मैं अक्सर अपने अच्छे दोस्तों से रिश्ते बिगाड़ लेता हूँ फिर जब मुझे अक्ल आती है तब तक बात बिगड़ चुकी होती है और फिर दोस्ती में वो वाली बात नहीं रहती, कुछ समझ नहीं आता, क्या करूँ?...


user

Vikas Singh

Political Analyst

1:21
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखेगा रिश्ते में एक बार दरार पड़ जाती है ना उसके बाद जब वह रिश्ता फिर से बनता है तो उस रिश्ते में गांठ पड़ जाती है मिंसो रिश्ता पहले जैसा नहीं हो पाता है इसलिए अपने दोस्तों को आप कभी भी एटीट्यूड में मत बोला करिए देखिए टूट एट्टीट्यूड दो टाइप का होता है एक अच्छा एटीट्यूड होता है एक बुरा एटीट्यूड होता है एक बंदा है जो बड़ा शांत स्वभाव का है लेकिन दो शब्द बोलता है लोगों को बुरा लग जाता है एक बंदा होता है जो ज्यादा किसी से बोलता भी है लेकिन जब बोलता है बात करता है कुछ गलत नहीं बोल देता है तो उसके बातों का कोई बुरा नहीं मानता है मींस उसका टोन बोलने का अच्छा है आपके बोलने की टोन अच्छी नहीं है इसलिए आपके दोस्त आपकी हर बात को बुरा मान जाते हैं तो इसलिए अपने टोल में सुधार करिए आप एटीट्यूड स्किल्स और नॉलेज यह तीन चीज की जरूरत पड़ती है और जो बोलने की ट्यून यह हमारी अगर खराब रहेगी तो हमें कोई पसंद नहीं करेगा एक मोदी जी के बोलने की टॉनिक राहुल गांधी जी के बोलने की टोने अंतर है कि नहीं दोनों में तो आपको मोदी जी के बोलने की शैली को अपनाना होगा तभी आपका आपके दोस्तों से अच्छा रिश्ता बने बने गा धन्यवाद

dekhega rishte me ek baar daraar pad jaati hai na uske baad jab vaah rishta phir se banta hai toh us rishte me ganth pad jaati hai minso rishta pehle jaisa nahi ho pata hai isliye apne doston ko aap kabhi bhi attitude me mat bola kariye dekhiye toot attitude do type ka hota hai ek accha attitude hota hai ek bura attitude hota hai ek banda hai jo bada shaant swabhav ka hai lekin do shabd bolta hai logo ko bura lag jata hai ek banda hota hai jo zyada kisi se bolta bhi hai lekin jab bolta hai baat karta hai kuch galat nahi bol deta hai toh uske baaton ka koi bura nahi maanta hai means uska tone bolne ka accha hai aapke bolne ki tone achi nahi hai isliye aapke dost aapki har baat ko bura maan jaate hain toh isliye apne toll me sudhaar kariye aap attitude skills aur knowledge yah teen cheez ki zarurat padti hai aur jo bolne ki tune yah hamari agar kharab rahegi toh hamein koi pasand nahi karega ek modi ji ke bolne ki tonic rahul gandhi ji ke bolne ki tone antar hai ki nahi dono me toh aapko modi ji ke bolne ki shaili ko apnana hoga tabhi aapka aapke doston se accha rishta bane bane jaayega dhanyavad

देखेगा रिश्ते में एक बार दरार पड़ जाती है ना उसके बाद जब वह रिश्ता फिर से बनता है तो उस रि

Romanized Version
Likes  312  Dislikes    views  5046
WhatsApp_icon
8 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Bhim Singh Kasnia

