कोरोना वायरस छोटे बच्चों और बुजुर्गों में होने की ज्यादा संभावना बताई जा रही है ऐसा क्यों?...


user

Dr.Paramjit Singh

Health and Fitness Expert/ Lecturer In Physical Education/

2:38
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार दोस्तों देखिए आपका जॉब क्वेश्चन है कि कोरोनावायरस छोटे बच्चों और बुजुर्गों को होने की ज्यादा संभावना क्यों बताई जा रही है तो देखिए दोनों ही ऐसी है जो बुजुर्ग हैं और जो बच्चे हैं इन दोनों इसमें जो हमारा रेस्पिरेटरी सिस्टम होता है श्वसन तंत्र जो होता है वह वीक होता है कमजोर होता है और हमारी पर मिनट जॉब ऋतिक होती है वह ज्यादा होती है यानी कि जो आप 60 साल से ऊपर हैं 55000 साल से ऊपर हैं या फिर आप 15 साल से कम है 10:15 यानी के 10 साल आपकी एज है या 8 साल है या वही और आप बुजुर्ग हैं तो दोनों कैटेगरी में दोनों एक में हमारा जो ब्रीथिंग रेट है वह पर मिनट जो है वह ज्यादा होता है नॉर्मल ही अगर हम 1 मिनट में 6065 सांस ले रहे हैं या 40 सांस ले रहे हैं तो वहीं दोनों इस कैटेगरी में बुजुर्ग में और बच्चे में यह लगभग 1 मिनट में इससे ज्यादा चली जाती बीएनके बीड़ी सिगरेट जो है वह ज्यादा है और वृत्ति ग्रेट जाता है तो इसका मतलब जो रेस्पिरेशन जो है वह आपका बिग और एक्सप्रेशन अगर आपका वीक है तो आपकी इम्यूनिटी भी जो है वह कमजोर यूनिटी कम है ऐसे में जो है कोई भी वायरस किसे भी करो ना कि बात नहीं है किसी भी तरह का वायरस और धूल कांड कि अगर हम बात करें तो वह क्या है कि वह बेटिंग रेट ज्यादा होने से ज्यादा स्पीड से हमारे अंदर इंटर करता है और बहुत अंदर तक जल्दी चला जाता है वही नॉर्मल आदमी या यंग एज में जो है हमारा रेस्पिरेशन सिस्टम है वह स्ट्रांग होता है स्वसन तंत्र और ब्रीडिंग रेड जो है वह कम होता है तो जब कोई भी धूल का नया वायरस या कोई इस तरह का केमिकल अगर आपके द्वारा हमारे अंदर जाएगा तो हमारा ब्रीडिंग रेट कम होने से वह हमारे लंच में बहुत देर में पहुंचेगा और उस दौरान अगर एक आदमी कहीं से कोई धूल कन्या वायरस कुछ भी है हमारे पास के द्वारा अंदर चला जाता है तो अगर वह 15:20 मिनट तक बिल्कुल सही इलाज के अंदर नहीं पहुंचता तो उस 15:20 मिनट में हम बहुत ऐसे काम करते हैं जिससे कि वह वायरस बीच में कहीं ना कहीं अटक जाता है या कोई बैरियर की तरह उसको हम रोक सकते हैं लेकिन अगर ब्रिटिन रेट ज्यादा है जल्दी-जल्दी हम सांस ले रहे हैं तो वह जल्दी जल्दी से फिर पूरे लंच के अंदर फैल सकता है तो यही कारण है के बच्चों और बुजुर्गों को इसे बहुत ज्यादा खतरा है

namaskar doston dekhiye aapka job question hai ki coronavirus chote baccho aur bujurgon ko hone ki zyada sambhavna kyon batai ja rahi hai toh dekhiye dono hi aisi hai jo bujurg hain aur jo bacche hain in dono isme jo hamara respiratory system hota hai shwasan tantra jo hota hai vaah weak hota hai kamjor hota hai aur hamari par minute job ritik hoti hai vaah zyada hoti hai yani ki jo aap 60 saal se upar hain 55000 saal se upar hain ya phir aap 15 saal se kam hai 10 15 yani ke 10 saal aapki age hai ya 8 saal hai ya wahi aur aap bujurg hain toh dono category me dono ek me hamara jo breathing rate hai vaah par minute jo hai vaah zyada hota hai normal hi agar hum 1 minute me 6065 saans le rahe hain ya 40 saans le rahe hain toh wahi dono is category me bujurg me aur bacche me yah lagbhag 1 minute me isse zyada chali jaati BNK bidi cigarette jo hai vaah zyada hai aur vriti great jata hai toh iska matlab jo respiration jo hai vaah aapka big aur expression agar aapka weak hai toh aapki immunity bhi jo hai vaah kamjor unity kam hai aise me jo hai koi bhi virus kise bhi karo na ki baat nahi hai kisi bhi tarah ka virus aur dhul kaand ki agar hum baat kare toh vaah kya hai ki vaah betting rate zyada hone se zyada speed se hamare andar inter karta hai aur bahut andar tak jaldi chala jata hai wahi normal aadmi ya young age me jo hai hamara respiration system hai vaah strong hota hai svasan tantra aur Breeding red jo hai vaah kam hota hai toh jab koi bhi dhul ka naya virus ya koi is tarah ka chemical agar aapke dwara hamare andar jaega toh hamara Breeding rate kam hone se vaah hamare lunch me bahut der me pahunchaega aur us dauran agar ek aadmi kahin se koi dhul kanya virus kuch bhi hai hamare paas ke dwara andar chala jata hai toh agar vaah 15 20 minute tak bilkul sahi ilaj ke andar nahi pahuchta toh us 15 20 minute me hum bahut aise kaam karte hain jisse ki vaah virus beech me kahin na kahin atak jata hai ya koi Barrier ki tarah usko hum rok sakte hain lekin agar britin rate zyada hai jaldi jaldi hum saans le rahe hain toh vaah jaldi jaldi se phir poore lunch ke andar fail sakta hai toh yahi karan hai ke baccho aur bujurgon ko ise bahut zyada khatra hai

नमस्कार दोस्तों देखिए आपका जॉब क्वेश्चन है कि कोरोनावायरस छोटे बच्चों और बुजुर्गों को होने

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  133
WhatsApp_icon
30 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Shailesh Kumar Dubey

