सरकारें मध्यम वर्ग के बारे में विचार क्यों नहीं करती है ,उन्हें अनदेखा क्यों करती हैं?...


play
user

Ajay Sinh Pawar

Founder & M.D. Of Radiant Group Of Industries

4:33

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सरकारी मध्यम वर्ग के बारे में विचार क्यों नहीं करती उन्हें अनदेखा क्यों करती होती क्योंकि हमारे भारत देश में गरीबी रेखा के नीचे रिपोर्ट के हिसाब से 25 से 30% गरीबी रेखा के नीचे अपना जीवन यापन 15 से 20 के ऊपर 15 20% उच्च मध्यम वर्ग इस तरह से अगर देखा जाए तो अमीर वर्ग 2 सुपर रिच फैमिली और पर ट्रैक्टर घराने से संबंधित है और वह 3 से 5% ने कहा जाता है कि 3% और 97% पीपल कोट पैंट सिर्फ देने वाला है तो 50 से सब्जी है गरीब वॉशिंग मशीन फोन कीबोर्ड इसके अलावा उच्च मध्यम वर्ग और उनको फंडिंग करता है मतलब चुनाव के लिए लड़ने के लिए उच्च मध्यम वर्ग की फंडिंग नहीं करता लेकिन सुपरहिट जो कम से कम 500 500 करोड़ की संपत्ति के मालिक हैं वह चुनाव की छलनी करते हैं उनका भी एक वजन होता है राजनीतिज्ञों के पास बीच में रह गया उसके लिए सोचने के लिए सरकार के पास कोई भी कारण नहीं लगता है कि वह चुनाव में कैसे असर करता हूं फिर वह अक्सर बुद्धिजीवी वर्ग को तेल और अपनी आय को इस तरह से मेहनत करते हैं बचत वही करते हैं तरफ से उसको पर सरकार का ध्यान कम जाता है सिर्फ उसको वह समझते हैं कि यह हमें कुछ देने वाले नहीं है सिर्फ वोट दे सकते हैं इसलिए उनके लाभ के लिए सरकार कंप्रेस सकती है उनके हिस्सा कम यह व्यक्ति लेकिन वर्तमान सरकार ने उनको एक बार मध्य मैच के लिए और नौकरी पेशा लोगों के लिए एक बार अवश्य ध्यान देना पड़ेगा क्योंकि सबसे बड़ा बस यही गरीबी रेखा के नीचे जो है वह तो उनको वोट बैंक है लेकिन उस वह भी सबसे बड़ी वोट बैंक किसी भी प्रकार की होती है यह अलग बात है कि सरकार ने उसको पर ध्यान नहीं देती बुद्धिजीवियों का इतना ज्यादा वह ध्यान नहीं रखती नौकरी पेशा लोगों का इतना ज्यादा ध्यान नहीं रख पाती लेकिन सवाल है कि सरकारी मध्य मध्य के बारे में विचार क्यों नहीं करती क्योंकि सिर्फ वोट देते हैं ना ही वह कोई संगठित क्षेत्र से असंगठित क्षेत्र में के स्वरों एकदम हिट सुपरहिट से मिली है तो एकदम गरीबों का दाता कम

sarkari madhyam varg ke BA re mein vichar kyon nahi karti unhe andekha kyon karti hoti kyonki hamare bharat desh mein garibi rekha ke niche report ke hisab se 25 se 30 garibi rekha ke niche apna jeevan yaapan 15 se 20 ke upar 15 20 ucch madhyam varg is tarah se agar dekha jaaye toh amir varg 2 super rich family aur par tractor gharane se sambandhit hai aur vaah 3 se 5 ne kaha jata hai ki 3 aur 97 pipal coat pant sirf dene vala hai toh 50 se sabzi hai garib washing machine phone keyboard iske alava ucch madhyam varg aur unko funding karta hai matlab chunav ke liye ladane ke liye ucch madhyam varg ki funding nahi karta lekin superhit jo kam se kam 500 500 crore ki sampatti ke malik hai vaah chunav ki chalani karte hai unka bhi ek wajan hota hai rajaneetigyon ke paas beech mein reh gaya uske liye sochne ke liye sarkar ke paas koi bhi karan nahi lagta hai ki vaah chunav mein kaise asar karta hoon phir vaah aksar buddhijeevi varg ko tel aur apni aay ko is tarah se mehnat karte hai BA chat wahi karte hai taraf se usko par sarkar ka dhyan kam jata hai sirf usko vaah samajhte hai ki yah hamein kuch dene waale nahi hai sirf vote de sakte hai isliye unke labh ke liye sarkar compress sakti hai unke hissa kam yah vyakti lekin vartaman sarkar ne unko ek BA ar madhya match ke liye aur naukri pesha logo ke liye ek BA ar avashya dhyan dena padega kyonki sabse BA da bus yahi garibi rekha ke niche jo hai vaah toh unko vote BA nk hai lekin us vaah bhi sabse BA di vote BA nk kisi bhi prakar ki hoti hai yah alag BA at hai ki sarkar ne usko par dhyan nahi deti buddhijiviyon ka itna zyada vaah dhyan nahi rakhti naukri pesha logo ka itna zyada dhyan nahi rakh pati lekin sawaal hai ki sarkari madhya madhya ke BA re mein vichar kyon nahi karti kyonki sirf vote dete hai na hi vaah koi sangathit kshetra se asangathit kshetra mein ke swaron ekdam hit superhit se mili hai toh ekdam garibon ka data kam

सरकारी मध्यम वर्ग के बारे में विचार क्यों नहीं करती उन्हें अनदेखा क्यों करती होती क्योंकि

Romanized Version
Likes  61  Dislikes    views  1200
KooApp_icon
WhatsApp_icon
11 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!