paison ke chunav jita ja sakta hai lekin chunav me na toh bahut paisa lagaya jata hai aur na toh bahut kam paisa lagaya jata hai agar aap candidate acche ho aapke paas paisa nahi hai toh jo party aap ko ticket deti hai toh party aapko paisa bhi deti hai chunav me prachar prasaar ke liye aur phir aap chunav ladte ho aur chunav me aapko jeet ya haar me chunav me funding hoti hai garib log chunav ladte hain vidhayak ki sansadiya ka toh kya vaah bina paise se chunav ladkar jeet jaate hain nahi acche acche log funding karte hain partyian paisa deti hai tab jaakar chunav ka prachar prasaar hota hai firoz chunav jeete hain chunav me bahut zyada paisa kharcha karne se bhi agar paise ke bal par chunav jeetna hota toh tata ambani chunav ladte poore Hindustan me saara chunav jeet jaate hain lekin aisa nahi hai na toh 2019 me lok sabha ka chunav hua toh odisha ke garib tha jo ki zameeni sthar ke hain jinhone kabhi bhrashtachar nahi kiya vaah bahut hi sadhaaran jeevan jeete hain cycle se chalte hain unhe bharatiya janta party ne paisa bhi diya tha aur lok sabha ke chunav me unhone arabpati candidate ko haraya yani unki goodwill achi hai samaj me toh aapko apna samajik dayara badhana hoga samajik varchaswa badhana hoga samaj me apne aap ko agar aap prastut karoge toh aapko acche se prastut karna hoga jab samaj aap ko like karne lagega toh aap bahut kam paisa kharch karke bhi chunav jeet sakte ho bus aap toh party ticket degi chunav lad jaoge aap jeet jaoge vaah purana samay gaya jab paise se chunav hota tha hum yah nahi kehte ki aaj ke date me paisa kharch nahi ho raha hai lekin aaj ke date me janta jagruk ho gayi hai vaah acche candidate ko vote deti hai kyonki use pata hai ki candidate chunav jitega toh accha kaam karega puri tarah se janta jagruk nahi hui hai thoda waqt lagega lekin vaah samay bhi jab aa jaega jab ek garib candidate bina paisa kharch kiye chunav jeet jaega odisha ki jo ladegi chunav cabinet me mantri bhi hai vaah rikshe se cycle se prachar prasaar karwaye the aur jo unke vipaksh me congress candidate bjp ka sir vaah scorpio fortuner se uska prachar hota tha lekin vaah haar gaya toh candidate me dum hona chahiye agar candidate accha hai toh bahut kam paisa kharch karke chunav jeet sakta hai lekin thoda bahut paisa kharch karna padta hai chunav me aisa nahi ki zero balance me aap chunav lado chunav ka alag guna ganit hota hai aur jab aap candidate ghoshit kiye jaoge toh vaah baat aapko pata chal jayegi us samay dhanyavad

आपका सवाल है क्या बिना पैसों के चुनाव जीता जा सकता है लेकिन चुनाव में ना तो बहुत पैसा लगाय

Romanized Version
Likes  365  Dislikes    views  6434
WhatsApp_icon
user
Play

Likes  277  Dislikes    views  3044
WhatsApp_icon
user

N. Lal

Banking & Finance, Business Idea https://www.nutanprabhat.com

0:49
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दुनिया में हर काम संभव है आप पैसा ना लगा कर भी चुनाव जीत सकते हैं उसका एक सबसे अच्छा उदाहरण है अभी उड़ीसा के किसी मेंबर ऑफ पार्लियामेंट का नाम प्रताप सिंह सारंगी ऐसा कुछ नाम से हैं और कहां गई है वह बिल्कुल करीब है परंतु पूरी अपना संसदीय क्षेत्र है उसमें आप लोगों के पास जाता आता रहता है तो उससे उसने चुनाव जीते हैं उसी का ही एक उदाहरण और है जो जयपुर में पहले मेंबर ऑफ पार्लियामेंट से गिरधारी लाल भार्गव वह भी तेरी भी थे उनके पास तो कुछ ज्यादा पैसा नहीं था परंतु वह इस ताकि उनका जनता से जुड़ाव था जनता से अगर पढ़ा होता है तो क्यों पैसा गुजरती नहीं होती और आपको काम अच्छा होना चाहिए

duniya me har kaam sambhav hai aap paisa na laga kar bhi chunav jeet sakte hain uska ek sabse accha udaharan hai abhi odisha ke kisi member of parliament ka naam pratap Singh sarangi aisa kuch naam se hain aur kaha gayi hai vaah bilkul kareeb hai parantu puri apna sansadiya kshetra hai usme aap logo ke paas jata aata rehta hai toh usse usne chunav jeete hain usi ka hi ek udaharan aur hai jo jaipur me pehle member of parliament se girdhari laal bhargav vaah bhi teri bhi the unke paas toh kuch zyada paisa nahi tha parantu vaah is taki unka janta se judav tha janta se agar padha hota hai toh kyon paisa gujarati nahi hoti aur aapko kaam accha hona chahiye