Yoga Teacher , Retired Government Employee

1:57
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रश्न है कोरोनावायरस छोटी बच्चों और बुजुर्गों में होने की ज्यादा संभावना जताई जा रही है ऐसा क्यों इसका उत्तर है कोरोनावायरस किसी भी उम्र के व्यक्ति को हो सकता है कोई भी व्यक्ति संक्रमित हो सकता है लेकिन इसमें बच्ची और बूढ़ों 12 पर ज्यादा उसका दुर्ग भाव पड़ रहा है कारण कि बच्चों में और बूढ़ों में रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होती है इस कारण से यह बच्चे और बूढ़े को रोना से ज्यादा प्रभावित हो सकते हैं युवा वर्ग के लोग भी प्रभावित होंगे लेकिन जुवाबर के लोग ठीक हो जाएंगे और बच्ची और बुजुर्गों का नुकसान हो सकता है बच्चे और गुरु की अवधि का सुविधा में पढ़ सकते हैं उसके लिए आप बिल्कुल चिंता मुक्त हो जाइए और हमारे प्रधानमंत्री और हमारे मुख्यमंत्री युवा निर्देशक उसका अक्षर से पालन कीजिए और आप बिल्कुल कोरोनावायरस रहेंगे लग डाउन चल रहा है लाख डाउन में जो आपकी चौखट पर लक्ष्मणरेखा है उसको किसी भी कीमत पर पार नहीं करना है अपनी आवश्यकताओं को सीमित कीजिए हमारी आवश्यकता है और सीमित है जितना ही इनकी पूर्ति होती जाएगी उतना ही बढ़ जाती हैं इसलिए परिस्थिति हम लोगों के अनुकूल नहीं है परिचित बहुत प्रतिकूल है ऐसी परिस्थिति में हमको अपनी आवश्यक जान

prashna hai coronavirus choti baccho aur bujurgon me hone ki zyada sambhavna jatai ja rahi hai aisa kyon iska uttar hai coronavirus kisi bhi umar ke vyakti ko ho sakta hai koi bhi vyakti sankrameet ho sakta hai lekin isme bachi aur boodhon 12 par zyada uska durg bhav pad raha hai karan ki baccho me aur boodhon me rog pratirodhak kshamta kam hoti hai is karan se yah bacche aur budhe ko rona se zyada prabhavit ho sakte hain yuva varg ke log bhi prabhavit honge lekin juvabar ke log theek ho jaenge aur bachi aur bujurgon ka nuksan ho sakta hai bacche aur guru ki awadhi ka suvidha me padh sakte hain uske liye aap bilkul chinta mukt ho jaiye aur hamare pradhanmantri aur hamare mukhyamantri yuva nirdeshak uska akshar se palan kijiye aur aap bilkul coronavirus rahenge lag down chal raha hai lakh down me jo aapki chaukhat par lakshmanrekha hai usko kisi bhi kimat par par nahi karna hai apni avashayaktaon ko simit kijiye hamari avashyakta hai aur simit hai jitna hi inki purti hoti jayegi utana hi badh jaati hain isliye paristhiti hum logo ke anukul nahi hai parichit bahut pratikul hai aisi paristhiti me hamko apni aavashyak jaan

प्रश्न है कोरोनावायरस छोटी बच्चों और बुजुर्गों में होने की ज्यादा संभावना जताई जा रही है ऐ

Romanized Version
Likes  59  Dislikes    views  1071
WhatsApp_icon
user

Isu Vasava

PASTOR in CHURCH.

1:23
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कोरोनावायरस बच्चों को इसलिए ज्यादा होने की संभावना होते हैं क्योंकि बच्चों में जो रोग प्रतिकारक शक्ति जो कहते हैं लोगों से लड़ने की शक्ति कम होती है जैसे जैसे बच्चे बड़े होते हैं वह शक्ति बढ़ जाते आपको मालूम होगा जब बच्चे छोटे होते हैं तो उनको बार-बार सर्दी क्यों होती है सर्दी खांसी सर्दी जुकाम इसलिए होता है क्योंकि उनके अंतर यह शक्ति बहुत कम होते जैसे जैसे वह बड़े होते जान जाते हैं छोटे बच्चे ऐसे वैसे उनको सर्दी जुखाम कम होने लगता है और जवान लड़के कक्षा दे तो होश पूछते रहता है उनमें रोग प्रतिकारक शक्ति ज्यादा रहते लेकिन बुजुर्ग को मैं यही रोग प्रतिकारक शक्ति बहुत कम हो जाते उनको बहुत सारी बीमारी भी रहते जैसे शुगर बीपी वगैरह इसलिए पुराना बुजुर्गों को सबसे ज्यादा होने की संभावना रहती है बच्चे को तो बहुत फिर भी कम है लेकिन बुजुर्गों को होने की संभावना सबसे ज्यादा होती है

coronavirus baccho ko isliye zyada hone ki sambhavna hote hain kyonki baccho me jo rog pratikarak shakti jo kehte hain logo se ladane ki shakti kam hoti hai jaise jaise bacche bade hote hain vaah shakti badh jaate aapko maloom hoga jab bacche chote hote hain toh unko baar baar sardi kyon hoti hai sardi khansi sardi zukam isliye hota hai kyonki unke antar yah shakti bahut kam hote jaise jaise vaah bade hote jaan jaate hain chote bacche aise waise unko sardi jukham kam hone lagta hai aur jawaan ladke kaksha de toh hosh poochhte rehta hai unmen rog pratikarak shakti zyada rehte lekin bujurg ko main yahi rog pratikarak shakti bahut kam ho jaate unko bahut saari bimari bhi rehte jaise sugar BP vagera isliye purana bujurgon ko sabse zyada hone ki sambhavna rehti hai bacche ko toh bahut phir bhi kam hai lekin bujurgon ko hone ki sambhavna sabse zyada hoti hai

कोरोनावायरस बच्चों को इसलिए ज्यादा होने की संभावना होते हैं क्योंकि बच्चों में जो रोग प्रत

Romanized Version
Likes  82  Dislikes    views  735
WhatsApp_icon
user

Dr.Harhar Shambhu Chaudhary

Electro Homiopathic Doctor,Journalism,Bloger,

0:18
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कोरोनावायरस छोटे बच्चों और बुजुर्गों में होने की संभावना ज्यादा इसलिए है क्योंकि इन दोनों में वयस्क रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होती है

coronavirus chote baccho aur bujurgon me hone ki sambhavna zyada isliye hai kyonki in dono me vayask rog pratirodhak kshamta kam hoti hai

कोरोनावायरस छोटे बच्चों और बुजुर्गों में होने की संभावना ज्यादा इसलिए है क्योंकि इन दोनों

