हमेशा उत्साहित कैसे रहे?...


user

Ravi Yadav

Psychologist

0:51
Play

Likes  103  Dislikes    views  649
WhatsApp_icon
13 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Umesh Upaadyay

Life Coach | Motivational Speaker

3:35
Play

Likes  707  Dislikes    views  6974
WhatsApp_icon
user

J.P. Y👌g i

Psychologist

6:52
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रशन है हमेशा उत्साहित कैसे रहे उत्साह हमेशा वीरे की प्रबलता में निहित रहता है और यह ब्रह्मचारी का स्वरूप होता है अगर उत्साहित सदैव रहना चाहते तो अपने दिल को अपने वश में करना सीखे पहली बात क्योंकि जो कोमलता होती है हमारी भावनात्मक भावता होती है अगर हम उसको नियंत्रण में रहेंगे और अपने आप में सुरक्षित भावना में अपनी उम्र मंगता के अंदर अपने नवीनतम भावना और तुम में भावनात्मक शैली में रत रहे तो और आपके अंदर ही है अपना नियंत्रण बना रहे तो आप सदैव स्वस्थ रहेंगे जिस दिन आप के दिन अपने से बाहर चला जाएगा उस दिन से उसका जो कारण है वह दूसरे पात्र में आ जाएगा यही जगत की बीमारी मोहित वही वही मोहिनी माया है यह अगर कहे तो चौकी क्षेत्र को भी मोहित करती है पर प्रतिभा है और आकर्षण करने की क्षमता रखती है और यही व्यवहार को ढालने के लिए प्रकृति की सबसे बड़ी जटिल माया है लेकिन सारी उमंग हर चीज हमारे अंदर ही नहीं रहती है बशर्ते यह कि हम इसे एक बच्चे की तरह संभाल के रखे सुमन को उसको प्यार करें और अपने अंदर ही आनंद लेते हो तो स्वयं स्वयं में जब तक बना रहेगा सब कुछ कारण तो आप का दौर अच्छा गुजरे हो जो ही आप अपने से हट कर के अगर कहीं विषाक्त अशक्त हो गए तो समझ लीजिए कि आपकी गुस्सा में राशिफल आएगा विश्व खेलो कूदो इंजॉय करो मौज मस्ती करो कोई दिक्कत नहीं हमेशा बढ़ेगा और प्रदर्शन में जाहिर होता रहेगा लेकिन जब आप अपने दिल को भगा भगा दिया अगर किसी चीज के प्रति मतलब आ सकता हो करके उसमें ही आप अपनी खुशियों को तलाशने लगे उसमें आशातीत होने लगे तो समझ लीजिए कि फिर आपका मामला आपसे दूर होता जा रहा है जो आपके हाथ में है जो आपके वर्ष के वशिष्ठ मन है वह आपके नियंत्रण में नहीं रहेगा और वह उसमें इतनी गुप्त रूप से आप आत्मसात कर लेगा उसमें निष्ठा बना लेगा कि बस सारी खुशियां उसी में ही और वह अपने क्षेत्र में अपना मन को अलग अपने हिसाब से ना चाहेगा और हम उस पर अधिकार समझते हैं तो ऐसे में आपकी जो अब गुस्सा है वह पात्र में भिन्न हो जाएगा तो यही है कि ज्ञान के दायरे में थोड़ा सा अंतर्मुखी होकर के उस परिसर को बनाना चाहिए