जीवन की गणना कैसे की जाती है?...


user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार आपका प्रश्न है जीवन की गणना कैसे करनी चाहिए या कैसे की जाती है तो जीवन की गणना करने से तात्पर्य कि आपने जीवन में क्या पाया क्या खोया क्या आपके पास है इन सभी चीजों को यदि आप आकलन करते हैं तो आप देखेंगे आप से क्या-क्या चीजें स्कूटी हैं किन किन चीजों को आपने पाया है या अपने जीवन में किस तरह से आपने अपना विकास किया है यही जीवन की गणना मानी जाती है धन्यवाद आपका दिन शुभ हो

namaskar aapka prashna hai jeevan ki ganana kaise karni chahiye ya kaise ki jaati hai toh jeevan ki ganana karne se tatparya ki aapne jeevan me kya paya kya khoya kya aapke paas hai in sabhi chijon ko yadi aap aakalan karte hain toh aap dekhenge aap se kya kya cheezen scooty hain kin kin chijon ko aapne paya hai ya apne jeevan me kis tarah se aapne apna vikas kiya hai yahi jeevan ki ganana maani jaati hai dhanyavad aapka din shubha ho

नमस्कार आपका प्रश्न है जीवन की गणना कैसे करनी चाहिए या कैसे की जाती है तो जीवन की गणना करन

Romanized Version
Likes  197  Dislikes    views  2859
WhatsApp_icon
9 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
1:39
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखी जो जीवन की गणना की जाती है वह पा मिस्त्री का इस्तेमाल करके किसी की आयु का गणना कर सकते हैं पर मिस्ट्री हथेली पर खींची प्रकृति की रेखाओं की विवेचना करके भविष्यवाणी करने की कला अनुमानों के अनुसार फार्मेट्री का अभ्यास हजारों साल से होता रहा यह चलन इस विश्वास पर आधारित है जिसकी कुछ हद तक पुष्टि बचपन के विकास पर रिसर्च करने वालों ने भी की है क्योंकि हथेली की रेखाएं जेस्टेशन के दौरान बनती हैं इसलिए भी व्यक्ति की शारीरिक बनावट स्वास्थ्य और बाद की जीवन संबंधित प्रवृत्तियों के संबंध में कुछ सूत्र दे सकती है अधिकांश केमिस्ट्री के विद्वान कहते हैं कि हस्त रेखाओं को पढ़कर व्यक्ति की आयु निकालने का कोई तरीका नहीं है हालांकि हथेली पर अनेक रेखा होती है मगर यह माना जाता है कि विभिन्न रेखाओं की लंबाई और कटाव का इस्तेमाल किसी व्यक्ति के जीवन के आम ब्लूप्रिंट के पढ़ने के लिए किया जाता है पा मिस्ट्री फार्मेट्री में प्रथामिक रेखाओं की किस प्रकार पहचान की जाइए सीखने से आपको हाथों को पढ़ने की कला सीखने में सहायता मिल सकती है शायद यह आपकी मदद किसी व्यक्ति की आयु का पता लगाने के लिए भी कर सकते हैं जीवन शक्ति की गणना भी होती है

dekhi jo jeevan ki ganana ki jaati hai vaah paa mistiri ka istemal karke kisi ki aayu ka ganana kar sakte hain par mystery hatheli par khinchi prakriti ki rekhaon ki vivechna karke bhavishyavani karne ki kala anumanon ke anusaar farmetri ka abhyas hazaro saal se hota raha yah chalan is vishwas par aadharit hai jiski kuch had tak pushti bachpan ke vikas par research karne walon ne bhi ki hai kyonki hatheli ki rekhayen gestation ke dauran banti hain isliye bhi vyakti ki sharirik banawat swasthya aur baad ki jeevan sambandhit parvirtiyon ke sambandh me kuch sutra de sakti hai adhikaansh chemistry ke vidhwaan kehte hain ki hast rekhaon ko padhakar vyakti ki aayu nikalne ka koi tarika nahi hai halaki hatheli par anek rekha hoti hai magar yah mana jata hai ki vibhinn rekhaon ki lambai aur kataav ka istemal kisi vyakti ke jeevan ke aam Blue print ke padhne ke liye kiya jata hai paa mystery farmetri me prathamik rekhaon ki kis prakar pehchaan ki jaiye sikhne se aapko hathon ko padhne ki kala sikhne me sahayta mil sakti hai shayad yah aapki madad kisi vyakti ki aayu ka pata lagane ke liye bhi kar sakte hain jeevan shakti ki ganana bhi hoti hai