दुनिया में हर काम संभव है आप पैसा ना लगा कर भी चुनाव जीत सकते हैं उसका एक सबसे अच्छा उदाहर

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  154
WhatsApp_icon
user

Shubham Saini

Software Engineer

0:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

चुनाव क्षेत्र में पैसा ही सब कुछ है ऐसा क्या हो गया और आज के बीच पैसों का यूज नहीं करते हैं और अपनी इमानदारी पर विश्वास चला के बल पर चुनाव जीतते हैं तो आप बिना पैसे के लिए चुनाव जीत सकते हो पर अपने क्षेत्र का लकी पहचान बनाओ

chunav kshetra me paisa hi sab kuch hai aisa kya ho gaya aur aaj ke beech paison ka use nahi karte hain aur apni imaandari par vishwas chala ke bal par chunav jitte hain toh aap bina paise ke liye chunav jeet sakte ho par apne kshetra ka lucky pehchaan banao

चुनाव क्षेत्र में पैसा ही सब कुछ है ऐसा क्या हो गया और आज के बीच पैसों का यूज नहीं करते है

Romanized Version
Likes  401  Dislikes    views  3965
WhatsApp_icon
user

Manish Singh

Engineer

3:32
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

डिफेंस मैं आपको बता दूं कि वर्तमान समय में आपको बिना पैसे की आप चुनाव नहीं जीत सकते क्योंकि जनता भी कुछ ऐसी होती है कि जिन को जो भी खड़ा था कैंडिडेट को पैसे का लालच देता है तो जनता उसकी तरफ वह छुट्टी देती है तो कहां हो या गली मोहल्ले जो भी हो तुम्हारा चुनाव ऐसा हो गया कि वहां पर अच्छी भी चिंता रहती लालची की रेती बिना लालची भी रहती है तो कहीं न कहीं जोएल जो लालची रहते हैं वह पैसे में बिक जाते हैं और वोट दे देते पैसे वाले को तो कहीं न कहीं पैसे की अहमियत इसकी वजह से जो है गरीब आदमी नहीं जीत सकता तो उसको अगर गरीब आदमी को जितना भी है तो उसको एक ऐसा काम करना पड़ेगा ताकि जनता का अट्रैक्शन उसकी तरफ बने रहे हैं और वह नजरों में छाए रहे जनता के और जनता उसकी तरफ आकर्षित रहे तो कुछ ऐसा ही यूनिक वर्क करना पड़ेगा ताकि वह चुनाव तक उसकी नजरों में बने रहे जनता की तो कहीं ना कहीं और यही है क्योंकि अगर जनता का सपोर्ट और उसकी जो बोलते नहीं चलता कि आम भूमिका होती है चुनाव के लिए अगर वह सही मायने में अगर काम करती है तो फिर आप चाहे गरीब हो चाहे अमीर आराम से आप जीत सकते हैं अब जैसे कि एक वाक्य हुआ है बीजेपी की जो सांसद हैं सारंगी करके उड़ीसा के हैं तो उनके पास सिर्फ साइकिल के अलावा उनके पास एक पैसा नहीं था मंदिर में पूजा करते थे अपना खाना पीना चीज मांगने के जिस से भी खाते थे लेकिन उनको लोगों का सपोर्ट इस कदर मिला उसके सामने जो कैंडिडेट खड़ा था चुनाव के लिए वह करोड़पति था अब सोचो करोड़पति को हराना एक मामूली बात नहीं है जबकि एक इंसान के पास कुछ भी नहीं है एक इंसान के पास करोड़ों रुपए और प्रॉपर्टी है ज्यादा दे बंगला गाड़ी सब कुछ है वह चाहे तो वह तो खरीद सकता है लेकिन कहते हैं ना कि जनता का सपोर्ट और कुछ भाग्य का सपोर्ट और कुछ उनका ऐसा काम इसकी वजह से वह सांसद बन गए बीजेपी के आपको अगर नहीं पता होगा तो आप न्यूज़ में भी देख लीजिए और किसी से पता नहीं करी तो आपको पता चलेगा कि हां उनको आदमी की स्थिति क्या थी स्टेटस क्या था किसी किस तरह से अपना गुजारा करता था तो बोल देना की सबसे बड़ी चीज है कि जनता का सपोर्ट और भाभी का होना जरूरी है तो उसके लिए यह नहीं कि भाग्य और जनता का सपोर्ट है तो आप कुछ मत करिए आपको भी ऐसा कुछ ऐसा काम करना होगा हर जगह पर लोग हर चीज में शामिल हुई हर चीज में ऐसा कुछ करिए ताकि आप लोगों की नजरों में बने रहे तो ऑटोमेटिक आपका भाग्य साथ देगा और हो सकता है जनता का सपोर्ट हो तो आप बड़ी से बड़ी करोड़पति अरबपति चाहे जो भी हो उस को हराने की क्षमता को रख सकते हैं तो यह चीज होता है लेकिन मैं आपको बता दूं कि प्रजेंट टाइम में बिना पैसे का कुछ नहीं हो सकता और अगर आपको करना है तो कुछ ऐसा काम बड़ा करना होगा ताकि आप बिना पैसे की योगी सकते हैं लेकिन उसके लिए आपको जनता का सपोर्ट होना जरूरी है बिना जनता को सपोर्ट कि चाहे आप गरीब हो या अमीर हो कोई नहीं सकता तुम्हें यही सजेस्ट करूंगा कि आप जो भी करिए सोच समझकर ही एक ऐसा कदम उठाए ताकि आपको आत्मविश्वास हो आपके अंदर एक बोलते स्टैमिना हो और एक नई उम्मीद के साथ अगर कुछ ऐसा करेंगे लोग के नजर में ऐसा बने रहेंगे तो आप बिना पैसे का आराम से जीत सकते हैं

