corona info
qna

हम अपने परिवार के साथ कैसे रहें और पति को कैसे खुश रखें, यह हमें सुझाव दीजिए?...


28 जवाब
user

सुरेन्द्र पाल गुप्ता

रिटायर्ड प्रधानाचार्य

2:13
Play

हम अपने परिवार को कैसे खुश रखे हैं या अपने सुझाव मांगे हैं देखिए आप परिवार की महत्वपूर्ण सदस्य हैं क्योंकि आप परिवार की पत्नी हैं तो पत्नी होने के नाते आपका दायित्व है कि आप अपने पति को खुश रखें आप उनकी इच्छाओं का ध्यान रखें उनसे प्रेम पूर्वक रहें और सुखी जीवन व्यतीत करें कोई समस्या आए तो बातचीत के द्वारा उसका निराकरण करें क्योंकि परिवार है परिवार में सोचिए आती रहती है और उसके साथ-साथ आप उनकी मनपसंद के खेलों का ध्यान रखें हर पति कहता है पत्नी उसके सालों का ध्यान से पति को भी चाहिए कि वह अपनी पत्नी को हमेशा खुश रखे उसके प्रशंसा करें और इसके साथ-साथ उसकी जो इच्छाएं हैं उसका पूर्ण पालन करें तो एक दूसरे से जुड़े पति पत्नी अलग नहीं है और साथ वीडियो आप अपना पत्नी धर्म दिखाइए और पति महोदय अपना पति से परिवार में शांति बनी रहेगी अगर कोई झगड़ा होता है क्या कोई बातों में मौजूद होता है तो एक शांत हो जाए थोड़ी देर बाद गर्ल सोनाक्षी दीवार के अंदर कुछ न कुछ छोटी मोटी बातें होती रहती है और इसको इग्नोर कीजिए धन्यवाद
hum apne parivar ko kaise khush rakhe hain ya apne sujhaav mange hain dekhiye aap parivar ki mahatvapurna sadasya hain kyonki aap parivar ki patni hain toh patni hone ke naate aapka dayitva hai ki aap apne pati ko khush rakhen aap unki ikchao ka dhyan rakhen unse prem purvak rahein aur sukhi jeevan vyatit kare koi samasya aaye toh batchit ke dwara uska nirakaran kare kyonki parivar hai parivar me sochiye aati rehti hai aur uske saath saath aap unki manpasand ke khelo ka dhyan rakhen har pati kahata hai patni uske salon ka dhyan se pati ko bhi chahiye ki vaah apni patni ko hamesha khush rakhe uske prashansa kare aur iske saath saath uski jo ichhaen hain uska purn palan kare toh ek dusre se jude pati patni alag nahi hai aur saath video aap apna patni dharm dikhaiye aur pati mahoday apna pati se parivar me shanti bani rahegi agar koi jhagda hota hai kya koi baaton me maujud hota hai toh ek shaant ho jaaye thodi der baad girl sonakshi deewaar ke andar kuch na kuch choti moti batein hoti rehti hai aur isko ignore kijiye dhanyavad
हम अपने परिवार को कैसे खुश रखे हैं या अपने सुझाव मांगे हैं देखिए आप परिवार की महत्वपूर्ण स
...
Likes  152  Dislikes    views  1916
WhatsApp_icon
अपने सवाल पूछें और एक्स्पर्ट्स के जवाब सुने
qIconask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Yogendra Sharma

Motivational Speaker, Business Coach

1:17
Play

हेलो फ्रेंड्स मैं योगेश शर्मा मोटिवेशनल स्पीकर कैरियर पावर कॉरपोरेशन के बारे में बात करने वाले हैं और पति को कैसे खुश रखें यह हमें सुझाव दीजिए और अपने पति को भी खुश रखना चाहते तो उसका एक ही तरीका है कि अपनी जिंदगी को सब को समर्पित कर दीजिए किसी की जिंदगी में जो भी जरूरत हो उसके लिए जो है एकता मंच को सफल बनाने का जो है मार्ग बन जाइए और सबसे बड़ी बात यह है कि उनकी जो जरूरत है उनको पूरा करने में अपनी जिंदगी लगा दीजिए आप कुछ भी रहेंगे और परिवार के साथ भी लाएंगे क्योंकि कुछ लोगों के विचार अलग-अलग होते हैं लेकिन आपका किया हुआ कर्म ही आपको खुश रख पाएगा और आपकी जिंदगी को ज्यादा अच्छे से बना पाएगा अगर कोई प्रॉब्लम आती है तो लोगों से आपको प्रॉब्लम है कि आप उनसे बात करिए ना कि उनकी बात किसी और से करिए उस से क्या होगा दोस्तों से करने से आपके रिश्ते खराब हो जाए
hello friends main Yogesh sharma Motivational speaker carrier power corporation ke bare me baat karne waale hain aur pati ko kaise khush rakhen yah hamein sujhaav dijiye aur apne pati ko bhi khush rakhna chahte toh uska ek hi tarika hai ki apni zindagi ko sab ko samarpit kar dijiye kisi ki zindagi me jo bhi zarurat ho uske liye jo hai ekta manch ko safal banane ka jo hai marg ban jaiye aur sabse badi baat yah hai ki unki jo zarurat hai unko pura karne me apni zindagi laga dijiye aap kuch bhi rahenge aur parivar ke saath bhi layenge kyonki kuch logo ke vichar alag alag hote hain lekin aapka kiya hua karm hi aapko khush rakh payega aur aapki zindagi ko zyada acche se bana payega agar koi problem aati hai toh logo se aapko problem hai ki aap unse baat kariye na ki unki baat kisi aur se kariye us se kya hoga doston se karne se aapke rishte kharab ho jaaye
हेलो फ्रेंड्स मैं योगेश शर्मा मोटिवेशनल स्पीकर कैरियर पावर कॉरपोरेशन के बारे में बात करने
...
Likes  402  Dislikes    views  3501
WhatsApp_icon
user

Anita Maurya

कवियित्री & गायिकी

1:19
Play

बिल्कुल सिंपल सी बात है आप घर में घर के अपने सारे कतर में उनके निभाए पति को प्यार करें ईमानदारी रखें और अपने फर्ज को बड़ा घर में भी हजारों काम होते हैं गर्मी में सांस लेने की फुर्सत नहीं मिलती है और ना भारत की ऐसी पहली महिला जो लड़कियों को यह महिलाओं को बाहर की नौकरी पैसे कमा कर लाने के लालच में जो घर बर्बाद होने उसका विरोध करती हूं आप अब आप ही बताओ जितनी लड़कियां आज के युग में नौकरी कर रही हैं अगर यह लड़कियां अपने घर में बैठ जाएं इतने लड़कों को रोजगार मिल जाएगा और जितनी घर में बूढ़े माता-पिता जो दुख उठा रहे हैं या लड़कियां या महिलाएं नौकरी करके घर आ रही हैं तो उनको चाय खाना बना बनाया एक दिन वह मदद मदद कर देंगे 2 दिन मदद कर देंगे वह कहती मैं रात के आ रही हूं थकी हारी तो खाना कौन बना है इसलिए इस विघटन को रुकना पड़ेगा और जो ईश्वर ने बना कर भेजा है और उसको कमाने का हक दिया है स्त्री को प्यार बांटने का हक दिया है अगर यह दोनों लड़की लड़का अपना कर्तव्य निभाएं तो जिंदगी में कभी परेशानी भी नहीं आएगी खुशियां दूर नहीं जा पाएंगे
bilkul simple si baat hai aap ghar me ghar ke apne saare katar me unke nibhaye pati ko pyar kare imaandaari rakhen aur apne farz ko bada ghar me bhi hazaro kaam hote hain garmi me saans lene ki phursat nahi milti hai aur na bharat ki aisi pehli mahila jo ladkiyon ko yah mahilaon ko bahar ki naukri paise kama kar lane ke lalach me jo ghar barbad hone uska virodh karti hoon aap ab aap hi batao jitni ladkiya aaj ke yug me naukri kar rahi hain agar yah ladkiya apne ghar me baith jayen itne ladko ko rojgar mil jaega aur jitni ghar me budhe mata pita jo dukh utha rahe hain ya ladkiya ya mahilaye naukri karke ghar aa rahi hain toh unko chai khana bana banaya ek din vaah madad madad kar denge 2 din madad kar denge vaah kehti main raat ke aa rahi hoon thaki haari toh khana kaun bana hai isliye is vighatan ko rukna padega aur jo ishwar ne bana kar bheja hai aur usko kamane ka haq diya hai stree ko pyar baantne ka haq diya hai agar yah dono ladki ladka apna kartavya nibhayen toh zindagi me kabhi pareshani bhi nahi aayegi khushiya dur nahi ja payenge
बिल्कुल सिंपल सी बात है आप घर में घर के अपने सारे कतर में उनके निभाए पति को प्यार करें ईमा
...
Likes  127  Dislikes    views  3375
WhatsApp_icon
user
Play

शादीशुदा जिंदगी में जितना महत्व अति का है उतना ही पति के परिवार का भी है अगर आप जॉइंट फैमिली में रहती हैं तो निश्चित रूप से लड़कियों के लिए थोड़ा कठिन होता है कि दोनों के बीच में उन्हें सामान्य से बनाना पड़ता है आप कोशिश करिए कि पहले तो यह समझने की कोशिश कीजिए कि आपका परिवार आपसे क्या चाहता है आपकी जिम्मेदारियां क्या है और आपके पति आपसे क्या चाहते हैं और वह किस समय में घर पर रहते हैं उस समय वह आपका कुछ समय चाहते हैं तो थोड़ा सा अपने कामों को इस तरह से उसका टाइम टेबल बनाई है कि आप जब पति घर पर है तो थोड़ा समय उनको देंगी और परिवार के काम के लिए समय को कुछ इस तरह से सेट करिए कि सब की जरूरतें भी पूरी हो और आप उन कामों को कर सके यहां यह दोनों चीजें संभव नहीं है वह आप दोनों से बात कीजिए पति से भी बात कीजिए और परिवार से भी बात कीजिए और उन दोनों के बीच में सामान्य से बिठाने की कोशिश कीजिए मान लीजिए आपके घर में आपके पति को सुबह 9:00 बजे जाना है आप कौन का टिफिन बना कर देना है तब तो आपको किचन में जाना ही पड़ेगा तब आपको पति को समझाना पड़ेगा कि इस समय आप उसके पहले आप फोन के पास बैठ कर बातें नहीं कर सकती इसी तरह अगर घर के दूसरे सदस्यों को बाहर जाना है और उनके लिए भोजन बनाना अनिवार्य है तो भी आपको पति से बात करनी पड़ेगी लेकिन अगर ऐसा कोई काम नहीं है परिवार के किसी सदस्य का और आपके पति चाहते हैं कि वह आपके साथ रहे तो परिवार के लोगों को आप को समझाना पड़ेगा कि वह कुछ घंटों के लिए घर में रहते हैं तो कुछ काम बाद में भी किए जा सकते हैं इस पर उससे बात करेंगे तो कोई गलतफहमी या नहीं होंगी और उम्मीद है कि लो अच्छे शब्दों में अपनी बात रखेंगे तो लोग आपकी बातों को समझेंगे आप आसानी से सामान्य से बैठा सकेंगे नमस्ते
shaadishuda zindagi me jitna mahatva ati ka hai utana hi pati ke parivar ka bhi hai agar aap joint family me rehti hain toh nishchit roop se ladkiyon ke liye thoda kathin hota hai ki dono ke beech me unhe samanya se banana padta hai aap koshish kariye ki pehle toh yah samjhne ki koshish kijiye ki aapka parivar aapse kya chahta hai aapki zimmedariyan kya hai aur aapke pati aapse kya chahte hain aur vaah kis samay me ghar par rehte hain us samay vaah aapka kuch samay chahte hain toh thoda sa apne kaamo ko is tarah se uska time table banai hai ki aap jab pati ghar par hai toh thoda samay unko dengi aur parivar ke kaam ke liye samay ko kuch is tarah se set kariye ki sab ki jaruratein bhi puri ho aur aap un kaamo ko kar sake yahan yah dono cheezen sambhav nahi hai vaah aap dono se baat kijiye pati se bhi baat kijiye aur parivar se bhi baat kijiye aur un dono ke beech me samanya se bitane ki koshish kijiye maan lijiye aapke ghar me aapke pati ko subah 9 00 baje jana hai aap kaun ka tiffin bana kar dena hai tab toh aapko kitchen me jana hi padega tab aapko pati ko samajhana padega ki is samay aap uske pehle aap phone ke paas baith kar batein nahi kar sakti isi tarah agar ghar ke dusre sadasyon ko bahar jana hai aur unke liye bhojan banana anivarya hai toh bhi aapko pati se baat karni padegi lekin agar aisa koi kaam nahi hai parivar ke kisi sadasya ka aur aapke pati chahte hain ki vaah aapke saath rahe toh parivar ke logo ko aap ko samajhana padega ki vaah kuch ghanto ke liye ghar me rehte hain toh kuch kaam baad me bhi kiye ja sakte hain is par usse baat karenge toh koi galatfahamee ya nahi hongi aur ummid hai ki lo acche shabdon me apni baat rakhenge toh log aapki baaton ko samjhenge aap aasani se samanya se baitha sakenge namaste
शादीशुदा जिंदगी में जितना महत्व अति का है उतना ही पति के परिवार का भी है अगर आप जॉइंट फैमि
...
Likes  56  Dislikes    views  1114
WhatsApp_icon
user

