जब लोग आपके बारे में बुरा कहते हैं तो आपकी प्रतिक्रिया क्या होती है?...


user
4:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो पूजा एंड आई होप और घर पर हूं सिर्फ आपके बारे में बुरा कहते हैं तो आपकी प्रतिक्रिया क्या होती है तो जो मेरे अपनी पर्सनल लाइफ में प्रतिक्रिया होती है तो लोगों के लिए तो हमारी लाइफ में जब कोई बुरा कहता है हमको दो टाइप के लोग होते हैं एक वो जो सिर्फ बुरा ही आपको कहते हैं उनका अभी आपको बुरा कहना होता है और सिक्के के दो हमेशा दो पहलू होते हैं कि आप बुरे ही तो नहीं हो सकते आप अच्छे भी तो आपके अंदर अच्छाइयां भी तो होंगे और आप अच्छे ही नहीं हो सकते बुराइयां में भी दोनों चीज होती लेकिन कोई व्यक्ति बार-बार आपकी लाइफ में आता है या होता है आपके अड़ोस पड़ोस के हो सकते हैं घर के हो सकते हैं कोई भूल सकता है तो उसका मैं आपको बुरा कहना है आपने कुछ भी कर लिया हो वह सिर्फ बुराइयां को बनाता है बुराई करता है तो सर ऐसा है ऐसे लोगों को इग्नोर करना है मैं ही भलाई है इनके मुंह लगने का कोई मतलब नहीं है जरा आप इनके मुंह लगते हैं तो 10 मिनट लिए आप अपने लाइफ का बहुत ही बेहतर टाइम निकाल कर गया कर रहे हैं और कुछ नहीं और इनके मुंह बंद कर दे कर दीजिए क्योंकि आप जानते हैं कि जिस चीज पर प्रेशर करना बंद कर देते हैं ध्यान देना बंद कर देते हो जाती है और दूसरी तरफ आते हैं क्योंकि इनका पता है क्या होता है 1 सेकंड में दूसरे को जाने से पहले मैं बोलूंगा कि यह जो लोग होते हैं जो सिर्फ बुरा कहते हैं इनका इनको खुद नहीं पता होता है कि वाकई में यह बुरा को कहकर वाकई में कुछ बुरा है आपके अंदर इनका एम होता है आपकी पॉजिटिविटी को आपके एनर्जी को ट्रेन करने का एक टाइम होता है यह नहीं चाहते हैं कि आप कुछ करें अच्छे हो इनको खुद नहीं पता है दूसरी तरफ चलते हैं जो दूसरे टाइप के लोग होते हैं जिनका एम आपको बुरा कहना नहीं होता वह उनको जब कोई काम या अभी कोई है बेटा सच में हमको लगता है गलत है तो गलत नहीं लेकिन उनके पॉइंट में लग रहा है तुमको गलत है तभी वह आपको गलत कहते हैं हमेशा नहीं कहते हैं वाक्य झाइयों को भी देखते हैं ठीक है और उसके लिए फिर सेट करते हैं आपको तो बुराई जब देखते हैं याद आपके काम में सच में बुराई है आपके हाथ में सबसे बड़ा है तभी वह गलत कह रहे हैं ऐसे लोगों को आपने इग्नोर मत कीजिए उनसे बात कीजिए मैं तो ऐसे ही करता हूं क्योंकि क्या होता है कि अगर आप सच में सही हैं आपने बताते हैं उनको तो गलतफहमी है आपके बारे में तो आप उनको बता तो उनकी गलतफहमी दूर हो जाएगी ऐसे लोगों के ऐसे ऑडियंस कि ऐसे फॉलोअर्स की जरूरत होती है लाइफ में तो उनको आप बात नहीं करेंगे जो हमेशा की गलतियां नहीं बताते आप की अच्छाइयां बताते वह जब गलतियां बताते हैं कि तुम से जरूर बात कीजिए फोन मत कीजिए इससे क्या होगा कि अगर आपके काम में आते हैं पेट में आपके अच्छे में कुछ गलत है तो आपको समझ आ जाएगा जब आप उनके साथ कन्वर्जन करेंगे उनकी नजर से अपने काम को देखेंगे ठीक है उसे सुधारने में आपको है बट जो है हेल्प मिलेगी और अगर आप सही हैं वह गलत फहमी में थे तो आप कन्वर्सेशन के थ्रू उनकी गलतफहमी दूर कर सकते हैं इससे दोनों के बीच में बहुत अच्छा लगता है और कुछ नहीं मिलता तो एक चीज बहुत अच्छी होती है जो कहते हैं नॉलेज इनक्रीस होती है दूसरे से बात करने से और एक बहुत अच्छा बनता है देखने के लिए यहां पर बात जरुर करना चाहिए ऐसे लोगों को कभी दिन आए नहीं करना चाहिए और नहीं करना चाहिए जो आप की अच्छाइयां भी बताते हैं अगर वह गलतियां बताते हैं जो अच्छाइयां बताते हैं उन से जरूर बात कीजिए उनसे कर मुझे सेंड कीजिए कि वह क्यों आपके काम को लेकर हैं तुम ऐसा ही करते हो इसी तरह से मैं डील करती हूं ऐसे लोगों मैंने सवाल का जवाब नहीं दिया थैंक यू सो मच घर पर ही है सेक्स

hello puja and I hope aur ghar par hoon sirf aapke bare me bura kehte hain toh aapki pratikriya kya hoti hai toh jo mere apni personal life me pratikriya hoti hai toh logo ke liye toh hamari life me jab koi bura kahata hai hamko do type ke log hote hain ek vo jo sirf bura hi aapko kehte hain unka abhi aapko bura kehna hota hai aur sikke ke do hamesha do pahaloo hote hain ki aap bure hi toh nahi ho sakte aap acche bhi toh aapke andar achaiya bhi toh honge aur aap acche hi nahi ho sakte buraiyan me bhi dono cheez hoti lekin koi vyakti baar baar aapki life me aata hai ya hota hai aapke ados pados ke ho sakte hain ghar ke ho sakte hain koi bhool sakta hai toh uska main aapko bura kehna hai aapne kuch bhi kar liya ho vaah sirf buraiyan ko banata hai burayi karta hai toh sir aisa hai aise logo ko ignore karna hai main hi bhalai hai inke mooh lagne ka koi matlab nahi hai zara aap inke mooh lagte hain toh 10 minute liye aap apne life ka bahut hi behtar time nikaal kar gaya kar rahe hain aur kuch nahi aur inke mooh band kar de kar dijiye kyonki aap jante hain ki jis cheez par pressure karna band kar dete hain dhyan dena band kar dete ho jaati hai aur dusri taraf aate hain kyonki inka pata hai kya hota hai 1 second me dusre ko jaane se pehle main boloonga ki yah jo log hote hain jo sirf bura kehte hain inka inko khud nahi pata hota hai ki vaakai me yah bura ko kehkar vaakai me kuch bura hai aapke andar inka M hota hai aapki positivity ko aapke energy ko train karne ka ek time hota hai yah nahi chahte hain ki aap kuch kare acche ho inko khud nahi pata hai dusri taraf chalte hain jo dusre type ke log hote hain jinka M aapko bura kehna nahi hota vaah unko jab koi kaam ya abhi koi hai beta sach me hamko lagta hai galat hai toh galat nahi lekin unke point me lag raha hai tumko galat hai tabhi vaah aapko galat kehte hain hamesha nahi kehte hain vakya jhaiyon ko bhi dekhte hain theek hai aur uske liye phir set karte hain aapko toh burayi jab dekhte hain yaad aapke kaam me sach me burayi hai aapke hath me sabse bada hai tabhi vaah galat keh rahe hain aise logo ko aapne ignore mat kijiye unse baat kijiye main toh aise hi karta hoon kyonki kya hota hai ki agar aap sach me sahi hain aapne batatey hain unko toh galatfahamee hai aapke bare me toh aap unko bata toh unki galatfahamee dur ho jayegi aise logo ke aise adiyans ki aise followers ki zarurat hoti hai life me toh unko aap baat nahi karenge jo hamesha ki galtiya nahi batatey aap ki achaiya batatey vaah jab galtiya batatey hain ki tum se zaroor baat kijiye phone mat kijiye isse kya hoga ki agar aapke kaam me aate hain pet me aapke acche me kuch galat hai toh aapko samajh aa jaega jab aap unke saath conversion karenge unki nazar se apne kaam ko dekhenge theek hai use sudhaarne me aapko hai but jo hai help milegi aur agar aap sahi hain vaah galat fahami me the toh aap conversation ke through unki galatfahamee dur kar sakte hain isse dono ke beech me bahut accha lagta hai aur kuch nahi milta toh ek cheez bahut achi hoti hai jo kehte hain knowledge increase hoti hai dusre se baat karne se aur ek bahut accha banta hai dekhne ke liye yahan par baat zaroor karna chahiye aise logo ko kabhi din aaye nahi karna chahiye aur nahi karna chahiye jo aap ki achaiya bhi batatey hain agar vaah galtiya batatey hain jo achaiya batatey hain un se zaroor baat kijiye unse kar mujhe send kijiye ki vaah kyon aapke kaam ko lekar hain tum aisa hi karte ho isi tarah se main deal karti hoon aise logo maine sawaal ka jawab nahi diya thank you so match ghar par hi hai sex