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  99
WhatsApp_icon
user

Dr.Mohan Kumar

Natrupathy Doctor and Nutritionist

1:01
Play

Likes  10  Dislikes    views  85
WhatsApp_icon
user

Rajeev Kumar Pandey

Engineer | SSC CGL Qualified

0:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कुणाल पुरोहित

kunal purohit

कुणाल पुरोहित

Romanized Version
Likes  172  Dislikes    views  2159
WhatsApp_icon
user

Dr Anurag Mishra

(Doctor )Homeopath

0:24
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

छोटे बच्चों में और बुजुर्गों में पेमेंट सिस्टम उनका इतना स्ट्रांग नहीं होता इस वजह से ज्यादा जल्दी प्रकट हो जाते हैं और लोग ज्यादा प्रकट होते हैं जिनको पहले से ही कोई बीमारी रही हो आज की डायबिटीज की आप उचित रहेगा सर्टिस कि अगर पहले से कोई बीमारी है उनको तो इससे ज्यादा संभावना है कि वह कोरोनावायरस अफेक्टेड हो जाए

chote baccho me aur bujurgon me payment system unka itna strong nahi hota is wajah se zyada jaldi prakat ho jaate hain aur log zyada prakat hote hain jinako pehle se hi koi bimari rahi ho aaj ki diabetes ki aap uchit rahega sartis ki agar pehle se koi bimari hai unko toh isse zyada sambhavna hai ki vaah coronavirus affected ho jaaye

छोटे बच्चों में और बुजुर्गों में पेमेंट सिस्टम उनका इतना स्ट्रांग नहीं होता इस वजह से ज्या

Romanized Version
Likes  26  Dislikes    views  249
WhatsApp_icon
user

Naresh Kumar

Sports Coach and Ayurveda Treatment

1:03
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

करो ना मेरे से इसलिए बढ़ता है कि बुजुर्गों की संगति पावर कम होती है जिसके कारण बंद होने के कारण हुई कि पार्क में जाती है तो इनमें वायरस का फैलना वह ज्यादा अधिक होता है बैटरी बच्चों के बच्चे क्या है खाना थोड़ा कम खाते हैं या फिर थोड़ा पोस्ट कर लेते हैं तो बच्चों की बॉडी पावर जो है उसके कारण कम होती है या बच्चे फास्ट फूड का सेवन ज्यादा करते हैं उसके कारण होने के बाद कम होते हैं अगर कोई बच्चा मोस्ट कार ले रहा है तो अच्छी होगी उसमें ज्यादा शर्मा का खतरा नहीं रहता लेकिन फिर भी फिजिकल डिस्टेंस रखना अनिवार्य है धन्यवाद

karo na mere se isliye badhta hai ki bujurgon ki sangati power kam hoti hai jiske karan band hone ke karan hui ki park me jaati hai toh inmein virus ka failna vaah zyada adhik hota hai battery baccho ke bacche kya hai khana thoda kam khate hain ya phir thoda post kar lete hain toh baccho ki body power jo hai uske karan kam hoti hai ya bacche fast food ka seven zyada karte hain uske karan hone ke baad kam hote hain agar koi baccha most car le raha hai toh achi hogi usme zyada sharma ka khatra nahi rehta lekin phir bhi physical distance rakhna anivarya hai dhanyavad

करो ना मेरे से इसलिए बढ़ता है कि बुजुर्गों की संगति पावर कम होती है जिसके कारण बंद होने के

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  94
WhatsApp_icon
user

Dr. Rajesh K.Yadav

Veterinary Doctor

0:38
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कोरोना वायरस कम डाउनलोड

corona virus kam download

कोरोना वायरस कम डाउनलोड

Romanized Version
Likes  251  Dislikes    views  2905
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्रोना वायरस छोटे बच्चों और बुजुर्गों में होने की ज्यादा संभावना बताई जा रही है ऐसा क्यों मैं आपको बता देना चाहता हूं ऐसा इसलिए है कि बच्चों की 10 साल से छोटे बच्चों की और 60 साल से ऊपर बुजुर्गों की इम्यूनिटी पावर जो है वह कमजोर हो जाती है बच्चों की तो रिकवरी करती है ऊपर को जाती है और बुजुर्गों की नीचे को आती है तो 10 साल तक बच्चे परफेक्ट नहीं होते और बुजुर्ग जो है वो परफेक्ट हो कि उनकी नीचे की तरफ कुछ चलती है इग्नू डी पावर इस वजह से उन पर ज्यादा असर करता है करता तो बीच वालों पर भी है लेकिन उन पर काम करता है इन पर ज्यादा करता है इसी वजह से और जिसकी जिस बुजुर्ग की इम्युनिटी पावर मजबूत होगी उसको यह असर नहीं करेगा अभी वहां कोई बता दो जहां मैं रहता हूं यहां पर एक है 9 प्लस में बुजुर्ग हैं माशा अल्लाह उनकी तंदुरुस्ती इतनी अच्छी है कि उन्हें अभी तक मैं जब से देख रहा करीबन कई सालों से मैं देख रहा हूं उनको उन्हें कोई बीपी की प्रॉब्लम नहीं है शुगर की कोई ऐसी दिल की कोई प्रॉब्लम नहीं होना बिल्कुल भी नहीं है बस थोड़ी है कि बुजुर्ग है कमजोरी तो होगी क्योंकि एग्जाम से वरना उन्हें कोई प्रॉब्लम नहीं है बिल्कुल फिट ऐसे लोगों का यह मामला है लेकिन बेहतर है सब फिर वही कहूंगा एंड माय भाई सब लोग एहतियात रखें अपने आपको घर में लॉक रखें प्लीज

corona virus chote baccho aur bujurgon me hone ki zyada sambhavna batai ja rahi hai aisa kyon main aapko bata dena chahta hoon aisa isliye hai ki baccho ki 10 saal se chote baccho ki aur 60 saal se upar bujurgon ki immunity power jo hai vaah kamjor ho jaati hai baccho ki toh recovery karti hai upar ko jaati hai aur bujurgon ki niche ko aati hai toh 10 saal tak bacche perfect nahi hote aur bujurg jo hai vo perfect ho ki unki niche ki taraf kuch chalti hai IGNOU d power is wajah se un par zyada asar karta hai karta toh beech walon par bhi hai lekin un par kaam karta hai in par zyada karta hai isi wajah se aur jiski jis bujurg ki immunity power majboot hogi usko yah asar nahi karega abhi wahan koi bata do jaha main rehta hoon yahan par ek hai 9 plus me bujurg hain masha allah unki tandurusti itni achi hai ki unhe abhi tak main jab se dekh raha kariban kai salon se main dekh raha hoon unko unhe koi BP ki problem nahi hai sugar ki koi aisi dil ki koi problem nahi hona bilkul bhi nahi hai bus thodi hai ki bujurg hai kamzori toh hogi kyonki exam se varna unhe koi problem nahi hai bilkul fit aise logo ka yah maamla hai lekin behtar hai sab phir wahi kahunga and my bhai sab log ehatiyaat rakhen apne aapko ghar me lock rakhen please