Dr. Swatantra Jain

Psychologist And Parenting Coach

9:28
Play

प्रश्न है कि हम अपने परिवार के साथ कैसे रहें और पति को कैसे खुश रखें यह आपसे ज्यादा बहुत अच्छी हालत देखिए आप महिला हैं और महिलाओं को परिवार के साथ रहना बखूबी आता है और पति को भी मैनेज करना घर को भी मैंने बच्चों को भी मैरिज करना अच्छा बात अच्छी तरह आता है फिर भी आप से जवाब मांग रहे हैं तो आपके यह नियम लेता है तो देखिए एक परिवार को बांध के रखना परिवार को खुश रखना सभी की जिम्मेदारी होते जो भी एक परिवार के सदस्य होते हैं पहले जॉइंट फैमिली होती थी अब वह जॉइंट फैमिली धीरे-धीरे करके अलग हो गया तो फिर भी एक परिवार में सास ससुर और अनमैरिड बच्चे जो हैं वह पति पत्नी इतना तो अभी भी होता है तो मतलब आप पर मुझे लग रहा है कि घर की बहू की हर चीज से पूछ रही हूं एक हाउसवाइफ तो हाउसवाइफ घर की मैनेजर उत्सव को मैनेज करती है करना चाहिए आप का ध्यान रखना पति की जरूरतों का ध्यान रखना बच्चन की जरूरतों को ध्यान रखना और घर को पूरा मैनेज करना और साथ साथ में अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखना अपनी खुशियों का भी ध्यान रखना अपनी खुशियों को इग्नोर करके परिवार और पति की सेवा करिए बहुत ज्यादा देर तक नहीं चल सकता क्योंकि अपनी स्वास्थ्य कवि दिन और करके हम ज्यादा देर नहीं सकते हैं अपने स्वास्थ्य का अपनी खुशियों का ध्यान रखना चाहिए खुद भी घुटन में नहीं रहना चाहिए और दूसरों को भी घुटन में नहीं रखना चाहिए इसलिए सब के बीच में एक तालमेल बिठा कर चलना चाहिए अब आप कहेंगे कहना तो बड़ा आसान है लेकिन करें कैसे मानते हैं कि यह बहुत बड़ी चुनौती होती है धर्म एक नई बहू के तौर पर आए हैं आप पुराने तौर-तरीकों को छोड़कर अपने घर के संस्कारों को डिस्टिक उनको वैली उसको मान को सब कुछ छोड़ कर आया और क्या नए सिरे से आपने जस्ट करना है तो यहां सब कुछ आपको नया मिल रहा होगा आपके घर से सब कुछ अलग गया कुछ सिमिलर भी हो सकता है लेकिन कितना भी अलग जो बेसिक नीड्स है मुख्य बातें हो सब के सब होते हैं सब को खाना चाहिए सब को आदर चाहिए सब कुछ समान चाहिए प्यार चाहिए थी आदर चाहिए चाहिए होती है चाहे आपका अपना मायका हो चाहे आपके जैसा बड़ों को सम्मान वहां अपने मायके में देते थे और बच्चों को प्यार देते थे वैसा ही समान यहां अपने बड़ों को दें और छोटों को ऑनलाइन बच्चों को अपना प्यार दे प्यार दे दे बात करके दे तो यह सबसे बड़ी जरूरत है कि परिवार के हर सदस्य को अपना मान कर उनको जैसे उनकी उम्र के हिसाब से स्टेटस देहरादून का आदर करें सरकार अपने परिवार खुश रहेगा अब नहीं पति के बाद के पति को कैसे खुश रखें तो सबसे पहले यह समझना होगा कि आपके बारे बीच में संबंध मिठास बड़े हो दोनों एक-दूसरे की जरूरतों का ख्याल रखें दोनों एक दूसरे के सभा को स्वीकार करेंगे और दोनों एक दूसरे का माल रखेंगे मैं कह रही दोनों को इसलिए अगर आप सोचते हैं कि नहीं मेरा कुछ नहीं है बाकी सब कुछ है पति परमेश्वर है तो यहां मैं आपसे सहमत हूं आप दतिया क्योंकि आपका खुश रहना भी बहुत जरूरी है और आप पति खुश रहेंगे जब आपको भी समान रूप से सम्मान मिलेगा पति की तरफ से इसलिए कोशिश यह रहनी चाहिए कि दोनों अपने आप को एक दूसरे के एक पल मानकर एक दूसरे का ख्याल रखें एक दूसरे को स्वीकार है एक दूसरे के डिफेंस को मिल चुका है एक दूसरे की दृष्टिकोण को समझें और पति यह समझे कि पत्नी दूसरे घर से आ गए दूसरे संस्कारों से आई है जहां उसे एडजेस्ट छोटे-छोटे टाइम लगेगा यहां की मान मर्यादा को समझने यहां के लोगों को समझ में इसलिए कोई जल्दबाजी ना करें और पति को पत्नी और अपनी मां के बीच में से तू बनना होगा ताकि वह पत्नी का दृष्टिकोण मां को समझा सके और मां का दृष्टिकोण पत्नी को समझा सके और उनकी कोई गलतफहमी हो तो उसको दूर कर सकें तो बनाना होगा और पत्नी का परिवार के एक-एक सदस्य कि अगर वह ग्रह नहीं है परिवार के एक सदस्य की स्वभाव को समझकर उसके अनुसार काम करें तो उसको उसको भी खुशी मिलेगी और परिवार वालों को भी खुशी होगी क्योंकि एक दूसरे की खुशी में सब ठीक होनी चाहिए अगर आप परिवार की खुशी देगी तो परिवार भी आपका खुशी नॉर्मल परिवार आपकी खुशी भी देखेगा जब से आप उसकी खुशी देखते हैं तो अब बहुत बार ऐसा हो सके आप आपका स्टैंडर्ड फॉर हो आप किसी और दृष्टिकोण संस्कार वाले परिवार से आए और यहां बिल्कुल अलग मिलता है आपको तो यह मानकर चलें एडजस्ट होने में आपको बहुत समय लग सकता है लेकिन जितना जल्दी अर्जेंट करेंगे कितना जल्दी आप हर एक के स्वभाव को समझने की कोशिश करेंगे राष्ट्रपति के चुनाव को इतना जल्दी आपको खुश रखेंगे तो पति के स्वभाव कैसा है उसके डिस्ट्रिक्ट कौन कहते हैं उनकी मर्यादा के कौन सी है उनकी सीमाएं क्या है वह कितना आपके साथ एडजस्ट कर सकते हैं कितना उनको मां-बाप की कहीं में चलना होगा कितना आपके कहने चलना होगा सबको बड़ा आप को नापतोल के चलना होगा और यह भी देखना होगा कि डिफिकल्टीज क्या है उन डिफिकेटेड अगर आप अपना लोगे तो उस समय देश में उनको ताने नहीं दूंगी उनके जन्मदिन है उनका है इसके अनुसार अपने आपको डालोगी अपनी जरूरतों को कम करोगे या अगर चाहता हूं कि हम तने तो कैसे तोड़ते हैं थोड़ी से बड़ा भी सकती हो लेकिन अगर कम है तो बताए ताने देने की अपनी जरूरतों को कम करके कभी एहसास नहीं होने दोगे कि वह उसके आपकी जरूरतें पूरी नहीं कर रही है कम कमा रहे हैं तो सारा डंडा इसी बात पर आ जाता है कि आप पति को पूर्णतया एक्सेप्ट करें और पति आपको एक्सेप्ट करें तो देखे जिंदगी खुशियों भरी होती
prashna hai ki hum apne parivar ke saath kaise rahein aur pati ko kaise khush rakhen yah aapse zyada bahut achi halat dekhiye aap mahila hain aur mahilaon ko parivar ke saath rehna bakhubi aata hai aur pati ko bhi manage karna ghar ko bhi maine baccho ko bhi marriage karna accha baat achi tarah aata hai phir bhi aap se jawab maang rahe hain toh aapke yah niyam leta hai toh dekhiye ek parivar ko bandh ke rakhna parivar ko khush rakhna sabhi ki jimmedari hote jo bhi ek parivar ke sadasya hote hain pehle joint family hoti thi ab vaah joint family dhire dhire karke alag ho gaya toh phir bhi ek parivar me saas sasur aur unmarried bacche jo hain vaah pati patni itna toh abhi bhi hota hai toh matlab aap par mujhe lag raha hai ki ghar ki bahu ki har cheez se puch rahi hoon ek housewife toh housewife ghar ki manager utsav ko manage karti hai karna chahiye aap ka dhyan rakhna pati ki jaruraton ka dhyan rakhna bachchan ki jaruraton ko dhyan rakhna aur ghar ko pura manage karna aur saath saath me apne swasthya ka dhyan rakhna apni khushiyon ka bhi dhyan rakhna apni khushiyon ko ignore karke parivar aur pati ki seva kariye bahut zyada der tak nahi chal sakta kyonki apni swasthya kavi din aur karke hum zyada der nahi sakte hain apne swasthya ka apni khushiyon ka dhyan rakhna chahiye khud bhi ghutan me nahi rehna chahiye aur dusro ko bhi ghutan me nahi rakhna chahiye isliye sab ke beech me ek talmel bitha kar chalna chahiye ab aap kahenge kehna toh bada aasaan hai lekin kare kaise maante hain ki yah bahut badi chunauti hoti hai dharm ek nayi bahu ke taur par aaye hain aap purane taur trikon ko chhodkar apne ghar ke sanskaron ko district unko valley usko maan ko sab kuch chhod kar aaya aur kya naye sire se aapne just karna hai toh yahan sab kuch aapko naya mil raha hoga aapke ghar se sab kuch alag gaya kuch similar bhi ho sakta hai lekin kitna bhi alag jo basic needs hai mukhya batein ho sab ke sab hote hain sab ko khana chahiye sab ko aadar chahiye sab kuch saman chahiye pyar chahiye thi aadar chahiye chahiye hoti hai chahen aapka apna mayaka ho chahen aapke jaisa badon ko sammaan wahan apne mayke me dete the aur baccho ko pyar dete the waisa hi saman yahan apne badon ko de aur choton ko online baccho ko apna pyar de pyar de de baat karke de toh yah sabse badi zarurat hai ki parivar ke har sadasya ko apna maan kar unko jaise unki umar ke hisab se status dehradun ka aadar kare sarkar apne parivar khush rahega ab nahi pati ke baad ke pati ko kaise khush rakhen toh sabse pehle yah samajhna hoga ki aapke bare beech me sambandh mithaas bade ho dono ek dusre ki jaruraton ka khayal rakhen dono ek dusre ke sabha ko sweekar karenge aur dono ek dusre ka maal rakhenge main keh rahi dono ko isliye agar aap sochte hain ki nahi mera kuch nahi hai baki sab kuch hai pati parmeshwar hai toh yahan main aapse sahmat hoon aap datiya kyonki aapka khush rehna bhi bahut zaroori hai aur aap pati khush rahenge jab aapko bhi saman roop se sammaan milega pati ki taraf se isliye koshish yah rehni chahiye ki dono apne aap ko ek dusre ke ek pal maankar ek dusre ka khayal rakhen ek dusre ko sweekar hai ek dusre ke defence ko mil chuka hai ek dusre ki drishtikon ko samajhe aur pati yah samjhe ki patni dusre ghar se aa gaye dusre sanskaron se I hai jaha use edajest chote chote time lagega yahan ki maan maryada ko samjhne yahan ke logo ko samajh me isliye koi jaldabaji na kare aur pati ko patni aur apni maa ke beech me se tu banna hoga taki vaah patni ka drishtikon maa ko samjha sake aur maa ka drishtikon patni ko samjha sake aur unki koi galatfahamee ho toh usko dur kar sake toh banana hoga aur patni ka parivar ke ek ek sadasya ki agar vaah grah nahi hai parivar ke ek sadasya ki swabhav ko samajhkar uske anusaar kaam kare toh usko usko bhi khushi milegi aur parivar walon ko bhi khushi hogi kyonki ek dusre ki khushi me sab theek honi chahiye agar aap parivar ki khushi degi toh parivar bhi aapka khushi normal parivar aapki khushi bhi dekhega jab se aap uski khushi dekhte hain toh ab bahut baar aisa ho sake aap aapka standard for ho aap kisi aur drishtikon sanskar waale parivar se aaye aur yahan bilkul alag milta hai aapko toh yah maankar chalen adjust hone me aapko bahut samay lag sakta hai lekin jitna jaldi urgent karenge kitna jaldi aap har ek ke swabhav ko samjhne ki koshish karenge rashtrapati ke chunav ko itna jaldi aapko khush rakhenge toh pati ke swabhav kaisa hai uske district kaun kehte hain unki maryada ke kaun si hai unki simaye kya hai vaah kitna aapke saath adjust kar sakte hain kitna unko maa baap ki kahin me chalna hoga kitna aapke kehne chalna hoga sabko bada aap ko naptol ke chalna hoga aur yah bhi dekhna hoga ki difficulties kya hai un difiketed agar aap apna loge toh us samay desh me unko tane nahi dungi unke janamdin hai unka hai iske anusaar apne aapko dalogi apni jaruraton ko kam karoge ya agar chahta hoon ki hum tane toh kaise todte hain thodi se bada bhi sakti ho lekin agar kam hai toh bataye tane dene ki apni jaruraton ko kam karke kabhi ehsaas nahi hone doge ki vaah uske aapki jaruratein puri nahi kar rahi hai kam kama rahe hain toh saara danda isi baat par aa jata hai ki aap pati ko purnataya except kare aur pati aapko except kare toh dekhe zindagi khushiyon bhari hoti
प्रश्न है कि हम अपने परिवार के साथ कैसे रहें और पति को कैसे खुश रखें यह आपसे ज्यादा बहुत अ
...
Likes  363  Dislikes    views  2636
WhatsApp_icon
user