हेलो पूजा एंड आई होप और घर पर हूं सिर्फ आपके बारे में बुरा कहते हैं तो आपकी प्रतिक्रिया क्

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  122
WhatsApp_icon
25 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

ALI MON

income tax and sales tax, financial work

0:59
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जब लोग मुझे बुरा कहते हैं तो मैं उस पर बहुत सोच विचार करता हूं या फिर ऐसी क्या कंडीशन थी कि लोगों ने बुरा कहा क्योंकि अगर कोई गलती किसी को बुरा कहता है तो कहीं ना कहीं कोई ना कोई कारण होता है उस बुराई को निकालने का कोई भी निकलेगी तो उसका कोई कारण होता है तो उसका रुक जाना जाता है कि क्या गलती हुई और वाकई में क्या बुराई बताई जा रही है क्या मैं वैसा ही हूं तब ऐसी गलतियां मुझसे हुई है तो पहले इतना इस पर विचार करता हूं ऐसा नहीं कि मैं क्रोधित हो जाता हूं कि नहीं तुमने ऐसा क्यों कहा कि नहीं क्योंकि समझदार व्यक्ति की यही है कि उसको अपनी चीजों को बुराइयों को देखना चाहिए क्योंकि अगर सामने वाला मेरी बुराइयों को नहीं बताएगा तो हमें अच्छे और बुरे की पहचान कैसे होगी तो अच्छे बुरे की पहचान होने के लिए ही सामने वाले की बुराई बताता है कि आपके अंदर एक बात उसको दूर करने की कोशिश की

jab log mujhe bura kehte hain toh main us par bahut soch vichar karta hoon ya phir aisi kya condition thi ki logo ne bura kaha kyonki agar koi galti kisi ko bura kahata hai toh kahin na kahin koi na koi karan hota hai us burayi ko nikalne ka koi bhi nikalegi toh uska koi karan hota hai toh uska ruk jana jata hai ki kya galti hui aur vaakai me kya burayi batai ja rahi hai kya main waisa hi hoon tab aisi galtiya mujhse hui hai toh pehle itna is par vichar karta hoon aisa nahi ki main krodhit ho jata hoon ki nahi tumne aisa kyon kaha ki nahi kyonki samajhdar vyakti ki yahi hai ki usko apni chijon ko buraiyon ko dekhna chahiye kyonki agar saamne vala meri buraiyon ko nahi batayega toh hamein acche aur bure ki pehchaan kaise hogi toh acche bure ki pehchaan hone ke liye hi saamne waale ki burayi batata hai ki aapke andar ek baat usko dur karne ki koshish ki

जब लोग मुझे बुरा कहते हैं तो मैं उस पर बहुत सोच विचार करता हूं या फिर ऐसी क्या कंडीशन थी क

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  75
WhatsApp_icon
user

अमित कुमार दीक्षित "आदिदेव"

विधिवक्ता, कैरियर कॉउंसेलर एवं समाजसेवी

1:39
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जब लोग मुझे बुरा कहते हैं तो इस पर मेरी क्या प्रक्रिया होती है इसको जानने से बेहतर है आप यह जानिए कि आपको यदि कोई बुरा कहे तो आपकी क्या प्रतिक्रिया होनी चाहिए मैं आपको एक लाइन में बताना चाहूंगा कि जब भी कोई आपकी निंदा करे आपकी बुराई करें तो आप पश्चात तो उसको जवाब दीजिए वह आपके मामले में जिस विषय पर आलोचना कर रहा हूं इसको आप अपने मन में गांठ बांध दिए कि यह व्यक्ति जिस विषय पर मेरी आलोचना कर रहा है यह भी यह सकारात्मक दिशा में जाने वाली चीज है तो हमें इस विषय पर सुधार करना है आपकी गंदी आदतों के लिए कोई आलोचना कर रहा हूं या आपके पढ़ाई में लापरवाही के लिए आलोचना कर रहा हो या आपकी कोई ऐसी हैबिट हो जो कि सोसाइटी में बेहतर ना हो उसके आलोचना कर रहा हो तो आप उसको सुधार आलोचना का जीवन में बड़ा महत्व है आप देखते होंगे सरकार की कितनी आलोचना होती है लेकिन सरकार क्या करती है आलोचना करने वाले को भूल नहीं देती सरकार सुधार करती है हमेशा व्यक्ति को आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करती है बसंती आप उसको सकारात्मक तरीके से ऐड करें क्योंकि देखिए समाज है समाज में सबसे बड़ा रोग क्या कहेंगे लोग लेकिन कबीर दास जी ने कहा है निंदक नियरे राखिए आंगन कुटी छवाय 4 साल को गहलोत थोथा देई उड़ाय अर्थात कोई भी आईडी आपकी आलोचना कर रहा है आलोचना के विषय से आप अपने कार्य की वस्तु निकालिए दिवस निकाली जो आपको प्रेरणा प्रदान करें कभी भी निंदा करने वाले व्यक्ति पर तुरंत प्रतिक्रिया नहीं देनी चाहिए धन्यवाद

jab log mujhe bura kehte hain toh is par meri kya prakriya hoti hai isko jaanne se behtar hai aap yah janiye ki aapko yadi koi bura kahe toh aapki kya pratikriya honi chahiye main aapko ek line me batana chahunga ki jab bhi koi aapki ninda kare aapki burayi kare toh aap pashchat toh usko jawab dijiye vaah aapke mamle me jis vishay par aalochana kar raha hoon isko aap apne man me ganth bandh diye ki yah vyakti jis vishay par meri aalochana kar raha hai yah bhi yah sakaratmak disha me jaane wali cheez hai toh hamein is vishay par sudhaar karna hai aapki gandi aadaton ke liye koi aalochana kar raha hoon ya aapke padhai me laparwahi ke liye aalochana kar raha ho ya aapki koi aisi habit ho jo ki society me behtar na ho uske aalochana kar raha ho toh aap usko sudhaar aalochana ka jeevan me bada mahatva hai aap dekhte honge sarkar ki kitni aalochana hoti hai lekin sarkar kya karti hai aalochana karne waale ko bhool nahi deti sarkar sudhaar karti hai hamesha vyakti ko aage badhne ke liye prerit karti hai basanti aap usko sakaratmak tarike se aid kare kyonki dekhiye samaj hai samaj me sabse bada rog kya kahenge log lekin kabir das ji ne kaha hai nindak niyare rakhiye aangan kuti chavay 4 saal ko gehlot thotha uday arthat koi bhi id aapki aalochana kar raha hai aalochana ke vishay se aap apne karya ki vastu nikaliye divas nikali jo aapko prerna pradan kare kabhi bhi ninda karne waale vyakti par turant pratikriya nahi deni chahiye dhanyavad

जब लोग मुझे बुरा कहते हैं तो इस पर मेरी क्या प्रक्रिया होती है इसको जानने से बेहतर है आप य

Romanized Version
Likes  26  Dislikes    views  782
WhatsApp_icon
user

Emam Idrisi

Director (MBSC Group)

