एक स्कूल में नर्सरी से लेकर पीएचडी तक की कक्षा क्यों नहीं होती?...


user

Swati

सुनो ..सुनाओ..सीखो!

0:53
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए स्कूल में नर्सरी से लेकर पीएससी तक का ऑप्शन नहीं हो सकती क्योंकि स्कूल का इंवॉल्वमेंट अलग होता है और कॉलेज कन्वेंट अलग होता है आप स्कूल में है तो आपके ऊपर बहुत आदर रेगुलेशंस और रूल्स होते हैं आप को भी फॉलो करना होता है क्योंकि आप तक बच्चे होते हैं आप का ग्रूमिंग पीरियड होता है आप सब सीख रहे होते हैं उस टाइम पर जिंदगी के बारे में भी आप बहुत बचपन होता इनोसेंस होती है तो उस टाइम रूल्स रेगुलेशन इंपॉर्टेंट होते हैं कॉलेज में आने के बाद जवाब ग्रेजुएशन के लिए आते तो बाप को क्रिएटिविटी की जरूरत होती है जरूरत होती है कि आप अपने दिमाग से कुछ कम रोशन इंग्लिश हटा दी जाती है और ऐसा पॉसिबल नहीं है स्कूल में रहकर की कुछ बच्चों के लिए कैसा है मेड और कुछ के लिए कैसे स्कूल में सब्सिडी होता है तो इसीलिए यह चीज पॉसिबल नहीं है प्रैक्टिकल इसीलिए कॉलेज और स्कूल को अलग अलग रखा गया है

dekhiye school mein nursery se lekar PSC tak ka option nahi ho sakti kyonki school ka invalwament alag hota hai aur college kanwent alag hota hai aap school mein hai toh aapke upar bahut aadar reguleshans aur rules hote hain aap ko bhi follow karna hota hai kyonki aap tak bacche hote hain aap ka grooming period hota hai aap sab seekh rahe hote hain us time par zindagi ke bare mein bhi aap bahut bachpan hota inosens hoti hai toh us time rules regulation important hote hain college mein aane ke baad jawab graduation ke liye aate toh baap ko creativity ki zarurat hoti hai zarurat hoti hai ki aap apne dimag se kuch kam roshan english hata di jaati hai aur aisa possible nahi hai school mein rahkar ki kuch baccho ke liye kaisa hai made aur kuch ke liye kaise school mein subsidy hota hai toh isliye yah cheez possible nahi hai practical isliye college aur school ko alag alag rakha gaya hai

देखिए स्कूल में नर्सरी से लेकर पीएससी तक का ऑप्शन नहीं हो सकती क्योंकि स्कूल का इंवॉल्वमें

Romanized Version
Likes  21  Dislikes    views  203
KooApp_icon
WhatsApp_icon
6 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!