Rakesh Tiwari

Life Coach, Management Trainer

0:59
Play

अपने परिवार के साथ कैसे रहें और पति को कैसे खुश रखें यह हमें सुझाव दीजिए मुझे लगता है कि आप अपने आपको पता ही होगा कि पति किस चीज से खुश रखते हैं और पत्नी होने के नाते आप जितने ज्यादा प्रसन्नता रहती है हमें एक दूसरे की भावनाओं का ख्याल रखना चाहिए एक दूसरे की भावनाओं को सम्मान करना चाहिए एक दूसरे के रिश्ते में और उसके काम में हमें विश्वास होना चाहिए और एक दूसरे के प्रति समर्पित होना चाहिए अगर आपकी वाणी और एक दूसरे के लिए है एक परिवार के रूप में एक आदर्श उदाहरण अपने घर के लिए बच्चों के सामने अपने मोहल्ले में और अपने समाज में आप बन सकते हैं
apne parivar ke saath kaise rahein aur pati ko kaise khush rakhen yah hamein sujhaav dijiye mujhe lagta hai ki aap apne aapko pata hi hoga ki pati kis cheez se khush rakhte hain aur patni hone ke naate aap jitne zyada prasannata rehti hai hamein ek dusre ki bhavnao ka khayal rakhna chahiye ek dusre ki bhavnao ko sammaan karna chahiye ek dusre ke rishte me aur uske kaam me hamein vishwas hona chahiye aur ek dusre ke prati samarpit hona chahiye agar aapki vani aur ek dusre ke liye hai ek parivar ke roop me ek adarsh udaharan apne ghar ke liye baccho ke saamne apne mohalle me aur apne samaj me aap ban sakte hain
अपने परिवार के साथ कैसे रहें और पति को कैसे खुश रखें यह हमें सुझाव दीजिए मुझे लगता है कि आ
...
Likes  233  Dislikes    views  2012
WhatsApp_icon
user

Sachidanand Joshi

Naturopath Yoga Trainer

3:04
Play

नमस्कार हम अपने परिवार के के साथ कैसे रहें और पति को कैसे खुश रखें यदि हमें सुझाव दीजिए देखें अपने परिवार के साथ समन्वय बनाकर रखिए बड़ों की सेवा कीजिए बच्चों को प्यार कीजिए अगर आप अपने परिवार के बड़े बुजुर्गों की सेवा करेंगे बच्चों को प्यार देंगे पति का ख्याल रखेंगे और सबसे जरूरत की बात है कि आप अपना ख्याल रखेंगे क्योंकि नारी जो होती है वह सदाचारी होती है सारी जो होती है वह शक्ति होती है नारी जो होती है वह लक्ष्मी होती नारी जो होती है वह कुबेर की रेखा होती है नारी जो होती है वह सहस्त्रबाहु होती है नारी जो होती है वह दुर्गा होती है दाढ़ी जो होती है वह नारायणी होती और नारी जो होती है वह व्यस्त सबसे व्यस्त परिवार की कार्यकर्ता होती है क्योंकि मुनारी के हाथ होते हैं 12 और हर तरह की अवस्था से लड़ने की शक्ति होती है नारी के बाद तो अगर नारी जो चाहे तो वह अपने परिवार को स्वस्थ रख सकती है पर यह परिवार के साथ संबंध में बना सकती है अपने पति के साथ समन्वय बना सकती है और नारी सब कुछ कर सकती है नारी प्रखंड प्रखंड सकती है ब्रह्म ब्रह्मांड की सबसे बड़ी शक्ति कौन है नारी जो उत्पत्ति करना जानती है और विनाश करना जानती है तो आपको उत्पत्ति और उत्पत्ति और समन्वय बनाना है जब आप उत्पत्ति और संबंध में बनवा एंगे बनाएंगी तो सब खुश हो जाएंगे जब खुश रहेंगे तो आप भी खुश रहेंगे और जब आप खुश रहेंगे तो समस्त परिवार खुश रहेगा क्योंकि जो ज्यादा नहीं होती है जो मातृभूमि होती है और जो मात्र शक्ति होती है जब खुश होती है तो परम तत्व श्री विष्णु भगवान भी उन पर परिवार पर दया बनाए रखते हैं उनको सुशोभित करते हैं और महेश उन्हें शांति और शक्ति प्रदान करते हैं नमस्कार मैं सच्चिदानंद जोशी आप स्वस्थ रहें निरोगी रहें और तू चाय और कॉफी पीते रहे हाथों को सैनिटाइज करते रहे पूरे घर को सैनिटाइज करते रहे घर से बाहर बिल्कुल ना निकले यह स्त्री का पहला कत्र कर्तव्य के अपने पति के को अपने बच्चों को खुद को और अपने परिवार वालों को घर से बाहर ना निकलने दे सब छत पर जाने क्या चीज है आप जा सकते हैं घर के बाहर बिल्कुल नहीं जाएंगे घर के अंदर कोई नहीं आएगा आप पूरे दिन पूरे परिवार के साथ व्यस्त रहिए और ऐसा समझ में बनाई है कि सब खुश हो जाए नमस्कार में सच्चिदानंद जोशी योगाचार्य एवं नेचुरोपैथी आप स्वस्थ रहें निरोगी रहें और अपने परिवार का पालन पोषण करते रहे धन्यवाद नमस्कार
namaskar hum apne parivar ke ke saath kaise rahein aur pati ko kaise khush rakhen yadi hamein sujhaav dijiye dekhen apne parivar ke saath samanvay banakar rakhiye badon ki seva kijiye baccho ko pyar kijiye agar aap apne parivar ke bade bujurgon ki seva karenge baccho ko pyar denge pati ka khayal rakhenge aur sabse zarurat ki baat hai ki aap apna khayal rakhenge kyonki nari jo hoti hai vaah sadachari hoti hai saari jo hoti hai vaah shakti hoti hai nari jo hoti hai vaah laxmi hoti nari jo hoti hai vaah kuber ki rekha hoti hai nari jo hoti hai vaah sahastrabahu hoti hai nari jo hoti hai vaah durga hoti hai dadhi jo hoti hai vaah narayani hoti aur nari jo hoti hai vaah vyast sabse vyast parivar ki karyakarta hoti hai kyonki munari ke hath hote hain 12 aur har tarah ki avastha se ladane ki shakti hoti hai nari ke baad toh agar nari jo chahen toh vaah apne parivar ko swasth rakh sakti hai par yah parivar ke saath sambandh me bana sakti hai apne pati ke saath samanvay bana sakti hai aur nari sab kuch kar sakti hai nari prakhand prakhand sakti hai Brahma brahmaand ki sabse badi shakti kaun hai nari jo utpatti karna jaanti hai aur vinash karna jaanti hai toh aapko utpatti aur utpatti aur samanvay banana hai jab aap utpatti aur sambandh me banwa enge banayegi toh sab khush ho jaenge jab khush rahenge toh aap bhi khush rahenge aur jab aap khush rahenge toh samast parivar khush rahega kyonki jo zyada nahi hoti hai jo matribhoomi hoti hai aur jo matra shakti hoti hai jab khush hoti hai toh param tatva shri vishnu bhagwan bhi un par parivar par daya banaye rakhte hain unko sushobhit karte hain aur mahesh unhe shanti aur shakti pradan karte hain namaskar main sacchidanand joshi aap swasth rahein nirogee rahein aur tu chai aur coffee peete rahe hathon ko sainitaij karte rahe poore ghar ko sainitaij karte rahe ghar se bahar bilkul na nikle yah stree ka pehla katra kartavya ke apne pati ke ko apne baccho ko khud ko aur apne parivar walon ko ghar se bahar na nikalne de sab chhat par jaane kya cheez hai aap ja sakte hain ghar ke bahar bilkul nahi jaenge ghar ke andar koi nahi aayega aap poore din poore parivar ke saath vyast rahiye aur aisa samajh me banai hai ki sab khush ho jaaye namaskar me sacchidanand joshi yogacharya evam naturopathy aap swasth rahein nirogee rahein aur apne parivar ka palan poshan karte rahe dhanyavad namaskar
नमस्कार हम अपने परिवार के के साथ कैसे रहें और पति को कैसे खुश रखें यदि हमें सुझाव दीजिए दे
...
Likes  64  Dislikes    views  1450
WhatsApp_icon
user

Norang

Social Worker

2:55
Play

नमस्कार दोस्तों वह कल पर सुन रहे मेरे सभी बुद्धिजीवी श्रोताओं को मेरा प्यार भरा नमस्कार आज का सवाल है कि आप अपने परिवार के साथ कैसे रहें और पति को कैसे खुश रखें इसका आप सुझाव जानना चाहती हैं तो दोस्तों किसी परिवार में एक ग्रहणी वह मुख्य धुरी होती है जिसके आसपास पूरा घर घूमता है तो एक ग्रहणी को मैं सुझाव दो वैसे तो यह सूरज को रोशनी दिखाने देता है कि दोस्तों महिलाएं बेहद समझदार होती हैं और बहुत जल्दी आयु में वह घर को मैनेज करना सीख जाती है यह खूबी या तो कहने की प्रकृति ने उसे दी है या ऑटोमेटिकली उसे पता होता है कि परिवार के हर सदस्य की देखभाल कैसे करनी है और कितनी संजीदगी से करनी है फिर भी अगर आपने पूछा है तो मैं यह रिस्क लेता हूं दोस्तों परिवार में अलग-अलग मेंटालिटी के अलग-अलग मानसिकता के बहुत सारे सदस्य रहते हैं कोई इंसान गुस्सैल होता है कोई बहुत शांति वाला होता है शांति प्रिय होता है कोई नटखट होता है कोई नादान होता है और सभी को एक साथ लेकर चलना किसी परिवार के मुखिया के लिए और उस घर की ग्रहणी के लिए एक बहुत चुनौतीपूर्ण कार्य होता है लेकिन दोस्तों हमें परिवार के साथ बिल्कुल मिश्री की तरह घुल मिलकर रहना चाहिए हर किसी का आदर करना चाहिए जो आप से बड़े हैं जो आपसे छोटे हैं उन्हें प्रॉपर स्नेह और प्यार दे और दोस्तों पति तो एक ही चीज से खुश हो सकता है कि उसके लिए खाना अच्छा पकाया जाए आप कितना भी कोशिश कर लेकिन पति के दिल का रास्ता उसके पेट से होकर गुजरता है तो कोई भी फेवरेट उनकी डाइट फूड आप पता करें वैसे तो पता ही होगा वो उनको पकाकर खिलाएं और ज्योति जुने पसंद हो वो करे जब उनके घर वालों का सम्मान करेंगे उनके घर को सजा कर रखेंगे तो पति तो अपने आप ही खुश हो ही जाएंगे और वैसे भी पति बहुत ज्यादा डिमांडिंग नहीं होते उनको अगर थोड़ा बहुत भी बस ठीक से मैनेज कर लिया जाए तो वह खुश हो जाते हैं उनको खुश रखना कोई बहुत बड़ी कोई रॉकेट साइंस नहीं है एक अच्छे इंसान बने सबसे पहले क्योंकि हम हर रिश्ते में होने से पहले एक अच्छे इंसान अगर बन जाते हैं तो हमारा हर रिश्ता फूलों की तरह मेहक उठता है धन्यवाद
namaskar doston vaah kal par sun rahe mere sabhi buddhijeevi shrotaon ko mera pyar bhara namaskar aaj ka sawaal hai ki aap apne parivar ke saath kaise rahein aur pati ko kaise khush rakhen iska aap sujhaav janana chahti hain toh doston kisi parivar me ek grahanee vaah mukhya dhuri hoti hai jiske aaspass pura ghar ghoomta hai toh ek grahanee ko main sujhaav do waise toh yah suraj ko roshni dikhane deta hai ki doston mahilaye behad samajhdar hoti hain aur bahut jaldi aayu me vaah ghar ko manage karna seekh jaati hai yah khoobi ya toh kehne ki prakriti ne use di hai ya atometikli use pata hota hai ki parivar ke har sadasya ki dekhbhal kaise karni hai aur kitni sanjidagi se karni hai phir bhi agar aapne poocha hai toh main yah risk leta hoon doston parivar me alag alag mentalaity ke alag alag mansikta ke bahut saare sadasya rehte hain koi insaan gussail hota hai koi bahut shanti vala hota hai shanti priya hota hai koi natkhat hota hai koi nadan hota hai aur sabhi ko ek saath lekar chalna kisi parivar ke mukhiya ke liye aur us ghar ki grahanee ke liye ek bahut chunautipurn karya hota hai lekin doston hamein parivar ke saath bilkul mishri ki tarah ghul milkar rehna chahiye har kisi ka aadar karna chahiye jo aap se bade hain jo aapse chote hain unhe proper sneh aur pyar de aur doston pati toh ek hi cheez se khush ho sakta hai ki uske liye khana accha pakaya jaaye aap kitna bhi koshish kar lekin pati ke dil ka rasta uske pet se hokar guzarta hai toh koi bhi favourite unki diet food aap pata kare waise toh pata hi hoga vo unko pakaakar khilayen aur jyoti june pasand ho vo kare jab unke ghar walon ka sammaan karenge unke ghar ko saza kar rakhenge toh pati toh apne aap hi khush ho hi jaenge aur waise bhi pati bahut zyada demanding nahi hote unko agar thoda bahut bhi bus theek se manage kar liya jaaye toh vaah khush ho jaate hain unko khush rakhna koi bahut badi koi rocket science nahi hai ek acche insaan bane sabse pehle kyonki hum har rishte me hone se pehle ek acche insaan agar ban jaate hain toh hamara har rishta fulo ki tarah mehak uthata hai dhanyavad
नमस्कार दोस्तों वह कल पर सुन रहे मेरे सभी बुद्धिजीवी श्रोताओं को मेरा प्यार भरा नमस्कार आज
...
Likes  100  Dislikes    views  1931
WhatsApp_icon
user

