क्या बातें वाजपेयी जी ने बताया क्यों ज़रूरी था पोखरण परीक्षण के बारे में?...


play
user

Jyoti Mehta

Ex-History Teacher

1:60

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

डिस्को परमाणु शक्ति से संपन्न बनाने का कार्य जो वाजपेई जी ने किया था वह देश कभी भी भुला नहीं पायेगा मई 1998 में राजस्थान के पोखरण में तीन सफल परमाणु परीक्षणों के साथ ही भारत परमाणु शक्ति संपन्न देश बन गया था वाजपेई जी ने परमाणु परीक्षण जल्दी करना चाहते थे क्योंकि उसी समय पाकिस्तान ने गोरी मिसाइल का सफलतापूर्वक परीक्षण किया था और गजनबी परीक्षण प्रति वह कार्य कर रहा था उसके अलावा की पाकिस्तान की सांठगांठ के साथी अमेरिका जापान सहित कई पश्चिमी देश भारत पर सीटीबीटी पर साइन करने का दबाव डाल रहे थे इस अभियान को पूरी तरह से गुप्त रखा गया था और इसी नाम दिया गया था अटल जी इस परीक्षण का श्रेय पूर्व प्रधानमंत्री नरसिम्हा राव को देते हैं राव को श्रद्धांजलि देते समय अटल जी ने कहा था कि जब मैंने राव के बाद पीएम की कुर्सी संभाली तब बम तैयार था मैंने सिर्फ उसमें विस्फोट किया है राव के समय अमेरिका के दबाव के चलते परीक्षण नहीं कर पाए थे 13 दिन के लिए जब अटल जी PM बने तब उन्होंने परमाणु परीक्षण कार्यक्रम को हरी झंडी दिखा दी थी लेकिन जब उन्हें पता चला कि उनकी सरकार इससे नहीं है तो उन्होंने इस को रद्द कर दिया था अटल जी ने इस परीक्षण का श्रेय कई बार अपने भाषणों में एपीजे अब्दुल कलाम और चिदंबरम को भी दिया है अमेरिकी राष्ट्रपति क्लिंटन ने भारत पर कोई प्रतिबंध लगा दिए थे लेकिन उसके बावजूद देश में एक के बाद एक 5 परमाणु परीक्षण किए देश की परमाणु नीति आत्म नियंत्रण व खुलेपन की रही है यह परीक्षण हमारी राष्ट्रीय सुरक्षा की जरूरतों को ध्यान में रखकर उनकी पूर्ति के लिए की गई न्यूनतम व संतुलित कार्यवाही की और इसी के कारण अटल जी की पूरे विश्व में धमक रही

disco parmanu shakti se sampann banane ka karya jo vajpayee ji ne kiya tha vaah desh kabhi bhi bhula nahi payega may 1998 mein rajasthan ke pokharan mein teen safal parmanu parikshano ke saath hi bharat parmanu shakti sampann desh ban gaya tha vajpayee ji ne parmanu parikshan jaldi karna chahte the kyonki usi samay pakistan ne gori missile ka safaltaapurvak parikshan kiya tha aur gajanabi parikshan prati vaah karya kar raha tha uske alava ki pakistan ki santhaganth ke sathi america japan sahit kai pashchimi desh bharat par CTBT par sign karne ka dabaav daal rahe the is abhiyan ko puri tarah se gupt rakha gaya tha aur isi naam diya gaya tha atal ji is parikshan ka shrey purv pradhanmantri narsimha rav ko dete hain rav ko shraddhaanjali dete samay atal ji ne kaha tha ki jab maine rav ke baad pm ki kursi sambhali tab bomb taiyar tha maine sirf usme visphot kiya hai rav ke samay america ke dabaav ke chalte parikshan nahi kar paye the 13 din ke liye jab atal ji PM bane tab unhone parmanu parikshan karyakram ko hari jhandi dikha di thi lekin jab unhe pata chala ki unki sarkar isse nahi hai toh unhone is ko radd kar diya tha atal ji ne is parikshan ka shrey kai baar apne bhashano mein apj abdul kalam aur chidambaram ko bhi diya hai american rashtrapati clinton ne bharat par koi pratibandh laga diye the lekin uske bawajud desh mein ek ke baad ek 5 parmanu parikshan kiye desh ki parmanu niti aatm niyantran va khulepan ki rahi hai yah parikshan hamari rashtriya suraksha ki jaruraton ko dhyan mein rakhakar unki purti ke liye ki gayi ninuntam va santulit karyavahi ki aur isi ke karan atal ji ki poore vishwa mein dhamak rahi

डिस्को परमाणु शक्ति से संपन्न बनाने का कार्य जो वाजपेई जी ने किया था वह देश कभी भी भुला नह

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  153
KooApp_icon
WhatsApp_icon
2 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!