क्रोना वायरस छोटे बच्चों और बुजुर्गों में होने की ज्यादा संभावना बताई जा रही है ऐसा क्यों

Romanized Version
Likes  168  Dislikes    views  1742
WhatsApp_icon
user

Shweta

Health and Fitness Expert | YouTuber

1:48
Play

Likes  5  Dislikes    views  140
WhatsApp_icon
user

S Bajpay

Yoga Expert | Beautician & Gharelu Nuskhe Expert

1:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

राम राम जी की आपका पैसे कोरोना बारिश छोटे बच्चों को जो कि मैं होने की ज्यादा संभावना बताई जा रही है क्यों क्योंकि बुजुर्गों की प्रतिरोधक रोग प्रतिरोधक क्षमता कम हो जाती है धीरे-धीरे शरीर में कैसे हैं जैसे उम्र होती है अपने अंदर रोग प्रतिरोधक क्षमता कम हो जाती हो जिसके अंदर हम होगी उसी को यह लोग जल्दी लिख तक कोई भी रोग हो करो ना हो या कोई भी हो देखेगा मौसम बदलता है तो जब रद्द होते जिनके रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होती हैं उन्हीं को गिरता है जो भी लोग ऐसी बच्चों में जो बच्चे खाते पीते नहीं है अच्छी तरह से जो भी मनाया खा लिया पोस्टिक भोजन नहीं करते हैं बच्चे उनको यह प्रॉब्लम हो जाती है जाकर बीमार थे बीमार हो जाते हैं जब उनका स्वास्थ्य सही होगा उनकी रोग प्रतिरोधक क्षमता जिन बच्चों और बुजुर्गों की रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होती है जो सब नहीं करते हैं योग नहीं करते हैं एक्सरसाइज नहीं करते हैं और जो पौष्टिक भोजन नहीं लेती उनके सामने बहुत ज्यादा समस्या आ जाती है आपके पास का यही होता है आपका दिन शुभ हो धन्यवाद

ram ram ji ki aapka paise corona barish chote baccho ko jo ki main hone ki zyada sambhavna batai ja rahi hai kyon kyonki bujurgon ki pratirodhak rog pratirodhak kshamta kam ho jaati hai dhire dhire sharir me kaise hain jaise umar hoti hai apne andar rog pratirodhak kshamta kam ho jaati ho jiske andar hum hogi usi ko yah log jaldi likh tak koi bhi rog ho karo na ho ya koi bhi ho dekhega mausam badalta hai toh jab radd hote jinke rog pratirodhak kshamta kam hoti hain unhi ko girta hai jo bhi log aisi baccho me jo bacche khate peete nahi hai achi tarah se jo bhi manaya kha liya paustik bhojan nahi karte hain bacche unko yah problem ho jaati hai jaakar bimar the bimar ho jaate hain jab unka swasthya sahi hoga unki rog pratirodhak kshamta jin baccho aur bujurgon ki rog pratirodhak kshamta kam hoti hai jo sab nahi karte hain yog nahi karte hain exercise nahi karte hain aur jo paushtik bhojan nahi leti unke saamne bahut zyada samasya aa jaati hai aapke paas ka yahi hota hai aapka din shubha ho dhanyavad

राम राम जी की आपका पैसे कोरोना बारिश छोटे बच्चों को जो कि मैं होने की ज्यादा संभावना बताई

Romanized Version
Likes  324  Dislikes    views  2391
WhatsApp_icon
user

Ashok Bajpai

Rtd. Additional Collector P.C.S. Adhikari

0:24
Play

Likes  130  Dislikes    views  1457
WhatsApp_icon
user

Ashish Lavania

Yoga Trainer

0:24
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पुराना वाला छोटे बच्चों बुजुर्गों में होने की ज्यादा संभावना इसलिए बताई जाती है क्योंकि कम्युनिटी लेवल जो है वह बहुत कम होता है यह वायरस जो है वह कई वायरसों का मिक्सचर है जो कि बिजली बिल की कम होती है उस पर ज्यादा फेक करते हुए ऐसे जो 65 साल से ऊपर के बुजुर्ग 10 साल के छोटे बच्चे उनके यूनिटी लेनी कम होती है इसलिए उन पर प्रभाव डालता है

purana vala chote baccho bujurgon me hone ki zyada sambhavna isliye batai jaati hai kyonki community level jo hai vaah bahut kam hota hai yah virus jo hai vaah kai viruson ka mixture hai jo ki bijli bill ki kam hoti hai us par zyada fake karte hue aise jo 65 saal se upar ke bujurg 10 saal ke chote bacche unke unity leni kam hoti hai isliye un par prabhav dalta hai

पुराना वाला छोटे बच्चों बुजुर्गों में होने की ज्यादा संभावना इसलिए बताई जाती है क्योंकि कम

Romanized Version
Likes  237  Dislikes    views  3446
WhatsApp_icon
user

Dr Anil Kumar Agarwal

Physician &Laser Acupuncture specialist

0:34
Play

Likes  138  Dislikes    views  1536
WhatsApp_icon
user
1:43
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्वेश्चन बहुत ही अच्छा है क्योंकि इसमें भी शक करते हैं बच्चा हो चाहे बड़ा बड़ा हो चाहे गोल्डन जो सबको ऐसे वायरस का खतरा है लेकिन सबसे ज्यादा खतरा उन लोगों को इनकी पावर कम है चाहे वह छोटे बच्चे हो व्यस्त हूं चाहे तो बुरे लोग तो इसमें जो है एमपी का सबसे बड़ा धनवान में ऐसी प्रतिरोधक क्षमता वाली चीज खाएं जिससे प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती हो धर्म के पदार्थों का समय समय इस्तेमाल करते रहें और अपने हाथों को साबुन से तो तेरे पास का इस्तेमाल ज्यादा करें लोगों से आवश्यकता हो तो अन्य श्री और सेकंड के ऑफिस को अपनी से बचें धन्यवाद

question bahut hi accha hai kyonki isme bhi shak karte hain baccha ho chahen bada bada ho chahen golden jo sabko aise virus ka khatra hai lekin sabse zyada khatra un logo ko inki power kam hai chahen vaah chote bacche ho vyast hoon chahen toh bure log toh isme jo hai MP ka sabse bada dhanwan me aisi pratirodhak kshamta wali cheez khayen jisse pratirodhak kshamta badhti ho dharm ke padarthon ka samay samay istemal karte rahein aur apne hathon ko sabun se toh tere paas ka istemal zyada kare logo se avashyakta ho toh anya shri aur second ke office ko apni se bache dhanyavad