Pankaj Kumar (MATHS GURU)

Motivational Speaker | High Sch.Teacher

1:00
Play

इंसान को परिवार के साथ मित्रवत अच्छे व्यवहार साथ रहना चाहिए आपस में प्रेम होना चाहिए परिवार के सदस्यों के बीच अपने माता-पिता के बीच जो या ससुराल में सास ससुर पास हो प्रतीक पास सबके बीच एक गुड फेथ होना चाहिए अच्छे रिश्ते होना चाहिए हमेशा खुश रखने के खुश रहने के लिए अच्छी किताबों को पढ़ना चाहिए प्राकृतिक दृश्य को देखना चाहिए चाहे पेड़ पौधे को हरी हरी भरी खेत खेत की फसलें हो लिरिक्स हो सुंदर कोई पशु पक्षी हूं उनको देखने से भी मन में खुशी होती है या फूलों को देखने से भी सुंदरता सुंदरता देखकर भी मन में खुशी होती है छोटे शिशु को देख करके भी आप खुश रख सकते हैं और बहुत से सोशल मीडिया पैसे प्रोग्राम होते हैं बताए जाते हैं कैसे आप खुश रह सकते हैं आप योगा कीजिए इससे भी आपका स्वास्थ्य अच्छा रहेगा और खुश रहेंगे
insaan ko parivar ke saath mitravat acche vyavhar saath rehna chahiye aapas me prem hona chahiye parivar ke sadasyon ke beech apne mata pita ke beech jo ya sasural me saas sasur paas ho prateek paas sabke beech ek good faith hona chahiye acche rishte hona chahiye hamesha khush rakhne ke khush rehne ke liye achi kitabon ko padhna chahiye prakirtik drishya ko dekhna chahiye chahen ped paudhe ko hari hari bhari khet khet ki faslen ho lyrics ho sundar koi pashu pakshi hoon unko dekhne se bhi man me khushi hoti hai ya fulo ko dekhne se bhi sundarta sundarta dekhkar bhi man me khushi hoti hai chote shishu ko dekh karke bhi aap khush rakh sakte hain aur bahut se social media paise program hote hain bataye jaate hain kaise aap khush reh sakte hain aap yoga kijiye isse bhi aapka swasthya accha rahega aur khush rahenge
इंसान को परिवार के साथ मित्रवत अच्छे व्यवहार साथ रहना चाहिए आपस में प्रेम होना चाहिए परिवा
...
Likes  314  Dislikes    views  3505
WhatsApp_icon
user
Play

हमने कहा हम अपने परिवार के साथ कैसे रहे हो बच्चों को कैसे भूल सकते हैं मुझसे और दीजिए लेकिन पति और पत्नी दोनों एक दूसरे के अभिन्न अंगूठे आपको एक बात ध्यान रखना चाहिए कि पति को पत्नी की भावना और उनकी जरूरतों को समझना चाहिए पत्नी को पति की याद तो उनके स्वभाव उनके एटीट्यूड भी मियां उनके निदान और उनकी भावनाओं का आदर करना चाहिए और का गहन अध्ययन करना चाहिए जब और पति और पत्नी दोनों एक नए जीवन में शुरुआत करते हैं तुमको कुछ समय एक दूसरे को आपस में समझने में लगाना चाहिए और उसको समझने में कुछ कट वन मूवी और चकत्ते कुछ मधुर अंगों भी हो सकते हैं और दोनों अनुभवों को आदमी को सहनशीलता के साथ सामना करना चाहिए बीती बात विचार यह आगे की सुध ले जो पिछला जीवन था दोनों को भूल जाना चाहिए अर्थात माता-पिता के घर के सुख साधन या कोई मित्र मंडली या कोई बॉयफ्रेंड या गर्लफ्रेंड इन सब को बोलते हुए एक नए जीवन में प्रवेश करना चाहिए जिससे कि अच्छे संसार की रचना हो सके और एक अच्छा संसार रामप्रसाद सकते हैं पति या पत्नी दोनों चंडी के भाव रखें यह दिल और दिमाग से निकाल देना चाहिए क्योंकि विश्वास पर सरदार चलता है द्वारा स्थापित भगवान मिल जाते हैं तो इंसान को कैसे नहीं जाना जा सकता और जहां विश्वास के बीच में एक दीवार खड़ी हो जाती है एक लकीर खिंच जाती है वहां संबंध बिगड़ जाते हैं घर परिवार टूट जाते हैं खुशियां लुट जाती हैं और बिना वजह बिना मतलब और धंधे की उस धूल भरे घेरे से गिरकर एक बचा बचाया सुंदर लोग जो हैं अपना बगिया उजड़ लेते हैं तो मैं कहना चाहूंगा कि इंसान को अपनी बगिया को मैं खाना चाहिए और अच्छे आचरण अच्छा अगर सुरक्षित शिक्षा और अच्छा चरित्र केवल किताबी ज्ञान और डिग्री और ऊंचा खानदान नहीं है बल्कि परिवार को निभाना एक सबसे बड़ा अच्छा आदर्श अमीर घर की लड़की गरीब घर में जाए तो उसे अपना सौभाग्य मानते हुए उस गरीबी में ही अमीरी ढूंढ लेनी चाहिए गरीब घर की लड़की अगर अमीर घर में जाए तो उसे इतराना नहीं चाहिए बल्कि उसे उस घर के संस्कार सीखने चाहिए अधिकारों का पालन पोषण करना चाहिए अपने सास-ससुर को माता-पिता से मिलना चाहिए और अपने आपको कुछ परिचित उठाने का प्रयास करना चाहिए लेकिन किसी भी कीमत पर अन्याय वाली संस्कार वाली और वचन वाली स्थिति कि अपना नहीं चाहिए और ना ही प्रेम प्रदर्शित करनी है
humne kaha hum apne parivar ke saath kaise rahe ho baccho ko kaise bhool sakte hain mujhse aur dijiye lekin pati aur patni dono ek dusre ke abhinn anguthe aapko ek baat dhyan rakhna chahiye ki pati ko patni ki bhavna aur unki jaruraton ko samajhna chahiye patni ko pati ki yaad toh unke swabhav unke attitude bhi miyan unke nidan aur unki bhavnao ka aadar karna chahiye aur ka gahan adhyayan karna chahiye jab aur pati aur patni dono ek naye jeevan me shuruat karte hain tumko kuch samay ek dusre ko aapas me samjhne me lagana chahiye aur usko samjhne me kuch cut van movie aur chakatte kuch madhur angon bhi ho sakte hain aur dono anubhavon ko aadmi ko sahansheelta ke saath samana karna chahiye biti baat vichar yah aage ki sudh le jo pichla jeevan tha dono ko bhool jana chahiye arthat mata pita ke ghar ke sukh sadhan ya koi mitra mandali ya koi boyfriend ya girlfriend in sab ko bolte hue ek naye jeevan me pravesh karna chahiye jisse ki acche sansar ki rachna ho sake aur ek accha sansar ramprasad sakte hain pati ya patni dono chandi ke bhav rakhen yah dil aur dimag se nikaal dena chahiye kyonki vishwas par sardar chalta hai dwara sthapit bhagwan mil jaate hain toh insaan ko kaise nahi jana ja sakta aur jaha vishwas ke beech me ek deewaar khadi ho jaati hai ek lakir khich jaati hai wahan sambandh bigad jaate hain ghar parivar toot jaate hain khushiya lut jaati hain aur bina wajah bina matlab aur dhande ki us dhul bhare ghere se girkar ek bacha bachaya sundar log jo hain apna BAGIYA ujad lete hain toh main kehna chahunga ki insaan ko apni BAGIYA ko main khana chahiye aur acche aacharan accha agar surakshit shiksha aur accha charitra keval kitabi gyaan aur degree aur uncha khandan nahi hai balki parivar ko nibhana ek sabse bada accha adarsh amir ghar ki ladki garib ghar me jaaye toh use apna saubhagya maante hue us garibi me hi amiri dhundh leni chahiye garib ghar ki ladki agar amir ghar me jaaye toh use itarana nahi chahiye balki use us ghar ke sanskar sikhne chahiye adhikaaro ka palan poshan karna chahiye apne saas sasur ko mata pita se milna chahiye aur apne aapko kuch parichit uthane ka prayas karna chahiye lekin kisi bhi kimat par anyay wali sanskar wali aur vachan wali sthiti ki apna nahi chahiye aur na hi prem pradarshit karni hai
हमने कहा हम अपने परिवार के साथ कैसे रहे हो बच्चों को कैसे भूल सकते हैं मुझसे और दीजिए लेकि
...
Likes  358  Dislikes    views  5015
WhatsApp_icon
user