defence main aapko bata doon ki vartaman samay me aapko bina paise ki aap chunav nahi jeet sakte kyonki janta bhi kuch aisi hoti hai ki jin ko jo bhi khada tha candidate ko paise ka lalach deta hai toh janta uski taraf vaah chhutti deti hai toh kaha ho ya gali mohalle jo bhi ho tumhara chunav aisa ho gaya ki wahan par achi bhi chinta rehti lalchi ki reti bina lalchi bhi rehti hai toh kahin na kahin joel jo lalchi rehte hain vaah paise me bik jaate hain aur vote de dete paise waale ko toh kahin na kahin paise ki ahamiyat iski wajah se jo hai garib aadmi nahi jeet sakta toh usko agar garib aadmi ko jitna bhi hai toh usko ek aisa kaam karna padega taki janta ka attraction uski taraf bane rahe hain aur vaah nazro me chay rahe janta ke aur janta uski taraf aakarshit rahe toh kuch aisa hi Unique work karna padega taki vaah chunav tak uski nazro me bane rahe janta ki toh kahin na kahin aur yahi hai kyonki agar janta ka support aur uski jo bolte nahi chalta ki aam bhumika hoti hai chunav ke liye agar vaah sahi maayne me agar kaam karti hai toh phir aap chahen garib ho chahen amir aaram se aap jeet sakte hain ab jaise ki ek vakya hua hai bjp ki jo saansad hain sarangi karke odisha ke hain toh unke paas sirf cycle ke alava unke paas ek paisa nahi tha mandir me puja karte the apna khana peena cheez mangne ke jis se bhi khate the lekin unko logo ka support is kadar mila uske saamne jo candidate khada tha chunav ke liye vaah crorepati tha ab socho crorepati ko harana ek mamuli baat nahi hai jabki ek insaan ke paas kuch bhi nahi hai ek insaan ke paas karodo rupaye aur property hai zyada de bangla gaadi sab kuch hai vaah chahen toh vaah toh kharid sakta hai lekin kehte hain na ki janta ka support aur kuch bhagya ka support aur kuch unka aisa kaam iski wajah se vaah saansad ban gaye bjp ke aapko agar nahi pata hoga toh aap news me bhi dekh lijiye aur kisi se pata nahi kari toh aapko pata chalega ki haan unko aadmi ki sthiti kya thi status kya tha kisi kis tarah se apna gujara karta tha toh bol dena ki sabse badi cheez hai ki janta ka support aur bhabhi ka hona zaroori hai toh uske liye yah nahi ki bhagya aur janta ka support hai toh aap kuch mat kariye aapko bhi aisa kuch aisa kaam karna hoga har jagah par log har cheez me shaamil hui har cheez me aisa kuch kariye taki aap logo ki nazro me bane rahe toh Automatic aapka bhagya saath dega aur ho sakta hai janta ka support ho toh aap badi se badi crorepati arabpati chahen jo bhi ho us ko harane ki kshamta ko rakh sakte hain toh yah cheez hota hai lekin main aapko bata doon ki present time me bina paise ka kuch nahi ho sakta aur agar aapko karna hai toh kuch aisa kaam bada karna hoga taki aap bina paise ki yogi sakte hain lekin uske liye aapko janta ka support hona zaroori hai bina janta ko support ki chahen aap garib ho ya amir ho koi nahi sakta tumhe yahi suggest karunga ki aap jo bhi kariye soch samajhkar hi ek aisa kadam uthye taki aapko aatmvishvaas ho aapke andar ek bolte stamina ho aur ek nayi ummid ke saath agar kuch aisa karenge log ke nazar me aisa bane rahenge toh aap bina paise ka aaram se jeet sakte hain

