आप अपनी कक्षा के बच्चो को स्कूल के पहले दिन के लिए कैसे तैयार करेंगे?...


user

Usha Batra

Beauty Therapist

0:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

स्कूल के पहले दिन के लिए बच्चों को बहुत अच्छे से लगते करने के लिए टीचर का बहुत बड़ा रोल होता है कि जैसे ही पहले दिन बच्चे कक्षा केंद्र में किस तरीके से वेलकम किया जाए कि बृजलाल बच्चे में ऐसा नहीं दो चार बच्चों को छू लिया जाए लेकिन डीजल बच्चे भी ध्यान देना चाहिए इस बच्चे को कैसा माहौल लेट करके क्लास कर देना चाहिए कि उसका घर से भी ज्यादा मन जो है स्कूल के अंदर लगे क्लास के अंदर लगे उस टीचर को पढ़ाने वाले सब्जेक्ट के अंदर लगे थोड़ी देर के लिए हम को इतना मोटिवेट करके इस तरीके से उनको बढ़ाना चाहिए मैं यह इस मामले में नहीं हूं कि 40 मिनट से भी लड़ना अब लगा 3:30 मिनट्स बढ़ाइए बटे कैसा माहौल क्लियर कीजिए कि हर बच्चा उसको हंसते-हंसते पहले सीरियस होकर काम को करें

school ke pehle din ke liye baccho ko bahut acche se lagte karne ke liye teacher ka bahut bada roll hota hai ki jaise hi pehle din bacche kaksha kendra me kis tarike se welcome kiya jaaye ki brijlal bacche me aisa nahi do char baccho ko chu liya jaaye lekin diesel bacche bhi dhyan dena chahiye is bacche ko kaisa maahaul late karke class kar dena chahiye ki uska ghar se bhi zyada man jo hai school ke andar lage class ke andar lage us teacher ko padhane waale subject ke andar lage thodi der ke liye hum ko itna motivate karke is tarike se unko badhana chahiye main yah is mamle me nahi hoon ki 40 minute se bhi ladana ab laga 3 30 minutes badhaiye bate kaisa maahaul clear kijiye ki har baccha usko hansate hansate pehle serious hokar kaam ko kare

स्कूल के पहले दिन के लिए बच्चों को बहुत अच्छे से लगते करने के लिए टीचर का बहुत बड़ा रोल हो

Romanized Version
Likes  54  Dislikes    views  737
WhatsApp_icon
30 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

BK Kalyani

Teacher On Rajyoga Spiritual Knowledge

1:16
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बहुत अच्छी क्वेश्चन है आप अपने कक्षा के बच्चों को स्कूल के पहले दिन के लिए कैसे तैयारी मैं तो कहूंगी कि पहला दिन पहले बच्चों से बात करना मैं मिला करना मिलना जुलना होता है पहला दिन करूंगी और पहला दिन तो कोई भी पढ़ाई कोई भी सब्जेक्ट पर उनको जबरदस्त नहीं पहला दिन उनके मन को तैयार करुंगी करुंगी देखूंगी कि बच्चों का मन कहता है क्या चाहते हैं उस हिसाब से बच्चों को पढ़ाई करो ना उसको जानना खुशी देना उसकी मन की अंदर की है को हटाना उसके मन को हल्का करना

bahut achi question hai aap apne kaksha ke baccho ko school ke pehle din ke liye kaise taiyari main toh kahungi ki pehla din pehle baccho se baat karna main mila karna milna julana hota hai pehla din karungi aur pehla din toh koi bhi padhai koi bhi subject par unko jabardast nahi pehla din unke man ko taiyar karungi karungi dekhungi ki baccho ka man kahata hai kya chahte hain us hisab se baccho ko padhai karo na usko janana khushi dena uski man ki andar ki hai ko hatana uske man ko halka karna

बहुत अच्छी क्वेश्चन है आप अपने कक्षा के बच्चों को स्कूल के पहले दिन के लिए कैसे तैयारी मैं

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  121
WhatsApp_icon
user
1:14
Play

Likes  3  Dislikes    views  100
WhatsApp_icon
user

DR OM PRAKASH SHARMA

Principal, Education Counselor, Best Experience in Professional and Vocational Education cum Training Skills and 25 years experience of Competitive Exams. 9212159179. dsopsharma@gmail.com

4:08
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप अपनी कक्षा के बच्चों को स्कूल से पहले दिन के लिए कैसे चेक करेंगे यह कहा गया है जी फर्स्ट इंप्रेशन इज लास्ट इंप्रेशन बच्चे हमारे स्कूल में पढ़ने हमारे कॉलेज में पढ़नी है यह हमारे घर से स्कूल पढ़ने जाए बाकी बच्चों को सबसे पहले स्कूल में जाने के बाद अपने विद्यालय को और विद्यालय की भूमि को सादर प्रणाम करना चाहिए क्योंकि वहीं से उनका नाम रोशन होता है विद्या ने मंदिर है जांच उनको ज्ञान मिलता है विद्यार्थी उच्च मंदिर के अंदर ज्ञान देने वाले शिष्य और उनके अंदर ज्ञान देने वाली गुरु उस मंदिर में पुजारी अब कुछ बनता है कि विद्यालय में प्रवेश करते समय अपने समस्त जो गुरुजनों को सादर चरण स्पर्श और सादर प्रणाम यह हमारी भारतीय संस्कृति है तत्पश्चात क्लास रूम में जब भी कोई अध्यापक प्रवेश करते हैं तो उनका जो है स्वागत अपनी बहन से उठकर हमारी भारतीय संस्कृति अंग्रेजी पद्धति नहीं है पुलिस सम्मान देना यह सम्मान इस बात का प्रतीक नहीं है कि बच्चे डर गए हैं कि टीचर आ गए हम आपको आपके आगमन पर और आपके आदेश के बिना हम अपनी सीट पर बैठने के अधिकारियों ने आप आदेश से डांस रिक्शे पर बैठकर विद्याधन शुरू करें और फिफ्थ क्लास रूम में बड़ी शांति के विषय को पढ़ना समझना और विशेष के विषय में सुनना दिखना और 2 तारीख की क्वेश्चन है उस पर क्रॉस क्वेश्चन करना उनके ऊपर नोट बनाना फिर अपनी समस्याओं को रखना और गुरु जी को यह साफ कर आना अपने अध्यापक को एहसास कराना कि क्लास के बच्चे बहुत शब्द रूप संस्कृत में स्थित कार्य भी संभव होगा जब आपके आचरण ऐसे होंगे क्योंकि बनावटी आचरण जाने के बाद अपना रंग दिखा देते हैं और संस्कारी बच्चे पूरे वर्ष अपने विद्यालय को एक अच्छे विद्यालय के नाम को रोशन करने के लिए पूरे वर्ष कठोर परिश्रम करना पूरे देशों का झरना हर विषय में शत-प्रतिशत अंक लाना और हर विषय में नई-नई ज्ञान खोजना कला खोजना उसका परिणाम रिजल्ट छठी क्लास के बच्चे वरना मैं तो प्रणाम पूरे शहर पूरे राज्य पूरे देश में देखने लायक हो यह पहले दिन की शिक्षा है कहा ना मैंने की फर्स्ट इंप्रेशन इज लास्ट इंप्रेशन अगर हर दिन हम शिक्षा देने बैठेंगे तो कुछ नहीं दे पाएंगे प्रथम दिवस इंसान को सब कुछ मिल जाता है चाहे वह विद्यालय जॉइन कर रहा हूं या नौकरी ज्वाइन कर रहा हूं या किसी की जिंदगी में प्रवेश कर रहा हूं या वह किसी की अपने व्यवसाय में प्रवेश करता हूं