क्वेश्चन बहुत ही अच्छा है क्योंकि इसमें भी शक करते हैं बच्चा हो चाहे बड़ा बड़ा हो चाहे गोल

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  65
WhatsApp_icon
user

Dr.Mohsin Naqvi

Doctor (Homeopath)

0:55
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

छोटे बच्चों में तो नहीं परंतु बुजुर्गों में क्योंकि उनकी इम्यूनिटी जो रोग प्रतिरोधक क्षमता होती है बुजुर्गों में वह कम होती है और 5 साल से जो छोटे बच्चे होते हैं उनकी भी कम होती है लेकिन 5 साल से जो छोटे बच्चे होते हैं वह अधिकतर घर में ही रहते हैं इसलिए उनको होना यह इस तरीके से है कि उनको कोई ना कोई गोद में उठाकर रहता है अगर बाहर दरवाजे पर खड़े तो बराबर में पड़ोसी गोद में ले लेते हैं बच्चे से खेलने लगते हैं तो और बुजुर्गों में यह है कि बुजुर्गों की उन्नति ही कम होती है अल्टर्टी उसने उनको और अधिकतर बुजुर्गों में देखा गया है किसी को दिल का मरीज है कुछ शुगर के मरीज हैं किसी को भी लीवर की प्रॉब्लम है तो यह कहीं ना कहीं उनकी बीमारी जो होती है पहले से वह भी उनके शरीर को कमजोर कर देती है इसलिए यह कहा जा रहा है जो भी बिल्कुल सही है

chote baccho me toh nahi parantu bujurgon me kyonki unki immunity jo rog pratirodhak kshamta hoti hai bujurgon me vaah kam hoti hai aur 5 saal se jo chote bacche hote hain unki bhi kam hoti hai lekin 5 saal se jo chote bacche hote hain vaah adhiktar ghar me hi rehte hain isliye unko hona yah is tarike se hai ki unko koi na koi god me uthaakar rehta hai agar bahar darwaze par khade toh barabar me padosi god me le lete hain bacche se khelne lagte hain toh aur bujurgon me yah hai ki bujurgon ki unnati hi kam hoti hai altarti usne unko aur adhiktar bujurgon me dekha gaya hai kisi ko dil ka marij hai kuch sugar ke marij hain kisi ko bhi liver ki problem hai toh yah kahin na kahin unki bimari jo hoti hai pehle se vaah bhi unke sharir ko kamjor kar deti hai isliye yah kaha ja raha hai jo bhi bilkul sahi hai

छोटे बच्चों में तो नहीं परंतु बुजुर्गों में क्योंकि उनकी इम्यूनिटी जो रोग प्रतिरोधक क्षमता

Romanized Version
Likes  46  Dislikes    views  453
WhatsApp_icon
user

Dr Raj Kumar Kochar

Ayurvedic Doctors ( Researcher )

0:36
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जवान व्यक्तियों की अपेक्षा छोटे बच्चों में और बूढ़े लोगों में 60 से ऊपर के ज्यादा उम्र के लोगों में इम्यूनिटी क्षमता कम होती जाती है अतः रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होने लगती है और इस वजह से बच्चे और बूढ़े पर कोरोनावायरस या किसी भी प्रकार का संक्रमण जल्दी से हो सकता है

jawaan vyaktiyon ki apeksha chote baccho me aur budhe logo me 60 se upar ke zyada umar ke logo me immunity kshamta kam hoti jaati hai atah rog pratirodhak kshamta kam hone lagti hai aur is wajah se bacche aur budhe par coronavirus ya kisi bhi prakar ka sankraman jaldi se ho sakta hai

जवान व्यक्तियों की अपेक्षा छोटे बच्चों में और बूढ़े लोगों में 60 से ऊपर के ज्यादा उम्र के

Romanized Version
Likes  338  Dislikes    views  1944
WhatsApp_icon
user
0:41
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

करोना बरस छोटे बच्चों और बुजुर्गों में होने की ज्यादा संभावना बताई जा रही है ऐसा इसलिए है कि इससे इस ग्रुप में मनुष्य के शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता इमेज सिस्टम जो होता है वह थोड़ा सा कमजोर होता है इसलिए यारों कोरोना वायरस है या इस एज ग्रुप में जल्दी अफेक्ट कर सकता है मरीज को और उस इश्क इस ग्रुप में कोरोना वायरस के द्वारा हुई मृत्यु के की संभावना थोड़ी ज्यादा होती है

corona baras chote baccho aur bujurgon me hone ki zyada sambhavna batai ja rahi hai aisa isliye hai ki isse is group me manushya ke sharir ki rog pratirodhak kshamta image system jo hota hai vaah thoda sa kamjor hota hai isliye yaaron corona virus hai ya is age group me jaldi affect kar sakta hai marij ko aur us ishq is group me corona virus ke dwara hui mrityu ke ki sambhavna thodi zyada hoti hai

करोना बरस छोटे बच्चों और बुजुर्गों में होने की ज्यादा संभावना बताई जा रही है ऐसा इसलिए है