डिफेंस मैं आपको बता दूं कि वर्तमान समय में आपको बिना पैसे की आप चुनाव नहीं जीत सकते क्योंक

Romanized Version
Likes  36  Dislikes    views  517
WhatsApp_icon
user

DR OM PRAKASH SHARMA

Principal, Education Counselor, Best Experience in Professional and Vocational Education cum Training Skills and 25 years experience of Competitive Exams. 9212159179. dsopsharma@gmail.com

0:39
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्या बिना पैसे के चुनाव जीता जा सकता है हां आप जानेमन इंसान ने आपका व्यक्तित्व है आप की जनता पर छाप है अपने लोगों को सामाजिक नजरिए से कभी इज्जत दी है उनके कार्य से देखी है उन लोगों को आपने अपना अंगीकार माना है तो निश्चित रूप से बिना 11 से कभी आप चुनाव जीत सकते हैं क्योंकि जिसने जनता का दिल जीत लिया उसके लिए चुनाव जीतना कोई मुश्किल काम नहीं

kya bina paise ke chunav jita ja sakta hai haan aap jaaneman insaan ne aapka vyaktitva hai aap ki janta par chhaap hai apne logo ko samajik nazariye se kabhi izzat di hai unke karya se dekhi hai un logo ko aapne apna angikar mana hai toh nishchit roop se bina 11 se kabhi aap chunav jeet sakte hain kyonki jisne janta ka dil jeet liya uske liye chunav jeetna koi mushkil kaam nahi

क्या बिना पैसे के चुनाव जीता जा सकता है हां आप जानेमन इंसान ने आपका व्यक्तित्व है आप की ज

Romanized Version
Likes  463  Dislikes    views  6297
WhatsApp_icon
user

Ajay Sinh Pawar

Founder & M.D. Of Radiant Group Of Industries

0:47
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्या बिना पैसों के चुनाव जीता या बिना पैसों के चुनाव आज के युग में जितना मुश्किल क्योंकि चुनाव में जगह-जगह पर पैसा खर्च करना पड़ता है चुनाव प्रचार के दरमियान होल्डिंग पंपलेट छपवाने जो कार्य करने को कर देना यात्रा का खर्च प्रचार चुनाव प्रचार करने के लिए यह सब खर्च सभाएं करना का खर्च बहुत खर्चे होते हैं इसलिए बिना पैसों के चुनाव नहीं जीता जा सकता है धन्यवाद

kya bina paison ke chunav jita ya bina paison ke chunav aaj ke yug me jitna mushkil kyonki chunav me jagah jagah par paisa kharch karna padta hai chunav prachar ke darmiyaan holding pampalet chapvane jo karya karne ko kar dena yatra ka kharch prachar chunav prachar karne ke liye yah sab kharch sabhaen karna ka kharch bahut kharche hote hain isliye bina paison ke chunav nahi jita ja sakta hai dhanyavad

क्या बिना पैसों के चुनाव जीता या बिना पैसों के चुनाव आज के युग में जितना मुश्किल क्योंकि च

Romanized Version
Likes  288  Dislikes    views  3571
WhatsApp_icon
user

Rakesh Tiwari

Life Coach, Management Trainer

0:25
Play

Likes  358  Dislikes    views  3582
WhatsApp_icon
user

Ashok Bajpai

Rtd. Additional Collector P.C.S. Adhikari

0:41
Play

Likes  152  Dislikes    views  2737
WhatsApp_icon
user

abc

Study

1:05
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्या बिना पैसे के चुनाव जीता जा सकता है जी बिल्कुल जीता जा सकता है यह क्षेत्रीय जनता पर आपका प्रभाव यदि अच्छा है तो आप निसंदेह चुनाव जीत सकते हैं इसके लिए आप मृदुभाषी होना चाहिए दयालु प्रकृति के होने चाहिए और क्षेत्रीय जनता की प्रिय भी होने से ही आपको क्षेत्रीय जनता की मदद करनी चाहिए लोगों से अधिक मिलना चाहिए उनसे प्यार से बात करना चाहिए और उनके दुख दर्द में उनसे बात कीजिए तो आप पाएंगे कि जब आप चुनाव मैं जा रहे हैं तू भी आपका साथ अवश्य देंगे और वह प्रेम जो आंखों के पर्दे कहां के पर्दे है वह तो मैं भी हो सकता है