1:04
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जब लोग मेरे बारे में बुरा कहते तो मेरी प्रतिक्रिया अच्छी होती है करके मैं सोचता हूं कि अगर इनको आज ही बुरा बोलने का मौका दिया है मैंने तुम्हें प्रॉब्लम नेक्स्ट टाइम ऐसा कोई गलती नहीं करूंगा कि लोग मुझे बुरा करें इसके लिए मैं अपने आप को इंप्रूव करता हूं और उस गलती को रिपीट से नहीं होने देता हूं और कोई ऐसी गलती दोबारा नहीं करता हूं जैसे लोग मेरे ऊपर कोई भी टीका टिप्पणी करें कमेंट करें या मुझे बुरा बोले इसके लिए सबसे इंपोर्टेंट बातें ही है क्या अगर मुझे कोई बुरा नहीं बोले तो मुझे आपसे हर एक्टिविटी के ऊपर बी केयरफुल होकर के वर्क करना पड़ेगा मैं सही हूं तो मुझे कोई बुरा नहीं बोलेगा कोई कमेंट पास नहीं करेगा तो प्लीज इस चीज को हमेशा नोट करें कि दूसरों को उनकी प्रतिक्रिया के ऊपर आप अपनी एक्शन या अपनी कुछ अपनी बातों को रखने से अच्छा है कि उस तरह की कोई गलती दोबारा ना करें कि लोग आपके पर कोई कम्युनिकेशन कोई कमेंट करें

jab log mere bare me bura kehte toh meri pratikriya achi hoti hai karke main sochta hoon ki agar inko aaj hi bura bolne ka mauka diya hai maine tumhe problem next time aisa koi galti nahi karunga ki log mujhe bura kare iske liye main apne aap ko improve karta hoon aur us galti ko repeat se nahi hone deta hoon aur koi aisi galti dobara nahi karta hoon jaise log mere upar koi bhi tika tippani kare comment kare ya mujhe bura bole iske liye sabse important batein hi hai kya agar mujhe koi bura nahi bole toh mujhe aapse har activity ke upar be keyarful hokar ke work karna padega main sahi hoon toh mujhe koi bura nahi bolega koi comment paas nahi karega toh please is cheez ko hamesha note kare ki dusro ko unki pratikriya ke upar aap apni action ya apni kuch apni baaton ko rakhne se accha hai ki us tarah ki koi galti dobara na kare ki log aapke par koi communication koi comment kare

जब लोग मेरे बारे में बुरा कहते तो मेरी प्रतिक्रिया अच्छी होती है करके मैं सोचता हूं कि अगर

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  26
WhatsApp_icon
user

Anshu Saxena

Business Manager

0:48
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जब लोग ऐसी प्रतिक्रिया देते हैं जिससे यह महसूस होता है कि मैं बुरा हूं उस वक्त में सिर्फ चुप रहता हूं और उसकी कही बातों को सोचता हूं शायद उसने सच कहा हो इसलिए अपने आप को टटोल ता हूं अगर उसकी कही बात सच होती है तो अपनी बुराई को दूर करने की कोशिश करता हूं और अगर वह गलत है उसकी प्रतिक्रिया गलत है उस समय का इंतजार करता हूं जब वह मेरे बारे में अपनी राय बदल दे

jab log aisi pratikriya dete hain jisse yah mehsus hota hai ki main bura hoon us waqt me sirf chup rehta hoon aur uski kahi baaton ko sochta hoon shayad usne sach kaha ho isliye apne aap ko tatol ta hoon agar uski kahi baat sach hoti hai toh apni burayi ko dur karne ki koshish karta hoon aur agar vaah galat hai uski pratikriya galat hai us samay ka intejar karta hoon jab vaah mere bare me apni rai badal de

जब लोग ऐसी प्रतिक्रिया देते हैं जिससे यह महसूस होता है कि मैं बुरा हूं उस वक्त में सिर्फ च

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  74
WhatsApp_icon
user

bhaand's Theatre and Acting Classes

Acting And drama Coach Casting director Drama Director

1:25
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जब आपके बारे में लोग बुरा बोले तो आपको क्या करना चाहिए देखिए जब किसी ने बुरा बोला तो पहले मुझे यह देखना चाहिए कि किन किन बातों के लिए मुझे उसने बुरा बोला अगर आप बुरे हो तू आपको समझ में आ जाएगा कि हां यह दुनिया की नजर से बुरा है मुझे इस पर ध्यान देना चाहिए और अगर फिर आपने कुछ अच्छा किया और फिर भी दुनिया आपको बुरा बोल रही है तो इसका मतलब है कि आप कुछ अच्छा करने जा रहे हो आप तरक्की पर हो और वो लोग जो आपको बुरा बोल रहे हैं वह आपके दुश्मन नहीं है वह आपके सच्चे दोस्त हैं जो आपको कुछ और अच्छा करने के लिए प्रेरित कर रहे हैं वह आपके जीवन से आता है रख लें क्या और अच्छा करो और अच्छा करो और अच्छा करो तो इसलिए उन लोगों के बारे में बुरा ना सोचे उन लोगों को एक प्रेरणा स्रोत समझें और वह आपको जीवन में कुछ अच्छा करने के लिए प्रेरित कर रहे हैं तो इतना ज्यादा ना सोचे आप अच्छा करिए करके दिखाइए उन लोगों को कि हां मैं इस से भी बेहतर कर सकता हूं और बेहतर कर सकता हूं वह भी रो और बोलेंगे आपको कि यह बुरा है और बेहतर कर सकते हैं तो आप को सुधार रहे हैं

jab aapke bare me log bura bole toh aapko kya karna chahiye dekhiye jab kisi ne bura bola toh pehle mujhe yah dekhna chahiye ki kin kin baaton ke liye mujhe usne bura bola agar aap bure ho tu aapko samajh me aa jaega ki haan yah duniya ki nazar se bura hai mujhe is par dhyan dena chahiye aur agar phir aapne kuch accha kiya aur phir bhi duniya aapko bura bol rahi hai toh iska matlab hai ki aap kuch accha karne ja rahe ho aap tarakki par ho aur vo log jo aapko bura bol rahe hain vaah aapke dushman nahi hai vaah aapke sacche dost hain jo aapko kuch aur accha karne ke liye prerit kar rahe hain vaah aapke jeevan se aata hai rakh le kya aur accha karo aur accha karo aur accha karo toh isliye un logo ke bare me bura na soche un logo ko ek prerna srot samajhe aur vaah aapko jeevan me kuch accha karne ke liye prerit kar rahe hain toh itna zyada na soche aap accha kariye karke dikhaiye un logo ko ki haan main is se bhi behtar kar sakta hoon aur behtar kar sakta hoon vaah bhi ro aur bolenge aapko ki yah bura hai aur behtar kar sakte hain toh aap ko sudhaar rahe hain

जब आपके बारे में लोग बुरा बोले तो आपको क्या करना चाहिए देखिए जब किसी ने बुरा बोला तो पहले

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  71
WhatsApp_icon
user

राकेश

Journalist

0:51
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कई बार हमने देखा है कि लोग हमारे बारे में बहुत बुरा कहते हैं हो सकता है कि लोग हमारे प्रति चाहत रखते हैं यह चीजें इन सब पर निर्भर करता था पर वो हमारे हमारे बारे में अच्छा या बुरा सोचते हैं अब हमें यह देखना होगा कि जो हमारे बारे में सोच रहा है पूरा सोचता है तो उसकी भावनाएं हमारे साथ कैसी है यदि हमारे साथ उसकी भावनाएं अच्छी है और हमारे बारे में बुरा सोच रहा है तो हो सकता है कि हमने कोई कमी हो हमें उस कमी को दूर निकाल देते हैं यदि उसकी भावना हमारे साथ दुर्व्यवहार है और हमारे लिए बुरा सोच रहा है तुझे भी सोच कर चलना चाहिए कि उसके सोचने से हमारे साथ कुछ बुरा नहीं हो सकता हम बेहतर वह भी हम अपने आप को और मजबूत करें और अच्छा प्रयास करें ताकि उन समस्याओं से हम दूर हो सके और पार अपने आप को आगे बढ़ा सकते हैं

kai baar humne dekha hai ki log hamare bare me bahut bura kehte hain ho sakta hai ki log hamare prati chahat rakhte hain yah cheezen in sab par nirbhar karta tha par vo hamare hamare bare me accha ya bura sochte hain ab hamein yah dekhna hoga ki jo hamare bare me soch raha hai pura sochta hai toh uski bhaavnaye hamare saath kaisi hai yadi hamare saath uski bhaavnaye achi hai aur hamare bare me bura soch raha hai toh ho sakta hai ki humne koi kami ho hamein us kami ko dur nikaal dete hain yadi uski bhavna hamare saath durvyavahar hai aur hamare liye bura soch raha hai tujhe bhi soch kar chalna chahiye ki uske sochne se hamare saath kuch bura nahi ho sakta hum behtar vaah bhi hum apne aap ko aur majboot kare aur accha prayas kare taki un samasyaon se hum dur ho sake aur par apne aap ko aage badha sakte hain