Vinod Kumar Pandey

Life Coach | Career Counsellor ::Relationship Counsellor :: Parenting Counsellor

4:36
Play

आपने जो प्रश्न किया है उसको उत्तर में मैं यही कहना चाहता हूं कि परिवार के साथ अच्छे से रहने के लिए बहुत जरूरी होता है कि आप परिवार के साथ मिलजुल कर रहे हैं और अपने साथ-साथ दूसरों का भी ध्यान रखें दूसरों को भी सम्मान दें दूसरे की जरूरतों को ध्यान रखें हमेशा अपने बारे में अपनी जरूरतों के बारे में ही ना सोचे दूसरों को ही उतना महत्व दें जब आप दूसरों को उचित सम्मान देंगे रिस्पेक्ट देंगे दूसरों का ध्यान रखेंगे मिलजुल का सहयोग करके एक दूसरे को जीवन में आगे बढ़ेंगे तो अपने आप आपका परिवार बहुत अच्छा रहेगा आपके परिवार के संबंध बहुत अच्छे रहेंगे ध्यान रखेंगे परिवार में जो दिक्कतें परेशानियां तभी होती है जब से हम अपने बारे में सोचते हैं अपने लाभ के बारे में सोचते हैं और दूसरे के सदस्यों को हम इग्नोर करते हैं तब दिक्कतें शुरू होती हैं लेकिन अगर आप एक दूसरे का सहयोग करके परिवार में रह रहे हैं दूसरे की चीजों को ध्यान दे रहे हैं सम्मान दे रहे हैं तो अपने आप आप परिवार में अच्छे से रह पाएंगे दूसरा आप ने प्रश्न किया है कि पति को कैसे खुश रखें पति को खुश रखने के आज सिंपल तरीका ही होता है यह ध्यान देने वाली बात है कि जो पुरुष होते हैं उनकी जो भावनात्मक जरूरतें होती हैं वह महिलाओं से अलग होती हैं ज्यादातर महिलाएं कहीं ना कहीं उनको अपनी सोच के द्वारा अपनी जरूरतों के हिसाब से अपने पति को डील करती हैं इसलिए उनके बीच दिक्कत आती है लेकिन जब एक पुरुष को उनकी मानसिकता के हिसाब से आप हैंडल करेंगे या उनको त्योहार करेंगे तो अपने आप उनके साथ आपका संबंध बहुत अच्छा होगा और बहुत खुश रहेंगे जैसे पुरुष की जो पहली भावनात्मक जरूरत होती है कि आप अपने पति के ऊपर ट्रस्ट करिए विश्वास करिए जब आप अपने पति के प्रतिभा पर्व उनके व्यक्तित्व पर उनकी क्षमता पर विश्वास करेंगे ट्रस्ट करेंगे तो उससे पुरुषों को बहुत खुशी मिलती है इसे ध्यान रखें सबसे पहले आप अपने आपके पति जैसे हैं जो हैं आप उनको वैसे ही स्वीकार करिए उनको सम्मान दीजिए रिस्पेक्ट दीजिए और उनकी क्षमता पर विश्वास करिए जितना अधिक से अधिक आप उनके ऊपर विश्वास करेंगे उनकी क्षमता पर विश्वास करेंगे उतना ही उनके अंदर खुशी आएगी ज्यादातर पत्नी जो गलती करती हैं कि अगर उनके पति में कहीं कोई कमी दिखाई पड़ती है तो बार-बार अपनी पति की कमियों की तरफ इशारा करती हैं यह ध्यान रखने वाली बात है कि अगर आपके पति ने कोई कमी भी दिखाई पड़ रहा है तो आप उसको उनसे कहने की बिल्कुल कोशिश ना करें क्योंकि अगर आप अपने पति की कमियों को बताएंगे तो इससे उनके अंदर की रिजल्ट मैंट आता है और वह क्रोध का कारण बनता है जो बाद में लड़ाई झगड़ा की स्थिति तक पहुंच जाती है जब आप अपने पति को वह जैसे हैं वैसे स्वीकार करते हैं तो आप के प्रति अपने आप अपनी कमियों को सुधारते हैं और कोशिश करते हैं इसीलिए कभी भी अपने पति को कमियों के बावजूद उनकी कमियों को कभी गिराने का प्रयास ना कीजिए ज्यादातर यह पत्नियां करते हैं कि अपने पति को फर्फेक्ट बना के चक्कर में या उनके अंदर बिल्कुल ही आदर्श पति बनाने के चक्कर में हमेशा उनकी अच्छाइयों को पर ध्यान नहीं देती सिर्फ उनकी बुराइयों को ही उनके सामने कहती हैं जो की लड़ाई झगड़े का बहुत बड़ा कारण होता है हमेशा आपके पति जैसे हैं जो हैं वह सब स्वीकार करिए और उन पर ट्रस्ट करिए उनसे बार-बार कहिए उनको ऐसा एहसास दिलाएं कि वे इस दुनिया के सबसे सक्षम सबसे अच्छे व्यक्ति हैं जिस दिन आपने अपने पति को आपके अपने पति के ऊपर इतना ट्रस्ट कर लिया और व्यवहार में दिखाई पड़ गया आपके पति बहुत खुश होंगे और राकेश संबंध बहुत अच्छे होंगे और बदले में वह आपको उससे ज्यादा सम्मान उससे ज्यादा प्यार देंगे मेरा यही कहना है कि जितना हो सके अपने पति की अगर कोई कमियां भी हो तो भी उनके सामने बिल्कुल ना करें उनके ऊपर टच दिखाएं और ज्यादा सागर उनसे कोई बात आपको मनमानी हो तो उन्हें ऑर्डर देने की वजह आप उन्हें रिक्वेस्ट करें प्यार से अगर रिक्वेस्ट करेंगे तो कोई भी चीज सुनेंगे समझेंगे और बदले में बहुत सारा प्यार देंगे यहां पर भी बहुत सारी औरतें यह गलती करती हैं कि वह अपनी पतियों की चीजों को अपने एक थोड़ा आज्ञाकारी रवि से समझाने की कोशिश करती है या कुछ कहती हैं जिससे कहीं ना कहीं उनके पति सुनते नहीं समझते नहीं लेकिन अगर वही चीज आप अपने पति से रिक्वेस्ट के तरीके से कहेंगे और उनको सम्मान देगी उनको स्वीकार करेंगे तो अपने आप वह आपको बहुत सारा प्यार भी देंगे और आपसे कुछ भी रहेंगे मेरी शुभकामनाएं आपके लिए धन्यवाद
aapne jo prashna kiya hai usko uttar me main yahi kehna chahta hoon ki parivar ke saath acche se rehne ke liye bahut zaroori hota hai ki aap parivar ke saath miljul kar rahe hain aur apne saath saath dusro ka bhi dhyan rakhen dusro ko bhi sammaan de dusre ki jaruraton ko dhyan rakhen hamesha apne bare me apni jaruraton ke bare me hi na soche dusro ko hi utana mahatva de jab aap dusro ko uchit sammaan denge respect denge dusro ka dhyan rakhenge miljul ka sahyog karke ek dusre ko jeevan me aage badhenge toh apne aap aapka parivar bahut accha rahega aapke parivar ke sambandh bahut acche rahenge dhyan rakhenge parivar me jo dikkaten pareshaniya tabhi hoti hai jab se hum apne bare me sochte hain apne labh ke bare me sochte hain aur dusre ke sadasyon ko hum ignore karte hain tab dikkaten shuru hoti hain lekin agar aap ek dusre ka sahyog karke parivar me reh rahe hain dusre ki chijon ko dhyan de rahe hain sammaan de rahe hain toh apne aap aap parivar me acche se reh payenge doosra aap ne prashna kiya hai ki pati ko kaise khush rakhen pati ko khush rakhne ke aaj simple tarika hi hota hai yah dhyan dene wali baat hai ki jo purush hote hain unki jo bhavnatmak jaruratein hoti hain vaah mahilaon se alag hoti hain jyadatar mahilaye kahin na kahin unko apni soch ke dwara apni jaruraton ke hisab se apne pati ko deal karti hain isliye unke beech dikkat aati hai lekin jab ek purush ko unki mansikta ke hisab se aap handle karenge ya unko tyohar karenge toh apne aap unke saath aapka sambandh bahut accha hoga aur bahut khush rahenge jaise purush ki jo pehli bhavnatmak zarurat hoti hai ki aap apne pati ke upar trust kariye vishwas kariye jab aap apne pati ke pratibha parv unke vyaktitva par unki kshamta par vishwas karenge trust karenge toh usse purushon ko bahut khushi milti hai ise dhyan rakhen sabse pehle aap apne aapke pati jaise hain jo hain aap unko waise hi sweekar kariye unko sammaan dijiye respect dijiye aur unki kshamta par vishwas kariye jitna adhik se adhik aap unke upar vishwas karenge unki kshamta par vishwas karenge utana hi unke andar khushi aayegi jyadatar patni jo galti karti hain ki agar unke pati me kahin koi kami dikhai padti hai toh baar baar apni pati ki kamiyon ki taraf ishara karti hain yah dhyan rakhne wali baat hai ki agar aapke pati ne koi kami bhi dikhai pad raha hai toh aap usko unse kehne ki bilkul koshish na kare kyonki agar aap apne pati ki kamiyon ko batayenge toh isse unke andar ki result maint aata hai aur vaah krodh ka karan banta hai jo baad me ladai jhagda ki sthiti tak pohch jaati hai jab aap apne pati ko vaah jaise hain waise sweekar karte hain toh aap ke prati apne aap apni kamiyon ko sudharte hain aur koshish karte hain isliye kabhi bhi apne pati ko kamiyon ke bawajud unki kamiyon ko kabhi girane ka prayas na kijiye jyadatar yah patniya karte hain ki apne pati ko farfekt bana ke chakkar me ya unke andar bilkul hi adarsh pati banane ke chakkar me hamesha unki acchhaiyon ko par dhyan nahi deti sirf unki buraiyon ko hi unke saamne kehti hain jo ki ladai jhagde ka bahut bada karan hota hai hamesha aapke pati jaise hain jo hain vaah sab sweekar kariye aur un par trust kariye unse baar baar kahiye unko aisa ehsaas dilaye ki ve is duniya ke sabse saksham sabse acche vyakti hain jis din aapne apne pati ko aapke apne pati ke upar itna trust kar liya aur vyavhar me dikhai pad gaya aapke pati bahut khush honge aur rakesh sambandh bahut acche honge aur badle me vaah aapko usse zyada sammaan usse zyada pyar denge mera yahi kehna hai ki jitna ho sake apne pati ki agar koi kamiyan bhi ho toh bhi unke saamne bilkul na kare unke upar touch dikhaen aur zyada sagar unse koi baat aapko manmani ho toh unhe order dene ki wajah aap unhe request kare pyar se agar request karenge toh koi bhi cheez sunenge samjhenge aur badle me bahut saara pyar denge yahan par bhi bahut saari auraten yah galti karti hain ki vaah apni patiyon ki chijon ko apne ek thoda aagyaakaaree ravi se samjhane ki koshish karti hai ya kuch kehti hain jisse kahin na kahin unke pati sunte nahi samajhte nahi lekin agar wahi cheez aap apne pati se request ke tarike se kahenge aur unko sammaan degi unko sweekar karenge toh apne aap vaah aapko bahut saara pyar bhi denge aur aapse kuch bhi rahenge meri subhkamnaayain aapke liye dhanyavad
आपने जो प्रश्न किया है उसको उत्तर में मैं यही कहना चाहता हूं कि परिवार के साथ अच्छे से रहन
...
Likes  205  Dislikes    views  2246
WhatsApp_icon
user

DR. I.P.SINGH

Doctorate in Literature

3:08
Play

बहुत-बहुत धन्यवाद आपको कि आप अपने परिवार के साथ पति के साथ जुड़ना चाहती हैं बेटा देखकर हर परिवार का अपना एक दस्तूर होता है उसके अपने संस्कार होते हैं तो अपने परिवार के ससुराल के संस्कार को पहले समझने की कोशिश करें पहली बात कि कैसे रहें जैसे लोग रहते हैं परिवार का एक सदस्य बन के रहिए बाहर से आई हैं अभी नहीं अगर शादी हुई है तो निश्चित परिवार के लोग आपको एक नई नजर से देखेंगे और आपको भी सब कुछ नया लगेगा पिता के घर में मां के घर में जो आप कौन मुक्ता मिली थी वह या बंधन बन गई होगी और सास-ससुर भी यह ध्यान रखें बेटा थोड़ा सा यह विशेष रूप से किया वह अपने बच्चे में अपना भविष्य देखते हैं इसलिए जब बहू उनके बच्चे को अपनी गिरफ्त में लेती है मैंने शादी हो जाती तो बच्चा ज्यादा समय अपनी पत्नी के साथ बिताता है तो माता-पिता को एक ऐसा होता कि कहीं वह मेरे बच्चे को मुझसे छीन तो नहीं लेगी तो कभी-कभी उनकी गतिविधियां जो होती हो बड़ी अजीबो-गरीब होती है लेकिन अगर आप साथ ससुर को अपने माता पिता की तरह देखने की कोशिश करेंगे तो मेहनत इस देश में तो भावनाएं पत्थर को भी समर्पित की जाती हो तो मां-बाप हैं उन्हें धरा पर एहसास करा दें कि मैं आपकी बहू से ज्यादा बेटी हूं उनके साथ जुड़ने की कोशिश करें लेकिन यह भी नहीं कि बिल्कुल ही नौकरानी बन जाए नहीं अपने स्वाभिमान की रक्षा करते हुए माता पिता के साथ ससुर की ननद की और देवर की थोड़ी सी अगर आप तो ए सावधानी से देखभाल करें तो एक तो निश्चित जिससे आपको पति को खुशी मिलेगी दूसरी बात पति की इच्छाओं को भी समझने की कोशिश करें अपना थोड़ा सा और एक कुछ बिंदु ऐसे भी होते हैं बेटा जिसमें बहुत कहने में संकोच नहीं इस शादी की शुरुआत सेक्स से होती है और सेक्स के धरातल पर औरतें जो होती हैं वह कहीं मौन होती हैं बहुत खुल करके अपनी बातें नहीं कर पाती है आधुनिका की बातें छोड़ दीजिए और कुछ ऐसे पुरुष भी होते हैं जो बहुत ओपन नहीं एसएक्स के धरातल पर अगर आप शादी विवाह के बाद कुछ ही दिनों में जुड़ गए और एक दूसरे को समझने लगे एक दूसरे को निकट लाने की बहुत बड़ी सफलता आपके पति को शुरू में पूरा टाइम दे दिए और कभी किसी काम में फंस गई और उनके पास आप देरी से पहुंचते हैं तो अगर वह सो गए हो तो जग आएगी उन्हें साफ कर आइए बताइए कि देरी क्यों हुई थोड़े आपको त्याग तो करना पड़ेगा समझे अपना एक बार आप सबका विश्वास जीत लेने तो निश्चित रूप से आप अपने घर को सफलतापूर्वक संचालित कर ले जाएंगे थैंक्स
bahut bahut dhanyavad aapko ki aap apne parivar ke saath pati ke saath judna chahti hain beta dekhkar har parivar ka apna ek dastoor hota hai uske apne sanskar hote hain toh apne parivar ke sasural ke sanskar ko pehle samjhne ki koshish kare pehli baat ki kaise rahein jaise log rehte hain parivar ka ek sadasya ban ke rahiye bahar se I hain abhi nahi agar shaadi hui hai toh nishchit parivar ke log aapko ek nayi nazar se dekhenge aur aapko bhi sab kuch naya lagega pita ke ghar me maa ke ghar me jo aap kaun mukta mili thi vaah ya bandhan ban gayi hogi aur saas sasur bhi yah dhyan rakhen beta thoda sa yah vishesh roop se kiya vaah apne bacche me apna bhavishya dekhte hain isliye jab bahu unke bacche ko apni giraft me leti hai maine shaadi ho jaati toh baccha zyada samay apni patni ke saath bitata hai toh mata pita ko ek aisa hota ki kahin vaah mere bacche ko mujhse cheen toh nahi legi toh kabhi kabhi unki gatividhiyan jo hoti ho badi ajibo garib hoti hai lekin agar aap saath sasur ko apne mata pita ki tarah dekhne ki koshish karenge toh mehnat is desh me toh bhaavnaye patthar ko bhi samarpit ki jaati ho toh maa baap hain unhe dhara par ehsaas kara de ki main aapki bahu se zyada beti hoon unke saath judne ki koshish kare lekin yah bhi nahi ki bilkul hi naukrani ban jaaye nahi apne swabhiman ki raksha karte hue mata pita ke saath sasur ki nanad ki aur devar ki thodi si agar aap toh a savdhani se dekhbhal kare toh ek toh nishchit jisse aapko pati ko khushi milegi dusri baat pati ki ikchao ko bhi samjhne ki koshish kare apna thoda sa aur ek kuch bindu aise bhi hote hain beta jisme bahut kehne me sankoch nahi is shaadi ki shuruat sex se hoti hai aur sex ke dharatal par auraten jo hoti hain vaah kahin maun hoti hain bahut khul karke apni batein nahi kar pati hai adhunika ki batein chhod dijiye aur kuch aise purush bhi hote hain jo bahut open nahi SX ke dharatal par agar aap shaadi vivah ke baad kuch hi dino me jud gaye aur ek dusre ko samjhne lage ek dusre ko nikat lane ki bahut badi safalta aapke pati ko shuru me pura time de diye aur kabhi kisi kaam me fans gayi aur unke paas aap deri se pahunchate hain toh agar vaah so gaye ho toh jag aayegi unhe saaf kar aaiye bataiye ki deri kyon hui thode aapko tyag toh karna padega samjhe apna ek baar aap sabka vishwas jeet lene toh nishchit roop se aap apne ghar ko safaltaapurvak sanchalit kar le jaenge thanks
बहुत-बहुत धन्यवाद आपको कि आप अपने परिवार के साथ पति के साथ जुड़ना चाहती हैं बेटा देखकर हर
...
Likes  115  Dislikes    views  1639
WhatsApp_icon
user