जिसमें कि यह महसूस हो कि जो कारण हो रहा है वह मेरे अंतरण के रिसाव से उत्पन्न हो रहा है और मेरे में ही है तो जितना आप खुशहाल रहेंगे अपनी जो मौलिक आपकी स्वभाव एकता है वह चीज हमेशा ब्रिज कार में बढ़ती चली जाएगी मांगता के हिसाब से और जब उस पर अंकुश लगने लगेगा तो फिर उसका सर गलत होने लगता है तो मनुष्य अपनी प्रतिभा और अपने जोश की जो निरहुआ एक अलग चीज है तो हमेशा गुस्सा यही जरूरत होता है कि हम अपने नियंत्रण में सदैव रहे और अपने को समझ कर के अपने अंदर एक ऐसा टारगेट बनाएं जो सात्विकता को प्रबलता प्रदान करें और उसके लिए वही विषय लेना चाहिए जैसा ध्यान से संबंधित कोई बातें हो कुछ और आदर्श से शोध आए हो और कुछ भी आशिक करैक्टर के लोग हैं उसी के अनुरूप अपने आप को ढालने की कोशिश करें तो उस सांप का प्रवेश इस ग्रुप में बना रहेगा यह सारी चीज है कि आप अपने अंदर ही निबंधन रहेंगे तो हमेशा सदैव उत्साहित रहेंगे और दूसरी बात यह है कि जितना आभार निष्कपट ताके साइटलाइफ को जोड़ करके बनाकर रखेंगे तो भी हमें सुरक्षित तो मांगता रहेगी और दूसरी बात है कि निर्मलता से जीना एक कला है और बेहतरीन जीवन को देता है हर इंसान चाहता है कि जिसके भी वातावरण दायरे में रहे वहां पर वह वैसा सृजन करे जिससे किस हर इंसान का कस्टम लगता है और उसमें मरीबोर होता है और वह हर एक की चाहत बनती चली जाती है तो इस गुणों को ख्याल रखें और सचेत रहें जो आपका व्यक्तित्व स्वरूप आपको आनंद दे रहा है खुशहाली दे रहा है वह सब चीजों को शैलियों का हमेशा सहयोग करके रखना चाहिए यह आपके महत्वता पर आ जाता है कि आप अपने आपको ज्यादा महत्व दे रहे तो सदैव बरकरार रहेंगे अगर आप फिसल गए तो फिर जाए यही चीज है कि ज्ञान के दायरे में बढ़ता चला जाता है और इससे हमारा उर्दू विकास चरमोत्कर्ष पर पहुंचता है तो यही चीज है क्यों मंगता जो जीवन की शैली है किसी भी लक्ष प्राप्त करने की जो भी दिया है वह इसी का ही एक बहुत बड़ा गुण है और उसका एक सम्मान है तो यही हमें उस मंजिल तक पहुंचा देता है तो इसकी हमें कदर करनी चाहिए कि हमारी ऐसी भावना या आ रही है तो सबसे आगे मैं ही हूं और मैं उसको सुरक्षित भावनाओं से आगे उपयोग में ला सकूंगा तो यही चीज है कि जब तक नियंत्रण बना रहेगा और आपके अंदर आपका दिल और मन आदमी के अंदर है तो वह आपकी निज प्रॉपर्टी है और न ही संपदा है 19 प्रतिभा है इसका ख्याल रखते हुए और उसी की सुरक्षा की विधि में ही अपने जीवन को ज्ञापन ज्ञापन करने की कोशिश करना चाहिए मैं यही कहना चाहता हूं कि लाल धन्यवाद आपको शुभकामना देता हूं मैं जेपी योगी