kya bina paise ke chunav jita ja sakta hai ji bilkul jita ja sakta hai yah kshetriya janta par aapka prabhav yadi accha hai toh aap nisandeh chunav jeet sakte hain iske liye aap mridubhashi hona chahiye dayalu prakriti ke hone chahiye aur kshetriya janta ki priya bhi hone se hi aapko kshetriya janta ki madad karni chahiye logo se adhik milna chahiye unse pyar se baat karna chahiye aur unke dukh dard me unse baat kijiye toh aap payenge ki jab aap chunav main ja rahe hain tu bhi aapka saath avashya denge aur vaah prem jo aakhon ke parde kaha ke parde hai vaah toh main bhi ho sakta hai

क्या बिना पैसे के चुनाव जीता जा सकता है जी बिल्कुल जीता जा सकता है यह क्षेत्रीय जनता पर आप

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  126
WhatsApp_icon
user

Pappi Singh

Finance Executive

1:15
Play

Likes  5  Dislikes    views  124
WhatsApp_icon
user
Play

Likes  7  Dislikes    views  128
WhatsApp_icon
user

Ashish Kalia

Business Owner

0:33
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी हां साथ में बिना पैसे के बीच चुनाव जीता जा सकता है अगर आपका काम करने का सुनील अच्छा है लोगों से मुलाकात है लोगों से व्यवहार अच्छा है और आपकी गांव में चलती हो या फिर आप के लोग शरारत हो तो आप सुनाओ जीत सकते हैं कि नहीं है कि लोगों को पैसा दिखा करके ही चुनाव जीता जाए अगर आप हार्ड वर्कर हैं चुनाव जीत सकते हैं लोगों से सुना है मिलन है आप का चुनाव जीत सकते हैं

ji haan saath me bina paise ke beech chunav jita ja sakta hai agar aapka kaam karne ka sunil accha hai logo se mulakat hai logo se vyavhar accha hai aur aapki gaon me chalti ho ya phir aap ke log shararat ho toh aap sunao jeet sakte hain ki nahi hai ki logo ko paisa dikha karke hi chunav jita jaaye agar aap hard worker hain chunav jeet sakte hain logo se suna hai milan hai aap ka chunav jeet sakte hain

जी हां साथ में बिना पैसे के बीच चुनाव जीता जा सकता है अगर आपका काम करने का सुनील अच्छा है

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  151
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां जी हेलो आपने पूछा क्या पैसों में चुनाव जीता जा सकता है तो मैं आपको पैसे अतुल भाई जो पैसे वाले होते हैं उनको पहचान बनने की चटनी आपको पहचान बनानी पड़ेगी 10 15 साल पहले से आप जो भी आपके पास ज्यादा उसकी हेल्प करोगे तो आपकी चाहे सी बात है वह भी वोट देगा तो आप ही चुनाव जीत भी सकते हो इसलिए भाई पहले पहचानो ना नींद नहीं के बाद आप आप हैं कि नफरत जीत हो गया 10 बार जीतोगे है तू कितनी बार जी तो मैं कह रही हूं थैंक यू

haan ji hello aapne poocha kya paison me chunav jita ja sakta hai toh main aapko paise atul bhai jo paise waale hote hain unko pehchaan banne ki chatni aapko pehchaan banani padegi 10 15 saal pehle se aap jo bhi aapke paas zyada uski help karoge toh aapki chahen si baat hai vaah bhi vote dega toh aap hi chunav jeet bhi sakte ho isliye bhai pehle pehchano na neend nahi ke baad aap aap hain ki nafrat jeet ho gaya 10 baar jitoge hai tu kitni baar ji toh main keh rahi hoon thank you

हां जी हेलो आपने पूछा क्या पैसों में चुनाव जीता जा सकता है तो मैं आपको पैसे अतुल भाई जो पै