कई बार हमने देखा है कि लोग हमारे बारे में बहुत बुरा कहते हैं हो सकता है कि लोग हमारे प्रति

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  92
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बहुत ही अच्छा सवाल पूछा है मेरे भाई ने जब लोग आपके बारे में बुरा कहते हैं तो आपकी प्रतिक्रिया क्या होती है देखो हमारे पास सहयोग में रहना बहुत ही जरूरी है लोगों का काम ही है कि भला बुरा कहना और हमारा काम है कि कोई आपको बुरा कहता है तो उसको प्रत्युत्तर ना देते आप अपने सुधार ला करके अब आगे चलना सीखे ऐसा करने से हम तरक्की कर सकते हैं जीवन में आगे जा सकते हैं किसी राम को बुरा कहा हमारे मन को बात लग गई और हम रुक गए तो हमारी तरक्की रुक सकती है इसीलिए जो कहता है उसे कहने दो कि उनकी एक कला जो होती है तो कुत्ते के माफिक होती है हमें गली से गुजर रहे थे हम एक गली से गुजर रहे थे अचानक से एक घर में कुत्ता आया और हमको भोकने लगा हमने हमारा संयम नहीं खोया हम बस चलते रहे हमें पता था कि कुत्ता खाली बकरा कटेगा नहीं और हमारे पीछे दौड़े गाने क्योंकि हम दौड़ते थे तो कुत्ता हमारे पीछे दौड़ता था हम संयम से चलते रहे पर हमारा ख्याल पूरे कुत्ते की तरफ था कि काटना ले आगे चले गए कुत्ते की सीमा खत्म हो गए कुत्ता वापस वो करना बंद कर दिया और घर पर चला आया हम थोड़ा आगे गए गुस्से गली में से दूसरा कुत्ता आया पहले कुत्ते के सामान को भी कुत्ता अंबर भोकने लगा थोड़ा टाइम आगे जाने के बाद में जैसे 100 200 कदम आगे जाने के बाद में वह कुत्ता भी जगह पर रुक गया बुरा कहने वाले लोग एक दिन बुरा बोलते हैं उसके बाद में रुक जाते हैं अगर हम चलते रहे हमारा सहयोग कभी खराब नहीं हुआ और हमारी तरक्की हुई तो बुरा कहने वाले लोग वापस करते हैं कि नहीं साला हमने तो गलत सोचा था यह इंसानी ऐसा है इसीलिए आप आपका सहयोग मत खोलो और चलते रहें चलते रहें जब तक तुम्हारी मंजिल तुम पानी करते तुम्हारी मंजिल को तुम प्राप्त नहीं करते हासिल नहीं करते जब तक आप चलते रहेंगे तो पूरा करने वाले लोग जगह पर खत्म हो जाएंगे जगह पर चुप बैठेंगे और वही लोग आपको वापिस अच्छा कहने लगेंगे

bahut hi accha sawaal poocha hai mere bhai ne jab log aapke bare me bura kehte hain toh aapki pratikriya kya hoti hai dekho hamare paas sahyog me rehna bahut hi zaroori hai logo ka kaam hi hai ki bhala bura kehna aur hamara kaam hai ki koi aapko bura kahata hai toh usko pratyuttar na dete aap apne sudhaar la karke ab aage chalna sikhe aisa karne se hum tarakki kar sakte hain jeevan me aage ja sakte hain kisi ram ko bura kaha hamare man ko baat lag gayi aur hum ruk gaye toh hamari tarakki ruk sakti hai isliye jo kahata hai use kehne do ki unki ek kala jo hoti hai toh kutte ke mafik hoti hai hamein gali se gujar rahe the hum ek gali se gujar rahe the achanak se ek ghar me kutta aaya aur hamko bhokne laga humne hamara sanyam nahi khoya hum bus chalte rahe hamein pata tha ki kutta khaali bakara katega nahi aur hamare peeche daude gaane kyonki hum daudte the toh kutta hamare peeche daudata tha hum sanyam se chalte rahe par hamara khayal poore kutte ki taraf tha ki kaatna le aage chale gaye kutte ki seema khatam ho gaye kutta wapas vo karna band kar diya aur ghar par chala aaya hum thoda aage gaye gusse gali me se doosra kutta aaya pehle kutte ke saamaan ko bhi kutta amber bhokne laga thoda time aage jaane ke baad me jaise 100 200 kadam aage jaane ke baad me vaah kutta bhi jagah par ruk gaya bura kehne waale log ek din bura bolte hain uske baad me ruk jaate hain agar hum chalte rahe hamara sahyog kabhi kharab nahi hua aur hamari tarakki hui toh bura kehne waale log wapas karte hain ki nahi sala humne toh galat socha tha yah insani aisa hai isliye aap aapka sahyog mat kholo aur chalte rahein chalte rahein jab tak tumhari manjil tum paani karte tumhari manjil ko tum prapt nahi karte hasil nahi karte jab tak aap chalte rahenge toh pura karne waale log jagah par khatam ho jaenge jagah par chup baitheange aur wahi log aapko vaapas accha kehne lagenge

बहुत ही अच्छा सवाल पूछा है मेरे भाई ने जब लोग आपके बारे में बुरा कहते हैं तो आपकी प्रतिक्र

Romanized Version
Likes  382  Dislikes    views  2408
WhatsApp_icon
user
0:09
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कहते हैं तो मुझे खुशी होती है क्योंकि अपनी गलतियों को देखने का मौका मिलता है

kehte hain toh mujhe khushi hoti hai kyonki apni galatiyon ko dekhne ka mauka milta hai

