आज के दौर में अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता की सच्चाई क्या है?...


user

Pankaj Kr(youtube -AJ PANKAJ MATHS GURU)

Motivational Speaker/YouTube-AJ PANKAJ MATHS GURU

0:36
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आज के दौर में अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का कुछ कमी हो रही है लोग हर जगह अपनी अभिव्यक्ति को ब्लैक करने से असमर्थ हो रहे हैं लेकिन कानून में हर लोगों को सतमता दिया अपने विचार को बोलने की अपनी-अपनी लोग अपने अवसर प्राप्त करने के अपने अधिकार जताने की लेकिन लोगों की सोच सही होना चाहिए इसके लिए सही बातों को बोलना चाहिए गलत माता का समर्थन नहीं करना चाहिए हमेशा देश हित में समाज हित में कोई चीज बोलना चाहिए गलत चीज को छोड़ देना चाहिए

aaj ke daur me abhivyakti ki swatantrata ka kuch kami ho rahi hai log har jagah apni abhivyakti ko black karne se asamarth ho rahe hain lekin kanoon me har logo ko satmata diya apne vichar ko bolne ki apni apni log apne avsar prapt karne ke apne adhikaar jatane ki lekin logo ki soch sahi hona chahiye iske liye sahi baaton ko bolna chahiye galat mata ka samarthan nahi karna chahiye hamesha desh hit me samaj hit me koi cheez bolna chahiye galat cheez ko chhod dena chahiye

आज के दौर में अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का कुछ कमी हो रही है लोग हर जगह अपनी अभिव्यक्ति को

Romanized Version
Likes  275  Dislikes    views  2478
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

Manish Singh

VOLUNTEER

0:41

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए आज के दौर में अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता की सच्चाई क्या है तू अगर दूसरे देश की बात हम नहीं करते अगर अपनी देश की बात करते तो अपने देश में तू सभी स्वतंत्र हैं जिस देश में जो यह बोल सकता है कि भारत तुम्हारे टुकड़े होंगे यह बोलने की आजादी है उससे ज्यादा और क्या स्वतंत्रता चाहिए भारत के लोगों को इंडिया में बिल्कुल पूरी तरह से डेमोक्रेसी है यहां पर एक सख्त कानून भी नहीं कि देश के खिलाफ भी कोई अगर बात करें तो उसके खिलाफ मुकदमा हो सके तो इंडिया एक वह मेरे हिसाब से पूरी तरह से डेमोक्रेटिक कंट्री है और यहां पर हर एक इंसान को उसके आजादी जो है वह मिलती है कुछ भी करने की इच्छा है वो खून जो देश के खिलाफ बोले लेकिन उसकी पूरी आजादी मिलती है जिसके अंदर

dekhiye aaj ke daur mein abhivyakti ki swatantrata ki sacchai kya hai tu agar dusre desh ki baat hum nahi karte agar apni desh ki baat karte toh apne desh mein tu sabhi swatantra hain jis desh mein jo yah bol sakta hai ki bharat tumhare tukde honge yah bolne ki azadi hai usse zyada aur kya swatantrata chahiye bharat ke logo ko india mein bilkul puri tarah se democracy hai yahan par ek sakht kanoon bhi nahi ki desh ke khilaf bhi koi agar baat kare toh uske khilaf mukadma ho sake toh india ek vaah mere hisab se puri tarah se democratic country hai aur yahan par har ek insaan ko uske azadi jo hai vaah milti hai kuch bhi karne ki iccha hai vo khoon jo desh ke khilaf bole lekin uski puri azadi milti hai jiske andar

देखिए आज के दौर में अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता की सच्चाई क्या है तू अगर दूसरे देश की बात हम

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  122
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
abhivyakti ki swatantrata ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!