देखी जो जीवन की गणना की जाती है वह पा मिस्त्री का इस्तेमाल करके किसी की आयु का गणना कर सकत

Romanized Version
Likes  138  Dislikes    views  1779
WhatsApp_icon
user

Ritu Goyal

Motivational Speaker

0:55
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपको कुछ नए जीवन की गणना कैसे की जाती है जीवन की गणना जीवन की गणना का मतलब होता है कि जब हम जन्म लेते हैं और हमारे मरने तक जन्म लेने से मरने तक के बीच का जो समय होता है उसे जीवन की गणना बोला जाता है हम किसी भी चीज़ में सेटिस्फेक्शन वेरिफिकेशन क्लेरिफिकेशन किसी की भी गणना किसी बारे में भी जानना कब करते हैं जब हम किस दुनिया में जन्म लेते हैं और मरने तक मरने के बाद हमें होश नहीं होता तो इसलिए हम कहेंगे जन्म लेने से मरने जन्म लेने के बाद और मरने से पहले की बीच के कर्म जो भी होते हैं इंसान के मुंह के जीवन की घटना जीवन की गणना में आपके अच्छे बुरे हंसी मजाक जोक जोक लड़ाई झगड़े यह सब कर्म आते हैं उसे हम जीवन की गणना बोला जाता है

aapko kuch naye jeevan ki ganana kaise ki jaati hai jeevan ki ganana jeevan ki ganana ka matlab hota hai ki jab hum janam lete hain aur hamare marne tak janam lene se marne tak ke beech ka jo samay hota hai use jeevan ki ganana bola jata hai hum kisi bhi cheez me setisfekshan verification klerifikeshan kisi ki bhi ganana kisi bare me bhi janana kab karte hain jab hum kis duniya me janam lete hain aur marne tak marne ke baad hamein hosh nahi hota toh isliye hum kahenge janam lene se marne janam lene ke baad aur marne se pehle ki beech ke karm jo bhi hote hain insaan ke mooh ke jeevan ki ghatna jeevan ki ganana me aapke acche bure hansi mazak joke joke ladai jhagde yah sab karm aate hain use hum jeevan ki ganana bola jata hai

आपको कुछ नए जीवन की गणना कैसे की जाती है जीवन की गणना जीवन की गणना का मतलब होता है कि जब ह

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  83
WhatsApp_icon
user

DR OM PRAKASH SHARMA

Principal, Education Counselor, Best Experience in Professional and Vocational Education cum Training Skills and 25 years experience of Competitive Exams. 9212159179. dsopsharma@gmail.com

1:18
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जीवन की गणना कैसे की जाती है कि उनकी गणना महीने साल से नहीं किया कि जीवन की बन्ना सफलताओं से की जाती है कि अपने जीवन काल में आपने कौन-कौन से कार्य संपन्न किए कौन-कौन से कार्य आपके सफल हुए और किस-किस कार्य की सफलता का आपके पास आधार है और कितने आप एक आदर्शवादी व्यक्तित्व वाले असफल व्यक्ति आप साबित होते हैं कुछ लोग पैसे से चप्पल कराते हैं कुछ लोग प्रॉपर्टी से चप्पल बनाते हैं कुछ लोग जिंदगी में शिक्षा से सफल बनाते हैं और कुछ लोग जिंदगी में क्या हुआ पाकर लोगों के आदर्श बन जाते हैं प्रितपाल टाइमिंग जीवन की गणना कहलाती है और यह सफलताओं को ही जीवन के विभिन्न क्षेत्रों में विनियोग माना जाता है

jeevan ki ganana kaise ki jaati hai ki unki ganana mahine saal se nahi kiya ki jeevan ki banna safalataon se ki jaati hai ki apne jeevan kaal me aapne kaun kaun se karya sampann kiye kaun kaun se karya aapke safal hue aur kis kis karya ki safalta ka aapke paas aadhar hai aur kitne aap ek aadarshvaadi vyaktitva waale asafal vyakti aap saabit hote hain kuch log paise se chappal karate hain kuch log property se chappal banate hain kuch log zindagi me shiksha se safal banate hain aur kuch log zindagi me kya hua pakar logo ke adarsh ban jaate hain pritapal timing jeevan ki ganana kahalati hai aur yah safalataon ko hi jeevan ke vibhinn kshetro me viniyog mana jata hai