कहते हैं तो मुझे खुशी होती है क्योंकि अपनी गलतियों को देखने का मौका मिलता है

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  95
WhatsApp_icon
user

Manish Menghani

Health & parenting Advisor

5:42
Play

Likes  268  Dislikes    views  3837
WhatsApp_icon
user
4:46
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मित्र नमस्कार मैं बैटरी नेशन पटेल आपके समक्ष प्रस्तुत हूं आपका प्रश्न है जब लोग आपके बारे में बुरा कहते हैं तो आप प्रक्रिया क्या होती है निश्चित रूप से जब हमें कोई बुरा कहता है हमारा मन क्यों होता है और जिसके माध्यम से यह सूचना मिलते ही या जो कोई कहता है उसके प्रति हमें एक प्रकार से गुस्सा क्रोध आता है उसने ऐसा क्यों कहा कभी कभी जीवन में है आदमी की गलतियां और उसके द्वारा किए गए कार्य दूसरों को नहीं समझ में आते हैं तो समाज में कई लोग ऐसे होते हैं जो पीठ पीछे बुराई करते हैं हमारे पैसा है फ्लावर पैसा है वह इस तरह का कर दो ही बार करता है और देश और उसके दिमाग में 1 मिनट ही बन जाती है कि आदमी एक बुरा है भले ही उसके अंदर कितनी कितनी बार भी अच्छा बनने से प्यार करता है सब कुछ है लेकिन वह सच्चाई को लोग नजरअंदाज करके अगर यह गलती कहीं आप ने कर दी तू उसके पीछे लोग पड़ जाते हैं यह समाज है समाज जो है हमेशा दूसरों की बुराई पहुंचा है और अपनी अच्छाई का बखान करता है इसलिए इस बात को लेकर के हम कभी भी मीठा न सोचें और वही बुराई करते हैं जो अपना आत्मचिंतन नहीं करते यह नहीं सोचते हैं कि हो सकता है अगले आदमी से गलती हो गई हो विनम्रता से अगर उससे कह दिया जाएगा तो सुधार कर लेना जिस दिन ये सोच लोगों में पैदा खुश रहेगी एक दूसरे का सहयोग करने के लिए विशेष से खुलकर बातें करने के लिए यह सब बुराइयां अपने आप मिट जाएंगे और अपने को किसी से प्रक्रिया करने की कोई जरूरत ही नहीं जब सामने वह व्यक्ति आवे और आपको लगे कि आज है हमको उससे बात करनी चाहिए तो तो बात करें नहीं तो उसको डाल दीजिए बुराई नहीं बुराई कितनी है पीछे रहती हैं उनको छुपाए लोग रहते हैं उतने अच्छा होता है अच्छाइयों का प्रसार हो बुराइयों का छुपाया जाए यही जीवन में उन्नति के मार्ग हैं और आगे बढ़ना है तो आपकी बुराई करने वालों पर ध्यान नहीं देना है और अच्छाई करण जो बताते हैं उनका सम्मान करना है उनसे सहयोग लेना है जो आपका हितेषी होगा निश्चित अगर कोई बात आपके बारे में वह सुनता है तो निश्चित रूप से पास आएगा तो चलेगा भाई साहब या बहन जी आपके बारे में सुना है कहां तक सच्चाई है या गलत ही लोग बना कर रहे हैं और जो इंसान आपसे जेल्सि करता है शिष्य करता है और निश्चित रूप से वह आपके बारे में उल्टा सीधा ही कहेगा चाहे जितना भी अच्छा बने उसकी नजरों में आप ऊंचा नहीं हो सकते दरिया का भाव है जब तक जाएगा नहीं तब तक की जो है समाज में वह लोग इसी तरह की वारदात करते रहेंगे इसलिए हमको ऐसे लोगों से दूर रहना है और अपने ऊपर आयुष बचाना है धन्यवाद

mitra namaskar main battery nation patel aapke samaksh prastut hoon aapka prashna hai jab log aapke bare me bura kehte hain toh aap prakriya kya hoti hai nishchit roop se jab hamein koi bura kahata hai hamara man kyon hota hai aur jiske madhyam se yah soochna milte hi ya jo koi kahata hai uske prati hamein ek prakar se gussa krodh aata hai usne aisa kyon kaha kabhi kabhi jeevan me hai aadmi ki galtiya aur uske dwara kiye gaye karya dusro ko nahi samajh me aate hain toh samaj me kai log aise hote hain jo peeth peeche burayi karte hain hamare paisa hai flower paisa hai vaah is tarah ka kar do hi baar karta hai aur desh aur uske dimag me 1 minute hi ban jaati hai ki aadmi ek bura hai bhale hi uske andar kitni kitni baar bhi accha banne se pyar karta hai sab kuch hai lekin vaah sacchai ko log najarandaj karke agar yah galti kahin aap ne kar di tu uske peeche log pad jaate hain yah samaj hai samaj jo hai hamesha dusro ki burayi pohcha hai aur apni acchai ka bakhan karta hai isliye is baat ko lekar ke hum kabhi bhi meetha na sochen aur wahi burayi karte hain jo apna atmachintan nahi karte yah nahi sochte hain ki ho sakta hai agle aadmi se galti ho gayi ho vinamrata se agar usse keh diya jaega toh sudhaar kar lena jis din ye soch logo me paida khush rahegi ek dusre ka sahyog karne ke liye vishesh se khulkar batein karne ke liye yah sab buraiyan apne aap mit jaenge aur apne ko kisi se prakriya karne ki koi zarurat hi nahi jab saamne vaah vyakti aawe aur aapko lage ki aaj hai hamko usse baat karni chahiye toh toh baat kare nahi toh usko daal dijiye burayi nahi burayi kitni hai peeche rehti hain unko chupaye log rehte hain utne accha hota hai acchhaiyon ka prasaar ho buraiyon ka chupaya jaaye yahi jeevan me unnati ke marg hain aur aage badhana hai toh aapki burayi karne walon par dhyan nahi dena hai aur acchai karan jo batatey hain unka sammaan karna hai unse sahyog lena hai jo aapka hiteshi hoga nishchit agar koi baat aapke bare me vaah sunta hai toh nishchit roop se paas aayega toh chalega bhai saheb ya behen ji aapke bare me suna hai kaha tak sacchai hai ya galat hi log bana kar rahe hain aur jo insaan aapse jelsi karta hai shishya karta hai aur nishchit roop se vaah aapke bare me ulta seedha hi kahega chahen jitna bhi accha bane uski nazro me aap uncha nahi ho sakte dariya ka bhav hai jab tak jaega nahi tab tak ki jo hai samaj me vaah log isi tarah ki vaardaat karte rahenge isliye hamko aise logo se dur rehna hai aur apne upar ayush bachaana hai dhanyavad

मित्र नमस्कार मैं बैटरी नेशन पटेल आपके समक्ष प्रस्तुत हूं आपका प्रश्न है जब लोग आपके बारे

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  95
WhatsApp_icon
user

Manoj Kumar

Spiritual Knowdge / working as a Social Worker

1:06
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जब लोग मेरे बारे में बुरा कहते हैं तो मैं काम करता हूं क्योंकि मुझे पूर्ण संत की शरण मिली है और उन्होंने हमें ऐसा ज्ञान दिया है जिसके आधार पर हम निंदा सुनने के भी आदी हो चुके हैं क्योंकि परमात्मा की एक वाणी है जिसमें वह कहते हैं कि निंदक मेरे नाम और बसों ना मुझसे दूर कूड़ा करकट गंदगी भाई साहब करत है सूअर यानी कि निंदक को परमात्मा ने सुअर के समान बताया है जिस प्रकार सूअर गांव को करके गंदगी को अपने मुंह से साफ करता है ठीक उसी प्रकार निंदक व्यक्ति भी हमारे पाप कर्मों को हल्का करता है उसी समय इंसान को यह आध्यात्मिक ज्ञान हो जाता है तो वह निंदक की बातों का भी बुरा नहीं मानता

jab log mere bare me bura kehte hain toh main kaam karta hoon kyonki mujhe purn sant ki sharan mili hai aur unhone hamein aisa gyaan diya hai jiske aadhar par hum ninda sunne ke bhi adi ho chuke hain kyonki paramatma ki ek vani hai jisme vaah kehte hain ki nindak mere naam aur bason na mujhse dur kooda karakat gandagi bhai saheb karat hai suar yani ki nindak ko paramatma ne suar ke saman bataya hai jis prakar suar gaon ko karke gandagi ko apne mooh se saaf karta hai theek usi prakar nindak vyakti bhi hamare paap karmon ko halka karta hai usi samay insaan ko yah aadhyatmik gyaan ho jata hai toh vaah nindak ki baaton ka bhi bura nahi maanta

जब लोग मेरे बारे में बुरा कहते हैं तो मैं काम करता हूं क्योंकि मुझे पूर्ण संत की शरण मिली

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  44
WhatsApp_icon
user

AMIT PRAJAPATI

mechanical Engineer ( Computer,Automobile के ही सवाल पूछे) या फिर History,Mathematics,Geography,Computer Science Se जुड़े हुए सवाल पूछे

0:44
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

विकी लोग आपके बारे में बुरा कर इसका मतलब यह नहीं कि आप बुरे हो गए हो बस उनके नजरिया उनका बदल गए हैं आपको समझ ने कहा यदि आपको समझ नहीं पा रहे थे ऐसे तो आपको बुरा कहेंगे तभी नहीं क्या बुरे हो गए हैं आप अपना काम करते रहो आप मुस्कुरा के बात को टाल दी गई यादव चलेगा अगर आप भी प्रतिक्रिया गलत देंगे तो मत खराब भी हो सकते हैं कल सारी प्रॉब्लम देने पर जाती है तो मुझे लगता है कि आप प्रतिक्रिया में बस कुछ ना कहें और अपना काम करते रहे वही ठीक रहेगा समय बहुत पावरफुल होता है और आप हर इंसान को एक ना एक दिन उसका सही मतलब समझा देता है

vicky log aapke bare me bura kar iska matlab yah nahi ki aap bure ho gaye ho bus unke najariya unka badal gaye hain aapko samajh ne kaha yadi aapko samajh nahi paa rahe the aise toh aapko bura kahenge tabhi nahi kya bure ho gaye hain aap apna kaam karte raho aap muskura ke baat ko tal di gayi yadav chalega agar aap bhi pratikriya galat denge toh mat kharab bhi ho sakte hain kal saari problem dene par jaati hai toh mujhe lagta hai ki aap pratikriya me bus kuch na kahein aur apna kaam karte rahe wahi theek rahega samay bahut powerful hota hai aur aap har insaan ko ek na ek din uska sahi matlab samjha deta hai

