मैं मानसिक रूप से फिट कैसे रह सकता हूँ?...


user

Rekha Agarwal

Yoga Teacher

0:50
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो फ्रेंड्स आप का प्रश्न है मार्केट ऑफिस कैसे रह सकता है समझने के लिए आपको आराम करने से मन शांत होता है मानसिक तनाव खत्म हो जाते हैं रिलैक्स हो जाता है आप कौन कौन से प्राणायाम करने हैं यह मैं आपको बताती हूं आप अनुलोम-विलोम कर सकते हैं भस्त्रिका प्राणायाम कर सकते हैं और ब्राह्मणी प्राणायाम कर सकते हैं इन परिणामों को देखने के लिए आप हमारे यूट्यूब चैनल में जा सकते हैं जिसका लिंक इसमें दे रखा है योग गुरु अमित अग्रवाल ऋषि यों के नाम से सर्च कर सकते हैं धन्यवाद

hello friends aap ka prashna hai market office kaise reh sakta hai samjhne ke liye aapko aaram karne se man shaant hota hai mansik tanaav khatam ho jaate hain relax ho jata hai aap kaun kaun se pranayaam karne hain yah main aapko batati hoon aap anulom vilom kar sakte hain bhastrika pranayaam kar sakte hain aur brahmani pranayaam kar sakte hain in parinamon ko dekhne ke liye aap hamare youtube channel me ja sakte hain jiska link isme de rakha hai yog guru amit agrawal rishi yo ke naam se search kar sakte hain dhanyavad

हेलो फ्रेंड्स आप का प्रश्न है मार्केट ऑफिस कैसे रह सकता है समझने के लिए आपको आराम करने से

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  150
WhatsApp_icon
6 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
0:31
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर आप पूरी तरह मानसिक रूप से फिट होना चाहते हैं तो मैं आपको बता दूं आपको सुबह-सुबह एक्सरसाइज करनी चाहिए और अपनी सोच को पॉजिटिव सोच बनाना चाहिए आपको नकारात्मक सोच बिल्कुल नहीं रखना है अपने आप को हेल्दी और सकारात्मक सोच रखना है और लोगों के साथ अच्छा व्यवहार हंसी खुशी भरा जीवन व्यतीत करना है टाइम को आराम से पास करना है अगर आप मेहनत करते ही या पढ़ाई करती तू सो आराम से पढ़ाई कर

agar aap puri tarah mansik roop se fit hona chahte hain toh main aapko bata doon aapko subah subah exercise karni chahiye aur apni soch ko positive soch banana chahiye aapko nakaratmak soch bilkul nahi rakhna hai apne aap ko healthy aur sakaratmak soch rakhna hai aur logo ke saath accha vyavhar hansi khushi bhara jeevan vyatit karna hai time ko aaram se paas karna hai agar aap mehnat karte hi ya padhai karti tu so aaram se padhai kar

अगर आप पूरी तरह मानसिक रूप से फिट होना चाहते हैं तो मैं आपको बता दूं आपको सुबह-सुबह एक्सरस

Romanized Version
Likes  28  Dislikes    views  319
WhatsApp_icon
user

Yog Guru Amit Agrawal Rishiyog

Yoga Acupressure Expert

0:50
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मानसिक रूप से फिट कैसे रह सकता हूं लेकिन मानसिक रूप से फिट रहने के लिए आपको दिनचर्या में कुछ चीजें जरूर फॉलो करना चाहिए नंबर 1 आप समय से सोए समय से उठे सुबह उठकर कम से कम आधे घंटे की वॉक और आधे घंटे का योगाभ्यास जरूर करें योगाभ्यास योगासन प्राणायाम और ध्यान अगर आप आधे घंटे का भी अपने शेड्यूल में शामिल कर लेते हैं तो आप काफी हद तक बहुत से रोगों से बच भी सकते हैं और अपने आप को मेंटली फिट भी रख सकते हैं प्राणायाम और ध्यान आपके मन के विचारों पर नियंत्रण या तनाव को कम करने के लिए ही वर्क करता है आपके मानसिक स्तर पर इरिटेशन लेवल एंगल लेवल को कम करता है और हैप्पीनेस लेवल को बढ़ाता है हरि ओम