prashn hai hamesha utsaahit kaise rahe utsaah hamesha veere ki prabalta me nihit rehta hai aur yah brahmachari ka swaroop hota hai agar utsaahit sadaiv rehna chahte toh apne dil ko apne vash me karna sikhe pehli baat kyonki jo komalta hoti hai hamari bhavnatmak hoti hai agar hum usko niyantran me rahenge aur apne aap me surakshit bhavna me apni umar mangata ke andar apne navintam bhavna aur tum me bhavnatmak shaili me rat rahe toh aur aapke andar hi hai apna niyantran bana rahe toh aap sadaiv swasth rahenge jis din aap ke din apne se bahar chala jaega us din se uska jo karan hai vaah dusre patra me aa jaega yahi jagat ki bimari mohit wahi wahi mahina maya hai yah agar kahe toh chowki kshetra ko bhi mohit karti hai par pratibha hai aur aakarshan karne ki kshamta rakhti hai aur yahi vyavhar ko dhalne ke liye prakriti ki sabse badi jatil maya hai lekin saari umang har cheez hamare andar hi nahi rehti hai basharte yah ki hum ise ek bacche ki tarah sambhaal ke rakhe suman ko usko pyar kare aur apne andar hi anand lete ho toh swayam swayam me jab tak bana rahega sab kuch karan toh aap ka daur accha gujare ho jo hi aap apne se hut kar ke agar kahin vishakt ashakt ho gaye toh samajh lijiye ki aapki gussa me rashifal aayega vishwa khelo kudo enjoy karo mauj masti karo koi dikkat nahi hamesha badhega aur pradarshan me jaahir hota rahega lekin jab aap apne dil ko bhaga bhaga diya agar kisi cheez ke prati matlab aa sakta ho karke usme hi aap apni khushiyon ko talashane lage usme ashatit hone lage toh samajh lijiye ki phir aapka maamla aapse dur hota ja raha hai jo aapke hath me hai jo aapke varsh ke vashistha man hai vaah aapke niyantran me nahi rahega aur vaah usme itni gupt roop se aap aatmsat kar lega usme nishtha bana lega ki bus saari khushiya usi me hi aur vaah apne kshetra me apna man ko alag apne hisab se na chahega aur hum us par adhikaar samajhte hain toh aise me aapki jo ab gussa hai vaah patra me bhinn ho jaega toh yahi hai ki gyaan ke daayre me thoda sa antarmukhi hokar ke us parisar ko banana chahiye jisme ki yah mehsus ho ki jo karan ho raha hai vaah mere antran ke rishav se utpann ho raha hai aur mere me hi hai toh jitna aap khushahal rahenge apni jo maulik aapki swabhav ekta hai vaah cheez hamesha bridge car me badhti chali jayegi mangta ke hisab se aur jab us par ankush lagne lagega toh phir uska sir galat hone lagta hai toh manushya apni pratibha aur apne josh ki jo nirahua ek alag cheez hai toh hamesha gussa yahi zarurat hota hai ki hum apne niyantran me sadaiv rahe aur apne ko samajh kar ke apne andar ek aisa target banaye jo satwikata ko prabalta pradan kare aur uske liye wahi vishay lena chahiye jaisa dhyan se sambandhit koi batein ho kuch aur adarsh se shodh aaye ho aur kuch bhi aashik character ke log hain usi ke anurup apne aap ko dhalne ki koshish kare toh us saap ka pravesh is group me bana rahega yah saari cheez hai ki aap apne andar hi nibandhan rahenge toh hamesha sadaiv utsaahit rahenge aur dusri baat yah hai ki jitna abhar nishkapat take saitalaif ko jod karke banakar rakhenge toh bhi hamein surakshit toh mangta rahegi aur dusri baat hai ki nirmalata se jeena ek kala hai aur behtareen jeevan ko deta hai har insaan chahta hai ki jiske bhi vatavaran daayre me rahe wahan par vaah waisa srijan kare jisse kis har insaan ka custom lagta hai aur usme maribor hota hai aur vaah har ek ki chahat banti chali jaati hai toh is gunon ko khayal rakhen aur sachet rahein jo aapka vyaktitva swaroop aapko anand de raha hai khushahali de raha hai vaah sab chijon ko shailiyon ka hamesha sahyog karke rakhna chahiye yah aapke mahatvata par aa jata hai ki aap apne aapko zyada mahatva de rahe toh sadaiv barkaraar rahenge agar aap fisal gaye toh phir jaaye yahi cheez hai ki gyaan ke daayre me badhta chala jata hai aur isse hamara urdu vikas charamotkarsh par pahuchta hai toh yahi cheez hai kyon mangata jo jeevan ki shaili hai kisi bhi lakshya prapt karne ki jo bhi diya hai vaah isi ka hi ek bahut bada gun hai aur uska ek sammaan hai toh yahi hamein us manjil tak pohcha deta hai toh iski hamein kadar karni chahiye ki hamari aisi bhavna ya aa rahi hai toh sabse aage main hi hoon aur main usko surakshit bhavnao se aage upyog me la sakunga toh yahi cheez hai ki jab tak niyantran bana rahega aur aapke andar aapka dil aur man aadmi ke andar hai toh vaah aapki neej property hai aur na hi sampada hai 19 pratibha hai iska khayal rakhte hue aur usi ki suraksha ki vidhi me hi apne jeevan ko gyapan gyapan karne ki koshish karna chahiye main yahi kehna chahta hoon ki laal dhanyavad aapko shubhkamna deta hoon main jp yogi