Harender Kumar Yadav

Career Counsellor

1:31
Play

हम अपने परिवार के साथ कैसे रहे और पति को कैसे खुश रखे यह झांकी देखिएगा परिवार के साथ एक तो मिलते रहो और दूसरे परिवार में अलग-अलग सदस्यों के इंग्लिश के साथ शुरू होगी देवरानी और भी ननद हो गया जो कमांडो के अलग-अलग रूप क्यों होते हैं तो सबसे पहले आप अपने आपको सबके साथ सामंजस्य बनाकर को अपने मन को शांत करके बिल्कुल कुत्ता से काम करते और लोगों का सहयोग भी मांगा लोगों से सहयोग करने की बात करने का टाइम अच्छा होगा आपके विचार अच्छे होंगे अब ज्यादा उल्टा जवाब लोग फिर आपको सहयोग करेंगे जब परिवार के सदस्यों को सहयोग कर लेते हैं आपके सब पढ़कर होना हमसे पति क्लास के प्रति आपका प्यार होना चाहिए वह जभी भी ऑफिस चाहता है जैसे भी उसके साथ प्यार से बातें कर लो उसके अटल करके बात है रात्रि में जब समय मिलता है आप लोग एक साथ रहते हैं दूसरों की बातें कोई दूसरा के बर्ताव से अपने आचरण से उन्हों को जीत सकते हैं
hum apne parivar ke saath kaise rahe aur pati ko kaise khush rakhe yah jhanki dekhiega parivar ke saath ek toh milte raho aur dusre parivar me alag alag sadasyon ke english ke saath shuru hogi devrani aur bhi nanad ho gaya jo commando ke alag alag roop kyon hote hain toh sabse pehle aap apne aapko sabke saath samanjasya banakar ko apne man ko shaant karke bilkul kutta se kaam karte aur logo ka sahyog bhi manga logo se sahyog karne ki baat karne ka time accha hoga aapke vichar acche honge ab zyada ulta jawab log phir aapko sahyog karenge jab parivar ke sadasyon ko sahyog kar lete hain aapke sab padhakar hona humse pati class ke prati aapka pyar hona chahiye vaah jab bhi bhi office chahta hai jaise bhi uske saath pyar se batein kar lo uske atal karke baat hai ratri me jab samay milta hai aap log ek saath rehte hain dusro ki batein koi doosra ke bartaav se apne aacharan se unhon ko jeet sakte hain
हम अपने परिवार के साथ कैसे रहे और पति को कैसे खुश रखे यह झांकी देखिएगा परिवार के साथ एक तो
...
Likes  336  Dislikes    views  3747
WhatsApp_icon
user

Gopal Srivastava

Acupressure Acupucture Therapist

1:36
Play

Likes  106  Dislikes    views  3138
WhatsApp_icon
user

Vikas Goswami

Private Tutor

0:47
Play

हेलो भाई और दूसरे को समझ में
hello bhai aur dusre ko samajh me
हेलो भाई और दूसरे को समझ में
...
Likes  200  Dislikes    views  2004
WhatsApp_icon
play
user

Beer Singh Rajput

Career Counsellor & Lecturer.

0:35

हम अपने परिवार के साथ परिवार ही रहें प्रसन्न रहें समय समय पर अवश्य सारे काम करें जब उन्हें अपनी गलती को स्वीकार करें छोटा पोस्ट नहीं करें बड़ों को सम्मान दें तो सभी लोग खुश रहेंगे
hum apne parivar ke saath parivar hi rahein prasann rahein samay samay par avashya saare kaam kare jab unhe apni galti ko sweekar kare chota post nahi kare badon ko sammaan de toh sabhi log khush rahenge
हम अपने परिवार के साथ परिवार ही रहें प्रसन्न रहें समय समय पर अवश्य सारे काम करें जब उन्हें
...
Likes  139  Dislikes    views  1391
WhatsApp_icon
user

Shubham Saini

Software Engineer

0:27
Play

आपको अपने परिवार में कैसे रहना है और अपने पति को कैसे खुश रखें तो आप अपने परिवार की सारी समस्याओं को दूर कर सकते हो लोगों को खुश रख कर लोग खुश रखने के लिए आप लोगों की जरूरत जरूरतों को समझो कि इन लोगों को परिवार वालों को आपके पति को क्या ऐसी जरूरत सारी जरूरतें पूरा करने में अपना सहयोग दो साथ ही साथ हमेशा खुश रहो और लोगों को खुश रखने की कोशिश करो
aapko apne parivar me kaise rehna hai aur apne pati ko kaise khush rakhen toh aap apne parivar ki saari samasyaon ko dur kar sakte ho logo ko khush rakh kar log khush rakhne ke liye aap logo ki zarurat jaruraton ko samjho ki in logo ko parivar walon ko aapke pati ko kya aisi zarurat saari jaruratein pura karne me apna sahyog do saath hi saath hamesha khush raho aur logo ko khush rakhne ki koshish karo
आपको अपने परिवार में कैसे रहना है और अपने पति को कैसे खुश रखें तो आप अपने परिवार की सारी स
...
Likes  190  Dislikes    views  1346
WhatsApp_icon
user

Anil Soni

Business Expert

0:53
Play

पति की बात करती है तो मेरे हिसाब से पति को सिर्फ दो चीजें ही चाहिए तो आप उनसे पति को खुश कर सकते हैं पहला है आप पति को समय से खाना दे दे सनाबी को ठाठ से मिलना चाहिए और दूसरा पति को अपनी ओर से पत्नी की ओर से शारीरिक सुख का बहार देनी चाहिए जिससे अवश्य ही पति खुश होंगे और मेरे हिसाब से इससे अच्छी कोई बात नहीं हो सकती तो ज्यादातर पत्तियों को इस दो चीजों से ही अपनी पत्नी से खुशी मिल जाती है तो आप क्वेश्चन का आंसर मिल गया और लाइक कमेंट शेयर करना मत पूर्णा फोटो जरूर कर देना
pati ki baat karti hai toh mere hisab se pati ko sirf do cheezen hi chahiye toh aap unse pati ko khush kar sakte hain pehla hai aap pati ko samay se khana de de sanabi ko thaath se milna chahiye aur doosra pati ko apni aur se patni ki aur se sharirik sukh ka bahar deni chahiye jisse avashya hi pati khush honge aur mere hisab se isse achi koi baat nahi ho sakti toh jyadatar pattiyo ko is do chijon se hi apni patni se khushi mil jaati hai toh aap question ka answer mil gaya aur like comment share karna mat poorna photo zaroor kar dena
पति की बात करती है तो मेरे हिसाब से पति को सिर्फ दो चीजें ही चाहिए तो आप उनसे पति को खुश क
...
Likes  148  Dislikes    views  1690
WhatsApp_icon
user
Play

परिवार को चलाने के लिए सबसे बड़ी झील होता भरोसा विश्वास इसने अनुशासन और दूरदर्शिता तो परिवार चलाने में तकलीफ नहीं होती परिवार को थोड़ा सख्ती भी बरतनी पड़ती लेकिन पति को खुश करने के लिए अपनी पत्नी को तकलीफ नहीं देना चाहता तो भर के स्वामी वही होती घर के सामने पूरे घर की मालकिन होती है और पति उसके ऊपर छोड़ देता क्योंकि उसको कमाने से फुर्सत नहीं रहती इसलिए कभी आने जाने में समय लग जाता है बीयर भी हो जाती है उन समस्याओं को समझना चाहिए भरोसा रखना चाहिए विश्वास समझाइए झूठा शक नहीं करना चाहिए इन सब बातों को ध्यान रखकर आप अलवर का संचालन तरीके तभी आपको तकलीफ
parivar ko chalane ke liye sabse badi jheel hota bharosa vishwas isne anushasan aur duradarshita toh parivar chalane me takleef nahi hoti parivar ko thoda sakhti bhi bartani padti lekin pati ko khush karne ke liye apni patni ko takleef nahi dena chahta toh bhar ke swami wahi hoti ghar ke saamne poore ghar ki malakin hoti hai aur pati uske upar chhod deta kyonki usko kamane se phursat nahi rehti isliye kabhi aane jaane me samay lag jata hai beer bhi ho jaati hai un samasyaon ko samajhna chahiye bharosa rakhna chahiye vishwas samjhaiye jhutha shak nahi karna chahiye in sab baaton ko dhyan rakhakar aap alwar ka sanchalan tarike tabhi aapko takleef
परिवार को चलाने के लिए सबसे बड़ी झील होता भरोसा विश्वास इसने अनुशासन और दूरदर्शिता तो परिव
...
Likes  138  Dislikes    views  1191
WhatsApp_icon
user

Krishna S

Motivational Speaker

1:41
Play

हमें अपने परिवार के साथ कैसे रहें और अब पति को कैसे खुश रखें यह हमें सुझाव दीजिए सबसे पहली बात आप को किसी को खुश नहीं रखना है आप सदैव संतुष्ट एवं खुश रहेंगे तो आपका और आपका आभामंडल औरों को भी खुश रखेगा एवं संतुष्ट रखेगा लेकिन हम स्वयं उस प्रकार से कैसे हो तो एक ही उसका उपाय है सदा खुश रहो मुस्कुराते रहो मंगल मिलन प्रभु से मनाते रहो जितना आप अपने आपको परमात्मा शक्ति से परमात्मा याद में भरेंगे उतना ही आभामंडल आपका तीव्र होगा और आपके घर में भी वह पहले का अल्लो सुखी रहेंगे अब आप उसके लिए सवेरे और शाम समय निकालिए परमात्मा को याद करिए विधि है साधारण सी है मैं एक शरीर से अलग फोरहेड ग्रुप डी के बीच चमकती हुई चैतन्य सकता हूं और मेरा पिता भी निराकार उससे मानो वर्षा हो रही है और मुझे आत्मा में प्रविष्ट होकर मुझे शक्तिशाली शान एवं आनंदमई बना रही हैं और मेरे से निकलकर वह सारा आभामंडल और सारा और मेरे घर में हलवा है मेरे लोगों पर फैल रहा है इस प्रकार की चीजें कुछ दिन तक करेंगे तो आपको खुद रिजल्ट दिखाई देने लगेगा धन्यवाद
hamein apne parivar ke saath kaise rahein aur ab pati ko kaise khush rakhen yah hamein sujhaav dijiye sabse pehli baat aap ko kisi ko khush nahi rakhna hai aap sadaiv santusht evam khush rahenge toh aapka aur aapka abhamandal auron ko bhi khush rakhega evam santusht rakhega lekin hum swayam us prakar se kaise ho toh ek hi uska upay hai sada khush raho muskurate raho mangal milan prabhu se manate raho jitna aap apne aapko paramatma shakti se paramatma yaad me bharenge utana hi abhamandal aapka tivra hoga aur aapke ghar me bhi vaah pehle ka allo sukhi rahenge ab aap uske liye savere aur shaam samay nikaliye paramatma ko yaad kariye vidhi hai sadhaaran si hai main ek sharir se alag forehead group d ke beech chamakati hui chaitanya sakta hoon aur mera pita bhi nirakaar usse maano varsha ho rahi hai aur mujhe aatma me pravisht hokar mujhe shaktishali shan evam anandamai bana rahi hain aur mere se nikalkar vaah saara abhamandal aur saara aur mere ghar me halwa hai mere logo par fail raha hai is prakar ki cheezen kuch din tak karenge toh aapko khud result dikhai dene lagega dhanyavad
हमें अपने परिवार के साथ कैसे रहें और अब पति को कैसे खुश रखें यह हमें सुझाव दीजिए सबसे पहल
...
Likes  4  Dislikes    views  119
WhatsApp_icon
user

Sanjay Kumar Yadav

Yoga Trainer

1:36
Play

गुड इवनिंग फ्रेंड्स हम अपने परिवार के साथ इस तरह से रहना परिवार में अगर माता-पिता है भाई हैं तो उन सब लोगों का आदर करना बच्चों को उचित पहनावा उचित भोजन उचित पढ़ाई के लिए भेजना यह सारी चीजें कंबाइंड फैमिली में आगे यदि आपके घर में और भी लोग होंगे उन लोगों के बच्चों को भी आप अपने बच्चों की तरह समझें पति को खुश रखने के लिए आप पति आते हैं तो उनको समय से पानी चाय नाश्ता देना उनको लिए थोड़ा सा आने पर आप को आकर्षक होना होगा थोड़ा मेकअप में आपको रहना और भी कैसी यह है तो इन सारी बातों को अगर हम ध्यान में रखेंगे तो हमारे परिवार हमारे बच्चे और आपके हस्बैंड भी एक खुश रहेंगे इन सारी बातों को आप काफी खुश है और भी बहुत कुछ है लेकिन आप इतनी बातों को अगर आप ध्यान रखें तो आपका परिवार खुशहाल रह सकता है थैंक यू
good evening friends hum apne parivar ke saath is tarah se rehna parivar me agar mata pita hai bhai hain toh un sab logo ka aadar karna baccho ko uchit pahanava uchit bhojan uchit padhai ke liye bhejna yah saari cheezen Combined family me aage yadi aapke ghar me aur bhi log honge un logo ke baccho ko bhi aap apne baccho ki tarah samajhe pati ko khush rakhne ke liye aap pati aate hain toh unko samay se paani chai nashta dena unko liye thoda sa aane par aap ko aakarshak hona hoga thoda makeup me aapko rehna aur bhi kaisi yah hai toh in saari baaton ko agar hum dhyan me rakhenge toh hamare parivar hamare bacche aur aapke husband bhi ek khush rahenge in saari baaton ko aap kaafi khush hai aur bhi bahut kuch hai lekin aap itni baaton ko agar aap dhyan rakhen toh aapka parivar khushahal reh sakta hai thank you
गुड इवनिंग फ्रेंड्स हम अपने परिवार के साथ इस तरह से रहना परिवार में अगर माता-पिता है भाई ह
...
Likes  25  Dislikes    views  130
WhatsApp_icon
user