aap apni kaksha ke baccho ko school se pehle din ke liye kaise check karenge yah kaha gaya hai ji first impression is last impression bacche hamare school me padhne hamare college me padhani hai yah hamare ghar se school padhne jaaye baki baccho ko sabse pehle school me jaane ke baad apne vidyalaya ko aur vidyalaya ki bhoomi ko sadar pranam karna chahiye kyonki wahi se unka naam roshan hota hai vidya ne mandir hai jaanch unko gyaan milta hai vidyarthi ucch mandir ke andar gyaan dene waale shishya aur unke andar gyaan dene wali guru us mandir me pujari ab kuch banta hai ki vidyalaya me pravesh karte samay apne samast jo gurujanon ko sadar charan sparsh aur sadar pranam yah hamari bharatiya sanskriti hai tatpashchat class room me jab bhi koi adhyapak pravesh karte hain toh unka jo hai swaagat apni behen se uthakar hamari bharatiya sanskriti angrezi paddhatee nahi hai police sammaan dena yah sammaan is baat ka prateek nahi hai ki bacche dar gaye hain ki teacher aa gaye hum aapko aapke aagaman par aur aapke aadesh ke bina hum apni seat par baithne ke adhikaariyo ne aap aadesh se dance rikshe par baithkar vidyadhan shuru kare aur fifth class room me badi shanti ke vishay ko padhna samajhna aur vishesh ke vishay me sunana dikhana aur 2 tarikh ki question hai us par cross question karna unke upar note banana phir apni samasyaon ko rakhna aur guru ji ko yah saaf kar aana apne adhyapak ko ehsaas krana ki class ke bacche bahut shabd roop sanskrit me sthit karya bhi sambhav hoga jab aapke aacharan aise honge kyonki banavati aacharan jaane ke baad apna rang dikha dete hain aur sanskari bacche poore varsh apne vidyalaya ko ek acche vidyalaya ke naam ko roshan karne ke liye poore varsh kathor parishram karna poore deshon ka jharna har vishay me shat pratishat ank lana aur har vishay me nayi nayi gyaan khojana kala khojana uska parinam result chathi class ke bacche varna main toh pranam poore shehar poore rajya poore desh me dekhne layak ho yah pehle din ki shiksha hai kaha na maine ki first impression is last impression agar har din hum shiksha dene baitheange toh kuch nahi de payenge pratham divas insaan ko sab kuch mil jata hai chahen vaah vidyalaya join kar raha hoon ya naukri join kar raha hoon ya kisi ki zindagi me pravesh kar raha hoon ya vaah kisi ki apne vyavasaya me pravesh karta hoon

आप अपनी कक्षा के बच्चों को स्कूल से पहले दिन के लिए कैसे चेक करेंगे यह कहा गया है जी फर्स्

Romanized Version
Likes  338  Dislikes    views  4016
WhatsApp_icon
user

Harender Kumar Yadav

Career Counsellor.

1:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अपनी कक्षा के बच्चों को स्कूल से पहले दिन के लिए कैसे तैयार किया जाता है कि स्कूल बच्चों विद्या मंदिर है जिसमें आपको कुछ सीखना है कुछ करना है और अपने लिए अपने परिवार के लिए अपने देश के लिए और बच्चों को क्लास रूम में फर्स्ट डे हम वेलकम करते हैं उनका मनोबल बढ़ाते हैं किताबों के बारे में जानकारी दे सकती है उनके आने वाले बस की जानकारी दी जाती है कि कितने दिन स्कूल चलेगा कैसे पढ़ाई होगी यह सारी चीजें कबूल कर ले थोड़ा करेंगे वैसे हम ओरियंटेशन करते हैं स्टूडेंट का हॉस्पिटल में उनको हर चीजों के बारे में डिस्कस किया जाता है बताया जाता है

apni kaksha ke baccho ko school se pehle din ke liye kaise taiyar kiya jata hai ki school baccho vidya mandir hai jisme aapko kuch sikhna hai kuch karna hai aur apne liye apne parivar ke liye apne desh ke liye aur baccho ko class room me first day hum welcome karte hain unka manobal badhate hain kitabon ke bare me jaankari de sakti hai unke aane waale bus ki jaankari di jaati hai ki kitne din school chalega kaise padhai hogi yah saari cheezen kabool kar le thoda karenge waise hum orientation karte hain student ka hospital me unko har chijon ke bare me discs kiya jata hai bataya jata hai

अपनी कक्षा के बच्चों को स्कूल से पहले दिन के लिए कैसे तैयार किया जाता है कि स्कूल बच्चों व

Romanized Version
Likes  332  Dislikes    views  3142
WhatsApp_icon
user

pervs

Tutor

0:29
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

होंडा कंपनी मुंबई का नाम माता का नाम पिता का नाम फैमिली के बारे में जानकारी

Honda company mumbai ka naam mata ka naam pita ka naam family ke bare me jaankari