प्रशन है हमेशा उत्साहित कैसे रहे उत्साह हमेशा वीरे की प्रबलता में निहित रहता है और यह ब्रह

Romanized Version
Likes  461  Dislikes    views  7181
WhatsApp_icon
user

Trainer Yogi Yogendra

Motivational Speaker | Career Coach | Business Coach | Marketing & Management Expert's

0:44
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

योगेंद्र शर्मा मोटिवेशनल स्पीकर केरियर कौन-कौन के बारे में बात करने वाले से भरपूर रहना चाहते उत्साहित रहना चाहते हैं तो उसका एक ही तरीका है कि आपका जो भी टीम का जो आपको अभी स्टार्ट कर दे उसके बारे में सोचते हैं तो सोचने में अपना टाइम वेस्ट ना करें और उसमें पूरी ताकत और सफलता को

yogendra sharma Motivational speaker Career kaun kaun ke bare me baat karne waale se bharpur rehna chahte utsaahit rehna chahte hain toh uska ek hi tarika hai ki aapka jo bhi team ka jo aapko abhi start kar de uske bare me sochte hain toh sochne me apna time west na kare aur usme puri takat aur safalta ko

योगेंद्र शर्मा मोटिवेशनल स्पीकर केरियर कौन-कौन के बारे में बात करने वाले से भरपूर रहना चाह

Romanized Version
Likes  410  Dislikes    views  1851
WhatsApp_icon
user

गोपाल पांडेय

Journalist, Counselor, motivational speaker

0:53
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार दोस्तों मैं गोपाल पांडे और आज का क्वेश्चन है कि हमेशा उत्साहित कैसे रहे तो उसके लिए आपको मेडिटेशन करना पड़ेगा और अपने आप पर विश्वास करना पड़ेगा अगर आप खुश रहते हैं आप हैप्पी रहते हैं तो निसंदेह आपके साथ सब चीज होता है अगर दोनों के साथ आगे बढ़ेंगे और दुख को भी सुख में कन्वर्ट कर पाते हैं तो निश्चित तौर पर आप हर वक्त उत्साहित रहते हैं कहने का तात्पर्य है कि आप खुश रहें और लोगों में जो खुशी की कमी है उसे पूरा करते हुए लोगों को भी खुश रखें अगर याची जाप कर पाते हैं तो निश्चित तौर पर आप बड़े भाग्यशाली हो आपका दिन शुभ हो

namaskar doston main gopal pandey aur aaj ka question hai ki hamesha utsaahit kaise rahe toh uske liye aapko meditation karna padega aur apne aap par vishwas karna padega agar aap khush rehte hain aap happy rehte hain toh nisandeh aapke saath sab cheez hota hai agar dono ke saath aage badhenge aur dukh ko bhi sukh me convert kar paate hain toh nishchit taur par aap har waqt utsaahit rehte hain kehne ka tatparya hai ki aap khush rahein aur logo me jo khushi ki kami hai use pura karte hue logo ko bhi khush rakhen agar yachi jaap kar paate hain toh nishchit taur par aap bade bhagyashali ho aapka din shubha ho

नमस्कार दोस्तों मैं गोपाल पांडे और आज का क्वेश्चन है कि हमेशा उत्साहित कैसे रहे तो उसके लि

Romanized Version
Likes  130  Dislikes    views  1263
WhatsApp_icon
user
1:11
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका सवाल है कि मैं हमेशा उत्साहित करते रहे तो एक बताना चाहूंगा कि उस टाइम पर आने के लिए अपने आपको हमेशा तरोताजा रखें अपने माइंड को ऑन रखें मोटिवेशन वीडियो आते हैं गूगल पर सर्च करके या यूट्यूब पर मोटिवेशन आते हैं उसको देखें इस तरह से योगाभ्यास करें सुबह मॉर्निंग में योगा करें उसके बाद आप अपने खान-पान का ध्यान दें अच्छे लोगों के संपर्क में रहे नकारात्मक बातें तो माइंड में नहीं सोचा हमेशा सकारात्मक बातों का भला करें आपको किसी काम को करने के लिए आप कोई जॉब बिजनेस करने के लिए आपको यह टॉपिक बहुत ही फायदेमंद धन्यवाद

aapka sawaal hai ki main hamesha utsaahit karte rahe toh ek batana chahunga ki us time par aane ke liye apne aapko hamesha tarotaja rakhen apne mind ko on rakhen motivation video aate hain google par search karke ya youtube par motivation aate hain usko dekhen is tarah se yogabhayas kare subah morning me yoga kare uske baad aap apne khan pan ka dhyan de acche logo ke sampark me rahe nakaratmak batein toh mind me nahi socha hamesha sakaratmak baaton ka bhala kare aapko kisi kaam ko karne ke liye aap koi job business karne ke liye aapko yah topic bahut hi faydemand dhanyavad

आपका सवाल है कि मैं हमेशा उत्साहित करते रहे तो एक बताना चाहूंगा कि उस टाइम पर आने के लिए अ