Acupunctrist,Motivational Speaker

1:07
Play

Likes  19  Dislikes    views  259
WhatsApp_icon
user

Jyoti Mehta

Ex-History Teacher

2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने कहा है कि आप अक्सर ऐसा करते हैं कि दोस्ती में रिश्ते निकाल लेते हैं तो मुझे लगता है कि आप उसे सीरियसली लेना चाहिए आप ने इसे अपनी आदत बना लिया है जो गलत है इस तरह से आप अपने करीबी दोस्तों से हमेशा के लिए दूर हो जाएंगे क्योंकि एक या दो बार की गलती को जो सच में आपका दोस्त है वह मायने करेगा और भुला देगा उस चीज को क्योंकि वह आपका दोस्त है लेकिन अगर आप यही गलती * * दोहराएंगे तो उसे भी लगेगा कि नहीं उसे आपको छोड़ देना चाहिए क्योंकि आप अपनी आदतों में सुधार नहीं कर रहे हैं दोस्त हमेशा वह होते हैं जो आपकी गलत बात तुमको छुड़ाना चाहते हैं आपसे और आपके दोस्त बने रहते हैं लेकिन जब आप उसी गलती को दोहराते हैं तो उन्हें भी लगता है कि शायद हमें से दूरी बना लेनी चाहिए और वह आपसे दूर हो जाते हैं और यह भी सही है कि जब एक बार बात भी कर चुकी होती है तो रिश्ते पहले की तरह साफ नहीं होते हैं उनमें कोई ना कोई गांठ जरूर पड़ जाती है लेकिन आपको एहसास है कि आप गलत कर रहे हैं और यह एक बहुत अच्छी बात है लेकिन उसके बावजूद आप उसे सुधार नहीं रहे हैं तो यह कहीं ना कहीं आपके चरित्र की कमी को जाहिर करता है आपको स्ट्रांग होना होगा आपको अपने आपको इसके लिए मजबूत करना होगा कि आप वह गलतियां नहीं दूर है जिनकी वजह से आप अब आप अपने दोस्तों को खो देते हैं मुझे लगता है अगर आप एक टीम बनाकर चलेंगे कि मुझे गलती नहीं करनी है मुझे अपने दोस्तों से बना कर रखना है तो आप जरूरी कर पाएंगे अगर आप कोशिश करेंगे अगर आप ठान लेंगे तो आप ऐसा कर पाएंगे और अपने दोस्तों से निभा पायेंगे

aapne kaha hai ki aap aksar aisa karte hain ki dosti mein rishte nikaal lete hain toh mujhe lagta hai ki aap use seriously lena chahiye aap ne ise apni aadat bana liya hai jo galat hai is tarah se aap apne karibi doston se hamesha ke liye dur ho jaenge kyonki ek ya do baar ki galti ko jo sach mein aapka dost hai vaah maayne karega aur bhula dega us cheez ko kyonki vaah aapka dost hai lekin agar aap yahi galti dohraenge toh use bhi lagega ki nahi use aapko chhod dena chahiye kyonki aap apni aadaton mein sudhaar nahi kar rahe hain dost hamesha vaah hote hain jo aapki galat baat tumko chhudana chahte hain aapse aur aapke dost bane rehte hain lekin jab aap usi galti ko dohrate hain toh unhe bhi lagta hai ki shayad hamein se doori bana leni chahiye aur vaah aapse dur ho jaate hain aur yah bhi sahi hai ki jab ek baar baat bhi kar chuki hoti hai toh rishte pehle ki tarah saaf nahi hote hain unmen koi na koi ganth zaroor pad jaati hai lekin aapko ehsaas hai ki aap galat kar rahe hain aur yah ek bahut achi baat hai lekin uske bawajud aap use sudhaar nahi rahe hain toh yah kahin na kahin aapke charitra ki kami ko jaahir karta hai aapko strong hona hoga aapko apne aapko iske liye mazboot karna hoga ki aap vaah galtiya nahi dur hai jinki wajah se aap ab aap apne doston ko kho dete hain mujhe lagta hai agar aap ek team banakar chalenge ki mujhe galti nahi karni hai mujhe apne doston se bana kar rakhna hai toh aap zaroori kar payenge agar aap koshish karenge agar aap than lenge toh aap aisa kar payenge aur apne doston se nibha payenge

आपने कहा है कि आप अक्सर ऐसा करते हैं कि दोस्ती में रिश्ते निकाल लेते हैं तो मुझे लगता है क

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  132
WhatsApp_icon
play
user