mansik roop se fit kaise reh sakta hoon lekin mansik roop se fit rehne ke liye aapko dincharya mein kuch cheezen zaroor follow karna chahiye number 1 aap samay se soye samay se uthe subah uthakar kam se kam aadhe ghante ki walk aur aadhe ghante ka yogabhayas zaroor kare yogabhayas yogasan pranayaam aur dhyan agar aap aadhe ghante ka bhi apne schedule mein shaamil kar lete hain toh aap kaafi had tak bahut se rogo se bach bhi sakte hain aur apne aap ko mentally fit bhi rakh sakte hain pranayaam aur dhyan aapke man ke vicharon par niyantran ya tanaav ko kam karne ke liye hi work karta hai aapke mansik sthar par irritation level Angle level ko kam karta hai aur Happiness level ko badhata hai hari om

मानसिक रूप से फिट कैसे रह सकता हूं लेकिन मानसिक रूप से फिट रहने के लिए आपको दिनचर्या में क

Romanized Version
Likes  431  Dislikes    views  3888
WhatsApp_icon
play
user

Nishant Suryavanahi

Health and Fitness Expert

0:41

Likes  92  Dislikes    views  497
WhatsApp_icon
user

Veer Sharma

Health and Fitness Expert

2:28
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मानसिक रूप से मेंटल होना पड़ेगा स्टेशन बगैरा में नहीं आओगे आपका माइंड कभी भी सीट नहीं रह सकता है ठीक है और माइंड ठीक रखने के लिए जरूरी नहीं है कि सिर्फ योग वगैरह ही करें आप खुद से अपने आप को भी क्लियर करो ठीक है ज्यादा निगेटिव ठीक है दिमाग को ना दिया करो ऑलवेज बी पॉजिटिव पैसा हम लोग दूसरों को कहते हैं ना ठीक पॉजिटिव सोचो पॉजिटिव तो हमको खुद पर भी अप्लाई करना चाहिए आप खुद सोच कर देखो ना कि आप किसी चीज के लिए सोचते हो कि नहीं होगा नहीं होगा तो नहीं होता है क्यों ऐसा होता है ठीक है हम लोग पहले अगर माइंड को यह इंफॉर्मेशन दे दे कि यह काम हम तो नहीं होगा तो वह बिल्कुल भी नहीं होगा क्योंकि फिर बॉडी को यह बता देता है ना कि यह करना हम लोग सक्षम नहीं है तो आप जब तक माइंड से प्रिपेयर नहीं होगे ना किसी भी चीज के लिए तब तक आप किसी भी काम को नहीं कर सकते हैं ठीक है किसी भी कार्य को करने के लिए सबसे पहले आपका शरीर आपके साथ साथ होना चाहिए और शरीर तभी साथ होगा आपका जब तक जब आपका माइंडसेट होगा जैसे कभी-कभी क्या होता है आपको हमारा जो बॉडी है वह बिल्कुल हमारे माइंड के इशारे पर चलता है जब साथ को देख लेते हो अचानक से भागने लगते हो जवाब कुत्ते को देख लेते हो सीखने क्यों लगते हो ऐसा क्यों होता है तो यह माइंड का खेल जो भी इंफॉर्मेशन है ना वह माइंड से निकलता है और अंत में चाहता है तो फिर वह ऑर्गन काम करना स्टार्ट करता है तो हमारा हर एक चीज माइंसकनेक्ट इस चीज को समझना होगा तो सबसे पहले तो नेगेटिविटी अपने माइंड से हटाओ सुबह सुबह योग करो मेडिटेशन थोड़ा करो बैठा करो बड़े बड़े लोग तो हैं उनका प्रवचन सुना करो यह आपके लिए बहुत फायदेमंद प्रवचन सुना करो अपने आपको जीवन जीने का तरीका अपना देखो सुधारो उसको यूट्यूब पर आते हैं असंग देव उनका कभी प्रवचन सुनो लाइफ आपका बहुत आसान हो जाएगा अगर आप सही मायने में जीना चाहते हो तो ठीक है चल