Romanized Version
Likes  32  Dislikes    views  544
WhatsApp_icon
user

नत्थु लाल

महावास्तु परामर्श दाता, रेकी मास्टर, Hypnosis & NLP Practitioners

0:27
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आजकल की जिंदगी जीने में तो यह संभव नहीं है यह चीज को देखते हुए जो लोग हैं वह मेडिटेशन का सहारा लेते हैं ध्यान का योगा का सहारा लेते हैं तो वहां पर यह संभव है कि आप हमेशा अपने आप को उत्साहित रख सकते हैं अदर वाइज अगर आप नॉर्मल जिंदगी जीते हैं तो उसमें कभी खुशी कभी गम यह दोनों साथ साथ चलता है और इसमें आप कुछ नहीं कर सकते धन्यवाद

aajkal ki zindagi jeene me toh yah sambhav nahi hai yah cheez ko dekhte hue jo log hain vaah meditation ka sahara lete hain dhyan ka yoga ka sahara lete hain toh wahan par yah sambhav hai ki aap hamesha apne aap ko utsaahit rakh sakte hain other wise agar aap normal zindagi jeete hain toh usme kabhi khushi kabhi gum yah dono saath saath chalta hai aur isme aap kuch nahi kar sakte dhanyavad

आजकल की जिंदगी जीने में तो यह संभव नहीं है यह चीज को देखते हुए जो लोग हैं वह मेडिटेशन का स

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  145
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमेशा उत्साहित होने के लिए समाज में प्रेरणादायक कथाओं को पढ़ना चाहिए और प्रेरणादायक वीडियो को सुनना चाहिए जिससे हम सर्वदा उत्साहित रहें और अनेकों कोटेशन हमको सफल लोगों का जैसे एपीजे अब्दुल कलाम का स्वामी विवेकानंद का इन सब का हमेशा आत्मसात करना चाहिए इन की कुटेशन पर हमको हमेशा ध्यान देना चाहिए और अपने एलडीएल सर्वदा यह लिखकर रखनी चाहिए जैसे स्वामी दयानंद ने स्वामी विवेकानंद जी ने कहा है कि उठिए जागिए और तब तक मत बैठिए जब तक लक्ष्य को नहीं प्राप्त कर लेते इसी प्रकार कलाम साहब ने भी कहा है कि हम हमारा मानव स्वभाव होता है व्यक्ति के अंदर 200 को ही देखते हैं गुण हम देख नहीं पाते तो कहते हैं कि व्यक्ति वह व्यक्ति जो 200 को ही देखते हैं उस मक्खी के समान है जो पूरे सुंदर शरीर में केवल घाव को ही देखती है यह जीवन बहुत प्रेरणा देने वाले उत्साह कर देने वाले कोटेशन से जिनको हम यदि आत्मसात करते हैं तो हमारे जीवन में उत्साह उमंग भरता रहेगा और ईमानदारी से अपने कर्तव्य का निर्माण करना चाहिए उस सर्वदा हर रोज का आने वाले कल का टारगेट लेना चाहिए जिसको करने में अपनी एनर्जी को लगाना चाहिए इतना करने पर हमारे जीवन उत्साह से भर जाएगा और धन्यवाद

hamesha utsaahit hone ke liye samaj me preranadayak kathao ko padhna chahiye aur preranadayak video ko sunana chahiye jisse hum sarvada utsaahit rahein aur anekon quotation hamko safal logo ka jaise apj abdul kalam ka swami vivekananda ka in sab ka hamesha aatmsat karna chahiye in ki kuteshan par hamko hamesha dhyan dena chahiye aur apne LDL sarvada yah likhkar rakhni chahiye jaise swami dayanand ne swami vivekananda ji ne kaha hai ki uthiye jagiye aur tab tak mat baithiye jab tak lakshya ko nahi prapt kar lete isi prakar kalam saheb ne bhi kaha hai ki hum hamara manav swabhav hota hai vyakti ke andar 200 ko hi dekhte hain gun hum dekh nahi paate toh kehte hain ki vyakti vaah vyakti jo 200 ko hi dekhte hain us makkhi ke saman hai jo poore sundar sharir me keval ghaav ko hi dekhti hai yah jeevan bahut prerna dene waale utsaah kar dene waale quotation se jinako hum yadi aatmsat karte hain toh hamare jeevan me utsaah umang bharta rahega aur imaandaari se apne kartavya ka nirmaan karna chahiye us sarvada har roj ka aane waale kal ka target lena chahiye jisko karne me apni energy ko lagana chahiye itna karne par hamare jeevan utsaah se bhar jaega aur dhanyavad

हमेशा उत्साहित होने के लिए समाज में प्रेरणादायक कथाओं को पढ़ना चाहिए और प्रेरणादायक वीडियो

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  312
WhatsApp_icon
play
user