होंडा कंपनी मुंबई का नाम माता का नाम पिता का नाम फैमिली के बारे में जानकारी

Romanized Version
Likes  147  Dislikes    views  2107
WhatsApp_icon
user
1:07
Play

Likes  8  Dislikes    views  125
WhatsApp_icon
user

GPD

Teacher

0:44
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पहले दिन बच्चों को उनके संपूर्ण पाठ्यक्रम से परिचित कराया जाएगा उसके बाद नए बच्चे खुश होते हैं तो रास्ते में उन बच्चों को परिचय दिया जाएगा उन बच्चों का परिचय दिया जाता है यह एक सामान्य प्रक्रिया होती है जिससे नए बच्चों का कॉन्फिडेंस बढ़ता है और पुरानी बच्चों का भी बढ़ता है उनको पहचान उसके विषय में पता होता है अपनी पोषण के विषय में पता होता है आने वाले समय में कौन सा क्वेश्चन हमें पढ़ाया जाएगा कौन सा पोजीशन नहीं पढ़ाया जाएगा पहले दिन पढ़ाई बहुत हल्की फुल्की रहती है पहले दिन पढ़ाए जाने के बाद होमवर्क देना जरूरी हो जाता है अगर आपको मत दे देते तो बच्चे पहले दिन संडे बनते ही बच्चे आपसे जुड़ना शुरू हो जा

pehle din baccho ko unke sampurna pathyakram se parichit karaya jaega uske baad naye bacche khush hote hain toh raste me un baccho ko parichay diya jaega un baccho ka parichay diya jata hai yah ek samanya prakriya hoti hai jisse naye baccho ka confidence badhta hai aur purani baccho ka bhi badhta hai unko pehchaan uske vishay me pata hota hai apni poshan ke vishay me pata hota hai aane waale samay me kaun sa question hamein padhaya jaega kaun sa position nahi padhaya jaega pehle din padhai bahut halki fulki rehti hai pehle din padhaye jaane ke baad homework dena zaroori ho jata hai agar aapko mat de dete toh bacche pehle din sunday bante hi bacche aapse judna shuru ho ja

पहले दिन बच्चों को उनके संपूर्ण पाठ्यक्रम से परिचित कराया जाएगा उसके बाद नए बच्चे खुश होते

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  88
WhatsApp_icon
user

A_KUMAR

PRINCIPAL TEACHER

0:53
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

उनके प्रति आत्मीयता का भाव अपना कर उनको लगना चाहिए कि हम उनके ही हैं और हम यहां उनके इस पृष्ठ के लिए हैं उनकी अच्छाई के लिए हैं उसके मन में क्या जिज्ञासा ए हैं क्या इच्छा है हैं कैसा अभय हैं उसके मन में क्या दोनों चलना है उनको जानने का प्रयास करके उनको दूर करने का प्रयास करना चाहिए और र बच्चों को एक मैत्री वातावरण उपलब्ध कराना चाहिए उसको ऐसा लगना चाहिए ऐसा अनुभव देना चाहिए कि उसे लगे कि यहां पर सब उसके रखा है उसके मित्र हैं उसके हितेषी हैं उसको एक आनंदमई मनोरम वातावरण देना चाहिए उसके खेलकूद गायन वादन जो भी उसकी जिज्ञासा है उनकी रुचि को ध्यान में रखते उसको उपलब्ध कराकर उसको वहां पर है मन रमेश ए कॉल करना चाहिए

unke prati atmiyata ka bhav apna kar unko lagna chahiye ki hum unke hi hain aur hum yahan unke is prishth ke liye hain unki acchai ke liye hain uske man me kya jigyasa a hain kya iccha hai hain kaisa abhay hain uske man me kya dono chalna hai unko jaanne ka prayas karke unko dur karne ka prayas karna chahiye aur r baccho ko ek maitri vatavaran uplabdh krana chahiye usko aisa lagna chahiye aisa anubhav dena chahiye ki use lage ki yahan par sab uske rakha hai uske mitra hain uske hiteshi hain usko ek anandamai manoram vatavaran dena chahiye uske khelkud gaayan vaadan jo bhi uski jigyasa hai unki ruchi ko dhyan me rakhte usko uplabdh karakar usko wahan par hai man ramesh a call karna chahiye

उनके प्रति आत्मीयता का भाव अपना कर उनको लगना चाहिए कि हम उनके ही हैं और हम यहां उनके इस पृ

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  125
WhatsApp_icon
user

Anand

अध्यापक

0:36
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पहला दिन बच्चे का उस दिन बच्चे को बहुत सम्मान मिलना चाहिए स्कूल में मैं अपने बच्चों को स्कूल में पहले दिन के लिए बहुत तैयारी करूंगा आई विल लिस्ट है मैं दरवाजे पर खड़ा रहूंगा मैं उस गेट स्कूल के गेट पर खड़ा रहना चाहूंगा जो बच्चा पहले दिन स्कूल में आएगा उसको सेल्यूट मारूंगा उसको हग करूंगा उसको प्यार करूंगा तब वह बच्चा आपकी स्कूल को पसंद करेगा

pehla din bacche ka us din bacche ko bahut sammaan milna chahiye school me main apne baccho ko school me pehle din ke liye bahut taiyari karunga I will list hai main darwaze par khada rahunga main us gate school ke gate par khada rehna chahunga jo baccha pehle din school me aayega usko salute marunga usko hug karunga usko pyar karunga tab vaah baccha aapki school ko pasand karega

पहला दिन बच्चे का उस दिन बच्चे को बहुत सम्मान मिलना चाहिए स्कूल में मैं अपने बच्चों को स्क