विकी लोग आपके बारे में बुरा कर इसका मतलब यह नहीं कि आप बुरे हो गए हो बस उनके नजरिया उनका ब

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  139
WhatsApp_icon
user

Ganesh Joshi

Journalist

2:19
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमेशा जब लोग आपके बारे में बुरा कहते हैं तो आपकी प्रतिक्रिया अटैकिंग नहीं होनी चाहिए मेरी कभी नहीं होती है पहले मैं शांत तरीके से उसे सुन लेता हूं कि धैर्य पूर्वक उसका जवाब देता हूं जवाब देने की कई तरीके सीधे आप उसका उत्तर दे दे स्थिति को स्पष्ट कर दें कई बार जब कोई बुराई करता है तो वहीं पर उसका जवाब देना उचित रहता है नहीं तो उसके पीछे तमाम गलत धारणाएं बन जाती है आसपास का माहौल भी खराब होने लगता है दूसरा तरीका है कि आप ईमेल मैसेज और अन्य तरीके से भी उसका जवाब दे सकते हैं तीसरा तरीका यह है कि आप अप्रत्यक्ष रूप से कोई संदेश भेज वाकर या अपने बॉडी लैंग्वेज सही तरीके से उस व्यक्ति के बारे में आप जवाब दे सकते हैं जिन्होंने आपके लिए बुरा भला कहा हो इसके पीछे कई कारण होते हैं कि लोग बुराई करते समय आपके घर की परीक्षा भी लेते हैं ना कि आप कितने पेशेंट से रख सकते हैं आपको लगता है कि मैं पेशेंट्स रख सकता हूं तब तो ठीक है अगर आप तुरंत रिएक्शन कर देंगे और वह रिएक्शन मारपीट या फिर कोई और ऐसे गाली गलौज या फिर जहां पर आपका सम्मान ही नष्ट हो रहा है तो ऐसा काम कतई ना किया जाए धन्यवाद

hamesha jab log aapke bare me bura kehte hain toh aapki pratikriya attacking nahi honi chahiye meri kabhi nahi hoti hai pehle main shaant tarike se use sun leta hoon ki dhairya purvak uska jawab deta hoon jawab dene ki kai tarike sidhe aap uska uttar de de sthiti ko spasht kar de kai baar jab koi burayi karta hai toh wahi par uska jawab dena uchit rehta hai nahi toh uske peeche tamaam galat dharnae ban jaati hai aaspass ka maahaul bhi kharab hone lagta hai doosra tarika hai ki aap email massage aur anya tarike se bhi uska jawab de sakte hain teesra tarika yah hai ki aap apratyaksh roop se koi sandesh bhej vakar ya apne body language sahi tarike se us vyakti ke bare me aap jawab de sakte hain jinhone aapke liye bura bhala kaha ho iske peeche kai karan hote hain ki log burayi karte samay aapke ghar ki pariksha bhi lete hain na ki aap kitne patient se rakh sakte hain aapko lagta hai ki main patients rakh sakta hoon tab toh theek hai agar aap turant reaction kar denge aur vaah reaction maar peet ya phir koi aur aise gaali galoj ya phir jaha par aapka sammaan hi nasht ho raha hai toh aisa kaam katai na kiya jaaye dhanyavad

हमेशा जब लोग आपके बारे में बुरा कहते हैं तो आपकी प्रतिक्रिया अटैकिंग नहीं होनी चाहिए मेरी

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  245
WhatsApp_icon
user

Pradeep Solanki

Corporate Yoga Consultant

0:47
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जब आपके बारे में लोग बुरा कहते हैं तो कोई प्रतिक्रिया नहीं करनी चाहिए अट लीस्ट लोग आपको आपके बारे में बात कर रहे हैं बदनाम होगा तो क्या नाम ना होगा चाहे वह कर रहे हैं कुछ हुआ आपको देखते हैं शायद जलते होंगे इसी कारण से आपने बुरा कहते हैं जो भी हो भला बुरा कह रहे हैं जब तक आपको अपने मन से नहीं मानोगे कि हमें यह सच आपको पता है जो कुछ कह रहा है वह गलत मन से नहीं मानोगे तो जो उसने बोलना है बोलो किसी को बुरा कहने के लिए पहले मन में थोड़ा गुस्सा हीन भावना लानी पड़ती है तो उस केस में जो बुरा कह रहा है उसकी सेहत खराब होने के ज्यादा चांसेस है आपकी नहीं आप जस्ट इग्नौर करो जो कह रहा है कहने दो खुश हो जाओ कि लोग आपके बारे में बात कर रहे हैं अच्छी बात है ओके

jab aapke bare me log bura kehte hain toh koi pratikriya nahi karni chahiye attack list log aapko aapke bare me baat kar rahe hain badnaam hoga toh kya naam na hoga chahen vaah kar rahe hain kuch hua aapko dekhte hain shayad jalte honge isi karan se aapne bura kehte hain jo bhi ho bhala bura keh rahe hain jab tak aapko apne man se nahi manoge ki hamein yah sach aapko pata hai jo kuch keh raha hai vaah galat man se nahi manoge toh jo usne bolna hai bolo kisi ko bura kehne ke liye pehle man me thoda gussa heen bhavna lani padti hai toh us case me jo bura keh raha hai uski sehat kharab hone ke zyada chances hai aapki nahi aap just ignore karo jo keh raha hai kehne do khush ho jao ki log aapke bare me baat kar rahe hain achi baat hai ok

जब आपके बारे में लोग बुरा कहते हैं तो कोई प्रतिक्रिया नहीं करनी चाहिए अट लीस्ट लोग आपको आप

Romanized Version
Likes  35  Dislikes    views  214
WhatsApp_icon
user

Ashok Bajpai

Rtd. Additional Collector P.C.S. Adhikari

1:19
Play

Likes  152  Dislikes    views  2182
WhatsApp_icon
user

Smt. Vedricha Upadhyay

Retired child Development Officer

0:14
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह माना जाए कि मुझ में कुछ कमियां हैं जिनका अन्य लोग विश्लेषण करते हैं उनको पर रखते हैं और अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हैं

yah mana jaaye ki mujhse me kuch kamiyan hain jinka anya log vishleshan karte hain unko par rakhte hain aur apni pratikriya vyakt karte hain

यह माना जाए कि मुझ में कुछ कमियां हैं जिनका अन्य लोग विश्लेषण करते हैं उनको पर रखते हैं और

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  118
WhatsApp_icon
user

Shipra Ranjan

Life Coach

1:07
Play

Likes  701  Dislikes    views  7719
WhatsApp_icon
user

Dr.Sachin Pathak

Dietician And Reiki GrandMaster

1:26
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जब लोग आपके बारे में बुरा कहते हैं तो आपकी प्रतिक्रिया क्या होती है या आप का सवाल है लेकिन जब लोग मेरे बारे में बुरा कहते हैं तो मेरी किसी भी प्रकार की कोई प्रक्रिया नहीं होती है क्यों क्योंकि यह मैं जानता हूं और मैं यह मानता भी हूं कि आप जैसा बोलते हैं जैसा सोचते हैं वैसा ही बोलते हैं और जो आप सोचते हैं वह आपकी मानसिकता के कारण सोचते हैं तो यदि कोई मेरे बारे में बुरा कह रहा है तो उस व्यक्ति की मानसिकता दर्शाता है मेरे प्रति तो किसी की मानसिकता पर मेरा कोई कंट्रोल नहीं है आप मेरे बारे में कुछ भी सोच सकते हैं तो या तो आप मेरे बारे में अच्छा सोचे या मेरे बारे में बुरा सोचे उससे मेरे पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता मुझे प्रभाव करने वाली मात्र एक ही चीज है वह है मेरी विचारधारा तो मैं अपनी विचारधारा को बड़ी ही सरल विनम्र और शांतिप्रिय रखता हूं जिससे कि मैं अपने आने वाले भविष्य में बहुत अच्छे से सही ढंग से और उच्च स्तर पर काम कर सको आशा करता हूं कि आपको मेरा जवाब सही लगा होगा अच्छा लगा होगा मैं लेकिन ग्रैंड मास्टर सचिन पाठक थैंक यू वेरी मच