Shyambabu

Student

0:57
Play

आप परिवार के साथ रहें अगर कोई गलती हो गई है माता पिता अगर आपको डांट रहे हैं तो आप उनसे ऊंची आवाज में ना बात करते हुए उनसे प्यार से पूछे कि गलती क्या हो गया है आप बताइए हम उसको सुधार करेंगे और जो भी गलती हुई हो उसमें आप सुधार करें दूसरी बात पति अगर घर से घर पर जब आता है उसको क्यों प्यार से भोजन ही परोस कर खिलाए दिन का जितना झगड़ा हुआ है जितना पर पंच हुआ है जितना कि सर में टेंशन है वह उनको खाने पर उस पर वह सारी बातें बता कर सब झगड़े की बातें और जो भी इधर कहीं से भी आपने चुगली किया हुआ सुना हुआ है उनको ना करो से उनको ना सुनाएं उस समय जब खाना खा ले उसके बाद आप जो इच्छा वह सुनाएं
aap parivar ke saath rahein agar koi galti ho gayi hai mata pita agar aapko dant rahe hain toh aap unse unchi awaaz me na baat karte hue unse pyar se pooche ki galti kya ho gaya hai aap bataiye hum usko sudhaar karenge aur jo bhi galti hui ho usme aap sudhaar kare dusri baat pati agar ghar se ghar par jab aata hai usko kyon pyar se bhojan hi paros kar khilaye din ka jitna jhagda hua hai jitna par punch hua hai jitna ki sir me tension hai vaah unko khane par us par vaah saari batein bata kar sab jhagde ki batein aur jo bhi idhar kahin se bhi aapne chugli kiya hua suna hua hai unko na karo se unko na sunaen us samay jab khana kha le uske baad aap jo iccha vaah sunaen
आप परिवार के साथ रहें अगर कोई गलती हो गई है माता पिता अगर आपको डांट रहे हैं तो आप उनसे ऊंच
...
Likes  11  Dislikes    views  188
WhatsApp_icon
user
1:41
Play

आपके परिवार को विजयदशमी के लिए जितना हो सके शाम को नौकरी पर आता उसके आते ही पानी चाहे कुछ भी खाने के लिए दे दे उसके हाथ मा शांत हो जाते हैं भेजिए काम मेरे लिए कर रही है लेकिन आप उसके लिए कुछ ना करे उसको काम के आते ही आप गाली गलौज देना चालू कर दे खटपट मनु टूट जाएगा शाम तक लौट के आएगा आपके साथ लड़ाई झगड़ा करेंगे उसका मन हो तो क्या हो जाएगा जितना हो सब से प्रेम से बात करी उसके कान के बारे में मुझे कितना काम किया क्या किया क्या नहीं किया है इससे फ्री मोड़ बढ़ेगा और आपको मीठे मीठे बात करके उसको बनाकर लाके आप उसको समझा सकते हैं यह गलत है यह वह भी आपकी मन की बात आपको शेयर कर सकता है लेकिन यह बात ध्यान में रखें कभी पुरुष के अंदर हमेशा गम छुपा रहता वह कभी बाहर अपनी पत्नी के सामने कभी दूसरों को बाहर नहीं निकलता उसके अंदर पर कम को बाहर निकाल रही है कोशिश करोगे आप उसे प्यार से से पूछोगे तो वह भी मिल जाता लेकिन मर्द गोदंती पिघलता है लेकिन आप उसको प्यार से पूछो या प्रेम से पूछो कि उसकी मन को शांत कर सकती है
aapke parivar ko vijayadashmi ke liye jitna ho sake shaam ko naukri par aata uske aate hi paani chahen kuch bhi khane ke liye de de uske hath ma shaant ho jaate hain bhejiye kaam mere liye kar rahi hai lekin aap uske liye kuch na kare usko kaam ke aate hi aap gaali galoj dena chaalu kar de khatapat manu toot jaega shaam tak lot ke aayega aapke saath ladai jhagda karenge uska man ho toh kya ho jaega jitna ho sab se prem se baat kari uske kaan ke bare me mujhe kitna kaam kiya kya kiya kya nahi kiya hai isse free mod badhega aur aapko meethe meethe baat karke usko banakar lake aap usko samjha sakte hain yah galat hai yah vaah bhi aapki man ki baat aapko share kar sakta hai lekin yah baat dhyan me rakhen kabhi purush ke andar hamesha gum chupa rehta vaah kabhi bahar apni patni ke saamne kabhi dusro ko bahar nahi nikalta uske andar par kam ko bahar nikaal rahi hai koshish karoge aap use pyar se se puchoge toh vaah bhi mil jata lekin mard godanti pighalata hai lekin aap usko pyar se pucho ya prem se pucho ki uski man ko shaant kar sakti hai
आपके परिवार को विजयदशमी के लिए जितना हो सके शाम को नौकरी पर आता उसके आते ही पानी चाहे कुछ
...
Likes  9  Dislikes    views  138
WhatsApp_icon
user
1:55
Play

नमस्कार का सवाल है हम अपने परिवार के साथ कैसे रहें और पति को कैसे खुश रखें यह में सुझाव दीजिए अगर अपने आप अपने परिवार में चाहते हैं कि सब अभिषेक प्रेम करें और अच्छे से अच्छा परिवार है तो उसके लिए आपको सपरिवार पक्ष याद रखना पड़ेगा अब ना होगा कि उनको कैसी बातें अच्छी लगती है ओके अच्छा लगता है और क्या अच्छा नहीं लगता है सबसे पहले उनके बारे में जानना होगा पूरी तरह एक बात जान जाते हैं कि उनको कौन सी बातें अच्छी लगती है आप उन्हें खाना खिला रहे हैं तो क्या खाने में क्या लगता है तो सभी परिवार बारे में आप अगर हो जाता है तो बहुत आसानी से अपने खुश रख सकते हैं और पति को कैसे खुश रखें तो एकदम पति की शादी भी करना होगा पति को कौन सी बात अच्छी लगती है कौन से बात करी करी रहती है उनके बारे में पूछे जाने उनकी भावनाओं को समझें और उनका कदर करें तो आप प्रेम देंगे तो आपको भी पूरे परिवार से और अपने पति से प्रेम मिलेगा इसकी नहीं उनके बारे में जानना होगा उनके बारे में अब जान जाएंगे और उसके को उसके अनुसार अब काम करेंगे तो आप पूरे परिवार को खुश रख सकते हैं बस धन्यवाद
namaskar ka sawaal hai hum apne parivar ke saath kaise rahein aur pati ko kaise khush rakhen yah me sujhaav dijiye agar apne aap apne parivar me chahte hain ki sab abhishek prem kare aur acche se accha parivar hai toh uske liye aapko saparivar paksh yaad rakhna padega ab na hoga ki unko kaisi batein achi lagti hai ok accha lagta hai aur kya accha nahi lagta hai sabse pehle unke bare me janana hoga puri tarah ek baat jaan jaate hain ki unko kaun si batein achi lagti hai aap unhe khana khila rahe hain toh kya khane me kya lagta hai toh sabhi parivar bare me aap agar ho jata hai toh bahut aasani se apne khush rakh sakte hain aur pati ko kaise khush rakhen toh ekdam pati ki shaadi bhi karna hoga pati ko kaun si baat achi lagti hai kaun se baat kari kari rehti hai unke bare me pooche jaane unki bhavnao ko samajhe aur unka kadar kare toh aap prem denge toh aapko bhi poore parivar se aur apne pati se prem milega iski nahi unke bare me janana hoga unke bare me ab jaan jaenge aur uske ko uske anusaar ab kaam karenge toh aap poore parivar ko khush rakh sakte hain bus dhanyavad
नमस्कार का सवाल है हम अपने परिवार के साथ कैसे रहें और पति को कैसे खुश रखें यह में सुझाव दी
...
Likes  14  Dislikes    views  252
WhatsApp_icon
user

Ajay Kumar

Astrologer

1:26
Play

हां जी देखिए यह प्रश्न जो आपने किया है हम अपने परिवार को कैसे खुश रखें साथ रखें आप अपने परिवार को आगे बढ़ाना है बच्चों को अच्छी शिक्षा देनी है पति को खुश रखना है इसमें आप सबसे पहले अपने सोने का उठने का सफाई का काम का खाने का यह सारा एक शेड्यूल बना कर चलिए जब आप आप खाना टाइम पर खाओगे बच्चों को अच्छी तरह सफाई सफाई रखोगे घर की साफ-सफाई रखोगे पति को खाना मिलेगा आपको टाइम पर खाना मिलेगा हर चीज टाइम पर हो रही है इससे आपका परिवार बेहतर खुश रहेगा मेरे हिसाब से और आपके पति को टाइम पर खाना मिल रहा है वह छुट्टी वाले दिन घर में नई नई चीजें मिल रही है खाने के लिए ठीक है जी तो इससे आपका प्यार भी बढ़ेगा और बच्चे भी आपके साथ मिक्स होकर रहेंगे ठीक है जी तो बच्चों के लिए ही आदमी जीता है पति भी बच्चों के लिए काम करता है अपनी बीवी के लिए करता है तो इसलिए जितना आप अच्छा करोगे उतना आपको रिजल्ट मिलेगा सारी परिवार की तरफ से ओके जी
haan ji dekhiye yah prashna jo aapne kiya hai hum apne parivar ko kaise khush rakhen saath rakhen aap apne parivar ko aage badhana hai baccho ko achi shiksha deni hai pati ko khush rakhna hai isme aap sabse pehle apne sone ka uthane ka safaai ka kaam ka khane ka yah saara ek schedule bana kar chaliye jab aap aap khana time par khaoge baccho ko achi tarah safaai safaai rakhoge ghar ki saaf safaai rakhoge pati ko khana milega aapko time par khana milega har cheez time par ho rahi hai isse aapka parivar behtar khush rahega mere hisab se aur aapke pati ko time par khana mil raha hai vaah chhutti waale din ghar me nayi nayi cheezen mil rahi hai khane ke liye theek hai ji toh isse aapka pyar bhi badhega aur bacche bhi aapke saath mix hokar rahenge theek hai ji toh baccho ke liye hi aadmi jita hai pati bhi baccho ke liye kaam karta hai apni biwi ke liye karta hai toh isliye jitna aap accha karoge utana aapko result milega saari parivar ki taraf se ok ji
हां जी देखिए यह प्रश्न जो आपने किया है हम अपने परिवार को कैसे खुश रखें साथ रखें आप अपने पर
...
Likes  7  Dislikes    views  116
WhatsApp_icon
user
Play