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  88
WhatsApp_icon
user
1:01
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैं फर्स्ट डे अपनी कक्षा के बच्चों को आने के लिए क्लास में फर्स्ट में बिठा ही उनका फर्स्ट मैन टू यूज लूंगी फिर मैं आपस में उनका एड्रेस कर आऊंगी अपना भी दे दूंगी उसके बाद बच्चों को एकदम में पढ़ाई नहीं शुरू कर आऊंगी सबसे पहले मैंने कहानियां बताऊंगी कविताएं बताऊंगी कुछ एक्टिविटी कर आऊंगी जिसे कला के साथ खेल खिलाऊंगी खेल खेल में कोशिश करूंगी कि बच्चे पड़ जाए या रावजी की स्कूल खड़ी है जहां पर जैसे चलो स्कूल आए डरे नहीं और हमारे साथ प्यार करके

main first day apni kaksha ke baccho ko aane ke liye class me first me bitha hi unka first man to use lungi phir main aapas me unka address kar aaungi apna bhi de dungi uske baad baccho ko ekdam me padhai nahi shuru kar aaungi sabse pehle maine kahaniya bataungi kavitayen bataungi kuch activity kar aaungi jise kala ke saath khel khilaungi khel khel me koshish karungi ki bacche pad jaaye ya ravji ki school khadi hai jaha par jaise chalo school aaye dare nahi aur hamare saath pyar karke

मैं फर्स्ट डे अपनी कक्षा के बच्चों को आने के लिए क्लास में फर्स्ट में बिठा ही उनका फर्स्ट

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  110
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बच्चों को स्कूल के पहले दिन के लिए तैयार करने का मतलब है बच्चों को जो विषय पढ़ाना है उसकी उसको घर से पढ़ कर आएंगे तैयारी करके आएंगे इसके बाद उसका शिक्षण कार्य करना शिक्षण सहायक सामग्री के साथ वह श्रेष्ठ होगा

baccho ko school ke pehle din ke liye taiyar karne ka matlab hai baccho ko jo vishay padhana hai uski usko ghar se padh kar aayenge taiyari karke aayenge iske baad uska shikshan karya karna shikshan sahayak samagri ke saath vaah shreshtha hoga

बच्चों को स्कूल के पहले दिन के लिए तैयार करने का मतलब है बच्चों को जो विषय पढ़ाना है उसकी

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  101
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

उसे प्रॉपर गाइडलाइंस देंगे कि जो भी बचा मेरे क्लास आते हो वह प्रॉपर देश में हो ड्यूटी में हो तभी हम क्लास में आने की अनुमति देंगे और जो भी वर्क देते हैं उनको फुलफिलमेंट करके आना होगा अगर आप ग्रुप एडमिट करके नहीं आते हैं तो उनका वजह आप अपने गाड़ियों से लिखा कर क्या नहीं तो स्कूल प्रशासन से मैं आपका शिकायत कर सकता इससे बच्चों में एक प्रकार की डर ही बना रहेगा स्कूल प्रशासन के शिकायत करने के बाद भी अगर कोई एक्शन नहीं लेता है तो हम उनसे कहेंगे आप की यह शिकायत जो है कि उस बच्चे से एक आवेदन में लिखवा कर के एक पूर्व में रखेंगे कि यह बच्चे जो है कि बराबर ड्रेस कोड में नहीं आते कल के डेट में किसी प्रकार की जिम्मेवारी उत्पन्न होती है उसके लिए स्कूल प्रशासन मुझे जिलेवार ना बनाना है उनका घर जाना तभी मैं हुकूमत इस तरह का कड़ा नियम के लिए प्रेरित करेंगे और उन्हें सुना कर संबोधित कर उन्हें एक अच्छा नागरिक बनाने में अपना योगदान या अपनी सहायता ना करें

use proper gaidalains denge ki jo bhi bacha mere class aate ho vaah proper desh me ho duty me ho tabhi hum class me aane ki anumati denge aur jo bhi work dete hain unko fulfilment karke aana hoga agar aap group admit karke nahi aate hain toh unka wajah aap apne gadiyon se likha kar kya nahi toh school prashasan se main aapka shikayat kar sakta isse baccho me ek prakar ki dar hi bana rahega school prashasan ke shikayat karne ke baad bhi agar koi action nahi leta hai toh hum unse kahenge aap ki yah shikayat jo hai ki us bacche se ek avedan me likhva kar ke ek purv me rakhenge ki yah bacche jo hai ki barabar dress code me nahi aate kal ke date me kisi prakar ki jimmewari utpann hoti hai uske liye school prashasan mujhe jilevar na banana hai unka ghar jana tabhi main hukumat is tarah ka kada niyam ke liye prerit karenge aur unhe suna kar sambodhit kar unhe ek accha nagarik banane me apna yogdan ya apni sahayta na kare

उसे प्रॉपर गाइडलाइंस देंगे कि जो भी बचा मेरे क्लास आते हो वह प्रॉपर देश में हो ड्यूटी में

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  130
WhatsApp_icon
user
0:47
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

स्कूल का पहला दिन क्योंकि बच्चा घर से आ रहा है मौज मस्ती से निकल कर आ रहा है तो कहीं उसे स्कूल एक बोझ ना लगने लगे इसके लिए उससे बातें की जाएंगी छुट्टी में कहां घूम आए हैं कहां गया क्या क्या उसने किया उसने जो उसे गृह कार्य दिया क्या वह किया इसके अलावा स्कूल जगह नहीं है छुट्टी में उसने स्कूल को मिस किया उसे कौन सा अध्यापक अच्छा लगा जब बच्चे इस तरह की बातें की जाएंगी उनके घर परिवार के बारे में पूछा जाएगा उनके ग्रीष्मावकाश के बारे में पता करेगा तो बच्चों को स्कूल में कहानी कविता विभिन्न गतिविधियां कराकर बच्चों को स्कूल आने के लिए प्रेरित किया जाएगा

school ka pehla din kyonki baccha ghar se aa raha hai mauj masti se nikal kar aa raha hai toh kahin use school ek bojh na lagne lage iske liye usse batein ki jayegi chhutti me kaha ghum aaye hain kaha gaya kya kya usne kiya usne jo use grah karya diya kya vaah kiya iske alava school jagah nahi hai chhutti me usne school ko miss kiya use kaun sa adhyapak accha laga jab bacche is tarah ki batein ki jayegi unke ghar parivar ke bare me poocha jaega unke grishmavakash ke bare me pata karega toh baccho ko school me kahani kavita vibhinn gatividhiyan karakar baccho ko school aane ke liye prerit kiya jaega

स्कूल का पहला दिन क्योंकि बच्चा घर से आ रहा है मौज मस्ती से निकल कर आ रहा है तो कहीं उसे स