jab log aapke bare me bura kehte hain toh aapki pratikriya kya hoti hai ya aap ka sawaal hai lekin jab log mere bare me bura kehte hain toh meri kisi bhi prakar ki koi prakriya nahi hoti hai kyon kyonki yah main jaanta hoon aur main yah maanta bhi hoon ki aap jaisa bolte hain jaisa sochte hain waisa hi bolte hain aur jo aap sochte hain vaah aapki mansikta ke karan sochte hain toh yadi koi mere bare me bura keh raha hai toh us vyakti ki mansikta darshata hai mere prati toh kisi ki mansikta par mera koi control nahi hai aap mere bare me kuch bhi soch sakte hain toh ya toh aap mere bare me accha soche ya mere bare me bura soche usse mere par koi prabhav nahi padta mujhe prabhav karne wali matra ek hi cheez hai vaah hai meri vichardhara toh main apni vichardhara ko badi hi saral vinamra aur shantipriye rakhta hoon jisse ki main apne aane waale bhavishya me bahut acche se sahi dhang se aur ucch sthar par kaam kar Sako asha karta hoon ki aapko mera jawab sahi laga hoga accha laga hoga main lekin grand master sachin pathak thank you very match

जब लोग आपके बारे में बुरा कहते हैं तो आपकी प्रतिक्रिया क्या होती है या आप का सवाल है लेकिन

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  109
WhatsApp_icon
user

Gopal Srivastava

Acupressure Acupuncture Sujok Therapist

0:42
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरे बारे में कोई बुरा मुझे कहता है शुरू से मैच करता हूं थैंक किया गया बहुत-बहुत धन्यवाद कहना इस बहाने चुने लोगों को मेरे को बताया तो मेरे बारे में कि मैं भी कुछ हूं मैं भी दुनिया में हूं कुछ लोग से धन्यवाद करता हूं जो मेरी बुराई करता है क्योंकि आप तो क्या हो जाएगा

mere bare me koi bura mujhe kahata hai shuru se match karta hoon thank kiya gaya bahut bahut dhanyavad kehna is bahaane chune logo ko mere ko bataya toh mere bare me ki main bhi kuch hoon main bhi duniya me hoon kuch log se dhanyavad karta hoon jo meri burayi karta hai kyonki aap toh kya ho jaega

मेरे बारे में कोई बुरा मुझे कहता है शुरू से मैच करता हूं थैंक किया गया बहुत-बहुत धन्यवाद क

Romanized Version
Likes  147  Dislikes    views  3324
WhatsApp_icon
user

Harish Rana

Motivational Speaker

1:10
Play

Likes  4  Dislikes    views  59
WhatsApp_icon
user

Bk Arun Kaushik

Youth Counselor Motivational Speaker

4:42
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार निंदा हमारी जो करे मित्र हमारा शो यह लाइनें मुझे जीवन में हर प्रकार की समस्या में जगमगाता रास्ता दिखाई देती है क्योंकि मैंने अपने जीवन का लक्ष्य बना रखा है कि जो भी मेरे बारे में बुरा बोलेगा या बुरा करेगा वह मुझे आगे बढ़ने का रास्ता संभल संभल कर चलने के लिए सावधान कर रहा है मैं रास्ते में सड़क रोड ब्रेकर की तरह काम कर रहा है जो मेरी स्पीड को कंट्रोल करने का काम कर रहा है ताकि जो कार्य कर रहा हूं वहां पर कुछ पल के लिए मैं पहले रुकूं फिर मार्ग को देखूं कि क्लियर है सूटेबल है फिर आगे बढ़ जाऊं जैसे रास्ते में चलते किसी कोचिंग पर ट्रैफिक लाइन होती है ना इसलिए उसी रेडमी सावधान करती है कि आगे बढ़ने के लिए पहले रुको सामने मार्ग पर देखो कोई इधर दूर से तो नहीं गुजर रहा जब के लिए रास्ता हो तो ग्रीन लाइट होते ही अपनी मंजिल पर बैठ जाओ तुम मेरे बारे में बुरा कहने वाला अमित सावधान करने वाला क्वेश्चन बन जाएगा चीन बन जाएगा अपने जीवन के मार्ग पर सावधानी से चलें मैं तो उन्हें सीडी बनाने की कोशिश करता हूं कि इस व्यक्ति ने मेरी समझ से जो बेस्ट थी उसमें भी गलती निकाली है यह तो मेरे लिए फायदा ही कर रहा है तो मैं इसका धन्यवाद करता हूं कम से कम अपने मन से तो उसका थैंक्स कर ही देता हूं क्योंकि वह नहीं चाहता कि मेरा कार्य अधूरा हो असफलता मिले तो इस दृष्टिकोण वह मेरा मित्र हो गया भले ही वह अपनी तरफ से मेरी बुराई करके अपने मन की संतुष्टि कर रहा हूं तुम मुझे इससे कोई मतलब नहीं यदि कभी जानबूझकर यू मेरी इच्छा मेरी आलोचना मेरे बारे में बुरा कह रहा है तो मुझे चिंता नहीं होती क्योंकि जितनी मेरे पास नॉलेज थी शक्ति थी मैंने पूर्ण रूप से उसका प्रयोग करके अपने कार्य को किया तो मैं निश्चिंत हूं कि जब सड़क पर उदाहरण के रूप में आपको बता जब सड़क पर एक मस्त हाथी चल रहा होता है उस शहर में उसे बच्चे पत्थर मारते हैं तंग करते हैं परंतु हाथी कुछ नहीं कहता वही जंगल के बड़े बड़े पेड़ों को भी एक पल में उखाड़ फेंकने की शक्ति रखता है पर वह जब शहर में मस्ती से चल रहा होता है बच्चों को कुछ नहीं कहता क्यों नहीं कहता कुछ तो कारण होगा जबकि उसको मालूम है क्यों क्योंकि यह मेरा कुछ नहीं बिगाड़ नहीं सकते उसे अपनी शक्ति पर विश्वास होता है उसने अपने पावर पर विश्वास रखता है व्यक्ति छोटी-छोटी बातों पर व्यर्थ नहीं जाता मेरे बारे में कोई भी पूरा बोलता है तो मिली अच्छा सोच रहा है मेरा काम ताकि अधूरा ना रहे पूरा अच्छी तरह से संपन्न हो अगर मैं इस नजरिए से उनके विचारों को लूंगा तो वही बुराई मुझे अपनी सफलता की ओर ले जा सकते हैं तो हमें इससे शिक्षा मिलती है कि कोई भी हमारे बारे में बुरा बोलने वाला अगर हमारे में गलतियां निकालता है तो समझे कि वह मुझे संपूर्ण बनाने के लिए कंप्लीट होने के लिए कह रहा है तो हम इस प्रकार अपने बुरा बोलने वालों को वेस्टीगे में लेते हुए अपने जीवन की यात्रा को सफल कर सकते हैं और सफलता को बड़े आराम से पा सकते हैं इसलिए हमेशा बुरे बाल बोलने वालों की आलोचना की निंदा को मीटिंग में लेना शुरू करते हैं अपने जीवन के मार्ग पर सफलता से आगे बढ़ते रहेंगे यह जीवन हमारा बहुत ही आगे बढ़ता चला जाएगा इन्हीं शुभकामनाओं के साथ कि हम जीवन में सफल हो और आप जीवन के अंदर अपने लक्ष्य को प्राप्त करते चले जाएं एनक्यू