Dr. Suman Aggarwal

Personal Development Coach

0:44

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हम सब इंसान हैं और हर इंसान कहीं ना कहीं कुछ ना कुछ गलती करते हैं तो इसमें इतना अफसोस करने की कोई बात नहीं है असली बात यह होती है कि हम अपनी गलती से सीख ले ले तो आपको उस गलती का अफसोस नहीं रहेगा तो अभी का बुक बना ली जिसमें आपने किन किन दोस्तों को खोया है या किन से आपकी दोस्ती अब पहले जैसी नहीं रही उनके नाम लिखकर उसके सामने आपके लिखे कि मैंने इस इंसीडेंट से क्या सीखा ऐसे जवाब के साथ बहुत सारी लिस्ट बन जाएगी जब आप अपनी गलतियों से सीख लोगे तो यह चैप्टर यहां क्लोज हो जाएगा और आने वाला आपकी जीवन का नया चैप्टर होगा जिसमें आपकी दोस्ती हमेशा चलने वाली और बहुत गहरी रहा करेगी

hum sab insaan hain aur har insaan kahin na kahin kuch na kuch galti karte hain toh isme itna afasos karne ki koi baat nahi hai asli baat yah hoti hai ki hum apni galti se seekh le le toh aapko us galti ka afasos nahi rahega toh abhi ka book bana li jisme aapne kin kin doston ko khoya hai ya kin se aapki dosti ab pehle jaisi nahi rahi unke naam likhkar uske saamne aapke likhe ki maine is insident se kya seekha aise jawab ke saath bahut saree list ban jayegi jab aap apni galatiyon se seekh loge toh yah chapter yahan close ho jaega aur aane vala aapki jeevan ka naya chapter hoga jisme aapki dosti hamesha chalne waali aur bahut gehri raha karegi

हम सब इंसान हैं और हर इंसान कहीं ना कहीं कुछ ना कुछ गलती करते हैं तो इसमें इतना अफसोस करने

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  376
WhatsApp_icon
user

Manish Singh

VOLUNTEER

0:34
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए जैसे कि आपको तो आपको यह भी पता है कि आपकी क्या गलती है आप क्या गलत करते हैं तू जो हो गया सो गए कि जो पास्ट को चेंज नहीं किया जा सकता और पास तेरे ध्यान रखेगा तो जिंदगी भर दुखी रहेंगे इसलिए शास्त्र झाडे रखना 104 पर भी ध्यान नहीं आप जो प्रजेंट है वह करिए आपको पता है कि आपकी गलती ऐसा भी नहीं पता है कि आपको गलती क्या है ना तो नेक्स्ट टाइम से जब भी आपकी करें तो ध्यान रखें बिल्कुल ही ऐसा फिर दोबारा ना हो तो फिर आपको पूछ ब्लैक बताना पड़ेगा कि फिर से मैंने वही गलती सेम कर दिया तू कभी भी सब दोस्तों से अपना जो रिश्ता है गुलाबी गाने अगर अच्छे दोस्त हैं तो आप भी उनके साथ अच्छे से रहे

dekhiye jaise ki aapko toh aapko yah bhi pata hai ki aapki kya galti hai aap kya galat karte hain tu jo ho gaya so gaye ki jo past ko change nahi kiya ja sakta aur paas tere dhyan rakhega toh zindagi bhar dukhi rahenge isliye shastra jhade rakhna 104 par bhi dhyan nahi aap jo present hai vaah kariye aapko pata hai ki aapki galti aisa bhi nahi pata hai ki aapko galti kya hai na toh next time se jab bhi aapki karen toh dhyan rakhen bilkul hi aisa phir dobara na ho toh phir aapko poochh black bataana padega ki phir se maine wahi galti same kar diya tu kabhi bhi sab doston se apna jo rishta hai gulabi gaane agar acche dost hain toh aap bhi unke saath acche se rahe

देखिए जैसे कि आपको तो आपको यह भी पता है कि आपकी क्या गलती है आप क्या गलत करते हैं तू जो हो