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  123
WhatsApp_icon
user

Uma Kant

Teacher

1:50
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैं अपने विद्यालय में बच्चों को स्कूल के लिए प्यार करता हूं मैं 2530 बताऊं सच पर जाता हूं तो वह बच्चे मेरा कुछ नियम है निराला कुछ नहीं होता है ऐसे मंे का किसी को बोलना हो तो उठाना भी ऊपर उठेगा तो खोजो क्या बात है यह हमारा नियम है फिर बच्चे से बोलता हूं शपथ ली करवाता हूं शपथ सेवा का भी हूं परवाना विद्यालय जाना है आपका पेपर निकालना है साथ में जाना है आप सुधर आना है ब्लॉक कैंपस को साफ रखना है और अभी तक बच्चे को देखकर के बच्चों को देखकर दर्शक बच्चे हैं उसी को लगाते हैं सिखाते हैं गुरु जी कहते हैं कि इससे मेरा भी नाम जाएगा मुझे भी सुकून होगा और एक शिक्षक को इस नाते एक गया सम्मान मिलेगा

main apne vidyalaya me baccho ko school ke liye pyar karta hoon main 2530 bataun sach par jata hoon toh vaah bacche mera kuch niyam hai niraala kuch nahi hota hai aise mane ka kisi ko bolna ho toh uthana bhi upar uthega toh khojo kya baat hai yah hamara niyam hai phir bacche se bolta hoon shapath li karwata hoon shapath seva ka bhi hoon Paravana vidyalaya jana hai aapka paper nikalna hai saath me jana hai aap sudhar aana hai block campus ko saaf rakhna hai aur abhi tak bacche ko dekhkar ke baccho ko dekhkar darshak bacche hain usi ko lagate hain sikhaate hain guru ji kehte hain ki isse mera bhi naam jaega mujhe bhi sukoon hoga aur ek shikshak ko is naate ek gaya sammaan milega

मैं अपने विद्यालय में बच्चों को स्कूल के लिए प्यार करता हूं मैं 2530 बताऊं सच पर जाता हूं

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  126
WhatsApp_icon
user

Ramakant

Teacher

0:24
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जब बालक था में पहले दिन आता है तो उसे सब कुछ अजीब सा लगता है उसे अच्छा भी लगता है खराब भी लगता है वह बिल्कुल सामा सामा चाहता है इसलिए हमें ऐसा वातावरण बनाना चाहिए कि उसको घर जैसा लगे और उसे अच्छा लगने वाला तो धीरे-धीरे धीरे-धीरे वह कक्षा में आने लगता है और शिक्षण कार्य में संलग्न हो जाता है धन्यवाद

jab balak tha me pehle din aata hai toh use sab kuch ajib sa lagta hai use accha bhi lagta hai kharab bhi lagta hai vaah bilkul sama sama chahta hai isliye hamein aisa vatavaran banana chahiye ki usko ghar jaisa lage aur use accha lagne vala toh dhire dhire dhire dhire vaah kaksha me aane lagta hai aur shikshan karya me sanlagn ho jata hai dhanyavad

जब बालक था में पहले दिन आता है तो उसे सब कुछ अजीब सा लगता है उसे अच्छा भी लगता है खराब भी

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  97
WhatsApp_icon
user
0:42
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सर्वप्रथम तो कक्षा के बच्चों से हम उनके नाम और एड्रेस वगैरा पूछ कर उनकी ऑफिस के बारे में जानकर अपने बारे में कुछ बताते थोड़ा सा गेम फॉर्म में उनको महेश बैलेंस डाटा डिसिप्लिन के बारे में समझा कर इस तरह से अपने बच्चों को तैयार किया जा सकता है उनके ऊपर एकदम से टेक्स्ट नहीं डाला जाएगा उनके बुक्स का पारीक दम से नहीं बन रहे का भार एकदम से भी उनको मिली बहुत कुछ हमसे सुना जा सकता है वह कहां तक जानते हैं उनके डिलीवरी नॉलेज का चेक किया जाएगा कि कहां तक वह समझ सकते हमको ज्ञान है किस तरह से वह बैठ सकते हैं इत्यादि

sarvapratham toh kaksha ke baccho se hum unke naam aur address vagera puch kar unki office ke bare me jaankar apne bare me kuch batatey thoda sa game form me unko mahesh balance data discipline ke bare me samjha kar is tarah se apne baccho ko taiyar kiya ja sakta hai unke upar ekdam se text nahi dala jaega unke books ka parik dum se nahi ban rahe ka bhar ekdam se bhi unko mili bahut kuch humse suna ja sakta hai vaah kaha tak jante hain unke delivery knowledge ka check kiya jaega ki kaha tak vaah samajh sakte hamko gyaan hai kis tarah se vaah baith sakte hain ityadi

सर्वप्रथम तो कक्षा के बच्चों से हम उनके नाम और एड्रेस वगैरा पूछ कर उनकी ऑफिस के बारे में ज

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  138
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हम सबके प्यारे बच्चों को अपने बच्चों खेलने से बेहतर करेंगे और उनके अंदर पढ़ाई का 10 पैदा करेंगे और यह बातें बातों में पढ़ाना सीन करते हुए

hum sabke pyare baccho ko apne baccho khelne se behtar karenge aur unke andar padhai ka 10 paida karenge aur yah batein baaton me padhana seen karte hue

हम सबके प्यारे बच्चों को अपने बच्चों खेलने से बेहतर करेंगे और उनके अंदर पढ़ाई का 10 पैदा क

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  105
WhatsApp_icon
play
user

Arjun jha

Rt Science Teacher

0:29

Likes  6  Dislikes    views  82
WhatsApp_icon
user

Gaurav

Teacher

0:40
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पहले दिन कक्षा में जिस प्रकार से पढ़ाना है कोर्स से लेकर यह सब कोर्स दिया गया है उसको एक माध्यम से समझाना है क्योंकि बच्चा अधिक से अधिक कोर्स देखकर ही घबरा जाता है अगर अब हम उसको उसको सीधे सरल रूप से उसको समझा देंगे अपना खुद का शेड्यूल शाम का शेड्यूल बताएंगे तो वह आसानी से रोचक तथ्य बनाकर पड़ेगा अपनी कक्षा का ज्ञान अर्जित करने के लिए उसे उत्सुकता होगी

pehle din kaksha me jis prakar se padhana hai course se lekar yah sab course diya gaya hai usko ek madhyam se samajhana hai kyonki baccha adhik se adhik course dekhkar hi ghabara jata hai agar ab hum usko usko sidhe saral roop se usko samjha denge apna khud ka schedule shaam ka schedule batayenge toh vaah aasani se rochak tathya banakar padega apni kaksha ka gyaan arjit karne ke liye use utsukata hogi