Romanized Version
Likes  43  Dislikes    views  433
WhatsApp_icon
user

Radha Mohan

Yoga & Naturopathy Expert

1:21
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार दोस्तों कोरोना वायरस बच्चों और बुजुर्गों में ज्यादा होने की संभावनाएं बताई जा रही है ऐसा क्यों है दोस्तों और बुजुर्गों की जुटी है वो कमजोर रहती है जो एक बुजुर्ग हैं साडे 60 साल से ऊपर के हैं उनकी शरीर की क्षमता कमजोर होने लग गई उनके जो कार्य प्रणाली है उस में गिरावट आने लगती है दोस्तों की जो इम्यूनिटी है वह कमजोर होती रहती है इसी प्रकार जो बच्चे 10 साल से कम उम्र के हैं उनकी भी इम्यूनिटी सही प्रकार से डिवेलप नहीं हो पाती है और यही एक कारण है जिसकी वजह से छोटे बच्चे और बुजुर्गों में कोरोनावायरस का सबसे बड़ा खतरा होता है साथ-साथ उन लोगों को भी इस बारे के वायरस के अटैक का ज्यादा खतरा होता है ज्यादा संभावनाएं होती है जिनके पहले से ही किसी प्रकार की कोई गंभीर बीमारी होती है जिसे हार्ट डिजीज का होना डायबिटीज होना हाई ब्लड प्रेशर रहना है फिर किसी प्रकार के संक्रमण रहना टीवी का होना या फिर संभल कोई अगर रेस्पिरेट्री संबंध करे से कोई दमे की शिकायत है यह ब्रोंकाइटिस है इस प्रकार की गंभीर समस्याएं है किसी व्यक्ति के पहले से तो जाहिर सी बात है कि उनकी इम्यूनिटी कमजोर ही होगी तो ऐसे लोगों में इस वजह से यह संभव नहीं ज्यादा बनती है कोरोनावायरस के संक्रमण की धन्यवाद

namaskar doston corona virus baccho aur bujurgon me zyada hone ki sambhavnayen batai ja rahi hai aisa kyon hai doston aur bujurgon ki jutti hai vo kamjor rehti hai jo ek bujurg hain saade 60 saal se upar ke hain unki sharir ki kshamta kamjor hone lag gayi unke jo karya pranali hai us me giraavat aane lagti hai doston ki jo immunity hai vaah kamjor hoti rehti hai isi prakar jo bacche 10 saal se kam umar ke hain unki bhi immunity sahi prakar se develop nahi ho pati hai aur yahi ek karan hai jiski wajah se chote bacche aur bujurgon me coronavirus ka sabse bada khatra hota hai saath saath un logo ko bhi is bare ke virus ke attack ka zyada khatra hota hai zyada sambhavnayen hoti hai jinke pehle se hi kisi prakar ki koi gambhir bimari hoti hai jise heart disease ka hona diabetes hona high blood pressure rehna hai phir kisi prakar ke sankraman rehna TV ka hona ya phir sambhal koi agar respiratory sambandh kare se koi Dame ki shikayat hai yah broncaitis hai is prakar ki gambhir samasyaen hai kisi vyakti ke pehle se toh jaahir si baat hai ki unki immunity kamjor hi hogi toh aise logo me is wajah se yah sambhav nahi zyada banti hai coronavirus ke sankraman ki dhanyavad

नमस्कार दोस्तों कोरोना वायरस बच्चों और बुजुर्गों में ज्यादा होने की संभावनाएं बताई जा रही

Romanized Version
Likes  279  Dislikes    views  2475
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कोरोना वायरस छोटे बच्चों और बुजुर्गों को होने की ज्यादा संभावना बताई जा रही है ऐसा क्यों क्योंकि वायरस है जिनकी उम्र की रोग प्रतिरोधक क्षमता जिनकी कमजोर है उन्हीं पर आक्रमण करता है तो युग युग बच्चे होते हैं छोटे बच्चे होते 5 साल तक के उनकी रोग प्रतिरोधक क्षमता विकसित नहीं होती उनका विकास क्रम चालू रहता है अतः जो छोटे बच्चे होते हैं उम्र में उनको कोरोनावायरस उसे थोड़ा बचा कर रखना जरूरी है और जो बुजुर्ग हैं जिनकी ऐड हो चुकी है 50 साल 45 साल 50 साल से ऊपर के हैं उनको भी रोग प्रतिरोधक क्षमता उनकी भी पूर्णतया आसीन होना शुरू हो चुकी होती है कि बुढ़ापा हावी होना शुरू होता है तो उनकी भी रोग प्रतिरोधक क्षमता जो है कमजोर होती है जिनकी भी रोग प्रतिरोधक क्षमता या रक्षा प्रणाली कमजोर है उनको इस प्रकार के बायरो से बचना ही पड़ेगा और यह वायरस उनके लिए हानिकारक सिद्ध हो सकते हैं धन्यवाद

corona virus chote baccho aur bujurgon ko hone ki zyada sambhavna batai ja rahi hai aisa kyon kyonki virus hai jinki umar ki rog pratirodhak kshamta jinki kamjor hai unhi par aakraman karta hai toh yug yug bacche hote hain chote bacche hote 5 saal tak ke unki rog pratirodhak kshamta viksit nahi hoti unka vikas kram chaalu rehta hai atah jo chote bacche hote hain umar me unko coronavirus use thoda bacha kar rakhna zaroori hai aur jo bujurg hain jinki aid ho chuki hai 50 saal 45 saal 50 saal se upar ke hain unko bhi rog pratirodhak kshamta unki bhi purnataya aaseen hona shuru ho chuki hoti hai ki budhapa haavi hona shuru hota hai toh unki bhi rog pratirodhak kshamta jo hai kamjor hoti hai jinki bhi rog pratirodhak kshamta ya raksha pranali kamjor hai unko is prakar ke bayro se bachna hi padega aur yah virus unke liye haanikarak siddh ho sakte hain dhanyavad

कोरोना वायरस छोटे बच्चों और बुजुर्गों को होने की ज्यादा संभावना बताई जा रही है ऐसा क्यों क

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  126
WhatsApp_icon
user
0:16
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

छोटे बच्चों एवं बुजुर्गों की जो इम्यूनिटी पावर होती है जिसका मतलब होता है रोज रोग प्रतिरोधक क्षमता काफी कम होती है जिसकी वजह से ऐसी बीमारियां बच्चों और बुजुर्गों को जल्दी संक्रमित कर सकती है

chote baccho evam bujurgon ki jo immunity power hoti hai jiska matlab hota hai roj rog pratirodhak kshamta kaafi kam hoti hai jiski wajah se aisi bimariyan baccho aur bujurgon ko jaldi sankrameet kar sakti hai

छोटे बच्चों एवं बुजुर्गों की जो इम्यूनिटी पावर होती है जिसका मतलब होता है रोज रोग प्रतिरोध

