यदि कोई छात्र आपसे बहस करता है तो क्या आप नाराज हो जाते हैं?...


user

Usha Batra

Beauty Therapist

0:35
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बिल्कुल नहीं कभी नाराज नहीं होते हो बच्चों का जो अंदर का सिस्टम है इंटरनल एनिमल है उसको निकलने देना चाहिए बच्चे क्या चाहते हैं बच्चे क्या कहना चाहते हैं उस बात को भी ध्यान से समझो दुख का पेरेंट्स का नाम लिख देना है हमारे में बैलेंस नहीं होना उनको सेटिस्फाइड करता है कॉल ओपन अगर हम नाराज हो जाएंगे तो खराब हो जाएगा

bilkul nahi kabhi naaraj nahi hote ho baccho ka jo andar ka system hai internal animal hai usko nikalne dena chahiye bacche kya chahte hain bacche kya kehna chahte hain us baat ko bhi dhyan se samjho dukh ka parents ka naam likh dena hai hamare me balance nahi hona unko setisfaid karta hai call open agar hum naaraj ho jaenge toh kharab ho jaega

बिल्कुल नहीं कभी नाराज नहीं होते हो बच्चों का जो अंदर का सिस्टम है इंटरनल एनिमल है उसको नि

Romanized Version
Likes  57  Dislikes    views  549
KooApp_icon
WhatsApp_icon
30 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!