पहले दिन कक्षा में जिस प्रकार से पढ़ाना है कोर्स से लेकर यह सब कोर्स दिया गया है उसको एक म

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  81
WhatsApp_icon
user

Monika

Teacher

1:22
Play

Likes  2  Dislikes    views  85
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सनी आपने बहुत अच्छा क्वेश्चन किया बहुत गुड क्वेश्चन है आप अपनी कक्षा के बच्चों को स्कूल के पहले दिन के लिए कैसे तैयार करेंगे कि मैं यह कहना चाहूंगा कि पहले दिन कुछ अच्छा बनाना चाहता है तो सबसे पहले वह कोई तैयारी अगर तैयार करना चाहता है कि हम बच्चा तैयार रहें किसी प्रकार कोई असुविधा ना हो तो पहले क्या करेगा बच्चों की क्लास में जाएगा और पहले क्या करेगा पहनी सब्जेक्ट सब्जेक्ट दिखाएगा कि कौन सा सब्जेक्ट की स्थिति में वह पढ़ाने आएंगे हिंदी हो गया इंग्लिश हो गया मैं खो गया सोशल साइंस हो गया रॉन्ग हो गया और भी कोई भी विषय हो गया तो की पहली वही लिख आएगा कि बेटा आप पहले घंटे में हिंदी दूसरे घंटे में इंग्लिश से घंटे में सेव कर देगा बच्चों को किसी प्रकार की असुविधा ना हो अभी भी कह देगा कि बेटा रवि सोमवार के दिन आप लोग की डुप्लीकेट चलेगा केवल हिंदी का सीन मंगलवार के दिन आप लोग का 3:00 पर चलेगा टाइम क्या होता है बच्चों को भी समझ में आ जाता है वह ब्लैकबोर्ड देंगे अच्छा अच्छा है बच्चों को और सुविधा जाना चाहता है क्या करेंगे समय सारणी लिख देंगे टाइम टेबल बना देंगे प्रार्थना कितने बजे होगी बताया जाता है जो भी मतलब मीटिंग मीटिंग होता हूं अभी की विधाओं में तो मैं यह कहना चाहूंगा वह पहले जी नीचे तैयारी करा लेगा कि बच्चों को किसी प्रकार का दिक्कत ना हो मैं तो यह कहना था मैं भी बच्चों को पहले दिन बता देता हूं कि बेटा मैं 30 तारीख को स्टेज पर एक दिन मैं आप लोग को टाइम ही पर आऊंगा आप लोग साइंस की किताब कॉपी होली का नंबर की जांच करता हूं बच्चों को पहले 23 तारीख को मैं करूंगा प्लीज आप लोग लेकर आइएगा अपने बैग में बोलिए नहीं इतना बड़ा सब्जेक्ट है बच्चा किस किस की कॉपी किताब लेकर आएगा बच्चों को तैयार करना है करना है ये एकदम समझिए पेपर जो होता है वो कहते हैं ना कि उसके लिए तैयार हो जाओ दिलाती है उसकी कॉपी किताब है बहुत जरूरी है इसीलिए हम लोग कह रहे थे हैं इसीलिए जब तैयारी करानी हो तो पहले हम लोग को बच्चों को इस सब बात बता देते हैं बच्चों को किसी प्रकार की असुविधा ना हो कोई दिक्कत का सामना ना करना पड़े मैं यह कहना चाहूंगा मैं वाणी को विराम करता हूं

sunny aapne bahut accha question kiya bahut good question hai aap apni kaksha ke baccho ko school ke pehle din ke liye kaise taiyar karenge ki main yah kehna chahunga ki pehle din kuch accha banana chahta hai toh sabse pehle vaah koi taiyari agar taiyar karna chahta hai ki hum baccha taiyar rahein kisi prakar koi asuvidha na ho toh pehle kya karega baccho ki class me jaega aur pehle kya karega pahani subject subject dikhaega ki kaun sa subject ki sthiti me vaah padhane aayenge hindi ho gaya english ho gaya main kho gaya social science ho gaya wrong ho gaya aur bhi koi bhi vishay ho gaya toh ki pehli wahi likh aayega ki beta aap pehle ghante me hindi dusre ghante me english se ghante me save kar dega baccho ko kisi prakar ki asuvidha na ho abhi bhi keh dega ki beta ravi somwar ke din aap log ki duplicate chalega keval hindi ka seen mangalwaar ke din aap log ka 3 00 par chalega time kya hota hai baccho ko bhi samajh me aa jata hai vaah blackboard denge accha accha hai baccho ko aur suvidha jana chahta hai kya karenge samay sarni likh denge time table bana denge prarthna kitne baje hogi bataya jata hai jo bhi matlab meeting meeting hota hoon abhi ki vidhaon me toh main yah kehna chahunga vaah pehle ji niche taiyari kara lega ki baccho ko kisi prakar ka dikkat na ho main toh yah kehna tha main bhi baccho ko pehle din bata deta hoon ki beta main 30 tarikh ko stage par ek din main aap log ko time hi par aaunga aap log science ki kitab copy holi ka number ki jaanch karta hoon baccho ko pehle 23 tarikh ko main karunga please aap log lekar aiega apne bag me bolie nahi itna bada subject hai baccha kis kis ki copy kitab lekar aayega baccho ko taiyar karna hai karna hai ye ekdam samjhiye paper jo hota hai vo kehte hain na ki uske liye taiyar ho jao dilati hai uski copy kitab hai bahut zaroori hai isliye hum log keh rahe the hain isliye jab taiyari karani ho toh pehle hum log ko baccho ko is sab baat bata dete hain baccho ko kisi prakar ki asuvidha na ho koi dikkat ka samana na karna pade main yah kehna chahunga main vani ko viraam karta hoon

सनी आपने बहुत अच्छा क्वेश्चन किया बहुत गुड क्वेश्चन है आप अपनी कक्षा के बच्चों को स्कूल के