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  163
WhatsApp_icon
user

Shubham

Software Engineer in IBM

1:29
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए सबसे अच्छी बात यहां पर यह है कि कम से कम आप को अपनी गलती का एहसास होता है कि हां आप से गलती होती है और अपने दोस्तों से बिगाड़ लेते हो बात और आपको उस गलती की जो गलती होती है वह महसूस भी होती है तो अब आपको उसको सुधारना है तो बिल्कुल मुझे लगता है कि आप बिल्कुल कर सकते हो हालांकि हो सकता है कि आने वाले कुछ समय में एक दो बार और ऐसा आपके साथ हो जाए कि आपके कुछ और दोस्तों से आपकी बिगड़ जाए लेकिन अगर आप कोशिश करोगे ना बिगाड़ने की तो बिल्कुल आप नहीं बिगाड़ लोगे तो कहीं ना कहीं बिल्कुल यही बोलूंगा कि अपने गुस्से को आप कंट्रोल करे कही ना कही जो झगड़े होते हैं या फिर आप कुछ गलत बोल देते हैं किसी से जो भी बातें होती है किसी भी दो व्यक्ति के बीच में वह होते हैं गुस्से की वजह से अगर आप गुस्से के चक्कर में कुछ और गलत बोलते हो तो सिर्फ वही होता कि गुस्से में कुछ भी बोल रहे हो तो सबसे पहले आप गुस्से को कंट्रोल कर रहा है ठीक है आप अगर आपको गुस्सा है तो आप कहीं और चले जाओ थोड़ी देर के लिए या फिर आप थोड़ी देर के लिए शांत हो जाए जैसे आपको सही लगता है कि आप अपने आप के गुस्से को कंट्रोल कर सकते तो पैसे करें और अगर आप गुस्से को कंट्रोल करना सीख गए तो बिल्कुल आप अपने लफ्जों पर कंट्रोल करेंगे क्या को कब और क्या बोलना है और साथ ही साथ आप सोचेंगे अच्छे से तो बिल्कुल मुझे लगता है कि उम्मीद है कि आप अपने बिगड़े हुए रिश्ते को बिगाड़ सकते हैं और आने वाले समय में अपने गुस्से को कंट्रोल कर के कुछ गलत नहीं बोलेंगे और अपने नए दोस्तों को और पुराने दोस्तों को सब को एक साथ रखकर चलेंगे और अच्छे से चलेंगे

dekhiye sabse achi baat yahan par yah hai ki kam se kam aap ko apni galti ka ehsaas hota hai ki haan aap se galti hoti hai aur apne doston se bigad lete ho baat aur aapko us galti ki jo galti hoti hai vaah mahsus bhi hoti hai toh ab aapko usko sudharna hai toh bilkul mujhe lagta hai ki aap bilkul kar sakte ho halanki ho sakta hai ki aane waale kuch samay mein ek do baar aur aisa aapke saath ho jaaye ki aapke kuch aur doston se aapki bigad jaaye lekin agar aap koshish karoge na bigadne ki toh bilkul aap nahi bigad loge toh kahin na kahin bilkul yahi boloonga ki apne gusse ko aap control kare kahi na kahi jo jhagde hote hain ya phir aap kuch galat bol dete hain kisi se jo bhi batein hoti hai kisi bhi do vyakti ke beech mein vaah hote hain gusse ki wajah se agar aap gusse ke chakkar mein kuch aur galat bolte ho toh sirf wahi hota ki gusse mein kuch bhi bol rahe ho toh sabse pehle aap gusse ko control kar raha hai theek hai aap agar aapko gussa hai toh aap kahin aur chale jao thodi der ke liye ya phir aap thodi der ke liye shaant ho jaaye jaise aapko sahi lagta hai ki aap apne aap ke gusse ko control kar sakte toh paise karen aur agar aap gusse ko control karna seekh gaye toh bilkul aap apne lafjon par control karenge kya ko kab aur kya bolna hai aur saath hi saath aap sochenge acche se toh bilkul mujhe lagta hai ki ummid hai ki aap apne bigade hue rishte ko bigad sakte hain aur aane waale samay mein apne gusse ko control kar ke kuch galat nahi bolenge aur apne naye doston ko aur purane doston ko sab ko ek saath rakhakar chalenge aur acche se chalenge

देखिए सबसे अच्छी बात यहां पर यह है कि कम से कम आप को अपनी गलती का एहसास होता है कि हां आप