सबसे मेन चीज होता है इंसान का मीठी बोल बोलना और मीठे बोल से इंसान किसी का भी दिल जीत सकता है अगर हम खुद सही हो हमारे मामला भी सही हूं हमारा किरदार भी ठीक हो तो हम लोगों को जोड़ भी सकते हैं अपने परिवार वालों को शक ही सकते हैं और खुश रखना क्या है कि परिवार को जिन चीजों की जरूरत होती है परिवार वालों उनको वह चीज अपने से जहां तक हो सके दे सकते हैं खुशी में उनके साथ खड़े हो द मीनिंग के साथ खड़े हो जैसा वह हमें रखें या जैसा हम के साथ रह सके हमेशा रहे अपने पति की बात तो पति का जहां तक मसाला के बाद अब ऐसा होता है कि पति के पास बहुत पैसे भी हैं तो हम उस टाइम हमारे हमारे शौक पूरे करते हैं कि शॉपिंग कर आएंगे कभी यह कहा है कि जो कराए लेकिन पैसे नहीं होते तो हम समझते हैं कि इस घर में मुझे कुछ मिला नहीं बाजा पैसे भी हो जाता है सभी बोल दिया करते हैं कि जब से मैं इस घर में आई हूं तब से मैंने घर में कुछ दिखाई नहीं बोलती है जिसकी वजह से पति को नाराजगी होती है नाराजगी होती अपना खुश करने का मसाला तो यह देखना चाहिए कि जब पति बाहर से आए काम करके घर में तो एकदम फॉर्म खड़े हो उनको कह दो हाल-चाल सामान हाथ में वो लेके रखे पानी वानी ला करके दें जो उनको जरूरत है वह पूरी करें उनके कहने से पहले उनकी जरूरत को पूरा करें उनकी पसंद का खाना बनाया और खुद को बढ़ाओ सिंगार करके रखें और खुद को अच्छा मेकअप करके रखें कि जिससे उनका ध्यान किसी और को न जा करके आप ध्यान उनके और उनकी हर एक चीज का ध्यान रखें आमीन के लिए निकाली याद रखें और इसी तरीके से इन जैसा वह चाहे खुद को बेहतर बनाने की कोशिश करें ऐसा नहीं है कि उनकी बांधी बन जाए लेकिन जिसे वह काम चाहते हैं या जैसा वह आपको बनाना चाहते हैं वैसे थोड़ी देर के लिए बंद कर देखेंगे फिर उसे याद में कितना फर्क आता है बाजा में ऐसा होता है कि हम पति बाहर से आया है हम ऐसी कोई कमी की बात बोल देते हैं क्या उनके साथ अच्छे से लोग नहीं करते तो जिसकी वजह से नाराज रहते हैं और इसी तरीके से जब रात में हम लोग संभोग करते हैं संभोग करते समय ऐसा भी होता है कि पत्नी ना चाहे पति चाहता है ऐसे मौके पर भी पत्नी को चाहिए कि अपने पति को खुश करने के लिए करें उन बने लेकिन मेरे को खुश करना है करने के लिए कर्म तो उठाना पड़ेगा तो यह भी हो सकता है और दूसरी बात है कि पति के होते हुए भी ना होते हुए भी अपने घर में किसी दूसरे किसी पराए मर्द को आने की इजाजत बिना दे आने भी ना दें और किस तरह मदद से शव कोई आदमी से बात भी ना करें ताकि अपने पति को भी एहसास हो कि नहीं मेरी पत्नी मेरे अलावा कोई और भी जा सकती हो मैं उसे खुश है इस तरह की चीजें अपनाएं और इस तरह की चीजें अपने ध्यान में हिसाब कर खुश रखता हूं खुदा आपको देखना है कि वह किस चीजों को चाहता है और किसी उसे पसंद करता है यह पसंद को देखते हो आप अपना काम करें
sabse main cheez hota hai insaan ka mithi bol bolna aur meethe bol se insaan kisi ka bhi dil jeet sakta hai agar hum khud sahi ho hamare maamla bhi sahi hoon hamara kirdaar bhi theek ho toh hum logo ko jod bhi sakte hain apne parivar walon ko shak hi sakte hain aur khush rakhna kya hai ki parivar ko jin chijon ki zarurat hoti hai parivar walon unko vaah cheez apne se jaha tak ho sake de sakte hain khushi me unke saath khade ho the meaning ke saath khade ho jaisa vaah hamein rakhen ya jaisa hum ke saath reh sake hamesha rahe apne pati ki baat toh pati ka jaha tak masala ke baad ab aisa hota hai ki pati ke paas bahut paise bhi hain toh hum us time hamare hamare shauk poore karte hain ki shopping kar aayenge kabhi yah kaha hai ki jo karae lekin paise nahi hote toh hum samajhte hain ki is ghar me mujhe kuch mila nahi baaja paise bhi ho jata hai sabhi bol diya karte hain ki jab se main is ghar me I hoon tab se maine ghar me kuch dikhai nahi bolti hai jiski wajah se pati ko narajgi hoti hai narajgi hoti apna khush karne ka masala toh yah dekhna chahiye ki jab pati bahar se aaye kaam karke ghar me toh ekdam form khade ho unko keh do haal chaal saamaan hath me vo leke rakhe paani vani la karke de jo unko zarurat hai vaah puri kare unke kehne se pehle unki zarurat ko pura kare unki pasand ka khana banaya aur khud ko badhao shingar karke rakhen aur khud ko accha makeup karke rakhen ki jisse unka dhyan kisi aur ko na ja karke aap dhyan unke aur unki har ek cheez ka dhyan rakhen amin ke liye nikali yaad rakhen aur isi tarike se in jaisa vaah chahen khud ko behtar banane ki koshish kare aisa nahi hai ki unki bandhi ban jaaye lekin jise vaah kaam chahte hain ya jaisa vaah aapko banana chahte hain waise thodi der ke liye band kar dekhenge phir use yaad me kitna fark aata hai baaja me aisa hota hai ki hum pati bahar se aaya hai hum aisi koi kami ki baat bol dete hain kya unke saath acche se log nahi karte toh jiski wajah se naaraj rehte hain aur isi tarike se jab raat me hum log sambhog karte hain sambhog karte samay aisa bhi hota hai ki patni na chahen pati chahta hai aise mauke par bhi patni ko chahiye ki apne pati ko khush karne ke liye kare un bane lekin mere ko khush karna hai karne ke liye karm toh uthana padega toh yah bhi ho sakta hai aur dusri baat hai ki pati ke hote hue bhi na hote hue bhi apne ghar me kisi dusre kisi parae mard ko aane ki ijajat bina de aane bhi na de aur kis tarah madad se shav koi aadmi se baat bhi na kare taki apne pati ko bhi ehsaas ho ki nahi meri patni mere alava koi aur bhi ja sakti ho main use khush hai is tarah ki cheezen apanaen aur is tarah ki cheezen apne dhyan me hisab kar khush rakhta hoon khuda aapko dekhna hai ki vaah kis chijon ko chahta hai aur kisi use pasand karta hai yah pasand ko dekhte ho aap apna kaam kare
सबसे मेन चीज होता है इंसान का मीठी बोल बोलना और मीठे बोल से इंसान किसी का भी दिल जीत सकता
...
Likes  5  Dislikes    views  46
WhatsApp_icon
user
Play

हेलो दोस्तों कैसे हैं आप लोग आज का सवाल है हम अपने परिवार के साथ कैसे रहें और पति को कैसे खुश रखें या हमें सुझाव दीजिए सबसे पहली बार जो आपने यह सवाल किया है तो कहीं ना कहीं आपके मन में है कि सबको मिलाजुला के रखे और साथ रखें सबको खुश रखे तो यह आपकी अच्छाई को दर्शाता है और आप रख भी लेंगे सबको खुश इसमें एक पिक्चर ज्यादा ध्यान देना होगा कि आपके पति को क्या पसंद है किस चीज से वह खुश होते हैं कौन सा काम है किस तरह से बात करने से उनके मनपसंद काम को करने से या उनके मनपसंद का डिश बनाने से सब चीज है जो आप थोड़ा इस पर नजर रखे आपको पता लगेगा कि हमारे पति को क्या अच्छा लगता है उनके मन मुताबिक काम कीजिएगा ऑलरेडी खुश हो जाएं किसी भी इंसान के मन मुताबिक यदि कोई दूसरा व्यक्ति बगैर बोले कर दे तुझे तीन मानी है वह व्यक्ति अपने आप खुश हो जाता है कभी-कभी धर्म होता है ऐसा परिवार में कुछ बातों पर हो जाता है टेंशन मगर कभी-कभी कुछ बातें सुनकर जवाब ना देने से भी आपके परिवार में सब लोग खुश रहेंगे और परिवार का हर एक सदस्य आपस में मिलजुल कर रहे बहुत अच्छी बात है एक दूसरे की छोटी-छोटी गलतियों पर ध्यान ना दें नजरअंदाज करते छोटी-छोटी बातों पर ध्यान देने लगते हैं तभी हमारे घर में कलेश पैदा होता तो बस छोटी-छोटी बातों को इग्नोर करें किसी ने कुछ कह दिया छोटी मोटी गलती है आप नजरअंदाज कर दिया और आगे से आगे बढ़े हैं आप खुश रहेंगे और आपके परिवार वाले सभी खुश रहें सुनने के लिए धन्यवाद बाकी अपना राय आप बता सकते हैं मेरे कमेंट बॉक्स में
hello doston kaise hain aap log aaj ka sawaal hai hum apne parivar ke saath kaise rahein aur pati ko kaise khush rakhen ya hamein sujhaav dijiye sabse pehli baar jo aapne yah sawaal kiya hai toh kahin na kahin aapke man me hai ki sabko milajula ke rakhe aur saath rakhen sabko khush rakhe toh yah aapki acchai ko darshata hai aur aap rakh bhi lenge sabko khush isme ek picture zyada dhyan dena hoga ki aapke pati ko kya pasand hai kis cheez se vaah khush hote hain kaun sa kaam hai kis tarah se baat karne se unke manpasand kaam ko karne se ya unke manpasand ka dish banane se sab cheez hai jo aap thoda is par nazar rakhe aapko pata lagega ki hamare pati ko kya accha lagta hai unke man mutabik kaam kijiega already khush ho jayen kisi bhi insaan ke man mutabik yadi koi doosra vyakti bagair bole kar de tujhe teen maani hai vaah vyakti apne aap khush ho jata hai kabhi kabhi dharm hota hai aisa parivar me kuch baaton par ho jata hai tension magar kabhi kabhi kuch batein sunkar jawab na dene se bhi aapke parivar me sab log khush rahenge aur parivar ka har ek sadasya aapas me miljul kar rahe bahut achi baat hai ek dusre ki choti choti galatiyon par dhyan na de najarandaj karte choti choti baaton par dhyan dene lagte hain tabhi hamare ghar me klesh paida hota toh bus choti choti baaton ko ignore kare kisi ne kuch keh diya choti moti galti hai aap najarandaj kar diya aur aage se aage badhe hain aap khush rahenge aur aapke parivar waale sabhi khush rahein sunne ke liye dhanyavad baki apna rai aap bata sakte hain mere comment box me
हेलो दोस्तों कैसे हैं आप लोग आज का सवाल है हम अपने परिवार के साथ कैसे रहें और पति को कैसे
...
Likes  7  Dislikes    views  119
WhatsApp_icon
user

S.S Chechi

Defence

4:22
Play

आपका पसंद था हम अपने परिवार के साथ कैसे रहे पति को कैसे खुश रखे हम इसका सुझाव यही देंगे सबसे पहले हम गुस्सा हो जाएंगे कि आपके परिवार के साथ कैसा रहना तू अनेक बहुत अच्छा किसने किया है और एक परिवार के साथ में जुड़े रहना बहुत अच्छी बात है और पता रहता है साथ में जुड़ा होता है तो अपने परिवार के साथ कैसे खुश रहना है वह बताऊंगा सबसे पहले आपको अपने पूरे परिवार जो आपने अपने पूरे घर के काम की जिम्मेदारी लेने घर का जितना भी काम होता उसको आपको जिम्मेदारी लेनी होगी कि मैं कर लूंगी मैं नहीं करुंगी तो वो कर लेगा तो अपने पूरे परिवार की अपने पूरे घर के काम कीजिए मारिया को खुद को लेनेवो के सभी मेंबरों को उनके दर्जे के अनुसार इज्जत और सम्मान देना छोटे-छोटे देखना है बड़े-बड़े की नजर देखना है ससुर को ससुर की नजर से देखना है आपको काम में हाथ बढ़ाना पड़ेगा तो आपको परिवार के साथ रहने के लिए आपको बहुत कुछ सहना पड़ता है उसके लिए आपको सेंड करना पड़ेगा हंसी मजाक भी करते हैं कोई सोचना होगा अलग अलग अलग अलग को सेंड करना पड़ेगा और अपने परिवार का हर मेंबर के जूते किसमें होती है यह आपको उसकी रूचि के अनुसार उनको अपने उनकी होती है उनका काम करना है उनका सम्मान करना है और उनके दो बच्चे थे उनको रूप से मैं उनको उनके खिलाफ ऐसे करके उठे दूसरा पति को खुश रखें उचित सबसे पहले लोग काम मत करो जो आपको पति को अच्छा नहीं लगता है आपके अगर आप अपने पति के अच्छा नहीं लगता है पति से करोगे तो एक दूसरे को बात करने का मन नहीं करेगा काम अपने पति का जो काम होता है वह काम मत करो जो अपने पति के अच्छा नहीं लगता और उनके विश्वास दिलाओ कि मैं आपको भर्ती वफादार हूं हमेशा पॉजिटिव सोच रखो उनकी भावनाओं को उनके विचारों को हमेशा उनकी इज्जत करो सम्मान करो
aapka pasand tha hum apne parivar ke saath kaise rahe pati ko kaise khush rakhe hum iska sujhaav yahi denge sabse pehle hum gussa ho jaenge ki aapke parivar ke saath kaisa rehna tu anek bahut accha kisne kiya hai aur ek parivar ke saath me jude rehna bahut achi baat hai aur pata rehta hai saath me juda hota hai toh apne parivar ke saath kaise khush rehna hai vaah bataunga sabse pehle aapko apne poore parivar jo aapne apne poore ghar ke kaam ki jimmedari lene ghar ka jitna bhi kaam hota usko aapko jimmedari leni hogi ki main kar lungi main nahi karungi toh vo kar lega toh apne poore parivar ki apne poore ghar ke kaam kijiye maria ko khud ko lenevo ke sabhi membaron ko unke darje ke anusaar izzat aur sammaan dena chote chote dekhna hai bade bade ki nazar dekhna hai sasur ko sasur ki nazar se dekhna hai aapko kaam me hath badhana padega toh aapko parivar ke saath rehne ke liye aapko bahut kuch sahna padta hai uske liye aapko send karna padega hansi mazak bhi karte hain koi sochna hoga alag alag alag alag ko send karna padega aur apne parivar ka har member ke joote kisme hoti hai yah aapko uski ruchi ke anusaar unko apne unki hoti hai unka kaam karna hai unka sammaan karna hai aur unke do bacche the unko roop se main unko unke khilaf aise karke uthe doosra pati ko khush rakhen uchit sabse pehle log kaam mat karo jo aapko pati ko accha nahi lagta hai aapke agar aap apne pati ke accha nahi lagta hai pati se karoge toh ek dusre ko baat karne ka man nahi karega kaam apne pati ka jo kaam hota hai vaah kaam mat karo jo apne pati ke accha nahi lagta aur unke vishwas dilao ki main aapko bharti vafaadar hoon hamesha positive soch rakho unki bhavnao ko unke vicharon ko hamesha unki izzat karo sammaan karo
आपका पसंद था हम अपने परिवार के साथ कैसे रहे पति को कैसे खुश रखे हम इसका सुझाव यही देंगे सब
...
Likes  4  Dislikes    views  129
WhatsApp_icon
अपने सवाल पूछें और एक्स्पर्ट्स के जवाब सुने
qIconask

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!