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  115
WhatsApp_icon
user

Ajay Sinh Pawar

Founder & M.D. Of Radiant Group Of Industries

1:55
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कोरोनावायरस छोटे बच्चों और बुजुर्गों में होने की ज्यादा संभावना बताई जाती है कि बच्चे होते हैं वह 10 साल से छोटे बच्चे उनकी इम्यूनिटी पावर कम हो सकती है इसलिए उनको कोरोनावायरस जल्दी लग सकता है वह जल्दी संक्रमित हो सकते हैं और वह कुत्ते हैं बाहर बहुत से लोगों के संपर्क में आते हैं और नासमझ होते हैं इसलिए उनको घर से बाहर नहीं निकालना चाहिए और जो बड़े बुजुर्ग हैं साथ 65 साल से बड़ी उम्र के जो लोग हैं वह क्या तो डायबिटीज और बीपी हाइपरटेंशन इस सब लोग रोगों से वह पहले से ही संक्रमित होते यानी को उनको यह सब लोग होते इटली में जितनी मौतें हुई हैं उसमें सबसे ज्यादा मौतें जो शायद 65 साल से बड़ी उम्र वालों के लिए उनको ऑलरेडी टाइप टेंशन था 29 परसेंट मोटे उसकी वजह से हुई क्योंकि यह जोरों पर हैं उसकी वजह से उनकी इम्यूनिटी पावर रोग प्रतिकारक शक्ति काफी कम होती है इसलिए उनको कोरोनावायरस से संक्रमित होने में बहुत ही सत्यता रहती इसलिए लोग कहते हैं यह संभावना सबसे ज्यादा बुजुर्गों और छोटे बच्चों में होना वायरस से संक्रमित होने की उन लोगों को बच के रहना चाहिए सब लोगों को बच के रहना चाहिए और जो गाइडलाइन की गई है अंसारी सब को फॉलो करना चाहिए बहुत-बहुत शुभकामनाएं धन्यवाद

coronavirus chote baccho aur bujurgon me hone ki zyada sambhavna batai jaati hai ki bacche hote hain vaah 10 saal se chote bacche unki immunity power kam ho sakti hai isliye unko coronavirus jaldi lag sakta hai vaah jaldi sankrameet ho sakte hain aur vaah kutte hain bahar bahut se logo ke sampark me aate hain aur nasamajh hote hain isliye unko ghar se bahar nahi nikalna chahiye aur jo bade bujurg hain saath 65 saal se badi umar ke jo log hain vaah kya toh diabetes aur BP hypertension is sab log rogo se vaah pehle se hi sankrameet hote yani ko unko yah sab log hote italy me jitni mautain hui hain usme sabse zyada mautain jo shayad 65 saal se badi umar walon ke liye unko already type tension tha 29 percent mote uski wajah se hui kyonki yah joron par hain uski wajah se unki immunity power rog pratikarak shakti kaafi kam hoti hai isliye unko coronavirus se sankrameet hone me bahut hi satyata rehti isliye log kehte hain yah sambhavna sabse zyada bujurgon aur chote baccho me hona virus se sankrameet hone ki un logo ko bach ke rehna chahiye sab logo ko bach ke rehna chahiye aur jo guideline ki gayi hai ansari sab ko follow karna chahiye bahut bahut subhkamnaayain dhanyavad

कोरोनावायरस छोटे बच्चों और बुजुर्गों में होने की ज्यादा संभावना बताई जाती है कि बच्चे होते

Romanized Version
Likes  323  Dislikes    views  5180
WhatsApp_icon
user
1:15
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका तस्वीर छोटे बच्चों बुजुर्गों को ज्यादा संभावना बताई जा रही है सत्य के छोटे बच्चों में पावर कम होता है और पत्नी को जाती है अभी वह हॉस्पिटल में ही हो रहा है जो डायबिटीज के पेशेंट हैं और जो सी बीमारी के पेशेंट है उनको तो सोच अलग रखा जा रहा है क्योंकि हम किशोर बहुत कम है ठीक होने की अग्नि में तो यह हो गया है जो सहरसा से चलकर जयपुर को बीमारी है उनको तो सीधा उन्होंने मुर्दाघर में डाल दिया है वैसे तो ठीक है नहीं तो कैसी हालत हो गई इतनी में बहुत ज्यादा मर चुके हैं लाखों की तादात में मरे हैं मुझे तो कोई कंधा देने वाला नहीं है सोना नहीं बना रखा है और 24 घंटे काम कर रहा है श्री मुर्दों को जला रहे हैं तो बहुत ज्यादा भयानक हो चुकी है

aapka tasveer chote baccho bujurgon ko zyada sambhavna batai ja rahi hai satya ke chote baccho me power kam hota hai aur patni ko jaati hai abhi vaah hospital me hi ho raha hai jo diabetes ke patient hain aur jo si bimari ke patient hai unko toh soch alag rakha ja raha hai kyonki hum kishore bahut kam hai theek hone ki agni me toh yah ho gaya hai jo saharsa se chalkar jaipur ko bimari hai unko toh seedha unhone murdaghar me daal diya hai waise toh theek hai nahi toh kaisi halat ho gayi itni me bahut zyada mar chuke hain laakhon ki tadat me mare hain mujhe toh koi kandha dene vala nahi hai sona nahi bana rakha hai aur 24 ghante kaam kar raha hai shri murdon ko jala rahe hain toh bahut zyada bhayanak ho chuki hai

आपका तस्वीर छोटे बच्चों बुजुर्गों को ज्यादा संभावना बताई जा रही है सत्य के छोटे बच्चों में

Romanized Version
Likes  100  Dislikes    views  953
WhatsApp_icon
user

Gopal Srivastava

Acupressure Acupuncture Sujok Therapist

0:57
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखो दोनों चीजों के लिए एक बात आती है छोटे बच्चे होते हैं बुजुर्ग आदमी होते हैं उनके 10 के पावर खत्म हो जाती है छोटे बच्चे होते हैं उनको भी ज्यादा बर्दाश्त करने की आती जाती है जिससे बस सकते हैं वह खत्म हो जाती है सबसे ज्यादा भी जवानी में रहती है उनके पास बुलाती है अभी ज्योति से कहा जाता है कि आप ब्लू और बच्चों को बचा के रखो जाती है

dekho dono chijon ke liye ek baat aati hai chote bacche hote hain bujurg aadmi hote hain unke 10 ke power khatam ho jaati hai chote bacche hote hain unko bhi zyada bardaasht karne ki aati jaati hai jisse bus sakte hain vaah khatam ho jaati hai sabse zyada bhi jawaani me rehti hai unke paas bulati hai abhi jyoti se kaha jata hai ki aap blue aur baccho ko bacha ke rakho jaati hai

देखो दोनों चीजों के लिए एक बात आती है छोटे बच्चे होते हैं बुजुर्ग आदमी होते हैं उनके 10 के