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  102
WhatsApp_icon
user

Bhaskar Saurabh

Politics Follower | Engineer

0:53
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपको अपने व्यवहार पर संयम रखने की आवश्यकता है तभी जाकर आपकी दोस्ती अपने दोस्तों के साथ अच्छी रहेगी और हमेशा चलती रहेगी क्योंकि कई बार जल्दबाजी में फैसले लेने की वजह से हमारे रिश्ते बिगड़ जाते हैं लेकिन बाद में हम चाहे कितना भी कोशिश क्यों न कर ले रिश्ते पहले जैसे नहीं हो पाते तो आपको अपने व्यवहार में कुछ परिवर्तन करने की आवश्यकता है ताकि आपकी दोस्ती आपके दोस्तों के साथ लंबी चल सके और उसमें मिठास भी उतनी ही है जितनी कि पहले हुआ करती थी क्योंकि जिस प्रकार से आपने कहा कि आपको बाद में पछतावा होता है कि आपने जो किया जो कदम उठाया वह गलत था जिसकी वजह से आपकी दोस्ती प्रभावित हुई है तो आपको इन सारी चीजों से बचना चाहिए और अपने आप पर संयम या फिर काबू रखना चाहिए तभी जाकर आपकी दोस्ती हमेशा अच्छी बनी रहेगी

aapko apne vyavhar par sanyam rakhne ki avashyakta hai tabhi jaakar aapki dosti apne doston ke saath achi rahegi aur hamesha chalti rahegi kyonki kai baar jaldabaji mein faisle lene ki wajah se hamare rishte bigad jaate hain lekin baad mein hum chahen kitna bhi koshish kyon na kar le rishte pehle jaise nahi ho paate toh aapko apne vyavhar mein kuch parivartan karne ki avashyakta hai taki aapki dosti aapke doston ke saath lambi chal sake aur usmein mithaas bhi utani hi hai jitni ki pehle hua karti thi kyonki jis prakar se aapne kaha ki aapko baad mein pachtava hota hai ki aapne jo kiya jo kadam uthaya vaah galat tha jiski wajah se aapki dosti prabhavit hui hai toh aapko in saree chijon se bachana chahiye aur apne aap par sanyam ya phir kabu rakhna chahiye tabhi jaakar aapki dosti hamesha achi bani rahegi

आपको अपने व्यवहार पर संयम रखने की आवश्यकता है तभी जाकर आपकी दोस्ती अपने दोस्तों के साथ अच्

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  136
WhatsApp_icon
user

.

Hhhgnbhh

0:30
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इसका मतलब आप बिना सोचे समझे काफी बार चीजों पर याद कर जाते हैं उसने आपको कहीं ना कहीं प्रेषक सत्येंद्र लेकर आनी होगी और अपने गुस्से पर काबू रखता हूं अगर आप इससे अपने गुस्से पर काबू रख पाएंगे तो आप इतनी जल्दी आप नहीं करेंगे कि आप ऐसा कोई कदम नहीं उठाएंगे जिसमें बाद में को रिग्रेट करना पड़े तो बाकी मुझे सकते कि एक बार जैसे एक कोई एक रिलेशनशिप खराब हो जाता है अगर एक रिलेशन को किसी से दरार पड़ जाती है तो उसके अंदर वह पहले जैसी बात नहीं रहती

iska matlab aap bina soche samjhe kafi baar chijon par yaad kar jaate hain usne aapko kahin na kahin preshak satyendra lekar aani hogi aur apne gusse par kabu rakhta hoon agar aap isse apne gusse par kabu rakh payenge toh aap itni jaldi aap nahi karenge ki aap aisa koi kadam nahi uthayenge jisme baad mein ko rigret karna pade toh baki mujhe sakte ki ek baar jaise ek koi ek Relationship kharaab ho jata hai agar ek relation ko kisi se daraar pad jaati hai toh uske andar vaah pehle jaisi baat nahi rehti

इसका मतलब आप बिना सोचे समझे काफी बार चीजों पर याद कर जाते हैं उसने आपको कहीं ना कहीं प्रेष

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  159
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
me aapko serious nahi leta ; फिर जब ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!