जीवन की गणना कैसे की जाती है कि उनकी गणना महीने साल से नहीं किया कि जीवन की बन्ना सफलताओं

Romanized Version
Likes  385  Dislikes    views  4880
WhatsApp_icon
play
user

Pankaj Kr(youtube -AJ PANKAJ MATHS GURU)

Motivational Speaker/YouTube-AJ PANKAJ MATHS GURU

0:46

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जीवन की गणना होती है इंसान की जन्म से लेकर मृत्यु तक के बीच की अवधि को जीवन की गणना करते हैं तो जीवन और मरण यह कुदरत की देन है जब आदमी जन्म लेते हैं तो ईश्वर की कृपा से जन्म लेते हैं मात पिता और माता के सहयोग से शिशु का जन्म लेता है लेकिन इस इस इस जन्म पर ईश्वर कृपा कि मनुष्य ईश्वर की कृपा होती है और यह मन की गणना उसके उम्र के हिसाब से एक व्यक्ति कितना बस जिंदा रहे कितने वर्ष बाद हो गुजर गए जन्म तिथि निर्धारण करता है किसी भी व्यक्ति के जीवन की घटना का

jeevan ki ganana hoti hai insaan ki janam se lekar mrityu tak ke beech ki awadhi ko jeevan ki ganana karte hain toh jeevan aur maran yah kudrat ki then hai jab aadmi janam lete hain toh ishwar ki kripa se janam lete hain maat pita aur mata ke sahyog se shishu ka janam leta hai lekin is is is janam par ishwar kripa ki manushya ishwar ki kripa hoti hai aur yah man ki ganana uske umar ke hisab se ek vyakti kitna bus zinda rahe kitne varsh baad ho gujar gaye janam tithi nirdharan karta hai kisi bhi vyakti ke jeevan ki ghatna ka

जीवन की गणना होती है इंसान की जन्म से लेकर मृत्यु तक के बीच की अवधि को जीवन की गणना करते ह

Romanized Version
Likes  243  Dislikes    views  2754
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जीवन की गणना के व्यापक उद्देश्य बताइए और उद्देश को अपने जीवन में को समाहित करके कैसे आपको जीवन जीना है उसकी तैयारी कीजिए मर जवान के गाना हो जाएगी

jeevan ki ganana ke vyapak uddeshya bataiye aur uddesh ko apne jeevan me ko samahit karke kaise aapko jeevan jeena hai uski taiyari kijiye mar jawaan ke gaana ho jayegi

जीवन की गणना के व्यापक उद्देश्य बताइए और उद्देश को अपने जीवन में को समाहित करके कैसे आपको

Romanized Version
Likes  153  Dislikes    views  1221
WhatsApp_icon
user

Dharamvir singh

Serviceman Indian Army

0:49
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका अपना जीवन की गणना कैसे की जाती है जीवन की गणना करने के लिए सबसे अच्छा तरीका है जब मनुष्य पैदा होता है और जैसे मनुष्य पैदा होता है वह फर्स्ट सांस लेता है तो जीवन की शुरुआत है और अंतिम सांस पर जीवन की समाप्ति फर्स्ट सांस से लेकर शुरुआत और अंतिम सांस पर जीवन की यात्रा समाप्त इसीलिए सांसो की गिनती से जीवन की गणना शुरू होती है और सांसो की गिनती से ही गाना खत्म हो गया थैंक यू धन्यवाद

aapka apna jeevan ki ganana kaise ki jaati hai jeevan ki ganana karne ke liye sabse accha tarika hai jab manushya paida hota hai aur jaise manushya paida hota hai vaah first saans leta hai toh jeevan ki shuruat hai aur antim saans par jeevan ki samapti first saans se lekar shuruat aur antim saans par jeevan ki yatra samapt isliye saanso ki ginti se jeevan ki ganana shuru hoti hai aur saanso ki ginti se hi gaana khatam ho gaya thank you dhanyavad