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  26
WhatsApp_icon
user

Chocolate Boy Dev Beeda

BSTC D EL.ED STUDENT TEACHER

0:33
Play

Likes  9  Dislikes    views  121
WhatsApp_icon
user

guest_195F3रामफल

डायरेट सेलिंग

0:36
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए आप जो है समाज की रीढ़ है जब तलक आपके पास आज मेरे क़त्ल कुछ नहीं होगा किसी ने कहा भी हटा का धमाका यस नाटक का हार टकाटक बताएं हर जगह कोई काम असंभव है चुनाव में सरकार खुद जाऊंगा जमा करवा की जनता जमा किए आज चुनाव लड़ ही नहीं सकते

dekhiye aap jo hai samaj ki reedh hai jab talaq aapke paas aaj mere qatl kuch nahi hoga kisi ne kaha bhi hata ka dhamaaka Yes natak ka haar takatak bataye har jagah koi kaam asambhav hai chunav me sarkar khud jaunga jama karva ki janta jama kiye aaj chunav lad hi nahi sakte

देखिए आप जो है समाज की रीढ़ है जब तलक आपके पास आज मेरे क़त्ल कुछ नहीं होगा किसी ने कहा भी

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  252
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जहां तक मैं जानता हूं बिना पैसों के तो चुनाव जीतना नामुमकिन है क्योंकि जब तक आप अपने पैसों से अपना एडवर्टाइजमेंट नहीं करोगे सॉरी विज्ञापन नहीं करोगे तब तो लोगों को पता कैसे चलेगा कौन चुनाव में खड़ा है क्या है कैसा है तो पैसा खर्च करना तो बनता है यार जब तक तुम अगर तुम चुनाव में आ रहे हो तो पैसा तो खर्च करना एटलिस्ट पोस्टर छपवा हुए अपने दीवारों पर पैसे खर्च होंगे ना पैसा खर्च किया नहीं चुनाव जीत सकते भैया

jaha tak main jaanta hoon bina paison ke toh chunav jeetna namumkin hai kyonki jab tak aap apne paison se apna advertisement nahi karoge sorry vigyapan nahi karoge tab toh logo ko pata kaise chalega kaun chunav me khada hai kya hai kaisa hai toh paisa kharch karna toh banta hai yaar jab tak tum agar tum chunav me aa rahe ho toh paisa toh kharch karna etalist poster chapava hue apne deewaaron par paise kharch honge na paisa kharch kiya nahi chunav jeet sakte bhaiya

जहां तक मैं जानता हूं बिना पैसों के तो चुनाव जीतना नामुमकिन है क्योंकि जब तक आप अपने पैसो

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  95
WhatsApp_icon
user

Rajsi

Sports Commentator & Reporter

0:32
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इंडिया का मुझे नहीं पता लेकिन मैंने विदेशों में जरूर सुना ही मैंने एक बात किस्सा मशहूर है आइसलैंड की एक महल है उनका वह कॉमेडियन थे और उन्होंने बस यूं ही चाय कनेक्शन के लिए और चुप के कॉमेडी नया लोक ऑफर कर रहे थे फ़ंक्शंस क्यों जा मेनिफेस्टो कुछ बहुत ही नया था जो बिल्कुल ही उठता था तो लोगों ने उनको वोट दे दिया और वह मेहरबान के सिक्के तो यह मेरे सब मुझे पता नहीं था कि ऐसा कुछ भी हो सकता है बट मैंने विदेशों में तो यह सुना है

india ka mujhe nahi pata lekin maine videshon mein zaroor suna hi maine ek baat kissa mashoor hai iceland ki ek mahal hai unka vaah comedian the aur unhone bus yun hi chai connection ke liye aur chup ke comedy naya lok offer kar rahe the fankshans kyon ja Menifesto kuch bahut hi naya tha jo bilkul hi uthata tha toh logo ne unko vote de diya aur vaah meharabaan ke sikke toh yah mere sab mujhe pata nahi tha ki aisa kuch bhi ho sakta hai but maine videshon mein toh yah suna hai

इंडिया का मुझे नहीं पता लेकिन मैंने विदेशों में जरूर सुना ही मैंने एक बात किस्सा मशहूर है

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  128
WhatsApp_icon
play
user