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  108
WhatsApp_icon
user
1:27
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जैसा कि पास में है कि आप अपनी कक्षा के बच्चों को स्कूल के पहले दिन के लिए कैसे तैयार करेंगे तो स्कूल से पहला दिन जो होता है पहला दिन तो हम कुछ नहीं पाएंगे कोई सब्जेक्ट नहीं पढ़ाएंगे और ना ही हम पढ़ाते हैं सबसे पहले बच्चों को मोटिवेट करते हैं उल्लू को समझाते हैं उन्हें को भी अंदर बहुत जुनून होता है कोई भी विद्यार्थी होता है वह बेस्ट फ्रेंड होता है उसको अंदर जुनून होता है कि आज हमारे स्कूल का नया क्लास स्टार्ट होने जा रहा है आज पहला दिन है हम हमें बहुत कुछ करना है अपने लाइफ में बहुत कुछ और है करते हैं वह तो इसलिए मैं उनको मोटिवेट करने का काम करता हूं उस दिन पहले मैं मोटिवेट करता हूं पहले दिन पता कि उनके ब्रेन में यह चीज बैठ है कि नहीं हमको लाइफ में बहुत कुछ करना है हम सोचे थे सर तो बता भी रहे हैं तो मैं मोटिवेट करने का काम करता हूं कि कैसे आपको पढ़ाई करना है कैसे लाइफ में अपने गोल कोई अच्छी करना है यह सारी चीजें बहुत सारी चीजें होती है मैं उन को समझाने का कार्यकर्ता हूं और बच्चे समझते हैं बहुत शांति से समझते हैं उसको और करते हैं मैंने बहुत सारे बच्चों को ऐसा ऐसे पायदान पर लाया है जो कि अपनी लाइफ में जरूर सक्सेस होंगे धन्यवाद

jaisa ki paas me hai ki aap apni kaksha ke baccho ko school ke pehle din ke liye kaise taiyar karenge toh school se pehla din jo hota hai pehla din toh hum kuch nahi payenge koi subject nahi padhaenge aur na hi hum padhate hain sabse pehle baccho ko motivate karte hain ullu ko smajhate hain unhe ko bhi andar bahut junun hota hai koi bhi vidyarthi hota hai vaah best friend hota hai usko andar junun hota hai ki aaj hamare school ka naya class start hone ja raha hai aaj pehla din hai hum hamein bahut kuch karna hai apne life me bahut kuch aur hai karte hain vaah toh isliye main unko motivate karne ka kaam karta hoon us din pehle main motivate karta hoon pehle din pata ki unke brain me yah cheez baith hai ki nahi hamko life me bahut kuch karna hai hum soche the sir toh bata bhi rahe hain toh main motivate karne ka kaam karta hoon ki kaise aapko padhai karna hai kaise life me apne gol koi achi karna hai yah saari cheezen bahut saari cheezen hoti hai main un ko samjhane ka karyakarta hoon aur bacche samajhte hain bahut shanti se samajhte hain usko aur karte hain maine bahut saare baccho ko aisa aise payadan par laya hai jo ki apni life me zaroor success honge dhanyavad

जैसा कि पास में है कि आप अपनी कक्षा के बच्चों को स्कूल के पहले दिन के लिए कैसे तैयार करेंग

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  92
WhatsApp_icon
user
0:13
Play

Likes  3  Dislikes    views  110
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हम अपनी कक्षा के बच्चों को स्कूल पहले दिन की लिए तैयारी उनका सर सफाई साला की साफ-सफाई एवं सर सफाई से तैयारी कराएंगे और उनको बताएंगे साला खुल गया है अब रोज रोज स्कूल विद्यालय जाना है और सही बच्चों को सूचना देना

hum apni kaksha ke baccho ko school pehle din ki liye taiyari unka sir safaai sala ki saaf safaai evam sir safaai se taiyari karaenge aur unko batayenge sala khul gaya hai ab roj roj school vidyalaya jana hai aur sahi baccho ko soochna dena

हम अपनी कक्षा के बच्चों को स्कूल पहले दिन की लिए तैयारी उनका सर सफाई साला की साफ-सफाई एवं

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  124
WhatsApp_icon
user
0:55
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

का सवाल है कि आप अपनी कक्षा के बच्चों की स्कूल के पहले दिन कैसे तैयार करेंगे अब यह बात है कि स्कूल जाने के लिए तैयार करना है या जो बच्चे मेरे स्कूल में आ चुके हैं मैं उसको किस प्रकार से पहले दिन इंटेंडेंट करूंगा सबसे पहली बात है कि उसका जो पहला दिन है वह लाइफ में रिमेंबर करें इसलिए उनको आप रिसीव करो रिसीव का अर्थ का मतलब यहां यह है कि उस बच्चे को यह लगे कि मैं अपने घर से चला और दूसरे घर में पहुंचा जहां केवल माता-पिता के स्वरूप में वहां शिक्षक और शिक्षिका उसे मिला बस इतना फर्क है अगर आप यह समझ रहे थे हो कि बच्चे को मां की याद ना आए पिता की याद ना आए अपने घर में किस प्रकार से रहता है इन तमाम चीज का घर सब कुछ आप देख लेते हो तो कुल मिलाकर यह उन बच्चों के लिए जो पहले बच्चा के क्लास में बहुत बेहतर होगा

ka sawaal hai ki aap apni kaksha ke baccho ki school ke pehle din kaise taiyar karenge ab yah baat hai ki school jaane ke liye taiyar karna hai ya jo bacche mere school me aa chuke hain main usko kis prakar se pehle din intendent karunga sabse pehli baat hai ki uska jo pehla din hai vaah life me remember kare isliye unko aap receive karo receive ka arth ka matlab yahan yah hai ki us bacche ko yah lage ki main apne ghar se chala aur dusre ghar me pohcha jaha keval mata pita ke swaroop me wahan shikshak aur shikshika use mila bus itna fark hai agar aap yah samajh rahe the ho ki bacche ko maa ki yaad na aaye pita ki yaad na aaye apne ghar me kis prakar se rehta hai in tamaam cheez ka ghar sab kuch aap dekh lete ho toh kul milakar yah un baccho ke liye jo pehle baccha ke class me bahut behtar hoga

का सवाल है कि आप अपनी कक्षा के बच्चों की स्कूल के पहले दिन कैसे तैयार करेंगे अब यह बात है