आपका अपना जीवन की गणना कैसे की जाती है जीवन की गणना करने के लिए सबसे अच्छा तरीका है जब मनु

Romanized Version
Likes  19  Dislikes    views  371
WhatsApp_icon
user
4:06
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बहुत ही अच्छा किशन किया है आपने जीवन की गणना कैसे की जाए जीवन एक बहती नदी की तरह उसको जिस तरफ मोड़ देंगे जिस तरफ ऑफ रास्ता देखे देंगे उसी तरफ जाएगा जीवन की गणना आपके थिंक ए आपकी सोसाइटी आपकी सोच आपके आसपास लोग सब से मरने करते हैं भगवान किसी को गलत नहीं बनाता है हर किसी को कुछ कुछ ना कुछ एक खास चीज करने के लिए पैदा करता है जो दूसरा नहीं कर सकता पता नहीं तुमने क्या टैलेंट है हमें क्या टैलेंट है तुम्हारे भाई में क्या टैलेंट है तो मैं क्या करें कोई कह देना एक धरती पर इंसान के साथ हमशक्ल होते हैं बट वह इंसान एक जैसे नहीं होते तुम अपने आप को पहचानो तुमसा दुनिया में और कोई नहीं जो तुम कर सकते हो कोई नहीं कर सकता ऐसा भगवान ने सभी को कुछ अलग करने के लिए बनाया है बस सोच की बात है मन की बातें बस उस आईटी की बात है जैसी सोच में लोग जलते हैं वैसा कार्य करते हैं जो आर के पास रहते हैं वह आप जैसे हो जाते हैं जो पासवर्ड के पास रहते हैं वह ठंडा महसूस करने लगते हैं और जो आपके पास रहते हैं वह गर्व महसूस करने लगते हैं दूसरी प्रकार से अपने जीवन को अपने लक्ष्य पर रखो रखो अपनी जिंदगी मिली है तो जीना सीखो काटना तो जानवर भी सीख लेते हैं जिंदगी काट लेते हैं आप को भगवान ने की जिंदगी दी है एक इंसान की जिंदगी जी है जो भी मर्जी कर दो यार काट दो तो अपना जो भी आप करते हो आपके कार में आपकी सक्सेस में आप जिस प्रकार जिंदगी को मोड़ देंगे जिंदगी उसी प्रकार जाएगी जैसा आप चाहो वैसा ही होगा कहते ना अगर आप चाहो तो वही मिलेगा कहते कि भगवान अगर भगवान की सहारे बैठे हो तो भगवान जो देगा वही मिलेगा अगर तुम खुद पर डिपेंड हो तुम्हें खुद में दम है जो तुम चाहोगे वही भगवान लिखेगा इतना तुम्हें दम है तो दोस्त अपने आप को पहचानो तुमसा कोई दुनिया में और नहीं है और कैटरीना एक महाभारत देखी थिंकिंग की बात भी होती है महाभारत में श्री कृष्ण पांडू को तरफ से और पांच पांडवों ने हजारों लाखों किसानों को पछाड़ दिया हमारे जीवन में एडवाइजर हो साथी की जरूरत होती है जिससे हमारे माता-पिता हैं अच्छे हैं या दोस्त अच्छे हैं तो थैंक्यू की साइकिल की भी बहुत जरूरत होती है एडवांस देने वाला भी बहुत जरूरी होता हमारे जीवन में जिससे अच्छा नहीं लगता है अगर वहीं श्रीकृष्ण उनके विरोधी लोगों के तरफ होते तो पांडवों का जीतना मुश्किल था क्योंकि हर कदम कदम पर जब हमारा चीज हमारे गुरु हमारे माता-पिता हमें सिखाते हैं एडवाइज देते हैं कि बेटा यह से नहीं ऐसा किया जाएगा तो हम और अपनी कार में सबसे और मजबूत हो जाते हैं और सोच सोच कर कदम कदम पर चलना सीख जाते हैं उसी प्रकार के अपनी दोस्त अपने जीवन लक्ष्य बनाए रखें गोल्फ पर ध्यान रखें ओके ऑल द बेस्ट

