अपना करियर कैसे बना सकते है?...


play
user

Umesh Upaadyay

Life Coach | Motivational Speaker

2:28

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

200 कैरियर बनाने की प्रक्रिया तो जब हम कॉलेज में होते हैं स्कूल में होते हैं तब से ही शुरू हो जाती है वह हमें पता नहीं लगता है हम उस तरीके से देखते नहीं है लेकिन यह बहुत पहले शुरू हो जाती है अब जब आप क्लास 8 9 में जाते रहते हैं तो आपको एक आईडिया लग जाता है कि आपका किस सब्जेक्ट के प्रति रुझान है आप स्क्रीम लेते हैं आप फिर इलेवंथ ट्वेल्थ हिस्ट्री में करते हैं उसके बाद आप कॉलेज का चुनाव कहते हैं ऐडमिशन होते हैं आपका उसी स्ट्रीम में या फिर आप उस से मिलता जुलता कोई और ले लेते क्योंकि अगर आपको एडमिशन नहीं होता तो आप दूसरा और कॉलेज तू सिस्टीम जूस कहते हैं कट ऑफ लिस्ट भी होते हैं बहुत सारी चीजें होती हैं ऐसा भी होता है कि भाई आप किसी और एग्जाम को केयर करना चाहते हैं और उसके थ्रू किसी और सर्विसेज में जाते हैं चाहे वह यूपीएससी का हो ऐसे सिखाओ जो भी कुछ हो आप उस लाइन को चूस कर सकते हैं तो मेरा कहने के बाद इसकी शुरुआत तो बहुत पहले हो जाती है और इसकी शुरुआत तब नहीं होती जब आप ने पूरी पढ़ाई कंप्लीट कर ली फिर आप कार्य के बारे में सोचना ही नहीं आपने एक तरीके से शुरुआत कर लिया अच्छा यह आप बाद में कर चुके हैं जैसे मान लीजिए आप ने एमबीए कर लिया और स्पेशलाइजेशन इन मार्केटिंग ले ली उसके बाद आप यह सोच सकते हैं कि भाई आप तो मुझे इस कंपनी में जाना है एचआर में या मार्केटिंग में वह आप चुनाव बाद में कर सकते हैं वह दूसरी चीज है वह सेकेंडरी है लेकिन आप किस तरीके से अपने को ले जाते हैं यह बहुत पहले से प्रक्रिया शुरू हो जाती है अच्छा जब आप की पढ़ाई पूरी हो जाती है तो उसके बाद आपको यह देखना होता है कि मुझे कौन से आर्गेनाइजेशन के से इंडस्ट्री में जाना चाहिए तो वह भी ब्रॉडली बड़ा फिक्स होता है डिपेंड करता है कि आपने क्या पढ़ाई की है और आप अगर पहली जॉब देखते हैं तो आपके ऑप्शन से उसी हिसाब से होते हैं और आप उन्हीं 2452 भी सेक्टर इंडस्ट्री आपको मिलती है आप उसी में जा सकते हैं उसी के लिए आप तो आपकी पढ़ाई रेलीवेंट होती हैं तो इस तरीके से आप अपने करियर के बारे में सोचते हैं जाते हैं आप लाइक करते हैं वहां काम करते हैं जब आपने कोई जवाब है ले लिया होता है तो उसके अंदर आप देखें कि मेरा प्रोग्रेशन प्रोमोशन कैसे हो सकता है मेरी पदोन्नति कैसे होगी या फिर उस आर्गेनाइजेशन में ही मैं चाहूं तो कोई और वर्टिकल कोई और पारुल अली सकता हूं डिपेंडिंग अपऑन मेरा चॉइस और वहां पर अवेलेबिलिटी है या नहीं है एकदम में जॉब पोस्टिंग होती है वगैरह वगैरह चीज होती है तो आपको वह सब मिल सकता है और ऐसे करके आपका ब्रॉडली स्पीकिंग कर यार आगे बढ़ता है

200 carrier banane ki prakriya toh jab hum college mein hote hai school mein hote hai tab se hi shuru ho jati hai wah humein pata nahi lagta hai hum us tarike se dekhte nahi hai lekin yeh bahut pehle shuru ho jati hai ab jab aap class 8 9 mein jaate rehte hai toh aapko ek idea lag jata hai ki aapka kis subject ke prati rujhan hai aap scream lete hai aap phir eleventh twelfth history mein karte hai uske baad aap college ka chunav kehte hai admission hote hai aapka usi stream mein ya phir aap us se milta julataa koi aur le lete kyonki agar aapko admission nahi hota toh aap doosra aur college tu sistim juice kehte hai cut of list bhi hote hai bahut saree cheezen hoti hai aisa bhi hota hai ki bhai aap kisi aur exam ko care karna chahte hai aur uske through kisi aur services mein jaate hai chahe wah upsc ka ho aise sikhao jo bhi kuch ho aap us line ko chus kar sakte hai toh mera kehne ke baad iski shuruat toh bahut pehle ho jati hai aur iski shuruat tab nahi hoti jab aap ne puri padhai complete kar li phir aap karya ke bare mein sochna hi nahi aapne ek tarike se shuruat kar liya accha yeh aap baad mein kar chuke hai jaise maan lijiye aap ne mba kar liya aur specialisation in marketing le li uske baad aap yeh soch sakte hai ki bhai aap toh mujhe is company mein jana hai hr mein ya marketing mein wah aap chunav baad mein kar sakte hai wah dusri cheez hai wah secondary hai lekin aap kis tarike se apne ko le jaate hai yeh bahut pehle se prakriya shuru ho jati hai accha jab aap ki padhai puri ho jati hai toh uske baad aapko yeh dekhna hota hai ki mujhe kaunsi organisation ke se industry mein jana chahiye toh wah bhi bradley bada fix hota hai depend karta hai ki aapne kya padhai ki hai aur aap agar pehli job dekhte hai toh aapke option se usi hisab se hote hai aur aap unhi 2452 bhi sector industry aapko milti hai aap usi mein ja sakte hai usi ke liye aap toh aapki padhai relivent hoti hai toh is tarike se aap apne career ke bare mein sochte hai jaate hai aap like karte hai wahan kaam karte hai jab aapne koi jawab hai le liya hota hai toh uske andar aap dekhen ki mera Progression promotion kaise ho sakta hai meri padonnati kaise hogi ya phir us organisation mein hi main chahu toh koi aur vertical koi aur parul ali sakta hoon depending upon mera choice aur wahan par avelebiliti hai ya nahi hai ekdam mein job posting hoti hai vagera vagairah cheez hoti hai toh aapko wah sab mil sakta hai aur aise karke aapka bradley speaking kar yaar aage badhta hai

200 कैरियर बनाने की प्रक्रिया तो जब हम कॉलेज में होते हैं स्कूल में होते हैं तब से ही शुरू

Romanized Version
Likes  124  Dislikes    views  1525
KooApp_icon
WhatsApp_icon
6 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!