namaskar ninda hamari jo kare mitra hamara show yah linen mujhe jeevan me har prakar ki samasya me jagamagata rasta dikhai deti hai kyonki maine apne jeevan ka lakshya bana rakha hai ki jo bhi mere bare me bura bolega ya bura karega vaah mujhe aage badhne ka rasta sambhal sambhal kar chalne ke liye savdhaan kar raha hai main raste me sadak road breakup ki tarah kaam kar raha hai jo meri speed ko control karne ka kaam kar raha hai taki jo karya kar raha hoon wahan par kuch pal ke liye main pehle rukun phir marg ko dekhu ki clear hai suitable hai phir aage badh jaaun jaise raste me chalte kisi coaching par traffic line hoti hai na isliye usi redmi savdhaan karti hai ki aage badhne ke liye pehle ruko saamne marg par dekho koi idhar dur se toh nahi gujar raha jab ke liye rasta ho toh green light hote hi apni manjil par baith jao tum mere bare me bura kehne vala amit savdhaan karne vala question ban jaega china ban jaega apne jeevan ke marg par savdhani se chalen main toh unhe CD banane ki koshish karta hoon ki is vyakti ne meri samajh se jo best thi usme bhi galti nikali hai yah toh mere liye fayda hi kar raha hai toh main iska dhanyavad karta hoon kam se kam apne man se toh uska thanks kar hi deta hoon kyonki vaah nahi chahta ki mera karya adhura ho asafaltaa mile toh is drishtikon vaah mera mitra ho gaya bhale hi vaah apni taraf se meri burayi karke apne man ki santushti kar raha hoon tum mujhe isse koi matlab nahi yadi kabhi janbujhkar you meri iccha meri aalochana mere bare me bura keh raha hai toh mujhe chinta nahi hoti kyonki jitni mere paas knowledge thi shakti thi maine purn roop se uska prayog karke apne karya ko kiya toh main nishchint hoon ki jab sadak par udaharan ke roop me aapko bata jab sadak par ek mast haathi chal raha hota hai us shehar me use bacche patthar marte hain tang karte hain parantu haathi kuch nahi kahata wahi jungle ke bade bade pedon ko bhi ek pal me ukhad fenkne ki shakti rakhta hai par vaah jab shehar me masti se chal raha hota hai baccho ko kuch nahi kahata kyon nahi kahata kuch toh karan hoga jabki usko maloom hai kyon kyonki yah mera kuch nahi bigad nahi sakte use apni shakti par vishwas hota hai usne apne power par vishwas rakhta hai vyakti choti choti baaton par vyarth nahi jata mere bare me koi bhi pura bolta hai toh mili accha soch raha hai mera kaam taki adhura na rahe pura achi tarah se sampann ho agar main is nazariye se unke vicharon ko lunga toh wahi burayi mujhe apni safalta ki aur le ja sakte hain toh hamein isse shiksha milti hai ki koi bhi hamare bare me bura bolne vala agar hamare me galtiya nikalata hai toh samjhe ki vaah mujhe sampurna banane ke liye complete hone ke liye keh raha hai toh hum is prakar apne bura bolne walon ko vestige me lete hue apne jeevan ki yatra ko safal kar sakte hain aur safalta ko bade aaram se paa sakte hain isliye hamesha bure baal bolne walon ki aalochana ki ninda ko meeting me lena shuru karte hain apne jeevan ke marg par safalta se aage badhte rahenge yah jeevan hamara bahut hi aage badhta chala jaega inhin shubhkamnaon ke saath ki hum jeevan me safal ho aur aap jeevan ke andar apne lakshya ko prapt karte chale jayen NQ

नमस्कार निंदा हमारी जो करे मित्र हमारा शो यह लाइनें मुझे जीवन में हर प्रकार की समस्या में

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  90
WhatsApp_icon
user

Kanhaiya Narang

BusinessCoach, Life Coach, SalesCoach

1:41
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लोग मेरे बारे में कुछ बुरा कहते हैं तो इसका मतलब है कि वह कहीं ना कहीं मेरी उन आदतों को हाइलाइट कर रहे हैं जो आते थे उनको अच्छी नहीं लगी मेरी कोई आदत किसी को अच्छी नहीं लगी है तो उसका मतलब उस आदत में कहीं ना कहीं कोई दिक्कत है तो वह आदत ऐसी है जो मुझे खुद भी सुधारने की जरूरत इसलिए अगर कोई मुझे कुछ बुरा कहता है तो पहले तुम्हें यह ध्यान देता हूं कि मेरी कौन सी आदत से प्रसन्न नहीं है उसको सही करने की कोशिश करता हूं मेरी कही हुई कोई बात नहीं हो सकती मन की बात कही कोई अगर आपकी बुराई करता है तो बुराई का मतलब ही है कि कहीं ना कहीं कोई ना कोई दोष है क्योंकि एक पुरानी कहावत है जहां से धुआं उठता है आग भी होती तो मतलब सुधार पर फोकस ध्यान में अपना केंद्रित करूं कि मैं उस बुराई का नाश कर दूं अपने अंदर से और एक अच्छा इंसान बनने के लिए और बढ़िया तरीके से धन्यवाद

log mere bare me kuch bura kehte hain toh iska matlab hai ki vaah kahin na kahin meri un aadaton ko highlight kar rahe hain jo aate the unko achi nahi lagi meri koi aadat kisi ko achi nahi lagi hai toh uska matlab us aadat me kahin na kahin koi dikkat hai toh vaah aadat aisi hai jo mujhe khud bhi sudhaarne ki zarurat isliye agar koi mujhe kuch bura kahata hai toh pehle tumhe yah dhyan deta hoon ki meri kaun si aadat se prasann nahi hai usko sahi karne ki koshish karta hoon meri kahi hui koi baat nahi ho sakti man ki baat kahi koi agar aapki burayi karta hai toh burayi ka matlab hi hai ki kahin na kahin koi na koi dosh hai kyonki ek purani kahaavat hai jaha se dhuan uthata hai aag bhi hoti toh matlab sudhaar par focus dhyan me apna kendrit karu ki main us burayi ka naash kar doon apne andar se aur ek accha insaan banne ke liye aur badhiya tarike se dhanyavad

लोग मेरे बारे में कुछ बुरा कहते हैं तो इसका मतलब है कि वह कहीं ना कहीं मेरी उन आदतों को हा

Romanized Version
Likes  31  Dislikes    views  333
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जब कोई कहता कोई बुराई है आपने किसी से कहा है कि बुराई भी नहीं करते तो हम तो सिर्फ को उनसे पूछ लेते हैं पर्सनली जाकर अगर आपको मुझसे कोई शिकायत है तो बताइए तो बताते हुए फलाने आदमी ने कहा तुमको भी सामने बात करते हैं तो फिर वह धीरे-धीरे ऊपर किया जो अपने आप खत्म हो जाती है समाप्त हो जाती है

jab koi kahata koi burayi hai aapne kisi se kaha hai ki burayi bhi nahi karte toh hum toh sirf ko unse puch lete hain personally jaakar agar aapko mujhse koi shikayat hai toh bataiye toh batatey hue falane aadmi ne kaha tumko bhi saamne baat karte hain toh phir vaah dhire dhire upar kiya jo apne aap khatam ho jaati hai samapt ho jaati hai

जब कोई कहता कोई बुराई है आपने किसी से कहा है कि बुराई भी नहीं करते तो हम तो सिर्फ को उनसे

Romanized Version
Likes  202  Dislikes    views  1464
WhatsApp_icon
user

Monu Singh Prit

Song Writer And Composer Nd Music Director

0:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरी प्रक्रिया यही रहती है कि अगर मुझे कोई लोग बोलता है कि यह बुरा है या फिर यह गलत काम करता है या जो भी है तो बस यह समझ लो कि मैं लोगों के बीच में हूं और मैं कहीं ना कहीं आगे बढ़ रहा हूं इसके लिए लोगों को मैं ध्यान नहीं देता हूं अपना काम करता हूं

meri prakriya yahi rehti hai ki agar mujhe koi log bolta hai ki yah bura hai ya phir yah galat kaam karta hai ya jo bhi hai toh bus yah samajh lo ki main logo ke beech me hoon aur main kahin na kahin aage badh raha hoon iske liye logo ko main dhyan nahi deta hoon apna kaam karta hoon

मेरी प्रक्रिया यही रहती है कि अगर मुझे कोई लोग बोलता है कि यह बुरा है या फिर यह गलत काम कर

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  95
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!