bahut hi accha kishan kiya hai aapne jeevan ki ganana kaise ki jaaye jeevan ek behti nadi ki tarah usko jis taraf mod denge jis taraf of rasta dekhe denge usi taraf jaega jeevan ki ganana aapke think a aapki society aapki soch aapke aaspass log sab se marne karte hain bhagwan kisi ko galat nahi banata hai har kisi ko kuch kuch na kuch ek khas cheez karne ke liye paida karta hai jo doosra nahi kar sakta pata nahi tumne kya talent hai hamein kya talent hai tumhare bhai me kya talent hai toh main kya kare koi keh dena ek dharti par insaan ke saath humshakal hote hain but vaah insaan ek jaise nahi hote tum apne aap ko pehchano tumsa duniya me aur koi nahi jo tum kar sakte ho koi nahi kar sakta aisa bhagwan ne sabhi ko kuch alag karne ke liye banaya hai bus soch ki baat hai man ki batein bus us it ki baat hai jaisi soch me log jalte hain waisa karya karte hain jo R ke paas rehte hain vaah aap jaise ho jaate hain jo password ke paas rehte hain vaah thanda mehsus karne lagte hain aur jo aapke paas rehte hain vaah garv mehsus karne lagte hain dusri prakar se apne jeevan ko apne lakshya par rakho rakho apni zindagi mili hai toh jeena sikho kaatna toh janwar bhi seekh lete hain zindagi kaat lete hain aap ko bhagwan ne ki zindagi di hai ek insaan ki zindagi ji hai jo bhi marji kar do yaar kaat do toh apna jo bhi aap karte ho aapke car me aapki success me aap jis prakar zindagi ko mod denge zindagi usi prakar jayegi jaisa aap chaho waisa hi hoga kehte na agar aap chaho toh wahi milega kehte ki bhagwan agar bhagwan ki sahare baithe ho toh bhagwan jo dega wahi milega agar tum khud par depend ho tumhe khud me dum hai jo tum chahoge wahi bhagwan likhega itna tumhe dum hai toh dost apne aap ko pehchano tumsa koi duniya me aur nahi hai aur katrina ek mahabharat dekhi thinking ki baat bhi hoti hai mahabharat me shri krishna pandu ko taraf se aur paanch pandavon ne hazaro laakhon kisano ko pachhaad diya hamare jeevan me advisor ho sathi ki zarurat hoti hai jisse hamare mata pita hain acche hain ya dost acche hain toh thainkyu ki cycle ki bhi bahut zarurat hoti hai advance dene vala bhi bahut zaroori hota hamare jeevan me jisse accha nahi lagta hai agar wahi shrikrishna unke virodhi logo ke taraf hote toh pandavon ka jeetna mushkil tha kyonki har kadam kadam par jab hamara cheez hamare guru hamare mata pita hamein sikhaate hain edavaij dete hain ki beta yah se nahi aisa kiya jaega toh hum aur apni car me sabse aur majboot ho jaate hain aur soch soch kar kadam kadam par chalna seekh jaate hain usi prakar ke apni dost apne jeevan lakshya banaye rakhen golf par dhyan rakhen ok all the best

बहुत ही अच्छा किशन किया है आपने जीवन की गणना कैसे की जाए जीवन एक बहती नदी की तरह उसको जिस

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  113
WhatsApp_icon
user

RAVI

Teacher and Poet

0:28
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए जैसे कि मैंने आपका प्रश्न पड़ा कि जीवन की गणना कैसे की जाती है तो मैं आपको बता दूं कि किसी भी व्यक्ति के जीवन की गणना उसके अच्छे और बुरे कर्मों के अनुसार की जाती है ठीक है तो इसमें कर्म बहुत ही अहम भूमिका निभाते हैं आपके जीवन की गणना को करने के लिए तो आपके अच्छे और बुरे कर्म ही आपके जीवन की गणना करते हैं धन्यवाद

dekhiye jaise ki maine aapka prashna pada ki jeevan ki ganana kaise ki jaati hai toh main aapko bata doon ki kisi bhi vyakti ke jeevan ki ganana uske acche aur bure karmon ke anusaar ki jaati hai theek hai toh isme karm bahut hi aham bhumika nibhate hain aapke jeevan ki ganana ko karne ke liye toh aapke acche aur bure karm hi aapke jeevan ki ganana karte hain dhanyavad

देखिए जैसे कि मैंने आपका प्रश्न पड़ा कि जीवन की गणना कैसे की जाती है तो मैं आपको बता दूं क

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  157
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!