Romanized Version
Likes  93  Dislikes    views  2105
WhatsApp_icon
user

Debidutta Swain

IAS Aspirant | Life Motivational Speaker,Daily Story Teller

0:23
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कोई बात नहीं बच्चे और बुजुर्ग उन्हें कहना कि मिनट थोड़ी कम रह जाता है इसलिए उनको इसलिए उनको ज्यादा अटक हो रहा है लेकिन मैं आप सभी को सभी सभी कोई और ना होने वाला है ऐसी कोई बच्चों को जल कैसे नाम नहीं है और

koi baat nahi bacche aur bujurg unhe kehna ki minute thodi kam reh jata hai isliye unko isliye unko zyada atak ho raha hai lekin main aap sabhi ko sabhi sabhi koi aur na hone vala hai aisi koi baccho ko jal kaise naam nahi hai aur

कोई बात नहीं बच्चे और बुजुर्ग उन्हें कहना कि मिनट थोड़ी कम रह जाता है इसलिए उनको इसलिए उनक

Romanized Version
Likes  138  Dislikes    views  1975
WhatsApp_icon
user

Anil Ramola

Yoga Instructor | Engineer

0:44
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बी कोरोनावायरस से यह उन लोगों पर शक करता है जिनकी क्या इम्यूनिटी पावर का काफी कम होती कमजोर होती है जैसे बड़े बुजुर्गों हो गए उनकी आंखों में ऐसी ही होती है जल्दी पकाने आते और जाते बच्चों की बात की जाए तो बच्चों में भी क्या होता है कि बहुत सनसिटी होते हैं जिससे कि उनकी जो मीडिया वाले कम हो गया अभी ताजा तरीन कैसे देखें 8 से ज्यादा उम्र के लोग हैं उनके सशक्त बनाने के लिए अन्यथा

be coronavirus se yah un logo par shak karta hai jinki kya immunity power ka kaafi kam hoti kamjor hoti hai jaise bade bujurgon ho gaye unki aakhon me aisi hi hoti hai jaldi pakane aate aur jaate baccho ki baat ki jaaye toh baccho me bhi kya hota hai ki bahut suncity hote hain jisse ki unki jo media waale kam ho gaya abhi taaza tarin kaise dekhen 8 se zyada umar ke log hain unke sashakt banane ke liye anyatha

बी कोरोनावायरस से यह उन लोगों पर शक करता है जिनकी क्या इम्यूनिटी पावर का काफी कम होती कमजो

Romanized Version
Likes  318  Dislikes    views  3130
WhatsApp_icon
user

RISHAV RAJ

Social Worker | Motivational Speaker | Life Coach | Young Politician | Corporate Trainer

0:37
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लिखित में से कौन होते हैं

likhit me se kaun hote hain

लिखित में से कौन होते हैं

Romanized Version
Likes  94  Dislikes    views  1219
WhatsApp_icon
user

Yog Guru Amit Agrawal Rishiyog

Yoga Acupressure Expert

0:56
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप अभी ना कोरोनावायरस छोटे बच्चों बुजुर्गों में ज्यादा होने की संभावना जताई जा रही है ऐसा क्यों देखी जैसा कि हम लोग जानते हैं कि बुजुर्गों में और बच्चों का इम्यून सिस्टम ठीक होता है उसी स्थिति में उनकी जब रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होती है तो वायरस से नहीं लड़ पाते आपका शरीर उसको नहीं खेल पाता उसके सिम्टम्स लक्षण तेजी से आते हैं और उससे आपका शरीर का सिस्टम फेल हो जाता है उसका तरीका यही है जैसा कि सरकार के आदेश हैं और हम लोग जानते हैं कि घर में रहें सुरक्षित रहें और जितना हम लोगों के संपर्क में नहीं आएंगे भीड़ में नहीं जाएंगे और अपनी तरफ से पूरी सेफ्टी रखेंगे तो इससे काफी हद तक हम बस सकते हैं और जो भी आप भोजन लें उसमें ड्राई फ्रूट्स या फ्रूट्स या ऐसा भोजन ले ग्रीन वेजिटेबल सीजनल फ्रूट्स जिससे आप अपनी प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ा पाए इम्यूनिटी बिल कर पाए जिससे आप इस वायरस के अटैक से बस सकते हैं हरि ओम

aap abhi na coronavirus chote baccho bujurgon me zyada hone ki sambhavna jatai ja rahi hai aisa kyon dekhi jaisa ki hum log jante hain ki bujurgon me aur baccho ka immune system theek hota hai usi sthiti me unki jab rog pratirodhak kshamta kamjor hoti hai toh virus se nahi lad paate aapka sharir usko nahi khel pata uske Symptoms lakshan teji se aate hain aur usse aapka sharir ka system fail ho jata hai uska tarika yahi hai jaisa ki sarkar ke aadesh hain aur hum log jante hain ki ghar me rahein surakshit rahein aur jitna hum logo ke sampark me nahi aayenge bheed me nahi jaenge aur apni taraf se puri safety rakhenge toh isse kaafi had tak hum bus sakte hain aur jo bhi aap bhojan le usme dry Fruits ya Fruits ya aisa bhojan le green vegetable seasonal Fruits jisse aap apni pratirodhak kshamta ko badha paye immunity bill kar paye jisse aap is virus ke attack se bus sakte hain hari om

आप अभी ना कोरोनावायरस छोटे बच्चों बुजुर्गों में ज्यादा होने की संभावना जताई जा रही है ऐसा

Romanized Version
Likes  534  Dislikes    views  5208
WhatsApp_icon
user

Dinesh Mishra

Theosophists | Accountant

0:53
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए इसका मूल कारण यह है समय बच्चों और बुजुर्गों में प्रतिरोधक क्षमता कम हो और कोरो कोरोना वायरस वहीं पर ज्यादा हावी होने की कोशिश कर सकता है इसलिए छोटे बच्चे और बुजुर्गों पर जाना होने की संभावना बताई जा रही है क्योंकि इन दोनों में ही पुरुषों का क्षमता का कम होना भी एक कारण हो सकता है इसलिए कोरोनावायरस इनको ज्यादा प्रभावित कर सकता है

dekhiye iska mul karan yah hai samay baccho aur bujurgon me pratirodhak kshamta kam ho aur koro corona virus wahi par zyada haavi hone ki koshish kar sakta hai isliye chote bacche aur bujurgon par jana hone ki sambhavna batai ja rahi hai kyonki in dono me hi purushon ka kshamta ka kam hona bhi ek karan ho sakta hai isliye coronavirus inko zyada prabhavit kar sakta hai

देखिए इसका मूल कारण यह है समय बच्चों और बुजुर्गों में प्रतिरोधक क्षमता कम हो और कोरो कोरोन

Romanized Version
Likes  177  Dislikes    views  2023
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!