Gunjan

Junior Volunteer

0:40

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जो किसी के लिए कोई क्वेश्चन नहीं किया बिना पैसे के चुनाव जीता जा सकता है कि नहीं तो मुझे नहीं लगता कि कि बिना पैसे के चुनाव जीता जा सकता है क्योंकि चुनाव करने के लिए अगर आपको और कुछ भी प्रमोशन करना है आपको पब्लिसिटी करनी है तो उसके लिए बहुत सारे आपको गाना चाहिए होते हैं या स्पीकर चाहिए होते तो वह बिना पैसों के यहां नहीं पाता है और उसके अलावा भी आपको बहुत सी चीज होती है जो कि उसके अंदर में लगानी पड़ती है जो के कार्यकर्ता होते उनको और नाश्ता पानी वगैरा सब कुछ कराना पड़ता तो बिना पैसा थोड़ा मिनिमम अमाउंट हो तो होना ही चाहिए कि उसको ब्रह्मास्त्र में लगा सके ताकि लोगों को ज्यादा से ज्यादा पता चल सके और आप की तो जितनी भी चाहते थे वह ज्यादा बढ़ सके

jo kisi ke liye koi question nahi kiya bina paise ke chunav jita ja sakta hai ki nahi toh mujhe nahi lagta ki ki bina paise ke chunav jita ja sakta hai kyonki chunav karne ke liye agar aapko aur kuch bhi promotion karna hai aapko publicity karni hai toh uske liye bahut saare aapko gaana chahiye hote hain ya speaker chahiye hote toh vaah bina paison ke yahan nahi pata hai aur uske alava bhi aapko bahut si cheez hoti hai jo ki uske andar mein lagani padti hai jo ke karyakarta hote unko aur nashta paani vagera sab kuch krana padta toh bina paisa thoda minimum amount ho toh hona hi chahiye ki usko Brahmastr mein laga sake taki logo ko zyada se zyada pata chal sake aur aap ki toh jitni bhi chahte the vaah zyada badh sake

जो किसी के लिए कोई क्वेश्चन नहीं किया बिना पैसे के चुनाव जीता जा सकता है कि नहीं तो मुझे न

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  162
WhatsApp_icon
user

Jyoti Mehta

Ex-History Teacher

1:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी हां बिल्कुल बिना पैसों के बीच चुनाव जीता जा सकता है अगर आपकी समाज में पहचान हो जहां से आप चुनाव लड़ना चाहते हैं वह लोग आपको जानते हो तो जरूर वह आप को वोट करेंगे जरूरी नहीं है कि आपको पैसा खर्च करना पड़ेगा और उसके लालच में ही आप को वोट मिलेंगे जब हम कॉलेज में पढ़ती थी तब ऐसा होता था कि जो लोग खड़े होते थे प्रेसिडेंट और के लिए वह काफी सारा पैसा खर्च करते थे लेकिन कुछ कैंडिडेट ऐसे भी होते जो पैसा खर्च नहीं करते थे और संस्कृति चुनाव इसलिए लड़ते थे ताकि कॉलेज के कार्यों को आगे बढ़ा सके जो कॉलेज में स्टूडेंट को समस्याएं हैं उनका निदान कर सके और वह वाकई में चाहते थे कि वह कॉलेज के लिए कार्य करें और मुझे लगता है कि काफी सारे स्टूडेंट ऐसे थे जो उन लोगों को पसंद जो पैसा खर्च नहीं करते थे और कॉलेज के लिए काम करना चाहते थे और कई बार ऐसे ही प्रेसिडेंट बनते थे कॉलेज में इसलिए मुझे लगता है कि अगर आपमें काबिलियत है और अगर आप देश के लिए समाज के लिए अपनी जहां आप रहते हैं अपने प्रदेश के लिए काम करना चाहते हैं तो जरूर जनता आपको वोट देगी बस जरूरी है आपका जनता को जानना अगर जनता को जानती है पहचानती है आपके बारे में जनता को पता है कि आप एक अच्छे व्यक्ति हैं और समाज के लिए कार्य करना चाहते हैं और आप एक ईमानदार व्यक्ति हैं और आगे जाकर सरकार में रहकर भी आप उस प्रदेश के लिए की जनता के लिए काम करेंगे वहां की समस्याओं को भूल जाएंगे तो बिल्कुल हंड्रेड परसेंट लोग आप को वोट देंगे उसके लिए आपको किसी भी तरह का कोई भी पैसा खर्च करने की जरूरत नहीं है

