क्या कोरोना वायरस को छिपकली के ऊपर टेस्ट किया गया?...


user

Dr Raj Kumar Kochar

Ayurvedic Doctors ( Researcher )

0:40
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अभी तक कोरोनावायरस को किसी के ऊपर किसी जानवर के ऊपर भारत में चोट नहीं किया गया है उसके किया भी गया है तो उसका कोई भी रिसर्च पेपर अभी तक बाहर नहीं आया है आज 6 अप्रैल को जरूर एक बात का पता चला है कि 1 जून के अंदर विदेश में एक तू के अंदर किसी बाथरूम को कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गई है वह वाली यह पहला कैसेट जानवरों में देखने को आए हैं

abhi tak coronavirus ko kisi ke upar kisi janwar ke upar bharat me chot nahi kiya gaya hai uske kiya bhi gaya hai toh uska koi bhi research paper abhi tak bahar nahi aaya hai aaj 6 april ko zaroor ek baat ka pata chala hai ki 1 june ke andar videsh me ek tu ke andar kisi bathroom ko corona virus se sankrameet paya gayi hai vaah wali yah pehla kaiset jaanvaro me dekhne ko aaye hain

अभी तक कोरोनावायरस को किसी के ऊपर किसी जानवर के ऊपर भारत में चोट नहीं किया गया है उसके किय

Romanized Version
Likes  360  Dislikes    views  2520
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

Dr. Abid Khan

Nutritionist

0:39

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्या करो ना वायरस को छिपकली छिपकली के ऊपर टेस्ट किया गया नहीं हमें किसी की मौत नहीं लेनी है हमें किसी को मारना नहीं है वह कैसा वायरस है जो इंसानों के लिए बना है अभी तक तो मेरे को पता भी नहीं चला है कि अभी तक हमारे लाइफ में जब हम लोग जब पढ़ाई कर देते हैं उस समय तक होगा किया जाता था मैं वो करते मैडम को पोस्टमार्टम कांटेक्ट नहीं किया गया थैंक यू

kya karo na virus ko chipkali chipkali ke upar test kiya gaya nahi hamein kisi ki maut nahi leni hai hamein kisi ko marna nahi hai vaah kaisa virus hai jo insano ke liye bana hai abhi tak toh mere ko pata bhi nahi chala hai ki abhi tak hamare life me jab hum log jab padhai kar dete hain us samay tak hoga kiya jata tha main vo karte madam ko postmortem Contact nahi kiya gaya thank you

क्या करो ना वायरस को छिपकली छिपकली के ऊपर टेस्ट किया गया नहीं हमें किसी की मौत नहीं लेनी ह

Romanized Version
Likes  13  Dislikes    views  414
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!