mansik roop se mental hona padega station bagaira mein nahi aaoge aapka mind kabhi bhi seat nahi reh sakta hai theek hai aur mind theek rakhne ke liye zaroori nahi hai ki sirf yog vagera hi kare aap khud se apne aap ko bhi clear karo theek hai zyada negative theek hai dimag ko na diya karo always be positive paisa hum log dusro ko kehte hai na theek positive socho positive toh hamko khud par bhi apply karna chahiye aap khud soch kar dekho na ki aap kisi cheez ke liye sochte ho ki nahi hoga nahi hoga toh nahi hota hai kyon aisa hota hai theek hai hum log pehle agar mind ko yah information de de ki yah kaam hum toh nahi hoga toh vaah bilkul bhi nahi hoga kyonki phir body ko yah bata deta hai na ki yah karna hum log saksham nahi hai toh aap jab tak mind se prepare nahi hoge na kisi bhi cheez ke liye tab tak aap kisi bhi kaam ko nahi kar sakte hai theek hai kisi bhi karya ko karne ke liye sabse pehle aapka sharir aapke saath saath hona chahiye aur sharir tabhi saath hoga aapka jab tak jab aapka mindset hoga jaise kabhi kabhi kya hota hai aapko hamara jo body hai vaah bilkul hamare mind ke ishare par chalta hai jab saath ko dekh lete ho achanak se bhagne lagte ho jawab kutte ko dekh lete ho sikhne kyon lagte ho aisa kyon hota hai toh yah mind ka khel jo bhi information hai na vaah mind se nikalta hai aur ant mein chahta hai toh phir vaah organ kaam karna start karta hai toh hamara har ek cheez mainsakanekt is cheez ko samajhna hoga toh sabse pehle toh negativity apne mind se hatao subah subah yog karo meditation thoda karo baitha karo bade bade log toh hai unka pravachan suna karo yah aapke liye bahut faydemand pravachan suna karo apne aapko jeevan jeene ka tarika apna dekho sudharo usko youtube par aate hai asang dev unka kabhi pravachan suno life aapka bahut aasaan ho jaega agar aap sahi maayne mein jeena chahte ho toh theek hai chal

मानसिक रूप से मेंटल होना पड़ेगा स्टेशन बगैरा में नहीं आओगे आपका माइंड कभी भी सीट नहीं रह स

Romanized Version
Likes  45  Dislikes    views  585
WhatsApp_icon
play
user

Rahul kumar

Junior Volunteer

0:23

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपको मानसिक रूप से फिट रहना है सबसे पहले तो खुश रहेगा खुशी नहीं उस नहीं रह पाएंगे मानसिक रूप से फिट नहीं रह पाएंगे अगर आपको लगता है कि इसको अपनी चोट पहुंचा है तो मुझे लगता है आपको दिल से दिल होता तो जा तुझे दिल से माफी मांगे चलो वह लोग जब मान जाएंगे जो सही सही तरीके से करते हैं अपनी लाइफ को सही तरीके से पहचानते हैं तो जरूर आप खुश रहेंगे

aapko mansik roop se fit rehna hai sabse pehle toh khush rahega khushi nahi us nahi reh payenge mansik roop se fit nahi reh payenge agar aapko lagta hai ki isko apni chot pohcha hai toh mujhe lagta hai aapko dil se dil hota toh ja tujhe dil se maafi mange chalo vaah log jab maan jaenge jo sahi sahi tarike se karte hain apni life ko sahi tarike se pehchante hain toh zaroor aap khush rahenge

आपको मानसिक रूप से फिट रहना है सबसे पहले तो खुश रहेगा खुशी नहीं उस नहीं रह पाएंगे मानसिक र

Romanized Version
Likes  20  Dislikes    views  445
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!