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  102
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

स्कूल के पहले दिन मिठाइयां देकर छात्रों को स्वागत करना है पहले ही दिन अक्षर अभ्यास करने के लिए प्रस्ताव दिया है और नियम बताना है कैसे रहना चाहिए गर्मी किस प्रकार रहना चाहिए और हम किस प्रकार रहेंगे तो हमें ज्ञान मिल सकता यह सारी बातें उनको हर दिन थोड़े थोड़े बताएंगे तो जरूर छाप अपनी संस्कृति जो है उस प्रकार चल सकते

school ke pehle din mithaiyan dekar chhatro ko swaagat karna hai pehle hi din akshar abhyas karne ke liye prastaav diya hai aur niyam batana hai kaise rehna chahiye garmi kis prakar rehna chahiye aur hum kis prakar rahenge toh hamein gyaan mil sakta yah saari batein unko har din thode thode batayenge toh zaroor chhaap apni sanskriti jo hai us prakar chal sakte

स्कूल के पहले दिन मिठाइयां देकर छात्रों को स्वागत करना है पहले ही दिन अक्षर अभ्यास करने के

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  79
WhatsApp_icon
user

Rekha

Hindi Teacher, Motivational Speaker(you Tube Channel Linkhttps://youtu.be/cN7fYirjFZE

1:34
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप अपनी कक्षा के बच्चों को स्कूल के पहले दिन के लिए कैसे तैयार करेंगे तो यहां मेरी कक्षा के बच्चे दो टाइप के हो सकते हैं एक ऐसे बच्चे जो फर्स्ट टाइम मेरी क्लास में आ रहे हैं और उनका पहला दिन है और मेरा भी उनके साथ पहला दिन है तो सबसे पहले मैं अपना इंट्रोडक्शन दूंगी और उनसे उनका इंट्रोडक्शन मांगूंगी कुछ इंटरेस्टिंग तरीके से जैसे वह अपने आप को डिस्क्राइब कीजिए या आपकी कोई अच्छी क्वालिटी की कोई एक बेड क्वालिटी और इस तरह से हम इंटरेस्टिंग गेम की तरह उनका इंट्रोडक्शन लेंगे और फिर उनको मोटिवेट करेंगे कि जो हमारी स्टडीज होने वाली है वह हमें अजी बॉर्डर नहीं लेना हमें उसको खुश होकर करना है और जिस तरीके से हम हर रोज का काम हर रोज कर लेते हैं तो हमारे ऊपर बॉर्डर नहीं आता तो सिम चीज हम क्लास में जो भी क्लास में हम सीखेंगे तो हर रोज का काम हम हर रोज करने की कोशिश करेंगे ताकि हमारे पर बर्ड अन्ना और दूसरे टाइप की क्लास में भी हो सकती है कि ऑलरेडी उस क्लास को मैप पढ़ाती हूं और अब मैं सेशन है ऑलरेडी मेरी क्लास मेरे को जानती है और मैं भी अपने क्लास को जानती हूं तो हम उनको मोटिवेट करेंगे कि किस तरह से हम अपना ही सेशन स्टार्ट करने वाले हैं बिल्कुल पॉजिटिव रहने वाले हैं और बहुत अच्छे तरीके से हम इन्फेक्शन करने वाले हैं और आप किसी भी तरह की कोई प्रॉब्लम है तो वह अपने टीचर से शेयर कर सकते हैं पर्सनल प्रॉब्लम भी आप शेयर कर सकते हैं और इस तरह से हम वेट करेंगे फर्स्ट डे हम कुछ नहीं पढ़ने वाले 10 टन टन करने वाले हैं और कोई इंटरेस्टिंग गेम भी खेल थैंक यू

aap apni kaksha ke baccho ko school ke pehle din ke liye kaise taiyar karenge toh yahan meri kaksha ke bacche do type ke ho sakte hain ek aise bacche jo first time meri class me aa rahe hain aur unka pehla din hai aur mera bhi unke saath pehla din hai toh sabse pehle main apna introduction dungi aur unse unka introduction mangungi kuch interesting tarike se jaise vaah apne aap ko describe kijiye ya aapki koi achi quality ki koi ek bed quality aur is tarah se hum interesting game ki tarah unka introduction lenge aur phir unko motivate karenge ki jo hamari studies hone wali hai vaah hamein aji border nahi lena hamein usko khush hokar karna hai aur jis tarike se hum har roj ka kaam har roj kar lete hain toh hamare upar border nahi aata toh sim cheez hum class me jo bhi class me hum sikhenge toh har roj ka kaam hum har roj karne ki koshish karenge taki hamare par bird anna aur dusre type ki class me bhi ho sakti hai ki already us class ko map padhati hoon aur ab main session hai already meri class mere ko jaanti hai aur main bhi apne class ko jaanti hoon toh hum unko motivate karenge ki kis tarah se hum apna hi session start karne waale hain bilkul positive rehne waale hain aur bahut acche tarike se hum infection karne waale hain aur aap kisi bhi tarah ki koi problem hai toh vaah apne teacher se share kar sakte hain personal problem bhi aap share kar sakte hain aur is tarah se hum wait karenge first day hum kuch nahi padhne waale 10 ton ton karne waale hain aur koi interesting game bhi khel thank you

आप अपनी कक्षा के बच्चों को स्कूल के पहले दिन के लिए कैसे तैयार करेंगे तो यहां मेरी कक्षा क

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  139
WhatsApp_icon
user

Kartik

Answer teller

0:39
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पहले मैं अपने बच्चों का इंट्रोडक्शन लूंगा और उन्हें जीत करूंगा इंटरेस्ट ने अपनी पहली क्लास में मैं वह सब बताऊंगा सदाचार की बातें किए करना चाहिए कुछ कमेंट जरूर धन्यवाद

pehle main apne baccho ka introduction lunga aur unhe jeet karunga interest ne apni pehli class me main vaah sab bataunga sadachar ki batein kiye karna chahiye kuch comment zaroor dhanyavad

पहले मैं अपने बच्चों का इंट्रोडक्शन लूंगा और उन्हें जीत करूंगा इंटरेस्ट ने अपनी पहली क्लास

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  109
WhatsApp_icon
user

Anchal

Teacher

0:36
Play

Likes  8  Dislikes    views  97
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!