Dr.Harhar Shambhu Chaudhary

Electro Homiopathic Doctor,Journalism,Bloger,

0:47

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप अपने आप को उत्साहित अभी रख पाएंगे अब जब आप मन से प्रसन्न रहो अब मन से प्रसन्न तभी होंगे जब आप अपने हिसाब से काम करेंगे यदि आप किसी और जो अपने हैं तो आप अपने होगी के लिए कुछ समय निकालिए उस समय को अपने आप को दीजिए आप क्या चाहते हैं उस चाहत को दीजिए जब आपकी चाहत पूरी होगी तो आपका मन प्रसन्न रहेगा आपका मन प्रसन्न रहेगा उत्साहित रहेंगे

aap apne aap ko utsaahit abhi rakh payenge ab jab aap man se prasann raho ab man se prasann tabhi honge jab aap apne hisab se kaam karenge yadi aap kisi aur jo apne hain toh aap apne hogi ke liye kuch samay nikaliye us samay ko apne aap ko dijiye aap kya chahte hain us chahat ko dijiye jab aapki chahat puri hogi toh aapka man prasann rahega aapka man prasann rahega utsaahit rahenge

आप अपने आप को उत्साहित अभी रख पाएंगे अब जब आप मन से प्रसन्न रहो अब मन से प्रसन्न तभी होंगे

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  88
WhatsApp_icon
user

Kanta Jhanwar

Self Employed

0:44
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अमिताभ उत्साहित रहने के लिए तो देखिए अपने अंदर एक ऊर्जा लगानी पड़ती है कोई भी कार्य को करने के लिए स्टेटमेंट पैदा करना पड़ता है तो उसमें क्या होता है जैसे आपको कोई भी चीज में रुचि है तो आप उस कार्य को करने के लिए थोड़ा सा अंदर से एक का एक्साइटमेंट पैदा करिए क्या मुझे यह काम करना है तो आपको एक अंदर से खुशी मिलेगी तो आप फिर सोचेंगे कि मैं दूसरा काम करूं इसी तरह से आपके दिल में उत्साह पैदा होती

amitabh utsaahit rehne ke liye toh dekhiye apne andar ek urja lagani padti hai koi bhi karya ko karne ke liye statement paida karna padta hai toh usme kya hota hai jaise aapko koi bhi cheez me ruchi hai toh aap us karya ko karne ke liye thoda sa andar se ek ka exitement paida kariye kya mujhe yah kaam karna hai toh aapko ek andar se khushi milegi toh aap phir sochenge ki main doosra kaam karu isi tarah se aapke dil me utsaah paida hoti

अमिताभ उत्साहित रहने के लिए तो देखिए अपने अंदर एक ऊर्जा लगानी पड़ती है कोई भी कार्य को करन

Romanized Version
Likes  16  Dislikes    views  416
WhatsApp_icon
user
Play

Likes  20  Dislikes    views  241
WhatsApp_icon
user

प्रमोद

pramod ayurveda & motivational

2:32
Play

Likes  13  Dislikes    views  185
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए हम चाहते हैं कि आप हमेशा उत्साहित रहे उत्साहित रहने का अर्थ है आप खुश रहें मतलब आपके पास गंभीर है दोपहर तो भी आप खुश रहें इसका सीधा सा मतलब है कि आप जो अपने रोजमर्रा की जिंदगी शायरी उसमें अब सेंड आउट आते रहते हैं लेकिन आपको पॉजिटिव नोट पकड़ के चलना है चाय के साबित हो रहा है आपको यही सोचना है कि यह समय भी निकल जाएगा और अच्छा समय फिर से आएगा इसी सोच के साथ जब आप आगे बढ़ते रहेंगे तो आप जरूर सक्सेसफुल होंगे

dekhiye hum chahte hain ki aap hamesha utsaahit rahe utsaahit rehne ka arth hai aap khush rahein matlab aapke paas gambhir hai dopahar toh bhi aap khush rahein iska seedha sa matlab hai ki aap jo apne rozmarra ki zindagi shaayari usme ab send out aate rehte hain lekin aapko positive note pakad ke chalna hai chai ke saabit ho raha hai aapko yahi sochna hai ki yah samay bhi nikal jaega aur accha samay phir se aayega isi soch ke saath jab aap aage badhte rahenge toh aap zaroor successful honge

देखिए हम चाहते हैं कि आप हमेशा उत्साहित रहे उत्साहित रहने का अर्थ है आप खुश रहें मतलब आपके

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  84
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!