ji haan bilkul bina paison ke beech chunav jita ja sakta hai agar aapki samaj mein pehchaan ho jaha se aap chunav ladna chahte hai vaah log aapko jante ho toh zaroor vaah aap ko vote karenge zaroori nahi hai ki aapko paisa kharch karna padega aur uske lalach mein hi aap ko vote milenge jab hum college mein padhati thi tab aisa hota tha ki jo log khade hote the president aur ke liye vaah kaafi saara paisa kharch karte the lekin kuch candidate aise bhi hote jo paisa kharch nahi karte the aur sanskriti chunav isliye ladte the taki college ke karyo ko aage badha sake jo college mein student ko samasyaen hai unka nidan kar sake aur vaah vaakai mein chahte the ki vaah college ke liye karya kare aur mujhe lagta hai ki kaafi saare student aise the jo un logo ko pasand jo paisa kharch nahi karte the aur college ke liye kaam karna chahte the aur kai baar aise hi president bante the college mein isliye mujhe lagta hai ki agar apamen kabiliyat hai aur agar aap desh ke liye samaj ke liye apni jaha aap rehte hai apne pradesh ke liye kaam karna chahte hai toh zaroor janta aapko vote degi bus zaroori hai aapka janta ko janana agar janta ko jaanti hai pahachaanati hai aapke bare mein janta ko pata hai ki aap ek acche vyakti hai aur samaj ke liye karya karna chahte hai aur aap ek imaandaar vyakti hai aur aage jaakar sarkar mein rahkar bhi aap us pradesh ke liye ki janta ke liye kaam karenge wahan ki samasyaon ko bhool jaenge toh bilkul hundred percent log aap ko vote denge uske liye aapko kisi bhi tarah ka koi bhi paisa kharch karne ki zarurat nahi hai

जी हां बिल्कुल बिना पैसों के बीच चुनाव जीता जा सकता है अगर आपकी समाज में पहचान हो जहां से

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  166
WhatsApp_icon
user

Bhaskar Saurabh

Politics Follower | Engineer

1:13
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर आप चुनाव जीतना चाहते हैं तो इसके लिए पैसे से ज्यादा जरूरी यह है कि आपको लोग आपके निर्वाचन क्षेत्र में जाने पहचाने और आपको पसंद करें क्योंकि अगर लोग आपको पसंद करेंगे तो वह चुनाव के वक्त आप को वोट करेंगे जिससे आपकी चुनाव में जीत हो जाएगी तो कई बार हमने देखा है कि ऐसे लोग चुनाव जीते हैं जो काफी मध्यम परिवार से आते हैं या फिर समाज के निचले तबके से आए हुए रहते हैं चुनाव जीतने के लिए यह जरूरी नहीं कि आपके पास कितने पैसे हैं आप अमीर हैं या फिर गरीब बस यह बात इंपॉर्टेंट होती है कि आपको लोग कितना पसंद करते हैं और आपके निर्वाचन क्षेत्र में लोग आपसे कितनी उम्मीद लगाए बैठे हैं क्योंकि अगर लोगों को यह विश्वास है कि अगर आप चुनाव जीतेंगे तो उनका जो भी प्रॉब्लम है वह दूर करने का प्रयास करेंगे उनके लिए ऐसे काम करेंगे आप जिनसे उनका फायदा हो तो ऐसे व्यक्ति को लोग चुनाव में वोट करते हैं और उन्हें विजय बनाते हैं तो यही बात आप पर भी लागू होती है अगर आप लोगों के बीच अच्छी पहुंच रखते हैं लोग आपको पसंद करते हैं तो चाहे आप अमीर हो या फिर गरीब आप चुनाव जरूर जीत सकते हैं

agar aap chunav jeetna chahte hain toh iske liye paise se zyada zaroori yah hai ki aapko log aapke nirvachan kshetra mein jaane pehchane aur aapko pasand kare kyonki agar log aapko pasand karenge toh vaah chunav ke waqt aap ko vote karenge jisse aapki chunav mein jeet ho jayegi toh kai baar humne dekha hai ki aise log chunav jeete hain jo kaafi madhyam parivar se aate hain ya phir samaj ke nichle tabke se aaye hue rehte hain chunav jitne ke liye yah zaroori nahi ki aapke paas kitne paise hain aap amir hain ya phir garib bus yah baat important hoti hai ki aapko log kitna pasand karte hain aur aapke nirvachan kshetra mein log aapse kitni ummid lagaye baithe hain kyonki agar logo ko yah vishwas hai ki agar aap chunav jitenge toh unka jo bhi problem hai vaah dur karne ka prayas karenge unke liye aise kaam karenge aap jinse unka fayda ho toh aise vyakti ko log chunav mein vote karte hain aur unhe vijay banate hain toh yahi baat aap par bhi laagu hoti hai agar aap logo ke beech achi pohch rakhte hain log aapko pasand karte hain toh chahen aap amir ho ya phir garib aap chunav zaroor jeet sakte hain

अगर आप चुनाव जीतना चाहते हैं तो इसके लिए पैसे से ज्यादा जरूरी यह है कि आपको लोग आपके निर्व

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  171
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!